Full Site Search  
Sun Mar 26, 2017 09:00:11 IST
PostPostPost Trn TipPost Trn TipPost Stn TipPost Stn TipAdvanced Search
×
Forum Super Search
Blog Entry#:
Words:

HashTag:
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Train Type:
Train:
Station:
ONLY with Pic/Vid:
Sort by: Date:     Word Count:     Popularity:     
Public:    Pvt: Monitor:    RailFan Club:    

<<prev entry    next entry>>
Blog Entry# 1820680  
Posted: Apr 26 2016 (10:25)

1 Responses
Last Response: Apr 26 2016 (10:25)
  
ग्वालियर। रेलवे स्टेशन पर एक महिला को वेंडर और जीआरपी जवान ने चलती ट्रेन की चपेट में आने से बचा लिया। प्लेटफॉर्म नं. एक पर झांसी की ओर जाने वाली ताज एक्सप्रेस से यह हादसा हुआ। टे्रन स्टेशन से चली ही थी कि उसमें झांसी के लिए बैठ रही रवीना यादव का पैर पैरदान से फिसल गया और वह प्लेटफॉर्म पर चलती ट्रेन से नीचे गिर गई। उसका पैर रेलवे ट्रेक पर आ गया। महिला यात्री को गिरता देख जीआरपी थाने के सामने बैठा वेंडर गुड्डृ वर्मा ने दौड़ लगा दी और महिला को खीचने की जगह जोर से पकड़ लिया, जिससे महिला प्लेटफॉर्म से नीचे न गिर सके। जीआरपी के सिपाही अजय भारद्वाज ने भी तुरंत महिला को बचाने में मदद की। महिला को ट्रेन से गिरते देख दूसरे यात्रियों ने चेन पुलिंग कर ट्रेन को रोक दिया। महिला के परिजन प्रताप यादव ने बताया कि यह घटना बैलेंस बिगडऩे...
more...
से हुई, इसके बाद यह परिवार इसी टे्रन से झांसी के लिए रवाना हो गया।
मदद को जुड़े कई लोग
प्लेटफॉर्म एक पर दोपहर 12.15 बजे के आसपास हुई इस घटना के बाद मौके पर काफी संख्या में लोगों की भीड़ मदद के लिए एकत्र हो गई। रविवार से शुरू हुई पंजाबी परिषद द्वारा नि:शुल्क पानी की व्यवस्था को लेकर एकत्र महिला पुरुषों ने महिला का हौसला बढ़ाया और महिला को उनके परिजनों के साथ ट्रेन में चढऩे के लिए मदद की।
पहली बार देखा एसा हादसा
प्लेटफॉर्म एक पर पिछले चार साल से काम कर रहे वैडर गदाईपुरा निवासी गुड्डू वर्मा का कहना है, एसा हादसा पहली बार मैने देखा है। वो तो भगवान की मेहरबानी रही कि टे्रन जैसे ही चली में उस समय ट्रेन की ओर ही देख रहा था। महिला डिब्बे में जैसे ही चढी कि उसका पैर फिसल गया। महिला की जान बचाकर आज मुझे लगा कि चलो किसी के काम तो मैं आया।

  
1467 views
Apr 26 2016 (10:25)
जय हिन्द   1974 blog posts   4 correct pred (67% accurate)
Re# 1820680-1            Tags   Past Edits
Jako Rakhe Saiyan, Maar Sake Na Koi.
Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site