Full Site Search  
Fri Apr 28, 2017 04:15:37 IST
Advanced Search
×
News Super Search
News Entry#:
Search Phrase:

Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Trains in the News    Stations in the News   
Page#    283605 news entries  next>>
  
रेलवे में टिकट बुकिंग करने वाले कर्मचारियों की भारी कमी है। इलाहाबाद स्टेशन पर भी मानक से आधे कर्मचारियों से काम चलाया जा रहा है। कर्मचारियों की कमी के बावजूद भर्ती नहीं हो रही है। अब आगे भी इन पदों पर भर्ती नहीं होगी। क्योंकि टिकट बिक्री का काम मशीनों से होने लगा है। आरक्षित टिकट बुकिंग के कई विकल्प शुरू हो गए हैं। यह अब इतना आसान हो गया है कि लोग घर बैठे मोबाइल से टिकट बुक कर सकते हैं। इसलिए आरक्षण टिकट काउंटर पर अब भीड़ कम हो गई है। उसी क्रम में अनारक्षित टिकट बिक्री के लिए स्टेशनों पर एटीवीएम लगाई जाने लगी है। उत्तर मध्य रेलवे के स्टेशनों पर कुल 222 एटीवीएम लगाई जाएगी। 147 मशीनें
  
Today (00:00)  Ansari invites Polish businesses to invest in India (www.outlookindia.com)
News Entry# 300993     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: SHIVKUMAR  39 news posts
"This marks a growth of nearly 25 per cent over the level of trade in the previous year Investments are growing rapidly in both directions This strong economic interaction between India and Poland is an indicator of the growing economic strength of our countries As Polish business looks for markets and business opportunities beyond Europe, India is a natural destination," the vice president said.
warsaw, Apr 27 Vice President Hamid Ansari today invited Polish businesses and industry to invest in India which offers a favourable environment and liberalised investment climate.
Addressing a business
...
more...
summit at the Ministry of Economic Development here, he said the constant reforms in fiscal and investment facilitation policies are transforming the economic scenario in India.
A landmark Goods and Services Tax (GST) reform, for instance, is aimed at making India a unified market, with all 29 states offering an identical and predictable tax environment, Ansari said.
"Increasing transparency and a liberalised investment climate now allows the smooth flow of FDI in sectors like defence, railways,
civil aviation and pharmaceuticals. We have seen a strong global confidence in the India story, with a surge in Foreign Direct Investments, which reached over USD 50 billion in 2016," he said.
Ansari said poland is India's largest economic partner in Central Europe with bilateral trade growing to USD 2.8 billion in 2016.
"This marks a growth of nearly 25 per cent over the level of trade in the previous year. Investments are growing rapidly in both directions. This strong economic interaction between India and Poland is an indicator of the growing economic strength of our countries. As Polish business looks for markets and business opportunities beyond Europe, India is a natural destination," the vice president said.
India's 29 states now offer a climate of both cooperative and competitive federalism, with quantum improvements in investment conditions. Some Polish regions are already availing the business opportunities that Indian states offer," Ansari said.
He said new initiatives such as 'Make in India', 'Skill India' and 'Digital India present new business opportunities for Polish companies in areas such as defence, food processing, coal and mining, healthcare, pharmaceuticals, bio-technology and renewable energy.
Ansari said with a growth rate of over 7 per cent despite the general global downturn, india today is not just the fastest growing major economy in the world, but also one of the most open and welcoming destinations for investments and technologies.
A vibrant democracy of 1.3 billion people with a young and skilled workforce, India offers an aspirational middle class market of over 400 million people, he said.
"I am delighted to have this opportunity to address this business summit which is aimed at furthering economic cooperation between India and Poland. India sees Poland as an important emerging economic partner, not just in Europe but in the world.
"Poland's transformation over the last two decades has been remarkable; the growth of its economy impressive. This change is visible," Ansari said.
Stressing that the education sector can become an important area of cooperation for both the countries, he said that India's young population is eager to seek educational opportunities that Poland offers.
"We already have some 2,500 Indian students in Poland. These students add to the resources of Poland's distinguished universities and act as bridgeheads for our future engagement.
"We have identified opportunities in sectors like food processing, mining, aerospace and defence. I am sure that our businessmen, with their sense of innovation, will make the most of them for the mutual benefits of both the countries," the vice president added.
  
आज गुरुवार को यहां दौरम मधेपुरा रेलवे स्टेशन पर निरीक्षण के लिए आए नए डी आर एम आर के जैन ने कहा कि यहां टिकट की बिक्री कम है और इसीलिए जो भी प्रस्ताव ऊपर भेजे जाते हैं वे प्राथमिकता की कसौटी पर खड़े नहीं उतर पाते। पहले यहां अधिक संख्या में टिकट बिक्री हो तभी सुविधाएं शीघ्र मिल पाएगी।
पत्रकारों के साथ वार्ता में उन्होंने सवालों का जवाब देते हुए कहा कि यहां प्लेटफार्म को हाई लेवल करने का प्रस्ताव भेजा गया था लेकिन संसाधन कम होने के कारण प्राथमिकता वहां दी गई जहां टिकट बिक्री अधिक हुई। लिहाजा यहां सुविधा लेने के लिए टिकट बिक्री बढ़ानी होगी। इसी प्रकार हाटे बाजारे एक्सप्रेस ट्रेन को सप्ताह में तीन दिन कटिहार पूर्णिया
...
more...
मधेपुरा होकर चलाने का प्रस्ताव भेजा गया था। लेकिन स्वीकृति नहीं मिली तो फिर यह प्रस्ताव भेजा जाएगा।
पत्रकारों द्वारा जब यह बताया गया कि एक तो यहां ट्रेनों की संख्या कम है और फिर किसी ट्रेन का उपयुक्त समय नहीं है।लिहाजा मात्र एक हजार टिकट की औसत बिक्री स्वाभाविक है।यहां के लोग सहरसा जाकर एक्सप्रेस ट्रेन की टिकट कटाते हैं ।इसीलिए यहां से एक्सप्रेस ट्रेन चलेगी तभी टिकट की बिक्री बढ़ पाएगी।

बाद में डी आर एम ने आशा दिलाई कि यहां रेल इंजन फैक्ट्री चालू होने के साथ ही टिकट बिक्री बढ़ेगी और फिर एक्सप्रेस ट्रेन और अन्य सुविधाएं भी बढ़ेगी। उन्होंने यहां वर्षों से बंद पानी टंकी को शीघ्र चालू करने के भी निर्देश दिया। इसी प्रकार प्लेटफार्म पर शेड बढ़ाने की मांग पर उन्होंने कहा कि तत्काल आइसोलेटेड शेड का निर्माण शुरू किया गया है।
उन्होंने यह भी बताया कि खगरिया से मधेपुरा तक प्रथम चरण में रेल विद्युतीकरण का कार्य की निविदा की औपचारिकता पूरी कर शीघ्र कार्यारंभ किया जाएगा। उन्होंने स्टेशन के बाहर वाहन स्टैंड ठीकेदार की शिकायत पर निर्देश दिया कि निर्धारित स्थल पर लगने वाले वाहन से ही शुल्क वसूली की जाएगी।
डी आर एम के साथ अन्य पदाधिकारी भी यहां स्टेशन और माल गोदाम का निरीक्षण किया।यहां स्टेशन अधीक्षक पारस नाथ मिश्रा सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।
  
Yesterday (23:47)  नए डीआरएम ने संभाला पद कहा-रिकार्ड कायम रखूंगा (www.bhaskar.com)
back to top
Other News

News Entry# 300991     
   Tags   Past Edits
Apr 27 2017 (23:47)
Station Tag: Chakradharpur/CKP added by SHIVKUMAR/210603

Posted by: SHIVKUMAR  39 news posts
बुधवारको चक्रधरपुर रेल मंडल के नए डीआरएम छत्रसाल सिंह ने पदभार संभाल लिया। पूर्व डीआरएम राजेंद्र प्रसाद ने नए डीआरएम का स्वागत अपने कार्यालय में बुके देकर किया और उनको पदभार सौंपा। पदभार ग्रहण करने के बाद नए डीआरएम छत्रसाल सिंह ने कहा कि चक्रधरपुर मंडल ने भारतीय रेलवे में जो सफलता प्राप्त की है उस सफलता को बरकरार रखने की पूरी कोशिश करूंगा। इसके लिए अधिकारियों का भी पूरा सहयोग मुझे चाहिए। इसके अलावा उन्होंने कहा कि रेलवे के कर्मचारियों के कल्याणकारी कार्यों में उनका पूरा योगदान रहेगा। नए डीआरएम ने बताया कि यहां आने से पहले बड़ोदरा में चीफ विजिलेंस अधिकारी के पद पर कार्यरत थे। आईआईटी रूड़की से उन्होंने 1987 में इलेक्ट्रिकल इंजीनियर की पढ़ाई पूरी की और 1989 में उनका रेलवे में पहली पोस्टिंग बिकानेर में असिस्टेंस ऑपरेशनल अधिकारी के तौर पर हुई। इसके अलावे वह लखनऊ में एआरएम, डीओएम रहे।
पूर्व
...
more...
डीआरएम से पदभार ग्रहण करते नए डीआरएम छत्रसाल सिंह।
रेल प्रबंधक सभागार में अधिकारियों संग की बैठक
पदग्रहण करते ही नए डीआरएम छत्रसाल सिंह ने रेल अधिकारियों संग मंडल रेल प्रबंधक सभागार में बैठक कर रेल अधिकारियों से जानकारी ली। बैठक के बाद सभी अधिकारी दोनों डीआरएम ने एफिशिएंसी शील्ड के साथ फोटो सेशन करवाया। मौके पर सीनियर डीसीएम सत्यम प्रकाश, सीनियर डीएससी रफीक अहमद, सीएमएस आरके पाणी, खेल अधिकारी अमित कंचन के अलावा अन्य रेलवे के अधिकारी मौजूद थे।
प्रसाद का गौरवपूर्ण रहा है कार्यकाल
राजेंद्रप्रसाद ने अपने दो साल और दो माह के कार्यकाल में ही चक्रधरपुर मंडल में माल ढुलाई में 100 मिलियन टन का रिकॉर्ड बनाया और 2016-17 में एक भी रेल हादसा नहीं होने का कीर्तिमान बनाकर देश का नंबर वन रेल मंडल बना दिया। 24 फरवरी 2015 को कार्यभार संभाला था। जिसके बाद उन्होंने लगातार मंडल की तरक्की में अपना बहुमूल्य योगदान देते हुए वर्ष 2017 में ओवरऑल एफिशिएंसी अवॉर्ड का खिताब चक्रधरपुर रेल मंडल की झोली में डाल दिया। वहीं उन्होंने मंडल की सफलता का पूरा श्रेय कर्मचारियों और अधिकारियों को देते हुए कहा कि मंडल की सफलता छोटे से लेकर बड़े सभी कर्मचारियों की मेहनत का फल है।
  
नई दिल्ली, रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने पानी की कमी के मुद्दे से निपटने के लिए जल-रहित शौचालय विकसित करने की वकालत की है। प्रभु ने लोगों को शौचालय का उचित तरीके से प्रयोग करना और उपयोग के बाद उसे गंदा नहीं छोडने के बारे में सघन जागरूकता अभियान चलाने पर भी जोर दिया।
फिक्की की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम में प्रभु ने कहा, स्वच्छता और जल साथ-साथ हैं। देश में अनेक लोग हैं जिनके पास स्वच्छ पानी और शौचालय उपलब्ध नहीं है। उन्होंने कहा कि वैज्ञानिक मस्तिष्कों को साथ आकर जल-रहित और दुर्गंध-रहित शौचालय विकसित करने चाहिए। रेलवे ने नवोन्मेष ( innovation) को बढ़ावा देने के लिए 50 करोड़ रूपये का प्रावधान किया है।
उन्होंने
...
more...
कहा, अगले दो वर्षों में रेल के सभी डिब्बों में बायो-शौचालय होंगे और हमने पायलट परियोजना के तहत बायो-वैक्यूम शौचालय भी विकसित किया है। रेलवे परिसरों में स्वच्छता रखने संबंधी कदमों का हवाला देते हुए, केन्द्रीय मंत्री ने कहा, हमने स्वच्छ रेल, स्वच्छ भारत अभियान शुरू किया है और दो रूट हरित कोरिडोर बन गये हैं, क्योंकि इन मार्गों से गुजरने वाली सभी रेलगाडियों में बायो-शौचालय लगा हुआ है। ये दो रेल मार्ग हैं..। 141 किलोमीटर लंबा ओखा-कनालुस रेल मार्ग और दूसरा है गुजरात में 34 किलोमीटर लंबा पोरबंदर-वंसजालिया रेल मार्ग।
  
Yesterday (23:36)  परामर्शदात्री समिति बैठक में उठी रेल समस्याएं (www.livehindustan.com)
back to top
Commentary/Human InterestNR/Northern  -  

News Entry# 300989     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: SHIVKUMAR  39 news posts
उत्तर रेलवे के तत्वावधान में दिल्ली स्थित रेल अधिकारी क्लब में आयोजित की गई क्षेत्रीय रेलवे उपयोगकर्ता परामर्शदात्री समिति की बैठक में मेरठ से जुड़ी रेल समस्याओं को भी प्रमुखता से उठाया गया।
बैठक में संगम एक्सप्रेस, शालीमार एक्सप्रेस और राज्यरानी एक्सप्रेस की समस्याओं को रखा गया। मेरठ से इलाहाबाद को जाने वाली संगम एक्सप्रेस की लेटलतीफी को खत्म करने, प्रथम श्रेणी वातानुकूलित कोच लगाने का सुझाव दिया गया। परामर्शदात्री सदस्य योगेश मोहन गुप्ता ने मेरठ से लखनऊ जाने वाली राजरानी एक्सप्रेस के समय में बदलाव और शालीमार एक्सप्रेस को सुपरफास्ट श्रेणी में करने की मांग रखी।
  
Yesterday (23:29)  Digitisation of railways: Railways to go for complete digitisation; save Rs 60,000 crore: Suresh Prabhu - The Economic Times (economictimes.indiatimes.com)
back to top
IR Affairs

News Entry# 300987     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: IR no more Safe^~  118 news posts
NEW DELHI: The Railways is developing a common digital platform integrating information from all departments as a roadmap for the future for bringing transparency in the system and enabling the public transporter to save about Rs 60,000 crore.
Besides, the entire supply and procurement chain of Railways will be digitised to curb corruption.
"Our entire supply chain is being digitised. Payment will be made electronically and procurement will also be made electronically.It will curb corruption," Railway Minister Suresh Prabhu told PTI today in an interaction.
Spelling
...
more...
out his vision for the Railways, Prabhu said, "We are also doing ERP - enterprise resource planning - a complete digitisation process. All rail operations will be online. It aims to save about Rs 60,000 crore, according to industry estimates."
Enterprise resource planning system will be an IT-based platform for system-wide integration and planning.
"Vision for Railways is to address those issues for which Railways is suffering today. Complete digitisation will enable operation can be managed from one place," he said.
Highlighting various issues that are plaguing the national transporter, he said, "Organisations like Railways which are vast and complex must have a vision. We must have short term, medium term and long term vision and we must ensure a pan-India vision."
Referring to the congestion problems, he said though rail traffic has increased 16 times after independence, the infrastructure did not grow even four times. "As a consequence, we are operating 150 to 160 per cent of our capacity which is recipe for disaster."
Currently 60 per cent of rail traffic is handled on 16 per cent of the network.
"So obviously there were congestions and it affected the revenue stream also. We are not been able to capture more traffic," he said.
Congestion is also affecting punctuality as many trains are passing on the same line. Currently Railways' punctuality is about 79 per per cent.
"Punctuality is a casualty today because so many trains are passing on one line. A train coming to Delhi may have come in time but cannot enter Delhi because of congestion. Same thing happens in Delhi airport like you hover around the airport," he said.
Prabhu said he has sanctioned 16,500 km of doubling and tripling as against only 22,000 km in the last 70 years.
He further said the Railways' vision is to save Rs 41,000 crore in the energy bill in the next 10 years which includes solarisation.
"We have plan for producing 1000 MW solar power... All our plants are subjected to energy audit so as to bring energy efficiency. We are also using LED bulbs to conserve energy," he said.
Forty two per cent of Railways' lines are electrified today.
"All broad gauge will be electrified in the country and and all metre gauge will be converted into broad gauge. It will benefit the Railways as train speed will increase and most importantly also help in reducing cost of energy."
  
Yesterday (23:26)  HOMESTATEMADHYAPRADESH चलती ट्रेन में बेहोश हो गया इंजन का सहायक लोको पायलट, बड़ा हादसा टला (www.haribhoomi.com)
News Entry# 300986     
   Tags   Past Edits
Apr 27 2017 (23:26)
Station Tag: Bankhedi/BKH added by SHIVKUMAR/210603

Apr 27 2017 (23:26)
Train Tag: Mumbai LTT - Varanasi (Ratnagiri) SF Express/12165 added by SHIVKUMAR/210603

Posted by: SHIVKUMAR  39 news posts
होशंगाबाद जिले के बनखेड़ी रेलवे स्टेशन के करीब छपरा से लोकमान्य तिलक टर्मिनस जा रही रत्नागिरी एक्सप्रेस के इंजन का सहायक चालक बुधवार को चलती ट्रेन में बेहोश हो गया।
उल्लेखनीय है कि देशभर में लोको पायलेट अपनी विभिन्न मांगों को लेकर उपवास कर रहे थे। इसके कारण ही लोको पायलेट की तबीयत खराब हो गई। हालाकि रात आठ बजे लोको पायलेट ने उपवास तोड़ दिया।
सहायक लोको पायलेट के बेहोश होने के दौरान मुख्य लोको पायलेट ने सूझबूझ का परिचय देते हुए ट्रेन की गति को नियंत्रित करते हुए पुपरिया
...
more...
स्टेशन पर खड़ा कर दिया। नहीं तो कोई बड़ा हादसा हो सकता है। क्योंकि ट्रेन के संचालन के दौरान सहायक लोकोपायलेट की मुख्यभूमिका रहती है।
बीमार सहायक चालक को आरपीएफ की मदद से सरकारी अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया गया। जबलपुर मुख्यालय में पदस्थ 31 वर्षीय सहायक लोको चालक त्रिवेणी पिता रामबिहारी बनारस से मुंबई जा रही मुंबई लोकमान्य सुपर फास्ट ट्रेन लेकर मुंबई जा रहा था।
बुधवार सुबह बनखेड़ी के पास त्रिवेणी अचानक चक्कर खाकर बेहोश हो गया। मुख्य चालक ने तत्काल वरिष्ठ कार्यालय को मैसेज देने के बाद ट्रेन को सुरक्षित पिपरिया रेलवे स्टेशन पहुंचाया। आरपीएफ की मदद से बीमार को शासकीय अस्पताल में भर्ती कराया गया।
बीएमओ डॉ.एके अग्रवाल ने बताया कि भूख की वजह से चक्कर आने से बेहोशी आई थी चालक त्रिवेणी की शुगर कम थी उपचार दिया गया दो घंटे बाद वह स्वस्थ्य हो गया। आरपीएफ प्रभारी सैयद अली ने सहायक चालक को स्वस्थ्य होने के बाद राजकोट के एसी कोच से जबलपुर रवाना किया।
डेढ़ घंटे खड़ी रही सुपर फास्ट: सहायक चालक बीमार होने से नान स्टाप सुपरफास्ट ट्रेन पिपरिया स्टेशन पर करीब डेढ़ घंटे खड़ी रही। गाडरवारा में पी एसएसएस गुडस ट्रेन को खड़ा कर उसके सहायक चालक को 21192 ट्रेन से पिपरिया बुलवाया गया। मालगाड़ी के सहायक चालक को बनारस मुंबई लोकमान्य तिलक में मुख्य चालक के साथ रवाना किया गया।
रात में तोड़ा उपवास
आॅल इंडिया लोको रनिंग स्टॉफ एसोसिएशन व आॅल इंडिया गार्ड काउंसिल के बैनर तले भोपाल रेल मंडल के लोको पायलट, सहायक लोको पायलट व गार्ड सामूहिक रूप से मंगलवार सुबह से 36 घंटे का उपवास रखते हुए बुधवार को रात 8 बजे मंडल के सभी लाबियों में अपना उपवास तोड़ा ।
  
Yesterday (23:18)  CHANGE IN TIMINGS OF TRAIN NO. 09003 MUMBAI CENTRAL-JALANDHAR (WEEKLY) AC SPECIAL TRAIN W.E.F. 30/04/2017 (www.railnewscenter.com)
News Entry# 300985     
   Tags   Past Edits
Apr 27 2017 (23:20)
Station Tag: Nagda Junction/NAD added by SHIVKUMAR/210603

Apr 27 2017 (23:20)
Station Tag: Ratlam Junction/RTM added by SHIVKUMAR/210603

Apr 27 2017 (23:20)
Station Tag: Dahod/DHD added by SHIVKUMAR/210603

Apr 27 2017 (23:20)
Station Tag: Godhra Junction/GDA added by SHIVKUMAR/210603

Apr 27 2017 (23:20)
Station Tag: Vadodara Junction/BRC added by SHIVKUMAR/210603

Apr 27 2017 (23:20)
Station Tag: Bharuch Junction/BH added by SHIVKUMAR/210603

Apr 27 2017 (23:20)
Station Tag: Surat/ST added by SHIVKUMAR/210603

Apr 27 2017 (23:20)
Station Tag: Vapi/VAPI added by SHIVKUMAR/210603

Apr 27 2017 (23:20)
Station Tag: Borivali/BVI added by SHIVKUMAR/210603

Apr 27 2017 (23:20)
Station Tag: Mumbai Central/BCT added by SHIVKUMAR/210603

Apr 27 2017 (23:20)
Train Tag: Mumbai Central - Jalandhar City AC Special/09003 added by SHIVKUMAR/210603

Posted by: SHIVKUMAR  39 news posts
W.Rly has decided to revise the timings of Train No. 09003 Mumbai Central – Jalandhar (Weekly) AC Special train due to introduction of Train No.19041 Bandra Terminus – Ghazipur City. Train No.09003 will run o­n revised timings with effect from 30/04/2017.
STATION Train No. 09003 Mumbai Central – Jalandhar
Arr Dep Revised Timings Arr Dep
Mumbai Central — 23.05(Sun) — 23.05(Sun)
Borivali 00.02 00.05 00.05 00.08
...
more...

Vapi 01.58 02.00 02.03 02.05
Surat 03.27 03.30 03.34 03.37
Bharuch 04.14 04.16 04.18 04.20
Vadodara 05.14 05.24 05.18 05.28
Godhra 06.33 06.35 06.40 06.42
Dahod 07.27 07.29 07.34 07.36
Ratlam 09.20 09.30 09.25 09.35
Nagda 10.40 10.42 10.43 10.45
Bhawani Mandi No
Change
in
timings
Kota Jn
Sawai Madhopur
Gangapur City
Hindaun City
Bharatpur Jn
Mathura Jn
Hazrat Nizamuddin
Saharanpur
Ambala Cant Jn
Ludhiana Jn9
  
Yesterday (23:13)  हवाई जहाज के ब्लैक बॉक्स की तर्ज पर ट्रेन में RFID लगाएगी सरकार (www.inkhabar.com)
News Entry# 300984   Blog Entry# 2253509     
   Tags   Past Edits
Apr 27 2017 (23:13)
Station Tag: Mumbai Chhatrapati Shivaji Terminus/CSTM added by SHIVKUMAR/210603

Apr 27 2017 (23:13)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by SHIVKUMAR/210603

Posted by: SHIVKUMAR  39 news posts
नई दिल्ली: फ्लाइट के ब्लैक बॉक्स के तर्ज पर रेल मंत्रालय के अधिकारियों ने रेडियो फ्रीक्वेंसी आईडेंटीफि‍केशन डिवाइस (RFID)नाम का Tag डिवाइस बनाया है जिसमें रेल इंजन ,कोच ,वैगन समेत कई चीजों की जन्मकुंडली होगी.

करीब साढ़े चार इंच की इस डिवाइस को स्पेशल प्लास्टिक और केमिकल्स से बनाया गया है. इस डिवाइस परी तरह से सुरक्षित है. धूप, बारिश, पत्थर ओले भी इसको क्षति नहीं पहुंचा सकते. इसके अंदर इलेक्ट्रॉनिक सर्किट के साथ साथ एक चिप भी लगी है जिसे रीडर सॉफ्टवेयर के जरिये पढ़ा जाएगा.
...
more...


इस डिवाइस को आम आदमी नहीं खोल सकता है. इसे ट्रेन की कोच या वैगन में स्पेशल बोल्ट के जरिये फिक्स किया जायेगा. इसे अंतररास्ट्रीय स्टैंडर्ड के GS 1 ग्रुप को ध्यान में रखकर बनाया गया है. इसलिए इसमें छेड़छाड़ भी संभव नहीं है.

RFID Tag डिवाइस की ख़ासियत
इस डिवाइस में वैगन, कोच या इंजन सभी के नम्बर, कहां बना है ,किस जोन का है ,ये तमाम जानकारियां इसमें होगी. इसकी लाइफ 25 साल है जितनी लाइफ एक कोच की होती है. हर कोच में 2 डिवाइस लगाने का प्रावधान है जिसका ट्रायल अब तक सफल रहा है. इस डिवाइस के लग जाने के बाद रेलवे के पास वैगन और कोच के साथ-साथ ट्रेन की लोकेशन संबंधित पूरी जानकारी आसानी से उपलब्ध रहेगी.


खासकर मालगाड़ी के लोकेशन के लिए ये डिवाइस उपयोगी साबित हो सकता है. रेलवे ने इस डिवाइस का पहला ट्रायल 2008 में किया था जो फेल हो गया था. लेकिन पिछले साल तेज रफ्तार वाली ट्रेनों पर इसका ट्रायल किया गया जिसमें रेलवे को सफलता मिला. इस डिवाइस को बनाने में आने वाला खर्च केवल 1000 रुपए है.

  
182 views
Today (00:00)
दिव्यांशु गुप्ता^~   33407 blog posts   26145 correct pred (77% accurate)
Re# 2253509-1            Tags   Past Edits
here is the pic
Page#    283605 news entries  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site