Full Site Search  
Wed Jan 18, 2017 17:35:40 IST
Advanced Search
×
News Super Search
News Entry#:
Search Phrase:

Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Trains in the News    Stations in the News   
Page#    18816 news entries  next>>
  
Today (16:37)  Sealdah-Ajmer express derailment: Korean team visits Rura railway station to investigate cause of accident (timesofindia.indiatimes.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNCR/North Central  -  

News Entry# 291543     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: rdb*^  124780 news posts
KANPUR: An expert team from South Korea visited the Rura railway station on Tuesday to investigate the cause of derailment of Sealdah-Ajmer express which had occurred on December 28 last year, leaving 62 passengers injured. The team which comprised of six experts, first inspected the accident spot and also did videography of the site and the mangled remains of the coaches. They even took measurement of the broken tracks and closely observed the signal system at the railway station.
The team, after collecting the evidences, also spoke to the railway officials and staff including section engineers and tried gathering more details into the accident. The sources also stated that this expert team may also visit Pukhrayan in Kanpur Dehat where Indore-Rajendra Nagar
...
more...
Patna express had derailed on November 20 last year, killing 152 passengers and leaving 300 passengers injured. It had turned out to be one of the deadliest train accidents in the past five years.The railways termed the investigation by the Korean team as 'audit by third party'.
Though the cause of the accident would be concluded by the Korean team later, sources stated that the track fracture could be the reason for the Sealdah-Ajmer express to derail. A team of IIT-Kanpur experts which had visited Rura soon after the derailment incident had concluded that the track fracture was the most probable reason for Sealdah-Ajmer express to derail.
Talking to TOI, Chief Public Relations Officer (CPRO), North Central Railways, Bijay Kumar said that the Korean team had come to Rura railway station to carry out audit of the accident site, tracks and the mangled remains of the coaches. This expert team had been sent by the Railway ministry and they would be submitting their report with the ministry after completing their investigation, he added. "This was 'audit by third party' which the railways get done to know about lapses if any."
Train no. 12987 Sealdah-Ajmer Express went off the tracks between Rura and Metha railway stations, about 50kms from Kanpur. During the accident, 15 coaches of the train derailed and left more than 60 people injured.
  
Today (16:30)  असफल होने पर अरुण राम व दीपक राम को नेपाल में बुलाकर हत्या कर दी (epaper.livehindustan.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsECR/East Central  -  

News Entry# 291536     
   Tags   Past Edits
Jan 18 2017 (16:30)
Station Tag: Ghorasahan/GRH added by विश्व नाथ*^/31233

Posted by: विश्व नाथ*^  3549 news posts
घोड़ासहन के पश्चिमी सिग्नल के समीप 01 अक्टूबर 16 को रेलवे ट्रैक को बम से उड़ाने के प्रयास में असफल होने पर अरुण राम व दीपक राम को नेपाल में बुलाकर हत्या कर दी गयी। दोनों युवक आदापुर थाने के लक्ष्मीपुर पोखरिया गांव के निवासी थे। आईईडी विस्फोट की जिम्मेवारी दोनों युवकों को दी गयी थी। दोनों युवकों की लापरवाही से विस्फोट नहीं हो सका तो दोनों को सजा ए मौत दी गयी। दोनों आपस में चाचा भतीजा थे। सफल विस्फोट करने के लिए दस लाख रुपये दिये गये थे। विस्फोट नहीं होने के बाद दोनों को फोन कर नेपाल बुलाया गया और 27 दिसम्बर को हत्याकांड को अंजाम दिया गया। दोनों के पॉकेट से बरामद आईडी के आधार पर पहचान हुई। चाचा-भतीजे की हत्या को अंजाम देने के बाद महागढ़ी माई नगरपालिका के सेमरा तेगछिया के निवासी बृजकिशोर गिरि अपनी ससुराल पर्सा जिले के बिजबनिया गढैया में अजय गिरि के...
more...
यहां छिपकर रहने लगा। छापेमारी अभियान का नेतृत्व कर रहे नेपाल के डीएसपी चक्रराज जोशी के अनुसार इस मामले में पर्सा व बारा जिला के पुलिस टीम ने अपराधियों की खोज में छापेमारी की। छापेमारी के दौरान बदमाशों के साथ मुठभेड़ हुई। मुठभेड़ में बृजकिशोर गिरि को पैर में गोली लगी। नेपाल पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। उसके निशानदेही पर कलेया के मुजाहिदीन अंसारी व शंभू गिरि उर्फ लड्ड को भी नेपाल पुलिस ने गिरफ्तार किया। जख्मी बृजकिशोर को वीरगंज के नारायणी अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है। तीनों बदमाशों की नेपाल में गिरफ्तारी के बाद भारतीय पुलिस वहां पूछताछ के लिए गयी थी तो मोती पासवान का सुराग मिला। मोती पासवान की गिरफ्तारी के बाद कानपुर बम ब्लास्ट का खुलासा हुआ।बृजकिशोर गिरि का है आतंकी कनेक्शन: नेपाल का बृजकिशोर गिरि का आतंकी संगठन से कनेक्शन है। नेपाली बदमाशों से पूछताछ के आधार पर भारतीय पुलिस ने आदापुर थाने के गम्हरिया रक्सौल के उमाशंकर पटेल उर्फ राजू पटेल, मुकेश यादव व मोती पासवान को भारतीय पुलिस ने गिरफ्तार किया। मोती पासवान ने पूछताछ में खुलासा किया है कि बृजकिशोर गिरि का दुबई के शमसुल होदा से कनेक्शन है। शमसुल ने बृजकिशोर गिरि को रेलवे ट्रैक पर बम प्लांट करने के लिए उमाशंकर पटेल को 20 लाख रुपये व बम प्लांट करने में शामिल सभी सदस्यों को स्कॉर्पियो देने का प्रलोभन दिया। उमाशंकर पटेल ने अरुण राम, दीपक राम, मुकेश यादव, गजेन्द्र शर्मा, राकेश यादव,मुजाहिदीन अंसारी व शंभू गिरि को मिलाकर एक टीम बनायी। घोड़ासहन रेल ट्रैक पर आईईडी फिट कर अरुण राम व दीपक राम को ब्लास्ट करने की जिम्मेवारी दी गयी थी। यह ब्लास्ट उस समय करना था जब क ोई यात्री ट्रेन गुजरने वाली हो। 01 अक्टूबर 16 को ब्लास्ट करना था। ऐसी चर्चा है कि अरुण व दीपक का विस्फोट करने का हृदय स्वीकार नहीं किया। वह दोनों युवक ब्लास्ट नहीं कर सके। जब ब्लास्ट नहीं हुआ तो इसकी सूचना बृजकिशोर गिरि को मिली, तो वह आक्रोशित हो गया। उमाशंकर पटेल को फोन पर कई तरह की धमकी दी। शीघ्र रुपये वापस करो नहीं तो अंजाम खराब होगा। फोन का रेकाडिंग भारतीय पुलिस के पास उपलब्ध है। इसी बातचीत के दौरान कानपुर में भी बम प्लांट करने की बात का खुलासा हुआ था। फिर नयी योजना बनी और मोती पासवान को कानपुर में बम प्लांट करने के लिए बुलाकर ले जाया गया। कानपुर हादसे के बाद बृजकिशोर गिरि जब लौट कर नेपाल आया तो दीपक व अरुण को बुलकार हत्या कर दी।
  
नई दिल्ली। रेल मंत्री सुरेश प्रभु भारतीय रेल की आर्थिक सेहत दुरुस्त करने के लिए खचरें को सीमित करने के प्रयास में जुट गए हैं। इसके तहत एक दशक में ऊर्जा बचाने का रोडमैप तैयार किया है। इससे रेलवे को 41,000 करोड़ की बचत होगी, जबकि ट्रेन परिचालन में 90 फीसदी कार्बन कम होगा।रेल भवन में ऊर्जा दक्षता पर आयोजित ‘गोलमेज सम्मेलन’ में सुरेश प्रभु ने कहा कि रेलवे बिजली और डीजल खरीद के लिए नई प्रणाली अपनाने जा रहा है। साथ ही नवीन ऊर्जा स्नेत्रों का उपयोग बढ़ाया जाएगा। इस काम में नई प्रौद्योगिकी के साथ रेलवे के हितधारकों का सहयोग चाहिए तभी योजना को साकार किया जा सकेगा। प्रभु ने सम्मेलन में उपस्थित देश-विदेश के हितधारकों का आह्वान किया कि रेलवे के ऊर्जा बिल को कम करने के लिए अपने इनोवेटिव विचार साझा करें।प्रभु ने कहा कि अगले पांच साल में 24 हजार किलोमीटर के रेलवे ट्रैक का विद्युतीकरण...
more...
किया जाएगा। इससे 90 प्रतिशत यातायात डीजल के बजाए बिजली से कर सकेंगे। वर्तमान में करीब 50 फीसदी रेलवे ट्रैक का विद्युतीकरण है और इस पर लगभग 60 फीसदी माल ढुलाई होती है। विद्युतीकरण खरीद के लिए नई प्रणाली से वर्तमान खपत के स्तर पर करीब 4000 करोड़ रुपये की बचत का अनुमान है। आगामी 10 सालों में 41 हजार करोड़ रुपये की बचत संभव है। इसी क्रम में रेलवे डीजल खरीद प्रणाली में सुधार करेगी। अब सीधे कच्चे तेल की खरीद की जाएगी, इस मद में रेलवे 1000 करोड़ की बचत करेगी।
  
दानापुर स्टेशन पर परिचालन विभाग के कर्मियों की लापरवाही उजागर हुई है। सोमवार की शाम एक तरफ जहां पूर्व-मध्य रेल के जीएम सहित अन्य बड़े अधिकारी संरक्षा के नियमों की चर्चा कर रहे थे, वहीं दूसरी तरफ चंद कदमों की दूरी पर आधे घंटे के अंदर ही संरक्षा में लापरवाही की दो घटनाएं हुईं। इनमें से एक घटना को घंटों वरीय अधिकारियों से छिपाए रखा गया, जिसे लेकर जिम्मेवार अधिकारियों और कर्मियों को वरीय अधिकारी ने कड़ी फटकार लगाई।
टल गई बड़ी दुर्घटना
प्वाइंट द्वारा ट्रेन को एक ट्रैक से दूसरी ट्रैक पर
...
more...
ले जाया जाता है। प्वाइंट और लॉक के टूटने से गाड़ी निर्धारित ट्रैक से अलग ट्रैक पर जाने से एक बड़ी दुर्घटना हो सकती थी। दानापुर मंडल के जनसंपर्क अधिकारी आरके सिंह ने बताया कि जानकरी होने के बाद संबंधित अधिकारियों द्वारा जांच कर कार्रवाई की जा रही है।
ट्रैक का क्षतिग्रस्त प्वाइंट व लॉक
दूसरी घटना
महीनों से दानापुर स्टेशन पर खड़ी रोल ऑन रोल ऑफ रैक को मुगलसराय भेजने से पहले मेंटेनेंस के लिए बिना पूरी तरह निरीक्षण किए शाम को डाउन रिसीविंग लाइन से अप लाइन होते हुए पिट लाइन पर लाया जा रहा था। इस दौरान भूलवश रैकों से लटक रही लोहे की मोटी जंजीरें 42 नंबर प्वाइंट में फंस गईं और प्वाइंट और 34 नंबर लॉक को बुरी तरह क्षतिग्रस्त कर डाला। शाम 17:30 बजे के करीब वहां से गुजरने वाली 13008 डाउन तूफान एक्सप्रेस के लिए प्वाइंट नहीं बनने पर रेलकर्मियों को इसकी जानकारी हुई। इस दौरान दर्जन भर से ज्यादा गाड़ियों का परिचालन प्रभावित हुआ, जिन्हें प्वाइंट पर अस्थाई तौर पर क्लैंप लगा मेमो देते हुए नियंत्रित रफ्तार से चलाया गया। रात बारह बजे के करीब प्वाइंट और लॉक को ठीक किया गया।
पहली घटना
शाम करीब 17:15 बजे बहुउपयोगी यूटीवी मशीन को साइडिंग पर ले जाया रहा था। इस दौरान प्लेटफॉर्म पांच से पूर्व यूटीवी मशीन के पहिए पटरी से उतर गए। घटना के बाद नियमों के तहत न तो वरीय अधिकारियों को सूचना दी गई और न ही मौजूदा संरक्षा नियमों के तहत रेलकर्मियों को अलर्ट करनेवाला हूटर बजाया गया। आनन-फानन में दुर्घटना राहत ट्रेन को लाकर यूटीवी मशीन को उठाते हुए पटरी पर लाया गया और चुपचाप साइडिंग में भेज दिया गया।

  
506 views
Today (09:35)
22481 जोधपुर दिल्ली सराय रोहिल्ला सुपरफास्ट^~   2098 blog posts   244 correct pred (56% accurate)
Re# 2131052-1            Tags   Past Edits
so sad IR
  
Today (08:02)  कानपुर में आइएसआइ ने कराया था रेल हादसा! (epaper.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNCR/North Central  -  

News Entry# 291478     
   Tags   Past Edits
Jan 18 2017 (08:02)
Station Tag: Kanpur Central/CNB added by Pp*^~/36064

Jan 18 2017 (08:02)
Station Tag: Pokhrayan/PHN added by Pp*^~/36064

Jan 18 2017 (08:02)
Station Tag: Ghorasahan/GRH added by Pp*^~/36064

Posted by: Pp*^~  5959 news posts
उत्तर प्रदेश के कानपुर में हुए रेल हादसे व पूर्वी चंपारण के घोड़ासहन स्टेशन के पास इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (आइईडी) लगाने की साजिश पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आइएसआइ ने रची थी। यह खुलासा मंगलवार को मोतिहारी पुलिस के हत्थे चढ़े तीन शातिर बदमाशों में शामिल आदापुर निवासी मोती पासवान ने पुलिस के समक्ष किया। उसने बताया कि कानपुर में 21 नवंबर 2016 को हुए रेल हादसे की साजिश आइएसआइ ने ही की थी। इसमें में मैं भी शामिल था। मेरे साथ कानपुर में कई अन्य भी थे, जिनमें दिल्ली में पकड़े गए बदमाश जुबैर व जियायुल शामिल थे। एसपी जितेन्द्र राणा के समक्ष उसने उन दोनों की तस्वीरों से पहचान की। मोती ने बताया कि कानपुर से पहले पूर्वी चंपारण के घोड़ासहन स्टेशन के पास रेल ट्रैक व चलती ट्रेन को उड़ाने की साजिश भी उसी संगठन ने रची थी। इसके लिए नेपाल में गिरफ्तार ब्रजकिशोर गिरी ने आदापुर निवासी अरुण व...
more...
दीपक राम को तीन लाख रुपये दिए थे। लेकिन, इन्होंने आइईडी लगाने के बाद भी रिमोट का बटन नहीं दबाया। इस कारण वह विस्फोट नहीं हो सका। इस कारण नेपाल बुलाकर ब्रजकिशोर ने अरुण व दीपक की हत्या कर शव फेंक दिया। देखें पेज 3 भी।’>>पूर्वी चंपारण के घोड़ासहन में भी आइईडी लगाने में था आइएसआइ का हाथ1’>>रिमोट नहीं दबाने वाले लोगों की नेपाल में बुलाकर कर दी गई हत्या 1पकड़े गए लोग नेपाल के ब्रजकिशोर गिरी के माध्यम से आइएसआइ के लिए काम कर रहे थे। इस कड़ी में मोती पासवान कानपुर में रेल हादसे को अंजाम देने के लिए गया था। 1जितेंद्र राणा, एसपी, मोतिहारी, पूच.’2009मोतिहारी पुलिस के हत्थे चढ़े तीन शातिर बदमाशों में शामिल आदापुर के मोती पासवान ने किया खुलासा1’2009कहा-दिल्ली में गिरफ्तार जुबैर व जियायुल भी थे कानपुर में मेरे साथ1’2009घोड़ासहन में रेल ट्रैक उड़ाने के लिए नेपाल में गिरफ्तार ब्रजकिशोर गिरी ने अरुण व दीपक राम को दिए थे तीन लाख रुपये, विस्फोट नहीं होने के बाद नेपाल बुलाया और कर दी हत्या
  
बीते दिनों कानपुर में हुई ट्रेन दुर्घटनाओं में आइएसआइ की संलिप्तता थी। आइएसअाइ ने बिहार के घाड़ासहन में भी ट्रेन को उड़ाने की साजिश रची थी, जो नाकाम रही। यह सनसनीखेज खुलासा बिहार पुलिस ने मंगलवार को किया।बिहार पुलिस के इस खुलासे के बाद उत्तर प्रदेश एटीएस की टीम बिहार के मोतिहारी पहुंच चुकी है। यह टीम गिरफ्तार अपराधियों से पूछताछ करेगी।उत्तर प्रदेश के कानपुर में हुए रेल हादसों व पूर्वी चंपारण के घोड़ासहन स्टेशन के पास इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (आइईडी) लगाने की साजिश के पीछे पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आइएसआइ थी। बीते दिन मोतिहारी पुलिस के हत्थे चढ़े तीन शातिर अपराधियों ने यह स्वीकर किया।बताते चलें कि इंदौर से पटना जा रही ट्रेन इंदौर-राजेन्द्र नगर एक्सप्रेस पिछले साल 20 नवंबर में दुर्घटनाग्रस्त हो गई थी। इसमें 142 लोगों की मौत हो गई थी। इसके बाद कानपुर में ही रूरा के पास अजमेर-सियालदह एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त हो गई थी।
गिरफ्तार
...
more...
अपराधियों में शामिल मोती पासवान ने बताया कि दुबई के अप्रवासी नेपाली कारोबारी शमशुल होदा ने उसे ट्रेन को दुर्घटनाग्रस्त करने की जिम्मेवारी सौंपी थी। घोड़ासान में 01 अक्तूबर को ट्रेन दुर्घटना के टल जाने पर के बाद उसने कानपुर में इंदौर-पटना तथा अजमेर-सियालदह एक्सप्रेस को उड़ाने की जिम्मेवारी दी थी। मोती के अनुसार शमशुल आइएसआइ के लिए काम करता है। उसके नेटवर्क में कई बड़े आतंकवादी भी हैं।
ट्रेन हादसा : जब बूढ़ी मां की छड़ी ने बचा ली पूरे परिवार की जान...जानिए
मोती पासवान ने बताया कि कानपुर में 20 नवंबर 2016 को हुए रेल हादसे की साजिश आइएसआइ ने रची थी। उसे अंजाम देने में उसके साथ ऑर भी लोग थे। उनमें से दो जुबैर व जियायुल दिल्ली में पकड़े जा चुके हैं। पूर्वी चंपारण के एसपी जितेन्द्र राणा के समक्ष उसने दोनों की तस्वीर देखकर पहचान की।
मोती ने बताया कि कानपुर से पहले पूर्वी चंपारण जिले के घोड़ासहन स्टेशन के पास रेल ट्रैक व चलती ट्रेन को उड़ाने की साजिश भी आइएसआइ ने रची थी। इसके लिए नेपाल में गिरफ्तार ब्रजकिशोर गिरी ने आदापुर निवासी अरुण व दीपक राम को तीन लाख रुपये दिए थे।
अजमेर-सियालदह एक्स. दुर्घटनाग्रस्त, हेल्पलाइन नंबर जारी
मोती के अनुसार अरुण व दीपक राम ने आइईडी लगाने के बाद भी रिमोट का बटन नहीं दबाया। इस कारण विस्फोट नहीं हो सका और विध्वंसात्मक कार्रवाई की साजिश नाकाम हो गई थी। मोती ने साफ किया कि घटना को अंजाम नहीं देने के कारण नेपाल बुलाकर ब्रजकिशोर ने अरुण व दीपक की हत्या कर शव को फेंक दिया था।
दाउद की भी संलिप्तता से इंकार नहीं
पूर्वी चंपारण के एसपी जितेंद्र राणा ने पकड़े गए मोती पासवान, उमाशंकर प्रसाद व मुकेश यादव के बारे में बताया कि उनके आइएसआइ से लिंक के प्रमाण मिले हैं। इंटेलिजेंस ब्यूरो की टीम सभी से पूछताछ कर चुकी है। रॉ व एनआइए को इस आशय की सूचना भेजी गई है। एसपी ने इस साजिश के पीछे दाउद इब्राहिम का हाथ होने की आशंका से भी इंकार नहीं किया।
एसपी ने बताया कि इस सिलसिले में तीन लोग नेपाल में भी गिरफ्तार किए गए हैं। उनमें नेपाल के कलेया निवासी ब्रजकिशोर गिरी, शंभू उर्फ लड्डू और मोजाहिर अंसारी शामिल हैं। नेपाल पुलिस से जो जानकारी आई है, उसमें बताया गया है कि आइएसआइ ने बिहार में विध्वंसात्मक कार्रवाई का जिम्मा ब्रजकिशोर गिरी को दे रखा था और उसे इसके लिए 30 लाख रुपये भी दिए गए थे।
रेल राज्यमंत्री ने कहा, पूछताछ जारी
रेलवे राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने कहा कि मोतीहारी से गिरफ्तार अपराधियों का पुखरायां ट्रेन हादसे में भी हाथ था। उनसे पूछताछ की जा रही है।
  
Yesterday (10:03)  15 फरवरी तक रद रहेंगी 27 ट्रेनें (epaper.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNR/Northern  -  

News Entry# 291401     
   Tags   Past Edits
Jan 17 2017 (10:03)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by Pp/36064

Posted by: Pp*^~  5959 news posts
कोहरे के चलते उत्तर रेलवे ने 17 दिसंबर से 15 जनवरी तक के लिए 31 ट्रेनें रद कर दी थीं। कुछ दिनों बाद इनमें से वाराणसी-जम्मूतवी एक्सप्रेस तथा दिल्ली-फैजाबाद को फिर से चलाने की घोषणा की गई थी। नई दिल्ली-जालंधर सिटी एक्सप्रेस को नई दिल्ली से अंबाला तक चलाने का फैसला किया गया, लेकिन अन्य ट्रेनें अभी भी निरस्त हैं। उम्मीद थी कि 16 जनवरी से इन्हें फिर से चलाने की घोषणा की जाएगी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।1रेलवे अधिकारियों का कहना है कि कोहरे का प्रकोप जारी है। बिहार, उत्तर प्रदेश सहित उत्तर भारत के कई राज्यों में घना कोहरा पड़ रहा है, इसलिए 27 ट्रेनों को अब 15 फरवरी तक निरस्त करने का फैसला किया गया है। यदि मौसम में सुधार हुआ तो 15 फरवरी से पहले भी इन्हें चलाने का फैसला किया जा सकता है। 1ये टेनें रहेंगी रद : नई दिल्ली-आगरा कैंट एक्सप्रेस (14211/14212), आनंद विहार-सीतामढ़ी एक्सप्रेस (14005/14006),...
more...
नई दिल्ली-रोहतक एक्सप्रेस (14323/14324), दिल्ली-सियालदह एक्सप्रेस (13119/13120), आनंद विहार-हटिया एक्सप्रेस (12873/12874), आनंद विहार-गुवाहाटी एक्सप्रेस (12505/12506), आनंद विहार-गोरखपुर एक्सप्रेस (15057/15058), आनंद विहार-लखनऊ एक्सप्रेस (12583/12584), आनंद विहार-मऊ एक्सप्रेस (15025/15026)। कोहरे के चलते उत्तर रेलवे ने 17 दिसंबर से 15 जनवरी तक के लिए 31 ट्रेनें रद कर दी थीं। कुछ दिनों बाद इनमें से वाराणसी-जम्मूतवी एक्सप्रेस तथा दिल्ली-फैजाबाद को फिर से चलाने की घोषणा की गई थी। नई दिल्ली-जालंधर सिटी एक्सप्रेस को नई दिल्ली से अंबाला तक चलाने का फैसला किया गया, लेकिन अन्य ट्रेनें अभी भी निरस्त हैं। उम्मीद थी कि 16 जनवरी से इन्हें फिर से चलाने की घोषणा की जाएगी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।रेलवे अधिकारियों का कहना है कि कोहरे का प्रकोप जारी है। बिहार, उत्तर प्रदेश सहित उत्तर भारत के कई राज्यों में घना कोहरा पड़ रहा है, इसलिए 27 ट्रेनों को अब 15 फरवरी तक निरस्त करने का फैसला किया गया है। यदि मौसम में सुधार हुआ तो 15 फरवरी से पहले भी इन्हें चलाने का फैसला किया जा सकता है। 1ये टेनें रहेंगी रद : नई दिल्ली-आगरा कैंट एक्सप्रेस (14211/14212), आनंद विहार-सीतामढ़ी एक्सप्रेस (14005/14006), नई दिल्ली-रोहतक एक्सप्रेस (14323/14324), दिल्ली-सियालदह एक्सप्रेस (13119/13120), आनंद विहार-हटिया एक्सप्रेस (12873/12874), आनंद विहार-गुवाहाटी एक्सप्रेस (12505/12506), आनंद विहार-गोरखपुर एक्सप्रेस (15057/15058), आनंद विहार-लखनऊ एक्सप्रेस (12583/12584), आनंद विहार-मऊ एक्सप्रेस (15025/15026)।
  
Yesterday (10:01)  महंगा पड़ा रेलवे टैक पर स्टंट करना, दो किशोरों की मौत (epaper.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNR/Northern  -  

News Entry# 291398     
   Tags   Past Edits
Jan 17 2017 (10:01)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by Pp/36064

Jan 17 2017 (10:01)
Station Tag: Mandawali-Chander Vihar/MWC added by Pp/36064

Posted by: Pp*^~  5959 news posts
जिंदगी को दांव पर लगाकर रेलवे ट्रैक पर स्टंट करना दो छात्रों के लिए महंगा पड़ गया। दिल्ली के अक्षरधाम मेट्रो स्टेशन के पास रेलवे ट्रैक पर वीडियो शूट कर रहे छात्र शुभम सैनी (15) व यश (15) की ईएमयू ट्रेन की चपेट में आकर मौत हो गई। छात्रों के साथ उनके पांच अन्य साथी भी थे, जो इनका वीडियो बना रहे थे। स्टंट के लिए उन्होंने 1300 रुपये में किराये पर कैनन का कैमरा भी लिया था। आनंद विहार पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद छात्रों के शव परिजनों को सौंप दिए हैं। पुलिस मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।1शनिवार शाम 5:40 बजे पुलिस को सूचना मिली कि अक्षरधाम मेट्रो स्टेशन के पास रेलवे ट्रैक पर एक घायल किशोर पड़ा है। एसीपी रेलवे व एसएचओ आनंद विहार मौके पर पहुंचे तो एक रेलवे ट्रैक पर शशी गार्डन दिल्ली गली नंबर-10 बी-76 निवासी शुभम सैनी (15) का शव व...
more...
दूसरे रेलवे ट्रैक पर प्रताप नगर मयूर विहार फेज-1 निवासी यश (15) का शव पड़ा हुआ था। शुभम व यश 10वीं के छात्र थे।1पुलिस को मौके पर समसपुर मयूर विहार फेज-1 मकान नंबर 35ए निवासी रोहित कुमार (16), त्रिलोकपुरी 236 निवासी तुषार अंशुल (15) दिल्ली पुलिस अपार्टमेंट मयूर विहार निवासी भवीत तोमर (13), दिल्ली पुलिस अपार्टमेंट मयूर विहार रोहित सिंह (10), पांडवनगर सी-221 निवासी अमन (14) मिले। 1रोहित रिषभ पब्लिक स्कूल में 10वीं का छात्र है। तुषार अंशुल प्रेम चंद राजकीय सवरेदया स्कूल में 9वीं, भवीत एंड्रयू स्कूल में 8वीं, रोहित सिंह एस्टर पब्लिक स्कूल में 10वीं, और अमन केंद्रीय विद्यालय दिल्ली में 8वीं का छात्र हैं। पुलिस के अनुसार सभी सात छात्र अक्षरधाम स्थित रेलवे ट्रैक पर स्टंट करने के लिए गए थे। इसके लिए उन्होंने किराये पर एक कैनन कैमरा लिया लिया। पांच लड़के रेलवे ट्रैक के किनारे खड़े थे, जबकि शुभम व यश ट्रैक पर खड़े हो गए। दोनों सामने से आती ट्रेन के सामने फोटो-वीडियो शूट कराने लगे। फोटो शूट कराने के दौरान दोनों का ध्यान सामने से आ रही ट्रेन से हट गया। जब ट्रेन बिलकुल नजदीक आ गई तो उन्होंने दूसरे ट्रैक की ओर छलांग लगाने की कोशिश की, लेकिन वे इस बात से अन्जान थे कि दूसरे ट्रैक पर भी एक ट्रेन आ रही थी। दोनों तरफ से ट्रेन आने के कारण उन्हें समझ में नहीं आया कि वे क्या करें और ट्रेन की चपेट में आ गए। पुलिस के अनुसार ट्रैक से इएमयू ट्रेन गुजर रही थी। छात्र फेसबुक पर स्टंट की फोटो डालने के लिए योजना बनाकर निकले थे। यश के परिजनों का कहना है कि यश दो बजे ट्यूशन के लिए घर से बाहर निकला था और शाम चार बजे ट्यूशन से छूटने के बाद वह दोस्तों के साथ फोटो-वीडियो शूट करने चला गया।
  
Jan 16 2017 (19:35)  Mantri mall roof collapse (www.thenewsminute.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsBMRC/Bangalore Metro  -  

News Entry# 291379     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: Vijeth Bharadwaj*^~  74 news posts
Cables dangle dangerously, iron rods poke out from the roof and concrete rubble lie on the floor as a portion of Bengaluru’s Mantri mall’s parapet came crashing down on the third floor on Monday. The impact of the damage to the structure in the rear end of the building was such that the concrete rubble fell on all the floors.
The incident occurred at around 3.15 pm in Malleswaram and two of the mall’s janitorial staff sustained minor injuries. They were taken to KC General Hospital for treatment.
What is worrying however
...
more...
is why the roof of the six-year-old mall collapsed.
“The air conditioning pipe was damaged due to which water had filled up inside the AC duct. A part of the parapet on the two floors collapsed after it was weakened due to the moisture and the accumulated water,” said Anand, a fireman deployed at the Malleshwaram Fire Station.
The officer also said that after the roof collapsed, a portion of the wall too came crumbling down.
“Everyone inside the mall were evacuated immediately and the gas connection inside the mall has been cut off as a precautionary measure”, the officer said.
The Malleshwaram police and six fire officers visited the spot to conduct an inspection.
BBMP Commissioner Manjunath Prasad told media persons that the occupancy certificate has been withdrawn and the mall has been shut down. “The mall owners will have to prove that the safety precautions are adequate and that everything they said while obtaining the occupancy certificate has been maintained. The mall will be closed from now on till they can prove its safe,” he said.
“It is a fifteen-year-old construction, we don’t know if there were any encroachments. We will know this only after investigation,” said Padmavathi, Bengaluru Mayor.
MLA Dinesh Gundu Rao, while addressing the media, said that appropriate action would be taken if Mantri Mall had flouted construction norms.
Bengaluru Metro was forced to suspend operations along that stretch for a while following the accident.
In 2016, Mantri Mall was one of 18 malls served notices by the Fire and Safety Department for violating norms for fire safety.
  
Jan 16 2017 (18:01)  4 injured as Bengaluru mall's wall caves in (www.oneindia.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsBMRC/Bangalore Metro  -  

News Entry# 291371     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: Vijeth Bharadwaj*^~  74 news posts
A part of a shopping mall's rear wall came crashing down on Monday injuring four people in Bengaluru. The rear wall of a restaurant on the third floor of the mall complex collapsed leading to chaos. Visitors as well as staff from various shops and establishments in the mall were evacuated following the incident. The injured persons have been shifted to nearby hospitals. Wall collapse at Bengaluru Mall "A portion of the wall on the rear side of Mantri Mall building collapsed and we received information at about 3 pm. it may be due to structural problems but we are yet to ascertain the exact cause of the incident," said a BBMP chief engineer. Wall collapse at Bengaluru Mall Following the wall collapse, metro lines that run right next to the mall in Malleswaram stopped operations. The incident led to utter chaos as people started dashing towards the mall's exit and...
more...
storming the main road adding to the confusion. Malleswaram police and personnel from the Fire and Safety department reached the spot. Clearance operations are under way. The cause for the wall collapse is yet to be ascertained. No casualties were reported according to initial reports.
Read more at: click here
Page#    18816 news entries  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site