Full Site Search  
Sun May 28, 2017 04:49:38 IST
Advanced Search
×
News Super Search
News Entry#:
Search Phrase:

Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Trains in the News    Stations in the News   
Page#    19536 news entries  <<prev  next>>
  
May 26 2017 (05:53)  एसी के खराब होने पर यात्रियों ने किया हंगामा (epaper.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsECR/East Central  -  

News Entry# 303600     
   Tags   Past Edits
May 26 2017 (05:53)
Station Tag: Muzaffarpur Junction/MFP added by Waiting For Extension Of TATA ROU JAT Upto SVDK😊^~/1421836

May 26 2017 (05:53)
Train Tag: Avadh Assam Express/15909 added by Waiting For Extension Of TATA ROU JAT Upto SVDK😊^~/1421836

Posted by: Waiting For Extension Of TATA ROU JAT Upto SVDK😊^~  523 news posts
मुजफ्फरपुर : प्लेटफॉर्म पर गुरुवार को गुवाहाटी से लालगढ़ जाने वाली अवध असम एक्सप्रेस के थर्ड एसी कोच में एसी खराब होने पर यात्रियों ने जमकर हंगामा। यात्रियों ने स्टेशन अधीक्षक से शिकायत की। एसी विभाग के कर्मी सूचना देने के बाद भी ठीक करने नहीं पहुंचे।12003 यात्रियों ने कहा कि छपरा से ट्रेन खुलने के बाद एसी खराब हो गया। सोनपुर व हाजीपुर में शिकायत करने के बाद भी कोई फायदा नहीं हुआ। जंक्शन पर भी एसी को ठीक नहीं किया गया। इससे गर्मी में यात्री परेशान हो रहे हैं। ट्रेन खुल गई, लेकिन मैकेनिक नहीं आए। कर्मियों का कहना है कि एसी विभाग के कर्मियों को सूचना दी गई है।1नशाखुरानी गिरोह ने यात्री को बनाया शिकार : नशाखुरानी गिरोह ने यूटीएस काउंटर के समीप बेहोश कर एक यात्री को लूट लिया। सूचना मिलने के बाद रेल पुलिस ने बेहोश यात्री को सदर अस्पताल में भर्ती कराया। रेल पुलिस का...
more...
कहना है कि जयपुर से आने वाली ट्रेन से वह आया था। सीतामढ़ी का रहने वाला है। होश में आने के बाद पूछताछ होगी।मुजफ्फरपुर : प्लेटफॉर्म पर गुरुवार को गुवाहाटी से लालगढ़ जाने वाली अवध असम एक्सप्रेस के थर्ड एसी कोच में एसी खराब होने पर यात्रियों ने जमकर हंगामा। यात्रियों ने स्टेशन अधीक्षक से शिकायत की। एसी विभाग के कर्मी सूचना देने के बाद भी ठीक करने नहीं पहुंचे।12003 यात्रियों ने कहा कि छपरा से ट्रेन खुलने के बाद एसी खराब हो गया। सोनपुर व हाजीपुर में शिकायत करने के बाद भी कोई फायदा नहीं हुआ। जंक्शन पर भी एसी को ठीक नहीं किया गया। इससे गर्मी में यात्री परेशान हो रहे हैं। ट्रेन खुल गई, लेकिन मैकेनिक नहीं आए। कर्मियों का कहना है कि एसी विभाग के कर्मियों को सूचना दी गई है।1नशाखुरानी गिरोह ने यात्री को बनाया शिकार : नशाखुरानी गिरोह ने यूटीएस काउंटर के समीप बेहोश कर एक यात्री को लूट लिया। सूचना मिलने के बाद रेल पुलिस ने बेहोश यात्री को सदर अस्पताल में भर्ती कराया। रेल पुलिस का कहना है कि जयपुर से आने वाली ट्रेन से वह आया था। सीतामढ़ी का रहने वाला है। होश में आने के बाद पूछताछ होगी।
  
May 26 2017 (05:38)  कोयला लदी मालगाड़ी में आग से अफरा-तफरी (epaper.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNCR/North Central  -  

News Entry# 303595     
   Tags   Past Edits
May 26 2017 (05:38)
Station Tag: Rura/RURA added by Waiting For Extension Of TATA ROU JAT Upto SVDK😊^~/1421836

May 26 2017 (05:38)
Station Tag: Kanpur Central/CNB added by Waiting For Extension Of TATA ROU JAT Upto SVDK😊^~/1421836

Posted by: Waiting For Extension Of TATA ROU JAT Upto SVDK😊^~  523 news posts
संवादसूत्र (रूरा) कानपुर देहात : कानपुर से गुरुवार को इटावा की ओर जा रही कोयला लदी एलपीजीयू मालगाड़ी के पीछे से छठवीं बोगी में आग सुलगती देख रेल कर्मियों में अफरा तफरी मच गई। रूरा स्टेशन की लाइन नंबर 5 पर रोकी गई इस ट्रेन की बोगी में लगी आग पर फायर ब्रिगेड ने आधा घंटे मशक्कत के बाद काबू पाया। 1कोयला लदी एलपीजीयू मालगाड़ी बुधवार रात कानपुर से इटावा की ओर जा रही थी। मध्यरात्रि के बाद एक्सप्रेस ट्रेनों को निकालने के लिए रात करीब 2:40 बजे इस ट्रेन को रूरा स्टेशन की लाइन नंबर पांच पर खड़ा कराया गया था। सुबह करीब 3:45 बजे मालगाड़ी की बोगी संख्या 22121114350 में धुआं उठता देख रेल कर्मियों ने स्टेशन मास्टर रूरा एसएस पाल को सूचना दी। मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड के पांच नंबर लाइन तक जाने का रास्ता न होने के कारण इस ट्रेन को केबिन व स्टेशन के बीच...
more...
लाकर खड़ा कराया गया तब फायर कर्मियों ने आग बुझाना शुरू किया। डिब्बे के अंदर आग लगी होने के कारण फायर कर्मियों के आग्रह पर ओएचई के सीनियर जेई अरुण कुमार ने सुबह करीब 4:30 बजे ओएचई की बिजली कटवाई। तब कर्मियों ने डिब्बे पर चढ़कर आग पर काबू पाया। 15 मिनट बाद ओएचई लाइन चालू हो पाई। तब तक ट्रैक बाधित रहा।संवादसूत्र (रूरा) कानपुर देहात : कानपुर से गुरुवार को इटावा की ओर जा रही कोयला लदी एलपीजीयू मालगाड़ी के पीछे से छठवीं बोगी में आग सुलगती देख रेल कर्मियों में अफरा तफरी मच गई। रूरा स्टेशन की लाइन नंबर 5 पर रोकी गई इस ट्रेन की बोगी में लगी आग पर फायर ब्रिगेड ने आधा घंटे मशक्कत के बाद काबू पाया। 1कोयला लदी एलपीजीयू मालगाड़ी बुधवार रात कानपुर से इटावा की ओर जा रही थी। मध्यरात्रि के बाद एक्सप्रेस ट्रेनों को निकालने के लिए रात करीब 2:40 बजे इस ट्रेन को रूरा स्टेशन की लाइन नंबर पांच पर खड़ा कराया गया था। सुबह करीब 3:45 बजे मालगाड़ी की बोगी संख्या 22121114350 में धुआं उठता देख रेल कर्मियों ने स्टेशन मास्टर रूरा एसएस पाल को सूचना दी। मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड के पांच नंबर लाइन तक जाने का रास्ता न होने के कारण इस ट्रेन को केबिन व स्टेशन के बीच लाकर खड़ा कराया गया तब फायर कर्मियों ने आग बुझाना शुरू किया। डिब्बे के अंदर आग लगी होने के कारण फायर कर्मियों के आग्रह पर ओएचई के सीनियर जेई अरुण कुमार ने सुबह करीब 4:30 बजे ओएचई की बिजली कटवाई। तब कर्मियों ने डिब्बे पर चढ़कर आग पर काबू पाया। 15 मिनट बाद ओएचई लाइन चालू हो पाई। तब तक ट्रैक बाधित रहा।
  
May 26 2017 (05:36)  चटकी पटरी से निकल गई पैसेंजर ट्रेन (epaper.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNER/North Eastern  -  

News Entry# 303594     
   Tags   Past Edits
May 26 2017 (05:36)
Station Tag: Kanpur Central/CNB added by Waiting For Extension Of TATA ROU JAT Upto SVDK😊^~/1421836

May 26 2017 (05:36)
Station Tag: Bilhaur/BLU added by Waiting For Extension Of TATA ROU JAT Upto SVDK😊^~/1421836

Posted by: Waiting For Extension Of TATA ROU JAT Upto SVDK😊^~  523 news posts
हादसा टला1’>>पीडब्ल्यूआइ की टीम ने पटरी मरम्मत कराकर कॉशन पर ट्रेनों को निकलवाया1’>>शाम को एक घंटे ब्लाक लेकर चटकी पटरी बदलकर सामान्य कराया रेल यातायात
Click here to enlarge image
संवाद सहयोगी, बिल्हौर : कानपुर कासगंज रेल रूट पर ईशन नदी पुल के पास चटकी पटरी से पैसेंजर ट्रेन गुजर गई। इसके बाद गैंगमैन की सूचना पर ट्रेनों को रोक दिया गया। पीडब्लूआइ टीम ने पटरी की मरम्मत कर कॉशन पर ट्रेनों को निकलवाया। शाम को एक घंटे का ब्लाक लेकर पटरी बदली गई, तब जाकर रेल यातायात सुचारु हो सका।1गुरुवार दोपहर ईशन
...
more...
नदी पुल के पास फरुखाबाद से कानपुर जा रही पैसेंजर ट्रेन के चटकी पटरी से निकलने की जानकारी मिलते ही रेलवे कर्मियों में अफरा-तफरी मच गई। किस्मत ही थी कि ट्रेन सही-सलामत गुजर गई वरना हजारों मुसाफिरों की जान खतरे में पड़ जाती। पेट्रोलिंग मैन ने स्टेशन मास्टर एवं पीडब्लूआइ को पटरी चटकने की सूचना दी। स्टेशन मास्टर ने कासगंज कानपुर एक्सप्रेस ट्रेन को अरौल स्टेशन पर रोक दिया। रेल कर्मियों ने पटरी मरम्मत का कार्य शुरू कराया। मौके पर पहुंची पीडब्लूआइ टीम ने लकड़ी का स्लीपर लगाकर पटरी ठीक को ठीक किया। पटरी दुरस्त करने के बाद अरौल स्टेशन पर एक घंटे खड़ी ट्रेनों को धीमी गति से पास कराया। शाम साढ़े पांच बजे पीडब्लूआइ प्रवीन कुमार की टीम ने एक घंटे का ब्लाक लेकर पटरी बदलवाई। 1साढ़े पांच से साढ़े छह बजे तक ब्लाक लेकर चटकी पटरी बदले जाने के बाद रेल यातायात सुचारु कराया गया। 1कौशल किशोर, स्टेशन मास्टर, बिल्हौरईशन नदी के पास चटकी पटरी ’ जागरण
  
May 26 2017 (05:27)  मालगाड़ी के डिब्बे में लगी आग (epaper.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNCR/North Central  -  

News Entry# 303592     
   Tags   Past Edits
May 26 2017 (05:27)
Station Tag: Allahabad Chheoki Junction/ACOI added by Waiting For Extension Of TATA ROU JAT Upto SVDK😊^~/1421836

Posted by: Waiting For Extension Of TATA ROU JAT Upto SVDK😊^~  523 news posts
नैनी, इलाहाबाद : झारखंड से कोयला लादकर बदरपुर जा रही मालगाड़ी के डिब्बे में गुरुवार करीब चार बजे आग छिवकी यार्ड पर पहुंचते ही आग लग गई। डिब्बे से धुंआ उठता देख गार्ड ने इसकी जानकारी रेलवे कंट्रोल रूम को दी। इसके कुछ ही देर फायर बिग्रेड की दो गाड़ियां मौके पर पहुंच गईं। दमकल कर्मियों ने कड़ी मशक्कत के बाद डिब्बे में लगी आग को बुझा लिया। आरपीएफ इंस्पेक्टर पीएस तौमर का कहना है कि गर्मी के कारण कोयला से धुंआ उठने लगा था। कोई गंभीर बात नहीं थी।नैनी, इलाहाबाद : झारखंड से कोयला लादकर बदरपुर जा रही मालगाड़ी के डिब्बे में गुरुवार करीब चार बजे आग छिवकी यार्ड पर पहुंचते ही आग लग गई। डिब्बे से धुंआ उठता देख गार्ड ने इसकी जानकारी रेलवे कंट्रोल रूम को दी। इसके कुछ ही देर फायर बिग्रेड की दो गाड़ियां मौके पर पहुंच गईं। दमकल कर्मियों ने कड़ी मशक्कत के बाद डिब्बे...
more...
में लगी आग को बुझा लिया। आरपीएफ इंस्पेक्टर पीएस तौमर का कहना है कि गर्मी के कारण कोयला से धुंआ उठने लगा था। कोई गंभीर बात नहीं थी।
  
May 25 2017 (11:57)  ओव्हरहेड वायर तुटल्यानं हार्बर रेल्वे विस्कळीत (www.lokmat.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsCR/Central  -  

News Entry# 303551     
   Tags   Past Edits
May 25 2017 (11:57)
Station Tag: Panvel Junction/PNVL added by Amey Ambre~/16020

Posted by: Amey Ambre~  1898 news posts
मुंबई, दि. 25 - हार्बर रेल्वे मार्गावरील वाहतूक विस्कळीत झाली आहे. तांत्रिक बिघाडामुळे हार्बर मार्गावरील वाहतूक 10 ते 15 मिनिटं उशिरानं सुरू आहे. पनवेल रेल्वे स्टेशनजवळ ओव्हर हेड वायर तुटल्यानं प्रवाशांना मनस्ताप सहन करावा लागत आहे. यामुळे सीएसटीकडे जाणा-या वाहतूक कोलमडली आहे. दरम्यान तांत्रिक बिघाड दुरुस्त करण्यात आल्याचे वृत्त मिळत आहे. बिघाड जरी दुरुस्त करण्यात आला तरीही वाहतुकीवर परिणाम कायम आहे.

ऐन गर्दीच्यावेळी झालेल्या या बिघाडामुळे प्रवाशांकडून संताप व्यक्त करण्यात येत आहे. दरम्यान, या खोळंब्यामुळे ठाणे रेल्वे स्टेशनवर प्रचंड गर्दी झाली आहे.
...
more...

ऐन गर्दीच्यावेळी सकाळी किंवा संध्याकाळी उपनगरीय लोकल सेवा कोलमडत असल्याने प्रवाशांना नाहक मनस्ताप सहन करावा लागतोय. अशा घटना कमी होण्याऐवजी दिवसागणिक वाढतच चालल्या आहेत.

कधी रेल्वे रुळाला तडा, कधी ओव्हहेड वायर तुटणे तर, कधी सिंग्नल यंत्रणेतील बिघाड यामुळे प्रवाशांना प्रचंड त्रास सहन करावा लागतो. बहुतांशवेळा हा बिघाड सकाळच्यावेळी होतो. त्यामुळे घरातून वेळेत बाहेर पडूनही प्रवाशांना वेळेत कार्यालय गाठता येत नाही.
  
May 25 2017 (04:59)  राजधानी एक्सप्रेस का इंजन फेल (epaper.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNCR/North Central  -  

News Entry# 303519     
   Tags   Past Edits
May 25 2017 (04:59)
Station Tag: Aligarh Junction/ALJN added by Waiting For Extension Of TATA ROU JAT Upto SVDK😊^~/1421836

May 25 2017 (04:59)
Train Tag: New Delhi - Rajendra Nagar (Patna) Rajdhani Express/12310 added by Waiting For Extension Of TATA ROU JAT Upto SVDK😊^~/1421836

Posted by: Waiting For Extension Of TATA ROU JAT Upto SVDK😊^~  523 news posts
जासं, अलीगढ़ : अलीगढ़ से 12 किलोमीटर दूर कलुआ रेलवे स्टेशन पर कानपुर की ओर जाने वाली लाइन पर पटना राजेंद्र नगर राजधानी एक्सप्रेस का इंजन देर शाम 7:10 बजे फेल हो गया। इस पर रेलवे स्टेशन महरावल से मालगाड़ी का इंजन मंगाकर ट्रेन को रात 8:54 बजे रवाना किया गया। नॉन स्टॉप राजधानी एक्सप्रेस का अलीगढ़ से निकलने का समय शाम 06:49 बजे है, लेकिन ट्रेन पहले से ही 15 मिनट देर से चल रही थी। इसके पीछे चल रही सुपर फास्ट संपर्क क्रांति एक्सप्रेस, पूर्वा एक्सप्रेस भी करीब 15 मिनट लेट हो गईं। इन ट्रेनों को पीछे स्टेशन पर रोक दिया गया। राजधानी एक्सप्रेस को लूप लाइन में लेने के बाद दूसरी ट्रेनों को रवाना किया गया। उत्तर मध्य रेलवे इलाहाबाद मंडल के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी गौरव कृष्ण ने बताया कि ट्रेन का इंजन किस वजह से फेल हुआ, इसकी पड़ताल की जा रही है।जासं, अलीगढ़ : अलीगढ़ से...
more...
12 किलोमीटर दूर कलुआ रेलवे स्टेशन पर कानपुर की ओर जाने वाली लाइन पर पटना राजेंद्र नगर राजधानी एक्सप्रेस का इंजन देर शाम 7:10 बजे फेल हो गया। इस पर रेलवे स्टेशन महरावल से मालगाड़ी का इंजन मंगाकर ट्रेन को रात 8:54 बजे रवाना किया गया। नॉन स्टॉप राजधानी एक्सप्रेस का अलीगढ़ से निकलने का समय शाम 06:49 बजे है, लेकिन ट्रेन पहले से ही 15 मिनट देर से चल रही थी। इसके पीछे चल रही सुपर फास्ट संपर्क क्रांति एक्सप्रेस, पूर्वा एक्सप्रेस भी करीब 15 मिनट लेट हो गईं। इन ट्रेनों को पीछे स्टेशन पर रोक दिया गया। राजधानी एक्सप्रेस को लूप लाइन में लेने के बाद दूसरी ट्रेनों को रवाना किया गया। उत्तर मध्य रेलवे इलाहाबाद मंडल के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी गौरव कृष्ण ने बताया कि ट्रेन का इंजन किस वजह से फेल हुआ, इसकी पड़ताल की जा रही है।
  
May 25 2017 (04:57)  मेट्रो कोच में चिंगारी से हड़कंप, खाली कराई ट्रेन (epaper.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsDMRC/Delhi Metro  -  

News Entry# 303518     
   Tags   Past Edits
May 25 2017 (04:57)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by Waiting For Extension Of TATA ROU JAT Upto SVDK😊^~/1421836

Posted by: Waiting For Extension Of TATA ROU JAT Upto SVDK😊^~  523 news posts
हेरिटेज लाइन पर जवानों की तैनाती की प्रक्रिया पूरी1जासं, नई दिल्ली : आइटीओ-कश्मीरी गेट हेरिटेज मेट्रो लाइन के जल्द चालू होने की संभावना के मद्देनजर केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआइएसएफ) ने भी सक्रियता बढ़ा दी है। इस लाइन की सुरक्षा के लिए मेट्रो स्टेशनों पर 250 जवानों की तैनाती की प्रक्रिया पूरी हो गई है। जवानों को विशेष कौशल के साथ अंग्रेजी बोलने की भी ट्रेनिंग दी गई है। मेट्रो ट्रेन का संचालन शुरू होने की घोषणा होते ही जवानों को स्टेशनों पर तैनात कर दिया जाएगा। दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) 5.17 किलोमीटर लंबी हेरिटेज लाइन पर वर्तमान में सुरक्षा जांच का ट्रायल करा रहा है। सेफ्टी डिपार्टमेंट से हरी झंडी मिलते ही इस लाइन पर मेट्रो का संचालन शुरू कर दिया जाएगा। इस लाइन पर दिल्ली गेट, जामा मस्जिद और लाल किला मेट्रो स्टेशन बनाए गए हैं। वॉयलेट लाइन पर एस्कॉर्ट्स मुजेसर से आइटीओ के बीच पहले से ही...
more...
मेट्रो चल रही है। हेरिटेज लाइन के शुरू होते ही रूट का दायरा कश्मीरी गेट तक बढ़ जाएगा। फरीदाबाद के लोगों को इससे बड़ी राहत मिलेगी। वे दक्षिणी दिल्ली के विभिन्न क्षेत्र से होते हुए सीधे पुरानी दिल्ली पहुंच सकेंगे। इस लाइन पर 30 महिला सुरक्षाकर्मी भी तैनात होंगी।
राज्य ब्यूरो, नई दिल्ली : सुबह के व्यस्त समय में जब लोग घर से दफ्तर व अन्य गंतव्य तक समय पर पहुंचने के लिए मेट्रो टेन में सवार हुए तो मेट्रो के एक कोच में तेज आवाज के साथ चिंगारी दिखाई देने के बाद हड़कंप मच गया। कोच में सवार लोग डर गए और कुछ पल के लिए अफरातफरी का माहौल बन गया। यह घटना बुधवार सुबह सवा दस बजे के करीब केंद्रीय सचिवालय और राजीव चौक स्टेशन के बीच हुई। इसके बाद टेन राजीव चौक पर रोक यात्रियों को उस ट्रेन से उतार दिया गया।1दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) के एक अधिकारी ने कहा, पहले चिंगारी तब दिखाई पड़ी जब गुरुग्राम के हुडा सिटी सेंटर की ओर से समयपुर बादली को जाने वाली मेट्रो केंद्रीय सचिवालय स्टेशन में प्रवेश किया। इसके बाद राजीव चौक मेट्रो स्टेशन पहुंचने पर भी ऐसा ही हुआ। ट्रेन के पिछले कोच में एसी की पाइप वाले भाग में तेज आवाज हुई और धुआं दिखाई दिया, जिसके बाद मेट्रो को खाली करा लिया गया। चिंगारी दिखाई देने के बाद यात्रियों के बीच हड़कंप मच गया, लेकिन सभी सुरक्षित हैं। 15 मिनट बाद मेट्रो सेवा बहाल हो गई है। साथ ही मेट्रो ट्रेन को जांच व विश्लेषण के लिए डिपो में भेजा गया है।
  
May 24 2017 (20:37)  तीन दिन से चल रहा था ट्रैक का मेंटीनेंस, बिना कॉशन गुजारी एसी सुपरफास्ट एक्सप्रेस, इमरजेंसी ब्रेक लगने से प्लेटफार्म पर टिक गए कोच (epaper.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNR/Northern  -  

News Entry# 303508     
   Tags   Past Edits
May 24 2017 (20:37)
Station Tag: Kanpur Central/CNB added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

May 24 2017 (20:37)
Station Tag: Unnao Junction/ON added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

May 24 2017 (20:37)
Station Tag: Lucknow Charbagh NR/LKO added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

May 24 2017 (20:37)
Train Tag: Mumbai LTT - Lucknow AC SF Express/22121 added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Posted by: ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~  5688 news posts
लापरवाही ने जोखिम में डाली हजारों जिंदगियां
दोपहर में कानपुर से लगभग 55 मिनट विलंब से यह ट्रेन लखनऊ के लिए चली थी। गंगाघाट, मगरवारा रेलवे स्टेशन से रनथ्रू निकलने के बाद उन्नाव पश्चिमी केबिन के पहले सिग्नल न मिलने से रफ्तार धीमी हो गई। इसी बीच सिग्नल मिला तो लोको पायलट 30 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से उन्नाव स्टेशन की तरफ बढ़ा। इंजन के पीछे लगे लगेज यान व कोच बी-1 प्लेटफार्म के अंतिम छोर पर पहुंचने वाले ही थे तभी अचानक तेज धमाके की आवाज के साथ ट्रेन के लहराने से यात्री सहम गए। कुछ गड़बड़ होने के अंदेशे से लोको पायलट ने इमरजेंसी ब्रेक लिया लेकिन तब तक इंजन और उसके पीछे के दो कोच को छोड़ पीछे की
...
more...
11 बोगियां पटरी से उतरकर प्लेटफार्म की दीवार से टकराते हुए उसी पर टिक गईं।1सबसे आखिरी कोच बी-11 और पेंट्रीकार वाले स्थान पर रेल पटरियां काफी क्षतिग्रस्त हो गईं लेकिन दोनों कोच पलटने से बच गए। हादसे को देखकर दूसरी ट्रेनों की प्रतीक्षा में खड़े यात्रियों में भगदड़ मच गई। इधर ट्रेन में रुकते ही उस पर सवार यात्री भी बाहर की तरफ भागे और कुछ ही मिनट में पूरी ट्रेन खाली हो गई। काफी देर तक अफरा-तफरी की स्थिति रही। कुछ ही देर बाद राहत कार्य शुरू हुआ। पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी तथा एडीआरएम एसके सपरा ने मौके पर पहुंचकर जानकारी ली। उत्तर रेलवे के सीपीआरओ नीरज शर्मा ने बताया कि ट्रैक मेंटीनेंस के दौरान ट्रेन को कॉशन देकर निकाला जाना चाहिए था। ऐसा क्यों नहीं किया गया है, इसकी जांच के आदेश दे दिए गए हैं। ट्रैक बहाल करने को टीमें लगी हैं
नीलांचल का भी बढ़ा बवाल : लखनऊ मुंबई एसी एक्सप्रेस के निरस्त होने का बवाल अभी थमा भी न था कि रेलवे ने नई दिल्ली से आ रही नीलांचल एक्सप्रेस का रास्ता बदल दिया। ट्रेन को कानपुर से सीधे इलाहाबाद-वाराणसी रवाना कर दिया। ऐसे में इस ट्रेन से भुवनेश्वर जाने के लिए बड़ी संख्या में यात्री चारबाग स्टेशन पर इंतजार ही करते रह गए। पता चला तो उन्होंने भी हंगामा किया। इलाहाबाद या कानपुर पहुंचने के लिए वैकल्पिक व्यवस्था की मांग की। सुनवाई नहीं हुई तो उन्हें भी टिकट रद कराना पड़ा। 1संडे मनाते रहे अफसर1हादसे के बाद स्टेशन पर स्थिति अनियंत्रित हो गयी। यात्रियों की सहायता के लिए मौके पर देर शाम तक कोई वरिष्ठ अफसर तक नहीं पहुंचा। अकेले उप स्टेशन वाणिज्य प्रबंधक और स्टेशन मास्टर पूरी स्थिति को किसी तरह संभालते रहे। 1हेल्पलाइन नंबर पर बजे फोन 1रेलवे ने हादसे के बाद हेल्पलाइन भी बनाई थी। उप स्टेशन वाणिज्य प्रबंधक एसके वैद्य ने यात्रियों के परिचितों को हेल्पलाइन नंबर पर जानकारियां मुहैया कराई। अधिकतर फोन ट्रेनों में यात्र करने वाले यात्रियों का हालचाल लेने के लिए आए। 1’>>घटना के कारण नहीं रवाना हुई लखनऊ एलटीटी सुपरफास्ट1’>>नीलांचल एक्स. को भी कानपुर से सीधे इलाहाबाद भेज दिया गया1जागरण संवाददाता, लखनऊ : कानपुर तक सब कुछ ठीक था। ट्रेन गंगा नदी पार हुई तो हम सब बाहर का नजारा देख रहे थे। पटरियों पर दौड़ती ट्रेन उन्नाव के प्लेटफार्म तक पहुंची ही थी कि तेज झटके लगने लगे। हम कुछ समझ पाते, इससे पहले ही इमरजेंसी ब्रेक लग गए। ट्रेन रुकते ही बाहर झांका। एक तरफ धुआं उठता दिखा जबकि दूसरी ओर धूल का गुबार था। फैजाबाद इंटरसिटी से लखनऊ पहुंचे यात्रियों ने कुछ इस तरह अपनी आपबीती सुनाई।ट्रेन की गति नियंत्रित थी। लेकिन जिस समय वह प्लेटफार्म से बार बार टकरा रही थी उससे तेज आवाज आ रही थी। पहले लगा कि मानो कोई पत्थर बरसा रहा हो। लेकिन ट्रेन रुकी तो बाहर का हाल देखकर कलेजा कांप गया।1हरिश्चंद्र, यात्रीघटना के बाद भी करीब एक घंटे तक कोई नहीं आया। हम लोग बोगियों में ही बैठे रहे। फिर रेलवे के कुछ अफसर आए और पीने के लिए पानी दिया। हम लोगों को दूसरी ट्रेन से भेजा। जबकि कई यात्रियों को बसों से लखनऊ भेजा।1रितुराज यादव, यात्रीप्लेटफार्म से बोगियां टकराने के बाद उसके बाहरी हिस्से में तेज रगड़ के कारण उसका हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया था। जिन्हें देखकर घबराहट होने लगी। यदि इसकी गति और तेज होती तो बहुत लोगों की जान तक जा सकती थी।1प्रदीप कुमार, यात्री
  
मंडल रेलवे नहीं करेगा जांच
केस
केस
लापरवाही
उन्नाव रेल हादसा : संरक्षा आयुक्त की अध्यक्षता में होगी पड़ताल, कल आएगी टीम
72
...
more...
किमी में सात जगह कमजोर है पटरी
पटरियों की गड़बड़ी रोकेंगे अफसर
Click here to enlarge image
जासं, लखनऊ : उन्नाव रेलवे स्टेशन पर रविवार को हुए ट्रेन हादसे के बाद मंडल रेल प्रशासन की कमेटी अब जांच नहीं कर सकेगी। हादसे की जांच में रेल संरक्षा आयुक्त को शामिल कर लिया गया है। इसे एक बड़ी घटना और चूक के रूप में रेल मंत्रलय देख रहा है। इस कारण मंडल रेलवे प्रशासन से जांच छीनकर उत्तर रेलवे मुख्यालय की उच्च स्तरीय कमेटी को सौंप दी गई है। इस हादसे को लेकर रेल संरक्षा आयुक्त शैलेश कुमार पाठक ने पारदर्शिता से जांच के लिए उच्च स्तरीय कमेटी बनाने का आदेश दिया है। यह कमेटी दो दिनों में अपनी जांच शुरू कर देगी। 1दरअसल, रविवार को एलटीटी से लखनऊ आ रही एसी एक्सप्रेस की 11 बोगियां उन्नाव स्टेशन पर पटरी से उतर गई थीं। प्रथम दृष्टया हादसे का कारण पटरी की गड़बड़ी बताया जा रहा है। जांच के लिए उत्तर रेलवे लखनऊ मंडल के डीआरएम सतीश कुमार को मंगलवार शाम तक जूनियर एडमिनिस्ट्रेटिव ग्रेड अफसरों की चार सदस्यीय कमेटी का गठन करना था। यह कमेटी जांच रिपोर्ट में हादसे के कारणों के महत्वपूर्ण पहलुओं की अनदेखी न कर दे, इसके लिए रेल संरक्षा आयुक्त ने उच्च स्तरीय कमेटी के गठन का आदेश दे दिया। इस कमेटी में उत्तर रेलवे मुख्यालय के चीफ ट्रैक इंजीनियर आलोक कंसल अध्यक्ष होंगे। जबकि उनके साथ चीफ रोलिंग स्टॉक इंजीनियर विकास पुरवार, एडिशनल चीफ सिक्योरिटी कमिश्नर आरपीएफ एएन मिश्र होंगे। उनके साथ उत्तर रेलवे लखनऊ मंडल के एडीआरएम एसके सपरा को भी चार सदस्यीय कमेटी में शामिल किया गया है। अब यह कमेटी पटरियों की गड़बड़ी के साथ ही दुर्घटनाग्रस्त ट्रेन की बोगियों की भी पड़ताल करेगी। इसकी रिपोर्ट रेल संरक्षा आयुक्त को सौंपेगी। जिसके बाद इस हादसे के दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी। वहीं उच्च स्तरीय कमेटी के दो दिन बाद लखनऊ आने की सूचना मिलते ही रेलवे में खलबली मच गई है। रेलवे अफसरों ने उनके आने से पहले ही अपने रिकॉर्ड को बेहतर करने के आदेश दिए हैं। जांच अब रेलवे की उच्च स्तरीय कमेटी करेगी। यह टीम जल्द घटनास्थल जाएगी।जागरण संवाददाता, लखनऊ : चोरी छिपे मेंटीनेंस कराने का ताजा मामला उन्नाव स्टेशन पर सामने आया है। जहां रविवार को एलटीटी-लखनऊ एसी सुपरफास्ट एक्सप्रेस हादसे का शिकार होने से बच गई। यहां भी ड्राइवर ने इमरजेंसी ब्रेक का इस्तेमाल किया जिससे इसकी 11 बोगियां पटरी से उतर गईं।1एलएचबी बोगियों के नए रैक और प्लेटफार्म की लूप लाइन पर होने के कारण एसी एक्सप्रेस हादसे में रेलवे को 12 करोड़ रुपये की चपत लग गई। इन 11 एलएचबी बोगियों की लागत करीब 12 करोड़ रुपये थी, जो अब दोबारा पटरी पर नहीं दौड़ सकेंगी, क्योंकि मानकों को देखते हुए पटरी से उतरी बोगी और इंजन दोबारा इस्तेमाल नहीं किए जाते हैं। दरअसल, कागजों पर परिचालन रिकॉर्ड बनाए रखने के लिए चोरी छिपे बिना ब्लॉक लेकर काम करवाने का चलन पिछले तीन साल में तेजी से बढ़ा है। रेलवे के एक वरिष्ठ अधिकारी की मानें तो रेलवे बोर्ड परिचालन स्थिति को बेहतर करने पर अधिक दबाव दे रहा है। जिस मंडल की रिपोर्ट गड़बड़ होती है वहां के अफसरों को नाराजगी ङोलनी पड़ती है। यही कारण है कि रेलवे बोर्ड कई रूटों पर पटरियों की नियमित मरम्मत के लिए ब्लॉक नहीं देता है। इसलिए जिन रूटों पर एक ट्रेन के गुजरने के बाद और दूसरी ट्रेन के आने तक दो घंटे से अधिक समय का रहता है, वहां इंजीनियरिंग और सिग्नल अनुभाग के कर्मचारी लाइन मरम्मत में जुट जाते हैं। इसकी सूचना न तो वह स्टेशन मास्टर को देते हैं, न ही कंट्रोल रूम को पता रहता है। 1यहां फंसता है मामला1मानकनगर व अमौसी में बिना सूचना काम करने पर ट्रेन आ जाने के मामले में पता चला कि कर्मचारी तय समय के भीतर काम पूरा नहीं कर सके। एक बार लाइन को खोलने के बाद उसे छोड़ा नहीं जा सकता। इस काम की अनुमति नहीं ली जाती है इसके चलते काम पूरा होने की सूचना तक नहीं दी जाती है और खुली पटरी तक ट्रेन आने पर हादसे की आशंका रहतीे है।’>>आए दिन बिना ब्लॉक व सूचना के खोल दी जाती है रेल लाइन 1’>>दो महीने में तीन ट्रेनें दुर्घटना का शिकार होने से बची12बीती फरवरी में अमौसी के पास बिना सूचना के रेल लाइन खोल दी गई। चल रहे मरम्मत कार्य के बीच बरौनी मेल पहुंच गई। ड्राइवर ने सूझबूझ दिखाते हुए इमरजेंसी ब्रेक लगाकर ट्रेन रोकी।मार्च में मानकनगर स्टेशन पर सिग्नल प्वाइंट की मरम्मत के लिए स्टेशन मास्टर को बिना सूचना दिए लाइन खोल दी गई। इस बीच एलटीटी गोरखपुर सुपरफास्ट आ गई। हालांकि ड्राइवर की सूझबूझ से हादसा टला।जिस पटरी पर रेलवे तेजस एक्सप्रेस जैसी सुपरफास्ट ट्रेन दौड़ाने की तैयारी कर रहा है, उस पर केवल 72 किलोमीटर के रेलखंड पर सात जगह ट्रेनों को कॉशन देकर धीमी गति से चलाना पड़ता है। इस रूट पर 55 और 60 किलो (एक मीटर पटरी का वजन) की पटरी कई स्थानों पर कमजोर है। 1जिस उन्नाव स्टेशन पर रविवार को रेल हादसा हुआ है वहां से भी शताब्दी एक्सप्रेस जैसी सुपरफास्ट ट्रेन को धीमी गति से चलाना पड़ रहा है। इस रूट पर शताब्दी एक्सप्रेस की औसत गति 50 किलोमीटर प्रतिघंटा से भी कम है। लखनऊ से कानपुर के बीच ट्रेन चलाने वाले ड्राइवरों को सबसे पहले अमौसी स्टेशन पार होते ही मोड़ पर आते ही गति धीमी करनी पड़ती है। यहां से ट्रेन की गति हरौनी और जैतीपुर के बीच फिर कम हो जाती है। अजगैन, सोनिक और उन्नाव स्टेशनों के बीच भी पटरियां कमजोर हो गई हैं। जिस वजह से तेज गति से ट्रेन नहीं निकाली जा सकती है।कमजोर हो रही पटरियों और उनकी गड़बड़ी के कारण आए दिन हो रहे हादसों को देखते हुए आखिरकार रेलवे ने बड़ा कदम उठा लिया। रेलवे मुख्यालय ने पूरे लखनऊ मंडल की पटरियों की जांच करने के आदेश दिए हैं। रेलवे अफसरों को खुद मौके पर जाना होगा और कई बिन्दुओं पर पड़ताल कर अपनी रिपोर्ट देनी होगी।1दरअसल उत्तर रेलवे लखनऊ मंडल के अलग अलग हिस्सों में पटरियों की गड़बड़ी आए दिन सामने आ रही है। कानपुर और मगरवारा के बीच पटरी की गड़बड़ी से ही मालगाड़ी के 11 वैगन पटरी से उतरे थे। जबकि फैजाबाद सहित कई रेलखंडों पर पिछले एक साल में छह हादसे हो चुके हैं। इसे देखते हुए रेलवे मुख्यालय ने वरिष्ठ मंडल अभियंता, सहायक मंडल अभियंता और पर्यवेक्षकों को अधिक से अधिक समय पटरियों के निरीक्षण के लिए देने को कहा है। यह अधिकारी पटरियों के फिटनेस, उसकी फिटिंग, प्वाइंट और क्रासिंग की स्थिति, लेबल क्रासिंग गेट पर अपनाए जाने वाले संरक्षा के नियम के साथ नियमित पेट्रोलिंग भी करेंगे।
  
May 24 2017 (20:17)  Unnao railway station.: Panel to probe Lokmanya Tilak superfast express derailment (timesofindia.indiatimes.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNR/Northern  -  

News Entry# 303497     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: rdb*^  129386 news posts
KANPUR: General manager, Northern Railway, RK Kulsheshtra has constituted a senior administrative grade (SAG) level committee to probe the May 21 train accident where 21 coaches of Lokmanya Tilak superfast express had derailed at platform number three of Unnao railway station. There was no casualty in the accident. Divisional railway manager, Lucknow division of Northern Railway said a four-member inquiry committee has been nominated by GM to probe the cause of derailment. The inquiry committee would be headed by chief track engineer Alok Kansal. The committee would record the statements of railway staff.
Page#    19536 news entries  <<prev  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site