Full Site Search  
Sat Mar 25, 2017 11:26:14 IST
PostPostPost Stn TipPost Stn TipUpload Stn PicUpload Stn PicAdvanced Search
Large Station Board;
Large Station Board;

BAO/Banmor (3 PFs)
بانمور     बानमोर

Track: Double Electric-Line

Type of Station: Regular
Number of Platforms: 3
Number of Halting Trains: 10
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
National Highway 3, Banmor, District: Morena
State: Madhya Pradesh
Elevation: 189 m above sea level
Zone: NCR/North Central
Division: Jhansi
No Recent News for BAO/Banmor
Nearby Stations in the News

Rating: /5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
porters/escalators - n/a (0)
food - n/a (0)
transportation - n/a (0)
lodging - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)

Nearby Stations

BMZ/Bamour Gaon 2 km     NUB/Nurabad 6 km     RRU/Rayaru 6 km     MIAL/Milaoli 7 km     SANK/Sank 9 km     MTJL/Motijheel 13 km     ABE/Ambikeshwar 14 km     BLNR/Birlanagar Junction 17 km     GOPA/Ghosipura 18 km     MRA/Morena 19 km    

Station News

Page#    Showing 1 to 3 of 3 News Items  
Dec 26 2016 (11:46)  बानमोर-रायरू के बीच इंजन के पहिए हुए जाम 4 घंटे बाधित रहा ट्रैक, ट्रेनें हुईं लेट (epaper.bhaskar.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNCR/North Central  -  

News Entry# 289665     
   Tags   Past Edits
Dec 26 2016 (11:46AM)
Station Tag: Rayaru/RRU added by स्वच्छ भारत स्वस्थ्य भारत समृद्ध भारत~/541803

Dec 26 2016 (11:46AM)
Station Tag: Banmor/BAO added by स्वच्छ भारत स्वस्थ्य भारत समृद्ध भारत~/541803

Posted by: Give LHB Rake to 12155 12156 Bhopal Exp~  28 news posts
रेलवे रिपोर्टर| ग्वालियर
मुरैना से ग्वालियर की ओर आ रहे एक इंजन के पहिए रविवार को उस समय जाम हो गए, जब इंजन बानमोर-रायरू के बीच से गुजर रहा था। इस कारण अप ट्रैक की ट्रेनें जहां थीं, उन्हें वहीं रोक दिया गया। ताज एक्सप्रेस को आगरा कैंट, खजुराहो इंटरसिटी को बानमोर पर डेढ़ से दो घंटे खड़ा करना पड़ा। इसके अलावा अप ट्रैक की जो ट्रेनें जिस स्टेशन पर थीं, वहीं रोक दी गई।
मुरैना से ग्वालियर की ओर आ रहा इंजन दोपहर करीब 2 बजे जब बानमोर-रायरू के बीच से
...
more...
गुजर रहा था। तभी उसके पहिए जाम हो गए। इंजन अप ट्रैक पर खड़ा हो जाने से अप ट्रैक बाधित हो गया। उदयपुर इंटरसिटी के 2 घंटे बानमोर पर खड़ी रहने के बाद उसे डाउन ट्रैक पर लेकर रवाना किया गया। सूचना मिलते ही तकनीकी स्टाफ मौके पर पहुंचा। शाम 6 बजे इंजन ठीक हुआ और अप ट्रैक से हटाया गया। तब जाकर ट्रैक पर ट्रेनों की आवाजाही शुरू हो सकी। दिल्ली की ओर से आने वाली ताज एक्सप्रेस 7.25 घंटे, बरौनी मेल 10.40 घंटे, अमृतसर-इंदौर 5.45 घंटे, हीराकुंड 5.15 घंटे, उदयपुर इंटरसिटी 4.11 घंटे, झेलम एक्सप्रेस 3.50 घंटे, पैसेंजर 3.10 घंटे, अंडमान, श्रीधाम 2.50 घंटे, बुंदेलखंड 2.20 घंटे, पातालकोट एक्सप्रेस 2.05 घंटे, उत्कल, महाकौशल, पंजाब मेल 1.57 घंटे, मंगला 1.30 घंटे की देर से आई।
Sep 10 2016 (14:54)  Banmore par rukwai Samata Express (googleweblight.com)
back to top
Other NewsNCR/North Central  -  

News Entry# 279645     
   Tags   Past Edits
Sep 10 2016 (2:54PM)
Station Tag: Morena/MRA added by Northern Central Railway By Kirti Singh Solanki/1524198

Sep 10 2016 (2:54PM)
Station Tag: Banmor/BAO added by Northern Central Railway By Kirti Singh Solanki/1524198

Sep 10 2016 (2:54PM)
Station Tag: Gwalior Junction/GWL added by Northern Central Railway By Kirti Singh Solanki/1524198

Sep 10 2016 (2:54PM)
Train Tag: Chhattisgarh Express/18238 added by Northern Central Railway By Kirti Singh Solanki/1524198

Sep 10 2016 (2:54PM)
Train Tag: Samata Express/12808 added by Northern Central Railway By Kirti Singh Solanki/1524198

Posted by: Kirti~  10 news posts
6 माह की मासूम को माता-पिता से मिलवाने बीच रास्ते में स्र्कवाई ट्रेन
Updated: Fri, 09 Sep 2016 10:56 PM (IST)
×
माता-पिता को बेटी से मिलवाने रेलवे स्टाफ ने स्टॉपेज न होने के बाद भी बीच रास्ते में एक छोटे से स्टेशन पर ट्रेन स्र्कवा दी।
ग्वालियर।
...
more...
ट्रेन में चढ़ने के चक्कर में अपनी 6 साल की मासूम बच्ची से बिछड़ गए माता-पिता को बेटी से मिलवाने रेलवे स्टाफ ने स्टॉपेज न होने के बाद भी बीच रास्ते में एक छोटे से स्टेशन पर ट्रेन स्र्कवा दी। ट्रेन स्र्कवाने तक ही रेलवे स्टाफ ने अपनी जिम्मेदारी खत्म नहीं की ग्वालियर रेलवे स्टेशन पर बच्ची को ट्रेन से उतारने से लेकर डेढ़ घण्टे तक उसकी देखरेख भी स्टाफ ने की। घटनाक्रम शुक्रवार का है।
बानमोर (morena)के पास रहने वाले गजेन्द्र कुमार अपनी पत्नी और 6 माह की बच्ची के साथ ट्रेन पकड़ने बानमोर रेलवे स्टेशन पर पहुंचे थे। उन्हें झांसी की ओर जाना था। उनके पहुंचने के कुछ देर बाद ही छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस वहां आकर स्र्क गई। छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस के जनरल कोच में काफी भीड़ थी।
इसलिए बच्ची की मां ने उसे कोच में मौजूद एक यात्री को पकड़ाया। ये दोनों चढ़ पाते इससे पहले ही ट्रेन चलने लगी। गेट पर भीड़ अधिक होने की वजह से दंपत्ति ट्रेन में नहीं चढ़ सके। बच्ची ट्रेन में ही यात्री के पास थी। बच्ची ट्रेन में छूट जाने पर दंपत्ति का रो-रोकर बुरा हाल हो गया।
बानमोर रेलवे स्टेशन पर मौजूद रेलवे स्टाफ ने जब यह देखा तो उन्होंने तत्काल ग्वालियर में डिप्टी एसएस कमर्शियल को इस घटना की जानकारी दी और ट्रेन के ग्वालियर पहुंचने पर बच्ची को उतारने के लिए बोला। उधर, बानमोर में दंपत्ति को रेलवे स्टाफ ने संभाला। छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस करीब 11 बजे ग्वालियर पहुंची तो रेलवे स्टाफ भी उस जनरल कोच में पहुंच गया, जिसमें बच्ची को यात्री लिए था। यात्री भी बच्ची को संभाला हुआ था।
रेलवे स्टाफ ने ग्वालियर में बच्ची को उतार लिया। इधर रेलवे स्टाफ बच्ची की देखरेख करता रहा। उधर बानमोर में मौजूद रेलवे स्टाफ ने आगरा की ओर से आ रही समता एक्सप्रेस के ड्राइवर को बानमार में ट्रेन रोकने के लिए मैसेज कर दिया। ट्रेन करीब 12.15 बजे बानमोर पहुंची। इसमें दोनों को ट्रेन में चढ़ा दिया।
इसके बाद ट्रेन ग्वालियर के लिए रवाना हुई। ट्रेन 12.30 बजे ग्वालियर पहुंची। पति-पत्नी ट्रेन से उतरे। इसके बाद रेलवे स्टाफ ने उन्हें फोन कर डिप्टी एसएस कमर्शियल कार्यालय बुला लिया। यहां बच्ची को देखकर उसके माता-पिता भावुक हो गए। उन्होंने रेलवे स्टाफ को धन्यवाद दिया और बच्ची को लेकर चले गए।
Jul 18 2014 (21:58)  हैरिटेज कोचों की बानमोर तक हुई ट्रायल, किराए पर भी मिलेगी ट्रेन (www.bhaskar.com)
back to top
New Facilities/TechnologyNCR/North Central  -  

News Entry# 185725     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: Vaibhav Agarwal*^  1403 news posts
पैलेस ऑन व्हील की तर्ज पर तैयार किए गए हैरिटेज कोचों की गुरुवार सुबह ट्रायल हुई। कोचों की ट्रायल ग्वालियर से बानमोर गांव के बीच हुई। इस दौरान ग्वालियर से जाते समय ट्रेन को घोसीपुरा स्टेशन पर प्रेशर लीक होने के कारण रोका गया।

20 को डीआरएम जा सकते हैं श्योपुर: >20 जुलाई को डीआरएम नवीन चोपड़ा ट्रेन से श्योपुर तक जाएंगे। इसकी मौखिक सूचना मिली है। >ट्रेन को 30 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से दौड़ाया गया। ग्वालियर से सुबह 9.05 बजे रवाना हुई ट्रेन 10.13 बजे बानमोर गांव पहुंची।
...
more...
दोपहर 12.45 बजे ग्वालियर वापस आ आई। ट्रायल लेने के लिए एरिया मैनेजर अनिल शर्मा, एडीएमई एके अवस्थी, लोको पायलट अजय राज गोस्वामी गए थे।
> हैरिटेज लुक में सजे हैं कोच : सिंधिया रियासतकालीन कोचों को हैरिटेज लुक में सजाया गया है। इनमें से एक कोच 1930 का है, दूसरा 1940 का। इस ट्रेन को एक लाख रुपए पर किराए पर भी दिया जाएगा। ट्रेन को श्याेपुर तक चलाने की योजना बनाई जा रही है।

यह आईं समस्या
बारिश के दौरान कोचों में पानी भरा। कोचों में बैठे अधिकारियों को झटके लगे। लाइटिंग और चार्जिंग की समस्या आई।
Page#    Showing 1 to 3 of 3 News Items  

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site