Full Site Search  
Sun Feb 19, 2017 22:12:13 IST
PostPostPost Stn TipPost Stn TipUpload Stn PicUpload Stn PicAdvanced Search

BANO/Bano (2 PFs)
     बानो

Track: Single Electric-Line

Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 12
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Dist. Gumla
State: Jharkhand
Elevation: 440 m above sea level
Zone: SER/South Eastern
Division: Ranchi
No Recent News for BANO/Bano
Nearby Stations in the News

Rating: /5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
porters/escalators - n/a (0)
food - n/a (0)
transportation - n/a (0)
lodging - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)

Nearby Stations

KNRN/Kanaroan 6 km     MCZ/Mahabuang 9 km     BRBR/Barbera 9 km     TATI/Tati 15 km     KRKR/Kurkura 20 km     PKC/Pakra 26 km     PBB/Parbatonia 27 km     PKF/Pokla 33 km     ORGA/Orga 35 km     BKPR/Bakaspur 40 km    

Station News

Page#    Showing 1 to 2 of 2 News Items  
Mar 03 2015 (11:56)  बंडामुंडा रेलखंड मेँ शुरु होगा दोहरीकरण, दक्षिण पूर्व रेलवे के महाप्रबंधक ने किया निरीक्षण, होली में नहीं चलेगी स्पेशल ट्रेन (epaper.jagran.com)
back to top
Commentary/Human InterestSER/South Eastern  -  

News Entry# 215263   Blog Entry# 1384983     
   Tags   Past Edits
Mar 03 2015 (12:16PM)
Station Tag: Bano/BANO added by অনুপম**/401739

Mar 03 2015 (12:16PM)
Station Tag: Orga/ORGA added by অনুপম**/401739

Mar 03 2015 (12:16PM)
Station Tag: Hatia/HTE added by অনুপম**/401739

Mar 03 2015 (12:16PM)
Station Tag: Bondamunda/BNDM added by অনুপম**/401739

Mar 03 2015 (12:16PM)
Station Tag: Ranchi Junction/RNC added by অনুপম**/401739

Posted by: 4πu¶am*^~  4354 news posts
रांची : डीआरएम दीपक कश्यप ने बताया कि होली स्पेशल ट्रेन नहीं चलाई जाएगी। क्योंकि इस वर्ष बोर्ड की परीक्षा के कारण ट्रेनों में भीड़ पूर्व की अपेक्षा कम है। जानकारी दी कि टाटा स्टेशन से छपरा और नागपुर के लिए स्पेशल ट्रेन चलाई जा रही है।
जागरण संवाददाता, रांची : रेल बजट में मिली स्वीकृति के तहत बंडामुंडा रेलखंड का 167 किलोमीटर तक दोहरीकरण होगा। इसके लिए 1660 करोड़ रुपये की स्वीकृति दी गई है। निर्माण पांच वर्ष में पूरा होने की संभावना है। निर्माण पूरा हो जाने पर दक्षिण भारत के लिए जानेवाली ट्रेनों को सुविधा होगी और अन्य ट्रेन भी इसी रूट से चलने लगेंगी। यह कहना है दक्षिण पूर्व रेलवे के महाप्रबंधक राधेश्याम का। वह सोमवार को रांची
...
more...
डीआरएम कक्ष में पत्रकारों से बात कर रहे थे। उसके पहले महाप्रबंधक ने रांची रेलमंडल अंतर्गत स्टेशनों व रेल परियोजनाओं का निरीक्षण किया। निरीक्षण सुबह नौ बजे से चांडिल रेल खंड से शुरू होकर मुरी-रांची और अंत में हटिया स्टेशन तक किया गया। हटिया पहुंचने पर जीएम ने स्टेशन पर नवनिर्मित फुट ओवरब्रिज का उद्घाटन किया। महाप्रबंधक ने बताया कि रांची मंडल में चल रहे विद्युत कार्य व पैसेंजर सुविधाओं का अवलोकन किया। मंडल में सुरक्षा के विषय पर कहा कि मई के अंत तक आरपीएफ के नए जवान ट्रेनिंग के उपरांत तैनात किए जाएंगे। इससे जवानों की कमी दूर होगी। मौके पर रांची रेलमंडल प्रबंधक दीपक कश्यप, चीफ कंस्ट्रक्शन एडमिनिस्ट्रेशन डॉ. रतन कुमार, प्रिंसिपल चीफ इंजीनियर आरके अग्रवाल, सीओएम अमरीश गुप्ता, चीफ सिक्यूरिटी कमिश्नर एसके सिन्हा के अलावा सीनियर डीसीएम नीरज कुमार, डीएसी भवानी शंकर नाथ सहित रेलवे के वरीय अधिकारी मौजूद थे।

2597 views
Mar 03 2015 (12:33)
arunjoshi028   486 blog posts   65822 correct pred (77% accurate)
Re# 1384983-1            Tags   Past Edits
great news per hame malum hua ha budget me 2015 2016 me fund 40 crore ka fund ha

2502 views
Mar 03 2015 (12:38)
Boxer Bhai~   38128 blog posts   12663 correct pred (61% accurate)
Re# 1384983-2            Tags   Past Edits
Bhai paise toh dene dho hear state praise dene ka e land kiya his RM ne,paise ka hai? palana date take mil jayenge jar keep toh nahi bola na?
Feb 24 2014 (13:56)  रेलवे ट्रैक पर दौड़कर रुकवायी ट्रेन, बचायी हजारों यात्रियों की जान (www.prabhatkhabar.com)
back to top
Commentary/Human InterestSER/South Eastern  -  

News Entry# 169360     
   Tags   Past Edits
Feb 24 2014 (1:56PM)
Station Tag: Mahabuang/MCZ added by অনুপম**/401739

Feb 24 2014 (1:56PM)
Station Tag: Bano/BANO added by অনুপম**/401739

Posted by: 4πu¶am*^~  4354 news posts
बानो के असीसन सुरीन ने वर्ष 1991 में रेल दुर्घटना टाल कर बचायी थी हजारों यात्रियों की जान
अफसर, मंत्री का अनुशंसा पत्र लेकर दर-दर की ठोकर खा रहा आदिवासी युवक
रांची : बानो का आदिवासी युवक असीसन सुरीन ने 23 साल पहले रेल दुर्घटना टाल कर हजारों लोगों की जान बचायी थी. उस वक्त रेलवे अधिकारियों ने 12 वर्षीय आदिवासी बच्चे की हिम्मत को सराहा था. उसकी सूझबूझ की प्रशंसा की थी.
साथ
...
more...
ही उसे पारितोषिक के तौर पर नौकरी दिलाने की बात कही थी. घटना के दो दशक बीत चुके हैं, लेकिन अब तक असीसन को इनाम नहीं मिला. वह अब रेलवे अधिकारियों और मंत्रियों के अनुशंसा पत्र लेकर दर-दर की ठोकरें खा रहा है. उसे अब भी आस है कि उसे न्याय मिलेगा. इसलिए प्रयासरत है. नाबालिग असीसन ने आठ दिसंबर 1991 को बानो और महबुआंग के बीच 2 जेआर डाउन पैसेंजर को बड़ी दुर्घटना होने से बचाया था, अन्यथा कई लोग काल के ग्रास बन सकते थे.
बानो के तत्कालीन स्टेशन मास्टर ने पारितोषिक के रूप में दक्षिण-पूर्व रेलवे में नौकरी दिलाने को लेकर प्रमाण पत्र भी दिया था. इसके बाद से पत्रचार का सिलसिला जारी है. सांसद, विधायक और रेलवे अधिकारियों ने असीसन को नौकरी दिलाने की अनुशंसा की, लेकिन कोई नतीजा नहीं निकल पाया है.
रेलवे ट्रैक पर दौड़ रुकवायी थी ट्रेन
असीसन सुरीन ने प्रभात खबर से बातचीत करते हुए घटना की जुबानी बयां की. बात आठ दिसंबर 1991 की है. 12 वर्षीय असीसन रोज की तरह जनता स्कूल में पढ़ने जा रहा था. उस दिन स्कूल में ललित कला की परीक्षा थी. रेलवे ट्रैक से गुजरने के दौरान उसने देखा कि रेलवे ट्रैक टूटा हुआ है. पैसेंजर ट्रेन के आने का भी समय हो गया है. आसपास किसी के नहीं रहने पर हाथ में लाल कपड़ा लेकर वह रेलवे ट्रैक पर राउरकेला की तरफ दौड़ने लगा. नौ पोल पार करने पर उसे ट्रेन दिखी. ट्रेन के नजदीक आने पर उसने चिल्लाते हुए रुकने का इशारा किया. ड्राइवर की नजर उस पर पड़ी. उसने ट्रेन रोकी, फिर जानकारी ली.
दोनों ने पैदल जाकर टूटी पटरी को देखा. उसे बालिग होने पर पारितोषिक के तौर पर नौकरी दिलाने का आश्वासन दिया गया था. मैट्रिक पास करने के बाद से असीसन नौकरी के लिए गुहार लगा रहा है.
किसने-किसने की अनुशंसा
झामुमो सुप्रीमो शिबू सोरेन, कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सुखदेव भगत, तत्कालीन उप मुख्यमंत्री प्रो स्टीफन मरांडी, विधायक पौलुस सुरीन, पूर्व सांसद डॉ रामेश्वर उरांव के अलावा दक्षिण-पूर्व रेलवे के मैनेजर (पर्सनल), तत्कालीन स्टेशन मैनेजर, बानो ने केंद्रीय रेल मंत्री को अनुशंसा पत्र लिख कर असीसन को न्याय दिलाने का आग्रह किया है. असीसन ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को पत्र लिख कर भी मदद करने की गुहार लगायी है.
Page#    Showing 1 to 2 of 2 News Items  

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site