Full Site Search  
Tue Feb 21, 2017 06:18:12 IST
PostPostPost Stn TipPost Stn TipUpload Stn PicUpload Stn PicAdvanced Search

BOY/Bhadohi (2 PFs)
بھدوہی     भदोही

Track: Double Electric-Line

Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 46
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Station Road, Bhadohi 221401
State: Uttar Pradesh
Elevation: 89 m above sea level
Zone: NR/Northern
Division: Lucknow Charbagh NR
1 Travel Tips
No Recent News for BOY/Bhadohi
Nearby Stations in the News

Rating: 4.7/5 (32 votes)
cleanliness - excellent (4)
porters/escalators - good (4)
food - excellent (4)
transportation - excellent (4)
lodging - excellent (4)
railfanning - excellent (4)
sightseeing - excellent (4)
safety - good (4)

Nearby Stations

PRF/Parsipur 8 km     MOF/Mondh 9 km     KEH/Kapseti 16 km     SAW/Suriawan 16 km     SWPR/Sewapuri 21 km     SQN/Sarai Kansrai 26 km     CHH/Chaukhandi 28 km     JNH/Janghai Junction 31 km     LOT/Lohta 38 km     JUA/Jarauna 40 km    

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 73 News Items  next>>
Jan 01 2017 (19:33)  लोहता-सेवापुरी रेलखंड पर 100 किमी की रफ्तार से दौड़ेंगी ट्रेनें (m.jagran.com)
back to top
IR AffairsNR/Northern  -  

News Entry# 290261   Blog Entry# 2112820     
   Tags   Past Edits
Jan 01 2017 (7:33PM)
Station Tag: Pratapgarh Junction/PBH added by Varuna Express/93256

Jan 01 2017 (7:33PM)
Station Tag: Lucknow Charbagh NR/LKO added by Varuna Express/93256

Jan 01 2017 (7:33PM)
Station Tag: Allahabad Junction/ALD added by Varuna Express/93256

Jan 01 2017 (7:33PM)
Station Tag: Janghai Junction/JNH added by Varuna Express/93256

Jan 01 2017 (7:33PM)
Station Tag: Bhadohi/BOY added by Varuna Express/93256

Jan 01 2017 (7:33PM)
Station Tag: Varanasi Junction/BSB added by Varuna Express/93256

Posted by: Varuna Express  39 news posts
वाराणसी : उत्तर रेलवे के वाराणसी-भदोही रेल खंड के लोहता-सेवापुरी सेक्शन में गुरुवार को सायंकाल कमिश्नर रेलवे सेफ्टी (सीआरएस) एसके पाठक ने स्पेशल ट्रेन चलाकर लोहता से सेवापुरी स्टेशनों के बीच 120 किलोमीटर की रफ्तार से लाइन का परीक्षण किया। कोई कमी नहीं पाने के बाद उन्होंने तत्काल प्रभाव से 100 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से ट्रेनों को चलाने का आदेश दे दिया। इस अवसर पर लखनऊ मंडल के अपर मंडल रेल प्रबंधक एसके सत्रा, निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता कैंट कैलाश राम सहित काफी संख्या में अधिकारी मौके पर मौजूद थे।
स्टेशन मास्टर कैंट कार्यालय के अनुसार गत एक सप्ताह से वाराणसी से लोहता, चौखंडी, सेवापुरी होकर भदोही जाने वाला रेल मार्ग बंद रहने से यात्रियों को भारी परेशानी का सामना
...
more...
करना पड़ा। जिसके कारण काशी विश्वनाथ एक्सप्रेस, गरीब रथ एक्सप्रेस, लखनऊ इंटरसिटी एक्सप्रेस सहित कई ट्रेनों को निरस्त करना पड़ा। तो वहीं कई ट्रेनों का मार्ग बदल कर चलाया गया।
शुक्रवार सुबह से ही सभी ट्रेनों को पूरी गति से चलाए जाने का निर्देश मिलते ही चालकों को काशन के साथ रवाना किया गया। ट्रेनों के गमनागमन होने से रेलवे की टिकट बिक्री में भारी बढ़ोत्तरी आने की भी खबर बुकिंग काउंटरों से मिली।

3 posts - Sun Jan 01, 2017 - are hidden. Click to open.

4 posts - Mon Jan 02, 2017 - are hidden. Click to open.

3167 views
Jan 03 2017 (14:10)
indian railway~   1138 blog posts   10 correct pred (50% accurate)
Re# 2112820-8            Tags   Past Edits
next doubling janghai to suriawan ka ho jaye to acha rahega
Nov 11 2016 (23:44)  वीपीएल पैसेंजर के रद होने से डाक व्यवस्था ध्वस्त (m.jagran.com)
back to top
Commentary/Human InterestNR/Northern  -  

News Entry# 285440   Blog Entry# 2056818     
   Tags   Past Edits
Nov 11 2016 (11:44PM)
Station Tag: Rae Bareli Junction/RBL added by Varuna Express/93256

Nov 11 2016 (11:44PM)
Station Tag: Lucknow Charbagh NR/LKO added by Varuna Express/93256

Nov 11 2016 (11:44PM)
Station Tag: Pratapgarh Junction/PBH added by Varuna Express/93256

Nov 11 2016 (11:44PM)
Station Tag: Janghai Junction/JNH added by Varuna Express/93256

Nov 11 2016 (11:44PM)
Station Tag: Bhadohi/BOY added by Varuna Express/93256

Nov 11 2016 (11:44PM)
Station Tag: Varanasi Junction/BSB added by Varuna Express/93256

Posted by: Varuna Express  39 news posts
भदोही : वाराणसी-लखनऊ के बीच चलने वाली वीपीएल पैसेंजर गाड़ी रद होने से डाक व्यवस्था ध्वस्त हो गई है। हालांकि वैकल्पिक व्यवस्था के तहत विभाग द्वारा निजी वाहन की सेवा ली जा रही है लेकिन यह विभाग के लिए जहां आर्थिक क्षति का कारण बन रहा वहीं समय से डाक भी नहीं पहुंच रही।
रेलवे द्वारा गत सात नवंबर से वीपीएल सवारी गाड़ी का संचालन पूरे एक माह के लिए बंद कर दिया गया है। विभागीय अधिकारियों के अनुसार कोहरे आदि की आशंका के मद्देनजर उक्त निर्णय लिया गया है। ऐसे में जहां उक्त ट्रेन से यात्रा करने वाले हजारों यात्रियों को मुसीबत से दो चार होना पड़ रहा है वहीं डाक व्यवस्था भी छिन्न भिन्न हो गई है।
बताते
...
more...
चलें कि रेलवे व संचार विभाग के माध्यम से लोकल डाक वीपीएल पैसेंजर ट्रेन से आता था। उक्त गाड़ी का परिचालन बंद होने के बाद डाक सेवा भी ठप हो गई। इस दौरान दो दिन तक लोगों को भारी दिक्कत का सामना करना पड़ा। हालांकि बाद में विभाग ने निजी वाहन के माध्यम से डाक मंगाना शुरू किया। उक्त वाहन वाराणसी कैंट से हाथी बरनी, सेवापुरी, परसीपुर, भदोही, मोढ़, सुरियावां तक आवागमन कर रहा है। इस संबंध में पोस्टमास्टर विजयशंकर दुबे का कहना है कि शुरू में दिक्कत हुई थी लेकिन बाद में वाहन के माध्यम से व्यवस्था सुचारू रूप से चलने लगी है। हालांकि इसके चलते विभाग को अनावश्यक रूप से आर्थिक चपत लग रही है जबकि समय से डाक भी नहीं पहुंच पा रही है।
Nov 11 2016 (23:40)  नोट पर प्रतिबंध : रेलवे की अर्निंग धड़ाम (m.jagran.com)
back to top
IR AffairsNR/Northern  -  

News Entry# 285439   Blog Entry# 2056812     
   Tags   Past Edits
Nov 11 2016 (11:40PM)
Station Tag: Bhadohi/BOY added by Varuna Express/93256

Posted by: Varuna Express  39 news posts
भदोही : भले ही सरकार ने रेलवे यात्रा के लिए पुराने नोटों के चलन को बरकरार रखा है बावजूद इसके विभाग को तगड़ी चपत लग रही है। स्थानीय स्टेशन पर टिकट बिक्री सहित अन्य मदों में होने वाली आने आय में 35 से 40 फीसद कमी दर्ज की गई है। छोटी नोट की समस्या के चलते यात्री व क्लर्क दोनों बेबस हैं।
हजार व पांच सौ के नोट बंद करने के निर्णय के दौरान सरकार ने रेलवे सहित कुछ विभागों को पुराने नोट स्वीकार करने के आदेश जारी किए थे। बावजूद इसके रेलवे को भारी हानि का सामना करना पड़ा। आलम यह है कि छोटे नोट यानी सौ पचास रुपये के अभाव में बु¨कग से टिकट निकालना टेढ़ी खीर साबित हुआ। बताते
...
more...
चलें कि बु¨कग पर पहुंचने वालों के पास पांच सौ व एक हजार के ही नोट नजर आए। उधर वापस करने के लिए क्लर्क के पास छोटे नोट न होने के कारण समस्या खड़ी हुई। इस दौरान कुछ लोगों ने जहां यात्रा रद कर दी वहीं अधिकतर बेटिकट यात्रा को विवश हुए।
इसके अलावा पैसे के अभाव में काफी लोग इन दिनों यात्रा से भी परहेज कर रहे हैं। यही कारण है कि साढ़े तीन से चार लाख प्रतिदिन अर्निग वाले स्टेशन की कमाई घट कर दो से ढाई लाख तक सिमट गई। छुट्टे को लेकर बु¨कग पर कई बार विवाद की स्थिति भी उत्पन्न हुई। इस बाबत मुख्य वाणिज्यिक प्रबंधक एसके सिनहा का कहना है कि अभी तो गनीमत है शनिवार से रेलवे भी पुराने नोट नहीं लेगा। ऐसे में अर्निग धड़ाम होना तय है। बताया कि यह स्थित कम से कम एक सप्ताह बनी रहेगी।

2043 views
Nov 12 2016 (00:18)
©The Dark Lord™~   4873 blog posts
Re# 2056812-3            Tags   Past Edits
Railways should provide card swapping machines at UTS and PRS counters so that bookings could be done by paying direct through debit or credit card. This will encourage the use of plastic money and this digital transaction system will also bring transparency in the system.

1960 views
Nov 12 2016 (00:35)
DhnEcr~   4451 blog posts
Re# 2056812-4            Tags   Past Edits
Indian Railways are also one reason for use of cash in economy. IRCTC etickets use plastic money while none of counters PRS have even a debit/credit card machines. No wonder black money hoarders took to pour it in PRS tickets. Such an irony that IRCTC users have to pay Rs22, Rs45 while PRS counters where cost of people, infrastructure, computers, electricity, buildings rent has to be paid while not a single extra penny is charged ofr PRS tickets that also comes with a rider that even WL PRS are used unauthorized travel in trains.

1978 views
Nov 12 2016 (01:00)
Finally on a break   30169 blog posts   22602 correct pred (75% accurate)
Re# 2056812-5            Tags   Past Edits
No tickets checking is going on stations due to this effect...

1536 views
Nov 12 2016 (09:15)
©The Dark Lord™~   4873 blog posts
Re# 2056812-6            Tags   Past Edits
On that issue Govt will have to rethink. On one hand it's promoting the use of plastic money & digital transaction and on the other hand it's charging more from those who opt these as a mode of payment. This double speak is the biggest obstruction in the way of a transparent transaction system.

1261 views
Nov 12 2016 (15:28)
For Better Managed Indian Railways~   1933 blog posts
Re# 2056812-7            Tags   Past Edits
(1) Online transaction is done mostly by the educated (mostly salaried) middle class people in India. These are the ones targeted to be squeezed by govt to collect maximum revenue, as they want nation to be governed with justice and proper utilisation of their hard earned money contributed by them as tax. They are the biggest sufferers of black economy as they have very little to save even after heavily contributing (a major part of their savings as tax) to national economy.
(2)The rich ones are always a couple of steps ahead of the Govt and are generally "good friends" of the rulers and often party to them through big political donations/ deals/ partnerships etc. This class is the biggest beneficiary of
...
more...
the parallel black economy and mint money through hoarding of goods, capturing national resources. Huge increase in the assets held by top 2-3 percent of Indians bear a testimony to this. Embezzlement of huge amounts in tune of several 1000s of crores (lacs of Crores in few cases) had been found out in single case by the investigating agencies in past by the this class of people.
(3) And the non taxpaying BPL people (some really poor and other pseudo poor, who are poor with white money and rich with black money) whom the rulers consider as a vote bank to be nurtured through splurging of tax collected over them. This is to ensure that kingdom(govt) may continue for as long as possible. A novice ex-PM candidly admitted that only 15% of the subsidy actually reaches the real poor, 85% goes to the pseudo poor or is embezzled mostly by rich ones.
(4) Above factors override the emphasis of the govt on plastic money & digital transaction which shall ensure better tax collection, higher tax compliance, lower tax rates. Because nurturing vote bank and remain in power often is more important than the well being of nation and its honest citizens. Every body shall talk about good laws and practices but does not want to implement them in right spirit as one him/herself have to come clean on that issue.
Nov 09 2016 (13:08)  कैंट स्टेशन कराएगा एयरपोर्ट का अहसास (m.jagran.com)
back to top
New Facilities/TechnologyNR/Northern  -  

News Entry# 285219     
   Tags   Past Edits
Nov 09 2016 (1:08PM)
Station Tag: Bhadohi/BOY added by Varuna Express/93256

Nov 09 2016 (1:08PM)
Station Tag: Lohta/LOT added by Varuna Express/93256

Nov 09 2016 (1:08PM)
Station Tag: Kashi/KEI added by Varuna Express/93256

Nov 09 2016 (1:08PM)
Station Tag: Shivpur/SOP added by Varuna Express/93256

Nov 09 2016 (1:08PM)
Station Tag: Chaukhandi/CHH added by Varuna Express/93256

Nov 09 2016 (1:08PM)
Station Tag: Varanasi Junction/BSB added by Varuna Express/93256

Posted by: Varuna Express  39 news posts
वाराणसी : यात्री सुविधा विस्तार के लिहाज से कैंट रेलवे स्टेशन अगले साल जून तक किसी हवाईअड्डे पर पहुंच जाने जैसा अहसास कराएगा। प्लेटफार्म नंबर एक, छह-सात व आठ नौ पर फर्श से छत तक आकर्षक लुक के साथ सेवाओं व सुविधाओं में भी यह स्तर नजर आएगा। रेलवे बोर्ड ने इस तरह के साज-संवार की जिम्मेदारी राइट्स संस्था को देने के साथ कार्य पूर्णता अवधि भी तय कर दी। कैंट स्टेशन पर जारी विस्तार परियोजनाओं के निरीक्षण पर आए उत्तर रेलवे के जीएम एके पुठिया ने मंगलवार को प्रेसवार्ता में यह जानकारी दी।
इस पार से उस पार नया एफओबी
सर्कुलेटिंग
...
more...
एरिया में निर्माणाधीन यात्री विश्रामालय से छावनी साइड को जाने के लिए नया फुट ओवर ब्रिज भी बनेगा। दस मीटर चौड़े एफओबी से सभी प्लेटफार्मो पर भी उतरा जा सकेगा। राइट्स संस्था इसे नवंबर 2017 तक मूर्त रूप देगी। इसके बाद पुराने एफओबी को भी ध्वस्त कर नए सिरे से निर्माण होगा। महाप्रबंधक ने दोनों परियोजनाओं के संबंध में कार्यदायी संस्था के संग मौके पर विचार विमर्श भी किया।
दो नई गुड्स लाइन, 4-5 सीध में
मालगाड़ियों के सुगम परिचालन को छावनी साइड में दो गुड्स लाइन बनेंगी। इसके लिए प्लेटफार्म नंबर चार-पांच को समानांतर होगा लेकिन नंबर तीन चौड़ा हो जाएगा। विस्तारीकरण की कवायद में चार -पांच के कुछ भवन ध्वस्त किए जाएंगे। जीएम पुठिया ने बताया कि पहले 8-10 मालगाड़ियां ही कैंट से गुजरती थीं, अब यह संख्या 18-20 है जो 25 तक जाएगी।
01 माह में मिलेगी छावनी की जमीन छावनी के 19 हजार वर्गमीटर भूखंड का हस्तांतरण एक माह में हो जाएगा। इसके साथ ही सेंकेंड इंट्री पर 3500 वर्ग मीटर में यात्री सुविधा विस्तार राइट्स शुरू कर देगी। अभी लिफ्ट व एक्सलेरेटर निर्माण हो रहा है जो दिसंबर तक पूरा हो जाएगा।
परियोजनाओं की समयावधि तय
यात्री शेल्टर, टूरिज्म सेंटर समेत सर्कुलेटिंग क्षेत्र में निर्माण, द्वितीय श्रेणी वेटिंग हाल, लोहता-सेवापुरी तक दो ब्लाक सेक्शन दोहरीकरण-विद्युतीकरण इसी साल पूरा हो जाएगा। जीएम ने कहा आआरआइ भवन जनवरी तक तैयार होगा।
रायशुमारी और विज्ञापन पर जोर
विकास कार्य रायशुमारी से ही होंगे। इसके तहत एक लाख सुझाव मिले हैं। रेल शिविर में 18-19 नवंबर को पीएम भी संबोधित करेंगे। जीएम ने कहा आय बढ़ाने को रेलवे किराया वृद्धि की बजाय दूसरे विकल्प तलाश रहा है। विज्ञापनों पर जोर है जो छोटे स्तर पर शुरू कर दिया गया है।
चौखंडी स्टेशन पर गुड्स शेड के लिए किया गया भूमि पूजन
कैंट स्टेशन पर तीन नए प्लेटफार्म निर्माण के लिए गुड्स शेड स्थानांतरित करने को जीएम ने चौखंडी में भूमि पूजन किया। इसके साथ ही लोहता व सेवापुरी स्टेशन का विंडो ट्रेलिंग निरीक्षण भी किया। सीसीएम देवेश मिश्रा, मुख्य संकेत एवं दूर संचार अभियंता अजय विजय वर्गीय, प्रधान मुख्य अभियंता, आरके अग्रवाल, मुख्य प्रशासनिक अधिकारी निर्माण पीके सांगी, मुख्य अभियंता राजीव सक्सेना, राइट्स के डीजीएम अशोक उपाध्याय, डीआरएम एके लाहोटी आदि थे।
Nov 06 2016 (11:43)  क्रासिंग पर हादसों को रोकने के लिए रेल प्रशासन गंभीर नहीं - कैग की रिपोर्ट (khabar.ndtv.com)
back to top
Crime/AccidentsNCR/North Central  -  

News Entry# 284949   Blog Entry# 2050272     
   Tags   Past Edits
Nov 06 2016 (11:43AM)
Station Tag: Bhadohi/BOY added by Yuva Rahul^~/1397979

Posted by: Yuva Rahul  103 news posts
नई दिल्ली: भदोही में एक रेलवे फाटक पर हुए भयानक हादसे ने ऐस क्रॉसिंगों को संचालित करने की मौजूदा व्यवस्था पर कई बड़े सवाल खड़े कर दिए हैं। बुधवार को रेल मंत्रालय की उपनगरीय सेवाओं पर अपनी ताजा रिपोर्ट में कैग ने भी सवाल उठा दिया। रिपोर्ट में कहा गया है, "लेवल क्रॉसिंगों को हटाने के लिए पुल बनाने के काम में हो रही देरी से साफ है कि ऐसी जगहों पर हादसों को रोकने के लिए भारतीय रेल प्रशासन गंभीर नहीं है।"
संसद में पेश की गई रिपोर्ट
संसद में पेश रिपोर्ट
...
more...
में कैग (CAG) ने कहा है कि जनवरी 2010 और दिसंबर 2014 के बीच 19,868 लोग रेल पटरी पार करते वक्त मारे गए। सबसे खास बात यह है कि इनमें से 17,638 मौतें सिर्फ मुंबई के उपनगरीय इलाकों में ही हुईं। कैग ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि जनवरी 2010 और दिसंबर 2014 के बीच 4,885 मौतें चलती ट्रेनों से गिरने की वजह से हुईं। इनमें भी 4002 लोगों की मौत मुंबई के उपनगरीय इलाकों में हुई।
साफ है यह समस्या काफी पुरानी है और इस मसले को लेकर किसी भी सरकार के दौर में रेल मंत्रालय ने गंभीरता नहीं दिखाई। मुंबई के लिए तो यह आंकड़े और भी भयावह तस्वीर पेश करते हैं। अगर पहले मुंबई पर ही रेल मंत्रालय ध्यान दे तो काफी हद तक इसका हल निकाला जा सकता है।

887 views
Nov 06 2016 (12:38)
Dear IR please dont destroy Shram Shakti superfast^~   78658 blog posts   5089 correct pred (78% accurate)
Re# 2050272-2            Tags   Past Edits
I agree with CAG that railway is not serious tto reduce accident
Nov 06 2016 (11:43)  क्रासिंग पर हादसों को रोकने के लिए रेल प्रशासन गंभीर नहीं - कैग की रिपोर्ट (khabar.ndtv.com)
back to top
Crime/AccidentsNCR/North Central  -  

News Entry# 284950     
   Tags   Past Edits
Nov 06 2016 (11:43AM)
Station Tag: Bhadohi/BOY added by Yuva Rahul^~/1397979

Posted by: Yuva Rahul  103 news posts
नई दिल्ली: भदोही में एक रेलवे फाटक पर हुए भयानक हादसे ने ऐस क्रॉसिंगों को संचालित करने की मौजूदा व्यवस्था पर कई बड़े सवाल खड़े कर दिए हैं। बुधवार को रेल मंत्रालय की उपनगरीय सेवाओं पर अपनी ताजा रिपोर्ट में कैग ने भी सवाल उठा दिया। रिपोर्ट में कहा गया है, "लेवल क्रॉसिंगों को हटाने के लिए पुल बनाने के काम में हो रही देरी से साफ है कि ऐसी जगहों पर हादसों को रोकने के लिए भारतीय रेल प्रशासन गंभीर नहीं है।"
संसद में पेश की गई रिपोर्ट
संसद में पेश रिपोर्ट
...
more...
में कैग (CAG) ने कहा है कि जनवरी 2010 और दिसंबर 2014 के बीच 19,868 लोग रेल पटरी पार करते वक्त मारे गए। सबसे खास बात यह है कि इनमें से 17,638 मौतें सिर्फ मुंबई के उपनगरीय इलाकों में ही हुईं। कैग ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि जनवरी 2010 और दिसंबर 2014 के बीच 4,885 मौतें चलती ट्रेनों से गिरने की वजह से हुईं। इनमें भी 4002 लोगों की मौत मुंबई के उपनगरीय इलाकों में हुई।
साफ है यह समस्या काफी पुरानी है और इस मसले को लेकर किसी भी सरकार के दौर में रेल मंत्रालय ने गंभीरता नहीं दिखाई। मुंबई के लिए तो यह आंकड़े और भी भयावह तस्वीर पेश करते हैं। अगर पहले मुंबई पर ही रेल मंत्रालय ध्यान दे तो काफी हद तक इसका हल निकाला जा सकता है।
Oct 18 2016 (01:33)  24 घंटे स्टेशन पर खड़ी रही मालगाड़ी (www.jagran.com)
back to top
IR AffairsNR/Northern  -  

News Entry# 283307     
   Tags   Past Edits
Oct 18 2016 (1:33AM)
Station Tag: Bhadohi/BOY added by Varuna Express/93256

Posted by: Varuna Express  39 news posts
भदोही : ड्यूटी समयावधि पूरी होने पर शनिवार को चालक व गार्ड डाउन मालगाड़ी को भदोही स्टेशन पर खड़ी कर घर चले गए। इस दौरान गाड़ी लगभग 24 घंटे तक खड़ी रही। रविवार को प्रतापगढ़ से पहुंचे दूसरे चालक व गार्ड गाड़ी लेकर गंतव्य को रवाना हुए। इसके चलते अप मेनलाइन ब्लाक रही।
ड्यूटी समय पूरा होने के बाद अक्सर चालक किसी भी स्टेशन पर मालगाड़ी खड़ी कर चाभी स्टेशन मास्टर को सौंप चले जाते हैं। विभाग के लिए यह कोई नई बात नहीं लेकिन भदोही जैसे स्टेशन पर 24 घंटे मालगाड़ी खड़ी रहने से समस्या उत्पन्न हो जाती है।
बताते
...
more...
चलें कि उंचाहार से मुगलसराय को जा रही डाउन मालगाड़ी शनिवार की शाम सवा पांच बजे भदोही पहुंची थी। इस दौरान चालक ने स्टेशन मास्टर को चाभी सौंप ड्यूटी टाइम ओवर होने की बात लिखकर रवाना हो गया। कंट्रोल के आदेशानुसार रविवार को दोपहर लगभग साढ़े 12 बजे प्रतापगढ़ से दूसरे चालक व गार्ड को भेजा गया लेकिन इंजन में तकनीकी खराबी के कारण चालक ने गाड़ी आगे बढ़ाने से इंकार कर दिया। बहरहाल देर शाम तकनीकी खराबी दुरुस्त कर गाड़ी को रवाना किया गया। इस दौरान लगभग 24 घंटे अप मेनलाइन ब्लाक रही। हालांकि इससे किसी ट्रेन का परिचालन प्रभावित नहीं हुआ लेकिन प्लेटफार्म बदलने वालों को खासी असुविधा का सामना करना पड़ा।
स्टेशन मास्टर जितेंद्र कुमार का कहना है कि यह कोई नई बात नहीं है। ड्यूटी टाइम पूरा होने के बाद अक्सर गाड़ी छोड़कर चालक व गार्ड चले जाते हैं। बताया कि एक लाइन ब्लाक होने से समस्या जरूर बढ़ जाती है
Sep 28 2016 (16:36)  सितारा होटलों को मात देंगे रेलवे रिटाय¨रग रूम (www.jagran.com)
back to top
NER/North Eastern  -  

News Entry# 281526     
   Tags   Past Edits
Sep 28 2016 (4:36PM)
Station Tag: Jaunpur Junction/JNU added by Subhash/746156

Sep 28 2016 (4:36PM)
Station Tag: Bhadohi/BOY added by Subhash/746156

Sep 28 2016 (4:36PM)
Station Tag: Belthara Road/BLTR added by Subhash/746156

Sep 28 2016 (4:36PM)
Station Tag: Ballia/BUI added by Subhash/746156

Sep 28 2016 (4:36PM)
Station Tag: Mirzapur/MZP added by Subhash/746156

Sep 28 2016 (4:36PM)
Station Tag: Azamgarh/AMH added by Subhash/746156

Sep 28 2016 (4:36PM)
Station Tag: Gorakhpur Junction/GKP added by Subhash/746156

Sep 28 2016 (4:36PM)
Station Tag: Patna Junction/PNBE added by Subhash/746156

Sep 28 2016 (4:36PM)
Station Tag: Kanpur Central/CNB added by Subhash/746156

Sep 28 2016 (4:36PM)
Station Tag: Allahabad Junction/ALD added by Subhash/746156

Sep 28 2016 (4:36PM)
Station Tag: Mughal Sarai Junction/MGS added by Subhash/746156

Sep 28 2016 (4:36PM)
Station Tag: Varanasi Junction/BSB added by Subhash/746156

Posted by: Subhash  1008 news posts
वाराणसी : उत्तर रेलवे के स्थानीय कैंट समेत देश भर के बड़े रेलवे स्टेशनों के रिटाय¨रग रूम जल्द ही सितारा होटलों को मात देंगे। इनमें आकर्षक साज-सज्जा के साथ सुविधा और सेवा भी उच्चस्तरीय मिलेगी। इसमें खानपान की खास व्यवस्था तो होगी ही पर्यटकों के लिए होटलों की तरह ही साइट सीइंग व टूर-ट्रैवेल का भी प्रबंध तत्काल हो जाएगा। डारमेट्री में भी कुछ ऐसा ही इंतजाम नजर आएगा।
यात्री सुविधाओं का ख्याल रखते हुए रेलवे इनकी कमान मिनी रत्न प्रतिष्ठान आइआरसीटीसी को देने जा रहा है। इस संबंध में रेल मंत्रालय ने सभी रेल परिक्षेत्रों को दिशा-निर्देश जारी किए हैं। इसमें आइआरसीटीसी द्वारा चरणबद्ध तरीके से टेक ओवर व अनुबंध की प्रक्रिया जल्द शुरू करने की जानकारी दी गई है।
--------------------
...
more...

मूल स्वरूप रहेगा बरकरार
आइआरसीटीसी अधिग्रहीत रिटाय¨रग रूमों को अत्याधुनिक रूप देने के साथ ही फर्नीचर और फिटिंग तक नए जमाने के हिसाब से लगवाएगा। खास यह कि मूल स्वरूप से छेड़छाड़ किए बगैर साज-सज्जा क र उच्चीकरण किया जाएगा। संपूर्ण मेंटनेंस व व्यवस्थापन व सुविधाओं के विपणन की भी जिम्मेदारी होगी। यात्रियों को टूर प्लेस बताने के साथ ही वाहन व भ्रमण व्यवस्था भी कारपोरेशन कराएगा।
ट्रिपल पी के जरिए होगा काम
इस मुहिम में आइआरसीटीसी संबंधित क्षेत्र में दक्ष कर्मियों-अफसरों की तैनाती करेगा। अलग-अलग संस्थाओं का भी सहयोग लिया जाएगा। इससे होने वाली आय रेलवे के साथ साझा की जाएगी।
आइआरसीडीसी करा चुका पांच
रेलवे स्टेशनों पर कायाकल्प
आइआरसीटीसी के हाथ यह नया प्रोजेक्ट देने से पहले रेलवे इसकी निरख परख कर चुका है। पहले चरण में इंडियन रेलवे स्टेशन डेवलपमेंट कारपोरेशन यानी आइआरसीडीसी ने देश के पांच स्टेशनों के रिटाय¨रग रुमों का कायाकल्प कराया है। इसमें हबीबगंज, आनंद विहार, बिजवासन, गांधीनगर व सूरत शामिल हैं।
ए-1 व ए श्रेणी के 408 स्टेशन
रेलवे देश के सभी 408 ए-1 व ए श्रेणी के स्टेशनों की रिटाय¨रग रूम व डारमेट्री आइआरसीटीसी को हैंडओवर करेगा। इसमें वाराणसी, मुगलसराय, इलाहाबाद, कानपुर, पटना, गोरखपुर, आजमगढ़, मीरजापुर, बलिया, बेल्थरारोड, भदोही, जौनपुर आदि भी शामिल हैं।
Jul 31 2016 (13:37)  वाराणसी-जंघई रेललाइन दोहरीकरण मार्च तक (epaper.jagran.com)
back to top
Commentary/Human InterestNCR/North Central  -  

News Entry# 275483   Blog Entry# 1947188     
   Tags   Past Edits
Jul 31 2016 (1:37PM)
Station Tag: Janghai Junction/JNH added by Saurabh*^~/15807

Jul 31 2016 (1:37PM)
Station Tag: Bhadohi/BOY added by Saurabh*^~/15807

Jul 31 2016 (1:37PM)
Station Tag: Varanasi Junction/BSB added by Saurabh*^~/15807

Posted by: Saurabh*^~  3023 news posts
-70 किलोमीटर रेल लाइन पर अप-डाउन लाइन अलग होगी
-टेनों को मिलेगी गति, यात्रियों को होगी राहत

वाराणसी: वाराणसी से जंघई के बीच 70 किलोमीटर रेलवे लाइन का दोहरीकरण कार्य युद्धस्तर से कार्य चल रहा है। अगर सब कुछ ठीक चला तो मार्च तक काम पूरा हो जाएगा। रेलवे के निर्माण विभाग को रेललाइन के दोहरीकरण की जिम्मेदारी सौंपी गई है। इसके तहत वाराणसी से लोहता, चौखंडी, सेवापुरी, कपसेठी, परसीपुर, भदोही, मोढ़, सुरियावा होकर जंघई रेल लाइन की दोहरीकरण मार्च तक किए जाने का समय तय किया गया है। रेलवे के निर्माण
...
more...
विभाग को जिम्मेदारी दिए जाने के बाद से काम में मे तेजी आ गई है। इस रूट पर विद्युतिकरण कार्य संपन्न हो चुका है। दोहरीकरण होते ही गुजरने वाली गाड़ियों को अप लाइन व आने वाली टेनों को डाउन लाइन से संचालित किया जाएगा। जिससे टेनों को अकारण लूप लाइनों पर घंटों लाइन की प्रतीक्षा नही करनी होगी। यह वाराणसी की जनता के लिए वरदान साबित होगा।
दर्जनों टेनें इस रूट से गुजरती हैं
इस रूट से काशी विश्वनाथ एक्सप्रेस, र}ागिरि एक्सप्रेस, कामायनी एक्सप्रेस, पूर्वा एक्सप्रेस, पंजाब मेल, देहरादून जनता एक्सप्रेस, गोरखपुर-दादर एक्सप्रेस, गरीब रथ एक्सप्रेस, महामना एक्सप्रेस, बुन्देलखंड एक्सप्रेस, निलांचल एक्सप्रेस, लखनऊ इंटरसिटी एक्सप्रेस टेनों को दोहरीकरण के बाद अकारण लाइन मिलने की प्रतीक्षा में लूप लाइन में घंटों खड़ा कर दिया जाता है।

3687 views
Jul 31 2016 (14:00)
Abhishek Jaiswal   44741 blog posts   18340 correct pred (69% accurate)
Re# 1947188-1            Tags   Past Edits
mahamana kabse jane lgi is route pe. kuch bhi chhap do. LKO NR apne stn pe kuch kaam karwa le to jaade thik hai

3540 views
Jul 31 2016 (15:35)
Saurabh*^~   8694 blog posts   3225 correct pred (72% accurate)
Re# 1947188-2            Tags   Past Edits
Jagran walo k kya kehna :P
Waise recently 15 km stretch BSB-Janghai section k commisioned ho gaye h /news/post/272544..Hoping that remaining stretch(55 Km) will be doubled soon.
:)

Jul 31 2016 (16:00)
Abhishek Jaiswal   44741 blog posts   18340 correct pred (69% accurate)
Re# 1947188-3            Tags   Past Edits
ho jayega jaldi waise bhi koi khas traffic nhi hai... lko-bsb ke beech 3 route aur future me sb doubled electric.. waah aur LKO-BSB stn waise ke waise..raste ka jo time bachega wo stn pe dhua nikalega,....
Jul 27 2016 (22:21)  गेट मित्र वाली क्रॉसिंग (epaper.navbharattimes.com)
back to top
IR AffairsNR/Northern  -  

News Entry# 275098     
   Tags   Past Edits
Jul 27 2016 (10:21PM)
Station Tag: Lucknow Charbagh NR/LKO added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Jul 27 2016 (10:21PM)
Station Tag: Bhadohi/BOY added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Jul 27 2016 (10:21PM)
Station Tag: Varanasi Junction/BSB added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Posted by: ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~  4978 news posts
यूपी में प्रधानमंत्री के लोकसभा क्षेत्र वाराणसी के बिल्कुल पास भदोही में एक स्कूल वैन के साथ ट्रेन की टक्कर में हुई आठ बच्चों की मौत हृदयविदारक है। रेलमंत्री ने घायलों और मृतकों के परिवारों के लिए मुआवजे का ऐलान कर दिया है, लेकिन दुर्घटनाओं को न्यौता दे रही खुली रेलवे क्रॉसिंगों के इलाज पर भी उन्हें इस मौके पर कुछ कहना चाहिए था। इस दुर्घटना की खबरों पर गौर करें तो इनका ढांचा अचानक बदल गया सा लगता है। हर जगह सारी गलती वैन चलाने वाले की ही बताई गई है, जिसने ट्रेन की आवाज, बच्चों की चीख-पुकार और ‘गेट मित्र’ के इशारे को अनसुना-अनदेखा करते हुए समय रहते गाड़ी नहीं रोकी। अब यह ‘गेट मित्र’ क्या है/ इधर कुछ समय से रेलवे ने अनमैन्ड क्रॉसिंगों का स्थायी समाधान करने के बजाय मामूली पगार पर ठेके या स्थायी रूप से ‘गेट मित्र’ रख लिए हैं, जो ऐसी क्रॉसिंगों पर लोगों...
more...
को सावधान करने के लिए पर्चे बांटते हैं और लाल-हरी झंडी दिखाते हैं। अभी तक जो रेल दुर्घटनाएं होती थीं उनमें से लगभग सभी में रेलवे का ही दोष निकलता था। लेकिन गेट मित्र के आने के बाद सारा दोष दुर्घटनाग्रस्त गाड़ी के ड्राइवर पर डाला गया। भदोही में जहां दुर्घटना हुई, वहां पर लोग लंबे समय से बैरियर लगाने की मांग कर रहे थे। अब दुर्घटना के बाद भी उनका केस मजबूत नहीं होगा, क्योंकि गेट मित्र वहां पहले से तैनात है। मौत का जाल कहलाने वाली मानवरहित रेलवे क्रॉसिंगों का अकेला इलाज यही है कि इन पर बैरियर, ओवरब्रिज, अंडरपास या अलार्म सिस्टम की व्यवस्था की जाए। लेकिन अब तक के सबसे सफल रेलमंत्रियों में एक सुरेश प्रभु के पिटारे से क्रॉसिंग वाली दुर्घटनाओं को रोकने के नाम पर गेट मित्र नाम का यह अजूबा ही निकल पाया है। नवीनतम सूचना के अनुसार मानवरहित रेलवे क्रॉसिंग्स पर देश में कुल 4188 गेटमित्र तैनात किए जा चुके हैं, लेकिन कितने ओवरब्रिज, अंडरपास या बैरियर लगाए गए, इस बारे में रेलवे चुप है। अभी जब भारतीय ट्रेनों की रफ्तार बढ़ाने की बात हर संभव मंच से कही जा रही है, तब अनमैन्ड क्रॉसिंगों पर गेट मित्र जैसा मनोवैज्ञानिक उपाय क्या लोगों की जान जोखिम में डालने का जरिया नहीं साबित होगा/
Page#    Showing 1 to 20 of 73 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site