Full Site Search  
Mon Jan 23, 2017 12:00:09 IST
PostPostPost Stn TipPost Stn TipUpload Stn PicUpload Stn PicAdvanced Search

CAER/Chhanera (2 PFs)
     छनेरा

Track: Double Electric-Line

Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 15
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
SH 15, Chhanera
State: Madhya Pradesh
Elevation: 283 m above sea level
Zone: WCR/West Central
Division: Bhopal
No Recent News for CAER/Chhanera
Nearby Stations in the News

Rating: /5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
porters/escalators - n/a (0)
food - n/a (0)
transportation - n/a (0)
lodging - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)

Nearby Stations

CKKD/Charkheda Khurd 7 km     BRUD/Barud 10 km     SGBJ/Surgaon Banjari 18 km     DRHI/Dagarhkeri 20 km     TLV/Talvadiya Junction 30 km     KKN/Khirkiya 31 km     BIR/Bir 33 km     KRO/Kurawan 37 km     MTA/Mathela 38 km    

Station News

Page#    Showing 1 to 2 of 2 News Items  
Aug 13 2015 (07:08)  24 घंटे, रेलवे की दो बड़ी लापरवाही, हादसा टला (naidunia.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsWCR/West Central  -  

News Entry# 237578     
   Tags   Past Edits
Aug 13 2015 (7:08AM)
Station Tag: Chhanera/CAER added by Parshwa/132859

Aug 13 2015 (7:08AM)
Station Tag: Hoshangabad/HBD added by Parshwa/132859

Aug 13 2015 (7:08AM)
Station Tag: Itarsi Junction/ET added by Parshwa/132859

Aug 13 2015 (7:08AM)
Station Tag: Khandwa Junction/KNW added by Parshwa/132859

Aug 13 2015 (7:08AM)
Station Tag: Harda/HD added by Parshwa/132859

Aug 13 2015 (7:08AM)
Train Tag: Jhelum Express/11077 added by Parshwa/132859

Posted by:   148 news posts
नवदुनिया संवाददाता, हरदा
दुर्घटना स्थल पर चल रहे मरम्मत के काम के गुणवत्ता को लेकर प्रश्न लग रहे हैं। 24 घंटे के अंदर दो बार लापरवाही दिखी। सोमवार रात को गिट्टी फिलिंग मशीन के पहिए ठीक उस वक्त पटरी से उतर गए, जब रेलवे अप ट्रेक को चालू करने वाला था। इसके कारण ट्रेक भी क्षतिग्रस्त हुआ। बहरहाल रेलवे ने पटरी की दूरी की जांच की औंर फिर ट्रेक चालू कर दिया। बाद में इस पर से दो ट्रेन उस वक्त गुजार दी जब बारिश के कारण धीरे-धीरे मिट्टी धंस रही थी। खम्बा भी आड़ा हो गया। जानकारों का कहना था कि फिलिंग ठीक से नही करने के कारण मिट्टी धंसी थी।
यह
...
more...
खड़े हो रहे सवाल.....
- जब काम पूरा नही हुआ था तो ट्रेक का चालू करने की जल्दबाजी क्यों दिखाई गई।
- भारी बारिश होती रही, इस दौरान थोड़ी मिट्टी भी धंसकी, लेकिन दो ट्रेन को गुजार दिया, यह रिस्क क्यों ली गई।
- खम्बा तिरछा हो गया, जिसके कारण ओएचई लाइन डिस्टर्ब हुई, मरम्मत का काम गुणवत्ता युक्त क्यों नही किया गया।
- जब ट्रेक का वास्तविक परीक्षण नही किया गया था तो सभी रूटो से ट्रेने को क्यों चलवाया गया।
- रास्ते से ही वापस ट्रेन जाने के कारण रेलवे को लाखों का नुकसान हुआ, अब तक किसी पर कार्रवाई क्यों नही की गई।
- रेलवे जांच और कार्रवाई की रिपोर्ट को क्यों सार्वजनिक करने से बच रहा है।
बीच रास्ते में छोड़ दिया और रिफंड भी नही दिया (फोटो 08)
होशंगाबाद जिले के गुराड़िया मोती के प्रमोद कीर ने बताया कि वह खण्डवा से इटारसी जाने के लिए झेलम एक्सप्रेस में बैठे थे। स्टेशन पर उन्हे बताया गया कि ट्रेक चालू हो चुका है, इसलिए ट्रेन निर्धारित रूट पर चलेगी। लेकिन ट्रेन छनेरा में आकर रूक गई। करीब डाई घंटे छनेरा स्टेशन पर खड़ी रहने के बाद पता चला कि ट्रेन यहां से रद्द हो गई है और आगे नही जाएगी। इस दौरान जब टिकट का रिफंड मांगा गया तो वहां मौजूद एक रेल कर्मचारी ने तकनीकी दिक्कतों का हवाला देकर खण्डवा स्टेशन पर जाने की सलाह दी। जल्दी होशंगाबाद पहुंचना था, इसलिए बस में बैठ गए, लेकिन अब नदी-नाले उफान के कारण बीच में ही अटके हुए हैं।
हादसे की जांच करने पहुंचे सीआरएस
हादसे की जांच करने के लिए औरंगाबाद के सीआरएस डीके सिंह मंगलवार सुबह हरदा पहुंचे। यहां से वे घटनास्थल पर गए। मौके पर सारी रिपोर्ट तैयार करने के बाद सीआरएस माचक नदी के मुख्य पुल पर गए और ऐसी सूचना भी है कि इसके बाद वह और उनकी टीम आमाखाल जलाशय भी गई है।
May 03 2015 (00:48)  छनेरा में नहीं रुकी ट्रेन, दो किमी दूर से रिवर्स लाना पड़ा स्टेशन (www.bhaskar.com)
back to top
Commentary/Human InterestWCR/West Central  -  

News Entry# 223016     
   Tags   Past Edits
May 03 2015 (12:48AM)
Station Tag: Chhanera/CAER added by jAi hO/718732

May 03 2015 (12:48AM)
Train Tag: Nagpur - Bhusaval Intercity Express(Via Itarsi)/22112 added by jAi hO/718732

Posted by: जय हो ™^~  2051 news posts
नागपुर-भुसावल ट्रेन को नहीं मिला स्टॉपेज का सिग्नल, यात्रियों ने चेल पुलिंग कर रुकवाई लेकिन तब तक स्टेशन से बहुत दूर निकल गई
हरसूद। छनेरा रेलवे स्टेशन पर सोमवार दोपहर 3.12 बजे ट्रेन का इंतजार कर रहे यात्रियों में उस समय हड़कंप मच गया जब नागपुर-भुसावल ट्रेन (22112) बगैर रुके स्टेशन से गुजर गई। ट्रेन से उतरने वाले यात्री भी घबरा गए। किसी यात्री के चेन खींचने पर ट्रेन स्टेशन से दो किमी दूर पोल क्रमांक 611/6 के पास रुकी। नौ मिनट बाद ट्रेन रिवर्स छनेरा स्टेशन लग आई।
छनेरा स्टेशन पर कुछ
...
more...
दिन पहले ही मथेला से स्थानांतरित होकर आए स्टेशन मास्टर प्रवीण कुमार लौंडे की मानवीय भूल से यह स्थिति बनी। उन्होंने मथेला स्टेशन पर स्टापेज नहीं होना मानकर ट्रेन को थ्रू सिग्नल दे दिया और ट्रेन अपनी गति से निकल गई। हालांकि ट्रेन चालक को भी छनेरा में स्टापेज की जानकारी थी लेकिन उनकी लापरवाही और स्टेशन मास्टर की चूक से सैकड़ों यात्रियों को परेशान होना पड़ा।
छनेरा स्टेशन मास्टर पीके लौंडे बताया मैंने 19 अप्रैल को ही छनेरा ज्वाइन किया है। अब तक नाइट ड्यूटी करता रहा हूं। आज ही डे ड्यूटी पर आया। मथेला की रुटीन वर्किंग के कारण यह चूक हो गई।
हॉली-डे को आउटर पर रोका
घटनाक्रम दोपहर 3.12 से 3.22 बजे तक चला। जब नागपुर-भुसावल ट्रेन को रिवर्स लाया जा रहा था उसी समय उसी ट्रैक पर पटना-पुणे हॉली-डे ट्रेन भी आ रही थी। उसे आउटर पर ही रोक दिया।
150 को लेने आई, 250 यात्री जंगल में ही उतर गए: नागपुर-भुसावल ट्रेन के स्टेशन पार करने और वापस आने में 400 से ज्यादा यात्री कुछ देर के लिए भ्रम और संशय में रहे। स्टेशन से दूर ट्रेन रुकने पर करीब 250 यात्री उतर पैदल ही शहर की ओर चल दिए। इनमें महिलाएं और बच्चे भी थे। जबकि 150 से ज्यादा यात्रियों के लिए ट्रेन को रिवर्स लाना पड़ा।
Page#    Showing 1 to 2 of 2 News Items  

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site