Full Site Search  
Wed Feb 22, 2017 12:18:53 IST
PostPostPost Stn TipPost Stn TipUpload Stn PicUpload Stn PicAdvanced Search

GKC/Gorakhpur Cantt. (3 PFs)
گورکھپور چھاؤنی     गोरखपुर छावनी

Track: Double Electric-Line

Type of Station: Regular
Number of Platforms: 3
Number of Halting Trains: 32
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
NH-28, Gorakhpur-273008
State: Uttar Pradesh
Elevation: 86 m above sea level
Zone: NER/North Eastern
Division: Lucknow NER
No Recent News for GKC/Gorakhpur Cantt.
Nearby Stations in the News

Rating: 3.3/5 (24 votes)
cleanliness - good (3)
porters/escalators - average (3)
food - average (3)
transportation - good (3)
lodging - average (3)
railfanning - good (3)
sightseeing - good (3)
safety - good (3)

Nearby Stations

GKP/Gorakhpur Junction 4 km     GKPE/Gorakhpur East Lobby 4 km     UNLA/Unaula 7 km     DMG/Domingarh 8 km     JEA/Nakaha Jungle 9 km     KHM/Kusmhi 9 km     MIM/Maniram 14 km     JTB/Jagatbela 15 km     SANR/Sardarnagar 15 km     PPC/Pipraich 15 km    

Station News

Page#    Showing 1 to 18 of 18 News Items  
Jan 01 2017 (11:06)  कैंट स्टेशन पर अब पांच प्लेटफार्म (epaper.jagran.com)
back to top
New Facilities/TechnologyNER/North Eastern  -  

News Entry# 290242     
   Tags   Past Edits
Jan 01 2017 (11:06AM)
Station Tag: Gorakhpur Cantt./GKC added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Jan 01 2017 (11:06AM)
Station Tag: Gorakhpur Junction/GKP added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Posted by: ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~  4990 news posts
बनेगा सैटेलाइट16टर्मिनल स्टेशन बनाने के लिए शुरू की कवायद 14
दक्षिण की तरफ भी बनेगा गेट
जागरण संवददाता, गोरखपुर : अब वाराणसी, छपरा और नरकटियागंज रूट से होकर गोरखपुर आने वाली एक्सप्रेस और सवारी गाड़ियां कैंट स्टेशन पर बेवजह नहीं रुकेंगी। गोरखपुर जंक्शन पर ट्रेनों का लोड भी कम हो जाएगा। इस रेलखंड पर चलने वाली अधिकतर सवारी और डेमू गाड़ियां यहीं से टर्मिनेट हो जाएंगी। एक्सप्रेस गाड़ियां गोरखपुर के लिए सीधे रनथ्रू पास कर जाएंगी। इसके लिए कैंट को सैटेलाइट (टर्मिनेट व अति आधुनिक) स्टेशन के रूप में विकसित करने की तैयारी
...
more...
शुरू हो गई है। 1रेलवे बोर्ड की हरी झंडी के बाद कैंट स्टेशन को सैटेलाइट बनाने की तैयारी जोर पकड़ने लगी है। विभागीय जानकारों के अनुसार निर्माण और इंजीनियरिंग विभाग के संबंधित अधिकारी लगातार सर्वे कर रहे हैं। फाइनल सर्वे के बाद निर्माण भी शुरू हो जाएगा। इसकी निगरानी खुद महाप्रबंधक राजीव मिश्र कर रहे हैं। फिलहाल, स्टेशन के सभी पुराने भवन को नया आकर्षक बनाया जाएगा। तीन की जगह पांच प्लेटफार्म होंगे। बोल्डर साइडिंग के पास नंदानगर में नई पिट लाइन बनाई जाएगी, जहां ट्रेनों का अनुरक्षण हो सकेगा। स्टेशन यार्ड में कुल नौ रेल लाइन बिछाई जाएंगी। स्टेशन पर पहुंचने के लिए दोनों ओर से रास्ते का प्रावधान किया गया है। स्टेशन के दक्षिण की तरफ भी गेट बनाया जाएगा। नए गेट के बन जाने से यात्रियों को क्रासिंग पार नहीं करना पड़ेगा। वह सीधे स्टेशन पर पहुंच जाएंगे। अक्सर लोग स्टेशन पर पहुंचकर क्रासिंग के खुलने के इंतजार में लेट हो जाते हैं। स्टेशन पर समस्त यात्री सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। पूवरेत्तर रेलवे प्रशासन के प्रस्ताव पर बोर्ड ने कैंट के अलावा डोमिनगढ़ और नकहा को भी सैटेलाइट स्टेशन बनाने की स्वीकृति प्रदान की है। फिलहाल, कैंट के विकास की मंजूरी मिल गई है।
Oct 29 2016 (15:55)  गलत रूट पर भेज दी ट्रेन 1स्टेशन मास्टर निलंबित जागरण संवाददाता, गोरखपुर : कैंट स्टेशन पर शुक्रवार को लूप लाइन नरकटियागंज की तरफ जाने वाली आनंदविहार-सहरसा 15530 साप्ताहिक एक्सप्रेस मेन लाइन देवरिया की तरफ रवाना हो गई। ट्रेन को दूसरी तरफ जाते देख यात्री घबर (epaper.jagran.com)
back to top
Crime/AccidentsNER/North Eastern  -  

News Entry# 284303     
   Tags   Past Edits
Oct 29 2016 (4:03PM)
Station Tag: Anand Vihar Terminal/ANVT added by विश्व नाथ*^/31233

Oct 29 2016 (4:03PM)
Station Tag: Gorakhpur Cantt./GKC added by विश्व नाथ*^/31233

Oct 29 2016 (4:03PM)
Station Tag: Saharsa Junction/SHC added by विश्व नाथ*^/31233

Oct 29 2016 (4:03PM)
Train Tag: Anand Vihar - Saharsa Jan Sadharan Express/15530 added by विश्व नाथ*^/31233

Posted by: ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~  4990 news posts
गोरखपुर कैंट स्टेशन पर शुक्रवार को लूप लाइन नरकटियागंज की तरफ जाने वाली आनंदविहार-सहरसा 15530 साप्ताहिक एक्सप्रेस मेन लाइन देवरिया की तरफ रवाना हो गई। ट्रेन को दूसरी तरफ जाते देख यात्री घबरा गए। उन्हें लगा वे गलत ट्रेन में चढ़ गए हैं। अफरा-तफरी मच गई और यात्री ट्रेन से नीचे कूदने लगे। जब चालकों को अहसास हुआ तो उन्होंने ट्रेन को रोक दिया। तबतक दर्जनों लोग नीचे कूद चुके थे। कुछ को चोट भी आई। लोग मौके पर ही हंगामा करने लगे। मामले को गंभीरता से लेते हुए रेलवे प्रशासन ने स्टेशन मास्टर सतीश कुमार को सस्पेंड कर दिया है। गोरखपुर स्थित आरआरआइ पर भी कार्रवाई की तैयारी चल रही है। जांच की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। 1लगभग 3 घंटे लेट चल रही साप्ताहिक एक्सप्रेस शाम को 6 बजे के आसपास कैंट स्टेशन पहुंची। वह लाइन नंबर पांच पर नरकटियागंज की तरफ जाने के लिए खड़ी थी। लोग ट्रेन...
more...
के चलने का इंतजार कर रहे थे। ट्रेन आगे बढ़ी तो लोगों ने राहत की सांस ली, लेकिन लोगों की सांसे तब अटक गई जब देखा कि वह देवरिया की तरफ जा रही है। स्टेशन से 500 मीटर आगे सिग्नल वर्कशाप पर पहुंचने पर चालकों को लगा कि वे गलत रूट पर जा रहे हैं। उन्होंने तत्काल ट्रेन रोक दी और कंट्रोल को सूचना दिया। जानकारी होते ही विभागीय अधिकारियों में हड़कंप मच गया। संबंधित रेलकर्मी मौके पर पहुंच गए और ट्रेन को वापस किया गया। ऐसे में 7.30 बज गया। डेढ़ घंटे की देरी से ट्रेन को फिर नरकटियागंज रूट पर रवाना किया गया। सीपीआरओ संजय यादव के अनुसार रेलवे प्रशासन ने स्टेशन मास्टर के खिलाफ कार्रवाई कर मामले की जांच शुरू करा दी है। 1गलत लाइन पर खड़ी थी ट्रेन : कैंट स्टेशन पर नरकटियागंज रूट पर चलने वाली गाड़ियां लाइन नंबर 1, 2 और 3 पर खड़ी की जाती हैं, लेकिन आरआरआइ और स्टेशन मास्टर ने आनंदविहार-सहरसा ट्रेन को लाइन पांच पर खड़ा कर दिया था। जबकि, यह लाइन देवरिया-भटनी रूट के लिए निर्धारित है। सूत्रों का कहना है कि कुसम्हीं स्टेशन से भी ट्रेन को सिग्नल मिल गया था। अगर यात्रियों ने हंगामा नहीं किया होता और चालकों ने सूझबूझ नहीं दिखाई होती तो ट्रेन को सिग्नल मिलता जाता और वह नरकटियागंज की बजाए सीधे देवरिया पहुंचती।
सिस्टम पर सवाल16कैंट से नरकटियागंज की तरफ जाने वाली ट्रेन को देवरिया रूट पर किया रवाना 16ट्रेन से कूदने लगे घबराए यात्री, कई चोटिल हुए, किया हंगामा
Sep 15 2016 (23:34)  निर्माण कायरे में तेजी जीएम करेंगे निरीक्षण नकहां व गोरखपुर कैंट स्टेशनों को सेटेलाइट स्टेशन में बदलने की शुरू हो चुकी है प्रक्रिया (www.rashtriyasahara.com)
back to top
New Facilities/TechnologyNER/North Eastern  -  

News Entry# 280239   Blog Entry# 1993751     
   Tags   Past Edits
Sep 15 2016 (11:34PM)
Station Tag: Gorakhpur Cantt./GKC added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Sep 15 2016 (11:34PM)
Station Tag: Domingarh/DMG added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Sep 15 2016 (11:34PM)
Station Tag: Gorakhpur Junction/GKP added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Posted by: ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~  4990 news posts
रेलवे स्टेशन यार्ड, नकहां जंगल व गोरखपुर कैंट रेलवे स्टेशनों पर चल रहे निर्माण कायरे को तेज कर दिया गया है। पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबंधक राजीव मिश्र इन स्टेशनों पर निर्माण कायरे का निरीक्षण 16 सितंबर को करने वाले हैं। इससे पहले 15 सितंबर को रेलवे चिकित्सालय व वहां स्थापित मैकेनाइज्ड लांड्री का निरीक्षण का भी कार्यक्रम है।गोरखपुर जंक्शन पर ट्रेनों के बढ़ते दबाव व गोरखपुर में टर्मिनेट होने वाली ट्रेनों की लेट लतीफी की समस्या को दूर करने के लिए नकहां, गोरखपुर कैंट व डोमिनगढ़ रेलवे स्टेशन को सेटेलाइट स्टेशन के रूप में विकसित किए जाने की योजना है। सेटेलाइट स्टेशन हो जाने के बाद सवारी ट्रेनें इन्हीं स्टेशनों पर समाप्त होंगी और इनका संचलन भी यहीं से प्रारंभ होगा। इसी प्रकार गोरखपुर में समाप्त होने वाली ट्रेनों की यात्रा भी सेटेलाइट स्टेशन पर ही समाप्त की जाएगी। नकहां जंगल व गोरखपुर कैंट स्टेशन पर कुछ कायरे को मंजूरी मिल...
more...
चुकी है और अगले बजट में कई अन्य कायरे को भी मंजूरी मिलने की उम्मीद है। पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबंधक रेलवे में चल रहे निर्माण कायरे की लगातार मानीटरिंग कर रहे हैं। इसी के तहत 16 सितंबर को गोरखपुर यार्ड, नकहां व गोरखपुर कैंट स्टेशनों का निरीक्षण प्रस्तावित है। गोरखपुर जंक्शन यार्ड में भी कई कार्य तेजी से पूरे किए जा रहे हैं। उन निर्माण कायरें का निरीक्षण भी प्रस्तावित है। जंक्शन पर द्वितीय प्रवेश द्वार को लगभग तैयार किया जा चुका है। जीमए के निरीक्षण में द्वितीय प्रवेश द्वार पर अन्य सुविधाओं को लेकर भी र्चचा की जाएगी।

6 posts - Fri Sep 16, 2016 - are hidden. Click to open.

1949 views
Sep 17 2016 (10:08)
कमल खिलाओ यूपी बचाओ~   1257 blog posts
Re# 1993751-7            Tags   Past Edits
are bhaia ham to kah rhe na do nai trains lakin doubling aur electrification ka kaam to jaldi shuru karva do .... platform toote pade hain ... pure platform pe pani hi bahta rhta hai .... 24 coach vali trains to puri aa hi nhi pati station pe ....

1893 views
Sep 17 2016 (11:25)
UP 72 AND HR 29*^~   4446 blog posts   3835 correct pred (74% accurate)
Re# 1993751-8            Tags   Past Edits
No New Train Required For PBH. Ist Doubling & Electrification

1584 views
Sep 17 2016 (12:21)
☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~   11954 blog posts   3039 correct pred (65% accurate)
Re# 1993751-9            Tags   Past Edits
Haha kabhi to acha hoga nr wait karo

1438 views
Sep 17 2016 (14:59)
Aditya Immortal ™ ©~   2926 blog posts   186 correct pred (53% accurate)
Re# 1993751-10            Tags   Past Edits
Aaaj Subah ke udate deta hu.. aaj PF-9 ke Inspection kr rhe the ....
Jul 12 2016 (16:49)  गोरखपुर छावनी रेलवे स्टेशन पर एक और गेट!बनेगी वाशिंग और पिट लाइन।325.85 करोड़ से होगा विकास। (epaper.jagran.com)
back to top
New Facilities/TechnologyNER/North Eastern  -  

News Entry# 273520     
   Tags   Past Edits
Jul 12 2016 (4:49PM)
Station Tag: Gorakhpur Cantt./GKC added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Jul 12 2016 (4:49PM)
Station Tag: Gorakhpur Junction/GKP added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Posted by: ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~  4990 news posts
6दक्षिण की तरफ जमीन के लिए रेलवे ने सेना को लिखा पत्र 16सेना मुख्यालय की हरी झंडी मिलते ही शुरू हो जाएगा कार्य
325.85 करोड़ से होगा विकास। 13 13एक और रेल लाइन बनेगी। 13सर्विस और स्टेशन बिल्डिंग। 13स्टेशन पर वीआइपी लाउंज। 13स्टेशन तक नई अप्रोच सड़कें। 13रैंपयुक्त होगा फुट ओवरब्रिज।
ऐसा होगा कैंट 16
जागरण संवाददाता, गोरखपुर : पूवरेत्तर रेलवे मुख्यालय गोरखपुर में
...
more...
उत्तरी द्वार लगभग तैयार है। डोमिनगढ़ में एक और द्वार के लिए प्रस्ताव है। अब महत्वपूर्ण स्टेशन कैंट (छावनी) पर भी एक और द्वार बनाने की योजना है। रेलवे प्रशासन ने स्टेशन के दक्षिण तरफ भूमि के लिए सेना को पत्र लिखा है। सेना मुख्यालय की हरी झंडी मिलते ही अहम प्रस्ताव पर कार्य शुरू हो जाएगा। 1कैंट स्टेशन पर दक्षिणी द्वार की राह में भूमि रोड़ा है। स्टेशन के दक्षिण सेना की जमीन है। ऐसे में रेलवे प्रशासन को पहले सेना से अनुमति लेनी होगी। सेना की सहमति के बाद ही प्रस्ताव पर अमल संभव है। सूत्रों के अनुसार रेलवे प्रशासन सेना से दक्षिण 10 मीटर चौड़ी भूमि के लिए आवेदन किया है। आवेदन सेना मुख्यालय कार्यालय तक पहुंच गया है। सेना से हरी झंडी मिलने का इंतजार है। विभागीय जानकारों का कहना है कि दक्षिण तरफ गेट बन जाने से यात्रियों की परेशानी समाप्त हो जाएगी। यात्री स्टेशन पर सीधे बिना क्रासिंग पार किए पहुंच जाएंगे। चूंकि इस स्टेशन का विकास सैटेलाइट के रूप में होना है। ऐसे में यह स्टेशन गोरखपुर के लिए और महत्वपूर्ण हो जाएगा। पहले से ही गाड़ियों की अधिकता है। जब, लोकल एक्सप्रेस और पैसेंजर ट्रेन यहीं रुकने लगेंगी, तो इसकी अहमियत और बढ़ जाएगी। साथ ही यात्रियों की संख्या भी बढ़ जाएगी। ऐसे में प्रस्तावित दक्षिणी गेट मील का पत्थर साबित होगा। कैंट स्टेशन पर उत्तर की तरफ एक ही द्वार है। लेकिन, महानगर के अधिकतर यात्रियों की निकासी दक्षिण की ओर है। ट्रेन से उतरने के बाद यात्रियों को पहले रेलवे क्रासिंग पार करना पड़ती है। स्टेशन पर पहुंचने के लिए भी क्रासिंग पर पसीना बहाना पड़ता है, जहां लोग अक्सर जाम में फंस जाते हैं। यात्रियों की इस परेशानी को देखते हुए ही रेलवे प्रशासन ने दक्षिण की तरफ भी एक और गेट के लिए प्रस्ताव तैयार किया है।गोरखपुर : रेलवे बोर्ड की सुरक्षा हेल्पलाइनों पर यात्रियों का विश्वास बढ़ता जा रहा है। साबरमती एक्सप्रेस में एक यात्री ने सुरक्षा हेल्पलाइन नंबर पर गुहार लगाई कि उनके पुत्र की तबीयत अचानक बिगड़ गई है। कंट्रोल से जानकारी मिलते ही रेलवे सुरक्षा बल और चिकित्सकों की टीम सतर्क हो गई। ट्रेन के मऊ पहुंचते ही बीमार यात्री का प्राथमिक इलाज किया गया। मुख्य जनसंपर्क अधिकारी संजय यादव के अनुसार 19166 साबरमती एक्सप्रेस के एसी थर्ड बी 2 कोच में बर्थ नंबर 46 और 48 पर यात्र कर रहे परवेश ठाकुर ने हेल्पलाइन नंबर पर सूचना दी थी। उन्होंने बताया कि उनके पुत्र की तबीयत खराब है। इसकी सूचना मंडल सुरक्षा नियंत्रण कक्ष वाराणसी को नोट कराई गई। रेलवे सुरक्षा बल के हेड कांस्टेबल अंबिका सिंह यादव मंडल चिकित्साधिकारी को लेकर मऊ स्टेशन पहुंच गए। ट्रेन के पहुंचने पर चिकित्सक ने प्राथमिक उपचार किया। बीमार यात्री के ठीक हो जाने पर बोगी में बैठे लोगों ने कहा थैंक्स रेलवे।हेल्पलाइन नंबर 1- यात्री सुरक्षा के लिए हेल्पलाइन नंबर ‘182’। 1- आल इंडिया पैसेंजर हेल्पलाइन नंबर ‘138’ दर्ज।1- ट्रेन व पीएनआर के लिए हेल्पलाइन नंबर ‘139’। 1- स्थानीय सतर्कता हेल्पलाइन नंबर ‘0551-155210’।1- स्थानीय शिकायतों के लिए हेल्पलाइन ‘9794845955’। 1- टिकटों पर दर्ज रहते हैं सभी तरह के हेल्पलाइन नंबर।गोरखपुर से मुंबई के लिए दो स्पेशल गाड़ियां : ईद पर घर आए परदेसियों की परेशानी को देखते हुए रेलवे प्रशासन ने गोरखपुर से मुंबई के लिए चल रहीं दो जोड़ी सुपरफास्ट स्पेशल गाड़ियों को और तीन फेरा में चलाने का निर्णय लिया है। सीपीआरओ के अनुसार 02533 स्पेशल 14, 21 और 28 जुलाई को बांद्रा तथा 02597 स्पेशल 16, 23 और 30 को छत्रपति शिवाजी टर्मिनस (सीएसटी) जाएगी। 02533 स्पेशल ट्रेन गोरखपुर से 14, 21 और 28 जुलाई को सुबह 7 बजे से चलकर लखनऊ, कानपुर, कोटा और सूरत होते हुए दूसरे दिन शाम 5.35 बजे ब्रांद्रा पहुंचेगी। 02534 स्पेशल बांद्रा से 16, 23 व 30 जुलाई को सुबह 5.10 बजे से चलकर दूसरे दिन दोपहर 2.20 बजे गोरखपुर पहुंचेगी। ट्रेन में साधारण और शयनयान श्रेणी के 6-6, एसी थर्ड टियर के 2 और टू टियर के 1 कोच लगेंगे। 02597 स्पेशल ट्रेन गोरखपुर से 16, 23 और 30 जुलाई को सुबह 8.25 बजे से चलकर लखनऊ और इटारसी होते हुए दूसरे दिन दोपहर 12.15 बजे सीएसटी पहुंचेगी। 02598 स्पेशल ट्रेन सीएसटी से 17, 24 और 31 जुलाई को दोपहर 2.20 बजे से चलकर दूसरे दिन शाम 6.18 बजे गोरखपुर पहुंचेगी।
Jul 11 2016 (11:30)  कैंट, नकहा व डोमिनगढ़ बनेंगे सैटेलाइट स्टेशन,तीनों स्टेशनों से चलेंगी गाड़ियां, यहीं रुकेंगी भी, जंक्शन पर कम होगा ट्रेनों का लोड (epaper.livehindustan.com)
back to top
New Facilities/TechnologyNER/North Eastern  -  

News Entry# 273397   Blog Entry# 1926112     
   Tags   Past Edits
Jul 11 2016 (11:30AM)
Station Tag: Domingarh/DMG added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Jul 11 2016 (11:30AM)
Station Tag: Nakaha Jungle/JEA added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Jul 11 2016 (11:30AM)
Station Tag: Gorakhpur Cantt./GKC added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Jul 11 2016 (11:30AM)
Station Tag: Gorakhpur Junction/GKP added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Posted by: ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~  4990 news posts
तीनों स्टेशनों से चलेंगी गाड़ियां, यहीं रुकेंगी भी, जंक्शन पर कम होगा ट्रेनों का लोड
देवरिया-नरकटियांगज जाने वाले यात्रियों को फायदा
कैंट, नकहा व डोमिनगढ़ बनेंगे सैटेलाइट स्टेशन
गोरखपुर आशीष श्रीवास्तवरेल यात्रियों के लिए अच्छी खबर है। गोरखपुर जंक्शन से ट्रेनों का बोझ कम होने वाला है। कैंट, जंगल नकहा और डोमिनगढ़ को सैटेलाइट स्टेशन बनाने की मंजूरी मिल गई है। जल्द ही इन
...
more...
स्टेशनों पर काम भी शुरू हो जाएगा। इन तीनों स्टेशनों पर प्लेटफॉर्मों की संख्या तो बढ़ेगी ही साथ ही यात्री सुविधाओं में इजाफा भी होगा। ट्रेनों का बोझ कम करने के लिए एनईआर ने नरकटियागंज और देवरिया की ओर से जाने वाली कुछ सवारी गाड़ियों को कैंट से चलाने की तैयारी है। रेल प्रशासन के अनुसार पांच से छह सवारी गाड़ियों को कैंट स्टेशन से चलाने की योजना है। बढ़नी और नौतनवा की ओर जाने वाली सवारी गाड़ियां और वाराणसी की ओर से गोरखपुर आकर खत्म होने वाली ट्रेनों को नकहा जंगल तक चलाया जाएगा। यहीं से इन ट्रेनों का संचलन भी शुरू किया जाएगा।डोमिनगढ़ से कुछ ऐसी ट्रेनें चलाई जाएंगी जो लखनऊ और दिल्ली की ओर जाती हैं। इस कवायद से ट्रेनों के लेट आने और लेट छूटने का सिलसिला काफी हद तक कम हो जाएगा। दरअसल, गोरखपुर स्टेशन पर प्लेटफॉर्म खाली न होने की स्थिति में अक्सर ट्रेनें अपने निर्धारित समय से कुछ देर बाद रवाना होती हैं और गोरखपुर आने वाली सवारी गाड़िया समय पर चलने के बावजूद भी लेट हो जाती हैं।
कैंट स्टेशन से सिर्फ पूर्व की ओर यानी देवरिया और नरकटियागंज की ओर जाने वाली सवारी गाड़ियों का ही संचलन होगा। इस व्यवस्था के लागू हो जाने से कूड़ाघाट के रहने वाले करीब 30 हजार लोगों को इसका सीधा लाभ होगा। देवरिया, भटनी, गौरीबाजार और मऊ में नौकरी करने वाले लोगों को इसका सर्वाधिक लाभ होगा। सूरजकुण्ड की तरफ के लोगों को लाभडोमिनगढ़ के सैटेलाइट स्टेशन बन जाने से सूरजकुण्ड समेत दर्जन भर मोहल्ले के लोगों को फायदा होगा। उन्हें ट्रेन पकड़ने के लिए गोरखपुर जंक्शन आने की जरूरत नहीं होगी। डोमिनगढ़ में ही ट्रेन पकड़ सकेंगे। क्या है सैटेलाइट स्टेशन: मुख्य स्टेशन के अगल-बगल छोटे स्टेशनों को विकसित किया जाता है। विकसित किए गए स्टेशनों पर कुछ ट्रेनों को शिफ्ट कर जंक्शन का बोझ काफी हद तक कम किया जा सकेगा।

2566 views
Jul 11 2016 (11:55)
chandankumarsingh64   572 blog posts
Re# 1926112-1            Tags   Past Edits
GOOD NEWS
Apr 11 2016 (09:59)  पैंट्रीकार ठेकेदारों पर कसेगा शिकंजा (epaper.livehindustan.com)
back to top
Other NewsNER/North Eastern  -  

News Entry# 264162     
   Tags   Past Edits
Apr 11 2016 (1:49PM)
Station Tag: Gorakhpur Junction/GKP added by ♤☆■02537 GKP●BNZ LHB SPL■ ☆♤*^~/206964

Apr 11 2016 (9:59AM)
Station Tag: Gorakhpur Cantt./GKC added by ♤☆■02537 GKP●BNZ LHB SPL■ ☆♤*^~/206964

Apr 11 2016 (9:59AM)
Station Tag: Gonda Junction/GD added by ♤☆■02537 GKP●BNZ LHB SPL■ ☆♤*^~/206964

Posted by: ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~  4990 news posts
ट्रेन में यात्रियों की लगातार मिल रही शिकायतों पर अब रेलवे गंभीर हो गया है। ट्रेन में पैन्ट्रीकार के ठेकेदारों पर रेलवे ने शिकंजा कसने को मन बनाया है। यात्रियों से अवैद्य वसूली और खाने की क्वालिटी की गड़बड़ी की शिकायतों के बाद रेलवे ने पैन्ट्रीकार की व्यवस्था आईआरसीटीसी के जिम्मे सौंपने का निर्णय लिया है। माना जा रहा है कि इससे ट्रेन की पैन्ट्रीकार में कर्मचारियों की मनमानी पर लगाम कसी जा सकेगी। यहीं नहीं पूवरेत्तर रेलवे की कई ट्रेनों में पैन्ट्रीकार में अवैद्य रूप से यात्रियों को ढोये जाने की शिकायतें मिल रही थीं। कुछ दिन पूर्व वैशाली एक्सप्रेस में छापेमारी के दौरान पैन्ट्रीकार की चेकिंग में दर्जन भर से अधिक लोग बिना टिकट यात्र करते पकड़े गये। इनमें दैनिक यात्री के साथ ही कुछ वर्दीधारी भी शामिल रहे। यात्रियों से पूछताछ में पता चला कि पैन्ट्रीकार के मैनेजर ने किराया लेकर पैन्ट्रीकार में बैठाया। सीनियर डीसीएम नीलिमा सिंह...
more...
की मानें तो पैन्ट्रीकार संचालकों पर गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है। पैन्ट्रीकार के कर्मचारियों पर जहरखुरानी और लूट की घटनाओं और चोरी की घटनाओं में लिप्त होने की शिकायत भी मिल रही थीं। रेलवे के पास सिर्फ खानपान निरीक्षक हैं। कोई विशेषज्ञ टीम नहीं है, ऐसे में पैन्ट्रीकार की जिम्मेदारी आईआरसीटीसी को सौंपने का निर्णय लिया गया है। ट्रेनों में कैटरिंग विशेषज्ञ मौजूद रहेंगे। ये लोग खाने की गुणवत्ता और सर्विस पर विशेष ध्यान देंगे।नहीं मिलेगा अब लाइसेंस : ट्रेनों में कैटरिंग के लिए अब कैटर्स कंपनियों को लाइसेंस दिये जाते थे। लकिन लगातार मिल रही शिकायतो पर रेलवे बोर्ड ने अब इन लाइसेंसों को आगे जारी न करने का निर्णय लिया है। इसके साथ ही ठेकेदारों द्वारा बिना पड़ताल के ही कर्मचारियों को रखने की शिकायते मिल रही थीं। विद्यालय प्रबंधतंत्र के विरुद्ध मोर्चागोण्डा। छपिया के एक विद्यालय के प्रबंधतंत्र के विरूद्ध माध्यमिक शिक्षक संघ ने मार्चा खोल दिया है। रविवार को संघ की जिगर मेमोरियल में विद्यालय प्रबंधतंत्र द्वारा वहां के शिक्षक सफात अहमद कुरैशी को चार्ज दिलाने की कार्रवाई पर रोक लगाने की जानकारी देते हुए जिला मंत्री ने कहा कि प्रबंधतंत्र विभागीय नियमों के विरूद्ध काम कर रहा है। ये सब जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय के एक बाबू के इशारे पर किया जा रहा है। इस मौके पर ओमप्रकाश मिश्र, शिवमंगल यादव, सहदेव सिंह, डा. केडी द्विवेदी, अनूप शुक्ला, धर्मवीर सिंह, सैयद अब्दुल मुजीब रहे।
Apr 10 2016 (10:33)  चार फाटक तक होगा वाशिंग पिट का विस्तार 1 (epaper.jagran.com)
back to top
New Facilities/TechnologyNER/North Eastern  -  

News Entry# 264086   Blog Entry# 1797304     
   Tags   Past Edits
Apr 10 2016 (11:05PM)
Station Tag: Gorakhpur Junction/GKP added by ♤☆■02537 GKP●BNZ LHB SPL■ ☆♤*^~/206964

Apr 10 2016 (10:33AM)
Station Tag: Gorakhpur Cantt./GKC added by ♤☆■02537 GKP●BNZ LHB SPL■ ☆♤*^~/206964

Posted by: ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~  4990 news posts
9
गोरखपुर : प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत अभियान को पूवरेत्तर रेलवे ने आगे बढ़ाया है। इसके लिए वाशिंग पिट का भी विकास किया जाएगा। फिलहाल, पूवरेत्तर रेलवे की अधिक से अधिक ट्रेनों की समय से धुलाई के लिए गोरखपुर रेलवे स्टेशन के पूर्वी छोर पर स्थित वाशिंग लाइन का विस्तार मोहद्दीपुर स्थित चारफाटक तक किया जाएगा। मुख्य जनसंपर्क अधिकारी संजय यादव के अनुसार रेल बजट में पूवरेत्तर रेलवे और उत्तर प्रदेश को प्राथमिकता मिली है। गोरखपुर- बस्ती रेल खंड का विद्युतीकरण अंतिम चरण में है। जल्द ही इस रूट पर भी हाईस्पीड की गाड़ियां दौड़ने लगेंगी। यात्रियों को बेहतर सुविधा देने के लिए गोरखपुर के सभी प्लेटफार्मो पर आटोमेटिक टिकट वेंडिंग मशीन और आटोमेटिक वाटर वेंडिंग मशीन लगाई जा चुकी है। फुट
...
more...
ओवरब्रिजों पर जल्द ही एस्केलेटर और लिफ्ट भी लगने लगेंगे। डोमिनगढ़-कुसम्ही-कैंट तीसरी लाइन और सहजनवां-दोहरीघाट नई रेल लाइन बन जाने से क्षेत्रीय विकास को भी गति मिलेगी। 1आज लगेंगे अतिरिक्त कोच1गोरखपुर : 15004 चौरीचौरा और 15007 कृषक एक्सप्रेस में 10 अप्रैल को गोरखपुर से शयनयान श्रेणी के एक-एक अतिरिक्त कोच लगाए जाएंगे।

8 posts - Sun Apr 10, 2016 - are hidden. Click to open.

3358 views
Apr 23 2016 (14:17)
Gourav Singh   197 blog posts   1 correct pred (100% accurate)
Re# 1797304-9            Tags   Past Edits
thanks for info
Nov 22 2015 (10:11)  ट्रेनों की लेटलतीफी से मिलेगी मुक्ति, कैंट, नकहा और डोमिनगढ़ बनेगा ‘सेटेलाइट (epaper.jagran.com)
back to top
Commentary/Human InterestNER/North Eastern  -  

News Entry# 248566     
   Tags   Past Edits
Nov 22 2015 (10:11AM)
Station Tag: Domingarh/DMG added by ♤☆GKP•LJN Kapilvastu Exp ☆♤**/206964

Nov 22 2015 (10:11AM)
Station Tag: Gorakhpur Cantt./GKC added by ♤☆GKP•LJN Kapilvastu Exp ☆♤**/206964

Nov 22 2015 (10:11AM)
Station Tag: Gorakhpur Junction/GKP added by ♤☆GKP•LJN Kapilvastu Exp ☆♤**/206964

Nov 22 2015 (10:11AM)
Station Tag: Gorakhpur Junction/GKP added by ♤☆GKP•LJN Kapilvastu Exp ☆♤**/206964

Posted by: ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~  4990 news posts
छोटे स्टेशनों का भी विकास
उत्तरी द्वार का हो रहा कायाकल्प, बनेगा हैंगिंग फूड प्लाजा और वेटिंग रूम1
एलईडी बल्ब से रोशन हो रही रेलवे कालोनी
जागरण संवाददाता, गोरखपुर : ट्रेनों की लेटलतीफी दूर करने के लिए कैंट, नकहा और डोमिनगढ़ स्टेशन को सेटेलाइट बनाया जा रहा है। इन स्टेशनों को टर्मिनल के रूप में विकसित किया जाएगा, जिससे यहां भी लोकल और लंबी
...
more...
दूरी की गाड़ियों का स्थायी ठहराव प्रदान किया जा सके। 1मुख्य जनसंपर्क अधिकारी संजय यादव के अनुसार गाड़ियों की संख्या अधिक होने के चलते सेटेलाइट स्टेशनों और द्वितीय द्वार पर विशेष जोर दिया जा रहा है। इससे यात्रियों को राहत और भीड़ से निजात मिलेगी। गाड़ियां समय से स्टेशन पर पहुंचेंगी। वाराणसी सिटी, मंडुआडीह, ऐशबाग, लखनऊ सिटी, डालीगंज और गोमतीनगर को भी सेटेलाइट स्टेशन के रूप में विकसित किया जा रहा है। इसके अलावा गोरखपुर, लखनऊ, मंडुआडीह, वाराणसी सिटी, ऐशबाग, लखनऊ सिटी, डालीगंज, गोमतीनगर और बरेली में द्वितीय द्वार का निर्माण हो रहा है। गोरखपुर में तो निर्माण कार्य शुरू है। यहां प्लेटफार्म नंबर 9 के फुट ओवरब्रिज पर हैंगिंग फूड प्लाजा और वेटिंग रूम का निर्माण होगा। प्लेटफार्मो को दुरुस्त किया जा रहा है। दक्षिणी गेट पर डीलक्स टायलेट का भी निर्माण होगा। यात्रियों की सुविधा के लिए स्वचालित सीढ़ी और लिफ्ट भी लगाए जाएंगे। प्लेटफार्म नंबर दो पर स्वचालित सीढ़ी तैयार है। गोरखपुर से बनकर चलने वाली गाड़ियों को प्लेटफार्म नंबर 1, 2, 2ए और 9 से चलाया जा रहा है।गोरखपुर रेलवे कालोनी एलईडी बल्ब से रोशन हो रही है। यह भारतीय रेलवे की एलईडी लाइट वाली पहली कालोनी है। ऊर्जा संरक्षण के क्षेत्र में इलाहाबाद सिटी स्टेशन को प्रथम पुरस्कार प्राप्त हुआ है। पूवरेत्तर रेलवे को 2007, 2009, 2011, 2012 व 2013 में ऊर्जा संरक्षण के लिए पुरस्कृत किया जा चुका है। पूवरेत्तर रेलवे में गैरपारंपरिक ऊर्जा सोलर एनर्जी के व्यापक प्रयोग को बढ़ावा देकर पारंपरिक ऊर्जा पर निर्भरता को कम किया जा रहा है। इन प्रयासों से 5.2 लाख के डब्ल्यूएच विद्युत यूनिट व 47 लाख रुपये रेल राजस्व की बचत की है
Sep 09 2015 (12:04)  कैंट और डोमिनगढ़ पहुंचते ही थम जाते ट्रेनों के पहिए (epaper.jagran.com)
back to top
Other NewsNER/North Eastern  -  

News Entry# 240570     
   Tags   Past Edits
Sep 09 2015 (12:04PM)
Station Tag: Nankhas/NDK added by ☆♤♤Gonda Jn♤♤☆**/206964

Sep 09 2015 (12:04PM)
Station Tag: Domingarh/DMG added by ☆♤♤Gonda Jn♤♤☆**/206964

Sep 09 2015 (12:04PM)
Station Tag: Gorakhpur Junction/GKP added by ☆♤♤Gonda Jn♤♤☆**/206964

Sep 09 2015 (12:04PM)
Station Tag: Gorakhpur Cantt./GKC added by ☆♤♤Gonda Jn♤♤☆**/206964

Sep 09 2015 (12:04PM)
Train Tag: Mumbai LTT - Gorakhpur Sant Kabir Dham SF Express/12542 added by ☆♤♤Gonda Jn♤♤☆**/206964

Posted by: ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~  4990 news posts
सिस्टम पर सवाल16लंबी दूरी की गाड़ियों को महज तीन किमी आने में लग जाते हैं घंटों16रेलवे स्टेशन यार्ड रीमाडलिंग के बाद भी समय से नहीं पहुंच रही ट्रेन 14
जागरण संवाददाता, गोरखपुर : यह दो घटनाएं तो सिर्फ नजीर हैं। डोमिनगढ़, कैंट और नकहा स्टेशन पर तो गाड़ियां समय से पहुंचकर भी लेट हो जा रही हैं। इन स्टेशनों पर पहुंचते ही ट्रेनों के पहिए थम जाते हैं। 3 से 5 किमी की दूरी तय करने में ही घंटों लग जा रहे हैं। यह तब है जब गोरखपुर यार्ड का रीमाडलिंग हो चुका है। 10 प्लेटफार्म बन चुके हैं। रेलवे प्रशासन यात्री सुविधाओं पर प्राथमिकता के आधार पर विशेष रूप से जोर दे रहा है। 1गोरखपुर के पास वाले स्टेशनों पर ट्रेनों
...
more...
का रुकना कोई नया नहीं है। यह समस्या वर्षो से चली आ रही है। यात्रियों की परेशानी को देखते हुए ही रेलवे प्रशासन ने स्टेशन यार्ड का रीमाडलिंग कराया। इसके बाद भी समस्या जस की तस बनी हुई है। मुंबई से चलकर समय से कैंट स्टेशन पहुंचने वाली गाड़ियां लेट हो जाती है। महज 3 किमी की दूरी तय करने में यात्री ङोल जाते हैं। यह परेशानी न एक दिन की है और न लंबी दूरी की गाड़ियों की। 1सुपरफास्ट हो या इंटरसिटी और पैसेंजर ट्रेन। कमोवेश सबकी कहानी एक ही है। परेशानी तो यात्रियों को ङोलनी पड़ रही है। सबसे अधिक परेशान तो पैसेंजर और इंटरसिटी के यात्री होते हैं। कप्तानगंज, सीवान, लाररोड, भटनी, देवरिया, नौतनवां, बढ़नी, बस्ती और खलीलाबाद से छात्र, व्यवसायी, नौकरीपेशा और मरीज लोकल ट्रेनों से ही गोरखपुर पहुंचते हैं। लेकिन, वे डोमिनगढ़, कैंट और नकहा समय से पहुंचकर भी लेट हो जाते हैं। कहीं कोई पुरसाहाल नहीं है। 1
Click here to enlarge image
केस 1 - पांच सितंबर को एलटीटी- गोरखपुर 12542 एक्सप्रेस समय से डोमिनगढ़ स्टेशन पहुंच गई। यात्रियों ने सोचा चलो आज जल्दी घर पहुंच जाएंगे। लेकिन, गाड़ी बेवजह डेढ़ घंटे तक रुकी रह गई। यात्रियों की मानें तो ट्रेन शाम 5 बजे के आसपास स्टेशन पर पहुंच गई और 6.30 बजे के आसपास गोरखपुर के लिए रवाना हुई। 1केस 2 - छह सितंबर को मंडुआडीह- गोरखपुर इंटरसिटी देवरिया से कैंट स्टेशन करीब 40 किमी की दूरी लगभग 45 मिनट में ही तय कर ली। सुबह 10.45 बजे के आसपास यह ट्रेन कैंट पहुंची तो यात्रियों ने राहत की सांस ली और सोचा चलो जल्द पहुंच जाएंगे। लेकिन, ट्रेन को कैंट से गोरखपुर स्टेशन पर पहुंचने में और 45 मिनट लग गए।शिकायत है तो उसे दूर किया जाएगा। जांच कर पता लगाया जाएगा कि कहां कमी है, उसे सुधार कर ट्रेनों की टाइमिंग सही की जाएगी। ट्रेनों का समय से संचालन रेलवे की प्राथमिकता है। 1संजय यादव, 1मुख्य जनसंपर्क अधिकारी
Jul 14 2015 (10:59)  गोरखपुर दो टर्मिनल स्टेशन बनाने की पहल शुरू (epaper.livehindustan.com)
back to top
New Facilities/TechnologyNER/North Eastern  -  

News Entry# 233635   Blog Entry# 1572881     
   Tags   Past Edits
Jul 14 2015 (10:59AM)
Station Tag: Gorakhpur Cantt./GKC added by ☆☆♤Gonda Central♤☆☆**/206964

Jul 14 2015 (10:59AM)
Station Tag: Nankhas/NDK added by ☆☆♤Gonda Central♤☆☆**/206964

Jul 14 2015 (10:59AM)
Station Tag: Gorakhpur Junction/GKP added by ☆☆♤Gonda Central♤☆☆**/206964

Posted by: ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~  4990 news posts
। गोरखपुर कैन्ट एवं नकहा जंगल रेलवे स्टेशनों को टर्मिनल स्टेशन बनाए जाने की दिशा में पहल शुरू हो गई है। इसी क्रम में सोमवार को महाप्रबंधक राजीव मिश्र बारी-बारी दोनों स्टेशनों पर पहुंचे और टर्मिनल स्टेशन के रूप में विकसित किए जाने के लिए में तैयार यार्ड प्लान का निरीक्षण किया। कैंट व नकहा रेलवे स्टेशनों के टर्मिनल स्टेशन के रूप में विकसित हो जाने से गोरखपुर स्टेशन से ट्रेनों का बोझ काफी हद कम हो जाएगा।

1813 views
Aug 24 2015 (15:24)
Ashutosh Kumar Singh   9 blog posts
Re# 1572881-1            Tags   Past Edits
there are so many resources in Gorakhpur and around that were under utilized. time to start with them. a good decision.

1761 views
Aug 24 2015 (23:01)
☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~   11954 blog posts   3039 correct pred (65% accurate)
Re# 1572881-2            Tags   Past Edits
Agree Frm Last 1 yr ner is doing very good job
Page#    Showing 1 to 18 of 18 News Items  

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site