Full Site Search  
Wed Jan 25, 2017 02:45:28 IST
PostPostPost Stn TipPost Stn TipUpload Stn PicUpload Stn PicAdvanced Search

JMKL/Jamuniya Kalan
     Jamuniya कलां

Track: Construction - New Line

Type of Station: Regular
Number of Platforms: n/a
Number of Halting Trains: 0
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Jamunia Kalan
State: Madhya Pradesh
Elevation: 471 m above sea level
Zone: WR/Western
Division: Ratlam
No Recent News for JMKL/Jamuniya Kalan
Nearby Stations in the News

Rating: /5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
porters/escalators - n/a (0)
food - n/a (0)
transportation - n/a (0)
lodging - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)

Nearby Stations

Station News

Page#    Showing 1 to 1 of 1 News Items  
Jul 15 2014 (00:20)  पहले रुकती थीं ट्रेनें, अब निकल जाती हैं फर्राटे से (www.bhaskar.com)
back to top
IR AffairsWR/Western  -  

News Entry# 185219     
   Tags   Past Edits
Jul 15 2014 (12:20AM)
Station Tag: Jamuniya Kalan/JMKL added by Vaibhav Agarwal*^/432532

Posted by: Vaibhav Agarwal*^  1403 news posts
जमुनियाकलां रेलवे स्टेशन बंद होने से एक दर्जन से ज्यादा गांवों के लोगों की बढ़ी परेशानी
भास्करसंवाददाता | जमुनियाकलां
नीमचसे रतलाम के बीच पड़ने वाला जमुनियाकलां रेलवे स्टेशन अब गुजरे जमाने की बात हो गई। पहले यहां हर ट्रेन रुकती थी। गेज परिवर्तन के बाद कुछ महीने तक दो ट्रेनों का स्टॉपेज था उसे भी अब समाप्त कर दिया। इससे आसपास के एक दर्जन से ज्यादा गांवों के लोगों की परेशानी बढ़ गई है।
जिला
...
more...
मुख्यालय से 7 किमी दूर ग्राम जमुनियाकलां में 40 साल पहले रेलवे स्टेशन बना। स्टेशन छोटा है लेकिन कई ट्रेनें यहां रुकती थीं। जमुनियाकलां सहित आसपास के एक दर्जन गांवों के लोग रतलाम अजमेर तरफ यात्रा करते थे। पांच साल पहले गेज परिवर्तन होने के बाद यहां रुकने वाली ट्रेनों की संख्या कम हो गई। फिर दो ट्रेनें रुकने लगीं। तीन साल से इनका स्टॉपेज भी खत्म कर दिया। ऐसे में स्टेशन से ट्रेन पकड़ने वाले दर्जनभर गांवों के ग्रामीणों को अब नीमच या हर्कियाखाल जाना पड़ता है। इसमें समय की बर्बादी होने के साथ राशि भी खर्च हो रही है। परेशानियों का सामना भी करना पड़ रहा है। ग्रामीणों की मांग है कि स्टेशन पर लोकल ट्रेनों का स्टॉपेज तो हो। यहां ट्रेन रुकने से जमुनियाकलां के साथ बरखेड़ा हाड़ा, चौथखेड़ा, भाटखेड़ा, हनुमंतिया व्यास, चंपी, जमुनिया खुर्द, दलावदा, लाछ, लखमी, हिंगोरिया, बाग पिपलिया सहित अन्य गांवों के ग्रामीणों को आवागमन की सुविधा मिलेगी।
श्रमदान कर बनाया था स्टेशन
40साल पहले जमुनियाकलां के ग्रामीणों ने रेल प्रशासन से गांव में स्टेशन बनाने और ट्रेनों के ठहराव की मांग की तो रेलवे ने ग्रामीणों के सामने कुछ शर्तें रख दी। इसमें आसपास के गांवों का सर्वे करना, तहसील से प्रमाणित कराना तथा श्रमदान कर प्लेटफॉर्म बनाना था। गांव में रेलवे स्टेशन शुरू कराने के लिए ग्रामीणों ने सभी शर्तें मान ली। ग्रामीणों ने बैलगाड़ी की मदद से मिट्टी डालकर स्टेशन बनाने के लिए पटरी से ऊंचा कर विभाग को सौंप दिया। बाद में रेलवे ने बाउंड्री बनवाकर ट्रेनें रुकवाना शुरू किया।
‘डी’ क्लास के स्टेशनों को बंद कर दिया
^ब्रॉडगेज बनने के बाद विभाग ने ‘डी’ क्लास के स्टेशनों को बंद कर दिया। इसी के चलते जमुनियाकलां के स्टेशन पर ट्रेनों का स्टॉपेज बंद हो गया। विभाग से नया आदेश आएगा तो शुरू हो जाएगा। अरुणभार्गव, स्टेशनप्रबंधक, नीमच
स्
Page#    Showing 1 to 1 of 1 News Items  

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site