Full Site Search  
Sat Mar 25, 2017 20:56:28 IST
PostPostPost Stn TipPost Stn TipUpload Stn PicUpload Stn PicAdvanced Search
Large Station Board;

MDP/Madhupur Junction (4 PFs)
মধুপুর জংশন / مدھو پور جنکشن     मधुपुर जंक्शन

Track: Double Electric-Line

Type of Station: Junction
Number of Platforms: 4
Number of Halting Trains: 141
Number of Originating Trains: 5
Number of Terminating Trains: 5
Station Road, Madhupur, District:Deoghar. Pincode 815353, 06432-224478
State: Jharkhand
Elevation: 254 m above sea level
Zone: ER/Eastern
Division: Asansol
No Recent News for MDP/Madhupur Junction
Nearby Stations in the News

Rating: 1.6/5 (32 votes)
cleanliness - poor (4)
porters/escalators - poor (4)
food - poor (4)
transportation - average (4)
lodging - poor (4)
railfanning - average (4)
sightseeing - poor (4)
safety - poor (4)

Nearby Stations

NPZ/Nawapatra 6 km     SGPA/Sugapahari 7 km     SAPT/Sugapahari 8 km     JRW/Joramow 10 km     MUW/Mathurapur 11 km     JGD/Jagadishpur 13 km     MNC/Madankata 15 km     KBSH/Krishna Ballabh Sahay Halt 17 km     SNQ/Sankarpur 18 km     KBQ/Kumrabad Rohini 24 km    

Station News

Page#    Showing 1 to 11 of 11 News Items  
Mar 16 2017 (16:53)  मधुपुर से धनबाद वाया गिरिडीह नई रेललाइन की लोस में उठी मांग (epaper.jagran.com)
back to top
Commentary/Human InterestECR/East Central  -  

News Entry# 296503   Blog Entry# 2200496     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: 4πu¶am*^~  4372 news posts
राज्य ब्यूरो, रांची : कोडरमा सांसद रवींद्र राय ने धनबाद में रेलवे के क्षेत्रीय कार्यालय को स्थापित किए जाने की मांग की है। बुधवार को संसद में रेलवे की अनुदान मांगों पर चर्चा के दौरान राय ने सरकार से अनुरोध किया कि झारखंड राज्य रेलवे के पांच मंडलों से जुड़ा है, जिसमें दो झारखंड में स्थित हैं, इसे ध्यान में रखते हुए धनबाद में रेलवे का क्षेत्रीय कार्यालय बनाया जाए। कहा, पूर्व में धनबाद का चयन क्षेत्रीय कार्यालय के रूप में हुआ था लेकिन बाद में उसकी जगह हाजीपुर में क्षेत्रीय कार्यालय बनाया गया। कहा, चूंकि झारखंड से आज तक कोई रेल मंत्री नहीं रहा है, इसलिए झारखंड राज्य की उपेक्षा होती आई है। जबकि झारखंड देश में राजस्व देने वाला तीसरा सबसे बड़ा राज्य है। इसके अलावा उन्होंने राजधानी एक्स में लागू किए गए फ्लैक्सी फेयर सिस्टम पर पुनर्विचार करने का आग्रह किया। राय ने कहा कि पूर्व में रेल...
more...
बजट एक सस्ती लोकप्रियता का माध्यम था। इस बार बजट को व्यावहारिक नजरिए से बदला गया है और जनहित में मांगों को की दृष्टि से संतुलित किया गया है।
ये मांगें भी उठीं
’ धनबाद व रांची को मेन लाइन व ग्रैंड कोड लाइन से जोड़ा जाए।
’धनबाद से दिल्ली के लिए गरीब रथ चले।
’ मधुपुर से धनबाद वाया गिरिडीह नई रेल लाइन की स्वीकृति दी जाए।
’ धनबाद से मुंबई वाया सूरत, अहमदाबाद प्रतिदिन गाड़ी चलाई जाए।
’ पारसनाथ-मधुबन-गिरिडीह नई रेल लाइन, कोडरमा-गिरिडीह नई रेल लाइन पर पड़ने वाले स्टेशनों पर प्लेटफार्म का निर्माण किया जाए।
’ कोडरमा, हजारीबाग रोड व पारसनाथ को आर्दश रेलवे स्टेशन बनाया जाए।
’ चतरा से गया व डालटनगंज से गया रेल लाइन का निर्माण।
’ कोडरमा से रांची व गढ़वा से रांची नई इएमयू चलाई जाए।
’ दुमका से रांची नई जनशताब्दी की स्वीकृति मिले

10 posts - Fri Mar 17, 2017 - are hidden. Click to open.

456 views
Mar 17 2017 (19:51)
rajeevame~   2262 blog posts   75 correct pred (66% accurate)
Re# 2200496-11            Tags   Past Edits
Kisse train Chini jaa rahi Hai. Pehle yahin garib rath ssm tak hi run karti thi baad mein isse gaya extend Kiya , ab dhn extension mein Kya problem Hai. IRCTC par abhi bhi yeh ssm garib rath hai

462 views
Mar 17 2017 (20:37)
Avada Kedrava 😈😈😈~   905 blog posts
Re# 2200496-12            Tags   Past Edits
Sasaram Garib Rath ye tha but maintainence to Gaya hi karti thi na.
Maintainence ke suvidha ke liye ise GAYA extension mila tha!

478 views
Mar 17 2017 (20:38)
SYED ALi CNB   51 blog posts   1 correct pred (25% accurate)
Re# 2200496-13            Tags   Past Edits

443 views
Mar 17 2017 (20:46)
rajeevame~   2262 blog posts   75 correct pred (66% accurate)
Re# 2200496-14            Tags   Past Edits
Gaya mein jab maintenance ho sakta Hai to dhn mein bhi ho sakta Hai. And waise bhi gaya mein secondary maintenance Hai primary maintenance to NR karta hain

544 views
Mar 17 2017 (20:53)
DhnEcr~   4907 blog posts
Re# 2200496-15            Tags   Past Edits
12877/78 ke pass GR ke do rakes hai and triweekly. SER runs all types of specials like currently 08633,02877 and all but none of them have ever ran with decent occupancy. That rake can be used to run a direct GR from NDLS to DHN,ASN,TATA.

574 views
Mar 17 2017 (20:56)
Avada Kedrava 😈😈😈~   905 blog posts
Re# 2200496-16            Tags   Past Edits
Sir SER ke rakes DHN ASN kaise use kar sakte hai?

567 views
Mar 17 2017 (20:57)
Avada Kedrava 😈😈😈~   905 blog posts
Re# 2200496-17            Tags   Past Edits
Thik hai toh fir drm delhi ko ye baat twit kare aur kya?
Drmdhn to twitter me adrish rehte hai

589 views
Mar 17 2017 (20:58)
rajeevame~   2262 blog posts   75 correct pred (66% accurate)
Re# 2200496-18            Tags   Past Edits
Tata to use kar sakta Hai with routes via prr-joc-asn-dhn. Tata is also in SER and it will serve these places also

582 views
Mar 17 2017 (21:04)
Avada Kedrava 😈😈😈~   905 blog posts
Re# 2200496-19            Tags   Past Edits
Ha TATA use kar sakta hai.
SER should also try out TATA ANVT via BKSC GAYA MGS BSB LKO or via PRR ASN DHN but PRR ASN will be mega long route!

490 views
Mar 17 2017 (22:20)
DhnEcr~   4907 blog posts
Re# 2200496-20            Tags   Past Edits
Tata se Ndls chale GR via Asn,Dhn the best
Dec 13 2016 (13:07)  CSEPS identifies Need for New Railway Zone for Jharkhand (www.railnews.co.in)
back to top
Other NewsSER/South Eastern  -  

News Entry# 288499   Blog Entry# 2089712     
   Tags   Past Edits
Dec 13 2016 (1:07PM)
Station Tag: Jasidih Junction/JSME added by RK^~/1397979

Dec 13 2016 (1:07PM)
Station Tag: Barkakana Junction/BRKA added by RK^~/1397979

Dec 13 2016 (1:07PM)
Station Tag: Dhanbad Junction/DHN added by RK^~/1397979

Dec 13 2016 (1:07PM)
Station Tag: Madhupur Junction/MDP added by RK^~/1397979

Dec 13 2016 (1:07PM)
Station Tag: Tatanagar Junction/TATA added by RK^~/1397979

Dec 13 2016 (1:07PM)
Station Tag: Ranchi Junction/RNC added by RK^~/1397979

Posted by: Yuva Rahul^~  108 news posts
Ranchi: The Centre for Socio-Economic and Parliamentary Studies (CSEPS), a civic society organization that studies socio-economic issues and aids the Government in good and effective governance with its advice and advocacy, has written to the Union Railway Minister Suresh Prabhu seeking a new Railway Zone for Jharkhand and several new trains given the fact that the State has largely remained deprived despite playing very important role in Indian economy.
The oraganisation states that the Indian Railway offers very little connectivity to different districts of the State. It appears to us that Jharkhand has been converted into a state for only freight services of Indian railway. Till today districts like Gumla, Khunti and Simdega have not seen trains as Indian Railway never thought
...
more...
it necessary to spread itself upto these areas. It has demanded that plans be made to spread railway tracks to these districts so that people from these states get connected through railway to different parts of the country.
The letter states that Jharkhand is a high revenue earning area for India railway, but it has been divided among different zones which have their headquarters in other states. Zonal headquarters too, despite earning huge revenue from Jharkhand, rarely care for developmental works concerning Jharkhand. The organization thus demands a separate Railway zone to be curved out of areas in Jharkhand with its headquarters in Ranchi.
Also it has demanded to follow up the State supported railway lines, construction of railway over-bridges and others that have remained incomplete since years. A suggestion has also come for setting up of 100-bed hospitals in places like Ranchi, Dhanbad, Jasidih and Barkakana.

7 posts - Tue Dec 13, 2016 - are hidden. Click to open.

7 posts - Wed Dec 14, 2016 - are hidden. Click to open.

3467 views
Dec 15 2016 (10:18)
I wish RNC NLP Exp   539 blog posts   10125 correct pred (76% accurate)
Re# 2089712-15            Tags   Past Edits
In that case, before that VSKP be parted from ECoR.

3430 views
Dec 15 2016 (10:31)
जय हिन्द   1973 blog posts   4 correct pred (67% accurate)
Re# 2089712-16            Tags   Past Edits
Yes.. It will be good. A new ROU division and a new Rayagada division are enough for ECoR zone.
Mar 12 2016 (17:46)  झारखंड : जामताड़ा के पास रेल लाइन जाम, कई ट्रेन के रूट बदले, कई खड़ी (www.prabhatkhabar.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsER/Eastern  -  

News Entry# 261011   Blog Entry# 1765181     
   Tags   Past Edits
Mar 12 2016 (5:46PM)
Station Tag: Jamui/JMU added by SBG Loop/199299

Mar 12 2016 (5:46PM)
Station Tag: Madhupur Junction/MDP added by SBG Loop/199299

Mar 12 2016 (5:46PM)
Station Tag: Jasidih Junction/JSME added by SBG Loop/199299

Mar 12 2016 (5:46PM)
Station Tag: Madankata/MNC added by SBG Loop/199299

Mar 12 2016 (5:46PM)
Train Tag: Patna-Howrah Jan Shatabdi Express/12024 added by SBG Loop/199299

Mar 12 2016 (5:46PM)
Train Tag: Tatanagar-Chhapra Express/18181 added by SBG Loop/199299

Mar 12 2016 (5:46PM)
Train Tag: Mithila Express/13021 added by SBG Loop/199299

Mar 12 2016 (5:46PM)
Train Tag: Poorva Express (via Patna)/12303 added by SBG Loop/199299

Posted by: SBG Loop~  100 news posts
देवघर : हावड़ा-पटना मुख्य रेल लाइन पर जामताड़ा के समीप प्रदर्शनकारियों के द्वारा रेल लाइन जाम कर दिये जाने के कारण आज यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा है. इस कारण लंबी दूरी की कुछ ट्रेनों का जहां धनबाद-गया रेललाइन पर रूट डायवर्ट किया गया है, वहीं कई ट्रेनें जहां-तहां स्टेशनों पर खड़ी हैं और कई पैसेंजर ट्रेनों को रास्ते से ही लौटा दिया गया है या फिर उन्हें रद्द कर दिया गया है. प्रदर्शनकारी भुइयां, घटवार जाति को अनुसूचित जनजाति में शामिल करने की मांग कर रहे हैं.
हावड़ा-दिल्ली पूर्वा एक्सप्रेस को धनबाद-गया रूट पर डायवर्ट किया गया है. वहीं, रक्सौल एक्सप्रेस व टाटा-छपरा एक्सप्रेस ट्रेन मधुपुर स्टेशन पर खड़ी है. पटना-हावाड़ा जनशताब्दी एक्सप्रेस जमुई स्टेशन पर खड़ी है.
...
more...
राजधानी एक्सप्रेस को भी जमुई में खड़ा करना पड़ा. अंडाल लोकल ट्रेन सीतारामपुर स्टेशन से वापस कर दिया गया.
हालांकि दोपहर होने पर प्रदर्शनकारियों का जोश थोड़ा ठंडा हुआ है और वे रेल लाइन से हटना शुरू कर चुके हैं. इस कारण अगले कुछ घंटों में राहत मिलने की उम्मीद है.

11690 views
Mar 12 2016 (21:13)
Guest: 89beebb0   show all posts
Re# 1765181-1            Tags   Past Edits
waah waah waah waah waah poorva ko aaj chote route par le liya gya wah

11573 views
Mar 12 2016 (21:23)
DhnEcr~   4907 blog posts
Re# 1765181-2            Tags   Past Edits
Another reservation demand.

11320 views
Mar 12 2016 (21:43)
12952 नई दिल्ली मुंबई राजधानी Left IRI~   6504 blog posts   339 correct pred (78% accurate)
Re# 1765181-3            Tags   Past Edits
Mujhe to jab reservation chahiye hota h train me kara leta hu
Aug 31 2015 (07:30)  Curious' kids remove clips from rly tracks, alert staff save the day (timesofindia.indiatimes.com)
back to top
Commentary/Human InterestER/Eastern  -  

News Entry# 239454   Blog Entry# 1578242     
   Tags   Past Edits
Aug 31 2015 (7:30AM)
Station Tag: Madhupur Junction/MDP added by rdb**/69261

Posted by: rdb*^  127055 news posts
Dhanbad: Railways officials are probing the removal of 17 pandrol clips from the railways track near Madhupur railway station, under Asansole division of Eastern Central Railway (ECR) on Saturday.
Four minors from a nearby village in the age group of 11 and 13 years were responsible for removing the iron clips under Madhupur subdivision of Deoghar district and located around 140kms Dhanbad, said railway authorities.
The incident came to light after security personnel found the children near Madhupur railway station and quizzed them.
A
...
more...
major accident was averted as the incident took place around 10 minutes before the New Delhi-Howrah Abha Tufan Express, apart from other passenger trains, would have passed.
Railway authorities detained the children for interrogation and were shocked to find out the motive behind the removal of the clips.
"The children said that they were curious to know how a train derails. They all belong to a government school. They used stones to chip away at 17 iron clips near pole number 296/7, situated between Madhupur-Nawadih patro, close to Madhupur railway station on the main line," a security officer told TOI.
Railway officials also called a joint meeting of the villagers and the children's parents to discuss the issue and also make them aware of the possible repercussions of their actions.
When contacted, the senior divisional security officer and commandant of Asonsole division Pradeep Kumar Gupta, confirmed the incident and said that he was looking into the matter.
"Although the children were detained, they were released after proper investigation by late Saturday evening. Apart from being minors, they had no ulterior motives. We warned them and their parents. We hope that they do not do something like this again," said Gupta.
The in-charge of Madhupur railway police force, Prem Pancham, said this was not the first time an incident like this has taken place.
"A fortnight ago, the same group of children started pelting stones at the Kolkata Rajdhani and Purva express near Fatehpur. We have decided to inform all villagers and notify the guardians of all schoolchildren living in nearby localities to ensure their wards stay away from the railway tracks," said Pancham.

2764 views
Aug 31 2015 (07:31)
rdb*^   30798 blog posts   363613 correct pred (80% accurate)
Re# 1578242-1            Tags   Past Edits
Madhupur railway station, under Asansole division of Eastern Central Railway (ECR)
ToI,,thanks for silly reporting just like these cops..
Get ur facts right.
Madhupur is ER not ECR..
Aug 19 2015 (10:07)  ரெயிலின் மேல் ராணுவ டிரக் வாகனங்கள் (www.dailythanthi.com)
back to top
Other NewsSR/Southern  -  

News Entry# 238085     
   Tags   Past Edits
Aug 19 2015 (10:07AM)
Station Tag: Kochuveli/KCVL added by emailconnect2hari/1069947

Aug 19 2015 (10:07AM)
Station Tag: Madhupur Junction/MDP added by emailconnect2hari/1069947

Posted by: emailconnect2hari  281 news posts
கேரள மாநிலம் கொச்சுவேலியில் இருந்து மதுரை வழியாக வடமாநிலத்திற்கு இந்திய ராணுவத்துக்கு சொந்தமான டிரக் வாகனங்கள் ரெயிலில் கொண்டு செல்லப்படுகின்றன. இந்த வாகன ரெயில் நேற்று காலை 11.30 மணிக்கு மதுரை ரெயில்நிலையம் வந்தது. அந்த ரெயில் முழுவதும் டிரக்குகள் கொண்டு வரப்பட்டது அணிவகுப்பு போல காட்சியளித்தது. அதனை மதுரை ரெயில்நிலையத்தில் நின்று கொண்டிருந்த பயணிகள் ஆச்சரியத்துடன் பார்த்து மகிழ்ந்தனர். பின்னர் இந்த ரெயில் மதியம் 12.30 மணிக்கு மதுரை ரெயில்நிலையத்தில் இருந்து புறப்பட்டு ஈரோடு சென்றது.
Feb 25 2015 (22:23)  न बना वाशिंग पीट, न पूरा हुआ कारखाना (www.jagran.com)
back to top
Rail BudgetECR/East Central  -  

News Entry# 213982     
   Tags   Past Edits
Feb 25 2015 (10:24PM)
Station Tag: Dauram Madhepura/DMH added by विश्व नाथ**/31233

Feb 25 2015 (10:24PM)
Station Tag: Madhupur Junction/MDP added by विश्व नाथ**/31233

Feb 25 2015 (10:24PM)
Station Tag: Saharsa Junction/SHC added by विश्व नाथ**/31233

Posted by: विश्व नाथ*^  3552 news posts
कोसी का इलाका रेल के क्षेत्र में काफी पिछड़ा है। एक तरफ देश में बुलेट ट्रेन चलाने की तैयारी हो रही है। वहीं दूसरी ओर कोसी में छोटी ट्रेन चलती है। बड़ी रेल लाइन 2005 में निर्माण होने के बाद आशा जगी की रेल क्षेत्र में कोसी का भी विकास होगा, परंतु नौ वर्षो के बाद भी स्थिति जस की तस बन हुई है। विगत छह वर्षो से वाशिंग पीट का निर्माणाधीन है। जिसके कारण ट्रेनों की मरम्मत तथा साफ-सफाई के लिए बरौनी भेजा जाता है। पिछले रेल बजट में कोसी के लिए अधूरी परियोजना हेतु कम ध्यान दिया गया। लेकिन इस बार रेल बजट से लोगों को काफी उम्मीदें है।
सहरसा-फारबिसगंज अमान परिवर्तन हेतु राशि उपलब्ध हो ताकि छोटी लाइन से
...
more...
लोगों को निजात मिले। मालूम हो कि विगत दो वर्षो से सहरसा-राघोपुर के बीच ट्रेन चलती है। जबकि फारबिसगंज से राघोपुर तक अमान परिवर्तन का कार्य काफी मंथर गति से किया जा रहा है।
मधेपुरा रेल कारखाना
मधेपुरा में प्रस्तावित रेल इंजन कारखाना की घोषणा भी आज तक अधर में है। जबकि इसके साथ छपरा में घोषित कारखाना का काम पूरा हो गया। इस बार रेल बजट में रेल इंजन कारखाना की पहल पर राशि मिलने की उम्मीद है।
लंबी दूरी के ट्रेन की उम्मीद
अमान परिवर्तन के नौ वर्षो के बाद भी देश के सभी महानगरों के लिए ट्रेन अभी तक उपलब्ध नहीं हो पाई है। जिसके कारण खगड़िया-मानसी तथा बरौनी-समस्तीपुर जाकर यहां के लोगों को लम्बी दूरी की ट्रेन पकड़ने में काफी दिक्कतें होती है। कोसी के लोगों को उम्मीद है सहरसा से मुंबई, चेन्नई तथा कोलकाता, दिल्ली के लिए नई ट्रेन मिले।
ट्रेनों का नियमितीकरण
पुरबिया, गरीब रथ, जनसाधारण, जानकी एक्सप्रेस ट्रेनों को साप्ताहिक के बदले प्रतिदिन चलाने तथा लंबी दूरी की ट्रेनों में पेंटीकार एवं सुरक्षा बढ़ाने की आवश्यकता है।
रात्रिकालीन ट्रेन की मांग
लोगों को राजधानी जाने के लिए रात्रिकालीन ट्रेन चलाने की जरूरत है। जिसकी मांग बहुत दिनों से हो रही है।
रेल लाइन का विस्तार की मांग
जंक्शन स्थित मात्र तीन रेल लाइन पर 12 जोड़ी ट्रेनों का परिचालन किया जाता है। जिसके कारण प्राय: ट्रेन लाइन के कारण विलंब से चलती है। रेल बजट में रेल ट्रैक का विस्तार की महती आवश्यकता है। ताकि नई ट्रेनों का परिचालन हो सके। रेल यात्रियों ने प्लेटफार्म पर साफ-सफाई, बिजली, पानी तथा सुरक्षा पर रेल बजट में लोगों ने उम्मीद बांध रखी है। बहुत जल्द कोसी क्षेत्र में रेल का विकास की संभावना जतायी गई है।
Nov 21 2014 (14:12)  ट्रेन डकैती में 10 लाख से ज्यादा की लूट, हमले में एक यात्री घायल (www.bhaskar.com)
back to top
Other NewsER/Eastern  -  

News Entry# 201985     
   Tags   Past Edits
Nov 21 2014 (2:12PM)
Station Tag: Madhupur Junction/MDP added by J A I H O/718732

Posted by: जय हो ™^~  2051 news posts
रांची/गिरिडीह। झारखंड के गिरिडीह जिले में मधुपुर स्टेशन के पास एक सवारी गाड़ी से अपराधियों ने करीब 10 लाख रुपए लूट लिए। हावड़ा की ओर जा रही ट्रेन के एसी व स्लीपर बोगियों में करीब 20 लुटेरों ने महेशमुंडा और केबी हॉल्ट के बीच धावा बोला। मारपीट में एक यात्री घायल भी हुआ है, जिसका इलाज बंगाल के आसनसोल में कराया जा रहा है।
छपराऔर हरनौत में अगले माह रेल कारखाने का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे। सोमवार को पटना में रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने यह जानकारी दी। इससे पहले मंत्री ने दीघा-सोनपुर रेल सह सड़क पुल का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि जिस तरह से काम हो रहा है, यह परियोजना रेलवे के लक्ष्य के अनुरूप मार्च 2015 तक पूरा हो जाएगा। मधेपुरा में इलेक्ट्रिक लोकोमोटिव फैक्ट्री के बारे में कहा कि इसके लिए 300 एकड़ जमीन की आवश्यकता है। राज्य सरकार जमीन मुहैया कराए, तो इस परियोजना को धरातल पर उतारा जाएगा।
प्राथमिकतामें है दीघा-सोनपुर पुल
गंगामें
...
more...
भागीरथी विहार फ्लोटिंग रेस्टोरेंट जहाज में संवाददाताओं से बात करते हुए रेल राज्य मंत्री ने स्पष्ट किया कि पटना में गंगा पर रेल सह सड़क पुल के निर्माण कार्य को रेल मंत्रालय ने प्राथमिकता सूची में रखा है।
May 09 2014 (21:38)  मधुपुर-गिरिडीह ट्रेन में स्कॉट लाठीधारी जवानों के भरोसे (www.prabhatkhabar.com)
back to top
Other NewsER/Eastern  -  

News Entry# 176354   Blog Entry# 1091063     
   Tags   Past Edits
May 09 2014 (9:38PM)
Station Tag: Madhupur Junction/MDP added by •´¯•» βȟåȑåț βȟåğÿå √ȋďȟåțå «•´¯•**/478688

Posted by: xxx  1449 news posts
मधुपुर: गिरीडीह-मधुपुर सवारी गाडी में रेल यात्री इन दिनों भगवान के भरोसे सफर कर रहे हैं. चुनाव ड्यूटी में पुलिस कर्मियों के चले जाने से रात को स्कॉट भी नियमित नहीं हो पा रहा है.
विदित हो कि मधुपुर-गिरिडीह रेल खंड काफी संवेदनशील है व नक्सलियों के निशाने पर है. साथ ही इस ट्रेन में प्रत्येक साल चोरी व डकैती की वारदात होते ही रहती है. उक्त रेल खंड पर यात्रियों को सुरक्षा मुहैया कराने के लिए पूर्व में आरपीएसएफ, आरपीएफ व जीआरपी द्वारा हथियार के साथ रात को स्कॉट किया जाता था. लेकिन पिछले कई महिनों से आरपीएसएफ व आरपीएफ का स्कॉट बंद है.
जीआरपी
...
more...
के भी नियमित स्कॉट नहीं हो पा रही है. जीआरपी के जवान द्वारा रात को जब स्कॉट किया जाता है तब भी उनके साथ कोई हथियार नहीं होता है. वर्तमान कभी-कभी 3-4 जवानों द्वारा रात को निहत्थे स्कॉट किया जाता है. स्कॉट के नाम पर जीआरपी द्वारा सिर्फ खानापूर्ति ही की जा रही है. गत वर्ष भी जीआरपी के स्कॉट में रहते हुए अपराधियों ने ट्रेन में जम कर लूटपाट मचायी थी. जीआरपी के जवान एसी के डब्बे में अंदर प्रवेश कर खुद को बंद कर के रखते है और यात्रियों को भगवान भरोसे छोड देते हैं.
क्या कहते है रेल थाना प्रभारी: रेल थाना प्रभारी कन्हाई राम ने कहा कि जवानों की कमी है. लेकिन 3-4 जवान लाठी के साथ रात्री स्कॉट में जाते है. रेल पुलिस पुरी तरह से मुस्तैद है.

2526 views
May 09 2014 (21:39)
Guest: 823b393b   show all posts
Re# 1091063-1            Tags   Past Edits
how they are supposed to provide safety with bamboo sticks
Mar 12 2014 (12:10)  मधुपुर रेलवे स्टेशन भी रहा है नक्सलियों के निशाने पर (www.prabhatkhabar.com)
back to top
Crime/AccidentsER/Eastern  -  

News Entry# 171149     
   Tags   Past Edits
Mar 12 2014 (12:10PM)
Station Tag: Madhupur Junction/MDP added by AJ/737839

Posted by: अमित झा*^~  38 news posts
मधुपुर: छत्तीसगढ़ में नक्सली हमले में जवानों की मौत के बाद रेल पुलिस सतर्कता बरतने का दावा तो कर रही है, लेकिन वास्तविकता कुछ अलग ही है. चूंकि मधुपुर रेल स्टेशन परिसर पूर्व से ही नक्सलियों के निशाने पर रहा है.
कई बार नक्सली हमले की गुप्त सूचना भी मुख्यालय से मिली है. लोकसभा चुनाव से पूर्व नक्सली संगठन अपनी उपस्थिति दर्ज कराने के लिए कई जगह अपराधिक घटना को अंजाम दे सकते हैं. छत्तीसगढ़ में हुए नक्सली हमले के बाद आम लोगांे की सुरक्षा पर भी सवाल उठ रहे हैं. मधुपुर स्टेशन परिसर समेत कई रेल पुल, जीआरपी व आरपीएफ भी नक्सलियों के निशाने पर हैं. खुफिया विभाग द्वारा इस आशय की रिपोर्ट कई बार सरकार को भेजी गयी है.
...
more...
इसके बाद भी मधुपुर स्टेशन समेत महत्वपूर्ण ट्रेनों में सुरक्षा व्यवस्था भगवान भरोसे है. स्टेशन के मुख्य दरवाजा पर लगा मेटल डिटेक्टर भी शोभा की वस्तु बना हुआ है. बिजली नहीं मिल पाने के कारण यह आज तक चालू नहीं हो पाया है.
स्टेशन परिसर में सीसीटीवी कैमरा भी नहीं लगाया गया है. जो संदिग्धों पर नजर रख सके. आरपीएफ व जीआरपी के सभी हथियार पूर्व में ही हटा लिये गये हैं. हथियार बंद आरपीएसएफ के जवानों को भी मधुपुर से हटा लिया गया है. कई महत्वपूर्ण ट्रेनों में भी स्कॉट नहीं हो रहा है.
गिरिडीह-मधुपुर ट्रेन भी निहत्थे जवानों के भरोसे हैं जो खुद अपनी सुरक्षा के लिए अंदर से बंद वातानुकूलित डब्बे में रात को गश्ती करते हैं. सुरक्षा में इन खामियों का फायदा कभी भी कोई आपराधिक व नक्सली संगठन उठा सकता है. लेकिन, रेल पुलिस प्रशासन अब भी इन सबसे बेखबर बना हुआ है.
Page#    Showing 1 to 11 of 11 News Items  

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site