Full Site Search  
Mon Jun 26, 2017 10:57:50 IST
PostPostPost Stn TipPost Stn TipUpload Stn PicUpload Stn PicAdvanced Search
Large Station Board;

MNQ/Mainpuri
مین پوری     मैनपुरी

Track: Single Diesel-Line

Type of Station: Regular
Number of Platforms: n/a
Number of Halting Trains: 8
Number of Originating Trains: 1
Number of Terminating Trains: 1
Jn point- SKB/FBD/ETW Mainpuri
State: Uttar Pradesh
Elevation: 159 m above sea level
Zone: NCR/North Central
Division: Allahabad
No Recent News for MNQ/Mainpuri
Nearby Stations in the News

Rating: 2.2/5 (40 votes)
cleanliness - good (5)
porters/escalators - poor (5)
food - average (5)
transportation - average (5)
lodging - average (5)
railfanning - poor (5)
sightseeing - poor (5)
safety - average (5)

Nearby Stations

MPUE/Mainpuri Kachehri 3 km     KAPU/Kiratpur 9 km     TNUE/Tindauli 13 km     BGQ/Bhongaon 14 km     BUJA/Bhujia 16 km     TKRU/Takhrau 19 km     KOZ/Kosma 21 km     MOTA/Mota 23 km     KAHL/Karhal 26 km     TKHA/Takha 28 km    

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 42 News Items  next>>
Apr 16 2017 (13:30)  धड़ धड़ाकर जाती हैं ट्रेनें, ठहरें तो बने बात (m.jagran.com)
back to top
Commentary/Human InterestNCR/North Central  -  

News Entry# 299739     
   Tags   Past Edits
Apr 16 2017 (13:30)
Station Tag: Mathura Junction/MTJ added by Rkschauhan~/926260

Apr 16 2017 (13:30)
Station Tag: Mainpuri/MNQ added by Rkschauhan~/926260

Apr 16 2017 (13:30)
Station Tag: Gwalior Junction/GWL added by Rkschauhan~/926260

Apr 16 2017 (13:30)
Station Tag: Bhind/BIX added by Rkschauhan~/926260

Apr 16 2017 (13:30)
Station Tag: Agra Cantt./AGC added by Rkschauhan~/926260

Apr 16 2017 (13:30)
Station Tag: Bateshwar Halt/BASR added by Rkschauhan~/926260

Apr 16 2017 (13:30)
Station Tag: Etawah Junction/ETW added by Rkschauhan~/926260

Posted by: Rkschauhan~  111 news posts
जागरण संवाददाता, इटावा : रेल सुविधाओं की अधिकतर सुविधाएं सांसदों की पहल पर ही जनता को मिलती हैं। इसके विपरीत इटावा रेलवे स्टेशन पर सुपरफास्ट ट्रेनें धड़धड़ाकर निकल जाती हैं। इनके ठहराव तथा लाइन पार क्षेत्रीय जनता के लिए सुविधाएं उपलब्ध कराने की मांग अर्से से की जा रही है। सांसदों ने इस ओर विशेष तवज्जो दी तो कई सुविधाएं जनता को प्राप्त हो सकती हैं।
आदर्श रेलवे स्टेशन इटावा को सवा साल पूर्व जंक्शन का दर्जा मिला था। इटावा से बटेश्वर-आगरा, ¨भड-ग्वालियर तथा मैनपुरी के लिए ब्रांच लाइनों पर यात्री ट्रेनें चल रही हैं। जनपद ही नहीं आसपास के जिलों के तकरीबन 10 से 12 हजार लोग इस स्टेशन के माध्यम से आवागमन करते हैं। इसके बावजूद यात्रियों को ए ग्रेड
...
more...
के स्टेशन वाली सुविधाएं यहां पर मुहैया नहीं हैं। स्टेशन के उत्तरी ओर लाइन पार क्षेत्र में शहर की आधी आबादी रहती है। इस क्षेत्र से स्टेशन आने वालों को करीब तीन किलोमीटर का चक्कर काटना पड़ता है। यदि लाइन पार तक पुल का निर्माण हो जाए तो आवागमन करने वालों को बहुत राहत मिलेगी। मथुरा के लिए एक मात्र तूफान मेल ट्रेन है, जो कोहरे के दौरान अक्सर निरस्त कर दी जाती है। अन्य ट्रेनें इस स्टेशन पर नॉन स्टाप होने से सीधी चली जाती हैं। खानपान की सुविधाओं का भी अभाव है।
यात्रियों की जरूरत
- करीब एक दर्जन नॉन स्टाप ट्रेनों का ठहराव हो
- सभी ब्रांच लाइनों पर यात्री ट्रेनों का विस्तार किया जाए
- स्टेशन के उत्तरी ओर प्लेटफार्म पुल आरपार बने
- स्टेशन पर खानपान की गुणवत्ता में सुधार हो
- प्लेटफार्म नंबर एक पर मालगाड़ी का ठहराव नहीं हो
पांच सांसदों का स्टेशन फिर भी बदहाली
इटावा रेलवे स्टेशन से पांच सांसद जुड़े हैं। प्रो. रामगोपाल यादव उनके पुत्र अक्षय यादव तथा पौत्र मैनपुरी सांसद तेजप्रताप ¨सह यादव, सपा से राज्यसभा सांसद बाबू दर्शन ¨सह यादव तथा लोकसभा क्षेत्र इटावा से भाजपा सांसद अशोक दोहरे हैं। इन सभी सांसदों को रेलवे महाप्रबंधक की ओर से आमंत्रण पत्र प्रेषित किया जा चुका है। यदि यह सभी जनता की सुविधाओं के लिए पहल करें तो जरूरत पूरी हो सकती है।
सुविधाएं दिलाई जाएंगी : दोहरे
इटावा रेलवे स्टेशन तथा इस क्षेत्र की जनता की समस्याओं को निस्तारण कराने के लिए सदैव प्रयत्नशील हूं। रेल संबंधी जो भी समस्याएं हैं उनका रेल महाप्रबंधक तक ही नहीं बल्कि रेलमंत्री से संपर्क करके निस्तारण कराया जाएगा। क्षेत्रीय जनता को यथा संभव रेलवे सुविधाएं प्राप्त कराई जाएंगी।
- अशोक दोहरे, सांसद
बैठक का उद्देश्य ही यही
रेलवे महाप्रबंधक सांसदों के साथ बैठक करके उनकी समस्याओं और सुझावों को गंभीरता से लेकर उनका पालन कराने के सार्थक प्रयास करते हैं। इस बैठक का उद्देश्य ही यही है कि इसके माध्यम से सांसदों के क्षेत्र की समस्याओं का समाधान कराया जा सके।
-अमन वर्मा, सहायक वाणिज्य प्रबंधक उमरे
Apr 08 2017 (06:31)  ट्रेन चलाने में हजारों खर्च, आमदनी 300 रुपये (m.jagran.com)
back to top
Commentary/Human InterestNCR/North Central  -  

News Entry# 298866   Blog Entry# 2227150     
   Tags   Past Edits
Apr 08 2017 (06:32)
Station Tag: Mainpuri/MNQ added by Rkschauhan~/926260

Apr 08 2017 (06:32)
Station Tag: Karhal/KAHL added by Rkschauhan~/926260

Apr 08 2017 (06:32)
Station Tag: Agra Cantt./AGC added by Rkschauhan~/926260

Apr 08 2017 (06:32)
Station Tag: Jaitpura Halt/JATP added by Rkschauhan~/926260

Apr 08 2017 (06:32)
Station Tag: Bateshwar Halt/BASR added by Rkschauhan~/926260

Apr 08 2017 (06:32)
Station Tag: Udi Morh/UDMR added by Rkschauhan~/926260

Apr 08 2017 (06:31)
Station Tag: Etawah Junction/ETW added by Rkschauhan~/926260

Posted by: Rkschauhan~  111 news posts
जागरण संवाददाता, इटावा : सपा संस्थापक मुलायम ¨सह यादव के प्रयासों से शुरू की गई इटावा-मैनपुरी रेल सेवा रेलवे के लिए घाटे का सौदा बन रही है। मौजूदा समय सारिणी के कारण जनता को भी इसका लाभ नहीं मिल रहा है। इटावा से मैनपुरी के मध्य इस ट्रेन से बीते तीन माह में महज 250 से 300 रुपये प्रतिदिन के हिसाब से आमदनी हो रही है। इटावा से मैनपुरी के एक चक्कर पर डीएमयू पैसेंजर ट्रेन में करीब 20 हजार रुपये का डीजल फुंक रहा है। अगर गार्ड-चालक व अन्य स्टाफ का वेतन और जोड़ दिया जाए तो घाटा और भी बढ़ जाता है। आमदनी न के बराबर होने के कारण अब इस ट्रेन की समयसारिणी में परिवर्तन करने का प्रस्ताव प्रेषित कर दिया गया है। उम्मीद जताई जा रही है कि प्रस्ताव पास होने से जनता के साथ रेलवे को भी होगा लाभ।
इटावा-मैनपुरी
...
more...
रेल मार्ग पर रेलवे प्रशासन ने नई ट्रेन चलाने के बजाए आगरा-बटेश्वर से इटावा के मध्य जारी डीएमयू पैसेंजर ट्रेन का विस्तार मैनपुरी तक कर दिया था। बीते 28 दिसंबर को इस सेवा का शुभारंभ किया गया था। यह ट्रेन सुबह साढ़े चार बजे मैनपुरी से इटावा आकर बटेश्वर-आगरा के लिए प्रस्थान करती है। वापसी में रात 10 बजे इटावा से मैनपुरी के लिए प्रस्थान करती है। दोनों ही वक्त सवारियां होती नहीं हैं। अधिकतर यात्री शाम ढलने से पहले अन्य संसाधनों से वैदपुरा, सैफई, करहल तथा मैनपुरी के लिए चले जाते हैं। पूर्व में यही ट्रेन इटावा से सुबह छह बजे बटेश्वर-आगरा के लिए प्रस्थान करती थी तो उदी, जैतपुरा, वाह, बटेश्वर से काफी संख्या में लोग आगरा के लिए सवार होते थे। मैनपुरी से चलाए जाने पर इसकी समय सारिणी इस कदर प्रभावित हुई कि निर्धारित समय से काफी देरी से चलने लगी।
'इटावा-मैनपुरी पैसेंजर ट्रेन के समय में परिवर्तन से आमदनी ज्यादा होगी तथा जनता को भी लाभ मिलेगा। समय परिवर्तन के लिए भेजे गए प्रस्ताव में ट्रेन आगरा से सुबह चलकर नौ बजे तक इटावा आने और यहां से मैनपुरी रवाना किए जाने का सुझाव है। इससे पीजीआई सैफई, हेंवरा डिग्री कालेज, करहल तथा मैनपुरी जाने वाले यात्रियों की संख्या काफी बढ़ जाएगी। मैनपुरी से ट्रेन दोपहर 11-12 बजे चलाने का सुझाव है, जिससे आगरा जाने वाले यात्रियों को लाभ मिलेगा।' - मुकेश मणि मुख्य वाणिज्य निरीक्षक

3302 views
Apr 08 2017 (14:06)
a2z~   1240 blog posts
Re# 2227150-1            Tags   Past Edits
* 250-300 Rs. revenue collection per day does not justify even operation of a bus, operating a train on such a route is a blunder.
* Most of the New lines constructed to fulfil political motivations are proving deadly for IRly.
* In the beginning, 100s of crores are spent for constructing such lines and repayment of such loans is life long burden for IR.
*
...
more...
After commissioning, crores are spent every month to pay for the operational losses, which wipes out the earnings of other profit making lines and IR is perennially in a state of financial crunch.
* Inefficient use of scarce resources by IR is the main reason for very high costing which make most of its operation loss making ones.
Apr 04 2017 (08:09)  इटावा में रेलवे फ्लाईओवर निर्माण को हरी झंडी (m.jagran.com)
back to top
New Facilities/TechnologyNCR/North Central  -  

News Entry# 298492     
   Tags   Past Edits
Apr 04 2017 (08:09)
Station Tag: Mainpuri/MNQ added by Rkschauhan~/926260

Apr 04 2017 (08:09)
Station Tag: Agra Cantt./AGC added by Rkschauhan~/926260

Apr 04 2017 (08:09)
Station Tag: Gwalior Junction/GWL added by Rkschauhan~/926260

Apr 04 2017 (08:09)
Station Tag: Bhind/BIX added by Rkschauhan~/926260

Apr 04 2017 (08:09)
Station Tag: Etawah Junction/ETW added by Rkschauhan~/926260

Posted by: Rkschauhan~  111 news posts
जागरण संवाददाता, इटावा : इटावा में रेलवे फ्लाईओवर के निर्माण को रेल मंत्रालय ने हरी झंडी दिखा दी है। बजट में इसके निर्माण के लिए 753 करोड़ रुपये की धनराशि स्वीकृत कर दी गई है। फ्लाई ओवर से सभी ब्रांच लाइनें जोड़ी जाएंगी। शुरुआत में इस फ्लाईओवर पर चारों ओर की मालगाड़ियां दिल्ली-हावड़ा की ओर आवागमन करेगी। इंजीनियरों ने निर्माण कार्य के लिए सीसीआर बनाना शुरू कर दिया है। फ्लाई ओवर बनने पर इटावा रेलवे के नक्शे और ज्यादा चमकेगा।
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेई के पैतृक गांव बटेश्वर को रेलवे के मानचित्र पर दर्शाने वाली आगरा-इटावा, ग्वालियर-¨भड से इटावा तथा इटावा-मैनपुरी ट्रैक पर ट्रेनों का परिचालन इस समय जारी है। इन पर मालगाड़ियों का परिचालन ज्यादा है। अब निकट भविष्य में
...
more...
इटावा-¨बदकी रेल परियोजना के साकार होने की संभावना है। इससे इटावा रेलवे स्टेशन पर मालगाड़ियों का ठहराव ज्यादा होने लगेगा। इसके तहत रेलवे के वरिष्ठ इंजीनियरों ने इटावा में फ्लाई ओवर निर्माण की योजना तैयार की थी। इस बाबत बीते 19 अगस्त 2016 को दैनिक जागरण ने खबर भी प्रकाशित की थी।
राष्ट्रीय रेलवे सलाहकार समिति के पूर्व सदस्य शेख मोहम्मद ने बताया कि कांधनी से बिचपुरी खेड़ा तक फ्लाईओवर 11 किलोमीटर लंबा होगा। रेलवे निर्माण विभाग ने इसका सीसीआर का कार्य शुरू कर दिया है। ग्वालियर-आगरा तथा मैनपुरी की ओर से इटावा आने वाली मालगाड़ियों को फ्लाईओवर के माध्यम से दिल्ली-हावड़ा ट्रैक पर पहुंचा दिया जाएगा। कांधनी से बिचपुरी खेड़ा के मध्य उतार-चढ़ाव होगा। एक तरह से इस दूरी के मध्य रेलवे फ्लाईओवर चौराहे का रूप ले लेगा। डीएफसीसी यानी डेडीकेटिड फ्रंट कारीडोर कारपोरेशन द्वारा निर्माणाधीन रेलवे ट्रैक पर सरायभूपत से इकदिल के मध्य मालगाड़ियों का ट्रैक आगरा-कानपुर सिक्सलेन मार्ग, बरेली-ग्वालियर हाईवे तथा इटावा-मैनपुरी हाईवे के चलते फ्लाईओवर का निर्माण कराया जा रहा है। इस ट्रैक पर हावड़ा-दिल्ली के मध्य आवागमन करने वाली ट्रेनें दौड़ेंगी। हर रूट की मालगाड़ी इस चौराहे से अपने गंतव्य की ओर निकल जाएगी। इटावा जंक्शन पर सिर्फ यात्री ट्रेनें ही नजर आएंगी।
किसान भी होंगे प्रभावित
फ्लाई ओवर निर्माण में कांधनी से बिचपुरी खेड़ा के मध्य कई जगह रेलवे के पास भूमि है। किसानों की भूमि स्थानीय प्रशासन के माध्यम से खरीदी जाएगी। भूमि के लिए धन की व्यवस्था इसी बजट राशि में की गई है। आगामी दिसंबर माह से निर्माण कार्य शुरू करा दिया जाएगा। विभागीय सूत्रों के मुताबिक 2019 तक दिल्ली से हावड़ा तक मालगाड़ियां अलग ट्रैक पर ही दौड़ती नजर आएंगी।
Jan 26 2017 (20:22)  खतरों भरा मैनपुरी रेलमार्ग पर सफर (m.jagran.com)
back to top
Commentary/Human InterestNCR/North Central  -  

News Entry# 292340     
   Tags   Past Edits
Jan 26 2017 (20:22)
Station Tag: Mainpuri/MNQ added by Rkschauhan/926260

Jan 26 2017 (20:22)
Station Tag: Etawah Junction/ETW added by Rkschauhan/926260

Posted by: Rkschauhan~  111 news posts
जागरण संवाददाता, इटावा : इटावा-मैनपुरी रेल मार्ग पर अभी सफर करना खतरों से भरा हुआ है। इटावा-करहल के मध्य अभी तक सिग्नल सिस्टम सही नहीं हो पाया है। इटावा-मैनपुरी के मध्य करीब चार दर्जन क्रॉ¨सग में 28 अभी भी मानव रहित हैं। इन पर हर समय खतरा मंडराता रहता है। बीते पखवारे डीआरएम इलाहाबाद संजय कुमार पंकज ने निरीक्षण करके इस मार्ग पर आवागमन करने वाली एक मात्र पैसेंजर ट्रेन बंद करा दी थी लेकिन अपरिहार्य कारणों से चंद घंटों में ही उनको अपना निर्देश वापस लेना पड़ा। इससे इस मार्ग पर सफर खतरनाक बना हुआ है।
56 किमी की दूरी का इटावा-मैनपुरी रेलमार्ग बेतहाशा क्रॉ¨सगों के चलते खतरनाक बना हुआ है। बीते माह मार्च में निर्माण कार्य पूर्ण होने पर जब
...
more...
इंजन दौड़ाया गया तो रेलवे ट्रैक ओके कर दिया गया। मुख्य अभियंता ने निरीक्षण किया तो इस दूरी में करीब 4 दर्जन क्रॉ¨सग देखकर इसे सही नहीं माना। इसके तहत करीब डेढ़ दर्जन क्रॉ¨सग पर अंडरपास बना दिया गया। कई क्रॉ¨सग पर ग्रामीण अंडर की बजाए ओवरब्रिज की मांग कर रहे हैं। इससे निर्माण कार्य बाधित है। इसके चलते 28 क्रॉ¨सग अभी भी मानव रहित हैं। अभी एक मात्र पैसेंजर ट्रेन का दिन में आवागमन न होने से थोड़ी राहत है, जब ट्रेनों का विस्तार होगा तब हालात और ज्यादा खतरनाक होंगे। दूसरी ओर क्षेत्रीय जनता भी इस मार्ग की सुरक्षा की ओर कोई तवज्जो नहीं दे रही है। इसके चलते रास्ते में बुझिया हाल्ट स्टेशन की लोगों ने दुर्दशा कर दी, वहां लगे गमले तथा बैठने के लिए बनाई गई बैंचे ध्वस्त कर दी।
छह माह से नहीं मिल रहा फाल्ट
करहल से इटावा के मध्य सिग्नल व्यवस्था अभी तक ओके नहीं हो पाई है। लाइन क्लीयर करने वाला यंत्र ब्लाक इंस्टूमेंट मशीन बीते 6 माह से चेक की जा रही है। अभी तक उसमें फाल्ट नहीं मिला है। इससे पीएलसी यानी पेपर लाइन क्लीयर के तहत ट्रेन का परिचालन कराया जा रहा है।
रात के साए में सफर
अपराधियों की धमाचौकड़ी के चलते यह मार्ग दिन में भी खतरनाक माना जाता है। इसके बावजूद पैसेंजर ट्रेन का परिचालन रात के साये में ही कराया जा रहा है। रात नौ बजे मैनपुरी के लिए ट्रेन इटावा से रवाना की जाती है जो सुबह चार बजे मैनपुरी से इटावा के लिए रवाना की जाती है। इससे दोनों समय रात का साया रहता है। इस समय सारिणी से ग्रामीण क्षेत्र के लोग ट्रेन सुविधा का लाभ नहीं ले पा रहे हैं।
सुरक्षा पर पूरा ध्यान
इटावा से मैनपुरी मार्ग पर सुरक्षा पर पूरा ध्यान दिया जा रहा है। ट्रेन रवाना करने से पूर्व चालक को रास्ते की सभी मानव रहित क्रॉ¨सगों पर नजर डालकर ट्रेन को धीमी रफ्तार से पास करने का निर्देश दिया जाता है। आरपीएफ ट्रैक की सुरक्षा के लिए मुस्तैद रहती है। निकट भविष्य में मानव रहित क्रॉ¨सग कम होंगी, उन पर अंडर पास का निर्माण कराया जाएगा।-आरके त्रिपाठी स्टेशन अधीक्षक।
Jan 25 2017 (05:49)  ट्रेनें बढ़ी, जंक्शन बना पर सुविधाएं नहीं (www.amarujala.com)
back to top
Commentary/Human InterestNCR/North Central  -  

News Entry# 292171   Blog Entry# 2141344     
   Tags   Past Edits
Jan 25 2017 (05:49)
Station Tag: Agra Cantt./AGC added by Rkschauhan/926260

Jan 25 2017 (05:49)
Station Tag: Bateshwar Halt/BASR added by Rkschauhan/926260

Jan 25 2017 (05:49)
Station Tag: Mainpuri/MNQ added by Rkschauhan/926260

Jan 25 2017 (05:49)
Station Tag: Gwalior Junction/GWL added by Rkschauhan/926260

Jan 25 2017 (05:49)
Station Tag: Bhind/BIX added by Rkschauhan/926260

Jan 25 2017 (05:49)
Station Tag: Etawah Junction/ETW added by Rkschauhan/926260

Posted by: Rkschauhan~  111 news posts
इटावा स्टेशन को आदर्श रेलवे स्टेशन का दर्जा के साथ जंक्शन बनाया गया। इसके साथ ही इटावा से भिंड-ग्वालियर, इटावा-वटेश्वर व इटावा-मैनपुरी लाइन के शुरू होने के बाद कई नई ट्रेनें भी मिली। जल्द ही स्टेशन पर कई नई ट्रेनों के ठहराव भी शुरू होने वाले हैं, लेकिन अभी तक इटावा जंक्शन सुविधाओं के अभाव से जूझ रहा है। जिसके चलते यहां प्रतिदिन आने जाने वाले यात्रियों को दिक्कत होती है। दिल्ली-हावड़ा लाइन के इस प्रमुख जंक्शन पर सुविधाएं बढ़ाने में रेल अधिकारी लगातार लापरवाह बने हैं।
यात्रियों को नहीं मिल पाता पानी
इटावा।
...
more...
जंक्शन पर इटावा-वटेशवर रेलवे लाइन व इटावा, भिंड-ग्वालियर लाइन के शुरू हो जाने के बाद से डेमो पैसेंजर का ठहराव इटावा स्टेशन पर अभी तक चल रहा था। ट्रेन में टायलेट की सुविधा भी थी, लेकिन यहां ट्रेनों को पानी नहीं दिया गया। ऐसा नहीं कि स्टेशन पर पानी की सुविधा नहीं है, यहां मनमानी यह है कि ट्रेन को पानी दिए जाने की बजाय उसके टायलेट को ही बंद कर दिया गया। अव्यवस्था यह भी है कि ज्यादातर ट्रेनें जंक्शन के प्लेटफार्म नंबर 1,2 व 3 पर ठहराव करती हैं, जबकि वाटर फिलिंग की सुविधा प्लेटफार्म नंबर 4व 5 पर है।
निशक्त व बुजुर्ग यात्री होते हैं परेशान
इटावा। इटावा जंक्शन पर आज भी ज्यादातर ट्रेनों का ठहराव प्लेटफार्म नंबर 2 व 3 पर ही होता है। जिससे यात्रियों को प्लेटफार्म तक पहुंचने के लिए सीढ़ियों पर चढ़ना, उतरना आवश्यक हो जाता है। ऐसे में निशक्त, बीमार व बुजुर्ग यात्रियों को भारी दिक्कत होती है। जो लोग सीढ़ी नहीं चढ़ उतर पाते उन्हें भी किसी न किसी तरह से सीढ़ी चढ़नी ही पड़ती है, क्योंकि इसके अलावा जंक्शन पर ट्रेन पकड़ने के लिए कोई दूसरा रास्ता ही नहीं है। रेल अधिकारियों ने कई बार यहां स्वचालित सीढ़ियां या लिफ्ट लगवाने का आश्वासन दिया, लेकिन आज भी स्थित जस की तस बनी है। खास बात यह है कि स्टेशन पर कोई अंडरपास भी नहीं है।
प्लेटफार्म एक खड़ी रहती हैं मालगाड़ी
इटावा। कहने को इटावा स्टेशन अब जंक्शन बन चुका है, लेकिन स्थिति आज भी यही है कि प्लेटफार्म नंबर एक पर इक्का-दुक्का ट्रेनों को छोड़कर किसी यात्री ट्रेन का ठहराव नहीं होता। एक नंबर प्लेटफार्म पर यात्री ट्रेन की जगह मालगाड़ी को खड़ा किया जाता है। जिससे सुविधा की जगह असुविधाएं खड़ी हो जाती है। प्लेट फार्म पर मालगाड़ी एक-दो घंटे के लिए ही नहीं बल्कि दो-दो दिनों तक खड़ी रहती है। जबकि यात्री ट्रेनें प्लेटफार्म नंबर 2व 3 से होकर जाती हैं।
अभी तक नहीं लगे कोच इंडीकेटर
इटावा। रेल अधिकारियों ने स्टेशन का दौरा करने के बाद कई बार शहर की जनता को आश्वासन दिया कि स्टेशन पर जल्द ही कोच इंडीकेटर लगाए जाएंगे। यहां तक कि इलाहाबाद मंडल के तत्कालीन डीआरएम और जीएम ने भी कोच इंडीके टर की मांग को जायज बताते हुए जल्द सुविधा देने का आश्वासन दिया था लेकिन कई वर्ष बीतने और स्टेशन को जंक्शन का दर्जा मिलने के बाद भी अभी तक प्लेट फार्माें पर कोच इंडीकेटर नहीं लगे हैं।

5694 views
Jan 26 2017 (19:12)
Saif malik~   531 blog posts
Re# 2141344-1            Tags   Past Edits
Nice#but kon konsi trains ka stoppage hone wala h etawah p
Page#    Showing 1 to 20 of 42 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.