Full Site Search  
Tue May 23, 2017 18:25:48 IST
PostPostPost Stn TipPost Stn TipUpload Stn PicUpload Stn PicAdvanced Search
Large Station Board;
Close-up; Platform Pic; Large Station Board;
no description available
Close-up; Platform Pic; Large Station Board;

MTC/Meerut City Junction (6 PFs)
میرٹھ نگر جنکشن     मेरठ नगर जंक्शन

Track: Double Electric-Line

Type of Station: Junction
Number of Platforms: 6
Number of Halting Trains: 67
Number of Originating Trains: 8
Number of Terminating Trains: 8
City Railway Station Rd, Meerut
State: Uttar Pradesh
Elevation: 228 m above sea level
Zone: NR/Northern
Division: Delhi
1 Travel Tips
No Recent News for MTC/Meerut City Junction
Nearby Stations in the News

Rating: 4.1/5 (101 votes)
cleanliness - good (13)
porters/escalators - good (12)
food - good (13)
transportation - excellent (13)
lodging - excellent (12)
railfanning - good (13)
sightseeing - good (12)
safety - good (13)

Nearby Stations

MUT/Meerut Cantt. 4 km     PRTP/Partapur 7 km     PRPT/Prshtampatnam 7 km     NRNR/Nurnagar 9 km     PQY/Pabli Khas 9 km     CXA/Chandsara Halt 11 km     MUZ/Mohiuddinpur 11 km     DRLA/Daurala 15 km     KXK/Kharkhauda 18 km     MDNR/Modinagar 19 km    

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 101 News Items  next>>
इलाहाबाद से मेरठ/सहारनपुर जा रही नौचंदी एक्सप्रेस सोमवार को एक बड़े हादसे का शिकार होने से बच गई। इलाहाबाद से रवाना होने के बाद जानकारी हुई कि ऊंचाहार से फाफामऊ की ओर आ रहे एक पॉवर वैगन का ब्रेक फेल हो गया है। ऐसे में नौचंदी एक्सप्रेस को रामचौरा रोड स्टेशन पर रोक लिया गया। यात्रियों को जब सामने से आ रहे पॉवर वैगन का ब्रेक फेल होने की जानकारी मिली तो दहशत में रामचौरारोड स्टेशन पर नौचंदी से उतर कर भागने लगे। काफी देर तक अफरातफरी मची रही। कुछ देर बाद जानकारी मिली कि पावर वैगन अपने आप रुक गया है, तब कहीं जाकर यात्रियों की जान में जान आई। इस आपाधापी में ट्रेन तकरीबन डेढ़ घंटा लेट हो गई।
सोमवार
...
more...
की शाम नौचंदी एक्सप्रेस इलाहाबाद जंक्शन से शाम 5.45 की बजाय 38 मिनट की देरी से शाम 6.18 बजे रवाना हुई। फाफामऊ पहुंचने पर जानकारी मिली कि ऊंचाहार से आ रहे एक पॉवर वैगन का गढ़ी मानिकपुर और कुंडा रेलवे स्टेशन के बीच ब्रेक फेल हो गया है। सूचना मिलते ही रेल महकमे में हड़कंप मच गया। शाम 7.19 बजे नौचंदी रामचौरारोड स्टेशन पहुंची तो उसे वहां रोक लिया गया। रामचौरारोड पर ट्रेन का महज दो मिनट का ठहराव है। दस मिनट से ज्यादा देर तक उसे रोके जाने की वजह यात्रियों ने पूछी तो उन्हें सामने से आ रहे पॉवर वैगन का ब्रेक फेल होने की सूचना दी गई। इतना सुनते ही दहशत फैल गई। आनन फानन में ट्रेन में बैठे तमाम यात्री नीचे उतर आए। हालांकि रेलकर्मी यात्रियों को समझाते रहे कि नौचंदी को कोई खतरा नहीं है। फिर भी बहुत से यात्री ऐसे भी रहे, जो जल्दबाजी में अपने सामान आदि ट्रेन में ही छोड़कर इधर उधर भागने लगे।
इस बीच पॉवर वैगन जो इलाहाबाद की ओर आ रहा था। उसमें बैठे रेलकर्मियों ने ब्रेक फेल होने की जानकारी मिलते ही उसका इंजन बंद कर दिया। राहत की बात यह रही कि पॉवर वैगन की स्पीड 30 किमी प्रतिघंटे के आसपास थी। इंजन बंद होने के थोड़ी देर बाद पॉवर वैगन भदरी रेलवे स्टेशन पर रुक गया। भदरी से रामचौरारोड की कुल दूरी 14 किलोमीटर है। उधर, पॉवर वैगन रुकने की खबर मिलने के बाद ही रेलकर्मियों के साथ यात्रियों की जान में जान आई। रात 08.01 बजे नौचंदी रामचौरा रोड से रवाना हुई।
भदरी स्टेशन पर पॉवर वैगन रुकने की सूचना मिलने के बाद नौचंदी रात 8.13 बजे लालगोपालगंज पहुंची। यहां 33 मिनट तक उसे रोका गया। क्योंकि लालगोपालगंज के बाद अगला स्टेशन भदरी ही था। रूट क्लीयर होने की जानकारी मिलने के बाद नौचंदी लालगोपालगंज से रात 8.46 बजे रवाना हुई। उधर रेलवे प्रशासन ने भी पॉवर वैगन के ब्रेक फेल होने की सूचना मिलने के बाद उसे गिराने की तैयारी शुरू कर दी थी।
जिस पॉवर वैगन की वजह से नौचंदी के यात्री दहशत में आए वह रेल इलेक्ट्रिफिकेशन से जुड़े कार्यों के लिए ऊंचाहार तक गया था। वहां से उसे फाफामऊ लौटना था। इसी बीच गढ़ीमानिकपुर से चलने के बाद उसके ब्रेक में खराबी आ गई। इसकी सूचना तत्काल संबंधित स्टेशन मास्टर को दी गई। मामला लखनऊ कंट्रोल रूम तक पहुंचा तो तमाम अफसर भी हरकत में आ गए। बता दें कि इस ट्रेन में 500 से ज्यादा यात्रियों का इलाहाबाद से रिजर्वेशन था। तकरीबन इतनी ही संख्या में दैनिक यात्री भी इसमें सवार थे।
‘पावर वैगन में ब्रेक फेल होने की सूचना मिली थी। इसी वजह से नौचंदी को रोका गया। रूट क्लीयर होने के बाद ही नौचंदी को रवाना किया गया।’
00 शिवेंद्र शुक्ला, सीनियर डीसीएम, लखनऊ मंडल ।
Apr 30 2017 (08:05)  चेनपुलिंग करने से बची शताब्दी ट्रेन में सवार महिला की जान (m.livehindustan.com)
back to top
Crime/AccidentsNR/Northern  -  

News Entry# 301174     
   Tags   Past Edits
Apr 30 2017 (08:05)
Station Tag: Meerut City Junction/MTC added by Proud CMSian~/1427404

Apr 30 2017 (08:05)
Train Tag: New Delhi - Dehradun Shatabdi Express/12017 added by Proud CMSian~/1427404

Posted by: Tushar Shandilya~  236 news posts
शनिवार को सिटी स्टेशन पर दिल्ली से देहरादून जाने वाली शताब्दी एक्सप्रेस से गिरकर महिला ट्रैक के नीचे जा गिरी। महिला के नीचे गिरती ही स्टेशन पर चीखपुकार मच गई। दिल्ली से सहारनुपर जा रही दिल्ली के बसंत कुंज निवासी विमला उम्र 30 वर्ष स्टेशन पर ट्रेन के रुकते ही सामान लेने के लिए नीचे उतरी थी। लेकिन स्टॉपेज समय पूरा होने के बाद ट्रेन के चलने के बाद वह जैसे ही कोच में चढ़ने लगी उसका पैर फिसलकर ट्रेन और ट्रैक के बीच फंस गया। आनन-फानन में किसी यात्री ने ट्रेन की चेन-पुलिंग कर ट्रेन को रुकवाया लेकिन तब तक महिला का बांया पैर चोटिल हो गया था।
उप स्टेशन अधीक्षक श्याम सुंदर और जीआरपी की टीम ने तुरंत महिला को
...
more...
ऑटो में सवार कर जिला अस्पताल पहुंचाया। जहां महिला का प्राथमिक उपचार करने के बाद मेडिकल रेफर कर दिया गया। जीआरपी कार्यालय के अनुसार शताब्दी ट्रेन में दिल्ली के बसंत विहार निवासी अन्नू भी सवार थी, जो कि उस चोटिल महिला की मालकिन थी।
वॉकी-टॉकी और चेन पुलिंग ने बचाई जान
महिला के ट्रैन और ट्रैक के नीचे गिरते ही शताब्दी ट्रेन चल पड़ी। महिला के चीखपुकार मचते ही वॉकी-टॉकी और चेन पुलिंग से ट्रेन को इमरजेंसी ब्रेक लगाकर रोक दिया गया। ट्रेन के रुकते ही स्टेशन कर्मचारियों ने महिला को खींचकर बाहर निकाला। महिला के ट्रैक पर फंसे होने के बाद शताब्दी ट्रेन भी काफी देर तक स्टेशन पर खड़ी रही।
108 एंबुलेंस से मेडिकल भेजा गया
पैर में चोट ज्यादा होने के कारण जिला अस्पताल की टीम ने महिला को मेडिकल उपचार के लिए रेफर कर दिया। जहां महिला का प्लास्टर रुम में उपचार किया गया। महिला के बांय पैर में प्लास्टर कर उसे छुट्टी दे दी गई।
सुबह के समय यह हादसा हुआ। सुबह 8 बजकर 17 मिनट से 8 बजकर 25 मिनट के बीच में घटना हुई। तुरंत हमने ट्रेन को रोककर महिला को ट्रैक के नीचे से बाहर निकाला। हमारे यहां से महिला को जिला अस्पताल भेज दिया गया था।
श्याम सुंदर, उप स्टेशन अधीक्षक
Apr 27 2017 (23:36)  परामर्शदात्री समिति बैठक में उठी रेल समस्याएं (www.livehindustan.com)
back to top
Commentary/Human InterestNR/Northern  -  

News Entry# 300989     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: SHIVKUMAR  40 news posts
उत्तर रेलवे के तत्वावधान में दिल्ली स्थित रेल अधिकारी क्लब में आयोजित की गई क्षेत्रीय रेलवे उपयोगकर्ता परामर्शदात्री समिति की बैठक में मेरठ से जुड़ी रेल समस्याओं को भी प्रमुखता से उठाया गया।
बैठक में संगम एक्सप्रेस, शालीमार एक्सप्रेस और राज्यरानी एक्सप्रेस की समस्याओं को रखा गया। मेरठ से इलाहाबाद को जाने वाली संगम एक्सप्रेस की लेटलतीफी को खत्म करने, प्रथम श्रेणी वातानुकूलित कोच लगाने का सुझाव दिया गया। परामर्शदात्री सदस्य योगेश मोहन गुप्ता ने मेरठ से लखनऊ जाने वाली राजरानी एक्सप्रेस के समय में बदलाव और शालीमार एक्सप्रेस को सुपरफास्ट श्रेणी में करने की मांग रखी।
Apr 27 2017 (08:45)  दिल्ली-मेरठ हाईस्पीड ट्रेन कॉरिडोर पर अब लखनऊ में होगा फैसला (www.amarujala.com)
back to top
Other News

News Entry# 300897     
   Tags   Past Edits
Apr 27 2017 (08:45)
Station Tag: Lucknow Charbagh NR/LKO added by ये क्या हो रहा है इंडियन रेलवे में~/1469143

Apr 27 2017 (08:45)
Station Tag: Meerut City Junction/MTC added by ये क्या हो रहा है इंडियन रेलवे में~/1469143

Apr 27 2017 (08:45)
Station Tag: Ghaziabad Junction/GZB added by ये क्या हो रहा है इंडियन रेलवे में~/1469143

Posted by: ये क्या हो रहा है इंडियन रेलवे में~  538 news posts
गाजियाबाद। नई सरकार गठन के बाद अब हाईस्पीड ट्रेन (सराय काले खां टू मेरठ) प्रोजेक्ट पर फैसला लखनऊ से होगा। इस कॉरिडोर के लिए प्रदेश सरकार को फंडिंग पर सहमति देनी है। ऐसे में प्रदेश सरकार ने इस पर कवायद शुरू कर दी है।
बृहस्पतिवार को प्रदेश के मुख्य सचिव ने एनसीआर प्लानिंग बोर्ड और जीडीए समेत कई विभागों की मीटिंग बुलाई है। बैठक में प्रोजेक्ट पर मंथन होगा। माना जा रहा है कि जल्द ही प्रदेश सरकार इस हाईस्पीड ट्रेन प्रोजेक्ट पर जल्द निर्णय ले सकती है। हालांकि प्रदेश की पूर्व सरकार इस पर सहमति दे चुकी है।
इसके
...
more...
बाद ही एनसीआरटीसी (नेशनल कैपिटल रीजन ट्रांसपोर्ट कारपोरेशन) ने डीपीआर तैयार की थी। हाईस्पीड ट्रेन की नई डीपीआर तैयार होने के बाद एनसीआरटीसी ने यूपी सरकार के पास भेजी थी। इस पर प्रदेश की पूर्व सरकार ने विधानसभा चुनाव से पहले एनसीआर प्लानिंग बोर्ड के गाजियाबाद स्थित रीजनल कार्यालय से रिपोर्ट मांगी थी।
करीब एक सप्ताह तक डीपीआर के अध्ययन के बाद स्थानीय अधिकारी इस पर रिपोर्ट भेज चुके हैं। यानी अब गेंद प्रदेश सरकार के पाले में है। तकरीबन 32 हजार करोड़ रुपये के इस प्रोजेक्ट में यूपी सरकार को भी करीब चार हजार करोड़ का अंशदान देना है।
ऐसे में नई सरकार की सहमति के बाद ही एनसीआरटीसी इस प्रोजेक्ट पर काम शुरू करेगी। अब मुख्य सचिव का लखनऊ में बैठक बुलाकर हाईस्पीड ट्रेन प्रोजेक्ट पर मंथन किए जाने से माना जा रहा है कि जल्द ही इस पर निर्णय हो सकता है।
2024 तक पूरा होगा प्रोजेक्ट
92.05 किलोमीटर लंबे इस कॉरिडोर का निर्माण तीन चरणों में पूरा होगा। सराय काले खां-गाजियाबाद-मेरठ हाईस्पीड कॉरिडोर में सबसे पहले साहिबाबाद (पैसिफक मॉल के पास) से परतापुर तक 38 किलोमीटर लंबा रूट तैयार किया जाएगा।
यह हिस्सा जनवरी 2023 तक पूरा हो जाएगा। दूसरे चरण में साहिबाबाद से सराय काले खां तक का अंडरग्राउंड रूट जनवरी 2024 तक पूरा हो जाएगा। जुलाई 2024 तक कॉरिडोर के तीसरे और अंतिम चरण में परतापुर से मोदीपुरम मेरठ तक का प्रोजेक्ट पूरा किया जाएगा।
एक नजर में हाईस्पीड ट्रेन का प्रोजेक्ट
कुल लंबाई 90.05 किलोमीटर
स्टेशन की संख्या 17 (11 एलिवेटेड और 6 अंडरग्राउंड)
गाजियाबाद में स्टेशन की संख्या 07
ट्रेन में अधिकतम कोच 12
ट्रेन की अधिकतम स्पीड 180 किलोमीटर/घंटा
Apr 19 2017 (10:55)  हादसे में रेलवे की लापरवाही (epaper.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNR/Northern  -  

News Entry# 300080   Blog Entry# 2241841     
   Tags   Past Edits
Apr 19 2017 (10:55)
Station Tag: Jhansi Junction/JHS added by भारतीय रेल के लिए मोदी राज है नर्क काल/1668362

Apr 19 2017 (10:55)
Station Tag: Meerut City Junction/MTC added by भारतीय रेल के लिए मोदी राज है नर्क काल/1668362

Apr 19 2017 (10:55)
Station Tag: Rampur Junction/RMU added by भारतीय रेल के लिए मोदी राज है नर्क काल/1668362

Apr 19 2017 (10:55)
Station Tag: Lucknow Charbagh NR/LKO added by भारतीय रेल के लिए मोदी राज है नर्क काल/1668362

Apr 19 2017 (10:55)
Train Tag: Meerut City - Lucknow Jn Rajya Rani Express/22454 added by भारतीय रेल के लिए मोदी राज है नर्क काल/1668362

Posted by: भारतीय रेल के लिए मोदी राज है नर्क काल  11 news posts
हादसे में रेलवे की लापरवाही
click here

2 posts - Wed Apr 19, 2017 - are hidden. Click to open.

1340 views
Apr 20 2017 (08:12)
Kishor*^~   4648 blog posts   123 correct pred (63% accurate)
Re# 2241841-4            Tags   Past Edits
Please clarify your views in detail

1138 views
Apr 20 2017 (15:03)
भारतीय रेल के लिए मोदी राज है नर्क काल   74 blog posts   66 correct pred (68% accurate)
Re# 2241841-5            Tags   Past Edits
sach itna bura lag jata hain bhakt ko
Mar 24 2017 (23:18)  UP के इन शहरों में मेट्रो लाएगी योगी सरकार, अधिकारियों को दिए निर्देश (hindi.news24online.com)
back to top
New Facilities/TechnologyNCR/North Central  -  

News Entry# 297503   Blog Entry# 2209744     
   Tags   Past Edits
Mar 24 2017 (23:18)
Station Tag: Jhansi Junction/JHS added by अबकी कमल खिलेगा*^~/190490

Mar 24 2017 (23:18)
Station Tag: Gorakhpur Junction/GKP added by अबकी कमल खिलेगा*^~/190490

Mar 24 2017 (23:18)
Station Tag: Agra Cantt./AGC added by अबकी कमल खिलेगा*^~/190490

Mar 24 2017 (23:18)
Station Tag: Meerut City Junction/MTC added by अबकी कमल खिलेगा*^~/190490

Mar 24 2017 (23:18)
Station Tag: Allahabad Junction/ALD added by अबकी कमल खिलेगा*^~/190490

Posted by: KODAIKANAL Princess of Hills*^~  110 news posts
लखनऊ (24 मार्च): उत्तर प्रदेश की कमान संभालने के बाद से ही मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी फुल एक्शन में हैं। मुख्यमंत्री योगी जहां अधिकारियों के साथ लगातार बैठकें करके सुरक्षा व्यवस्था का जायजा ले रहे हैं और कड़े निर्देंश दे रहे हैं वहीं सूबे में विकास कार्यों का भी जायजा ले रहे हैं।
इसी कड़ी में सीएम योगी ने आज लखनऊ में एक अहम बैठक की और अधिकारियों को राज्य में चल रहे मेट्रो के विकास कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए। वहीं उन्होंने इलाहाबाद, मेरठ, आगरा, गोरखपुर, झांसी में भी मेट्रो चलाने के लिए तेजी से DPR तैयार करने के निर्देश दिए। बताया जा रहा है कि योगी सरकार राज्य अहम जिलों में जल्द से जल्द यातायात व्यवस्था सुधारने और
...
more...
मेट्रो ट्रैक के निर्माण पर जोर दे रही है।

3 posts - Fri Mar 24, 2017 - are hidden. Click to open.

6 posts - Sat Mar 25, 2017 - are hidden. Click to open.

2262 views
Mar 25 2017 (20:19)
KODAIKANAL Princess of Hills*^~   30803 blog posts   3127 correct pred (69% accurate)
Re# 2209744-10            Tags   Past Edits
Chalo wo to ab mil hi jaayega.
Aakhir Agra ne apni saari seats ussi party ko di he jiski government he.

2205 views
Mar 25 2017 (20:19)
©The Dark Lord™~   7060 blog posts
Re# 2209744-11            Tags   Past Edits
Center se approval mil gaya hai?

2179 views
Mar 25 2017 (20:54)
↪ abbas*^~   4084 blog posts   450 correct pred (73% accurate)
Re# 2209744-12            Tags   Past Edits
No. Only By UP Cabinet

2198 views
Mar 25 2017 (20:58)
©The Dark Lord™~   7060 blog posts
Re# 2209744-13            Tags   Past Edits
Jub tak center se approval nahi milta tab tak kaam shuru nahi hota, State Govt. to QAR(quick assessment report) submit kerna padta hai Ministry of Urban Development, GOI k paas tab waha se approval milta hai.

2198 views
Mar 25 2017 (21:00)
↪ abbas*^~   4084 blog posts   450 correct pred (73% accurate)
Re# 2209744-14            Tags   Past Edits
It's not the case now. Lucknow Metro construction was Started Way before getting Centre's Approval.. Later on Centre Approved the project and also Budget was allocated

2437 views
Mar 25 2017 (21:06)
©The Dark Lord™~   7060 blog posts
Re# 2209744-15            Tags   Past Edits
Kya baat karte ho bhai, Central Govt se without approval koi Metro project nahi start hoga, agar consent hi nahi rahega Central Govt ka to 50% share kyu degi? Fund allocation pehle ya baad dono ho sekta hai jo LKO metro k case me hua per Consent jaruri hai Project k shuru hone se pehle.

2436 views
Mar 25 2017 (21:11)
↪ abbas*^~   4084 blog posts   450 correct pred (73% accurate)
Re# 2209744-16            Tags   Past Edits
Bhai I repeat , Centre ki NOD Work start hone ke 1.5 Years ke baad Mili thi.. Also Centre is not Sharing 50% Share in LMRC. There are various Funding Authority.. you can go through Article published that time.

2413 views
Mar 25 2017 (21:19)
©The Dark Lord™~   7060 blog posts
Re# 2209744-17            Tags   Past Edits
Dec. 2013 me GOI ka approval mila and Foundation stone of LKO metro was laid in March 2014. Bina Central Govt. k approval k kaam start nahi hota Sir, fund pehle ya baad me release ho sekte hai.

2391 views
Mar 25 2017 (21:28)
↪ abbas*^~   4084 blog posts   450 correct pred (73% accurate)
Re# 2209744-18            Tags   Past Edits
Sir In Principle Approval aur Main Clearence mein Fark hai... Work Start hone ke baad Officially 2015 main Route ke liye approval mila tha.

2374 views
Mar 25 2017 (21:34)
©The Dark Lord™~   7060 blog posts
Re# 2209744-19            Tags   Past Edits
Wahi to bool raha hu, Consent jaruri hai. Jub tak Consent nahi hoga Center ka kaise aap unse share ki ummid ker sekte hai isliye jisbhi project k liye Central investment ki jarurat hai usme approval lena hi padta hai. agar state govt. bole ki hum pura kharcha khud uthayenge tab kisi prakaar ki aproval ki jarurat nahi.
Mar 20 2017 (09:04)  अब कैथल से मेरठ तक रेल से कर सकेंगे सफर (www.jagran.com)
News Entry# 296891   Blog Entry# 2205890     
   Tags   Past Edits
Mar 22 2017 (08:53)
Station Tag: Karnal/KUN added by ये क्या हो रहा है इंडियन रेलवे में~/1469143

Mar 22 2017 (08:53)
Station Tag: Kaithal/KLE added by ये क्या हो रहा है इंडियन रेलवे में~/1469143

Mar 22 2017 (08:53)
Station Tag: Shamli/SMQL added by ये क्या हो रहा है इंडियन रेलवे में~/1469143

Mar 22 2017 (08:53)
Station Tag: Meerut City Junction/MTC added by ये क्या हो रहा है इंडियन रेलवे में~/1469143

Posted by: ये क्या हो रहा है इंडियन रेलवे में~  538 news posts
जागरण संवाददाता, कैथल : कैथल- करनाल मेरठ वाया शामली लाइन बिछाने के लिए नए तरीके से सर्वे शुरू हो गया है 170 किलोमीटर तक रेलवे लाइन के सर्वे पर करीब 26 करोड रुपये खर्च होना है। इसी साल मई माह तक सर्वे पूरा किया जाना है। इस रेलवे लाइन के शुरू होने से यात्रियों व व्यापारियों को फायदा होगा।
इस रेल मार्ग पर ट्रेन शुरू होने के बाग कैथल से लोग सीधे करनाल, पानीपत यहां तक की मेरठ की यात्रा कर कर सकेंगे। समय की बचत के साथ आर्थिक रूप से भी लोगों को लाभ होगा।
वर्ष
...
more...
2016 के रेल बजट में मेरठ-पानीपत रेलवे लाइन की स्वीकृति तथा 2200 करोड़ रुपये बजट के प्रावधान, कैथल-करनाल, शामली पानीपत नई रेलवे का सर्वेक्षण की बात कही गई थी। इस रेल लाइन परियोजना में कौन कौन से गांव शामिल किए जाएंगे, फिलहाल यह स्पष्ट नहीं है, लेकिन कैथल तक इस रेलवे लाइन का सर्वे शुरू होने से लोगों ने खुशी जाहिर की है।
व‌र्त्तमान में लोगों को करनाल, पानीपत व मेरठ जाने के लिए कुरुक्षेत्र या अंबाला जाना पड़ता है, लेकिन इस रेलवे लाइन के बिछने से लोगों को सीधी रेल यात्रा का लाभ मिल सकेगा। रेल यात्री शिशपाल, संजू व राजीव ने बताया कि रेल सुविधाओं के मामले में कैथल जिला काफी पिछड़ा हुआ है। उनकी मांग है कुरुक्षेत्र से नरवाना तक इस रेल मार्ग का विद्युतीकरण किया जाए। जो भी रेलगाड़ियां दिल्ली से कुरुक्षेत्र रेलवे स्टेशन से होकर गुजरती है, उन्हें कैथल रेलवे स्टेशन से भी जोड़ा जाए, ताकि लोगों को इसका लाभ मिले सके।
इस समय दिल्ली व जयपुर
तक रेलगाड़ी की सेवाएं
कुरुक्षेत्र से जींद रेलवे लाइन पर इस समय डेमू रेलगाड़ी जो कुरुक्षेत्र से जींद, रोहतक होते हुए दिल्ली जाती है। वहीं जयपुर से चंडीगढ़ तक इंटरसिटी रेलगाड़ी की सेवाएं लोगों को मिल रही है। इसके अलावा सभी पैसेंजर गाड़ियां है। कैथल से कुरुक्षेत्र, करनाल, पानीपत, सोनीपत व दिल्ली रेलवे लाइन पर गाड़ी शुरू करने की मांग शहरवासी वर्षो से कर रहे हैं। अभी तक यह मांग पूरी नहीं हुई है। वर्षों पुरानी मांग पूरी न होने के कारण यात्रियों को दिक्कत आ रही है।
शहरवासियों को होगा फायदा :
रेल यात्री कल्याण समिति के चेयरमैन सतपाल गुप्ता व उपप्रधान लाजपत ¨सगला ने कहा कि कैथल करनाल मेरठ वाया शामली रेलवे लाइन का सर्वे पूरा होने के बाद जब रेलवे लाइन बिछने के बाद रेलगाड़ी इस ट्रैक पर दौड़ेगी तो यात्रियों को फायदा होगा। इस समय कुरूक्षेत्र से ट्रेन बदलकर यात्रियों को करनाल, पानीपत व मेरठ तक कामकाज के लिए जाना पड़ता है। काफी यात्री महंगे किराये के साथ बसों में सफर करते हैं। रेल यात्री कल्याण समिति की यह वर्षो पुरानी मांग है। विभाग ने बजट में शामिल कर सर्वे की मंजूरी तो दे दी है। उनकी मांग है कि सर्वे पूरा होने के बादजल्द इस रेलमार्ग पर ट्रेन की सुविधा लोगों को मिले।
सर्वे की मिली है जानकारी
रेलवे स्टेशन मास्टर रणधीर शर्मा ने बताया कि रेलवे बजट में कैथल करनाल मेरठ वाया शामली रेलवे लाइन के सर्वे को मंजूरी देने की बात सुनी थी। पूर्ण जानकारी विभाग के उच्चाधिकारी ही बता सकते हैं।
वर्जन
कैथल-करनाल-मेरठ रेल लाइन के लिए सर्वे चल रहा है। इसके लिए बजट में मंजूरी दी गई थी। मई 2017 तक सर्वे पूरा हो जाएगा।
-अरूण अरोड़ा, डीआरएम उत्तर रेलवे।

1 posts - Tue Mar 21, 2017 - are hidden. Click to open.

1116 views
Mar 22 2017 (08:53)
ये क्या हो रहा है इंडियन रेलवे में~   541 blog posts   455 correct pred (81% accurate)
Re# 2205890-2            Tags   Past Edits
done
प्रदेश में नई सरकार बनने के बाद मेट्रो से पहले रैपिड पर काम होने की उम्मीद बढ़ गई है। ये प्रोजेक्ट मेरठ के लिए अहम हैं और दोनों की ही डीपीआर इस समय प्रदेश सरकार के पास है। लेकिन मेट्रो सपा सरकार का ड्रीम प्रोजेक्ट था, इसलिए रैपिड शहर में पहले आने की उम्मीद बढ़ गई है।
मेरठ में मेट्रो ट्रेन चलाने के लिए सूबे की सपा सरकार गंभीर थी। सीएम अखिलेश यादव का यह ड्रीम प्रोजेक्ट था। यही कारण रहा कि इसकी डीपीआर को मंजूर कर प्रदेश सरकार को भेज दिया गया। पिछले साल 30 जून को तत्कालीन मुख्य सचिव ने इसे हरी झंडी दे दी थी। उसके बाद कैबिनेट को यह जानी थी। वहां से अनुमोदित कर केंद्र सरकार के
...
more...
पास प्रोजेक्ट भेजा जाना था।
जहां तक रैपिड की बात है, नेशनल कैपिटल रीजन ट्रांसपोर्ट कारपोरेशन (एनसीआरटीसी) बोर्ड ने दिल्ली-मेरठ कॉरिडोर की डिटेल्ड प्रोजेक्ट रिपोर्ट को मंजूरी देकर दिल्ली और यूपी सरकार के पास मंजूरी के लिए भेजा है। दोनों राज्यों की मंजूरी के बाद ही आगे का काम शुरू होगा। दो माह पूर्व ये प्रस्ताव भेजे गए थे। अब नई सरकार का गठन होेते ही माना जा रहा है कि इन प्रस्तावों पर फिर मंथन होगा। जिस प्रोजेक्ट में नई सरकार को लाभ दिखाई देगा, उसी को वरीयता दी जाएगी। हालांकि रैपिड पर केंद्र सरकार पहले से ही गंभीर थी।
मेट्रो के 29 स्टेशन
प्रथम कॉरिडोर में 16 स्टेशन होंगे, जिनमें परतापुर, डीएन पॉलीटेक्निक, रिठानी, शताब्दीनगर, संजय वन, ब्रह्मपुरी, बागपत रोड क्रॉसिंग, रेलवे रोड चौराहा, भैसाली, बेगमपुल, एमईएस कालोनी, सोफीपुर, डोरली, गुरुकुल, पल्लवपुरम, मोदीपुरम हैं। द्वितीय कॉरिडोर में 13 स्टेशन होंगे, जिनमें श्रद्धापुरी फेस-2, कंकरखेड़ा, मेरठ कैंट, रजबन बाजार, बेगमपुल, बच्चा पार्क, शाहपीर गेट, हापुड़ अड्डा चौराहा, गांधी आश्रम, मंगलपांडे नगर, तेजगढ़ी, मेडिकल कालेज, जागृति विहार एक्सटेंशन हैं। एक स्टेशन से दूसरे स्टेशन की औसत दूरी प्रथम कॉरिडोर में 1.2 किमी और द्वितीय कॉरिडोर में 1.1 किमी होगी।
रैपिड ट्रेन में ये है खास
6 कोच की ट्रेन में 182 यात्री बैठ सकेंगे। दोनों तरफ होंगे तीन-तीन दरवाजे।
परिचालन की अधिकतम स्पीड 160 किमी प्रति घंटा और औसत स्पीड 100 किमी रहेगी।
आग लगने की दशा में तुरंत सूचना देने की तकनीक से लैस होगी ट्रेन।
ट्रेन के कोच में ऐसा सिस्टम लगा होगा कि अचानक बिजली से संपर्क खत्म होने पर भी 90 मिनट तक वेंटिलेशन की दिक्कत नहीं होगी।
ओवरहेड वायर से बिजली मिलनी बंद हो जाए, तो भी तीन घंटे तक लाइट और उद्घोषणा काम करेगा।
ट्रेन एक सेकेंड में 1.3 मीटर की रफ्तार पकड़ लेगी।
ट्रेन और ट्रैक स्टैंडर्ड गेज (1435 एमएम) की होगी।
Feb 13 2017 (22:24)  यात्रियों काे सर्विस चार्ज की छूट का नहीं होगा फायदा, देना होगा बैंकों का ट्रांजेक्शन चार्ज (www.bhaskar.com)
back to top
New/Special TrainsNR/Northern  -  

News Entry# 293816   Blog Entry# 2163571     
   Tags   Past Edits
Feb 13 2017 (22:24)
Station Tag: Udhampur/UHP added by Subhash/746156

Feb 13 2017 (22:24)
Station Tag: Yamunanagar-Jagadhri/YJUD added by Subhash/746156

Feb 13 2017 (22:24)
Station Tag: Meerut City Junction/MTC added by Subhash/746156

Feb 13 2017 (22:24)
Station Tag: Ghaziabad Junction/GZB added by Subhash/746156

Feb 13 2017 (22:24)
Station Tag: Anand Vihar Terminal/ANVT added by Subhash/746156

Feb 13 2017 (22:24)
Station Tag: Ambala Cantt. Junction/UMB added by Subhash/746156

Feb 13 2017 (22:24)
Train Tag: Shri Mata Vaishno Devi Katra - Anand Vihar SpecialFare Special/04402 added by Subhash/746156

Feb 13 2017 (22:24)
Train Tag: Anand Vihar - Shri Mata Vaishno Devi Katra SpecialFare Special/04401 added by Subhash/746156

Posted by: Subhash  1030 news posts
ग्रीष्मकालकेदौरान उत्तर रेलवे द्वारा आनंद विहार टर्मिनल-श्रीमाता वैष्णो देवी कटड़ा के बीच स्पेशल रेलगाडिय़ों का संचालन किया जाएगा। रेलयात्रियों की सुविधा के लिए रेलगाड़ी संख्या 04401/04402 आनंद विहार टर्मिनल-माता वैष्णो देवी कटड़ा के बीच चलेगी। गाड़ी संख्या 04401 आनंद विहार टर्मिनल-श्रीमाता वैष्णो देवी कटड़ा द्वि-साप्ताहिक एक्सप्रेस स्पेशल आनंद विहार टर्मिनल से दिनांक 3 अप्रैल से 30 जून तक (26 फेरे) प्रत्येक सोमवार और शुक्रवार रात्रि 10.20 बजे प्रस्थान करके अगले दिन सुबह 3.15 पर कैंट रेलवे स्टेशन इसी दिन दोपहर 1 बजे श्रीमाता वैष्णो देवी कटड़ा पहुंचेगी। वापसी दिशा में गाड़ी संख्या 04402 श्रीमाता वैष्णो देवी कटड़ा-आनंद विहार टर्मिनल द्वि-साप्ताहिक एक्‍सप्रेस स्पेशल श्रीमाता वैष्णो देवी कटड़ा से 4 अप्रैल से 1 जुलाई तक (26 फेरे) प्रत्येक मंगलवार और शनिवार रात्रि 11.50 बजे प्रस्थान करके अगले दिन सुबह 9.10 पर कैंट रेलवे स्टेशन और इसी दिन दोपहर 2.05 बजे आनंद विहार टर्मिनल पहुंचेगी। बारह शयनयान, छह सामान्य श्रेणी और दो द्वितीय श्रेणी...
more...
सह सामान-यान वाली यह रेलगाड़ी संख्या मार्ग में गाजियाबाद, मेरठ सिटी, मुजफ्फरनगर, सहारनपुर, यमुनानगर, जगाधरी, अम्बाला कैंट, लुधियाना, जालंधर छावनी, पठानकोट छावनी, जम्मूतवी और उधमपुर स्टेशनों पर दोनों दिशाओं में ठहरेगी।

4208 views
Feb 14 2017 (02:47)
Flight on Wheels aka Tejas Express^~   34270 blog posts   28142 correct pred (78% accurate)
Re# 2163571-1            Tags   Past Edits
Railway also give some cash back like free charge- paytm etc
Dec 31 2016 (01:57)  A swipe won’t get you a ticket here (www.governancenow.com)
back to top
IR AffairsNR/Northern  -  

News Entry# 290135     
   Tags   Past Edits
Dec 31 2016 (1:57AM)
Station Tag: Meerut City Junction/MTC added by Dear Indians atleast respect National Anthem^~/1270085

Posted by: Flight on Wheels aka Tejas Express^~  291 news posts
One day last December, Shyam Kishore got into an argument with a railway clerk at Meerut City station. Kishore, who commutes daily by train between Meerut and Ghaziabad, had decided to renew his monthly pass, which costs Rs 300 at the station counter. But the clerk at the counter refused to accept the Rs 2,000 note from Kishore as he didn’t have change and asked him to tender the exact amount. The talk everywhere is of going cashless, but Shyam Kishore couldn’t have slid his debit card across the counter to end the scrap. Like most unreserved ticket counters in India, the ones at the Meerut station too do not have point of sale (PoS) machines.
With a monthly income of Rs
...
more...
12,000, Kishore prefers to buy a monthly pass which comes out to be cheaper than a regular ticket. Despite his repeated requests, Kishore was asked to leave and let others buy tickets. Kishore then somehow managed to get change of Rs 2,000 and bought his ticket. “I felt as if I won some war,” he chuckled.
In fact, lakhs of daily train commuters who travel in general class compartments may not be able to buy tickets using their cards. This is because, as per railway board data, there are only 76 PoS terminals at 63 locations across India which accept debit and credit cards – out of about 14,000 unreserved ticket terminals and 13,000 computerised reservation terminals. The railways thus doesn’t even meet one percent of the digital demand of the country in allowing sale of tickets through plastic money.
Page#    Showing 1 to 20 of 101 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site