Full Site Search  
Fri Jun 23, 2017 10:50:50 IST
PostPostPost Stn TipPost Stn TipUpload Stn PicUpload Stn PicAdvanced Search
Large Station Board;
Large Station Board;
Large Station Board;
Large Station Board;

GMO/Netaji SC Bose Junction Gomoh (6 PFs)
نیتاجی سبھاش چندر بوس جنکشن گوموہ     नेताजी सुभाष चन्द्र बोस जंक्शन गोमो

Track: Double Electric-Line

Type of Station: Junction
Number of Platforms: 6
Number of Halting Trains: 76
Number of Originating Trains: 7
Number of Terminating Trains: 7
Phone number :-0326-2473188, Netaji Subhash Chandra Bose Junction, Railway Colony, Post Office Gomoh, Pin 828401, Dhanbad, Jharkhand
State: Jharkhand
Elevation: 240 m above sea level
Zone: ECR/East Central
Division: Dhanbad
3 Travel Tips
GMO/Netaji SC Bose Junction Gomoh is in Recent News
Nearby Stations in the News

Rating: 3.4/5 (48 votes)
cleanliness - good (6)
porters/escalators - good (6)
food - good (6)
transportation - good (6)
lodging - average (6)
railfanning - good (6)
sightseeing - average (6)
safety - good (6)

Nearby Stations

BLME/Bholidih 5 km     KARO/Khario P.H. 6 km     TELO/Telo 9 km     MRQ/Matari 10 km     NMG/Nimiaghat 10 km     KNF/Khanudih 11 km     KHRI/Kharkhari 15 km     NPJE/Nichitpur 15 km     BDQ/Budora 16 km     PLJE/Phulwartanr 16 km    

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 44 News Items  next>>
Today (04:17)  500 करोड़ की लागत से गोमो में आरओआरबी (epaper.jagran.com)
back to top
New Facilities/TechnologyECoR/East Coast  -  

News Entry# 306193   Blog Entry# 2329766     
   Tags   Past Edits
Jun 23 2017 (04:17)
Station Tag: Netaji SC Bose Junction Gomoh/GMO added by वड़ोदरा वाराणसी महामना एक्सप्रेस का शुभारंभ कल से😊^~/1421836

Jun 23 2017 (04:17)
Station Tag: Dhanbad Junction/DHN added by वड़ोदरा वाराणसी महामना एक्सप्रेस का शुभारंभ कल से😊^~/1421836

Posted by: वड़ोदरा वाराणसी महामना एक्सप्रेस का शुभारंभ जल्द ही^~  837 news posts
मतारी से तेलो के बीच नई लाइन 1
अतिरिक्त 250 करोड़ की स्वीकृति1गोमो में रेल ओवरब्रिज पहले से ही स्वीकृत है, जिसे रेलवे ने 2016-17 में पिंक बुक में जारी कर दिया है। इसकी लागत लगभग 250 करोड़ है। गुरुवार को हुई बैठक में मतारी से दो अतिरिक्त लाइन निर्माण को भी मंजूरी दी गई। कुल 500 करोड़ रुपये की योजना को स्वीकृति मिली। 1
दौड़ेंगी चंद्रपुरा-रांची की टेनें, मतारी से तेलो के बीच बिछेगी दो अतिरिक्त लाइन
Click
...
more...
here to enlarge image
जागरण संवाददाता, धनबाद : ग्रैंड कॉर्ड पर चलने वाली यात्री टेनों को गोमो में इंजन बदलने की समस्या से मुक्ति मिलने वाली है। रेलवे गोमो में एक ऐसा विकल्प तैयार कर रही है, जिससे धनबाद और गया दोनों ओर से आनेवाली टेनें सीधे तेलो की ओर मुड़ जाएंगी। इस विकल्प के लिए 500 करोड़ रुपये खर्च होंगे, जिसकी स्वीकृति गुरुवार को रेलमंत्री सुरेश प्रभु और रेलवे बोर्ड चेयरमैन की मौजूदगी में हुई बैठक में दी गई। रेलवे के बजट में गोमो में आरओआरबी (रेल ओवर रेल ब्रिज) स्वीकृत था, लेकिन अब चंद्रपुरा-धनबाद रेललाइन बंदी व अन्य दबाव को देखते हुए इसमें व्यापक परिवर्तन किया गया है। यानी गोमो में मौजूदा पटरी के साथ-साथ ओवरब्रिज से भी टेनों का परिचालन होगा। इस पर चलने वाली टेनें मतारी से तेलो की ओर मुड़ जाएंगी।1’>>गया से आनेवाली टेनों का भी सुगम होगा परिचालन1’>>मतारी से तेलो की ओर मुड़ जाएंगी रेलगाड़ियांगोमो में चल रहे रेल ओवर रेल ब्रिज के निर्माण में तेजी लाने का निर्देश रेलवे बोर्ड ने दिया है। इसके साथ ही रद टेनों को वैकल्पिक मार्ग से चलाने व शॉर्ट टर्मिनेट करने से संबंधित आदेश भी मिले हैं।’1आशीष कुमार झा, सीनियर डीसीएमधनबाद-गोमो रूट पर टेनों के बढ़ते दबाव के मद्देनजर मतारी से तेलो के बीच दो नई लाइन बिछाई जाएगी। इससे धनबाद-चंद्रपुरा के बीच कुछ और टेनों का परिचालन हो सकेगा। दोनों लाइन गोमो जंक्शन से अलग तेलो तक जाएगी।गोमो में प्रस्तावित आरओआरबी कुछ इस तरह का हो सकेगा। हालांकि यहां का रेल ओवर रेल ब्रिज यू आकार का होगा। (सांकेतिक तस्वीर)ऐसा होगा रेल ओवर रेल ब्रिज 1मुगलसराय-गया की ओर से आनेवाली टेनों के लिए गोमो जंक्शन से कुछ पहले रेल ओवर रेल ब्रिज का निर्माण होगा। अंग्रेजी के ‘यू’ आकार जैसा बनने वाले ओवरब्रिज पर डाउन लाइन पर चंद्रपुरा व रांची की ओर जानेवाली टेनें मुड़ जाएंगी जबकि अप लाइन में हावड़ा और धनबाद से गोमो होकर चंद्रपुरा की ओर जानेवाली टेनों के लिए गोमो से पहले ओवरब्रिज तैयार होगा जो डाउन लाइन पर निर्मित हो रहे ब्रिज से जुड़ जाएगा, जिससे टेनें तेलो की ओर मुड़ जाएंगी। 1रेल से संबंधित खबरें 1 061

310 views
Today (05:01)
Avada Kedarva   220 blog posts
Re# 2329766-1            Tags   Past Edits
ये कॉमन सेंस वाला काम अगर पहले ही कर लेते तो इतनी दिक्कत नही आती ।
खैर अछि बात है कि पब्लिक प्रेशर से ही सही पर रेलवे सही रास्ते पर तो जा रही है ।
Jun 14 2017 (18:39)  कल से नए समय पर चलेंगी मौर्य, एलेप्पी, शताब्दी और शक्तिपुंज एक्स, बैजनाथ धाम के समय में होगा परिवर्तन (m.bhaskar.com)
back to top
New Facilities/TechnologyECR/East Central  -  

News Entry# 305317     
   Tags   Past Edits
Jun 14 2017 (18:39)
Station Tag: Dhanbad Junction/DHN added by Miss You Dad*^~/567740

Jun 14 2017 (18:39)
Station Tag: Netaji SC Bose Junction Gomoh/GMO added by Miss You Dad*^~/567740

Jun 14 2017 (18:39)
Station Tag: Chandrapura Junction/CRP added by Miss You Dad*^~/567740

Jun 14 2017 (18:39)
Train Tag: Alappuzha - Dhanbad (Bokaro) Express/13352 added by Miss You Dad*^~/567740

Jun 14 2017 (18:39)
Train Tag: Dhanbad - Alappuzha Express/13351 added by Miss You Dad*^~/567740

Jun 14 2017 (18:39)
Train Tag: Ranchi - Howrah Shatabdi Express/12020 added by Miss You Dad*^~/567740

Jun 14 2017 (18:39)
Train Tag: Howrah - Ranchi Shatabdi Express/12019 added by Miss You Dad*^~/567740

Jun 14 2017 (18:39)
Train Tag: Maurya Express/15028 added by Miss You Dad*^~/567740

Jun 14 2017 (18:39)
Train Tag: Maurya Express/15027 added by Miss You Dad*^~/567740

Jun 14 2017 (18:39)
Train Tag: Shaktipunj Express/11448 added by Miss You Dad*^~/567740

Jun 14 2017 (18:39)
Train Tag: Shaktipunj Express/11448 added by Miss You Dad*^~/567740

Posted by: Miss You Dad*^~  8 news posts
मासस ने डीसी रेल लाइन बंद करने का किया विरोध
अधिवक्ता ने हाईकोर्ट को अवगत कराया रेल लाइन बंद होने का मामला
ट्रेन बंद होने से कतरासगढ़ कुसुंडा रेल थाने का अस्तित्व खतरे में
डीसीलाइन बंद होने के बाद चार ट्रेनों को वाया गोमो होकर चलाए जाने के बाद इन ट्रेनों की नई समय सारिणी बनाई गई है। कल से ये
...
more...
चारों ट्रेन नए समय पर चला करेंगी। नई समय सारिणी के अनुसार हावड़ा-रांची शताब्दी एक्सप्रेस धनबाद में सुबह 9:21 पर आएगी और 9:26 पर खुलेगी। पहले भी इसका समय वही था, लेकिन रांची से हावड़ा जाने के क्रम में शताब्दी एक्‍सप्रेस का समय 5:48 बजे धनबाद आएगी और 5:53 बजे खुलेगी। वहीं गोरखपुर-हटिया मौर्य एक्‍सप्रेस धनबाद में 2:35 में आगमन तथा 2:50 में प्रस्थान करेगी। लेकिन हटिया से गोरखपुर जाने के क्रम में इसका समय 9:55 आगमन और 10:10 बजे प्रस्थान का होगा।
धनबाद एलेप्पी एक्सप्रेस अब सुबह 10:30 बजे धनबाद से खुलेगी। जबकि एलेप्पी से धनबाद के क्रम में 1:30 बजे पहुंचेगी। हावड़ा जबलपुर शक्तिपुंज एक्सप्रेस के समय में परिवर्तन नहीं हुआ है पर जबलपुर से हावड़ा जाने के क्रम में रात के 11:20 बजे धनबाद में आगमन और 11:30 में प्रस्थान करेगी। वहीं गोमो में एक ही समय में शताब्दी, जनशताब्दी तथा बैजनाथधाम एक्सप्रेस होने से परेशानी को देखते हुए रेलवे इसमें समय परिवर्तन करेगी। इस पर मंगलवार को अधिकारियों ने मंथन किया और माना कि इसमें परेशानी हो सकती है। संभावना है कि दो दिनों के अंदर समय में परिवर्तन हो जाए।
धनबाद| सार्क्सवादीसमन्वय समिति की बैठक अध्यक्ष हरि प्रसाद पप्पू की अध्यक्षता में मंगलवार को पुराना बाजार स्थित टेंपल रोड में हुई। बैठक में धनबाद-चंद्रपुरा रेल मार्ग को बंद करने का विरोध किया गया। वक्ताओं ने कहा कि केन्द्र की भाजपा सरकार अपने तीन साल के कार्यकाल में लोगों के सर के ऊपर से छत छिन्ने में लगी हुई है। गरीबों, किसानों की जमीन हड़प पूंजीपतियों को देना सरकार में बैठे लोगों के लिए मनोरंजन की बात हो गई है। सरकार को सिर्फ मुनाफे की राजनीति समझ में आती है। उन्होंने कहा कि डीसी रेल लाइन को बंद करने की बात लंबे समय से हो रही है। ऐसे में सरकार को इसे बंद करने से पहले वैकल्पिक रूट तैयार कर लेना चाहिए था। उन्होंने कहा कि सरकार को सिर्फ डीसी रेल लाइन के नीचे का कोयला नजर रहा है। रेल मार्ग को बंद करने से जनता को होने वाली परेशानियों से इनका कोई सरोकार नहीं है। बैठक में राणा चटर्जी, निताई महतो, बबलू महतो, सुभाष चटर्जी, सुमित दे, विश्वजीत राय, भूषण महतो, हरिलाल चौहान आदि मौजूद थे।
कतरासगढ़ रेल थाना बंद हो जाएगा। लेकिन कोडरमा-हजारीबाग रेल मार्ग पर नया थाना खुल सकता है। इस संबंध में धनबाद रेल एसपी मुख्यालय को रिपोर्ट भेज सकते हैं। हाल ही में कोडरमा-हजारीबाग रेल मार्ग पर ट्रेन सुविधा बहाल की गई है। उक्त रेल मार्ग भी धनबाद रेल एसपी के अधीन है। कतरासगढ़ और कुसुंडा रेल थाना बंद होने से थाने में पदस्थापित पुलिस कर्मियों को दूसरे थानों में समायोजित किया जाएगा।
कतरासगढ़ थाना में वर्तमान में सूरज देव सिंह और कुसुंडा के कुमुद झा थानेदार हैं। थाना के बंद होने की स्थिति में थाने के दोनों ही अंतिम थानेदार होंगे। हालांकि कतरासगढ़ रेल थाना प्रभारी सूरज देव सिंह कहते हैं कि रेल लाइन बंद करने का निर्णय सरकार है। इस पर वह कुछ नहीं कहेंगे, लेकिन रेल लाइन बंद होने का दुख उन्हें जरूर होगा। उन्होंने कहा कि पता नहीं किसी भाग्य से मेरी पोस्टिंग हुई, कि मुझे यह देखना पड़ा। स्थानीय लोगों के सहयोग को वे हमेशा याद रखेंगें।
हावड़ा-रांची शताब्दी एक्सप्रेस- आगमन 9:52 प्रस्थान 10:12
रांची-हावड़ा शताब्दी एक्सप्रेस- आगमन 16:57 प्रस्थान 17:17 बजे
गोरखपुर-हटिया मौर्य एक्‍सप्रेस- आगमन 03:15 प्रस्थान 03:55 बजे
हटिया-गोरखपुर मौर्य एक्सप्रेस- आगमन 20:48 प्रस्थान 21:08 बजे
धनबाद एलेप्पी एक्सप्रेस आगमन 11:00 प्रस्थान 11:20 बजे
एलेप्पी-धनबाद एक्सप्रेस आगमन 12:25 प्रस्थान 12:45 बजे
हावड़ा-जबलपुर शक्तिपुंज एक्सप्रेस आगमन 18:05 प्रस्थान 18:25 बजे
जबलपुर-हावड़ा शक्तिपुंज एक्सप्रेस आगमन 22:20 प्रस्थान 22:40 बजे
धनबाद | कतरासके रहने वाले अधिवक्ता विनय सिन्हा ने धनबाद-चंद्रपुरा रेलवे लाइन बंद होने के मामले को हाईकोर्ट को अवगत कराया है। उन्होंने अखबार में रेलवे लाइन बंद होने संबंधित प्रकाशित खबर की कटिंग हाईकोर्ट के माननीय मुख्य न्यायाधीश डीएन पटेल आैर न्यायाधीश बीबीएम मूर्ति को सौंपी है। बुधवार को माननीय न्यायाधीश इस मामले में सुनवाई करेगे। अधिवक्ता विनय सिन्हा कतरास हटिया बाजार के रहने वाले हैं और रांची हाईकोर्ट में प्रैक्टिस करते हैं।
Jun 13 2017 (10:23)  New rail line will be made parallel to Dhanabad-Gomoh rail line (m.livehindustan.com)
back to top
Commentary/Human InterestECR/East Central  -  

News Entry# 305172   Blog Entry# 2318211     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: siddarthaime330  2 news posts
According to the proposal for shifting Dhanbad-Chandrapura rail line, it will run parallel to Dhanbad-Gomoh rail line. According to the feasibility report of rights, the new rail line will start from Dhanbad railway station's five-six number platform only. After moving forward from the new market, the railway line will be laid on the railway ground. This thing will run parallel to the present Dhanbad-Gomoh rail line.
After shifting the fire affected DC line, Dhanabad-Gomoh will be made parallel to the railway line. According to the RITES report, the new line will go to Chandpura via Ghanabad-Bhuli-Tetuluri-Nichtipur-Matsari Khirio Halt-Telo.
After
...
more...
running
parallel to the Dhanbad-Gomoh rail line (Grand Cord) till the train line Matari, the proposed railway line will turn from left to right and leave the Grand Cord and Khiro Halt of the Mahuda-Gomo section (South Eastern Railway) Till the oil Will go.
A new railway line between Matrai and Telo will be set between the 6 km new railway line
between Telo. Never before has the rail line passed through this six kilometer patch. The proposed railway line will provide train facilities to the population of this region.
Dhanbad-Chandrapura (DC) shifting the rail line will increase the distance of Chandrapura from Dhanbad. According to the route that has been fixed for shifting, it is necessary to cover a distance of 43 Kms from Dhanbad to Chandrapura. 34 to go to Chandrapura from the present line. 12 km distance is required.

1057 views
Jun 13 2017 (11:01)
Raja lare Raja se Praja jaye jaan se~   1476 blog posts   1 correct pred (100% accurate)
Re# 2318211-1            Tags   Past Edits
ECR always has deaf ear to viable proposals. According to the RITES report, the new line will go to Chandpura via Ghanabad-Bhuli-Tetuluri-Nichtipur-Matsari Khirio Halt-Telo.
this means GMO-MHQ-TLE & MHQ-Bhaga-Bhowrah-Sudamdih-BJE Lines are also going to be closed. Now in today's paper many trains services are cancelled till new DHN-CRP line is made.

1010 views
Jun 13 2017 (11:14)
Raja lare Raja se Praja jaye jaan se~   1476 blog posts   1 correct pred (100% accurate)
Re# 2318211-2            Tags   Past Edits
This is going to be done.

916 views
Jun 13 2017 (12:04)
siddarthaime330   3 blog posts
Re# 2318211-3            Tags   Past Edits
You sure?

610 views
Jun 13 2017 (17:28)
Raja lare Raja se Praja jaye jaan se~   1476 blog posts   1 correct pred (100% accurate)
Re# 2318211-4            Tags   Past Edits
yes. DHN se Matari tak line aise jayegi
Jun 12 2017 (21:28)  15 जून से बंद हो जाएगी यह रेल लाइन, अब हमेशा के लिए नहीं चलेगी ये 7 ट्रेंनें (m.bhaskar.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsECR/East Central  -  

News Entry# 305122   Blog Entry# 2317792     
   Tags   Past Edits
Jun 12 2017 (21:28)
Station Tag: Howrah Junction/HWH added by HA1 Naani Ka sher~/1095213

Jun 12 2017 (21:28)
Station Tag: Netaji SC Bose Junction Gomoh/GMO added by HA1 Naani Ka sher~/1095213

Jun 12 2017 (21:28)
Station Tag: Chandrapura Junction/CRP added by HA1 Naani Ka sher~/1095213

Jun 12 2017 (21:28)
Station Tag: Dhanbad Junction/DHN added by HA1 Naani Ka sher~/1095213

Jun 12 2017 (21:28)
Train Tag: Raxaul - Hyderabad Deccan Express/17006 added by HA1 Naani Ka sher~/1095213

Jun 12 2017 (21:28)
Train Tag: Hyderabad Deccan - Raxaul Express/17005 added by HA1 Naani Ka sher~/1095213

Jun 12 2017 (21:28)
Train Tag: Darbhanga - Secunderabad Express/17008 added by HA1 Naani Ka sher~/1095213

Jun 12 2017 (21:28)
Train Tag: Secunderabad - Darbhanga Express/17007 added by HA1 Naani Ka sher~/1095213

Posted by: HA1 Naani Ka sher~  119 news posts
नयी दिल्ली/रांची। भूमिगत कोयला खदानों में वर्षों से धधक रही आग के मद्देनजर रेलवे ने झारखंड में धनबाद से चंद्रपुरा के बीच रेललाइन 15 जून से बंद करने फैसला किया है। इससे रेलवे को करीब 2750 करोड़ रुपये के राजस्व की हानि होने का अनुमान है। 14 ताप बिजली घरों को काेयला आपूर्ति प्रभावित होगी तथा करीब सवा करोड़ यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ेगा। सवा करोड़ यात्री करते हैं सफर...

- रेलवे बोर्ड में सदस्य (यातायात) मोहम्मद जमशेद ने सोमवार को प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि कोयला सचिव के
...
more...
आठ जून के पत्र और खान सुरक्षा महानिदेशक के परामर्श पर रेलवे ने धनबाद से चंद्रपुरा के बीच करीब 35 किलोमीटर के रेलमार्ग पर यात्री एवं माल परिवहन को 15 जून से पूरी तरह से बंद करने का निर्णय लिया है।
- जमशेद ने बताया कि इस मार्ग पर हावड़ा - रांची शताब्दी एक्सप्रेस सहित 20 जोड़ा मेल/एक्सप्रेस तथा छह जोड़ी पैसेंजर गाड़ियां चलतीं हैं।

- इन गाड़ियों में सालाना करीब सवा करोड़ यात्री सफर करते हैं। रेलमार्ग बंद होने के कारण सात मेल एक्सप्रेस को परिवर्तित मार्ग से चलाया जायेगा, जबकि 13 मेल एक्सप्रेस और छहों पैसेंजर गाड़ियां रद्द कर दी जायेंगी।

- इससे रेलवे को यात्री परिवहन के मद में 250 करोड़ रुपये का नुकसान होगा। इसी प्रकार से माल परिवहन में करीब ढाई करोड़ टन लदान कम होगा जिससे 2500 करोड़ रुपयेे का नुकसान होने का अनुमान है।

- उन्होंने बताया कि कोयला कंपनियों एवं कोयला सचिव से रेलवे अधिकारियों की बातचीत चल रही है। रेलवे की कोशिश है कि कोल लोडिंग साइड को बदलकर करीब डेढ़ हजार करोड़ रुपय का राजस्व बचाया जा सके।

- उम्मीद है कि कोयला ढुलाई में 1.5 करोड़ टन कोयला अन्यत्र से उठाया जा सकेगा और इस प्रकार से माल ढुलाई में घाटा एक हजार करोड़ रूपये तक सीमित किया जा सकेगा।

जिन गाड़ियों को रद्द किया गया है, वे हैं -
1.दरभंगा/रक्सौल- सिकंदराबाद एक्सप्रेस
2. रांची- भागलपुर- वनांचल एक्सप्रेस
3. हावड़ा- भोपाल एक्सप्रेस
4. अजमेर- हावड़ा/ सियालदह एक्सप्रेस
5.धनबाद-भुवनेश्वर एक्सप्रेस
6.मालदा-सूरत एक्सप्रेस
7.कामाख्या-धनबाद एक्सप्रेस

जिन सात ट्रेनों को अन्य मार्ग से चलाने का फैसला हुआ है उनमें हैं -

1. हावड़ा- रांची शताब्दी एक्सप्रेस वाया गोमो
2. हावड़ा- जबलपुर शक्तिकुंज एक्सप्रेस वाया गोमो
3. रांची-गोरखपुर मौर्य एक्सप्रेस वाया गोमो
4. एलेप्पी एक्सप्रेस वाया गोमो
5. धनबाद- रांची इंटरसिटी- वाया आसनसोल
6. रांची- दुमका इंटरसिटी वाया आसनसोल
7. रांची- पटना पाटलिपुत्र एक्सप्रेस वाया आसनसोल

- उल्लेखनीय है कि यहां के कोयले से पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के पावर हाउस चलते हैं। पश्चिम बंगाल के पावर हाउस भी झरिया के कोयले पर ही निर्भर हैं।

- ऐसे में देश के कई राज्यों में बिजली संकट पैदा होने का भी खतरा है। वहीं रविवार को इस रेलमार्ग पर पड़ने वाले शहर कतरास में व्यापारियों ने विरोध में अपनी दुकानें बंद रखीं।

धनबाद-चंद्रपुरा मार्ग पर चलेंगी बसें
- धनबाद-चंद्रपुरा रूट पर ट्रेनों का परिचालन बंद होने से लोगों को हो रही परेशानियां के मद्देनजर अब इस मार्ग पर बसें चलाई जाएंगी।

- धनबाद के सांसद पशुपति नाथ सिंह के साथ रेल अधिकारियों के बीच हुई समीक्षा बैठक में धनबाद से चंद्रपुरा और फुसरो से धनबाद के लिए पांच-पांच बसों का परिचालन शुरू करने का निर्णय लिया गया है।
- धनबाद-चंद्रपुरा रेल लाइन को बंद करने की घोषणा के बाद प्रभावित होने वाले लोगों को तत्काल सुविधा देने के उद्देश्य से यह निर्णय लिया गया है। प्रतिदिन सुबह पांच बजे से दोनों ओर से प्रत्येक घंटे बसें चलायी जायेंगी।

- बैठक में उपस्थित जिला परिवहन पदाधिकारी (डीटीओ) को इस संबंध में आवश्यक दिशा- निर्देश दिये गये हैं। सांसद ने बस की संख्या बढ़ाये जाने की मांग की है।

- ट्रेनों से अबतक सफर करते आ रहे यात्रियों का आंकड़ा रेलवे की और से उपलब्ध करा दिया गया है।


आगे की स्लाइड्स पर इंफोग्राफिक्स के जरिए जानिए कैसा है इस रेललाइन का हाल :

2067 views
Jun 12 2017 (22:05)
BJ~   2207 blog posts
Re# 2317792-1            Tags   Past Edits
kaun si buse chalai jayengi? Jharkhand STate Road Transport Coriporation ka gathan hua aaj tak? ek bhi intercity buses chali hain JH me Govt ki?

2045 views
Jun 12 2017 (22:13)
LHBfy Himgiri SF~   696 blog posts   23 correct pred (76% accurate)
Re# 2317792-2            Tags   Past Edits
WB is very good in running buses SBSTC NBSTC etc buses are fast and secure...have few stops same as volvo buses..jharkhand should start the same

2038 views
Jun 12 2017 (22:14)
Divert ShalimarGorakhpur Express via BKSC*^~   5024 blog posts   4626 correct pred (76% accurate)
Re# 2317792-3            Tags   Past Edits
Local bus connectivity is very poor in Jharkhand. All private buses only with high fare.

2036 views
Jun 12 2017 (22:20)
LHBfy Himgiri SF~   696 blog posts   23 correct pred (76% accurate)
Re# 2317792-4            Tags   Past Edits
they chrg like nything..i think starting Jharkhand state transport will curb this menance
Jun 11 2017 (10:47)  অগ্নিপথ এড়িয়ে ট্রেন অন্য লাইনে (www.anandabazar.com)
back to top
IR AffairsECR/East Central  -  

News Entry# 305015     
   Tags   Past Edits
Jun 11 2017 (10:47)
Station Tag: Netaji SC Bose Junction Gomoh/GMO added by Arnab 884604/1711093

Jun 11 2017 (10:47)
Station Tag: Chandrapura Junction/CRP added by Arnab 884604/1711093

Jun 11 2017 (10:47)
Station Tag: Dhanbad Junction/DHN added by Arnab 884604/1711093

Posted by: Avada Kedarva  4 news posts
নীচে খনির আগুন। উপরে বিপদ মাথায় নিয়ে ছুটছে রেলগাড়ি।
সেই খনির আগুন বিপজ্জনক হয়ে ওঠায় ধানবাদ-চন্দ্রপুরা লাইনে ট্রেন চলাচল বন্ধ করে দেওয়া হবে কি না, তা নিয়ে দীর্ঘদিন ধরে টালবাহানা চলছিল। এ বার খোদ প্রধানমন্ত্রী নরেন্দ্র মোদীর হস্তক্ষেপে তার নিষ্পত্তি হল। যাত্রীদের সুরক্ষার কথা ভেবেই অবশেষে ওই লাইনে ট্রেন চলাচল বন্ধ করে দেওয়ার নির্দেশ দিয়েছে প্রধানমন্ত্রীর সচিবালয়।
ঠিক হয়েছে, ওই লাইনের প্রায় ২৬ জোড়া মেল ও এক্সপ্রেস ট্রেনকে আপাতত গোমো দিয়ে ঘুরিয়ে নিয়ে যাওয়া হবে। সে-ক্ষেত্রে ১৩ কিলোমিটার যাত্রাপথ বেড়ে যাবে। বিকল্প লাইন পাতার পরে ওই সব ট্রেন চালানো হবে সেই পথে।
প্রশাসনিক
...
more...
সূত্রের খবর, ওই এলাকায় লাইনের তলায় থাকা কয়লা খনিগুলিতে আগুন জ্বলছে প্রায় দেড় দশক ধরে। আগুনের তাপে উপরের মাটি ক্রমশ ঝুরঝুরে হয়ে পড়ছে। যার জেরে মাঝেমধ্যেই রেললাইনের তলার মাটি বসে ট্রেন চলাচলে বিঘ্ন ঘটছিল। বুধবারেই ওই এলাকার ঝরিয়া-ফুলারিবাগে হঠাৎ ধস নেমে বাবা-ছেলে চাপা পড়ে যান।পরিস্থিতি ক্রমেই বিপজ্জনক হয়ে উঠতে থাকায় ডিরেক্টর জেনারেল অব মাইনিং সেফটি (ডিজিএমএস) সম্প্রতি চূড়ান্ত সতর্কতা জারি করেন। তার পরেই সব পক্ষ নড়েচড়ে বসে। বিষয়টি গড়ায় প্রধানমন্ত্রী পর্যন্ত। প্রধানমন্ত্রীর সচিবালয়ে সব পক্ষকে নিয়ে বৈঠক বসে। সেই বৈঠকেই জানানো হয়, ধানবাদ থেকে চন্দ্রপুরা পর্যন্ত ৩৪ কিলোমিটার লাইনে ট্রেন চলাচল বন্ধ করে দেওয়া হবে।
রেল বোর্ডের একটি সূত্র জানাচ্ছে, ওই বৈঠকে রেল বোর্ড, খনি মন্ত্রক এবং ভারত কোকিং কোল লিমিটেড বা বিসিসিএলের সদস্যদের নিয়ে একটি কমিটি গড়া হয়েছে। প্রধানমন্ত্রীর প্রধান সচিব নৃপেন্দ্র মিত্র নির্দেশ দিয়েছেন, কমিটি ৫ জুনের মধ্যে একটি রিপোর্ট দেবে। কমিটিকে বলতে হবে, ওই লাইনের বিকল্প হিসেবে কোথায় লাইন পাতা হবে। কোন জায়গা দিয়ে ট্রেন গেলে সময় বেশি লাগবে না। তার ভিত্তিতেই নতুন লাইনের রূপরেখা চূড়ান্ত হবে।
বৈঠকে প্রশ্ন ওঠে, ১৫ বছর ধরে বিসিসিএল ওই আগুন নেভানোর জন্য কী করেছে? সুরক্ষার জন্যই বা কী ভেবেছে তারা? আগুন নেভানো যাচ্ছে না দেখেও এত দিন ধরে ওই সব খনি থেকে কয়লা তোলা হচ্ছিল কী ভাবে? বিসিসিএল-কর্তৃপক্ষ অবশ্য এই সব প্রশ্নের তেমন কোনও স্পষ্ট উত্তর দিতে পারেননি।
প্রশ্ন আরও আছে। প্রথমত, আগুন আর সম্ভাব্য ধসের বিপদ থেকে যাত্রীদের বাঁচাতে ওই লাইনের ট্রেন না-হয় গোমো দিয়ে ঘুরিয়ে দেওয়া হল। কিন্তু ধানবাদ-গোমোর ওই লাইন ২৬ জোড়া মেল-এক্সপ্রেসের বাড়তি চাপ নিতে পারবে তো? নাকি এক বিপদ থেকে বাঁচতে গিয়ে যাত্রীরা অন্য বিপত্তির মুখে পড়বেন? দ্বিতীয়ত, ধানবাদ-চন্দ্রপুরা রুটে ট্রেন বন্ধ হয়ে গেলে ওই লাইনে কমবেশি ১৫টি স্টেশনের যাত্রীদের যাতায়াতের কী বন্দোবস্ত হবে?
এই সব প্রশ্নের জবাব মিলছে না।
Page#    Showing 1 to 20 of 44 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.