Full Site Search  
Sat Jun 24, 2017 21:11:56 IST
PostPostPost Stn TipPost Stn TipUpload Stn PicUpload Stn PicAdvanced Search
Large Station Board;
Large Station Board;
Large Station Board;

PHK/Punarakh (3 PFs)
پنركھ     पुनारख

Track: Double Electric-Line

Type of Station: Regular
Number of Platforms: 3
Number of Halting Trains: 34
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
NH 31, Punarakh
State: Bihar
Elevation: 51 m above sea level
Zone: ECR/East Central
Division: Danapur
1 Travel Tips
No Recent News for PHK/Punarakh
Nearby Stations in the News

Rating: /5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
porters/escalators - n/a (0)
food - n/a (0)
transportation - n/a (0)
lodging - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)

Nearby Stations

LEB/Lemuabad 2 km     MMKB/Memrakhabad 3 km     RLE/Railey Halt 5 km     KNHP/Kanhaipur 5 km     MOR/Mor 8 km     SHT/Sahari Halt 8 km     BARH/Barh 10 km     BHAD/Barhapur Halt 11 km     SIVN/Sivnar Halt 13 km     MKA/Mokama 16 km    

Station News

Page#    Showing 1 to 1 of 1 News Items  
Jan 10 2017 (21:56)  रेलवे की लापरवाही उजागर, 4 घंटे बाद उठा शव (epaper.livehindustan.com)
back to top
Crime/AccidentsECR/East Central  -  

News Entry# 290951     
   Tags   Past Edits
Jan 10 2017 (21:56)
Station Tag: Punarakh/PHK added by विश्व नाथ*^/31233

Jan 10 2017 (21:56)
Station Tag: Mokama/MKA added by विश्व नाथ*^/31233

Posted by: विश्व नाथ*  3552 news posts
पंडारक रेलवे स्टेशन के पूर्वी आउटर के पास हुए रेल हादसे के बाद रेलवे प्रशासन की लापरवाही उजागर हुई। तीनों क्षत-विक्षत शवों के ऊपर से ट्रेनें गुजरती रहीं और हजारों लोग तमाशबीन बने रहे। घंटों शव अमानवीय स्थिति में पड़ा रहा। रेलवे और पुलिसकर्मियों ने चार घंटे के बाद प्रक्रिया शुरू की, तब कहीं जाकर तीनों शव को उठाया गया।चंपा देवी को आसनसोल स्थित मायके जाने के लिए दानापुर-टाटा सुपर एक्सप्रेस ट्रेन पर चढ़ना था। रवि को गोद में लेकर चंपा देवी बेटी किरण का हाथ पकड़कर पटरी पार कर रही थी, इसी बीच डाउन लाइन पर पीछे से आ रही साहेबगंज इंटरसिटी तीनों को कुचलते हुए निकल गई। पलभर में तीनों के शरीर कट कर पटरी पर बिखर गए। घटना के बाद वहां अफरातफरी मच गई। पत्नी और दोनों बच्चों की मौत का खौफनाक मंजर देखकर पति राजकुमार सिंह का रो-रोकर बुरा हाल था। घटना का कारण महिला को ट्रेन...
more...
की आने की आवाज पता नहीं चलना बताया जा रहा है। चंद लम्हों में खुशियों को निगल गई मौत:मासूम किरण अपने ननिहाल जाने की खुशी में मग्न होकर मां का हाथ थामे जा रही थी, वहीं चंपा देवी भी अपने मायके जाने की खुशी में थी। पलभर में सबकुछ बदल गया। तीनों मकर संक्रांति पर्व मनाने के लिए घर से निकले थे, लेकिन दुर्भाग्य से सबकुछ बर्बाद हो गया। घटना के बाद लोगों ने ट्रेनों का परिचालन मुआवजे की मांग को लेकर करीब एक घंटे तक बाधित कर दिया। पंडारक अंचलाधिकारी ने मौके पर लोगों को समझाया और परिजनों को पारिवारिक लाभ योजना के तहत 20000 रुपए का चेक दिया। वहीं जिला प्रशासन ने 4-4 लाख रुपए देने की घोषणा की है। वहीं मोकामा आरपीएफ इंस्पेक्टर पंकज कुमार ने स्टेशन के पूर्वी छोर पर बने अंडरपास जल्द चालू करने और ओवरब्रिज निर्माण के लिए विभाग से सिफारिश का आश्वासन दिया। मोकामा जीआरपी थानाध्यक्ष संजय कुमार सिंह ने बताया कि तीनों शवों का पोस्टमार्टम अनुमंडल अस्पताल में कराकर परिजनों को सौंप दिया गया। अंडरपास में कीचड़ होने से ट्रैक पार करते हैं लोग : पंडारक स्टेशन के पूर्वी छोर पर बने अंडरपास में कीचड़ जमा हुआ है। इसलिए लोग ट्रैक पार करते हैं। पंडारक एनएच 31 से टाल के भोखपुरा, ममरखाबाद, गोपकिता, कोंदी आदि कई गांवों को जोड़ने वाली सड़क इसी अंडरपास से होकर जाती है। रेल एसपी जितेंद्र मिश्र ने घटनास्थल पर जाकर मामले की जांच की और कहा कि वहां अंडर पास बना हुआ है। अंडरपास में कीचड़ होने के कारण लोग रेलवे ट्रैक से होकर जाते हैं। अंडरपास में कीचड़ क्यों रहती है इस बाबत अधिकारियों से जानकारी मांगी गई है।
’ पंडारक रेलवे स्टेशन के पूर्वी आउटर पर दर्दनाक घटना’ खौफनाक मंजर देखकर पति राजकुमार का रो-रोकर बुरा हाल
रेलवे स्टेशन के पूर्वी आउटर के पास हादसे के बाद जुटे लोग।
हजार का चेक परिजनों को दिया गया
चार लाख रुपए देने की घोषणा प्रशासन ने की
Page#    Showing 1 to 1 of 1 News Items  

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.