Full Site Search  
Thu Jun 29, 2017 18:09:32 IST
PostPostPost Stn TipPost Stn TipUpload Stn PicUpload Stn PicAdvanced Search
Large Station Board;
Large Station Board;
Large Station Board;
Large Station Board;

RNC/Ranchi Junction (6 PFs)
রাঁচি জংশন     राँची जंक्शन

Track: Double Electric-Line

Type of Station: Junction
Number of Platforms: 6
Number of Halting Trains: 28
Number of Originating Trains: 20
Number of Terminating Trains: 20
Ranchi, Jharkhand 834001
State: Jharkhand
Elevation: 633 m above sea level
Zone: SER/South Eastern
Division: Ranchi
6 Travel Tips
RNC/Ranchi Junction is in Recent News
Nearby Stations in the News

Rating: 3.8/5 (144 votes)
cleanliness - good (19)
porters/escalators - good (18)
food - good (18)
transportation - good (19)
lodging - good (17)
railfanning - good (17)
sightseeing - good (18)
safety - good (18)

Nearby Stations

AOR/Argora 2 km     NKM/Namkom 4 km     HTE/Hatia 7 km     TIS/Tatisilwai 10 km     PIS/Piska 13 km     BLRG/Balasiring 15 km     GAG/Gangaghat 18 km     MESRA/Mesra 19 km     ITKY/Itki 22 km     LOM/Lodhma 23 km    

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 291 News Items  next>>
Yesterday (08:17)  रेलवे के नए डीआरएम वीके गुप्ता ने लिया प्रभार (epaper.jagran.com)
back to top
IR AffairsSER/South Eastern  -  

News Entry# 306742     
   Tags   Past Edits
Jun 28 2017 (08:17)
Station Tag: Ranchi Junction/RNC added by जय जगन्नाथ🙏^~/1421836

Posted by: Rail2Leh😍👏^~  923 news posts
जासं रांची : नए डीआरएम विजय कुमार गुप्ता ने मंगलवार को पद्भार ग्रहण किया। पद्भार ग्रहण करते हुए कहा कि रेलवे यात्रियों की सुरक्षा और सुविधा पहली प्राथमिकता है। सुबह दस बजे एसके अग्रवाल ने अपना प्रभार नए डीआरएम को सौंपा। इस अवसर पर कई कर्मी मौजूद थे।जासं रांची : नए डीआरएम विजय कुमार गुप्ता ने मंगलवार को पद्भार ग्रहण किया। पद्भार ग्रहण करते हुए कहा कि रेलवे यात्रियों की सुरक्षा और सुविधा पहली प्राथमिकता है। सुबह दस बजे एसके अग्रवाल ने अपना प्रभार नए डीआरएम को सौंपा। इस अवसर पर कई कर्मी मौजूद थे।
Jun 26 2017 (07:56)  डीआरएम को मलाल, नहीं बढ़ा सके प्लेटफॉर्म की ऊंचाई (epaper.jagran.com)
back to top
IR AffairsSER/South Eastern  -  

News Entry# 306491     
   Tags   Past Edits
Jun 26 2017 (07:56)
Station Tag: Ranchi Junction/RNC added by जय जगन्नाथ🙏^~/1421836

Posted by: Rail2Leh😍👏^~  923 news posts
जागरण संवाददाता, रांची : रांची रेलमंडल के डीआरएम एसके अग्रवाल का स्थानांतरण आदेश जारी हो चुका है। उनके स्थान पर ईस्टर्न रेलवे के वीके गुप्ता पदभार ग्रहण करेंगे। एसके अग्रवाल रांची मंडल के 11 वें डीआरएम हैं। उन्होंने डीआरएम कार्यालय हटिया में दैनिक जागरण के संवाददाता आशीष तिग्गा से बातचीत की। प्रस्तुत है बातचीत के प्रमुख अंश। 1सवाल : ऐसा कार्य जो आप नहीं कर पाए ?1जवाब : हां, कुछ कार्य करना था। विशेष कर रांची स्टेशन के प्लेटफॉर्म की ऊंचाई बढ़ाना चाहता था। यह नहीं हो पाया। यह बड़ा प्रोजेक्ट है। उम्मीद है कि वल्र्ड क्लास रेलवे स्टेशन बनने के दौरान 2-3 वषरे में बन जाए। 1सवाल : रांची में आपका अनुभव कैसा रहा? 1जवाब : अनुभव अच्छा रहा। कुछ अधूरे कामों की शुरुआत की गई। जैसे बिरसा चौक में ब्रिज निर्माण, 15-16 वषरे से लंबित चल रही टोरी लाइन, साथ ही रांची स्टेशन में लिफ्ट निर्माण कार्य हुआ। 1सवाल...
more...
: आप अपने कार्यकाल की उपलब्धियां किसे मानते हैं?1जवाब : नया रैक पिस्का से रजरप्पा तक चालू किया गया है। इससे मंडल को राजस्व मिलेगा। पानी की समस्या दूर हुई। पीएचईडी को राशि उपलब्ध करा दी गई हैं। जुलाई से काम प्रारंभ हो जाएगा। 90 हजार गैलेन का ग्राउंड टैंक के कार्य को सैंशन कर दिया गया हैं। रांची मंडल में मेरा मिशन था कि दो दिन पानी नहीं भी आए तो ग्राउंड टैंक के माध्यम से रेलवे क्षेत्र में जलापूर्ति की जा सकती है। 1सवाल : चंद्रपुरा लाइन में ट्रेनों की व्यवस्था बहाल करने पर क्या पहल हुई? 1जवाब : जब से ट्रेनें बंद हुईं, उसके दूसरे दिन ही मुख्यालय को ट्रेनें चलाने को लेकर पत्र भेजा गया और अन्य मंडलों के डीआरएम के साथ संयुक्त रूप से बैठक की।जागरण संवाददाता, रांची : रांची रेलमंडल के डीआरएम एसके अग्रवाल का स्थानांतरण आदेश जारी हो चुका है। उनके स्थान पर ईस्टर्न रेलवे के वीके गुप्ता पदभार ग्रहण करेंगे। एसके अग्रवाल रांची मंडल के 11 वें डीआरएम हैं। उन्होंने डीआरएम कार्यालय हटिया में दैनिक जागरण के संवाददाता आशीष तिग्गा से बातचीत की। प्रस्तुत है बातचीत के प्रमुख अंश। 1सवाल : ऐसा कार्य जो आप नहीं कर पाए ?1जवाब : हां, कुछ कार्य करना था। विशेष कर रांची स्टेशन के प्लेटफॉर्म की ऊंचाई बढ़ाना चाहता था। यह नहीं हो पाया। यह बड़ा प्रोजेक्ट है। उम्मीद है कि वल्र्ड क्लास रेलवे स्टेशन बनने के दौरान 2-3 वषरे में बन जाए। 1सवाल : रांची में आपका अनुभव कैसा रहा? 1जवाब : अनुभव अच्छा रहा। कुछ अधूरे कामों की शुरुआत की गई। जैसे बिरसा चौक में ब्रिज निर्माण, 15-16 वषरे से लंबित चल रही टोरी लाइन, साथ ही रांची स्टेशन में लिफ्ट निर्माण कार्य हुआ। 1सवाल : आप अपने कार्यकाल की उपलब्धियां किसे मानते हैं?1जवाब : नया रैक पिस्का से रजरप्पा तक चालू किया गया है। इससे मंडल को राजस्व मिलेगा। पानी की समस्या दूर हुई। पीएचईडी को राशि उपलब्ध करा दी गई हैं। जुलाई से काम प्रारंभ हो जाएगा। 90 हजार गैलेन का ग्राउंड टैंक के कार्य को सैंशन कर दिया गया हैं। रांची मंडल में मेरा मिशन था कि दो दिन पानी नहीं भी आए तो ग्राउंड टैंक के माध्यम से रेलवे क्षेत्र में जलापूर्ति की जा सकती है। 1सवाल : चंद्रपुरा लाइन में ट्रेनों की व्यवस्था बहाल करने पर क्या पहल हुई? 1जवाब : जब से ट्रेनें बंद हुईं, उसके दूसरे दिन ही मुख्यालय को ट्रेनें चलाने को लेकर पत्र भेजा गया और अन्य मंडलों के डीआरएम के साथ संयुक्त रूप से बैठक की।
Jun 26 2017 (07:54)  मेमो से बचने का चक्कर, खतरे में सफर (epaper.jagran.com)
back to top
Commentary/Human InterestSER/South Eastern  -  

News Entry# 306490     
   Tags   Past Edits
Jun 26 2017 (07:54)
Station Tag: Ranchi Junction/RNC added by जय जगन्नाथ🙏^~/1421836

Posted by: Rail2Leh😍👏^~  923 news posts
.. बनी रहती है गति1दरअसल ट्रेन में क्यू-51 को आइसोलेट करने से ट्रेन की गति कम नहीं होती। चढ़ाई के साथ-साथ ट्रेन की गति बनी रहती है। इस कारण मालगाड़ी एक्सेस लोड होने के बावजूद चढ़ाई कर लेती है। ऐसी स्थिति में कई बार व्हील स्लिप की शिकायत होती है। व्हील स्लिप के कारण ट्रैक पर अतिरिक्त दबाव बढ़ने से ट्रैक को नुकसान पहुंचता है। ट्रैक में दरार आने और टूटने की संभावना बनी रहती है। वरीय अधिकारियों को बिना संज्ञान में लाए ट्रेन को बैक कर पुन: चढ़ाई की जाती है लेकिन मदद के लिए बैंकर की मांग अमूमन नहीं की जाती।
10-15 मालगाड़ी रोजाना 1टाटी मार्ग 10-15 रेलगाड़ियां रोज गुजरती हैं। अधिकतर मालगाड़ियों में एक्सेस लोड रहता है। कुछ ट्रेनें
...
more...
सामान्य लोड पर चढ़ाई कर लेती हैं, मगर एक्सेस लोड वाली ट्रेनों को दिक्कत होती है।1
घट सकती है बड़ी दुर्घटना 1 चढ़ाई में जबरन ट्रेन चढ़ाने से कभी भी दुर्घटना घट सकती है। ट्रेन का इंजन बंद होने से कभी भी ट्रेन लुढ़क सकती है। इसके बावजूद लोको पायलट रोजाना ट्रेन चढ़ाई के वक्त बैंकर और क्यू-51 की व्यवस्था को नजरअंदाज कर देते हैं। 1ट्रैक पर ग्रीस से होती है परेशानी 1टाटी मार्ग के रेलवे ट्रैक की सतह पर ग्रीस भी ट्रेनों की चढ़ाई में परेशान पैदा करती है। ग्रीस लगाते वक्त ट्रैक पर भी ग्रीस लग जाती है, जिससे ट्रेन का व्हील स्लिप करता है। इससे बचने के लिए पहले ट्रैक पर बालू डाला जाता है तब ट्रेन चढ़ाई पर निकलती है।
पटरियों और चक्कों को भी हो रहा नुकसान, टाटी मार्ग पर लोको पालयट जबरन चढ़ाते हैं एक्सेस लोड ट्रेनों को 1
Click here to enlarge image
शक्ति सिंह’2009रांची 1हटिया से राउरकेला रूट में टाटी-कनरवा रेल लाइन पर मालगाड़ी की चढ़ाई लोको पायलटों के लिए आफत है। तो खतरे का सफर भी। ओवरलोडेड ट्रेन के कारण गाड़ी रुकती है तो वरीय अधिकारियों को मेमो भेजना पड़ता है। मेमो देने का मतलब ट्रेन के रूकने की वजह बताना, जवाब तलब और अपनी विफलता बताना। इससे बचने के लिए लोको पायलट यह क्यू-51 को आइसोलेट कर चढ़ाई पर ट्रेन को चढ़ा रहे हैं। यह डीआरएम के आदेश का सीधा सीधी उल्लंघन है। आइसोलेट कर देने से चक्के स्लिप करते हैं मगर गाड़ी चढ़ जाती है। चक्के के स्लिप करने से खुद चक्के और रेल लाइन को नुकसान पहुंच रहा है।टाटी कनरवा रेल लाइन पर लगे ग्रीस के ऊपर बालू डालता गैंगमैन ’ जागरणयह मामला गंभीर है और इसे हल्के में नहीं लिया जाएगा। क्यू-51 बेज की जांच कराई जाएगी, अगर ऐसा करते पकड़ाए, तो उन पर कार्रवाई होगी। क्योंकि इसके लिए पहले से ही सख्त निर्देश मेरे द्वारा दिया गया है। एसके अग्रवाल,डीआरएम, रांची रेल मंडल
Jun 25 2017 (15:43)  Stir forces officials to restore Jaynagar train (m.timesofindia.com)
back to top
Commentary/Human InterestSER/South Eastern  -  

News Entry# 306468     
   Tags   Past Edits
Jun 25 2017 (15:43)
Station Tag: Ranchi Junction/RNC added by Tushar Shandilya~/1427404

Jun 25 2017 (15:43)
Train Tag: Ranchi - Jaynagar Express/18605 added by Tushar Shandilya~/1427404

Posted by: Tushar Shandilya~  514 news posts
RANCHI: Residents with roots in Bihar staged a demonstration at Ranchi railway station on Saturday when a team of Passenger Amenities Committee (PAC) from the ministry of railways visited the city.
The protesters demanded that the cancelled Ranchi-Jaynagar Express should be in service again. The train was cancelled after the Dhanbad-Chandrapura railway line was abandoned due to underground coal fire. The PAC members-Ashok Tripathi and S P Jaiswal-assured the protesters that the train services will resume soon, albeit with changes in its route.
Santosh Jha, member of Jharkhand Mithila Manch, who was among
...
more...
the protesters said, "The PAC members said, they met with the divisional railway manager here. The members had already initiated the process to resume this train's services. We also want the train to start from Ranchi and not Dhanbad. We are heartened by this development as after the Ranchi-Jaynagar train was discontinued, it became very difficult for many people, from Bihar to get back to the state. This train connects people of Jharkhand to Darbhanga, Samastipur, Madhubani, Begusarai, Sitamarhi and even Nepal."
The PAC team then met with commuters on the railway station to ascertain the status of facilities available. At the air-conditioned waiting room one of the commuters, Vikash Kumar told the two-member team that lack of water and adequate lighting facilities on the railway terminus proved to be a major hurdle for commuters. He also added, "In some cases even after purchasing a confirmed ticket online I was told that I had been put in the waiting list."
At another waiting room, one of the commuters, Asha Devi complained about insufficient food in the canteen at the terminus. "Whenever we have to wait for two or three hours at the railway station, the canteen runs out of food and we have to rely on biscuits and other ready-made snacks," she told the PAC officials.
Protests and stone pelting erupted in Dhanbad after the cancellation of 19 trains following the closure of 120-year-old Chandrapura-Dhanbad railway line. Angry commuters were arrested for attacking the Alleppy Express train and later forcibly stopping a goods train between Tetulmari and Nichitpur stations near Goshala in Dhanbad railway division.
On June 15, movement of trains was stopped by the railway authorities on the 34km stretch. Railway authorities said that the decision was taken keeping passengers' safety in mind.
Apart from sporadic incidents of violence, commuters' protests over trains which were cancelled has been growing for the last few days. After trains stopped plying on the Chandrapura-Dhanbad railway line, a bandh was observed at Baghmara and nearby places where local residents protested against the railway authorities' decision
Jun 25 2017 (12:02)  Dharna for Bihar train - Mithilanchal link snapped, poor bus service adds to commuter woes (www.telegraphindia.com)
back to top
PoliticsSER/South Eastern  -  

News Entry# 306452   Blog Entry# 2332294     
   Tags   Past Edits
Jun 25 2017 (12:02)
Station Tag: Jaynagar/JYG added by Rail Fanning~/718429

Jun 25 2017 (12:02)
Station Tag: Ranchi Junction/RNC added by Rail Fanning~/718429

Posted by: Rail Fanning~  148 news posts
Over 100 men and women sat on a dharna with placards outside Ranchi railway station today, demanding reinstatement of the Ranchi-Jaynagar Express, the only train which connects the state capital with various towns of Mithilanchal region if neighbouring Bihar.
Ranchi-Jaynagar Express is one of 19 trains that have been suspended after the June 15 closure of Dhanbad-Chandrapura rail line due to its vulnerability to cave-ins because of the underground fire in Jharia. But, the protestors argued that a knee-jerk reaction of shutting the 34km rail line, without prior planning had left them without convenient options of travelling to their hometowns in Bihar.
Lack
...
more...
of enough buses on the route was another major concern aired by them.
The protestors gathered at 8am, sitting in two groups near the entrance of the station with placards that read, "Start Ranchi-Jaynagar Express".
"We don't mind paying extra, but the railways should take a decision to start the train without further delay. We don't mind if the train has to be diverted via Asansol or Gomoh, but the train should start from Ranchi. This is our one and only demand," said Sunil Jha, one of the protestors.
Saket Jha, another protestor, added that over one lakh people living in Ranchi were affected because of the cancellation of the train. "From Ranchi, the train connects those who are residents of Simaria, Barauni, Samastipur, Darbhanga, Madhubani and Jaynagar, all in Mithilanchal. This was the most popular train," he rued, adding they had submitted several memorandums to Ranchi rail division and that today's protest is in continuation of their campaign.
Santosh Jha said poor bus services had aggravated their problems. "Only three buses are available. How will one travel?" he opined.
Abha Jha recalled how they had to suffer while returning to Ranchi from Darbhanga recently. "We had booked our return tickets to Ranchi in advance. But, those were cancelled due to the sudden termination of the train. Left with no other alternative, we had to first travel to Patna overnight, then look for options to come to Ranchi. With were compelled to take a rickety bus," said, the resident of Kanke, who was travelling with a husband and a toddler.
Officials in Ranchi rail division admitted people were being inconvenienced. "Their demands are justified but at the moment, we can't do anything at our end unless any concrete decision is taken at the level of the rail ministry," said a senior official.

878 views
Jun 25 2017 (12:11)
Indian Railways the life line of our Nation~   16118 blog posts   137 correct pred (82% accurate)
Re# 2332294-1            Tags   Past Edits
Patna ko aaj hi Nepal ke liye Buses mili hai.Purnia se Ranchi Buses chala dete to theek rehta
Page#    Showing 1 to 20 of 291 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.