Full Site Search  
Fri Jun 23, 2017 17:43:26 IST
PostPostPost Stn TipPost Stn TipUpload Stn PicUpload Stn PicAdvanced Search
Large Station Board;

SGJ/SafdarGanj
سپھدرگج     सफदरगंज

Track: Construction - Diesel-Line Doubling

Type of Station: Regular
Number of Platforms: n/a
Number of Halting Trains: 10
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Faizabad Rd
State: Uttar Pradesh
Elevation: 120 m above sea level
Zone: NR/Northern
Division: Lucknow Charbagh NR
No Recent News for SGJ/SafdarGanj
Nearby Stations in the News

Rating: /5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
porters/escalators - n/a (0)
food - n/a (0)
transportation - n/a (0)
lodging - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)

Nearby Stations

RES/Rasauli 10 km     SYK/Saidkhanpur 11 km     BBK/Barabanki Junction 18 km     DYD/Daryabad 20 km     JBR/Jahangirabad Rj 26 km     SFH/Safedabad 26 km     JRR/Jugaur 29 km     PTH/Patranga 29 km     RFR/Rafinagar 32 km     ML/Malhaur 34 km    

Station News

Page#    Showing 1 to 1 of 1 News Items  
May 07 2016 (09:14)  इंजन चालकों की परेशानी दूर (epaper.jagran.com)
back to top
New Facilities/TechnologyNR/Northern  -  

News Entry# 267063     
   Tags   Past Edits
May 07 2016 (9:14AM)
Station Tag: SafdarGanj/SGJ added by Pp*^/36064

Posted by: Pp*^~  5969 news posts
सफदरजंग रेलवे स्टेशन पर शुक्रवार को आयोजित समारोह में रेलमंत्री सुरेश प्रभाकर प्रभु ने वैक्यूम बायो शौचालय वाले पहले डीजल इंजन को झंडी दिखाकर रवाना किया। इसे मालगाड़ी में लगाया गया है। इंजन को डीजल लोकोमोटिव वर्क्‍स (डीएलडब्ल्यू) वाराणसी में तैयार किया गया है। इसमें सुरक्षा व स्वच्छता का पूरा ध्यान रखा गया है। सुरेश प्रभु ने कहा कि उन्होंने रेल बजट में इंजन चालकों की परेशानी दूर करने का वादा किया था और डीएलडब्ल्यू ने इसे 70 से भी कम दिनों में पूरा कर दिया। कर्मचारियों की समस्या हल करने के लिए हरसंभव कदम उठाए जाएंगे। 1चेयरमैन से लेकर ट्रैकमैन तक रेल प्रशासन के लिए महत्वपूर्ण हैं। रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने कहा कि कर्मचारियों की जो समस्याएं रेलवे प्रशासन के दायरे में नहीं आती हैं, उन्हें पूरा करने के लिए संबंधित विभागों से बात की जा रही है। आने वाले दिनों में ज्यादा ट्रेनों में शौचालय युक्त इंजन...
more...
लगाए जाएंगे। समारोह में रेलवे बोर्ड के चेयरमैन एके मित्तल, रेलवे बोर्ड के सदस्य हेमंत कुमार, मोहम्मद जमशेद, एके कपूर, उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक एके पुठिया, दिल्ली के मंडल रेल प्रबंधक मंजू गुप्ता सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।1यह है खासियत : डीएलडब्ल्यू द्वारा तैयार वातानुकूलित व शौचालय युक्त इंजन ‘डुएल कैब डब्ल्यूडीजीडी4डी’ 4500 उच्च अश्वशक्ति वाला है। इसके निर्माण में 17.5 लाख रुपये से ज्यादा लगे हैं। इस आधुनिक शौचालय में एक बार फ्लश के लिए केवल 250 मिलीलीटर पानी खर्च होगा, जबकि परंपरागत डिजाइन वाले शौचालय में एक बार फ्लश करने पर करीब 10 लीटर पानी खर्च होता है। वैक्यूम के साथ ही यह जैविक तकनीक पर आधारित है। इससे मानव अपशिष्ट रेल लाइन पर नहीं गिरेगा।
Page#    Showing 1 to 1 of 1 News Items  

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.