Full Site Search  
Fri Aug 18, 2017 18:15:47 IST
PostPostPost Trn TipPost Trn TipPost Stn TipPost Stn TipAdvanced Search
×
Forum Super Search
Blog Entry#:
Words:

HashTag:
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Train Type:
Train:
Station:
ONLY with Pic/Vid:
Sort by: Date:     Word Count:     Popularity:     
Public:    Pvt: Monitor:    RailFan Club:    

<<prev entry    next entry>>
Blog Entry# 1977806  
Posted: Sep 01 2016 (09:33)

2 Responses
Last Response: Sep 01 2016 (09:46)
  
16
43
जागरण संवाददाता, लखनऊ : रोजाना आउटर पर शाम से लेकर देर रात तक खड़ी होने वाली लंबी दूरी की ट्रेनों के यात्रियों को जल्द राहत मिल सकती है। रेलवे ट्रेनों के सुगम संचालन के लिए चारबाग स्टेशन के प्लेटफार्मो की स्थिति को रीव्यू करेगा। साथ ही यार्ड रिमॉडलिंग और डबलिंग के रुके काम को शुरू करने की कवायद शुरू हो गई है।1चारबाग स्टेशन में 1972 में आखिरी बार प्लेटफार्म बढ़ाकर उनकी संख्या सात की गई थी। उस समय चारबाग स्टेशन पर आने वाली ट्रेनों की संख्या 60 थी। तब से रेलवे
...
more...
ने एक भी नए प्लेटफार्म नहीं बढ़ाए, जबकि ट्रेनों की संख्या बढ़कर 289 हो गई। प्लेटफार्मो की उपलब्धता न होने के कारण शाम छह से रात 12 बजे तक 80 से अधिक ट्रेनें आउटर पर थम रही हैं। इसका मुख्य कारण रात के समय प्लेटफार्म एक पर लखनऊ से लेकर एसी एक्सप्रेस के आरंभ होने और दो नंबर पर गोमती एक्सप्रेस और चंडीगढ़ एक्सप्रेस के अधिक देर तक खड़ा होना है। साथ ही लखनऊ सहारनपुर पैसेंजर भी प्लेटफार्म सात पर खड़ी रहती है। ऐसे में जिन ट्रेनों के लिए जो प्लेटफार्म पूर्व में ही तय किए गए हैं, उनमें बदलाव नहीं हो पाता है। रेलवे अब इस व्यवस्था को सुधारने की तैयारी कर रहा है।1वरिष्ठ मंडल परिचालन प्रबंधक अजीत कुमार सिन्हा ने चारबाग स्टेशन का रीव्यू करने का आदेश दिया है। इसके तहत शाम छह से रात 12 बजे तक की ट्रेनों की स्थिति की रिपोर्ट तैयार की जाएगी। कहां पर कौन सी ट्रेनें खड़ी होती हैं और इसके पीछे के कारणों की भी रिपोर्ट तैयार की जाएगी। इस आधार पर आउटर पर खड़ी होने वाली ट्रेनों के प्लेटफार्म और उनके समय में भी बदलाव किया जा सकता है।1मेमू व पैसेंजर की बदलेगी स्थिति1रेलवे लखनऊ से कानपुर और बाराबंकी के बीच चलने वाली मेमू ट्रेनों के अलावा सभी पैसेंजर टेनों को समय पर चलाने की जिम्मेदारी संबंधित कंट्रोलर की तय करेगा। मेमू और पैसेंजर ट्रेनों की लेट लतीफी के कारण भी प्लेटफार्मो की उपलब्धता नहीं हो पाती है। बीच रास्ते इन ट्रेनों के खड़े होने पर लंबी दूरी की ट्रेनों को भी रास्ता नहीं मिल पाता है। 1यार्ड रीमॉडलिंग की कवायद तेज1रेलवे ने चारबाग स्टेशन पर दो नए प्लेटफार्म बनाने के साथ यार्ड रीमॉडलिंग और रूट रिले इंटरलाकिंग के प्रोजेक्ट को मंजूरी फरवरी माह में दे दी है। अब तक इस काम को रेलवे का निर्माण अनुभाग शुरू नहीं कर सका है। मंडल प्रशासन जल्द ही निर्माण अनुभाग के अधिकारियों के साथ इस योजना का ब्लूप्रिंट को अंतिम रूप देगा। अगले सप्ताह दोनो ही विभागों के उच्च अधिकारियों की बैठक होगी, जिसके बाद ब्लॉक को लेकर भी चर्चा की जाएगी।6चारबाग स्टेशन के प्लेटफार्मो की स्थिति का रीव्यू करेगा रेलवे 16यार्ड रिमॉडलिंग के लिए भी मंडल प्रशासन ने शुरू की तैयारी1चारबाग स्टेशन पर प्लेटफार्मो की उपलब्धता न होने से लंबी दूरी की ट्रेनों पर भी इसका असर पड़ता है। इसे देखते हुए चारबाग स्टेशन का रिव्यू किया जाएगा। इसकी एक रिपोर्ट तैयार होगी, जिसके आधार पर यह सुनिश्चित किया जाएगा कि किन ट्रेनों के लिए प्लेटफार्म और समय बदलने की आवश्यकता है।1- अजीत कुमार सिन्हा, वरिष्ठ मंडल परिचालन प्रबंधक, उत्तर रेलवे लखनऊ

  
1869 views
Sep 01 2016 (09:33)
ANURAG*^~   5775 blog posts   4347 correct pred (83% accurate)
Re# 1977806-1            Tags   Past Edits
Abhi tak review hi kar rhe hai?

  
1850 views
Sep 01 2016 (09:46)
☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~   14633 blog posts   3072 correct pred (65% accurate)
Re# 1977806-2            Tags   Past Edits
Naye DCM aye h kuch din active rahnge phr wahi lohti rog lagega inko bhi😁
Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.