Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt

FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE

For RailFans, Platform Announcements are more musical than Bollywood songs. - Prince Maan

Search Forum
<<prev entry    next entry>>
Blog Entry# 5094139
Posted: Oct 13 (18:07)

5 Responses
Last Response: Oct 13 (19:51)
Rail News
24442 views
Commentary/Human Interest
SER/South Eastern
Oct 13 (18:07)   सांसद महेश पोद्दार ने रेल मंत्री को लिखा पत्र

rhythmsofrail^~   761 news posts
Entry# 5094139   News Entry# 467443         Tags   Past Edits
सद महेश पोद्दार ने रेल मंत्री को लिखा पत्र
रांची, 13 अक्टूबर (हि.स.)। राज्यसभा सांसद महेश पोद्दार ने बुधवार को रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव को पत्र लिखकर रांची वाया लोहरदगा टोरी लाइन पर ट्रेन संख्या 18613/14 रांची-चोपन-रांची ट्रेन का विस्तार सिंगरौली तक करने का आग्रह किया है। साथ ही एक अन्य पत्र के माध्यम से पोद्दार ने पारसनाथ से सम्मेद शिखर (विश्वविख्यात जैन तीर्थस्थल) होकर गिरिडीह तक रेल लाइन के बजट आवंटन का आग्रह भी किया है।
पोद्दार ने रेल मंत्री को लिखे पत्र में कहा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कार्यकाल
...
more...
में शुरू हुई रांची-लोहरदगा-टोरी रेल लाइन के समुचित उपयोग को देखते हुए तथा झारखण्ड, उत्तर प्रदेश एवं मध्य प्रदेश के नागरिकों एवं विभिन्न नागरिक संगठनों के अनुरोध को देखते हुए पर ट्रेन संख्या 18613/14 रांची-चोपन-रांची ट्रेन का विस्तार सिंगरौली तक करना प्रासंगिक प्रतीत होता है।
रांची-सिंगरौली-रांची ट्रेन वाया लोहरदगा, टोरी, रेनूकूट, सलईबनवा, दूदही, ओबरा डैम अत्यंत उपयोगी एवं तीन राज्यों के एक बड़े भूभाग के यात्रियों को सुविधा देनेवाली और रेलवे के राजस्व में वृद्धि करनेवाली साबित होगी। सिंगरौली, शक्तिनगर, बैढ़न, रेनूकूट आदि औद्योगिक नगर हैं और इन नगरों के आसपास अनेक छोटे-बड़े व्यावसायिक क्षेत्र एवं कोयले की बड़ी-बड़ी खदानें हैं जहां झारखण्ड, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के नागरिक बड़ी संख्या में रोजी-रोटी और नौकरी के लिए आवागमन करते हैं।
-बजट आवंटन के अभाव में बाधित है पारसनाथ-सम्मेद शिखर-गिरिडीह रेल लाइन
रेल मंत्री को लिखे एक अन्य पत्र में सांसद ने कहा है कि पूर्व मध्य रेलवे के धनबाद डिवीजन अंतर्गत पारसनाथ से सम्मेद शिखर होते हुए गिरिडीह रेल लाइन का भूमिपूजन 2019 में ही हो चुका है। सम्मेद शिखर जैन धर्मावलंबियों का प्रमुख तीर्थस्थल है जहां देश भर से श्रद्धालुओं का आवागमन होता है।
धनबाद रेल मण्डल के पारसनाथ रेलवे स्टेशन से गिरिडीह जिले के मधुबन तक करीब 50 किलोमीटर लंबी रेल लाइन बिछाने की परियोजना तैयार है, सभी सर्वेक्षण कार्य भी पूरे किये जा चुके हैं लेकिन पर्याप्त बजटीय राशि आवंटित नहीं होने के कारण इस दिशा में अब तक कोई कार्रवाई प्रारंभ नहीं हो सकी है। इस परियोजना के माध्यम से मेन लाइन ग्रैन्ड कॉर्ड लाइन से जुड़ जाएगी जिससे उत्तर पूर्व के यात्रियों को भी काफी सुविधा होगी।
हिन्दुस्थान समाचार/कृष्ण
फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही और भी Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.
Share this story
Around the Web
अन्य बड़ी खबरें|
फीचर्ड न्यूज़
चर्चित खबरे
ज़रा हटके
News that makes Sense
Copyright © 2020. Doon Horizon Group of Media & Publications. All Rights Reserved.| Powered by M360. Scale revenue at getm360.com

Rail News
24287 views
Oct 13 (18:41)
arunjoshi028   2569 blog posts
Re# 5094139-1            Tags   Past Edits
Great

Rail News
25250 views
Oct 13 (18:45)
arunjoshi028   2569 blog posts
Re# 5094139-2            Tags   Past Edits
सांसद महेश पोद्दार का बहुत-बहुत आभार

Rail News
26023 views
Oct 13 (19:30)
arunjoshi028   2569 blog posts
Re# 5094139-3            Tags   Past Edits
Kindly add parasnath and Giridih stn

Rail News
20709 views
Oct 13 (19:31)
arunjoshi028   2569 blog posts
Re# 5094139-4            Tags   Past Edits
Lohardaga and Singrauli stn

Rail News
20867 views
Oct 13 (19:51)
Start 13131 via NGRH
aniket~   377 blog posts
Re# 5094139-5            Tags   Past Edits
Funds must be allotted for pnme-ngrh new line for the convenience of Jain pilgrims and people of giridih. This line has potential to immensely boost tourism in Jharkhand.
Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Desktop site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy