Full Site Search  
Mon Jul 24, 2017 02:09:00 IST
PostPostPost Trn TipPost Trn TipPost Stn TipPost Stn TipAdvanced Search
×
Forum Super Search
Blog Entry#:
Words:

HashTag:
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Train Type:
Train:
Station:
ONLY with Pic/Vid:
Sort by: Date:     Word Count:     Popularity:     
Public:    Pvt: Monitor:    RailFan Club:    

Filters:
Blog Posts by Kuchh to log kahenge
Page#    208 Blog Entries  next>>
  
Rail News
0 Followers
211 views
Yesterday (14:37)   सवाल: देरी से चलने वाली ट्रेनों पर सुपरफास्ट शुल्क क्यों-

Raja Singh   9 news posts
Entry# 2360683   News Entry# 309290         Tags   Past Edits
सवाल: देरी से चलने वाली ट्रेनों पर सुपरफास्ट शुल्क क्यों-....................अगर गाड़ी समय पर नहीं चलती तो यात्रियों को सुपरफास्ट अधिभार वापस किया जाना चाहिए। कैग ने सुपरफास्ट ट्रेनों में यात्रियों से वसूले जाने वाले अधिभार पर सवाल उठाते हुए रेलवे से ये बातें कही हैं।

  
804 views
Yesterday (14:47)
Kuchh to log kahenge   216 blog posts   13 correct pred (74% accurate)
Re# 2360683-1            Tags   Past Edits
absolutely right.

6 posts are hidden.
  
Rail News
0 Followers
330 views
Commentary/Human InterestDMRC/Delhi Metro  -  
Jul 17 2017 (07:22)   No 24x7 Airport Metro link for now

rdb*^   130870 news posts
Entry# 2354854   News Entry# 308636         Tags   Past Edits
Proposal floated last year; move primarily aimed to serve passengers going abroad
The Delhi Metro does not plan to operate overnight trains on its Airport Line, a proposal which was floated last year, DMRC chief Mangu Singh has said.
The Delhi Metro Rail Corporation (DMRC) had conducted a survey last year to assess the feasibility of running trains beyond midnight, which was primarily aimed to serve passengers going abroad.
“We
...
more...
do not plan to operate trains overnight at this point. In any case, we get a few hours at night for maintenance,” Mr. Singh said.
At present, trains operate between 4.45 a.m. and 11.40 p.m. on the 23-km-long corridor called the Orange Line. The high-speed corridor had struggled to attract commuters at one point.
Global scenario
The Delhi Metro had been toying with the idea since 2008, but Mr. Singh’s words suggest that the plan has been shelved for now.
Worldwide, late night metro services are available in a few cities. It is still a rarity and there have been protests by workers in London, where late night tube services were launched only last year, against the move.
The Airport Line stretches between the New Delhi metro station and Dwarka Sector 21. The DMRC had recently invited bids for extension till Dwarka Sector 25, where an international convention centre is being constructed.
Trains run every 10 minutes between 8 a.m. and 8.30 p.m. and it takes around 20 minutes to reach the IGI Airport here from the New Delhi station.
The DMRC took over operations of the Airport link in July 2013 after Reliance Infrastructure’s subsidiary Delhi Airport Metro Express Private Ltd (DAMEPL) terminated its concessionaire agreement.

1 posts are hidden.

  
751 views
Jul 17 2017 (10:23)
Kuchh to log kahenge   216 blog posts   13 correct pred (74% accurate)
Re# 2354854-2            Tags   Past Edits
It is very important route and DMRC must think about the operation in night at least with a gap of 30-50 min for the passengers traveling abroad or arriving in the city as well as domestic passengers who want to catch connecting trains from New Delhi Railway Station.

  
481 views
Jul 17 2017 (15:07)
a2z~   1466 blog posts
Re# 2354854-3            Tags   Past Edits
In Metro no blocks are normally taken during during day time due to very high frequency of trains operation. Late night & early morning hours are used to carry out track, signal, electrification etc maintenance activities so that the train operation is safe on the route. A daily scheduled block of a certain minimum time is a must.
  
Rail News
0 Followers
249 views
Commentary/Human Interest
Jul 12 2017 (11:40)   दून शहर के भीतर भी दौड़ेगी मेट्रो, दो रूट प्रस्तावित

Tushar Shandilya~   678 news posts
Entry# 2350254   News Entry# 308172         Tags   Past Edits
देहरादून, [सुमन सेमवाल]: मेट्रो ट्रेन दून शहर के भीतर भी दौड़ेगी और इसके लिए दो रूट प्रस्तावित किए गए हैं। एक रूट आइएसबीटी से कंडोली (राजपुर), जबकि दूसरा रूट एफआरआइ (वन अनुसंधान संस्थान) से रायपुर तक होगा। मेट्रो की डीपीआर (डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट) का प्रस्तुतीकरण मुख्य सचिव के सम्मुख किया जाएगा।
उत्तराखंड मेट्रो रेल कार्पोरेशन लिमिटेड के प्रबंध निदेशक जितेंद्र त्यागी के मुताबिक अब तक मेट्रो रेल का प्रस्तावित प्लान देहरादून से हरिद्वार व ऋषिकेश तक मुख्य मार्ग तक सीमित था। हालांकि, इसकी अधिक लागत और मुख्य मार्ग पर उसके अनुरूप पर्याप्त यात्रियों के अभाव को देखते हुए इसका विस्तार संबंधित शहरों के अंदरूनी हिस्सों में भी करने का निर्णय लिया गया है।
इस
...
more...
तरह मेट्रो रेल का जो कुल रूट पहले 73 किलोमीटर के करीब था, वह बढ़कर अब 100 किलोमीटर हो गया है। देहरादून के भीतर के दो रूट के अलावा हरिद्वार में बहादराबाद से हरिद्वार शहर के भीतर का रूट भी इसमें शामिल किया गया है।
इसी तरह मेट्रो रेल परियोजना की जो लागत पहले 17 से 20 हजार करोड़ रुपये आंकी गई थी, वह अब बढ़कर 26 से 27 हजार करोड़ रुपये हो जाएगी। मंगलवार को डीपीआर की प्रस्तुति के बाद इस पर स्थिति और स्पष्ट हो जाएगी। साथ ही मेट्रो रेल के कोचों की संख्या आदि को लेकर भी काफी कुछ तय कर लिया जाएगा। अगस्त तक डीपीआर को अंतिम रूप देकर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी जाएगी।
चार साल में शुरू हो जाएगा संचालन
मेट्रो रेल कार्पोरेशन के प्रबंध निदेशक जितेंद्र त्यागी के मुताबिक चार साल के भीतर एलिवेटेड (उठा हुआ) ट्रैक का काम पूरा कर लिया जाएगा। इसके साथ ही शहर के किसी न किसी हिस्से में मेट्रो ट्रेन का संचालन शुरू कर दिया जाएगा।
बस के सातवें हिस्से से भी कम ऊर्जा खपत
मेट्रो ट्रेन की तुलना बस से की जाए तो मेट्रो में बसों के मुकाबले सातवें हिस्से तक ऊर्जा की कम खपत होगी। इसके साथ ही यह ग्रीन ट्रांसपोर्ट पर आधारित व्यवस्था है और इसमें कार्बन उत्सर्जन का स्तर अपेक्षाकृत काफी कम रहेगा। मेट्रो का संचालन शुरू होने से ट्रैफिक जाम की समस्या पर भी अंकुश लग जाएगा।
दून में कुछ हिस्सा हो सकता है भूमिगत
वैसे तो मेट्रो ट्रेन का ट्रैक सड़क के बीचों-बीच डिवाइडर वाले भाग पर बनाया जाएगा। इसके लिए सड़क पर पिलर बनाए जाएंगे और उसके ऊपर बने ट्रैक पर मेट्रो चलेगी, लेकिन दून की मौजूदा स्थिति को देखते हुए माना जा रहा है कि यहां कुछ हिस्सों में भूमिगत (अंडरग्राउंड) ट्रैक भी बनाए जाएंगे।

1 posts are hidden.

  
815 views
Jul 12 2017 (15:17)
Kuchh to log kahenge   216 blog posts   13 correct pred (74% accurate)
Re# 2350254-2            Tags   Past Edits
AND THERE IS NO METRO FOR 50 LACS POPULATION CITY KANPUR
  
Rail News
0 Followers
344 views
Other NewsWR/Western  -  
Jul 08 2017 (21:48)   Man gets trapped between train and Mumbai platform, dies | The Indian Express

🚆Bhartiya Rail🚆   66 news posts
Entry# 2346539   News Entry# 307799         Tags   Past Edits
A 40-year-old man on Saturday was crushed to death after he got trapped between platform six at Borivli station and the Gujarat Mail, according to a report in the Hindustan Times. The CCTV footage of the incident has gone viral. In the video, the man, Mahesh Atra, can be seen rolling six times before disappearing under the train and being crushed.
Atra is reportedly a resident of Ahmedabad, who came to the city to attend a business meeting in Bhiwandi. On Saturday, he was travelling back home when he stepped down from the train to buy a bottle of water. The CCTV camera footage showed that Atra was carrying loose change and a water bottle, when he tried to board the train
...
more...
but lost his balance and fell in the gap between the train and the platform.
According to Government railway police force (GRPF) officials, Atra’s body was unrecognisable after the ordeal he had encountered.

2 posts are hidden.

  
505 views
Jul 09 2017 (14:22)
Kuchh to log kahenge   216 blog posts   13 correct pred (74% accurate)
Re# 2346539-3            Tags   Past Edits
at least there should be an announcement system specially in AC Coaches because It is difficult to find out which station has arrived and if the train is moving or not. It Should be like "we have arrived at Chennai Central Station" and "There is a green signal and the train is about to move" just like in metro trains.
  
Rail News
0 Followers
680 views
New Facilities/TechnologyNR/Northern  -  
Jul 08 2017 (21:49)   गोमती एक्स. में अब एलएचबी बोगियां

☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~   6118 news posts
Entry# 2346543   News Entry# 307800         Tags   Past Edits
लखनऊ : जल्द ही लखनऊ से नई दिल्ली के बीच चलने वाली गोमती एक्सप्रेस नए कलेवर में नजर आएगी। गोमती एक्सप्रेस की पुरानी बोगियों को हटाकर उसकी जगह लिंक हॉफमैन बुश (एलएचबी) तकनीक की बोगियां लगाने का प्रस्ताव रेलवे बोर्ड भेजा गया है। इसका आवंटन शीघ्र ही हो जाएगा। इससे जहां गोमती एक्सप्रेस की गति बढ़ जाएगी। वहीं यात्रियों को आरामदायक सीटों के साथ मोबाइल चार्जिग जैसी सुविधाएं भी मिलेंगी। इस समय गोमती एक्सप्रेस में जो रैक लगा हुआ है उसकी अधिकतम गति 110 किलोमीटर प्रतिघंटा स्वीकृत है। साथ ही इसकी सेकेंड सीटिंग क्लास और एसी चेयरकार की सीटें आरामदायक नहीं हैं। एलएचबी बोगियां 160 किलोमीटर प्रतिघंटा की गति से दौड़ने में सक्षम होंगी। रेल कोच फैक्ट्री कपूरथला में दो रैक के लिए सभी श्रेणियों की 54 बोगियां तैयार हो रही हैं। इसमें 22-22 बोगियां दोनो दिशाओं की ट्रेनों में लगेंगी। जबकि शेष 10 को रिजर्व रखा जाएगा। एसी की कूलिंग...
more...
बेहतर होगी और अन्य श्रेणी की बोगियों में ऊर्जा की आपूर्ति ठीक हो सकेगी। बैठने के लिए बेहतर सीटें होंगी। यह बायो टायलेट सुविधा से लैस भी होंगे। दीन दयालु कोच की तरह पीने के लिए आरओ का पानी भी यात्रियों के लिए उपलब्ध होगा।

15 posts are hidden.

  
741 views
Jul 09 2017 (14:12)
Kuchh to log kahenge   216 blog posts   13 correct pred (74% accurate)
Re# 2346543-16            Tags   Past Edits
Indian Railway should also increase AC Chair Car Coaches in Gomti Express and remove 1st AC & 2nd AC because chair car is more comfortable in Day Train rather than 1st & 2nd AC.

2 posts are hidden.
Page#    208 Blog Entries  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.