Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt

FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE

हम RailFan - हमेशा पंखों पे

Search Forum
Filters:
Blog Posts by amitdey73
Page#    117 Blog Entries  next>>
Rail News
21468 views
New Facilities/Technology
WCR/West Central
Aug 30 (10:53)   रेल सुविधा:72 की जगह 83 बर्थ वाले एसी-3 कोच बनना शुरू, भोपाल मंडल को भी मिलेंगे, 5% तक घटेगा किराया

SmallTownTraveller^~   1696 news posts
Entry# 5054218   News Entry# 463336         Tags   Past Edits
रेलवे ने 72 की जगह 83 बर्थ वाले एसी-3 श्रेणी के कोच बनाना शुरू कर दिए हैं। भोपाल सहित पश्चिम-मध्य रेल जोन के तीनों मंडलों को पहले चरण में 3-4 ऐसे कोच दिए जाएंगे। इनके जरिए विभिन्न ट्रेनों में इनका ट्रायल किया जाएगा। बर्थ संख्या बढ़ने से इन कोच के किराए में 5 फीसदी तक की कमी भआ जाएगी। इससे इन्हें इकॉनामी श्रेणी के स्थान पर भी उपयोग में लाया जा सकेगा। रेल अधिकारियों का कहना है कि इस साल के अंत तक कपूरथला व चेन्नई में अलग-अलग डिजाइन के करीब 150 ऐसे कोच का निर्माण किया जाएगा।
ऐसे होंगे नए कोच, ट्रायल हो चुका है... ये रहेगी विशेषता...

1 Public Posts - Mon Aug 30, 2021

3868 views
Aug 30 (12:24)
Amit Dey~   138 blog posts
Re# 5054218-2            Tags   Past Edits
can you explain why it will be challenging for passengers to travel on Side-Upper/Lower berths

5 Public Posts - Mon Aug 30, 2021

13 Public Posts - Tue Aug 31, 2021

1 Public Posts - Wed Sep 01, 2021
Rail News
11240 views
IR Affairs
SECR/South East Central
Aug 12 (13:03)   Bilaspur Railway News: बुकिंग की नहीं हुई बोहनी, आइआरसीटीसी की तीसरी यात्रा भी रद

AdittyaaSharma^~   28415 news posts
Entry# 5039872   News Entry# 461720         Tags   Past Edits
बिलासपुर। Bilaspur Railway News: कोरोना संक्रमण ने एक बार फिर आइआरसीटीसी की यात्रा पर ग्रहण लगा दिया है। इस बार राजस्थान की पांच रात व छह दिन की यात्रा का पैकेज था। 23 अगस्त को यात्री रायपुर से उड़ान भरते। पर अब तक बुकिंग की बोहनी तक नहीं हुई। जिन-जिन यात्रियों ने यात्रा के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने भी संक्रमण को वजह बताते हुए साफ मना कर दिया।
इसके चलते यात्रा रद करनी पड़ी। बिलासपुर क्षेत्रीय कार्यालय के दायरे में पूरा बिलासपुर रेलवे जोन आता है। ऐसे में यात्रा का लाभ महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, ओडिशा व मध्य प्रदेश के यात्री उठा सकते थे। इससे पहले संक्रमण के चलते भारत दर्शन व कामाख्या यात्रा भी रद करनी पड़ी थी। कामाख्या यात्रा मार्च
...
more...
2020 में और 31 मई को भारत दर्शन ट्रेन छूटनी थी।
खानपान के अलावा आइआरसीटीसी पैकेज तैयार कर देश के धार्मिक व पर्यटन स्थलों का भ्रमण भी कराता है। इससे राजस्व भी प्राप्त होता है। पर कोरोना संक्रमण के चलते आइआरसीटीसी को बार-बार यात्रा पैकेज रद करना पड़ रहा है। इसे लेकर वे चिंतित भी हंै। सबसे पहला झटका मार्च 2020 में लगा। इसी समय कोरोना की दस्तक हुई थी। पहली लहर सामान्य होने के बाद भारत दर्शन ट्रेन चलाने की योजना बनाई गई।
उस समय स्थिति सामान्य थी। इसलिए लोगों से बेहतर प्रतिसाद भी मिला। पर दूसरी लहर ने दस्तक दी। इसके बाद बुकिंग रद होने लगी। इसे देखते हुए यह यात्रा रद कर दी गई। दूसरी लहर के समाप्त होते ही राजस्थान का पैकेज तैयार किया गया। इसमें ट्रेन की जगह फ्लाइट से लेकर जाने की योजना थी। इस यात्रा के तहत 23 अगस्त को यात्री रायपुर से उड़ान भरते। इस दौरान उन्हें जयपुर, पुष्कर, चित्तौड़गढ़, उदयपुर और जोधपुर घुमाया जाता।
28 अगस्त को जोधपुर से फ्लाइट वापस रायपुर के लिए उड़ती। मुख्यालय से इस पैकेज पर मुहर लगने के बाद प्रचार-प्रसार श्ाुरू कर दिया गया था। पर किसी ने बुकिंग नहीं कराई। हालांकि इस संबंध में जितने भी यात्रियों ने जानकारी ली थी, उनसे आइआरसीटीसी संपर्क कर बुकिंग की जानकारी लेने का प्रयास करता रहा। पर सभी ने यह कहते हुए इन्कार कर दिया कि तीसरी लहर का खतरा मंडरा रहा है। लगातार मनाही और एक भी बुकिंग नहीं होने के कारण यात्रा रद करने में ही समझदारी समझी गई।
राजस्थान यात्रा रद कर दी गई है। कोरोना संक्रमण के कारण लोग बुकिंग कराने में दिलचस्पी नहीं ले रहे हैं। हालांकि अभी कुछ और यात्रा की योजना बनाई गई है। जिसमें बेहतर रिस्पांस भी मिल रहा है।
जे. सोरेन, एरिया मैनेजर आइआरसीटीसी बिलासपुर

Aug 12 (14:13)
Amit Dey~   138 blog posts
Re# 5039872-3            Tags   Past Edits
read properly u will get answer

1 Public Posts - Thu Aug 12, 2021
Info Update
17347 views
Jul 28 (11:36)   02259/Gitanjali SF Special (PT) | CSTM/Mumbai CSM Terminus (18 PFs)
Amit Dey~   138 blog posts
Entry# 5026549            Tags   Past Edits
Admin plz add DL1 to 02259 CSTM-HWH Gitanjali exp.one EOG is replaced with DL1 saw at chart vacany column of IRCTC website.

2 Public Posts - Wed Jul 28, 2021

15382 views
Jul 28 (12:51)
Amit Dey~   138 blog posts
Re# 5026549-3            Tags   Past Edits
its showing on the irctc website.chart vacancy column

2 Public Posts - Wed Jul 28, 2021
General Travel
★★
May 28 (15:36)   01151/Mumbai CSMT - Madgaon Jan Shatabdi Special (PT) | DR/Dadar Central (8 PFs)
Megha Syam
MeghaSyam^~   12279 blog posts
Entry# 4971592            Tags   Past Edits
Revised Composition

Change In Terminal

ICF To LHB

1 Public Posts - Fri May 28, 2021

3 Public Posts - Sat May 29, 2021

8 Public Posts - Mon May 31, 2021

10427 views
May 31 (17:16)
Amit Dey~   138 blog posts
Re# 4971592-13            Tags   Past Edits
12151/52 Samarsata Exp no. given to Madgaon Janshatabdi

1 Public Posts - Mon May 31, 2021
Super Cyclone Yaas यास तूफान का मुख्य असर ओडिशा पश्चिम बंगाल और आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों में देखने को मिलेगा। लेकिन झारखंड में भी प्रभावित होगा। यहां भारी बारिश होगी। साल 2018 मई में आए ताकतवर तूफान एम्फन से ज्यादा ताकतवर यास को माना जा रहा है।
धनबाद, जेएनएन। Super Cyclone Yaas बेहद ताकतवर हो रहे चक्रवात यास का असर दिखने लगा है। झारखंड में दस्तक देने से पहले ही मंगलवार सुबह से धनबाद और आसपास के जिलों में थम-थमकर बारिश हो रही है। माैसम विभाग ने रेड अलर्ट जारी करते हुए बुधवार को भारी बारिश की चेतावनी दी है। दूसरी तरफ इस तूफान के द्वारा बड़ी तबाही मचाने के भी संकेत मिल रहे हैं। मौसम विभाग की मानें तो चक्रवात से
...
more...
झोपड़ियों पर खतरा तो मंडरा ही रहा है। साथ ही पक्के मकान भी इसकी जद में आ सकते हैं। यहां तक की पक्की सड़कें भी आंधी बारिश से क्षतिग्रस्त हो सकती हैं। सड़कों के साथ-साथ रेलवे पर भी इसका बड़ा प्रभाव पड़ने की संभावना है। तेज आंधी से पेड़ गिरने और तेज बारिश से मिट्टी बह जाने से रेलवे का ओवरहेड तार और रेलवे ट्रैक क्षतिग्रस्त हो सकता है। सिगनलिंग सिस्टम को भी बड़ी क्षति पहुंचने की संभावना है। हालांकि सभी हिस्सों में रेलवे और सड़कों के प्रभावित होने की संभावना नहीं है। इसका असर उन्हीं हिस्सों में ज्यादा होगा जहां से तूफान का केंद्र नजदीक से गुजरेगा। रेलवे हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार तूफान यास से निपटने के लिए रेलवे हाई अलर्ट पर है। पश्चिम बंगाल और ओडिशा करीब-करीब सभी ट्रेनें 25, 26 और 27 मई तक रद कर दी गई हैं। तूफान के दाैरान रेलवे ट्रैक्शन और सिगनलिंग सिस्टम प्रभावित हो सकता है। इससे निपटने के लिए रेलवे ने तैयारी की है। सिक्किम से आंध्र प्रदेश तक फैल चुके बादल, धनबाद-बोकारो में भारी बारिश का अनुमान पत्नी-बच्चों समेत वर्चुअल उपवास पर बैठे ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी के सदस्य संतोष सिंह Dhanbad News यह भी पढ़ें बंगाल की खाड़ी में आया चक्रवात कितना ताकतवर है,  इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि सिक्किम से आंध्र प्रदेश तक इसके बादल फैले हैं और सभी राज्य सरकारों को सतर्क किया गया है। चक्रवात के बादलों की आवाजाही होने से मंगलवार की सुबह से ही आबोहवा बदल गई है। सुबह हल्की बूंदाबांदी भी हुई और उसके बाद से आसमान में बादल छाए हुए हैं। मौसम विभाग ने 25 मई को भी धनबाद और बोकारो में भारी बारिश की संभावना जताई है। दोनों जिलों में कहीं कहीं आंधी की भी संभावना है।  26 की दोपहर से धनबाद समेत पूरे राज्य में दिखेगा ज्यादा असर  झारखंड में 26 मई की दोपहर से चक्रवात का ज्यादा असर दिखेगा। दक्षिणी झारखंड से 40 से 50 की रफ्तार से प्रवेश होगा। धीरे धीरे गति बढ़ती जाएगी जो 90 से 120 किमी की स्पीड तक पहुंचेगा। अधिकतम गति 130 किमी प्रति घंटे तक हो सकती है। सीमित संसाधनों वाले स्कूलों की छात्राएं भी अब बनेंगी एनसीसी कैडेट; जिले के स्कूलों के लिए अच्छी खबर Dhanbad News यह भी पढ़ें झारखंड में सरायकेला-खरसावां ज‍िला होगा चक्रवात का केंद्र ब‍िन्‍दु चक्रवात यास का असर झारखंड के दक्ष‍िणी ज‍िलों पूर्वी स‍िंंहभूम, पश्‍च‍िमी स‍िंंहभूम, सरायकेला खरसावां और स‍िमडेगा में व‍िशेष रूप से द‍िख रहा है। कोल्‍हान के तीनों ज‍िलों में जहां बार‍िश हो रही है, वहीं स‍िमडेगा ज‍िले में बादल छाए हुए हैं। यही हाल राजधानी रांची का भी है। यहां भी सुबह से आसामान में बादल उमड़ रहे हैं। झारखंड में चक्रवात का केंद्र ब‍िन्‍दु सरायकेला खरसावां ज‍िला हो सकता है। पहले पूर्वी स‍िंंहभूम को केंद्र ब‍िन्‍दु माना जा रहा था। चक्रवाता से सरायकेला खरसावां ज‍िले में सर्वाध‍िक बर्बादी की आशंका है। उप-निदेशक ने सदर अस्पताल का किया निरीक्षण; HIV रोग‍ियों दी जा रही सुविधाओं का लिया जायजा Dhanbad News यह भी पढ़ें एम्फान से भी ज्यादा खतरनाक है यास यास तूफान का मुख्य असर ओडिशा, पश्चिम बंगाल और आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों में देखने को मिलेगा। लेकिन झारखंड में भी प्रभावित होगा। यहां भारी बारिश होगी। साल 2018 मई में आए ताकतवर तूफान एम्फान से ज्यादा ताकतवर यास को माना जा रहा है। मौसम विभाग के अनुसार यह चक्रवात एम्फन से इसे ज्यादा खतरनाक है। शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप
धनबाद, जेएनएन। Super Cyclone Yaas बेहद ताकतवर हो रहे चक्रवात यास का असर दिखने लगा है। झारखंड में दस्तक देने से पहले ही मंगलवार सुबह से धनबाद और आसपास के जिलों में थम-थमकर बारिश हो रही है। माैसम विभाग ने रेड अलर्ट जारी करते हुए बुधवार को भारी बारिश की चेतावनी दी है। दूसरी तरफ इस तूफान के द्वारा बड़ी तबाही मचाने के भी संकेत मिल रहे हैं। मौसम विभाग की मानें तो चक्रवात से झोपड़ियों पर खतरा तो मंडरा ही रहा है। साथ ही पक्के मकान भी इसकी जद में आ सकते हैं। यहां तक की पक्की सड़कें भी आंधी बारिश से क्षतिग्रस्त हो सकती हैं। सड़कों के साथ-साथ रेलवे पर भी इसका बड़ा प्रभाव पड़ने की संभावना है। तेज आंधी से पेड़ गिरने और तेज बारिश से मिट्टी बह जाने से रेलवे का ओवरहेड तार और रेलवे ट्रैक क्षतिग्रस्त हो सकता है। सिगनलिंग सिस्टम को भी बड़ी क्षति पहुंचने की संभावना है। हालांकि सभी हिस्सों में रेलवे और सड़कों के प्रभावित होने की संभावना नहीं है। इसका असर उन्हीं हिस्सों में ज्यादा होगा जहां से तूफान का केंद्र नजदीक से गुजरेगा।
रेलवे हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार
तूफान यास से निपटने के लिए रेलवे हाई अलर्ट पर है। पश्चिम बंगाल और ओडिशा करीब-करीब सभी ट्रेनें 25, 26 और 27 मई तक रद कर दी गई हैं। तूफान के दाैरान रेलवे ट्रैक्शन और सिगनलिंग सिस्टम प्रभावित हो सकता है। इससे निपटने के लिए रेलवे ने तैयारी की है।
सिक्किम से आंध्र प्रदेश तक फैल चुके बादल, धनबाद-बोकारो में भारी बारिश का अनुमान

बंगाल की खाड़ी में आया चक्रवात कितना ताकतवर है,  इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि सिक्किम से आंध्र प्रदेश तक इसके बादल फैले हैं और सभी राज्य सरकारों को सतर्क किया गया है। चक्रवात के बादलों की आवाजाही होने से मंगलवार की सुबह से ही आबोहवा बदल गई है। सुबह हल्की बूंदाबांदी भी हुई और उसके बाद से आसमान में बादल छाए हुए हैं। मौसम विभाग ने 25 मई को भी धनबाद और बोकारो में भारी बारिश की संभावना जताई है। दोनों जिलों में कहीं कहीं आंधी की भी संभावना है।  26 की दोपहर से धनबाद समेत पूरे राज्य में दिखेगा ज्यादा असर  झारखंड में 26 मई की दोपहर से चक्रवात का ज्यादा असर दिखेगा। दक्षिणी झारखंड से 40 से 50 की रफ्तार से प्रवेश होगा। धीरे धीरे गति बढ़ती जाएगी जो 90 से 120 किमी की स्पीड तक पहुंचेगा। अधिकतम गति 130 किमी प्रति घंटे तक हो सकती है।

झारखंड में सरायकेला-खरसावां ज‍िला होगा चक्रवात का केंद्र ब‍िन्‍दु
चक्रवात यास का असर झारखंड के दक्ष‍िणी ज‍िलों पूर्वी स‍िंंहभूम, पश्‍च‍िमी स‍िंंहभूम, सरायकेला खरसावां और स‍िमडेगा में व‍िशेष रूप से द‍िख रहा है। कोल्‍हान के तीनों ज‍िलों में जहां बार‍िश हो रही है, वहीं स‍िमडेगा ज‍िले में बादल छाए हुए हैं। यही हाल राजधानी रांची का भी है। यहां भी सुबह से आसामान में बादल उमड़ रहे हैं। झारखंड में चक्रवात का केंद्र ब‍िन्‍दु सरायकेला खरसावां ज‍िला हो सकता है। पहले पूर्वी स‍िंंहभूम को केंद्र ब‍िन्‍दु माना जा रहा था। चक्रवाता से सरायकेला खरसावां ज‍िले में सर्वाध‍िक बर्बादी की आशंका है।

एम्फान से भी ज्यादा खतरनाक है यास
यास तूफान का मुख्य असर ओडिशा, पश्चिम बंगाल और आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों में देखने को मिलेगा। लेकिन झारखंड में भी प्रभावित होगा। यहां भारी बारिश होगी। साल 2018 मई में आए ताकतवर तूफान एम्फान से ज्यादा ताकतवर यास को माना जा रहा है। मौसम विभाग के अनुसार यह चक्रवात एम्फन से इसे ज्यादा खतरनाक है।

Rail News
5123 views
May 25 (18:02)
Amit Dey~   138 blog posts
Re# 4969430-1            Tags   Past Edits
Amphan cyclone was in May 2020

3 Public Posts - Tue May 25, 2021
Page#    117 Blog Entries  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Desktop site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy