Full Site Search  
Fri Jul 21, 2017 16:19:43 IST
Advanced Search
×
News Super Search
News Entry#:
Search Phrase:

Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Trains in the News    Stations in the News   
Page#    19861 news entries  <<prev  next>>
  
Jul 18 2017 (06:59)  बाढ़ में बहा रेलवे ब्रिज, 13 ट्रेनें रद (epaper.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsSER/South Eastern  -  

News Entry# 308724     
   Tags   Past Edits
Jul 18 2017 (06:59)
Station Tag: Chakradharpur/CKP added by दक्षिण पूर्व रेलवे😍😘😊^~/1421836

Posted by: बिंदिया लगाती तो कांपती थी पलकें माएरी😊^~  1221 news posts
छह घंटे विलंब से टाटानगर पहुंची एल्लेपी एक्स.
जागरण संवाददाता, चक्रधरपुर : ईस्ट कोस्ट रेलवे ने चक्रधरपुर रेल मंडल से गुजरने वाली दो जोड़ी ट्रेनों को डायवर्ट रूट व शॉर्ट टर्मिनेट कर 20 जुलाई तक चलाने का निर्णय लिया है। जानकारी के अनुसार ओडिशा में तेज बारिश हो रही है। इससे नागवल्ली की सहायक नदी कल्याणी में बाढ़ आ गई है। जिससे ईस्ट कोस्ट रेलवे के संबलपुर डिविजन के रायगड़ा स्टेशन से 11 किलोमीटर दूरी पर स्थित सिंगपुर रोड व थेरूबली स्टेशनों के बीच बहने वाली कल्याणी नदी पर बने रेलवे ब्रिज नंबर 588 पानी के तेज बहाव में बह गया। इसके मद्देनजर ईस्ट कोस्ट रेलवे ने 20 जुलाई तक इस रूट से गुजरने वाली 13 ट्रेनों को रद, सात ट्रेनों को
...
more...
डायवर्ट एवं एक ट्रेन को शॉर्ट टर्मिनेट कर चलाने का निर्णय लिया है।1डायवर्ट रूट से चलेगी एलेप्पी : ट्रेन नंबर 18190 डाउन व 18189 अप टाटानगर एलेप्पी एक्सप्रेस ट्रेन को रेलवे डार्यवट रूट से झारसुगुड़ा, संबलपुर, अनगुल, खोरदा रोड़ व विजयनगरम स्टेशन होकर चलाएगी। डायवर्ट रूट से चलने के कारण सोमवार की सुबह 07:55 बजे चक्रधरपुर पहुंचने वाली डाउन टाटा एलेप्पी एक्सप्रेस छह घंटे लेट से दोपहर 02:03 बजे पहुंची।जागरण संवाददाता, चक्रधरपुर : ईस्ट कोस्ट रेलवे ने चक्रधरपुर रेल मंडल से गुजरने वाली दो जोड़ी ट्रेनों को डायवर्ट रूट व शॉर्ट टर्मिनेट कर 20 जुलाई तक चलाने का निर्णय लिया है। जानकारी के अनुसार ओडिशा में तेज बारिश हो रही है। इससे नागवल्ली की सहायक नदी कल्याणी में बाढ़ आ गई है। जिससे ईस्ट कोस्ट रेलवे के संबलपुर डिविजन के रायगड़ा स्टेशन से 11 किलोमीटर दूरी पर स्थित सिंगपुर रोड व थेरूबली स्टेशनों के बीच बहने वाली कल्याणी नदी पर बने रेलवे ब्रिज नंबर 588 पानी के तेज बहाव में बह गया। इसके मद्देनजर ईस्ट कोस्ट रेलवे ने 20 जुलाई तक इस रूट से गुजरने वाली 13 ट्रेनों को रद, सात ट्रेनों को डायवर्ट एवं एक ट्रेन को शॉर्ट टर्मिनेट कर चलाने का निर्णय लिया है।1डायवर्ट रूट से चलेगी एलेप्पी : ट्रेन नंबर 18190 डाउन व 18189 अप टाटानगर एलेप्पी एक्सप्रेस ट्रेन को रेलवे डार्यवट रूट से झारसुगुड़ा, संबलपुर, अनगुल, खोरदा रोड़ व विजयनगरम स्टेशन होकर चलाएगी। डायवर्ट रूट से चलने के कारण सोमवार की सुबह 07:55 बजे चक्रधरपुर पहुंचने वाली डाउन टाटा एलेप्पी एक्सप्रेस छह घंटे लेट से दोपहर 02:03 बजे पहुंची।जमशेदपुर : टिटलागढ़-रायगढ़ा के बीच नदी पर बने रेलवे का पुल बह जाने के कारण एल्लेपी-टाटा एक्सप्रेस परिवर्तित मार्ग संबलपुर-झासुगोड़ा होकर करीब छह घंटे विलंब से टाटानगर स्टेशन दोपहर तीन बजे के बाद पहुंची। ट्रेन का टाटानगर स्टेशन पहुंचने का समय सुबह 9.10 बजे है मगर ट्रेन दोपहर 3.25 के बाद टाटानगर स्टेशन पहुंची। ट्रेन के विलंब होने से यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा। वहीं हावड़ा-जगदलपुर संबलेश्वरी टिटलागढ़ से जगदलपुर के बीच रद रही। टिटलागढ़ से ट्रेन जगदलपुर-हावड़ा एक्सप्रेस बनकर अपने निर्धारित समय पर रवाना हुई।
  
Jul 18 2017 (06:57)  Upset with daily delay, passengers block train (www.thehindu.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsSWR/South Western  -  

News Entry# 308722     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: rdb*^  130814 news posts
The train to Hosur was scheduled to leave Yeshwantpur station at 6.30 a.m., but had pulled out 45 minutes later
Barely a week after rail passengers travelling between Hosur and Yeshwantpur staged a protest at Anekal Road, Carmelaram and Heelalige stations, passengers travelling from Yeshwantpur towards Hosur stopped the train for around two hours on Monday to protest late running of the train.
The train was scheduled to leave Yeshwantpur at 6.30 a.m., but pulled out 45 minutes later. The protest occurred at Baiyappanahalli terminal where the train regularly halts to allow express
...
more...
trains to pass. On Monday, the train reached Baiyappanahalli around 7.30 a.m. The slow progress of the train upset passengers who got off and staged a protest.
The train was not allowed to move till around 9.30 a.m.
Last week, six trains had been delayed because of a 90-minute protest in the morning by passengers on board the Hosur-Yeshwantpur passenger. Passengers had highlighted how their work was being affected with many losing half-a-day’s wage because of late running of trains on this stretch.
Regarding Monday’s protest, Suhas Narayana Murthy, a commuter, said anger had been building up over the late running of the train. “This train has the potential to provide links to two Namma Metro stations if it is connected to Baiyappanahalli and even three if it is extended to K.S.R. Railway Station. Around 9,000 people take this train daily. With a few tweaks, these people would not have to use city roads at all,” he said. “We have presented a detailed plan to the Divisional Railway Manager, but are yet to hear from them.” Railway officials could not be reached for a comment on Monday’s protest.
  
Jul 18 2017 (06:53)  भारी बारिश से कई ट्रेने रद कुछ बदले रूट पर चलेंगी (epaper.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsECoR/East Coast  -  

News Entry# 308720     
   Tags   Past Edits
Jul 18 2017 (06:53)
Station Tag: Bhubaneswar/BBS added by दक्षिण पूर्व रेलवे😍😘😊^~/1421836

Posted by: बिंदिया लगाती तो कांपती थी पलकें माएरी😊^~  1221 news posts
20 तक जारी रहेगी बारिश,सभी जिलाधीशों को सतर्क रहने के निर्देश
जागरण संवाददाता, भुवनेश्वर: राज्य में भारी बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। भारी बारिश से संबलपुर डिवीजन में सिंगापुर-थेरुबाली रेलपथ का 588 नंबर ब्रिज पानी के तेज बहाव में बह गया। इससे उक्त मार्ग से गुजरने वाली कई ट्रेनों का रद कर दिया गया है तो कुछ का रूट बदला गया है। पूर्वतट रेलवे के मुताबिक उपरोक्त रेलपथ पर 11 ट्रेनों का परिचालन रद किया गया है जबकि पांच ट्रेने बदले हुए मार्ग से चलेंगी। रेलवे की ओर से बताया गया कि ब्रिज का मरम्मत कार्य संपन्न होने के बाद इन रूटों के बारे में जानकारी दी जाएगी। 120 तक जारी रहेगी बारिश: बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाव
...
more...
का क्षेत्र अब पूरी तरह से सक्रिय हो गया है। इससे राज्य भर में भारी बारिश का दौर शुरू हो गया है जो आगामी 20 जुलाई तक जारी रहेगा। मौसम विभाग के मुताबिक इस दौरान समुद्र अशांत रहेंगे और तटीय इलाकों में तेज हवा भी चलेगी। 1 ऐसे में भारी बारिश के मद्देनजर राज्य के सभी जिलों के जिलाधीशों को सतर्क रहने के लिए स्पेशल रिलीफ कमिश्नर (एसआरसी) विष्णुपद सेठी ने निर्देश जारी किया है। मौसम विभाग के अनुसार 16 जुलाई को बना कम दबाव का क्षेत्र सक्रिय हो गया , जिसके प्रभाव से 18 तक दक्षिण एवं तटीय ओडिशा में भारी बारिश होगी। हालांकि 19 एवं 20 जुलाई तक उत्तर ओडिशा के कुछ जिलों में भारी बारिश का दौर जारी रहेगा। इधर, रविवार को दिन भर राजधानी भुवनेश्वर के साथ पूरे राज्य में भीषण बारिश होने से कुछ नदियां उफान पर आ गई हैं। 20 जुलाई तक राज्य में भारी बारिश तो होगी ही उसके साथ ही जगह जगह ओला गिरने की भी संभावना है।जागरण संवाददाता, भुवनेश्वर: राज्य में भारी बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। भारी बारिश से संबलपुर डिवीजन में सिंगापुर-थेरुबाली रेलपथ का 588 नंबर ब्रिज पानी के तेज बहाव में बह गया। इससे उक्त मार्ग से गुजरने वाली कई ट्रेनों का रद कर दिया गया है तो कुछ का रूट बदला गया है। पूर्वतट रेलवे के मुताबिक उपरोक्त रेलपथ पर 11 ट्रेनों का परिचालन रद किया गया है जबकि पांच ट्रेने बदले हुए मार्ग से चलेंगी। रेलवे की ओर से बताया गया कि ब्रिज का मरम्मत कार्य संपन्न होने के बाद इन रूटों के बारे में जानकारी दी जाएगी। 120 तक जारी रहेगी बारिश: बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाव का क्षेत्र अब पूरी तरह से सक्रिय हो गया है। इससे राज्य भर में भारी बारिश का दौर शुरू हो गया है जो आगामी 20 जुलाई तक जारी रहेगा। मौसम विभाग के मुताबिक इस दौरान समुद्र अशांत रहेंगे और तटीय इलाकों में तेज हवा भी चलेगी। 1 ऐसे में भारी बारिश के मद्देनजर राज्य के सभी जिलों के जिलाधीशों को सतर्क रहने के लिए स्पेशल रिलीफ कमिश्नर (एसआरसी) विष्णुपद सेठी ने निर्देश जारी किया है। मौसम विभाग के अनुसार 16 जुलाई को बना कम दबाव का क्षेत्र सक्रिय हो गया , जिसके प्रभाव से 18 तक दक्षिण एवं तटीय ओडिशा में भारी बारिश होगी। हालांकि 19 एवं 20 जुलाई तक उत्तर ओडिशा के कुछ जिलों में भारी बारिश का दौर जारी रहेगा। इधर, रविवार को दिन भर राजधानी भुवनेश्वर के साथ पूरे राज्य में भीषण बारिश होने से कुछ नदियां उफान पर आ गई हैं। 20 जुलाई तक राज्य में भारी बारिश तो होगी ही उसके साथ ही जगह जगह ओला गिरने की भी संभावना है।इन ट्रेनों को किया गया रद1’रायपुर पैसेंजर ’दुर्ग पैसेंजर ’संबलपुर पैसेंजर ’संबलपुर एक्सप्रेस ’राउरकेला एक्सप्रेस ’ दुर्ग-जगदलपुर एक्सप्रेस ’ जगदलपुर-दुर्ग एक्सप्रेस ’ संबलपुर-नानदेड़ एक्सप्रेस ’नानदेड़-संबलपुर एक्सप्रेस ’बिलासपुर-तिरुपति एक्सप्रेस ’तिरुपति-बिलासपुर एक्सप्रेस1इन ट्रेनों का बदला मार्ग 1’ विजयनगरम एक्सप्रेस ’खुर्दारोड पैसेंजर ’अनुगुल पैसेंजर ’संबलपुर पैसेंजर ’झारसुगुड़ा एक्सप्रेस
  
Jul 17 2017 (21:29)  Railway bridge washed away in Odisha, train services affected (timesofindia.indiatimes.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsECoR/East Coast  -  

News Entry# 308704     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: rdb*^  130814 news posts
BHUBANESWAR: Train services have been badly affected in Rayagada-Titlagarh section after a railway bridge between Therubali and Singapur Road in Rayagada district washed away due to heavy flow of flood water in the Nagabali River on Sunday.
Incessant rain since Saturday evening lashed Rayagada and its neighbouring districts and created flood in Nagabali river. Under the impact of the heavy water flow in the river, two pillars of railway bridge no- 588 between Therubali and Singapur Road stations collapsed. It all happened at around 11 am.
East Coast Railway (ECoR) sources said an
...
more...
alert gangman stopped an approached goods train which was supposed to pass on this bridge during the washing away of the bridge. He averted a possible accident, it added.
As many as 11 trains were cancelled and several others controlled and short-terminated at different places due to the incident. The cancelled trains were — Raipur-Visakhapatnam Passenger, Durg-Visakhapatnam, Sambalpur - Koraput, Sambalpur - Rayagada, Rourkela - Koraput, Durg-Jagdalpur express, Jagdalpur - Durg express, Sambalpur - Nanded express, Nanded - Sambalpur express, Bilaspur - Tirupati express and Tirupati - Bilaspur express.
Six trains were partially cancelled. These were- Sambalpur-Rayagada Express, Raipur-Visakhapatnam Passenger, Howrah-Jagadalpur Samaleswari Express and its return train, Sambalpur-Koraput Passenger and Koraput-Sambalpur Pasenger train. Besides, eight trains were controlled at different places to ease the traffic in the route.
Trains originating and reaching to Visakhapatnam via Vizianagaram, Singapur Road and Titlagarh junction have been delayed. Efforts are on to restore the movement of trains in the section through the second railway bridge on the river, ECoR sources said.
A statement from ECoR chief public relations officer JP Mishra said senior officers reached the site to take stock of the situation. Materials have been sent to the site to be used in the relief work, he added.
"We have opened emergency control rooms at Bhubaneswar, Sambalpur, Khurda Road and Visakhapatnam. Principal chief engineer of Railways has already advised local divisions to put in all available resources to restore traffic early. ECoR general manager Umesh Singh inquired about the flood position and advised restoration on high priority," said Mishra.
Flood waters have not receded yet. Work of the collapsed bridge will start after receding of flood water in the Nagabali river, said a senior railway officer.
  
Jul 17 2017 (21:21)  Flood situation grim in south Odisha (www.thehindu.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsECoR/East Coast  -  

News Entry# 308697     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: rdb*^  130814 news posts
Villagers marooned, bridges washed away, roads inundated, trains cancelled
Thousands of villagers in Odisha’s Rayagada and Kalahandi districts have been cut off by flood waters following flash floods triggered by incessant rains since Saturday evening. One person died in a landslide while dozens of villages were marooned by flood waters in the Kalyansingpur block of Rayagada and Thuamul Rampur block of Kalahandi. Four bridges, including a railway bridge, were washed away in swirling flood waters, with disruption in both vehicular and train movement on Sunday.
Flood water was flowing above the Rayagada-Andhra Pradesh
...
more...
road. As many as 11 trains were cancelled while five other trains were diverted to other routes.
While the Thuamul-Rampur area of Kalahandi received 260 mm rainfall in the past 24 hours, the Kashipur block in Rayagada recorded 237 mm rainfall during the same period, causing flash floods in the Nagabali and Kalyan rivers. In Kalahandi, water level in the Hati river is rising.
“About 80% of the Kalyansingpur block has been submerged by the water. Flood water had also entered residential schools for tribal children. They have been rescued by the administration. When the helicopter from Visakhapatnam reaches the district on Monday morning, we will intensify our rescue and relief operation,” said Rayagada collector Guha Punam Tapas Kumar.
IAF, Army to the rescue
Schools have been closed for three days in the Kalyansingpur and Rayagada blocks.
As the situation continued to be grim, four helicopters of the Indian Air Force (IAF) have been requisitioned for air-dropping of food packets as well as rescue of people. The government has also intimated the Army about the situation.
Both the district administrations had already started rescue operations with the help of the Central Reserve Police Force (CRPF), the Odisha Disaster Rapid Action Force (ODRAF) and State fire service personnel. Three units of the National Disaster Response Force (NDRF) with equipment and boats will be joining the operation from the early hours of Monday.
Chief Minister Naveen Patnaik rushed to control room of the Special Relief Commissioner (SRC) to take stock of the situation.
Page#    19861 news entries  <<prev  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.