Full Site Search  
Fri Nov 24, 2017 14:30:51 IST
Advanced Search
×
News Super Search
News Entry#:
Search Phrase:

Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Trains in the News    Stations in the News   
Page#    21521 news entries  <<prev  next>>
  
Nov 17 2017 (23:40)  Railway security committee sounds warning for rail roko agitators (timesofindia.indiatimes.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsECoR/East Coast  -  

News Entry# 322826     
   Past Edits
Nov 17 2017 (23:40)
Station Tag: Bhubaneswar/BBS added by I WANT UJJAIN TO BE MADE AS TERMINAL/1458461
Stations:  Bhubaneswar/BBS  
 
 
BHUBANESWAR: Newly constituted security committee for railways in the state on Monday decided to intensify prosecution of people, staging rail blockades. Director general of police Rajendra Prasad Sharma, who is chairman of the committee, also laid stress on coordination between railway protection force (RPF) and government railway police (GRP) in Naxal-affected districts.
The committee, formed last month following direction from ministry of home affairs, has members of RPF, GRP and Odisha police. Sharma presided over the committee's maiden meeting here and discussed with railway security agencies on safety aspects.
"We came to know
...
more...
that the RPF did a good job by bringing the rail-roko protesters to book in last few years. Some of the protesters were convicted and asked to pay the financial losses, caused by the rail blockades. The GRP should also take similar action against the rail-roko agitators," Sharma said.
PRF's inspector general Atul Pathak said the number of rail-rokos came down drastically in last few years due to crackdown on the protesters under section 174 of the Railways Act. In 2017, RPF registered total 129 cases against agitators across the state. At least 40 cases ended in conviction in courts so far this year.
"We also laid emphasis on installation of CCTV cameras in all railway stations. Patrolling will be intensified in vulnerable areas affected by Maoists. We will also improve intelligence gathering system following better coordination between RPF and GRP," Sharma said.
  
Nov 17 2017 (12:10)  Railways to send report to UNESCO on damage done to toy train service during Gorkhaland stir | The Indian Express (indianexpress.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNFR/Northeast Frontier  -  

News Entry# 322810     
   Past Edits
Nov 17 2017 (12:11)
Station Tag: Darjeeling/DJ added by 22317 SDAH JAT HS 22318^~/496597

Nov 17 2017 (12:11)
Station Tag: Ghoom/GHUM added by 22317 SDAH JAT HS 22318^~/496597

Nov 17 2017 (12:11)
Station Tag: New Jalpaiguri Junction/NJP added by 22317 SDAH JAT HS 22318^~/496597
 
 
Two stations of DHR — a world heritage site — were burnt and ransacked during the 104-day long agitation in the Hills. Other stations were also partially damaged. The report will contain information about all stations, tracks and personnel.
UNESCO has already expressed concern over incidents of arson having affecting the DHR and had even written to the Centre.
Built between 1879 and 1881, the DHR is a 2-feet narrow-gauge railway which runs between New Jalpaiguri and Darjeeling (87 km). India’s highest railway station in Ghum, is part of this network. The rail
...
more...
line has a total of six zig zags and five loops and its highest point is at 2,200 m (7,218 ft), in Darjeeling. A major tourist attraction, the DHR got its heritage tag from UNESCO in 1999.
A UNESCO team, which was forced to return from Darjeeling as the Gorkha Janmukti Morcha (GJM) led agitation started, will be revisiting Darjeeling shortly.
“We have asked for a detailed report from DHR regarding the damages and present condition. The report will be sent to the UNESCO World Heritage Centre through the union cultural ministry,” said Subrata Nath, executive director heritage (Railway Board), speaking to The Indian Express from New Delhi.
“I do not think the world heritage tag is in danger. But we will seek the help of UNESCO during the repair and restoration process. Funds will be allotted for that purpose,” he added.
In January this year, then Railway Minister Suresh Prabhu had signed an agreement to enable UNESCO to develop a Comprehensive Conservation Management Plan (CCMP) for the DHR and a framework for an effective management system.
The strike in the Darjeeling Hills, called by the GJM for a separate state of Gorkhaland, had started on June 15.
“The UNESCO team, who were there making the conservation plan, had to abandon it and return during the agitation. They are on their way back,” said Nath.
On July 8, supporters of Gorkhaland had set fire to Sonada station. On July 13, Gayabari station was torched allegedly by GJM supporters. However, GJM has maintained that it was the work of “miscreants to defame the party”. Both stations were badly damaged.
On June 12, train services were stopped after agitations in the Hills and incidents of arson. They partially resumed on October 15.
  
Nov 17 2017 (06:14)  दिल्ली कैंट स्टेशन पर कैंप कोच में लगी आग (epaper.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNR/Northern  -  

News Entry# 322789     
   Past Edits
Nov 17 2017 (06:14)
Station Tag: Delhi Cantt./DEC added by DHN NDLS Dedicated Train Is On Card😍😊^~/1421836
Stations:  Delhi Cantt./DEC  
 
 
जागरण संवाददाता, पश्चिमी दिल्ली: दिल्ली कैंट स्टेशन पर पटरियों के रखरखाव के लिए रखे कैंप कोच से बृहस्पतिवार ढाई बजे अचानक धुआं निकलने लगा। स्टेशन पर तैनात जवानों ने इसकी जानकारी स्टेशन मास्टर और अग्निशमन विभाग को दी। 1 अग्निशमन की गाड़ी मौके पर पौने तीन बजे पहुंची तब तक कोच में आग लग चुकी थी। सबसे पहले दो अग्निशमन की गाड़ियों ने आग को बुझाने का काम शुरू किया और एहतियात के तौर पर दो अग्निशमन की गाड़ियां और मंगा ली गई थी। आधे घंटे में आग पर पूरी तरह से काबू पा लिया गया। आगजनी में कोच में रखे सामान जल गए। हालांकि, आग लगने के कारणों को लेकर अभी स्थिति स्पष्ट नहीं हो पाई है, लेकिन आशंका जताई जा रही है शॉर्ट सर्किट की वजह से आग लगी होगी। इसको लेकर जांच की जा रही है। उत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी नितिन चौधरी ने कहा कि इस...
more...
घटना में ज्यादा क्षति नहीं पहुंची है। समय पर अग्निशमन की गाड़ियों के आने के कारण हालात को जल्द काबू में कर लिया गया। साथ ही इस कोच के आसपास खड़ी ट्रेन के अन्य कोचों को भी कोई क्षति नहीं पहुंची है। आग लगने के कारणों को लेकर जांच की जा रही है। उधर, आग लगने के बाद स्टेशन पर खड़े यात्री वहां पर पहुंच गए। इसके बाद जीआरपी ने लोगों को वहां से हटाया।जागरण संवाददाता, पश्चिमी दिल्ली: दिल्ली कैंट स्टेशन पर पटरियों के रखरखाव के लिए रखे कैंप कोच से बृहस्पतिवार ढाई बजे अचानक धुआं निकलने लगा। स्टेशन पर तैनात जवानों ने इसकी जानकारी स्टेशन मास्टर और अग्निशमन विभाग को दी। 1 अग्निशमन की गाड़ी मौके पर पौने तीन बजे पहुंची तब तक कोच में आग लग चुकी थी। सबसे पहले दो अग्निशमन की गाड़ियों ने आग को बुझाने का काम शुरू किया और एहतियात के तौर पर दो अग्निशमन की गाड़ियां और मंगा ली गई थी। आधे घंटे में आग पर पूरी तरह से काबू पा लिया गया। आगजनी में कोच में रखे सामान जल गए। हालांकि, आग लगने के कारणों को लेकर अभी स्थिति स्पष्ट नहीं हो पाई है, लेकिन आशंका जताई जा रही है शॉर्ट सर्किट की वजह से आग लगी होगी। इसको लेकर जांच की जा रही है। उत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी नितिन चौधरी ने कहा कि इस घटना में ज्यादा क्षति नहीं पहुंची है। समय पर अग्निशमन की गाड़ियों के आने के कारण हालात को जल्द काबू में कर लिया गया। साथ ही इस कोच के आसपास खड़ी ट्रेन के अन्य कोचों को भी कोई क्षति नहीं पहुंची है। आग लगने के कारणों को लेकर जांच की जा रही है। उधर, आग लगने के बाद स्टेशन पर खड़े यात्री वहां पर पहुंच गए। इसके बाद जीआरपी ने लोगों को वहां से हटाया।दिल्ली छावनी स्टेशन पर बोगी में लगी आग को बुझाते फायरकर्मी ’ हरि प्रकाश
  
Nov 16 2017 (07:38)  दो घंटे बाद हुआ ट्रेनों का परिचालन (m.livehindustan.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsER/Eastern  -  

News Entry# 322746   Blog Entry# 2773943     
   Past Edits
Nov 16 2017 (07:38)
Station Tag: Jamalpur Junction/JMP added by amishkumar~/1702584
Stations:  Jamalpur Junction/JMP  
 
 
जमालपुर मुंगेर रेलखंड के दौलतपुर के पुल संख्या 1/5 और 1/6 के बीच मंगलवार की सुबह करीब 10.48 में भभुआ जिले की अर्चना कुमारी की ट्रेन से कटकर मौत पर भागलपुर से मुंगेर आ रही एक मालगाड़ी बरियाकोल सुरंग में रुक गयी।
मालगाड़ी के रुकते ही जमालपुर से भागलपुर और भागलपुर से मुंगेर की रेलखंड जाम हो गई, तथा पांच गाड़ियां जहां तहां रुकी रहीं। करीब दो घंटे के बाद परिचालन सामान्य हो सका। इस बावत स्टेशन अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह ने बताया कि बरियाकोल सुरंग के पास मालगाड़ी रुकते ही डाउन भागलपुर जमालपुर डीएमयू जमालपुर के प्लेटफार्म संख्या एक पर एक घंटे तक रुकी रही।
इसी
...
more...
तरह डाउन गरीबरथ 11 से 1 बजे तक दशरथपुर में, अप साहेबगंज जमालपुर लोकल 1 घंटा तक रतनपुर में, अप विक्रमशिला एक्सप्रेस ट्रेन 30 मिनट तक बरियारपुर में और अप मालदह जमालपुर इंटरसिटी 2 घंटे तक बरियारपुर में खड़ी रही। हालांकि पटरी से शव उठने के बाद सुरंग से मालगाड़ी मुंगेर की ओर सरकी, तथा दो घंटे के बाद परिचालन सामान्य कर लिया गया है। इधर, ट्रेनों के इंतजार में यात्री हलकान दिखे। काफी देर होने के कारण लंबी दूरी से आने वाले मुसाफिरों को परेशानी हुई।

  
1183 views
Nov 16 2017 (08:01)
उत्तर पश्चिम रेलवे NWR^~   15087 blog posts   494 correct pred (59% accurate)
Re# 2773943-1            Tags   Past Edits
RIP :( _/\_ 😰
  
रेल लाइन टूटने से घंटेभर बाधित रहा आवागमन
पनियहवा व बाल्मीकिनगर रोड रेलवे स्टेशन के बीच बिहार सीमा में टूटी रेल लाईन
गोरखपुर-नरकटियागंज रेलखण्ड पर पनियहवा व बाल्मीकिनगर रोड रेलवे स्टेशन के बीच बिहार सीमा के जंगल में रेल लाईन टूटने के चलते घंटेभर यातायात बाधित रहा। टूटी हुई लाईन देख रेल कर्मचारियों ने एक मालगाड़ी ट्रेन को समय रहते रोक लिया। जिससे एक बड़ा हादसा होते-होते बच गया।मंगलवार की सुबह लगभग नौ बजे गोरखपुर-नरकटियागंज रेलखण्ड के पनियहवा व बाल्मीकिनगर रोड रेलवे स्टेशन के बीच मदनपुर देवी स्थान के समीप रेल फाटक सं.
...
more...
62 सी के निकट रेल लाईन टूटा देख निरीक्षण कर रहे लाईनमैन के होश उड़ गये। उसने इसकी सूचना बाल्मीकिनगर रोड रेलवे स्टेशन के अधीक्षक को दी। इसी बीच एक मालगाड़ी ट्रेन पनियहवा की तरफ से तेजी से आ रही थी। गेटमैन की मदद से ट्रेन को लाल झंडी दिखाकर कुछ दूरी पर ही रोक दिया गया। इस वजह से गोरखपुर से नरकटियागंज जाने वाली सवारी गाड़ी सं. 55072 पनियहवा रेलवे स्टेशन पर एक घंटे तक रुकी रही। मरम्मत के बाद यातायात बहाल हुआ। इस संबंध में पनियहवा के स्टेशन अधीक्षक विकास कुमार ने बताया की बिहार सीमा में रेल लाईन टूटने के चलते एक घंटे तक यातायात बाधित था। मरम्मत के बाद यातायात बहाल हो गया है।
द खड्डा। सहारा न्यूज
Page#    21521 news entries  <<prev  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.