Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Admin
 Followed
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt

12988 - बारह नौ सौ अठासी , इसके नखरे हैं नवाबी ! - Keshav Saxena

Search News

News Posts by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~

Page#    Showing 1 to 5 of 2056 news entries  next>>
  
Today (11:00) वाराणसी में बनेगा देश का पहला ट्रांसपॉर्ट 'संगम', रोप-वे, रोड, रेल और फेरी सर्विस एक जगह (navbharattimes.indiatimes.com)
New Facilities/Technology
0 Followers
1644 views

News Entry# 384427  Blog Entry# 4345136   
  Past Edits
Jun 17 2019 (11:52)
Station Tag: Kashi/KEI added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948

Jun 17 2019 (11:00)
Station Tag: Varanasi Junction/BSB added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948
Stations:  Varanasi Junction/BSB   Kashi/KEI  
विकास पाठक, वाराणसी
स्‍मार्ट सिटी बनने की ओर कदम बढ़ा चुके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में जाम की सबसे बड़ी समस्‍या से निपटने की कवायद तेज हो गई है। स्‍मार्ट ट्रैफिक मैनेजमेंट, स्‍मार्ट सर्विलांस सिस्‍टम और स्‍मार्ट पार्किंग के साथ ही पब्लिक ट्रांसपॉर्ट प्‍लैटफार्म के तहत परिवहन ‘संगम’ बनाने की तैयारी है। देश में अपने ढंग के अलग इस परिवहन संगम स्‍थल पर रोड, रेल, गंगा में फेरी सर्विस और रोप-वे से पब्लिक ट्रांसपॉर्ट की सुविधा उपलब्‍ध होगी।पीएम मोदी के दूसरे कार्यकाल में वाराणसी में विश्‍वस्‍तरीय अत्‍याधुनिक सुविधाएं उपलब्‍ध कराने के साथ-साथ जाम मुक्‍त कराने पर सबसे ज्‍यादा जोर है। इसके लिए केंद्र और योगी सरकार ने सभी विभागों को जल्‍द से जल्‍द प्‍लान सौंपने को कहा है। अफसर
...
more...
इन दिनों वाराणसी के विकास से जुड़ी दशक पुरानी धूल खा रहीं फाइलों को साफ कर उसका अध्‍ययन करने में जुटे हैं। जाम से छुटकारे के लिए कंप्रहेंसिव मोबिलिटी प्‍लान के तहत परिवहन संगम स्‍थल राजघाट पुल के पास खिड़किया घाट पर बनाया जाना तय हुआ है। प्रस्‍तावित संगम स्‍थल वाराणसी-चंदौली जीटी रोड, आउटर रिंग रोड फेज-3 और शहर में जाने के प्रमुख मार्ग से जुड़ा है। दूसरी ओर केंद्र सरकार के ड्रीम प्रॉजेक्‍ट वाराणसी से हल्दिया गंगा वाटर ट्रांसपॉर्टेशन के तहत फेरी सर्विस के प्रमुख केंद्र के रूप में विकसित किया जा रहा है। कुछ ही दूरी पर स्थित काशी रेलवे स्‍टेशन को अपग्रेड करने का काम शुरू हो चुका है। दुनिया की सबसे बड़ी रोप-वे निर्माता कंपनी ऑस्ट्रिया की डोपेलमेर ने सार्वजनिक परिवहन के लिए रोप-वे सेवा शुरू करने को भी राजघाट का ही रूट तय किया है। यहां इंटर मॉडल बस स्‍टैंड का भी प्रस्‍ताव है।वाराणसी होगा पहला शहरदेश में पहली बार पब्लिक ट्रांसपॉर्ट के रूप में रोप-वे की शुरुआत वाराणसी से होगी। विकास प्राधिकरण के नगर नियोजक मनोज कुमार ने बताया कि ऑस्‍ट्रिया की कंपनी डोपेलमेर ने सर्वे करके पुरानी काशी के एक छोर राजघाट से मछोदरी, विश्‍वेश्‍वरगंज, मैदागिन, चौक, गोदौलिया, सोनारपुरा, अस्‍सी, होते हुए दूसरे छोर अस्‍सी और बीएचयू तक का पहला रूट तय किया है। बीएचयू और कैंट से मलदहिया, लहुराबीर होते हुए मैदागिन तक का दूसरा रूट प्रस्‍तावित है। डोपेलमेर ने पाइलट प्रॉजेक्‍ट के तहत एक रूट पर व्‍यवस्‍था शुरू करने को कहा है। रोप-वे प्रॉजेक्‍ट मेट्रो से कई गुना सस्‍ता होगा। जहां मेट्रो के लिए एक किलोमीटर निर्माण पर 350 करोड़ की लागत आती है, वहीं रोप-वे और केबल कार में यह महज 50 करोड़ रुपये है।फेरी सर्विस के लिए बन रही पैसेंजर जेटीगंगा की लहरों पर यात्री जहाज चलाने (फेरी सर्विस) के लिए गंगा वाटर हाइवे के पहले मल्‍टि-मॉडल वाराणसी टर्मिनल से लेकर राजघाट के बीच पैसेंजर जेटी (प्‍लैटफार्म) बनाने का काम शुरू हो गया है। इनलैंड वाटरवेज अथॉरिटी ऑफ इंडिया (आईडब्‍ल्‍यूएआई) की ओर से वाराणसी टर्मिनल के साथ ही अस्‍सी, ललिता और खिड़किया घाटों पर पैसेंजर जेटी का निर्माण कराया जा रहा है। आगे चलकर आधा दर्जन अन्‍य प्रमुख घाटों को भी इस सेवा से जोड़ा जाएगा। छोटे यात्री जहाज के लिए निजी कंपनियों के साथ बातचीत चल रही है।विश्‍वनाथ धाम भी जुड़ेगाकाशी विश्‍वनाथ मंदिर विस्‍तारीकरण के तहत 39 हजार वर्ग मीटर एरिया में बन रहा विश्‍वनाथ कॉरिडोर (विश्‍वनाथ धाम) फेरी सर्विस का प्रमुख केंद्र बनेगा। ललिता घाट तक कॉरिडोर निर्माण के बाद वहां से सीधे मंदिर का जुड़ाव होगा। तब फेरी सर्विस के जरिए श्रद्धालु एक छोर पर राजघाट या खिड़किया घाट और दूसरे छोर रामनगर से सीधे ललिता घाट उतर वहां से मंदिर पहुंच जाएंगे। उन्‍हें शहर के जाम से जूझना नहीं पड़ेगा।होगा यह बदलावअभी शहर के विभिन्‍न इलाकों में रहने वाले और आसपास के जिले या बिहार से इलाज के लिए आने वालों को बीएचयू अस्‍पताल तक जाने में कई जगह ऑटो बदलने के साथ दो घंटे का समय लग जाता है और जेब भी ढीली होती है। फेरी सर्विस शुरू हो जाने पर आधे घंटे का समय लगेगा तो महज 15-20 रुपये में यात्रा पूरी हो जाएगी। शहर की सड़कों पर वाहनों का दबाव कम होने से जाम की समस्‍या काफी हद तक खत्‍म हो जाएगी।

  
Rail News
116 views
Today (11:32)
Myra Misfit 🍷^~   74312 blog posts   47058 correct pred (79% accurate)
Re# 4345136-1            Tags   Past Edits
If implement it will be huge success..
Specially ropeway

  
Today (11:49)
Sk Mangla*^~   1850 blog posts   97179 correct pred (98% accurate)
Re# 4345136-2            Tags   Past Edits
VARANASI is a Holy ancient city in the lap of river "GANGES"...An imp city & a major tourist destination had "HORRIBLE ( Negligible ) infrastructure filled with FILTH & DIRT" all around ever since we know the city...
Finally ""Baba Bholenath"" sent a messiah ( we call him NAMO) to take care of this city some 5 years ago & rest is for all to see...
Benarasi People are so lucky that for next 5 years also, NAMO is there to take utmost care of them..
We
...
more...
all feel so jealous !!!

  
102 views
Today (12:09)
Myra Misfit 🍷^~   74312 blog posts   47058 correct pred (79% accurate)
Re# 4345136-3            Tags   Past Edits
From last 5 years massive changes we have seen
.
I was really upset with past CMs of UP too who were busy in making elephant and their village with all un necessary things..
Varanasi and Agra are major hub of tourism in India
Still
...
more...
we have to developed these both city..
Varanasi basic infrastructure was too much poor earlier
  
Today (10:59) रेलवे ने गुवाहाटी स्टेशन पर लगाई LED video wall , आसान होगी यात्रा (www.zeebiz.com)
New Facilities/Technology
NFR/Northeast Frontier
0 Followers
825 views

News Entry# 384426  Blog Entry# 4345134   
  Past Edits
Jun 17 2019 (10:59)
Station Tag: Guwahati/GHY added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948
Stations:  Guwahati/GHY  
गुवाहाटी रेलवे स्टेशन पर रेलवे ने लगाई LED वीडियो वॉल (फाइल फोटो)
रेलवे ने रेल यात्रियों की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए गुवाहाटी रेलवे रेलवे स्टेशन पर यात्रियों को ट्रेनों व रेलवे के बारे में आवश्यक जानकारी देने के लिए एक बड़ी सी LED video wall लगाई है. नॉर्थ फ्रंटियर रेलवे के लुमडिंग डिविजन में गुवाहाटी रेलवे स्टेशन आता है. रेलवे ने इस एलईडी वीडियो वॉल को रेवेन्यू शेयरिंग आधार पर लगाया है. इस वीडियो वॉल में आम यात्रियों के लिए जानकारी के साथ ही विज्ञापन भी चलाए जाएंगे.
ट्रैक का तेजी
...
more...
से हो रहा विद्युतिकरणनॉर्ड फ्रंटियर रेलवे में ट्रैकों को विद्युतिकरण करने के लिए बड़े पैमाने पर वायर ट्रेन का प्रयोग हो रहा है. यह ट्रेन फिलहा जलपाईगुडी रोड रेलवे स्टेशन से बोनगईगांव रेलवे स्टेशन के बीच ओवरहेड इलेक्ट्रिक वायर बिछाने का काम कर रही है.
कटिहार मंडल के 50 साल पूरेहाल ही में नॉर्थ फ्रंटियर रेलवे के कटिहार डिवीजन ने 50 साल पूरे किए हैं. इस मौके पर जोन की ओर से यहां गोल्डन जुबली वर्ष मनाया जा रहा है. इसको ध्यान में रखते हुए जलपाईगुड़ी रेलवे स्टेशन को बेहद खूबसूरती से सजाया गया है.
  
स्वच्छता की हैट्रिक लगाने वाले इंदौर में अब रेलवे स्टेशन को जीरो वेस्ट बनाने की पहल की जा रही है। रेलवे और वेस्ट मैनेजमेंट स्टार्टअप ‘स्वाहा’ मिलकर स्टेशन का हजारों टन सूखे और गीले कचरे का प्रबंधन करेंगे। गीले कचरे से खाद तैयार की जाएगी, वहीं सूखे कचरे का सेग्रीगेशन कर इसे रिसाइकल किया जाएगा। इससे पहले स्वाहा ने आईआईटी इंदौर कैम्पस से निकलने वाले सूखे कचरे को रिसाइकल करने के लिए भी एमआरएफ (मटेरियल रिकवरी फेसिलिटी) सेटअप लगाया है। इस तरह ये देश का पहला जीरो लैंडफिल रेलवे स्टेशन बनेगा।
डीआरएम आरएन सुनकर का कहना है प्रयोग सफल रहा तो डिवीजन के सभी स्टेशन इसी तर्ज पर ग्रीन स्टेशन कर दिए जाएंगे। स्वाहा के फाउंडर रोहित अग्रवाल के मुताबिक स्टेशन
...
more...
पर गीले कचरे से ऑर्गेनिक कम्पोस्ट बनाने के लिए एक मशीन लगाई जाएगी। इससे एक दिन में 250 किलो गीले कचरे से खाद तैयार होगी। ट्रेनों से निकलने वाला गीला-सूखा कचरा और प्लेटफॉर्म की दुकानों का सारा वेस्ट इकट्‌ठा किया जाएगा। सूखे कचरे को एमआरएफ सेंटर पर 10 लोगों की टीम अलग-अलग करेगी। हर दिन 2000 किलो सूखे कचरे का सेग्रीगेशन होगा। 20 से 22 जून के बीच यह काम शुरू हो जाएगा।
स्टेशन पर पौधाें के लिए करेंगे खाद का उपयोग, पौधारोपण करने वालों को भी देंगे
को-फाउंडर ज्वलंत शाह ने बताया यहां तैयार खाद का इस्तेमाल रेलवे स्टेशन के नए प्लेटफॉर्म को खूबसूरत बनाने के लिए लगाए गए पौधों में करेंगे। ऐसे लोग जो पौधारोपण करने और उसकी देखभाल करने की पूरी जिम्मेदारी ले रहे हैं, उन्हें भी मुफ्त खाद उपलब्ध करवाएंगे। स्वाहा के समीर शर्मा भी इस पूरे प्रोजेक्ट में गाइड करेंगे। यात्रियों को जागरूक करने के लिए अभियान चलाया जाएगा। सार्वजनिक स्थानों काे जीरो वेस्ट बनाने में अव्वल स्वाहा की टीम को इस वर्ष का अंतरराष्ट्रीय शिरीन गढ़िया सस्टेनिबिलिटी अवॉर्ड भी दिया जाएगा।
  
Today (10:52) नए लुक में नजर आएगा कन्नौज रेलवे स्टेशन (www.jagran.com)
New Facilities/Technology
NER/North Eastern
0 Followers
642 views

News Entry# 384423  Blog Entry# 4345129   
  Past Edits
Jun 17 2019 (10:52)
Station Tag: Kannauj/KJN added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948
Stations:  Kannauj/KJN  
जागरण संवाददाता, कन्नौज : कन्नौज रेलवे स्टेशन जल्द ही नए लुक में नजर आएगा। यह सब रेलवे आधुनिकीकरण योजना से संभव हो सकेगा। इस काम को पूरा करने के लिए निजी कंपनी को ठेका दिया गया जो युद्धस्तर पर काम कर रही है। इसमें कुछ काम पूरा कर लिया गया है जबकि कुछ काम बाकी है। जुलाई अंत तक काम पूरा करना है। इसमें प्लेटफार्म पर एलइडी टीवी, डिजिटल स्क्रीन, वाटर कूलर, हाईमास्ट लाइट, रेलवे फ्रिट कॉरीडोर आदि काम प्रमुखता से करवाए जाएंगे। चारों ओर फैलेगी दूधिया रोशनी
प्लेटफार्म नंबर एक व दो पर पर्याप्त रोशनी के लिए प्लेटफार्म के दोनों छोर पर आठ हाईमास्ट लगाई जाएगी। इससे पूरा स्टेशन परिसर दूधिया रोशनी से जगमग होगा। इसके अलावा प्लेटफार्म नंबर
...
more...
दो पर वाटर कूलर लगाया जाएगा। इससे भीषण गर्मी में यात्रियों को ठंडा पानी बराबर मिलता रहेगा। वहीं, प्लेटफार्म नंबर एक पर पहले से ही दो-दो वाटर कूलर लगे हुए है। रेलवे विद्युतीकरण के साथ यह भी चल रहा काम
वर्तमान में कल्याणपुर से फर्रुखाबाद में रेलवे विद्युतीकरण का कार्य चल रहा है। इसमें रेलवे विद्युत लाइन जसोदा तक पूरी कर ली गई। अगस्त तक विद्युतीकरण के कार्य को पूरा कर लिया जाएगा। वहीं, फर्रुखाबाद के बाद यह रेलवे लाइन का काम पूरा कर लिया गया है। रेलवे अफसरों की मानें तो विद्युतीकरण के बाद कानपुर-फर्रुखाबाद रेलवे रूट पर कई एक्सप्रेस व पैसेंजर गाड़ियों की संख्या में इजाफा होगा। इससे रेलवे यात्रियों की सुविधा के तहत कई काम करवाए जाएंगे। इससे यात्रियों को कोई असुविधा न हो। रेलवे आधुनिकीरण के तहत रेलवे स्टेशन में काम करवाया जाएगा। इससे यात्रियों को कोई असुविधा न हो। इस काम को रेलवे विद्युतीकरण कार्य से पहले पूरा कर लिया जाएगा।
- राजेंद्र सिंह, मुख्य जनसंपर्क अधिकारी पूर्वोत्तर रेलवे, इज्जतनगर मंडल।
  
Today (10:48) Rail track between Tumakuru-Gubbi doubled (timesofindia.indiatimes.com)
New Facilities/Technology
SWR/South Western
0 Followers
1288 views

News Entry# 384420  Blog Entry# 4345124   
  Past Edits
Jun 17 2019 (10:48)
Station Tag: Mallasandra/MLSA added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948

Jun 17 2019 (10:48)
Station Tag: Heggere Halt/HEI added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948

Jun 17 2019 (10:48)
Station Tag: Gubbi/GBB added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948

Jun 17 2019 (10:48)
Station Tag: Tumakuru (Tumkur)/TK added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948
BENGALURU: The South-Western Railway (SWR) on Sunday made it official that the track doubling work between Tumakuru and Gubbi (18 km) in South Karnataka has been commissioned recently. It consists of three stations (including 1 halt station).A media communication from SWR said that the doubling work is part of Arsikere-Tumakuru doubling project (96 km) which was sanctioned in 2015-16 for Rs 578 Cr. This project is fully funded by Ministry of Railways. This is the second completed section of aforesaid doubling project, other being Arsikere-Karadi which was completed in last year November. The entire project is scheduled for commissioning in 2020-21, Railway added.The doubling has been completed at a cost of Rs 108 Crores. The section has three stations viz., Heggere (Halt), Mallasandra and Gubbi stations. 28 minor bridges, 3 major bridges and 2 Road Under Bridges have been constructed as part of the doubling. One new Foot Over Bridge has...
more...
been provided at Gubbi railway station. Tumakuru – Gubbi (18 km) stretch is on Bengaluru–Huballi line spanning 478 km of which 400 km is in Mysuru Division and the rest is in Bengaluru Division. Doubling of Railway track in this section will increase line capacity of this important line connecting Bengaluru to Huballi, Belagavi, Mumbai etc., This will give impetus to rail infrastructure in the region. It constitutes the main trunk route for Karnataka. The doubling project once completed fully will result in much faster movement of trains and improve intercity connectivity, added Railways.
Page#    2056 news entries  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Desktop site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy