Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt

quiz & poll - Timepass for curious minds

12988 - बारह नौ सौ अठासी , इसके नखरे हैं नवाबी ! - Keshav Saxena

Search News
Post PNR
Medium; Platform Pic; Large Station Board;
Entry# 2177547-0
Scenic; Close-up; Platform Pic; Large Station Board;
Entry# 731685-0


PNME/Parasnath (5 PFs)
پارسناتھ     पारसनाथ

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 5
Number of Halting Trains: 56
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Parasnath (Isri) ,Giridih 06532-233419
State: Jharkhand
add/change address
Elevation: 281 m above sea level
Zone: ECR/East Central
Division: Dhanbad
1 Travel Tips
No Recent News for PNME/Parasnath
Nearby Stations in the News

Rating: 3.8/5 (36 votes)
cleanliness - good (5)
porters/escalators - good (4)
food - good (4)
transportation - good (4)
lodging - good (4)
railfanning - good (5)
sightseeing - good (5)
safety - good (5)

Show ALL Trains
Departures
Arrivals
Station Map
Forum
News
Gallery
Timeline
RF Club
Station Pics
Tips

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 78 News Items  next>>
Feb 18 (14:57) Indian Railways IRCTC: चुनाव से पहले पश्चिम बंगाल पर बरस रही रेलवे की ममता, रेल यात्री बोलें-खूब भालो (m.jagran.com)
Temporary Stops
SER/South Eastern
0 Followers
7324 views

News Entry# 439877  Blog Entry# 4881351   
  Past Edits
Feb 18 2021 (16:31)
Station Tag: Parasnath/PNME added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 18 2021 (14:58)
Station Tag: Purulia Junction/PRR added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 18 2021 (14:58)
Station Tag: Andal Junction/UDL added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 18 2021 (14:58)
Station Tag: Jhargram/JGM added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 18 2021 (14:58)
Station Tag: Dhanbad Junction/DHN added by Adittyaa Sharma/1421836
Indian Railways IRCTC पुरुषोत्तम और नीलांचल एक्सप्रेस को बंगाल के स्टेशनों में ठहराव मिलने का फायदा झारखंड के गोमो और बोकारो के यात्री भी उठा सकेंगे। गिरिडीह जिले के पारसनाथ स्टेशन पर भी दोनों ट्रेनें ठहरती हैं। पारसनाथ और आसपास के यात्री भी बंगाल की यात्रा कर सकेंगे।
धनबाद, जेएनएन। Indian Railways IRCTC पश्चिम बंगाल में अगले कुछ महीने में विधानसभा चुनाव होना है। ऐसे में बंगाल का मौसम चुनावी हो चुका है। चुनावी मौसम का फायदा सियासी दलों को कितना मिलेगा यह तो वोटर तय करेंगे पर रेल यात्रियों पर अभी से ही रेलवे की ममता बरसने लगी है। पश्चिम बंगाल के रेलवे स्टेशनों पर ट्रेनों के ठहराव की झडी लगनी शुरू हो गई है। पहले जहां पुरुषोत्तम, नीलांचल, ओडिशा संपर्क
...
more...
क्रांति जैसी ट्रेनों का ठहराव अलग-अलग स्टेशनों पर दिए गए थे, वहीं अब पूर्वी उत्तर प्रदेश से बंगाल को जोड़ने वाली सियालदह-बलिया एक्सप्रेस का ठहराव अंडाल में दे दिया गया है। 18 फरवरी से ही सियालयह-बलिया एक्सप्रेस दोनों ओर से अंडाल में रुकने लगेगी। हावड़ा से मुंबई, टाटानगर चक्रधरपुर और पुरुलिया के बीच चलने वाली ट्रेनों का ठहराव भी कई छोटे टेशनों पर दिया गया है। ग्रामीण क्षेत्रों के रेलवे स्टेशनों पर ट्रेनों का ठहराव शुरू होने से यात्री बस इतना ही कह रहे हैं-जाक बाबा ( जो हुआ), खूब भालो होलो...।  
गोमो और बोकारो के यात्री भी फायदे में, बंगाल पहुंचने  की राह आसान
पुरुषोत्तम और नीलांचल एक्सप्रेस को बंगाल के स्टेशनों में ठहराव मिलने का फायदा झारखंड के गोमो और बोकारो के यात्री भी उठा सकेंगे। गिरिडीह जिले के पारसनाथ स्टेशन पर भी दोनों ट्रेनें ठहरती हैं। पारसनाथ और आसपास के यात्री भी बंगाल की यात्रा कर सकेंगे। ओडिशा संपर्क क्रांति एक्सप्रेस भी गोमो होकर चलती है। गोमो और आसपास के यात्रियों को पहुंचने का विकल्प मिल जाएगा। 
 किस ट्रेन कहां मिला ठहराव
Feb 16 (15:49) Indian Railways: धनबाद-कोडरमा-गया रेल मार्ग पर एक साल से नहीं चल रहीं पैसेंजर ट्रेन (www.jagran.com)
Commentary/Human Interest
ECR/East Central
0 Followers
11627 views

News Entry# 439376  Blog Entry# 4878745   
  Past Edits
Feb 16 2021 (15:51)
Station Tag: Netaji SC Bose Junction Gomoh/GMO added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 16 2021 (15:49)
Station Tag: Parasnath/PNME added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 16 2021 (15:49)
Station Tag: Gaya Junction/GAYA added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 16 2021 (15:49)
Station Tag: Koderma Junction/KQR added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 16 2021 (15:49)
Station Tag: Dhanbad Junction/DHN added by Anupam Enosh Sarkar/401739
धनबाद, जेएनएन : हावड़ा-नई दिल्ली को जोड़ने वाले धनबाद-कोडरमा-गया रेल मार्ग पर पिछले एक साल से एक भी पैसेंजर ट्रेन नहीं चल रही है। देशभर की ज्यादातर ट्रेनों के चलने के बाद भी झारखंड-बिहार को जोड़ने वाली पैसेंजर ट्रेनों के नहीं चलने से हजारों यात्री प्रभावित हैं।
इससे लोगों में काफी नाराजगी है और उनके अंदर गुस्सा बढ़ता रहा है। जनप्रतिनिधियों के स्तर पर पहल न होने से भी लोगों में नाराजगी है। पिछले साल 22 मार्च को कोरोना काल में हुई रेलबंदी के बाद से अब तक पैसेंजर ट्रेनें बंद हैं। जो एक्सप्रेस ट्रेनें चल रही हैं, उनके आरक्षण कराकर  ही सफर की अनुमति दी गई है। 17 फरवरी को पूर्व मध्य रेल महाप्रबंधक ललित चंद्र त्रिवेदी धनबाद के वार्षिक दौरे
...
more...
पर आ रहे हैं। उनके आने से कुछ पैसेंजर ट्रेनों को चलाने का एलान होने की उम्मीद है। 
नौकरीपेशा, कारोबारी से लेकर छात्र छात्राएं तक हैरान-परेशान 
धनबाद से कोडरमा और गया के बीच कई पैसेंजर ट्रेनें चलती थीं। इनमें आसनसोल-गया ईएमयू, आसनसोल-वाराणसी मेमू जैसी ट्रेनें शामिल थीं। दोनों ही ट्रेनें झारखंड-बिहार के यात्रियों के लिए लाइफ लाइन थीं। इससे रोजाना सरकारी और निजी दफ्तरों में काम करने वाले कर्मचारी, स्कूल-कॉलेज और कोचिंग जानेवाले छात्र-छात्राएं और कारोबारी भी सफर करते थे। अब तकरीबन एक साल से ट्रेन नहीं चलने से उन्हें दूसरा विकल्प तलाशना पड़ रहा है। समर्थ लोगों ने दोपहिया या चारपहिया खरीद लिया है। जिनके पास आर्थिक कमजोरी है, उन्हें अब भी पैसेंजर ट्रेन चलने का इंतजार है।
पहले राज्य सरकार पर फोड़ रहे थे ठिकरा, अब कम यात्रियों का बहाना 
ट्रेन चलाने को लेकर महीनों तक राज्य सरकार के पाले में गेंद डालते रहे। पूर्व मध्य रेल मुख्यालय में बैठे अफसरों का कहना था कि झारखंड सरकार की अनुमति मिलने के बाद ही ट्रेनें चलाई जा सकेंगी। अब जब गेंद राज्य सरकार के पाले से निकल गया तो यात्री कम मिलने की बात कहकर क्रमवार ट्रेनें चलाने की बातें हो रही हैं।

Rail News
10067 views
Feb 16 (16:33)
NDLS♥️♥️♥️♥️
IMKRS~   1169 blog posts
Re# 4878745-1            Tags   Past Edits
ECR grandchord m jyada focus freight p krta h as earning high or wahi mainline m passenger trains ki kami nhi krta h passenger trains k prospect k according ECR gc ko bahut ignore krta h
Feb 15 (07:08) Indian Railways IRCTC: एक ट्रेन के लिए धनबाद और हावड़ा रेल मंडल में टशन, विधानसभा चुनाव में बन सकता मुद्दा (www.jagran.com)
Commentary/Human Interest
ECR/East Central
0 Followers
20133 views

News Entry# 439116  Blog Entry# 4877081   
  Past Edits
Feb 15 2021 (12:48)
Station Tag: Koderma Junction/KQR added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 15 2021 (07:10)
Train Tag: Coalfield COVID - 19 Special/02340 added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 15 2021 (07:10)
Train Tag: Coalfield COVID - 19 Special/02339 added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 15 2021 (07:09)
Station Tag: Parasnath/PNME added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 15 2021 (07:09)
Station Tag: Howrah Junction/HWH added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 15 2021 (07:09)
Station Tag: Dhanbad Junction/DHN added by Anupam Enosh Sarkar/401739
धनबाद, जेएनएन। हावड़ा और धनबाद के बीच चलने वाली कोलफील्ड सुपरफास्ट ट्रेन पर धनबाद रेल मंडल ने दावा ठोक दिया है। ब्लैक डायमंड एक्सप्रेस की तरह कोलफील्ड एक्सप्रेस को भी धनबाद रेल मंडल के अधीन करने का प्रस्ताव दिया है। यह प्रस्ताव पश्चिम बंगाल को झटका देने जैसा है। अगर इसे मंजूरी मिल गई तो पश्चिम बंगाल के हावड़ा रेल मंडल की ट्रेन धनबाद की झोली में आ जाएगी। इस मुद्दे को लेकर पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव-2021 के दाैरान राजनीति भी हो सकती है।
क्यों कर रहा धनबाद ऐसा दावा
धनबाद
...
more...
से हावड़ा जाने वाली ब्लैक डायमंड एक्सप्रेस धनबाद रेल मंडल की ट्रेन है। यानी उसके मेंटेनेंस की पूरी जिम्मेदारी धनबाद की है। दूसरी ओर कोलफील्ड एक्सप्रेस हावड़ा रेल मंडल की ट्रेन है। दोनों ट्रेनों के खुलने और गंतव्य वाले स्टेशन एक होने के बाद भी अलग-अलग डिवीजन की ट्रेन होने से तकनीकी समस्या बनी रहती है। इनमें कोलफील्ड एलएचबी रैक से और ब्लैक पुराने रैक से चलती है। दोनों ट्रेनों की कंट्रोलिंग अलग होने से रैक का निर्णय लेने में भी परेशानी होती है।
कोलफील्ड को कोडरमा या पारसनाथ स्टेशन तक एक्सटेंशन आसान
कोलफील्ड एक्सप्रेस रात 9.40 पर धनबाद पहुंच कर पूरी रात प्लेटफॉर्म पर खड़ी रहती है। अपने नियंत्रण की ट्रेन न होने से धनबाद रेल मंडल इसका एक्सटेंशन नहीं कर पा रहा है। अगर कोलफील्ड एक्सप्रेस धनबाद रेल मंडल को मिल गयी तो पूरी रात प्लेटफार्म पर खड़े रखने के बजाए पारसनाथ या कोडरमा तक एक्सटेंशन भी किया जा सकेगा। इससे वहां के यात्रियों को हावड़ा समेत पश्चिम बंगाल के विभिन्न शहरों के लिए सीधी ट्रेन मिल जाएगी। 
इस बारे में धनबाद के एक अधिकारी ने बताया कि मंडल स्तर पर इस पर बातचीत हो चुकी है। 17 फरवरी को पूर्व मध्य रेल महाप्रबंधक धनबाद दौरे पर आ रहे हैं। उनके साथ भी इस मामले में बातचीत कर मुख्यालय स्तर पर पहल करने का आग्रह किया जाएगा। झारखंड और पश्चिम बंगाल में होता रहा है टकराव झारखंड और पश्चिम बंगाल में कई मुद्दों को लेकर हमेशा टकराव होता रहा है। पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में कोल इंडिया और डीवीसी का मुख्यालय है। झारखंड की मांग रही है कि दोनों मुख्यालय को रांची लाया जाय। इसके पीछे का तर्क यह है कि डीवीसी और कोल इंडिया का कार्यक्षेत्र पश्चिम बंगाल के मुकाबले झारखंड में ज्यादा है। रेल सेवा को लेकर भी राजनीति होती रही है।

12 Public Posts - Mon Feb 15, 2021

9132 views
Feb 15 (12:58)
jigyasusingh47
JigyasuSinghRF^~   4763 blog posts
Re# 4877081-13            Tags   Past Edits
But still kaffi kmm trains h comparing to other zones er,ecr but freight m bhut jyada origin h..and ser ne hwh se sarre south areas ko connect kiya h chennai k liye hi itni trains diya but rnc,bksc,tata yaahan!?..bihar ki impt trains toh avi takk start nhi kiya..bengal tarraf ic start ho gyi you can see from hwh!?😌🤔🙄☑️☑️

7381 views
Feb 15 (14:08)
tublum
IlovemyINDIA~   1524 blog posts
Re# 4877081-14            Tags   Past Edits
Coalfield exp has a long RSA partner at ER. What will happen to that then ? ER will not agree for this rake transfer i think

5068 views
Feb 15 (20:44)
DhnEcr
Sanz~   7892 blog posts
Re# 4877081-15            Tags   Past Edits
CF extension can be to max Pnme. Early morning departure can be difficult for Kqr. BD can be extended to Gaya with Lhb rake and removing slack in Kmme_Dhn

Rail News
3190 views
Feb 16 (04:06)
arvind~   586 blog posts
Re# 4877081-16            Tags   Past Edits
yaha rahe ya waha rahe.. . jab main reason extension ka h to dono zone mil kr k kar lena 130+ MPS de kr gaya/kodarma tak easily kiya jaa sakta h.
But usase dhanbad - asansol k bich k maximum daily passengers ko dikkat hogi seat availability ko leke..
Both points are debatable..but progressive.

3148 views
Feb 16 (04:10)
Mesmerizing NFR ❤️
Dr.AtulSinha~   2061 blog posts
Re# 4877081-17            Tags   Past Edits
Coalfield ke liye to pura rake naye se arrange karna hoga ECR ko. Idhar HWH me saari intercities ka complex RSA hai jo bigdega Coalfield ke jaane se. Passengers ko to koi farq nahi padne wala hai jabtak train extend na ho.
धनबाद [ तापस बनर्जी ]। दुनियाभर में जैन धर्मावलंबियों के लिए प्रसिद्ध और आस्‍था का केंद्र श्री सम्मेद शिखरजी, मधुबन तक रेलगाड़ी से तीर्थयात्रियों को पहुंचाने की योजना केंद्र सरकार ने बना रखी है। इसके लिए धनबाद रेल मंडल के पारसनाथ रेलवे स्टेशन से गिरिडीह जिले के मधुबन तक करीब 50 किलोमीटर लंबी रेल लाइन बिछाने की परियोजना तैयार है। केंद्र सरकार ने आम बजट 2021-22 में हजार रुपये का फंड आवंटन किया है। आम बजट-2021-22 के तहत रेलवे के बजट में पारसनाथ-मधुबन रेल लाइन के लिए हजार रुपये आवंटन के बाद लोग दंग हैं। आखिर 50 किलोमीटर लंबी रेल लाइन हजार रुपये में कैसे बिछेगी ?
पारसनाथ-मधुवन -गिरिडीह के बीच के स्‍टेशन व हॉल्‍ट
पारसनाथ-मधुबन
...
more...
-गिरिडीह के बीच कई स्‍टेशन व हॉल्‍ट बनाने की योजना है। पारसनाथ से खुलकर सबसे पहले चैनपुर हॉल्‍ट, फिर मदुबन, कुम्‍हारटोला, लखियाटांड़ व सलैया होकर गिरिडीह तक रेल लाइन प्रस्‍तावित है। भविष्‍य में इस रेल लाइन को कोडरमा-गिरिडीह रेल लाइन से जोड़ने का भी प्‍लान है।
हर साल देश-विदेश से पहुंचते हैं हजारों तीर्थ यात्री
पारसनाथ के मधुबन में हर साल देश विदेश से हजारों की संख्‍या में तीर्थयात्री पहुंचते हैं। आस्‍था का केंद्र होने से देशभर के कई शहरों से पारसनाथ के लिए तीर्थ स्‍पेशल ट्रेनें भी चलती हैं। यात्रियों को पारसनाथ स्‍टेशन पर उतर कर मधुवन तक का सफर सड़क मार्ग से तय करना पड़ता है। मधुवन तक रेल लाइन बिछ जाने से न सिर्फ हजारों यात्रियों की सुविधा बढ़ेगी बल्कि रेलवे की आमदनी में भी इजाफा होगा।
451.43 करोड़ की परियोजना, हो चुका शिलान्यास
पारसनाथ से मधुबन तक रेल लाइन बिछाने की परि‍योजना तकरीबन एक दशक पुरानी है। इस परियोजना में पारसनाथ से मधुबन और मधुबन से गिरिडीह स्‍टेशन तक 49 किमी लंबी रेललाइन बिछाने की योजना है। रेल लाइन बिछाने के लिए सर्वे पूरा हो चुका है। 2019 में तत्‍कालीन सांसद रवींद्र पांडेय इस परियोजना का शिलान्‍यास भी कर चुके हैं। इसकी लागत 451.43 करोड़ है। इस बजट में महज एक हजार के फंड को स्‍वीकृति मिली है। इसके बाद से ही लोग सच्चाई जानने में लगे हैं।
ये बजट का मामला है
बजट में परियोजना के लिए मात्र हजार रुपये आवंटन के बाद लोग सच्चाई को जानने में लगे हैं। आखिर माजरा क्या है। तो मामला यह है कि पारसनाथ-मधुबन रेल लाइन प्रोजेक्ट रेलवे की प्राथमिकता सूची में फिलहाल नहीं है। हां, भविष्य में जरूर रेल लाइन बिछाई जाएगी। रेलवे में बजट का ऐसे नियम है कि जो परियोजनाएं भविष्य के लिए महत्वपूर्ण मानी जाती है उसपर काम न कर उसे सिर्फ जिंदा रखी जाती है। इसके लिए हर बजट में परियोजना के खाते में हजार रुपये डाल दी जाती है। यानी रेलवे की फाइल में पारसनाथ-मधुबन रेल लाइन प्रोजेक्‍ट सिर्फ जिंदा है।
करीब साढ़े चार हजार करोड़ रुपये के परियोजना के लिए बजट में मात्र हजार रुपये के आवंटन की सूचना से दुख हुआ है। इस मुद्दे पर झारखंड सरकार को केंद्र से बात करना चाहिए। रेलवे की प्राथमिकता सूची में पारसनाथ-मधुबन रेल लाइन को लाने के लिए केंद्रीय रेल मंत्री और वित्त मंत्री से मुलाकात कर अपनी बात रखने की कोशिश करूंगा।
-रवींद्र पांडेय, पूर्व सांसद, गिरिडीह।

Rail News
4123 views
Feb 10 (16:54)
arunjoshi028   1864 blog posts
Re# 4872650-1            Tags   Past Edits
केवल हजार रुपया देख कर के रेलवे विभाग ने बता दिया यह लाइन का अभी का सपना लोग देखते रहे कभी ना कभी तो बन ही जाएगी

2404 views
Feb 10 (18:05)
arunjoshi028   1864 blog posts
Re# 4872650-2            Tags   Past Edits
इस लाइन बनने से पारसनाथ गिरिडीह मधुपुर होते हुए देवघर बाबा धाम के लिए उड़ीसा छत्तीसगढ़ से आने वाले यात्रियों को छोटा रूट मिल जाएगा इस लाइन का महत्व धार्मिक एवं व्यापार के लिए भी रेल के लिए आमदनी का मार्ग बनेगा
Feb 01 (17:13) Rail Budget 2021: रांची से केवड़िया तक मिले सीधी ट्रेन, उम्मीदों से भरे हैं रेलयात्री (m.jagran.com)
Commentary/Human Interest
SER/South Eastern
0 Followers
32194 views

News Entry# 436303  Blog Entry# 4863653   
  Past Edits
Feb 01 2021 (17:13)
Station Tag: Giridih/GRD added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 01 2021 (17:13)
Station Tag: Madhubani/MBI removed by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 01 2021 (17:13)
Station Tag: Madhubani/MBI added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 01 2021 (17:13)
Station Tag: Parasnath/PNME added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 01 2021 (17:13)
Station Tag: DaltonGanj/DTO added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 01 2021 (17:13)
Station Tag: Dumka/DUMK added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 01 2021 (17:13)
Station Tag: Deoghar Junction/DGHR added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 01 2021 (17:13)
Station Tag: Jasidih Junction/JSME added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 01 2021 (17:13)
Station Tag: Bokaro Steel City/BKSC added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 01 2021 (17:13)
Station Tag: Dhanbad Junction/DHN added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 01 2021 (17:13)
Station Tag: Hatia/HTE added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 01 2021 (17:13)
Station Tag: Muri Junction/MURI added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 01 2021 (17:13)
Station Tag: Tatanagar Junction/TATA added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 01 2021 (17:13)
Station Tag: Kevadiya/KDCY added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 01 2021 (17:13)
Station Tag: Ranchi Junction/RNC added by Adittyaa Sharma/1421836
Rail Budget 2021 रेल बजट आज पेश होने वाला है। रांची के लोगों को इस रेल बजट से काफी उम्मीद है। राजधानी के लोगों को रांची से गुजरात के केवड़िया रेलवे स्टेशन के बीच सीधी ट्रेन की मांग की है। केवड़िया रेलवे स्टेशन स्टैच्यू आफ यूनिटी के पास है।
रांची, जासं । रेल बजट आज पेश होने वाला है। रांची के लोगों को इस रेल बजट से काफी उम्मीद है। राजधानी के लोगों को रांची से गुजरात के केवड़िया रेलवे स्टेशन के बीच सीधी ट्रेन की मांग की है। केवड़िया रेलवे स्टेशन स्टैच्यू आफ यूनिटी के पास है। राजधानी के लोग भी इस ट्रेन के जरिए केवड़िया पहुंच कर गुजरात के धार्मिक व पर्यटन स्थलों तक जाना चाहते हैं।
इसके
...
more...
अलावा, रांची में रेलवे की आधारभूत संरचना और मजबूत करने की जरूरत है। लोगों की मांग है कि बढ़ती आबादी को ध्यान में रखते हुए रिंग रोड के समानांतर लोकल ट्रेन चलाई जाए और छोटे-छोटे हाल्ट स्टेशन बनाए जाएं। ताकि दूरदराज से रांची आने वाले लोगों को आसानी हो सके। रांची को एनएच-33 के समानांतर टाटानगर तक रेल लाइन बिछाकर सीधे रेल लाइन से जोड़ने की भी मांग है। ताकि रांची से टाटानगर जाने वाली ट्रेनों को मुरी होकर नहीं जाना पड़े। इससे रांची टाटा की दूरी कम हो जाएगी और एक घंटे में रांची से टाटानगर का सफर तय होगा। इसके अलावा हटिया रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर 4 और 5 के निर्माण की भी मांग की गई है।
हालांकि रेलवे ने इस प्लेटफार्म के निर्माण का ऐलान किया है। लेकिन अभी प्रक्रिया काफी धीमी चल रही है। लोगों की मांग है कि यह प्रक्रिया काफी तेज की जाए। झारखंड पैसेंजर्स एसोसिएशन के सचिव प्रेम कटारूका ने बताया कि साथ ही रांची, हटिया, टाटा नगर, धनबाद, बोकारो, जसीडीह, देवघर, दुमका, डाल्टनगंज आदि स्टेशनों पर मल्टी लेयर पार्किंग की व्यवस्था की भी मांग है। लोगों का कहना है कि स्टेशनों पर पार्किंग की व्यवस्था बेहद जरूरी है। वरना आने वाले दिनों में लोगों को कठिनाई का सामना करना पड़ेगा।
झारखंड के सभी प्रमुख स्टेशनों पर सुविधा युक्त यात्री निवास का निर्माण भी जरूरी है। प्रेम कटारूका ने राजधानी रांची से स्टेच्यू ऑफ यूनिटी और गुजरात के पर्यटन स्थलों तक आवागमन करने के लिए ट्रेन मांग है। झारखंड पैसेंजर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष राजेंद्र कुमार सरावगी का कहना है कि प्रदेश में जो भी नई रेल लाइन स्वीकृत है, उनका निर्माण कार्य और दोहरीकरण जल्द किया जाए। अधूरे काम पूरे किए जाएं। जैन समुदाय के प्रमुख तीर्थ स्थल श्री सम्मेद शिखर और पारसनाथ मधुबन गिरिडीह के लिए स्वीकृत रेललाइन का निर्माण किया जाए। रेल लाइन का शिलान्यास 4 मार्च 2019 को पारसनाथ स्टेशन पर किया गया था। इसे जल्द पूरा किया जाए।
Page#    Showing 1 to 20 of 78 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Desktop site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy