Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt

quiz & poll - Timepass for curious minds

There is no more pure joy than RailFanning.

Search News
Post PNR

SZP/Shahjahanpur (2 PFs)
(شاهجهاپر (میٹر گیج     शाहजहाँपुर (मीटर गेज)
[Chhoti Line]

Track: Construction - New Line

Show ALL Trains
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 0
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Station Rd, Aimanzai Jalalnagar, Shahjahanpur, 242001
State: Uttar Pradesh
add/change address
Zone: NER/North Eastern
Division: Izzatnagar
1 Travel Tips
No Recent News for SZP/Shahjahanpur
Nearby Stations in the News

Rating: 2.6/5 (11 votes)
cleanliness - good (2)
porters/escalators - poor (1)
food - poor (1)
transportation - poor (1)
lodging - poor (1)
railfanning - good (2)
sightseeing - poor (1)
safety - good (2)

Show ALL Trains
Departures
Arrivals
Station Map
Forum
News
Gallery
Timeline
RF Club
Station Pics
Tips

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 41 News Items  next>>
Mar 16 (00:24) अब शाहजहांपुर रूट पर शुरू हुआ विद्युतीकरण काम (www.amarujala.com)
0 Followers
11158 views

News Entry# 445066  Blog Entry# 4908603   
  Past Edits
Mar 16 2021 (00:24)
Station Tag: Shahjahanpur/SZP added by Boss/2098471

Mar 16 2021 (00:24)
Station Tag: Pilibhit Junction/PBE added by Boss/2098471
पीलीभीत। पीलीभीत-शाहजहांपुर रेल रूट पर विद्युतीकरण काम सोमवार को शुरू हो गया। अभी विद्युत पोल लगाने के लिए फाउंडेशन तैयार किए जा रहे हैं। पोल लगाने के बाद विद्युत वायर डालने की प्रक्रिया शुरू होगी। कार्यदायी संस्था ने जून में काम पूरा करने का दावा किया है। बरेली और टनकपुर रूट पर विद्युतीकरण का काम पूरा हो चुका है। पीलीभीत-शाहजहांपुर रूट पर विद्युतीकरण का कार्य कर...
more...
रही कार्यदायी संस्था ग्रीन पावर इंटरनेशनल के सुपरवाइजर जेपी चौहान ने बताया कि जून 2021 में काम पूरा करने का लक्ष्य है। इस रूट पर विद्युत सप्लाई देने के लिए बीसलपुर स्टेशन और 132 केवीए का पावर सबस्टेशन बनाया गया। इसके अलावा पीलीभीत, भोपतपुर, निगोही और शहबाजनगर में कंट्रोल सब स्टेशन बनने हैं। शाहजहांपुर जंक्शन पर विद्युत लाइन को जोड़ने के लिए सर्वे कर लिया गया है। असम हाईवे के पुल पर सिंगल वायर डालकर सप्लाई सुचारु की जाएगी। इसके लिए तैयारी कर ली गई है।
Jun 18 2020 (11:08) टनकपुर-शाहजहांपुर रेलमार्ग पर शुरू हुआ विद्युतीकरण का काम (www.amarujala.com)
New Facilities/Technology
NER/North Eastern
0 Followers
74449 views

News Entry# 411674  Blog Entry# 4652714   
  Past Edits
Jun 18 2020 (11:08)
Station Tag: Bareilly Junction/BE added by Pilibhit broad gauge^~/1323097

Jun 18 2020 (11:08)
Station Tag: Shahjahanpur/SPN added by Pilibhit broad gauge^~/1323097

Jun 18 2020 (11:08)
Station Tag: Shahjahanpur/SZP added by Pilibhit broad gauge^~/1323097

Jun 18 2020 (11:08)
Station Tag: Izzatnagar/IZN added by Pilibhit broad gauge^~/1323097

Jun 18 2020 (11:08)
Station Tag: Tanakpur/TPU added by Pilibhit broad gauge^~/1323097

Jun 18 2020 (11:08)
Station Tag: Pilibhit Junction/PBE added by Pilibhit broad gauge^~/1323097
पीलीभीत। कोरोना के कहर के बीच हर साल उत्तराखंड के चंपावत में मां पूर्णागिरि के दर्शन करने जाने वाले भक्तों समेत पूरे तराई इलाके के लिए खुशी की खबर है। उत्तराखंड से बरेली का रेल से सफर करने वालों के लिए इसी वित्तीय वर्ष में इलेक्ट्रिक ट्रेन का तोहफा मिलने जा रहा है। पहले चरण में टनकपुर-पीलीभीत रूट पर इलेक्ट्रिक रेल लाइन पूरा करने का काम दिसंबर तक हो जाएगा। दूसरे चरण में शाहजहांपुर-पीलीभीत रूट पर रेल विद्युतीकरण का काम शुरु होगा। टनकपुर से शाहजहांपुर तक 146.5 किलोमीटर लंबाई में रेल विद्युतीकरण का काम करीब 60 करोड़ की लागत से नोएडा की एक कंपनी कराएगी। दोनों काम पूरे होते ही पीलीभीत का नाम भी इतिहास के पन्नों में दर्ज हो जाएगा।विज्ञापनपीलीभीत-बरेली रेल लाइन ब्राडगेज वर्ष 2016 में हुई थी। मगर, अब इस रूट पर जल्द ही बिजली से चलने वाली ट्रेन का सपना पूरा होने जा रहा है। पीलीभीत को इलेक्ट्रिक...
more...
ट्रेन का तोहफा इसी वर्ष मिलने की उम्मीद है। रेलवे ने टनकपुर से शाहजहांपुर तक रेल विद्युतीकरण लाइन निर्माण का जिम्मा ग्रिल पावर इंटर नेशनल कंपनी नोएडा को सौंपा है। कार्यदायी संस्था ने पहले चरण में 62.5 मिलोमीटर लंबी पीलीभीत-टनकपुर रूट पर विद्युतीकरण का काम शुरू भी करा दिया है। रेल विद्युतीकरण के काम पर अधिकारी इलेक्ट्रिक इंजन से लगातार निगरानी भी बनाए हुए हैं। इस रूट पर खटीमा में पावर हाउस भी बनाया जाएगा। इसी से बिजली की ट्रेन चलाने के लिए रेलवे केे विद्युत सप्लाई दी जाएगी। दूसरे चरण में 84 किलोमीटर लंबे शाहजहांपुर-टनकपुर रूट पर जनवरी से काम शुरु होगा। हालांकि इस रूट पर बीसलपुर से शाहजहांपुर के बीच ब्राडगेज का काम अभी पूरा नहीं हो पाया है, जबकि विद्युतीकरण का काम पूरा करने का लक्ष्य सितंबर 2021 रखा गया है। इससे रेलवे के इस समय तक काम पूरा करने के दावे को आम यात्री संदेह की नजर से देख रहे हैं क्योंकि ब्राडगेज का काम पूरा हुए बिना रेल विद्युतीकरण का काम वर्ष 2021 तक कैसे पूरा हो पाएगा। फिर ट्रेनों का संचालन कबसे होगा, इस बारे में अभी रेलवे विभाग के अफसर भी बड़ा दावा नहीं कर पा रहे हें।सीआरएस निरीक्षण के चार माह बाद भी ट्रेन चलने की उम्मीद नहींशाहजहांपुर रुट पर 30 मई 2018 में मीटर गेज ट्रेनो को बंद करने ब े बाद आमान परिवर्तन का काम तेजी से शुरु हुआ। इसके बाद फिर रेलवे का काम कछुआ चाल से चलने लगा। उधर बीसलपुर तक ट्रेन चलाने का काम आनन फानन में शुरु कराया गया थाऱ्। फरवरी में काम भी पूरा हो गया। 10 और 11 फरवरी को रेल संरक्षा आयुक्त ने निरीक्षण कर स्पीड ट्रॉयल भी किया। इससे लोगों में जल्द ट्रेन चलने की उम्मीद जागी थी। मगर, चार माह बाद भी सीआरएस की ओर से ट्रेन चलाने को हरी झंडी नहीं मिली।सीआरएस निरीक्षण मे पुल फेल, तो कैसे चले ट्रेनशाहजहांपुर रूट पर असम हाईवे का पुल काफी नीचा है। ट्रेन गुजरनेे के दौरान पुल और ट्रेन में अंतर काफी कम रह जाता है। ब्राडगेज के दौरान संबंधित अधिकारियों ने उसी पुल को मरम्मत और रंग रोगन करा दिया, जबकि निरीक्षण के दौरान सीआरएस ने पुल की ऊंचाई और हालात देखकर स्थानीय अधिकारी की फटकार भी लगाई थी। लेकिन निरीक्षण के बाद स्थानीय रेल अधिकारियों ने उधर से अपना ध्यान हटा लिया। विद्युतीकरण के दौरान यह पुल रेल संचालन में बाधा उत्पन्न कर सकता है।कोरोना में अभी ट्रेन संचालन पर रोक22 मार्च को कोरोना की वजह से जनता कर्फ्यू लगा था। इससे दो दिन पहले टनकपुर-बाया-पीलीभीत-बरेली रूट पर ट्रेन संचालन पर रोक है। पीलीभीत-शाजहांपुर रूट पर ब्राडगेज की वजह से 30 मई 2018 से ट्रेनों का संचालन बंद है। अधिकांश यात्री फिलहाल बसों में सफर करने को मजबूर हैं। रोजाना आवागमन करने वाले यात्रियों को टनकपुर-पीलीभीत-बरेली रूट पर ट्रेनें चलने का इंतजार है।पीलीभीत से बीसलपुर तक रेल संरक्षा आयुक्त की निरीक्षण रिपोर्ट अभी नहीं आई है। कोरोना वायरस के कारण वैसे से ट्रेनों के संचालन पर रोक है। टनकपुर-पीलीभीत रूट पर पहले चरण में विद्युतीकरण का काम शुरु हो गया है। दूसरे चरण में शाहजहांपुर पर विद्युतीकरण का काम कराया जाएगा। - राजेंद्र सिंह, पीआरओ इज्जतनगर मंडल
Jan 29 2020 (13:50) अब 12 को सीआरएस करेंगे ट्रैक का निरीक्षण (www.amarujala.com)
Commentary/Human Interest
NER/North Eastern
0 Followers
17178 views

News Entry# 400022  Blog Entry# 4552209   
  Past Edits
Jan 29 2020 (13:50)
Station Tag: Shahjahanpur/SZP added by Pilibhit broad gauge^~/1323097

Jan 29 2020 (13:50)
Station Tag: Bisalpur/BSUR added by Pilibhit broad gauge^~/1323097

Jan 29 2020 (13:50)
Station Tag: Pilibhit Junction/PBE added by Pilibhit broad gauge^~/1323097
पीलीभीत। शाहजहांपुर रूट पर बीसलपुर तक ट्रेन दौड़ाने के लिए काम तेजी से चल रहा है। सीआरएस निरीक्षण के लिए 27 जनवरी को नहीं आ पा रहे हैं, अब वह 12 फरवरी को इस काम के लिए आएंगे। इससे पहले डीआरएम निरीक्षण करेंगे। सीआरएस निरीक्षण के बाद ट्रेन दौड़ाने के लिए जल्द ही हरी झंडी मिलने की उम्मीद है।विज्ञापनभोजीपुरा और टनकपुर के बीच ब्रॉडगेज की ट्रेनों का संचालन होने के बाद शाहजहांपुर रूट पर बीसलपुर तक ट्रेन चलाने की कवायद शुरू हुई थी। इसके बाद कुछ दिन काम कछुआ चाल से चला, लेकिन रेल प्रशासन ने मार्च 2020 में ट्रेन को चलाने के लिए काम तेजी से शुरू करा दिया। काम भी लगभग 90 प्रतिशत तक पूरा हो चुका है। इज्जतनगर और गोरखपुर के अधिकारियों ने ट्रैक का बारीकी से निरीक्षण कर चुके हैं। प्वाइंट, सिग्नल में कुछ खामियां मिलने पर उन्हें तत्काल दुरुस्त कराने को कहा गया। इसके बाद 27...
more...
जनवरी को सीआरएस के निरीक्षण की तारीख मिली तो आनन फानन में तैयारियां पूरी करने में रेलवे अफसर जुट गए। मगर किसी कारण 27 जनवरी का कार्यक्रम टल गया है। मंगलवार को रेल सूत्रों ने बताया कि अब 12 फरवरी को सीआरएस का निरीक्षण प्रस्तावित हुआ है। सीआरएस के निरीक्षण की सूचना मिलते ही रेल प्रशासन एक बार फिर तैयारियों में जुट गया है। स्टेशन अधीक्षक धर्मेंद्र कुमार ने बताया कि तीन-चार दिन में किसी दिन डीआरएम निरीक्षण करने वाले हैं। इसके बाद बीसलपुर तक सीआरएस निरीक्षण होगा। सीआरएस निरीक्षण के बाद फरवरी अंत तक ट्रेन दौड़ाने के लिए हरी झंडी मिलने की उम्मीद है।
Jan 22 2020 (00:00) Railway : पीलीभीत से शाहजहांपुर के बीच 100 की रफ्तार से दौड़ेंगी ट्रेनें Bareilly News (m.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NER/North Eastern
0 Followers
19190 views

News Entry# 399504  Blog Entry# 4545780   
  Past Edits
Jan 22 2020 (00:00)
Station Tag: Bisalpur/BSUR added by Pilibhit broad gauge^~/1323097

Jan 22 2020 (00:00)
Station Tag: Shahjahanpur/SZP added by Pilibhit broad gauge^~/1323097

Jan 22 2020 (00:00)
Station Tag: Pilibhit Junction/PBE added by Pilibhit broad gauge^~/1323097
जेएनएन, बरेली: इज्जतनगर मंडल के अंतर्गत पीलीभीत-शाहजहांपुर रेलखंड पर 100 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से ट्रेन दौड़ाने की तैयारी है। यह काम इस साल के अंत तक होने की उम्मीद जताई जा रही है।
पीलीभीत-शाहजहांपुर रेलखंड पर ब्रिटिशकाल की मीटरगेज लाइन को ब्राडगेज में बदलने के निर्माण तेजी से कराए जा रहे हैं। करीब 84 किमी लंबे रेलखंड को बीसलपुर तक ब्राडगेज किया जा चुका है। बीसलपुर से निगोही होकर शाहजहांपुर तक काम भी तेजी से निपटाया जा रहा।
साथ-साथ हो रहा विद्युतीकरण :  करीब 450 करोड़ के प्रोजेक्ट में शाहजहांपुर से पीलीभीत
...
more...
रेलखंड के विद्युतीकरण के काम भी साथ ही साथ करवाए जा रहे हैं। वृहद स्तर पर देखे तो टनकपुर तक 145 किमी लंबे रेलखंड पर विद्युतीकरण के काम पूरे कराए जाने हैं।
12 स्टेशन बनेंगे आय का जरिया : रेलवे अधिकारियों के मुताबिक, पीलीभीत से शाहजहांपुर के बीच करीब 12 स्टेशन आते हैं। यहां बुकिंग क्लर्क बैठाए जाएंगे। रूट का सर्वे आदि कार्य पहले ही हो चुका है। ट्रैक आदि का कार्य होने के बाद कार्यालय संबंधित कार्यों को पूरा किया जाएगा। ये 12 स्टेशन रेलवे की आय का जरिया बनेंगे साथ ही यात्रियों को भी सहूलियत मिल सकेगी।
सूर्य की रोशनी से जगमगाएंगे परिसर : इस रेलखंड पर रेलवे सोलर प्लांट सिस्टम भी विकसित कर रहा है। हाईटेक पॉवर केबिन, सिग्नल पैनल समेत पूरी लाइटिंग सोलर सिस्टम के जरिए ही काम करेगी। ग्रीन एनर्जी की तरफ रेलवे आगे बढ़ रहा है।
मंडल में पीलीभीत से शाहजहांपुर तक रेलखंड पर सौ किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गाडिय़ों का संचालन किया जाएगा। पूरा ट्रैक ब्राडगेज में बदलने के लिए 2020 का लक्ष्य निर्धारित है।  - राजेंद्र सिंह, जनसंपर्क अधिकारी इज्जतनगर
Dec 05 2019 (08:35) पटरियां बिछ गईं, 12 दिसंबर तक होगा सिंगनल का काम, अब दौड़ेंगी ब्राडगेज ट्रेन (www.amarujala.com)
Commentary/Human Interest
NER/North Eastern
0 Followers
18539 views

News Entry# 396135  Blog Entry# 4505655   
  Past Edits
Dec 05 2019 (08:39)
Station Tag: Shahjahanpur/SZP added by Pilibhit broad gauge^~/1323097

Dec 05 2019 (08:39)
Station Tag: Bisalpur/BSUR added by Pilibhit broad gauge^~/1323097

Dec 05 2019 (08:36)
Station Tag: Pilibhit Junction/PBE added by Pilibhit broad gauge^~/1323097
पीलीभीत। शाहजहांपुर-पीलीभीत रेल मार्ग पर बीसलपुर तक ट्रेनों के जल्द चलने की उम्मीद बढ़ गई है। रेलवे की ओर से बिछाई गईं पटरियों को जोड़ने का काम लगभग पूरा हो गया है। अब पटरियों पर मेन सिग्नल लगाने का काम चल रहा है, 12 दिसंबर तक पूरा कर लिया जाएगा। इसके बाद पीलीभीत से बीसलपुर तक ब्रॉडगेज ट्रेन दौड़ाई जा सकेंगी। नए साल पर शहर और बीसलपुर के यात्रियों को ट्रेन पर चलने की इच्छा पूरी हो सकती है।विज्ञापनपीलीभीत-शाहजहांपुर रेल मार्ग पर ब्रॉडगेज काम को मंजूरी मिलने के बाद 30 मई 2018 को शाहजहांपुर रेल मार्ग पर ट्रेनों का संचालन बंद कर दिया गया था। ब्रॉडगेज पटरियां बिछाने आदि का काम रेलवे विकास निगम लिमिटेड को दिया गया। शाहजहांपुर रेल मार्ग पर रेल पटरियां बदलने का काम रेलखंड पर कार्य शुरू किया गया। पटरियों को बदलने के साथ पुल, पुलिया, भवन निर्माण के काम भी तेज किए गए। काम की गति...
more...
और गुणवत्ता पर रेलवे अफसर भी नजर रखे रहे हैं। पीलीभीत से बीसलपुर तक रेल पटरियों का काम पूरा हो चुका है। 38 किलोमीटर लंबाई में रेल पटरियां बदली जा चुकी हैं। कुछ स्थानों पर भवन निर्माण का कार्य अंतिम चरण में चल रहा है। सिग्नल का काम 12 दिसंबर तक पूरा होने की बात कही गई है। इसके बाद इनकी टेस्टिंग की जाएगी। इसके बाद मुख्य संरक्षा आयुक्त परीक्षण कराकर इसका उद्घाटन होगा। फिर कभी भी ब्राडगेज ट्रेनें दौड़ सकती हैं।बीसलपुर तक ट्रेनों के संचालन की कवायद तेज है। शाहजहांपुर रेल मार्ग की ट्रेनें प्लेटफॉर्म चार पर रुकेंगी। इसके लिए रेलवे स्टेशन पर बने फुट ओवरब्रिज का विस्तार किया जा रहा है। फुट ओवरब्रिज को प्लेटफार्म तीन से चार तक जोड़ने के लिए काम में जुटे कर्मचारी प्लेटफॉर्म चार पर फाउंडेशन बना रहे हैं। प्लेटफार्म चार पर ओवरब्रिज के दोनों ओर चढ़ने-उतरने के इंतजाम किए जा रहे हैं। इसके लिए एक ओर सीढ़ियां तो दूसरी ओर सादा रैंप बन रहा है।शाहजहांपुर रेलमार्ग पर बीसलपुर तक ट्रेन दौड़ाने से पहले प्लेटफॉर्म चार का चौड़ीकरण किया जा रहा है। प्लेटफॉर्म को चौड़ा करने के साथ फाउंडेशन, टीन शेड आदि बनाने का काम किया जा रहा है। हालांकि अभी यह काम धीमा है।रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म एक की लंबाई अधिक है। जबकि प्लेटफार्म दो की लंबाई उससे 100 मीटर कम है। इसके चलते पहले प्लेटफॉर्म एक और दो के बीच में लगे आउटर सिग्नल को प्लेटफॉर्म एक के हिसाब से लगाया गया था। प्लेटफार्म दो की लंबाई कम होने से सिग्नल को वहां से हटाकर प्लेटफार्म दो के निकट किया जा रहा है। सिग्नल विभाग के कर्मचारी इन दिनों इसी काम में जुटे हैं।शाहजहांपुर रेलमार्ग पर बीसलपुर तक ब्रॉडगेज का अधिकांश काम पूरा हो चुका है। रेल पटरियां बिछाई जा चुकी हैं। सिग्नल लगाने का काम चल रहा है। इसके बाद उच्चाधिकारियों का निर्देश मिलते ही ट्रेनों का संचालन शुरू कर दिया जाएगा। - राजेंद्र सिंह, पीआरओ, इज्जतनगर मंडल
Page#    Showing 1 to 20 of 41 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Desktop site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy