Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt

FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE

बिहार संपर्क क्रांति : मिथिला पेंटिंग की सुंदरता और तेज रफ्तार - Keshav Singh

Search News
Post PNR
Large Station Board;
Entry# 808356-0
Large Station Board;
Entry# 810376-0
Large Station Board;
Entry# 814024-0

DIT/Dohrighat (1 PFs)
دوهريگھاٹ     दोहरी घाट

Track: Construction - Gauge Conversion

Show ALL Trains
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 1
Number of Halting Trains: 0
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Dohrighat, Mau
State: Uttar Pradesh
add/change address
Elevation: 78 m above sea level
Zone: NER/North Eastern
Division: Varanasi
No Recent News for DIT/Dohrighat
Nearby Stations in the News

Rating: NaN/5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
porters/escalators - n/a (0)
food - n/a (0)
transportation - n/a (0)
lodging - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)

Show ALL Trains
Departures
Arrivals
Station Map
Forum
News
Gallery
Timeline
RF Club
Station Pics
Tips

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 34 News Items  next>>
Jan 19 (23:30) इसी वर्ष पूरा होगा आमान परिवर्तन, चलेगी एक ट्रेन (www.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NER/North Eastern
0 Followers
34056 views

News Entry# 434089  Blog Entry# 4850454   
  Past Edits
Jan 19 2021 (23:30)
Station Tag: Ghosi/GSI added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Jan 19 2021 (23:30)
Station Tag: Indara Junction/IAA added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Jan 19 2021 (23:30)
Station Tag: Dohrighat/DIT added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Jan 19 2021 (23:30)
Station Tag: Mau Junction/MAU added by Anupam Enosh Sarkar/401739
-संघर्ष समिति की हर मांग हुई पूरी, समिति ने बांटी मिठाइयां
-रेलवे ने भरी हामी, रुके कार्य होंगे प्रारंभ, दोहरीघाट में बने टर्मिनल
जागरण संवाददाता घोसी (मऊ) : रेलवे स्टेशन रहे घोसी को आमान परिवर्तन के दौरान अचानक हाल्ट बनाए जाने के विरोध में उतरी घोसी संघर्ष समिति का प्रयास अंतत: सफल रहा। जोन के प्रशासनिक अधिकारी आरके यादव ने इस वर्ष के अंत तक रेल लाइन बिछाए जाने और परीक्षण के बाद एक ट्रेन चलाने की संभावना व्यक्त की है।
...
more...
समिति ने हरेक मांग पूरी होने पर रेलवे के प्रति आभार जताते हुए नगर में मिष्ठान वितरित किया। रेलवे ने आमान परिवर्तन की प्रक्रिया से गुजर रही इंदारा-दोहरीघाट रेल लाइन के कुछ प्रावधानों को मध्यावधि में संशोधित कर दिया। इन प्रावधानों के अनुसार इंदारा-दोहरीघाट के मध्य में पड़ने वाले सर्वसुविधा युक्त घोसी को रेलवे स्टेशन की बजाय हाल्ट बनाए जाने की घोषणा की गई।
इसके विरोध में घोसी संघर्ष समिति के तत्वावधान में विभिन्न संगठन एकत्रित होकर धरना प्रदर्शन करने लगे। समिति के अध्यक्ष अरविद कुमार पांडेय के नेतृत्व में पूर्वोत्तर रेलवे जोन प्रबंधक को अनगिनत ज्ञापन सौंपे गए। बहरहाल संघर्ष का परिणाम यह कि रेलवे ने घोसी को रेलवे स्टेशन की मान्यता, कंप्यूटराइज्ड आरक्षण सुविधा, दोहरीघाट में टर्मिनल, वाशिग पिट और दोहरीघाट क्षेत्र में रुके कार्य के शुभारंभ की आधिकारिक सूचना दे दी है। लंबी दूरी की चलेंगी कई ट्रेन
घोसी संघर्ष समिति के अध्यक्ष ने रेलवे के अधिकारियों की ओर से दी गई जानकारी को साझा किया। बताया कि आमान परिवर्तन का कार्य पूर्ण होने पर दिल्ली वाया वाराणसी, मुंबई व छपरा के लिए ट्रेनों का संचालन होगा।

Rail News
33228 views
Jan 20 (00:05)
arishabh1819
arishabh1819~   168 blog posts
Re# 4850454-1            Tags   Past Edits
Love From Ghosi(GSI)
Dec 29 2020 (06:43) इंदारा-दोहरीघाट रेललाईन चालू कराने की मांग (www.livehindustan.com)
Commentary/Human Interest
NER/North Eastern
0 Followers
28291 views

News Entry# 430615  Blog Entry# 4826692   
  Past Edits
Dec 29 2020 (06:43)
Station Tag: Ghosi/GSI added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Dec 29 2020 (06:43)
Station Tag: Dohrighat/DIT added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Dec 29 2020 (06:43)
Station Tag: Indara Junction/IAA added by Anupam Enosh Sarkar/401739
घोसी। हिन्दुस्तान संवादव्यापारियों व आमजन की सुविधाओं को देखते हुए घोसी संघर्ष समिति ने इंदारा दोहरीघाट रेललाईन को अविलम्ब चालू कराये जाने की मांग करते हुए पूर्वोत्तर रेलवे के निर्माण अधिकारी को पत्रक सौंपा है।घोसी संघर्ष समिति के संरक्षक अब्दुल मन्नान खान, अध्यक्ष अरविंद पांडेय महामंत्री खुर्शीद खान के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल सोमवार को पूर्वोत्तर रेलवे गोरखपुर मंडल गोरखपुर में रेलवे प्रशासनिक अधिकारी के सेक्रेटरी व रेल महाप्रबंधक से वार्ता किया। जिसमें अध्यक्ष अरविंद पांडेय ने बताया कि घोसी रेलवे स्टेशन 300 मीटर बनाए जाने का प्रावधान था जो अब बढा कर 600 मीटर हो गया है। इंदारा जंक्शन से लेकर दोहरीघाट स्टेशन के बीच घोसी स्थित है। जिसे हाल्ट बनाये जाने का प्रावधान था किंतु अब वह स्टेशन में परिवर्तित कर दिया गया है। इंदारा जंक्शन से दोहरीघाट स्टेशन तक का बजट तीन जनवरी 2018 को डबल लाइन इलेक्ट्रिक के साथ 213,35 करोड़ रुपए पास हुआ था। लेकिन...
more...
अभी पता चला है कि केवल एक ही ट्रैक बिछेगा जबकि दो ट्रैक बिछना था। इन सारे बिंदुओं पर घोसी सँघर्ष समिति का प्रतिनिधिमंडल प्रशासनिक अधिकारी एवं रेलवे महाप्रबंधक पूर्वोत्तर रेलवे के सेक्रेटरी से विस्तार से चर्चा किया। रेलवे द्वारा दोहरीघाट से इंदारा जंक्शन तक जून 2021 तक रेल चालू करने का आश्वासन दिया गया। इस दौरान संघर्ष समिति के अध्यक्ष अरविंद कुमार पाण्डेय ,महामंत्री खुर्शीद खान महामंत्री एवं सपा नगर अध्यक्ष घोसी, रेयाज उल हक, मुन्ना ,आशीष पांडेय आदि मौजूद रहे।
Nov 29 2020 (07:35) इंदारा-दोहरीघाट रेल लाइन बिछाने का कार्य युद्धस्तर पर (www.google.com)
IR Affairs
NER/North Eastern
0 Followers
26181 views

News Entry# 426418  Blog Entry# 4794651   
  Past Edits
Nov 29 2020 (07:36)
Station Tag: Dohrighat/DIT added by माँ शीतला धाम एक्सप्रेस/1207464

Nov 29 2020 (07:36)
Station Tag: Indara Junction/IAA added by माँ शीतला धाम एक्सप्रेस/1207464
Stations:  Indara Junction/IAA   Dohrighat/DIT  
Select Language
जागरण संवाददाता कोपागंज (मऊ) इंदारा-दोहरीघाट रेल लाइन को बड़ी रेल लाइन बनाने का का
जागरण संवाददाता, कोपागंज (मऊ) : इंदारा-दोहरीघाट रेल लाइन को बड़ी रेल लाइन बनाने का काम तेजी से चल रहा है। इसके लिए काफी संख्या में मजदूर काम पर लगे हुए हैं। रेलवे विभाग के अधिकारियों के मुताबिक करीब आधे से अधिक काम पूर्ण हो चुका है। इंदारा से रेल पटरी लगाने का काम भी शुरू कर दिया गया। पिछले चार दशकों पहले क्षेत्र के विकास में इंदारा-दोहरीघाट रेल मार्ग की काफी अहम भूमिका थीं। धीरे-धीरे कर रेल
...
more...
मार्ग पर चलने वाले ट्रेन और मालगाड़ियों को बंद कर दिया गया। इसके कारण इंदारा-दोहरीघाट रेल मार्ग विभागीय उपेक्षा का शिकार होने लगा। हालांकि बाद में रेल मार्ग पर रेल बस चलाकर लोगों को सुविधाएं दी गई। बाद में उसे भी बंद कर दिया गया। इसके चलते क्षेत्र के विकास में बाधक बने रेल सेवा को शुरू करने के लिए काफी जोरों शोरों से मांग उठाई जाने लगी है। उधर विभिन्न राजनीतिक दलों ने भी इंदारा-दोहरीघाट रेल मार्ग को बड़ी रेल लाइन बनाने के लिए आंदोलन शुरू किया है। इसके लिए सत्ता दलों के जनप्रतिनिधियों और पार्टी के नेताओं ने क्षेत्रवासियों को आश्वासन दिया है लेकिन इन नेताओं के आश्वासन सिर्फ ढकोसले ही साबित हुए। इसके बाद पिछले बार केंद्र में भाजपा सरकार बनीं तो एक बार फिर इंदारा-दोहरीघाट रेल मार्ग को बड़ी रेल लाइन बनाने की मांग तेज हुई। तत्कालीन सांसद हरिनारायण राजभर ने भी क्षेत्र के विकास में बाधक बनें इंदारा-दोहरीघाट रेल मार्ग को बड़ी रेल लाइन बनाने के लिए केंद्र सरकार और पूर्व रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा तक अपनी आवा•ा पहुंचाई। इसके बाद बड़ी रेल लाइन बनाने के लिए केंद्र सरकार ने बजट बनाया। तत्कालीन रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने कोपागंज में आयोजित कार्यक्रम में इंदारा-दोहरीघाट रेल मार्ग को बड़ी रेल लाइन बनाने के लिए आधारशिला रखी तो लोगों को आश्चर्य का ठिकाना नहीं रहा। आधार शिला रखने के बाद इंदारा-दोहरीघाट होते सहजनवा तक सर्वे के बाद काम शुरू हो गया। इसके लिए सबसे पहले रेल मार्ग पर बने अंग्रेजों के जमाने के रेलवे स्टेशन को तोड़े जाने लगे। रेल मार्ग पर दर्जनों छोटे-बड़े पुराने पूल तोड़ कर नए पुल लगभग तैयार हो चुके हैं। रेल मार्ग से जुटे सभी रेलवे स्टेशन बनकर तैयार हो चुके हैं। अब रेल लाइन बिछाने का काम तेजी से चल रहा है। कथक में दूधनाथ व तबला में अखंड अव्वल यह भी पढ़ें डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस
जागरण संवाददाता, कोपागंज (मऊ) : इंदारा-दोहरीघाट रेल लाइन को बड़ी रेल लाइन बनाने का काम तेजी से चल रहा है। इसके लिए काफी संख्या में मजदूर काम पर लगे हुए हैं। रेलवे विभाग के अधिकारियों के मुताबिक करीब आधे से अधिक काम पूर्ण हो चुका है। इंदारा से रेल पटरी लगाने का काम भी शुरू कर दिया गया। पिछले चार दशकों पहले क्षेत्र के विकास में इंदारा-दोहरीघाट रेल मार्ग की काफी अहम भूमिका थीं। धीरे-धीरे कर रेल मार्ग पर चलने वाले ट्रेन और मालगाड़ियों को बंद कर दिया गया। इसके कारण इंदारा-दोहरीघाट रेल मार्ग विभागीय उपेक्षा का शिकार होने लगा। हालांकि बाद में रेल मार्ग पर रेल बस चलाकर लोगों को सुविधाएं दी गई। बाद में उसे भी बंद कर दिया गया। इसके चलते क्षेत्र के विकास में बाधक बने रेल सेवा को शुरू करने के लिए काफी जोरों शोरों से मांग उठाई जाने लगी है। उधर विभिन्न राजनीतिक दलों ने भी इंदारा-दोहरीघाट रेल मार्ग को बड़ी रेल लाइन बनाने के लिए आंदोलन शुरू किया है। इसके लिए सत्ता दलों के जनप्रतिनिधियों और पार्टी के नेताओं ने क्षेत्रवासियों को आश्वासन दिया है लेकिन इन नेताओं के आश्वासन सिर्फ ढकोसले ही साबित हुए। इसके बाद पिछले बार केंद्र में भाजपा सरकार बनीं तो एक बार फिर इंदारा-दोहरीघाट रेल मार्ग को बड़ी रेल लाइन बनाने की मांग तेज हुई। तत्कालीन सांसद हरिनारायण राजभर ने भी क्षेत्र के विकास में बाधक बनें इंदारा-दोहरीघाट रेल मार्ग को बड़ी रेल लाइन बनाने के लिए केंद्र सरकार और पूर्व रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा तक अपनी आवा•ा पहुंचाई। इसके बाद बड़ी रेल लाइन बनाने के लिए केंद्र सरकार ने बजट बनाया। तत्कालीन रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने कोपागंज में आयोजित कार्यक्रम में इंदारा-दोहरीघाट रेल मार्ग को बड़ी रेल लाइन बनाने के लिए आधारशिला रखी तो लोगों को आश्चर्य का ठिकाना नहीं रहा। आधार शिला रखने के बाद इंदारा-दोहरीघाट होते सहजनवा तक सर्वे के बाद काम शुरू हो गया। इसके लिए सबसे पहले रेल मार्ग पर बने अंग्रेजों के जमाने के रेलवे स्टेशन को तोड़े जाने लगे। रेल मार्ग पर दर्जनों छोटे-बड़े पुराने पूल तोड़ कर नए पुल लगभग तैयार हो चुके हैं। रेल मार्ग से जुटे सभी रेलवे स्टेशन बनकर तैयार हो चुके हैं। अब रेल लाइन बिछाने का काम तेजी से चल रहा है।
Nov 27 2020 (23:14) इंदारा-दोहरीघाट रेल लाइन बिछाने का कार्य युद्धस्तर पर (m.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NER/North Eastern
0 Followers
20723 views

News Entry# 426251  Blog Entry# 4793233   
  Past Edits
Nov 27 2020 (23:14)
Station Tag: Dohrighat/DIT added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Nov 27 2020 (23:14)
Station Tag: Indara Junction/IAA added by Anupam Enosh Sarkar/401739
Stations:  Indara Junction/IAA   Dohrighat/DIT  
जागरण संवाददाता, कोपागंज (मऊ) : इंदारा-दोहरीघाट रेल लाइन को बड़ी रेल लाइन बनाने का काम तेजी से चल रहा है। इसके लिए काफी संख्या में मजदूर काम पर लगे हुए हैं। रेलवे विभाग के अधिकारियों के मुताबिक करीब आधे से अधिक काम पूर्ण हो चुका है। इंदारा से रेल पटरी लगाने का काम भी शुरू कर दिया गया। पिछले चार दशकों पहले क्षेत्र के विकास में इंदारा-दोहरीघाट रेल मार्ग की काफी अहम भूमिका थीं। धीरे-धीरे कर रेल मार्ग पर चलने वाले ट्रेन और मालगाड़ियों को बंद कर दिया गया। इसके कारण इंदारा-दोहरीघाट रेल मार्ग विभागीय उपेक्षा का शिकार होने लगा। हालांकि बाद में रेल मार्ग पर रेल बस चलाकर लोगों को सुविधाएं दी गई। बाद में उसे भी बंद कर दिया गया। इसके चलते क्षेत्र के विकास में बाधक बने रेल सेवा को शुरू करने के लिए काफी जोरों शोरों से मांग उठाई जाने लगी है। उधर विभिन्न राजनीतिक दलों ने...
more...
भी इंदारा-दोहरीघाट रेल मार्ग को बड़ी रेल लाइन बनाने के लिए आंदोलन शुरू किया है। इसके लिए सत्ता दलों के जनप्रतिनिधियों और पार्टी के नेताओं ने क्षेत्रवासियों को आश्वासन दिया है लेकिन इन नेताओं के आश्वासन सिर्फ ढकोसले ही साबित हुए। इसके बाद पिछले बार केंद्र में भाजपा सरकार बनीं तो एक बार फिर इंदारा-दोहरीघाट रेल मार्ग को बड़ी रेल लाइन बनाने की मांग तेज हुई। तत्कालीन सांसद हरिनारायण राजभर ने भी क्षेत्र के विकास में बाधक बनें इंदारा-दोहरीघाट रेल मार्ग को बड़ी रेल लाइन बनाने के लिए केंद्र सरकार और पूर्व रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा तक अपनी आवा•ा पहुंचाई। इसके बाद बड़ी रेल लाइन बनाने के लिए केंद्र सरकार ने बजट बनाया। तत्कालीन रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने कोपागंज में आयोजित कार्यक्रम में इंदारा-दोहरीघाट रेल मार्ग को बड़ी रेल लाइन बनाने के लिए आधारशिला रखी तो लोगों को आश्चर्य का ठिकाना नहीं रहा। आधार शिला रखने के बाद इंदारा-दोहरीघाट होते सहजनवा तक सर्वे के बाद काम शुरू हो गया। इसके लिए सबसे पहले रेल मार्ग पर बने अंग्रेजों के जमाने के रेलवे स्टेशन को तोड़े जाने लगे। रेल मार्ग पर दर्जनों छोटे-बड़े पुराने पूल तोड़ कर नए पुल लगभग तैयार हो चुके हैं। रेल मार्ग से जुटे सभी रेलवे स्टेशन बनकर तैयार हो चुके हैं। अब रेल लाइन बिछाने का काम तेजी से चल रहा है।
Nov 20 2020 (07:58) सहजनवा-दोहरीघाट ट्रैक के लिए 535 एकड़ जमीन अधिग्रहीत होगी (m.livehindustan.com)
Commentary/Human Interest
NER/North Eastern
0 Followers
33124 views

News Entry# 425306  Blog Entry# 4784569   
  Past Edits
Nov 20 2020 (07:58)
Station Tag: Dohrighat/DIT added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Nov 20 2020 (07:58)
Station Tag: Sahjanwa/SWA added by Anupam Enosh Sarkar/401739
Stations:  Sahjanwa/SWA   Dohrighat/DIT  
सहजनवा-दोहरीघाट ट्रैक के लिए 535 एकड़ जमीन अधिग्रहीत होगी। इस नई लाइन के लिए वित्तीय स्वीकृति मिलने के बाद निर्माण विभाग ने तैयारियां तेज कर दी है। टेंडर प्रक्रिया पूरी होते ही सहजनवा से दोहरीघाट तक 535 एकड़ जमीन अधिग्रहीत करने की तैयारी शुरू हो जाएगी। रूट की चौड़ाई 9 मीटर होगी। रेलवे इस रूट पर पड़ने वाले करीब 150 गांव के लोगों से जमीन खरीदेगा।इस पूरे प्रोजेक्ट पर 1319.75 करोड़ रुपये का खर्च आएगा। वित्तीय स्वीकृति मिलने के बाद इस नई रेल लाइन के बिछने में आने वाली सभी बाधाएं अब खत्म हो गई हैं। उम्मीद है कि 2024 तक लाइन बिछाने का काम पूरा हो जाएगा। इस लाइन को बनाने के लिए वैसे तो 2016 के रेल बजट में स्वीकृति मिल गई थी लेकिन वित्तीय स्वीकृति न मिलने से काम आगे नहीं बढ़ पा रहा था।30 किमी कम हो जाएगी वाराणसी की दूरी : लाइन बन जाने से सहजनवा-बड़हलगंज-दोहरीघाट...
more...
से वाराणसी जाने के लिए 30 किलोमीटर की दूरी कम हो जाएगी। वर्तमान में देवरिया-भटनी से घूमकर जाने में वाराणसी की दूरी 230 किलोमीटर पड़ती है। जबकि नए रूट से जाने में वाराणसी की दूरी 190 किलोमीटर ही पड़ेगी।12 स्टेशन बनेंगे, इसमें एक जंक्शन : सहजनवा-दोहरीघाट के बीच कुल 12 स्टेशन बनेंगे। इनमें एक जंक्शन, सात क्रॉसिंग स्टेशन और चार हाल्ट स्टेशन बनेंगे। लाइन बिछाने की 9 मीटर चौड़ी जमीन की जरूरत होगी। इसमें दोनों तरफ सिग्नल पोल लगाने और बेलास्ट डालने के लिए पर्याप्त जगह रखी जाएगी।2024 तक बिछ जाएगी लाइनइस रेलमार्ग पर सहजनवा, पिपरौली, खजनी, उनवल, बांसगांव, उरुआ, गोला बाजार बड़हलगंज और दोहरीघाट स्टेशन बनेंगे। रेलवे बोर्ड द्वारा बनाई गई रिपोर्ट के मुताबिक सहजनवा से दोहरीघाट 81 किलोमीटर तक नई रेल लाइन बिछाने का काम 2024 तक पूरा हो जाएगा। इस पर कुल 1319.75 करोड़ का खर्च आएगा।दक्षिणांचल की लाइफ लाइन बनेगी यह रेल लाइनसहजनवा-दोहरीघाट रेल लाइन (81 किलोमीटर) को अंतिम मंजूरी दिए जाने के बाद यह अब रूट दक्षिणांचल की लाइफ लाइन बनने को तैयार है। यह उम्मीद बनी है सहजनवा से दोहरीघाट तक रेल लाइन को वित्तीय स्वीकृति मिलने से। यह रेल लाइन दक्षिणांचल के हर प्रमुख कस्बे बांसगांव, खजनी, गोला और बड़हलगंज से गुजरेगी। सरयू पार कर यह रेल लाइन दोहरीघाट पहुंचेगी
Page#    Showing 1 to 20 of 34 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Desktop site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy