Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt

quiz & poll - Timepass for curious minds

Money is nothing; RailFanning is Everything

Search News
Post PNR

BTE/Bharatpur Junction (5 PFs)
     भरतपुर जंक्शन

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
Type of Station: Junction
Number of Platforms: 5
Number of Halting Trains: 118
Number of Originating Trains: 3
Number of Terminating Trains: 3
Junction Point - MTJ/KOTA/AGC/BKI, Bharatpur
State: Rajasthan
add/change address
Zone: WCR/West Central
Division: Kota
2 Travel Tips
No Recent News for BTE/Bharatpur Junction
Nearby Stations in the News

Rating: 4.0/5 (47 votes)
cleanliness - good (6)
porters/escalators - good (6)
food - good (6)
transportation - good (6)
lodging - good (6)
railfanning - excellent (6)
sightseeing - excellent (5)
safety - good (6)

Show ALL Trains
Departures
Arrivals
Station Map
Forum
News
Gallery
Timeline
RF Club
Station Pics
Tips

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 105 News Items  next>>
Apr 28 (12:18) निर्माण कार्य:रेलवे स्टेशन की पार्किंग में बनेगा अब मल्टी फंक्शनल कॉम्पलैक्स (www.bhaskar.com)
New Facilities/Technology
WCR/West Central
0 Followers
2081 views

News Entry# 450036  Blog Entry# 4949370   
  Past Edits
Apr 28 2021 (12:18)
Station Tag: Bharatpur Junction/BTE added by Saurabh®/1294142
Stations:  Bharatpur Junction/BTE  
रेलवे स्टेशन की पार्किंग में मल्टी फंक्शनल कॉम्प्लेक्स बनाया जाएगा। इसमें बजट होटल, बुक स्टॉल, बुक स्टॉल एटीएम, फूड कॉर्नर और वैरायटी स्टोर खोले जाएंगे। इसके लिए रेल भूमि विकास प्राधिकरण (आरएलडीए) ने 45 वर्ष की लीज पर जमीन उपलब्ध कराएगा। इसके लिए टेंडर मांगे गए हैं। टेंडर जमा कराने की अंतिम तारीख 12 मई है। इच्छुक बोलीदाता www.tenderwizard.com/RLDA से दस्तावेज डाउनलोड कर सकते हैं।
भरतपुर में हालांकि यह कवायद 8 साल पहले 2013 में भी की गई थी। लेकिन, तब किसी ने इसमें रुचि नहीं दिखाई थी। रेलवे के एईएन हिमांशु तिवारी ने बताया कि स्टेशन पर मल्टी-फंक्शनल कॉम्प्लेक्स के लिए पार्किंग प्लेस की 750 वर्ग मीटर जमीन आरएलडीए को मुहैया कराई है।
शर्तों
...
more...
के मुताबिक डवलपर को यह कॉम्पलैक्स दो साल में बनाना होगा। उसे इसका कोई भी हिस्सा वैध गतिविधियों के लिए सब-लीज पर देने की छूट होगी। दिल्ली-मुंबई और उत्तर प्रदेश के लिए भरतपुर प्रवेश द्वार है। यहां रोजाना करीब 20 जोड़ी ट्रेनों और 7000 से 8000 यात्रियों की आवाजाही रहती है।
भरतपुर से आगरा, दिल्ली, फतेहपुर सीकरी, जयपुर, मथुरा और रणथंभोर सरिस्का पास हैं। केवलादेव नेशनल वर्ड सेंचुरी, राष्ट्रीय सरसों अनुसंधान केंद्र, तेल और पिंक स्टाेन, मेडिकल कॉलेज, अपना घर आश्रम के कारण यहां देश-विदेश के लोगों की आवाजाही बनी रहती है।
Apr 28 (07:55) बांद्रा-अमृतसर पश्चिम एक्सप्रेस में सफर कर रहे यात्री की मौत (www.amarujala.com)
Crime/Accidents
NWR/North Western
0 Followers
1255 views

News Entry# 450015  Blog Entry# 4949275   
  Past Edits
Apr 28 2021 (07:55)
Station Tag: Bharatpur Junction/BTE added by ANIKET/1490219
बांद्रा-अमृतसर पश्चिम एक्सप्रेस में सफर कर रहे एक यात्री की तबीयत खराब हो गई। सूचना मिलते ही रेलवे डॉक्टर, आरपीएफ और जीआरपी अधिकारी मौके पर पहुंचे। ट्रेन में सवार यात्री को जांच के बाद मृत घोषित किया गया। शव कब्जे में लेकर जीआरपी ने आगामी कार्रवाई आरंभ कर दी है। मृतक की पहचान जालंधर के पास गांव भोगपुर निवासी 53 वर्षीय भूपेंद्र सिंह के तौर पर हुई है जोकि सेना से रिटायर बताया गया है।विज्ञापनट्रेन नंबर 02925 बांद्रा से चलकर मंगलवार दोपहर लगभग 2 बजे छावनी जंक्शन के प्लेटफार्म-3 पर पहुंची। कंट्रोल से संदेश मिलने के बाद स्टेशन मास्टर गुरविंदर सिंह, सहायक स्टेशन निदेशक मदन मोहन, आरपीएफ एसआई पंकज, एएसआई संतोष शर्मा और जीआरपी एसआई सतपाल सिंह ट्रेन में पहुंचे। उन्हें जानकारी मिली थी कि एसी कोच नंबर बी4 की सीट नंबर 56 पर सवार यात्री की तबीयत खराब है और वो कोई जवाब नहीं दे रहा। कुछ ही देर में...
more...
रेलवे डॉक्टर भी मौके पर पहुंच गए, उन्होंने जब यात्री का बीपी आदि चेक किया तो वह कोई रिस्पांस नहीं दे रहा था और उसके शरीर का रंग भी नीला हो चुका था।वहीं, भूपेंद्र सिंह के साथ सीट नंबर 55 पर मौजूद यात्री रमेश ने बताया कि वह मुंबई में वापी की एक कंपनी में इकट्ठे काम करते हैं। सोमवार रतलाम स्टेशन के पास लगभग 10 बजे खाना खाकर भूपेंद्र सिंह सो गया था। सुबह लगभग 4 बजे रमेश ने जब भूपेंद्र सिंह को पानी पिलाने की कोशिश की, तो उसने मुंह नहीं खोला। ट्रेन के टीटीई को सूचना दी गई तो भरतपुर स्टेशन पर जांच की गई। यहां रेलवे डॉक्टर द्वारा यात्री को थोड़ा बेहोश बताया और आगे की यात्रा के लिए रवाना कर दिया, लेकिन व्यक्ति के हालात देखकर ऐसा प्रतीत हो रहा था कि उसे मरे हुए कई घंटे बीत चुके हैं। जीआरपी ने परिजनों के आने तक शव को थाने के डेड हाउस में रखवा दिया है।कंट्रोल से सूचना मिली थी उसके बाद शव को गाड़ी से उतारकर जीआरपी के सुपुर्द कर दिया गया है।-पंकज, एसआई, आरपीएफ
Apr 25 (15:21) कोरोनो में सरोकार:सोशल मीडिया से जुटाए 53 हजार रुपए, रेलवेकर्मी के परिवार को दी सहायता (www.bhaskar.com)
Commentary/Human Interest
WCR/West Central
0 Followers
2234 views

News Entry# 449662  Blog Entry# 4947152   
  Past Edits
Apr 25 2021 (15:21)
Station Tag: Bharatpur Junction/BTE added by Saurabh®/1294142

Apr 25 2021 (15:21)
Station Tag: Ikran/IK added by Saurabh®/1294142
Stations:  Bharatpur Junction/BTE   Ikran/IK  
रेलवे कर्मचारियों ने सोशल मीडिया के माध्यम मुहिम चलाकर ड्यूटी पर हार्ट अटैक से मृत हुए रेलवे कर्मी के परिवार को 53 हजार रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की। इस सहयोग राशि को एकत्रित करने में रेलवे कर्मी महेश कुमार सैन की भूमिका अहम रही।
जानकारी के अनुसार 14 अप्रैल को इकरन स्टेशन पर तैनात कुम्हेर के गांव पपरेरा निवासी रेलवे कर्मचारी मुकेश की अचानक तबीयत बिगड़ गई थी। जिसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसको मृत घोषित कर दिया। मुकेश के परिवार में उसकी पत्नी और दो बेटे और दो बेटी, जिनमें एक बेटी मूक वधिर है। इस दौरान आरकेटीए के सदस्यों को पता चला कि मृतक परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है। इसलिए सभी ने पीड़ित परिवार
...
more...
को आर्थिक सहायता देने का निर्णय लिया।
वरिष्ठ खंड अभियंता प्रदीप चंद्रुल ने बताया कि अपील का सकारात्मक असर हुआ। इसके बाद रेलवे कर्मचारियों ने रुपए भेजने शुरू कर दिए। इस तरह कुल राशि 53200 रुपए एकत्रित हुए। राशि एकत्रित होने के बाद रेलवे कर्मी मुकेश के गांव पपरेरा पहुंचे। यहां पर उनकी पत्नी लक्ष्मी को 53 हजार रुपए की आर्थिक सहायता सौंपी। इस दौरान करतार सिंह योगी, नरेन्द्र मीना, अतर सिंह, रामवीर प्रजापत, विजय सिंह, बालकृष्ण आदि मौजूद रहे।
215 लोगों ने की 20 रुपए से लेकर 2100 रुपए तक की मदद
कुल 215 लोगों ने आर्थिक सहायता देने में मदद की। इसमें आगरा मण्डल के अलावा भरतपुर, बयाना, कोटा, श्रीगंगानगर, दिल्ली, अलवर, मथुरा, पपरेरा, नदबई, मण्डावर,बांदीकुई, हैलक, तलछेरा खेलड़ी, आदि स्थानों के रेलवे कर्मचारी शामिल हैं। इसमें 20 रुपए से लेकर 2100 रुपए का योगदान किया गया। इसके बाद कुल राशि 53200 रुपए एकत्रित हुए।
Mar 17 (06:07) इंतजार खत्म:अब भरतपुर-बांदीकुई के बीच 1 अप्रैल से दौड़ेंगी इलेक्ट्रिक इंजन वाली ट्रेनें; ट्रेनों की स्पीड़ भी बढ़ेगी (www.bhaskar.com)
Commentary/Human Interest
NWR/North Western
0 Followers
8097 views

News Entry# 445356  Blog Entry# 4909988   
  Past Edits
Mar 17 2021 (06:07)
Station Tag: Bandikui Junction/BKI added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Mar 17 2021 (06:07)
Station Tag: Bharatpur Junction/BTE added by Anupam Enosh Sarkar/401739
करीब डेढ़ साल इंतजार करने के बाद अब भरतपुर-बांदीकुई रेल मार्ग पर भी 1 अप्रैल से इलेक्ट्रिक इंजन वाली ट्रेनें दौड़ने लगेंगी। इससे पहले 22 मार्च को ट्रायल होगा फिर 23 मार्च से एक सप्ताह तक मालगाड़ियां दौड़ाकर देखी जाएंगी। ट्रेनों की स्पीड बढ़ने से जयपुर तक पहुंचने में करीब 30 मिनट बचेंगे। अभी करीब 3 घंटे का समय लगता है। इसके बाद लगभग ढाई घंटे में यह दूरी तय की जा सकेगी। इसके अलावा भरतपुर से आगरा और बांदीकुई पहुंचने में भी 15-20 मिनट के समय बचेगा।
भरतपुर से बांदीकुई तक करीब 90 किलोमीटर लंबे इस रेल मार्ग का इलेक्ट्रिकरण का काम लगभग डेढ़ साल पहले ही पूरा हो चुका था। सीआरएस ने निरीक्षण कर इस रूट पर इलेक्ट्रिक इंजन से
...
more...
ट्रेनें चलाने की अनुमति भी दे दी थी। लेकिन, रेल प्रशासन ने इसके बाद पूरे हुए जयपुर–दिल्ली रेल मार्ग पर इलेक्ट्रिक इंजन से ट्रेनों का संचालन शुरू कर दिया था। रेल अधिकारियों ने बताया कि 1 अप्रैल से दो यात्री ट्रेन मेल-एक्सप्रेस का संचालन शुरु कर दिया जाएगा।
अभी तक डीजल इंजन से चलने वाली ट्रेनों की स्पीड 80-90 किमी प्रति घंटा के करीब होती है। अब आगरा-बांदीकुई रेलवे लाइन के इलेक्ट्रिक होने के बाद ट्रेन की रफ्तार 110-120 किमी प्रति घंटा हो जाएगी। इस रेलमार्ग पर ट्रेनों की संख्या भी बढ़कर डेढ गुनी हो जाएंगी।
सबसे पहले मरुधर-खजुराहो की संभावना
रेलवे ने हालांकि 1 अप्रैल से भरतपुर-बांदीकुई मार्ग पर यात्री ट्रेन चलाने की अनुमति दे दी है। लेकिन, कौन सी यात्री ट्रेनें चलेंगी आधिकारिक तौर पर यह नहीं बताया है। लेकिन, सूत्रों की मानें तो सुबह-शाम चलने वाली जोधपुर–वाराणासी मरुधर एक्सप्रेस और उदयपुरसिटी–खजुराहो एक्सप्रेस को इलेक्ट्रिक इंजन से चलाया जा सकता है। क्योंकि इन ट्रेनों में यात्रीभार भी अच्छा है।
आगरा और बांदीकुई जाते है करीब एक हजार यात्री
कोरोना काल से पहले आगरा और बांदीकुई जाने वाले यात्रियों की संख्या सर्वाधिक होती थी। एक अनुमान के मुताबिक रोजाना करीब एक हजार यात्री आगरा और बांदीकुई के लिए सफर करते हैं। इनमें नौकरीपेशा वाले लोगों की संख्या अधिक है। वहीं, व्यापारी भी आगरा से माल लेकर आते हैं।
डेढ़ साल के इंतजार के बाद अब रेल प्रशासन बांदीकुई– भरतपुर रेल मार्ग पर भी 22 मार्च से इलैक्ट्रिक इंजन से ट्रेनों का संचालन शुरू करने जा रहा है। पहले चरण में इलैक्ट्रिक इंजन से मालगाडि़यों का संचालन शुरू होगा। इसके बाद एक अप्रैल से यात्री ट्रेनें भी इलैक्ट्रिक इंजन से दौड़ेंगी।बांदीकुई–भरतपुर 90 किलोमीटर लंबे रेल मार्ग का इलैक्ट्रिकरण का कार्य का डेढ़ साल पहले पूरा हो चुका था। इस कार्य का सीआरएस ने भी निरीक्षण कर इस पर इलैक्ट्रिक इंजन से ट्रेनें संचालित करने की परमिशन भी दे दी थी। रेल प्रशासन ने इसके बाद पूरे हुए जयपुर–दिल्ली रेल मार्ग पर इलैक्ट्रिक इंजन से ट्रेनों का संचालन शुरू कर दिया लेकिन भरतपुर रेल मार्ग की सुध नहीं ली। अब रेलवे 22 मार्च से बांदीकुई–भरतपुर रेल मार्ग पर भी इलैक्ट्रिक इंजन से ट्रेनों का संचालन शुरू करने जा रहा है। रेल अधिकारियों ने बताया कि 22 मार्च को ट्रायल होगी। 23...
more...
मार्च से पहले चरण में मालगाड़ियों का इलैक्ट्रिक इंजन से संचालन शुरू होगा। इसके बाद 1 अप्रैल से दो यात्री ट्रेनों के रुप में मेल एक्सप्रेस ट्रेनों का संचालन शुरु कर दिया जाएगा।
22 को ट्रायल के बाद 23 मार्च से इलैक्ट्रिक इंजन से मालगाड़ियां चलेंगी व 1 अप्रैल से यात्री ट्रेनें
सबसे पहले मरुधर व खजुराहो के संचालन की संभावना
रेलवे ने एक अप्रैल से बांदीकुई – भरतपुर रेल मार्ग पर यात्री ट्रेनों के रुप में दो मेल एक्सप्रेस के संचालन करने की परमिशन दी है, लेकिन कौनसी यात्री ट्रेनें संचालित होगी यह नहीं बताया। रेल सूत्रों ने बताया कि इस रेल मार्ग पर अभी सुबह व शाम संचालित हो रही जोधपुर–वाराणासी मरुधर एक्सप्रेस व उदयपुरसिटी–खजुराहो एक्सप्रेस का संचालन हो रहा है। इन ट्रेनों में यात्रीभार भी अच्छा है। ऐसे में संभवतया एक अप्रैल से इन दोनों ट्रेनों का इलैक्ट्रिक इंजन से संचालन शुरु होगा।

स्पीड बढ़ने से 25 मिनट समय बचेगा
बांदीकुई से भरतपुर के बीच वर्तमान में डीजल इंजन से ट्रेनों का संचालन होने से यात्री ट्रेनें बांदीकुई से भरतपुर पहुंचने में करीब दो से ढाई घंटे का समय लेती है, लेकिन इलैक्ट्रिक इंजन लगने के बाद ट्रेन की स्पीड अच्छी रहेगी। इससे करीब 20 से 25 मिनट की बचत होगी।
Page#    Showing 1 to 20 of 105 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Desktop site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy