Full Site Search  
Fri Nov 17, 2017 22:53:07 IST
PostPostPost Stn TipPost Stn TipUpload Stn PicUpload Stn PicAdvanced Search

ULD/Achalda (3 PFs)
اچلڑا     अछल्दा

Track: Double Electric-Line

Type of Station: Regular
Number of Platforms: 3
Number of Halting Trains: 10
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Etawah, Dist. Auraiya(05688-1072)
State: Uttar Pradesh
Elevation: 146 m above sea level
Zone: NCR/North Central
Division: Allahabad
 
 
No Recent News for ULD/Achalda
Nearby Stations in the News

Rating: /5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
porters/escalators - n/a (0)
food - n/a (0)
transportation - n/a (0)
lodging - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)

Nearby Stations

GHSR/Ghasara Halt 5 km     PATA/Pata 9 km     SHW/Samhon 9 km     PHD/Phaphund 17 km     BNT/Bharthana 19 km     KNS/Kanchausi 26 km     EKL/Ekdil 29 km     PJY/Parjani 31 km     JJK/Jhinjhak 37 km     ETW/Etawah Junction 39 km    

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 23 News Items  next>>
Nov 07 2017 (13:49)  मेमो ट्रेन आठ घंटे लेट, यात्री रहे परेशान (m.jagran.com)
back to top
Commentary/Human InterestNCR/North Central  -  

News Entry# 322002     
   Past Edits
Nov 07 2017 (13:49)
Station Tag: Achalda/ULD added by Tushar Shandilya~/1427404

Nov 07 2017 (13:49)
Train Tag: Udyan Abha Toofan Express/13007 added by Tushar Shandilya~/1427404

Nov 07 2017 (13:49)
Train Tag: Kanpur - Tundla MEMU/64587 added by Tushar Shandilya~/1427404
 
 
संवाद सूत्र, अछल्दा (औरैया): कानपुर से चल कर टूंडला जाने वाली मेमो ट्रेन रविवार को कई घंटे देरी से आई। इसके चलते यात्री काफी परेशान रहे। दिल्ली-हावड़ा रेल मार्ग पर कई महीनों से ट्रेनों का संचालन पटरी पर नहीं आ रहा है।
रविवार को टूंडला जाने वाली मेमो ट्रेन अछल्दा स्टेशन पर करीब आठ घंटे की देरी से आई। इससे यात्री काफी परेशान रहे। इस बीच यात्री स्टेशन मास्टर से बार-बार ट्रेन के आगमन के बारे में जानकारी करते रहे। लेकिन वह कोई संतोषजनक जवाब नहीं दे रहे थे। उन्होंने यात्रियों से कहा कि ट्रेन जब कानपुर से चलेगी उसके बाद ही सही जानकारी मिल पाएगी। उन्होंने बताया कि कानपुर-लखनऊ के बीच पड़ने वाले अजगैन रेलवे स्टेशन में स्मार्ट सिग्नल प्रणाली का
...
more...
रविवार को नान इंटरला¨कग कार्य चल रहा है। इससे ट्रेनों के आवागमन में बाधा आई है। इसके चलते हावड़ा से चल कर श्रीगंगानगर जाने वाली अप तूफान एक्सप्रेस ट्रेन 11 घंटे, हावड़ा जाने वाली डाउन तूफान एक्सप्रेस छह घंटे, मेमो ट्रेनें भी कई घंटे लेट चली है।
Sep 06 2017 (12:30)  अब तक दुरुस्त नहीं हुआ ट्रेनों का संचालन (www.jagran.com)
back to top
Other News

News Entry# 314924     
   Past Edits
Sep 06 2017 (12:30)
Station Tag: Achalda/ULD added by The Phenomenal One~/1469143
Stations:  Achalda/ULD  
 
 
संवाद सूत्र, अछल्दा : दिल्ली हावड़ा रेलमार्ग के रेलवे स्टेशन अछल्दा के निकट हुए कैफियात एक्सप्रेस का रेल हादसा 23 मई को हुआ था। जिसके बावजूद ट्रेनों का संचालन सुचारु रूप से नहीं हो पा रहा है। ट्रेनों का कासन लगाकर धीमी गति से निकाला जा रहा है। रेलवे क्रा¨सग पर लिच्छवी एक्सप्रेस अपलाइन पर खड़ी होने से क्रा¨सग नहीं खुल सकी। जिसके चलते वाहनों की लंबी कतारें लग गईं।
कैफियात एक्सप्रेस हादसे के बाद रेल प्रशासन में अफरा तफरी मची हुई है। जिसके चलते इलाहाबाद में दूसरे दिन चली जांच में रेल कर्मियों के बयान दर्ज किए गए। हादसे वाली जगह से ट्रेनों का संचालन धीमी गति से होने की वजह से आज सुबह से ही ट्रेनों की वं¨चग होने की
...
more...
वजह से अपलाइन पर प्रमुख ट्रेनें रुक रुककर जा रही हैं। ब्लाक लगाकर कार्य किया जा रहा है। सीतामणि से चलकर आनंद विहार टर्मिनल जा रही लिच्छवी एक्सप्रेस रेलवे क्रा¨सग 13 बी के बीच खड़ी होने से क्रा¨सग नहीं खुल सकी। इस ट्रेन के खड़े होने से रांची से चलकर नई दिल्ली जा रही गरीब रथ एक्सप्रेस आउटर सिग्नल पर खड़ी हो गई। स्टेशन मास्टर का कहना है कि ट्रेनों की वं¨चग होने की वजह से ट्रेनें धीमी गति से निकाली जा रही हैं। कानपुर से चलकर टूंडला जाने वाली मेमो ट्रेन तीन घंटे विलंब से रेलवे स्टेशन पर पहुंची। मेमो पैसेंजर तथा एक्सप्रेस ट्रेन कई घंटे विलंब से चल रही हैं।
Sep 02 2017 (10:11)  कैफियात एक्सप्रेस हादसे के आरोपी डंपर चालक का कोर्ट में सरेंडर (m.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNCR/North Central  -  

News Entry# 314364     
   Past Edits
Sep 02 2017 (10:11)
Station Tag: Achalda/ULD added by १२४२९ लखनऊ नई दिल्ली एसी सुपरफास्ट एक्सप्रेस~/1427404

Sep 02 2017 (10:11)
Station Tag: Etawah Junction/ETW added by १२४२९ लखनऊ नई दिल्ली एसी सुपरफास्ट एक्सप्रेस~/1427404

Sep 02 2017 (10:11)
Train Tag: Kaifiyaat SF Express/12225 added by १२४२९ लखनऊ नई दिल्ली एसी सुपरफास्ट एक्सप्रेस~/1427404
 
 
इटावा (जेएनएन)। कैफियात एक्सप्रेस हादसे के आरोपी डंपर चालक ने शुक्रवार को कोर्ट में सरेंडर कर दिया, जहां से उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। उसने जो बताया है, उससे रेलवे और फ्रेट कॉरीडोर के अफसरों की भूमिका सवालों के घेरे में आ गई है। हादसे से पूर्व बीते कई दिनों से ट्रैक किनारे खतरनाक क्षेत्र में रात में मिट्टी डालने का कार्य जारी था। स्टेयरिंग फेल होने से डंपर ट्रैक की ओर झुक गया था।
न्यायालय में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट अभिषेक पाण्डेय के समक्ष शुक्रवार को टिसुआदेव थाना चौबिया इटावा निवासी डंपर चालक सरवेंद्र कुमार उर्फ बबलू ने सरेंडर कर दिया। जेल भेजे जाने के दौरान उसने बताया कि अछल्दा-पाता रेलवे स्टेशन के मध्य मालगाड़ी ट्रैक
...
more...
का निर्माण कार्य चल रहा था। मिट्टी डालने का काम ठेकेदार आलोक दुबे पर है। करीब एक दर्जन डंपर अछल्दा के पास से रात में मिट्टी लाकर ट्रैक पर डालने का कार्य कर रहे थे।
उस रात करीब ढाई बजे अचानक डंपर का स्टेयरिंग फेल हो गया, तेजी से ब्रेक लगाने के बाद भी डंपर ट्रैक की ओर जाकर झुक गया। आसपास कोई गेट नहीं था। इससे डंपर की लाइटें खुली रखीं और अछल्दा में पंचर लगाने वाले को फोन करके अछल्दा रेलवे स्टेशन पर सूचना देने के लिए कहा। उस समय अछल्दा के स्टेशन मास्टर ने पाता के स्टेशन मास्टर को सूचना दी लेकिन तब तक वहां से ट्रेन निकल चुकी थी।
यूपी 100 को फोन किया लेकिन कोई जवाब नहीं मिला। 10 मिनट बाद ट्रेन सामने आने पर भाग गया। इसके बाद वह अपने रिश्तेदारों के यहां छिपता रहा। परिवारीजन ने बीते 28 अगस्त को हाजिर होने का प्रार्थनापत्र अदालत में दिया। अदालत से एक सितंबर हाजिर होने की तारीख मिली थी।
ट्रैक से पांच फीट दूर हो रहा था काम
कैफियात एक्सप्रेस हादसे के बाद डीएफसीसी (डेडीकेटेड फ्रेट कारीडोर कार्पोरेशन) के अफसर कह रहे थे कि रात में कार्य नहीं कराया जा रहा था। वहीं रेलवे डीआरएम ने घटना के लिए डीएफसीसी पर ही सवालिया निशान लगाया था। डंपर चालक की बात को सही मानें तो दोनों ही सवालों के घेरे में आ गए। डंपर ट्रैक से महज पांच फीट की दूरी पर चल रहे थे। रेलवे नियमों के मुताबिक ट्रैक से कम से कम चार मीटर यानी करीब 13 फीट की दूरी पर ही निर्माण कार्य हो सकता है।
Sep 02 2017 (09:46)  ट्रेन टकराने के दो मिनट बाद मिली थी स्टेशन मास्टर को सूचना (m.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNCR/North Central  -  

News Entry# 314363     
   Past Edits
Sep 02 2017 (09:46)
Station Tag: Achalda/ULD added by १२४२९ लखनऊ नई दिल्ली एसी सुपरफास्ट एक्सप्रेस~/1427404

Sep 02 2017 (09:46)
Train Tag: Kaifiyaat SF Express/12225 added by १२४२९ लखनऊ नई दिल्ली एसी सुपरफास्ट एक्सप्रेस~/1427404
Stations:  Achalda/ULD  
 
 
संवाद सूत्र, अछल्दा (औरैया): दिल्ली-हावड़ा रेल मार्ग के अछल्दा रेलवे स्टेशन पर पहुंचे डीआरएम ने कैफियात एक्सप्रेस हादसे की एक घंटे तक बारीकी से जांच की। स्टेशन मास्टर ने बताया कि उन्हें हादसे के दो मिनट बाद सूचना मिली थी।
23 अगस्त को कैफियात एक्सप्रेस के दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद से रेलवे जांच में जुटा हुआ है। शुक्रवार को डीआरएम इलाहाबाद सुरेश कुमार पंकज स्पेशल ट्रेन से अछल्दा स्टेशन पहुंचे। उन्होंने एक घंटा स्टेशन तथा रेलवे फाटक पर जांच की। स्टेशन अधीक्षक आरएल मीणा, स्टेशन मास्टर मनीष कुमार एवं आशुतोष से हादसे के बारे में विस्तार से जाना। जिस रात में ट्रेन दुर्घटनाग्रस्त हुई थी उस रात मनीष कुमार ड्यूटी पर थे। डीआरएम ने टीम के साथ कंट्रोल पैनल की भी जांच
...
more...
की। उन्होंने स्टेशन मास्टर से पूछा, जब रेलवे ट्रैक पर डंपर पलटा था तब आपको सूचना गेटमैन ने दी थी तो आपने क्या किया। स्टेशन मास्टर ने कहा कि हमने 2.42 बजे पर ओएचई बंद की लेकिन इससे पहले ही 2.40 पर हादसा हो चुका था। उन्होंने ओएचई बंद करने वाले सिस्टम को चेक किया। उन्होंने कहा कि आपने पहले कंट्रोलर को सूचना दी थी। जांच में पाया गया कि दुर्घटना स्टेशन से दो किलोमीटर की दूरी पर हुई थी, जिससे सूचना देने में देरी हुई। डीआरएम ने सिग्नल तथा अंदर लगे कम्प्यूटर में दुर्घटना के समय की जांच की। इसके बाद वह क्रा¨सग गए जहां दुर्घटना के समय ड्यूटी पर तैनात अमरेन्द्र कुमार से पूछताछ कर वहां लगे पैनल की जांच की। रेलवे फाटक को बंद करवा कर देखा। डीएसओ मनु प्रकाश दुबे, सीनियर डीएसटी नीरज यादव रहे।
वहीं दूसरी ओर कंचौसी रेलवे स्टेशन के लाइनों का मेंटीनेंस कार्य तीन दिन से चल रहा है। रेल इंजीनियर लाइनों को बारीकी से चेक कर कमियां सही करा रहे हैं। अवर अभियंता पीडब्लूआई अखिलेश गुप्ता, जेई राजेंद्र प्रसाद, संकेत एवं दूरसंचार विभाग इंजीनियर एसके श्रीवास्तव ने बताया कि मशीन द्वारा लाइन की पै¨कग की जा रही है। ओएचई विभाग भी साथ रहता है। रेलवे गेट के पास नई लाइन बिछा दी गई है। कंट्रोलर द्वारा 90 मिनट का ब्लाक ले लिया जाता है। मेंटीनेंस के दौरान कोई ट्रेन प्रभावित नहीं होती। स्टेशन अधीक्षक महेन्द्र बाबू ने बताया कि ट्रेन आने के दौरान व बाद में लाइन को चेक किया जा रहा है।
Sep 01 2017 (06:53)  अछल्दा में रेलवे क्रासिंग पर गेज लाइन चटकी (epaper.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNCR/North Central  -  

News Entry# 314220     
   Past Edits
Sep 01 2017 (06:53)
Station Tag: Achalda/ULD added by कौन बनेगा करोड़पति☺^~/1421836
Stations:  Achalda/ULD  
 
 
संवाद सूत्र, अछल्दा (औरैया): दिल्ली-हावड़ा रेल मार्ग के रेलवे क्रासिंग गेट नंबर 13बी पर गेज लाइन गुरुवार को चटक गई। इसे बदलने के दौरान करीब डेढ़ घंटे तक रेलवे ट्रैक पर ब्लाक रहा। ट्रेनों को रोक दिया गया। काम के चलते रेलवे क्रासिंग बंद कर दी गई। इससे अछल्दा-फफूंद मार्ग पर लंबा जाम लग गया। लोगों को दिक्कत उठानी पड़ी।1 दिल्ली-हावड़ा रूट के रेलवे क्रासिंग पर अप रेलवे ट्रैक की गेज लाइन चटक गई। चटकने के साथ ही यह लाइन कई हिस्सों में बंट गई। कर्मचारियों ने यह देख स्टेशन पर सूचना दी। इस पर रेलवे के इंजीनियर मौके पर पहुंच गए। उन्होंने कर्मचारियों को लगाकर गेज लाइन बदलने का काम शुरू करा दिया। इससे डेढ़ घंटे का ब्लाक लगाना पड़ा। गेज लाइन बिछाने के दौरान दो घंटे रेलवे क्रासिंग भी बंद रही। इससे अछल्दा-फफूंद मार्ग पर लंबा जाम लग गया। गेज लाइन बिछाने के दौरान ट्रेनें भी खड़ी रही। इससे...
more...
यात्रियों को भी काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। बताया जाता है कि एक सप्ताह पूर्व हुए ट्रेन हादसे को लेकर रेलवे प्रशासन पूरी तरह से चौकन्ना हो गया है। हादसे के बाद से ही यहां रेलवे के कई अधिकारी समय-समय पर दौरा कर रहे हैं। गुरुवार को सीआरएस के दौरे को लेकर रेलवे कर्मचारी पूरी तरह से अलर्ट रहे। इस दौरान वह ट्रैक में होने वाली हर खामी को दूर करने में जुटे रहे। रेलवे के कर्मचारी नहीं चाहते हैं कि कोई अधिकारी दौरे पर आए और उसको खामी मिले।संवाद सूत्र, अछल्दा (औरैया): दिल्ली-हावड़ा रेल मार्ग के रेलवे क्रासिंग गेट नंबर 13बी पर गेज लाइन गुरुवार को चटक गई। इसे बदलने के दौरान करीब डेढ़ घंटे तक रेलवे ट्रैक पर ब्लाक रहा। ट्रेनों को रोक दिया गया। काम के चलते रेलवे क्रासिंग बंद कर दी गई। इससे अछल्दा-फफूंद मार्ग पर लंबा जाम लग गया। लोगों को दिक्कत उठानी पड़ी।1 दिल्ली-हावड़ा रूट के रेलवे क्रासिंग पर अप रेलवे ट्रैक की गेज लाइन चटक गई। चटकने के साथ ही यह लाइन कई हिस्सों में बंट गई। कर्मचारियों ने यह देख स्टेशन पर सूचना दी। इस पर रेलवे के इंजीनियर मौके पर पहुंच गए। उन्होंने कर्मचारियों को लगाकर गेज लाइन बदलने का काम शुरू करा दिया। इससे डेढ़ घंटे का ब्लाक लगाना पड़ा। गेज लाइन बिछाने के दौरान दो घंटे रेलवे क्रासिंग भी बंद रही। इससे अछल्दा-फफूंद मार्ग पर लंबा जाम लग गया। गेज लाइन बिछाने के दौरान ट्रेनें भी खड़ी रही। इससे यात्रियों को भी काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। बताया जाता है कि एक सप्ताह पूर्व हुए ट्रेन हादसे को लेकर रेलवे प्रशासन पूरी तरह से चौकन्ना हो गया है। हादसे के बाद से ही यहां रेलवे के कई अधिकारी समय-समय पर दौरा कर रहे हैं। गुरुवार को सीआरएस के दौरे को लेकर रेलवे कर्मचारी पूरी तरह से अलर्ट रहे। इस दौरान वह ट्रैक में होने वाली हर खामी को दूर करने में जुटे रहे। रेलवे के कर्मचारी नहीं चाहते हैं कि कोई अधिकारी दौरे पर आए और उसको खामी मिले।
Page#    Showing 1 to 20 of 23 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.