Full Site Search  
Thu Nov 23, 2017 03:23:48 IST
PostPostPost Stn TipPost Stn TipUpload Stn PicUpload Stn PicAdvanced Search
Large Station Board;
Large Station Board;

ABP/Akbarpur Junction (3 PFs)
اکبر پور جنکشن     अकबरपुर जंक्शन

Track: Construction - Single-Line Electrification

Type of Station: Junction
Number of Platforms: 3
Number of Halting Trains: 42
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Akbarpur Railway Station, State Highway 5, Akbarpur
State: Uttar Pradesh
add/change address
Elevation: 92 m above sea level
Zone: NR/Northern
Division: Lucknow Charbagh NR
 
 
1 Travel Tips
No Recent News for ABP/Akbarpur Junction
Nearby Stations in the News

Rating: 2.5/5 (23 votes)
cleanliness - average (4)
porters/escalators - average (3)
food - average (3)
transportation - average (3)
lodging - average (3)
railfanning - average (3)
sightseeing - average (2)
safety - average (2)

Nearby Stations

SU/Surapur 9 km     JFG/Jafarganj 9 km     KTHE/Katahri 12 km     TD/Tanda 17 km     MLPR/Malipur 19 km     GGJ/GoshainGanj 22 km     TLGR/Tulsi Nagar 26 km     ULN/Ulna Bhari 31 km     BWI/Bilwai 33 km     BLG/Bilhar Ghat 39 km    

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 31 News Items  next>>
Oct 30 2017 (20:56)  टूटी पटरी पर रवाना हुई साबरमती एक्सप्रेस (www.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNR/Northern  -  

News Entry# 321306     
   Past Edits
Oct 30 2017 (20:56)
Station Tag: Akbarpur Junction/ABP added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964
Stations:  Akbarpur Junction/ABP  
 
 
अंबेडकरनगर : अकबरपुर से शाहगंज रेलमार्ग पर रविवार की सुबह साबरमती एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त होने से बाल-बाल बच गई। वजह सिझौली गांव के समीप रेल की पटरी टूट थी और अकबरपुर जंक्शन से इस ट्रेन को रवाना कर दिया गया था। हालांकि गैंगमैन तथा ट्रेन के चालक की सतर्कता से बड़ा हादसा टल गया। सूचना मिलने पर स्टेशन अधीक्षक ने उच्चाधिकारियों को अवगत कराते हुए आनन-फानन में साबरमती एक्सप्रेस को लाल झंडी दिखा कर रोकवाया तथा अन्य ट्रेनों का आवागमन ठप दिया। घंटों की मशक्कत के बाद ट्रैक की मरम्मत होते ही ट्रेनों का संचालन सुचारु किया गया।
अकबरपुर-शाहगंज रेल मार्ग पर सिझौली गांव के समीप बड़ा रेल हादसा होते होते बचा। रविवार की सुबह करीब नौ बजकर पांच मिनट पर गैंगमैन ने
...
more...
गेट नंबर 81-सी के समीप ट्रेल की पटरी टूटी देखी। जिसके उपरांत उसे रेलवे ट्रैक पर तत्काल लाल झंडा लगा कर मामले की सूचना अकबरपुर जंक्शन के स्टेशन अधीक्षक जियालाल को दी। इस दौरान अकबरपुर से शाहगंज की ओर जा रही साबरमती एक्सप्रेस ट्रेन के चालक ने ट्रैक पर लाल झंडा देख आपातकालीन ब्रेक लेकर ट्रेन को रोक दिया। इसके उपरांत पहुंचे अधिकारियों एवं कर्मचारियों की टीम ने मरम्मत कार्य शुरू कराया। हालांकि पटरी के टूटने का पता सुबह चला जबकि अनुमान लगाया जा रहा है कि यह गत शनिवार में ही क्षतिग्रस्त हुई है। ऐसे में अंदाजा लगाया जा सकता है कि बीती रात इस टूटे ट्रैक से गुजरी दर्जनों ट्रेनों के यात्रियों पर हादसे का खतरा मड़राता रहा। हालांकि गनीमत रही कि सुबह होते ही इसका पता चल गया। वरना हादसे की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता है। स्टेशन अधीक्षक जियालाल ने बताया कि ट्रैक की मरम्मत कराकर ट्रेनों का आवागमन शुरू कर दिया गया है।
----------------
Oct 30 2017 (20:20)  अकबरपुर में टूटी पटरी से गुजरी ट्रेन (epaper.livehindustan.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNR/Northern  -  

News Entry# 321300     
   Past Edits
Oct 30 2017 (20:20)
Station Tag: Akbarpur Junction/ABP added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Oct 30 2017 (20:20)
Train Tag: Sabarmati Express/19168 added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964
Stations:  Akbarpur Junction/ABP  
 
 
अकबरपुर में टूटी पटरी से गुजरी ट्रेन
अम्बेडकरनगर। गेटमैन की सतर्कता से साबरमती एक्सप्रेस समेत कई ट्रेनें हादसे का शिकार होने से बच गयीं। हालांकि जब तक ट्रैक टूटने की जानकारी मिलती, तब तक पैसेंजर ट्रेन टूटी पटरी से गुजर चुकी थी। घटना की जानकारी होते ही रेलवे ट्रैक की मरम्मत का काम शुरू कराया गया। कई घंटे परिचालन ठप रहा। लखनऊ-वाराणसी रेलखंड पर अकबरपुर व जाफरगंज रेलवे स्टेशनों के बीच रेल पटरी टूट गयी। सिझौली नईबाजार में 81 सी गेट के टूटे ट्रैक से रविवार सुबह वाराणसी से लखनऊ जाने वाली वन-एलवी पैसेंजर ट्रेन गुजर गयी। ट्रेन के जाने के बाद वहां के गेटमैन को ट्रैक टूटा दिखा। उसने इसकी जानकारी कन्ट्रोल रूम को दी। जिसके बाद अकबरपुर स्टेशन से रवानगी
...
more...
का सिग्नल पा चुकी डाउन साबरमती एक्सप्रेस को आनन-फानन में रोक दिया। करीब एक घंटे में ट्रैक ठीक किया गया। जिसके बाद कासन देकर ट्रेन परिचालन शुरू हुआ।
Oct 04 2017 (22:04)  फैजाबाद-वाराणसी रेल खंड पर ट्रेनों के लिए डेंजर जोन है एक किलोमीटर की दूरी (www.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNR/Northern  -  

News Entry# 319036   Blog Entry# 2492574     
   Past Edits
Oct 04 2017 (22:05)
Station Tag: Akbarpur Junction/ABP added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964
Stations:  Akbarpur Junction/ABP  
 
 
ट्रेनों के लिए डेंजर जोन है एक किलोमीटर की दूरी
ट्रेनों के लिए डेंजर जोन है एक किलोमीटर की दूरीट्रेनों के लिए डेंजर जोन है एक किलोमीटर की दूरीअंबेडकरनगर : फैजाबाद-वाराणसी रेल खंड पर कटेहरी रेलवे स्टेशन स्थित है। उक्त स्टेशन अ
अंबेडकरनगर : फैजाबाद-वाराणसी रेल खंड पर कटेहरी रेलवे स्टेशन स्थित है। उक्त स्टेशन और पूर्वी आउटर सिग्नल के मध्य करीब एक किलोमीटर का दायरा डेंजर जोन बन गया है। पूर्व में इस परिधि में घटित कई दुर्घटनाएं इसकी ताईद करती हैं।
उक्त
...
more...
दायरे में निनामपुर रेलवे क्रॉ¨सग स्थित है, जो कटेहरी विधानसभा क्षेत्र को उत्तर से दक्षिण क्षेत्र को आपस में जोड़ता है। ऐसे में हजारों लोगों का आवागमन प्रतिदिन रहता है। साइकिल, मोटर साइकिल, चारपहिया वाहनों का जुगाड़ के सहारे रेल ट्रैक के ऊपर से गुजरना स्वाभाविक है। इससे रेल ट्रैक को सपोर्ट करने वाली गिट्टियां वाहनों के गुजरने से बिखर जाती हैं और पटरी खुल जाती है। इससे पटरी की सुरक्षा खतरे में पड़ जाती है। नतीजतन ट्रेनों के भार से पटरी का कमजोर होना, फैलना आम बात है। यह समस्या अक्सर देखने को मिलती है। इसके अलावा-बगल से एक नाला भी है। जिससे उसके पानी से ट्रैक तक सीलन बनी रहती है। इससे मिट्टी धंसने से पटरी के बैठने व टूटने की समस्या भी रहती है। उक्त क्रॉ¨सग को मानव रहित या मानव सहित बनाने की मांग दशकों पुरानी है। स्थानीय लोगों द्वारा पूर्व में आंदोलन भी चलाया गया था, लेकिन जिम्मेदार इससे बेफिक्र हैं। रेल खंड पर बिछी पटरियां वर्ष 1965 की हैं। समय-समय पर इनके टूटने पर बदली जाती रही हैं। रविवार को जो पटरी टूटी थी, उसे विभाग द्वारा 2005 में लगाया जाना बताया गया है। जबकि बगल ही 1965 की लगी पटरी सुरक्षित है। सरकार ने वर्षों से विभाग में तकनीकी के आलावा चावी मैन, पेट्रोल मैन, गैंग मैन, ट्रैक मैन, स्टेशन अधीक्षकों समेत अन्य कर्मियों (सेफ्टी कटेगरी) की भर्तियों पर रोक लगा रखा है। जबकि उक्त पदों पर पूर्व में तैनात रहे कर्मी सेवानिवृत्त हो गए। ऐसे में ये पद रिक्त पड़े हैं। इसके आलावा तकनीकी उपकरणों, सामानों का भी विभाग के पास अभाव है। जबकि ट्रेनों की संख्या व पटरियों पर भार दिन प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है। पूर्व में ट्रैक पर वर्ष भर आठ आठ घंटे की ड्यूटी प्रतिदिन चाबी मैन, गैंग मैन, ट्रैक मैन की दिन-रात रहती थी। इससे पटरियों के बेहतर निगरानी होती थी। इसी का नतीजा था कि रेल हादसे पर पूर्णतया अंकुश था। कर्मचारियों की कमी के चलते वर्तमान में गर्मी के आठ महीने तक सिर्फ दिन में एक चाबी मैन के जिम्मे 12 किलोमीटर पटरी की निगरानी का जिम्मा है। जबकि मात्र तीन से चार महीने ठंडी के मौसम में दो शिफ्ट में ड्यूटी रहती है। दिन में एक चाबी मैन व रात में एक चाबी मैन व एक पेट्रोल मैन के जिम्मे टॉर्च की रोशनी में पटरियों की देखभाल का जिम्मा। लापरवाही का ही आलम था कि पांच वर्ष पूर्व बजदहा नाले पर स्थित रेलवे पुल कमजोर हो गया। और पटरियां फैलने लगी थी। समय रहते विभाग ने दुरुस्त कर हादसा टाला दिया। इसके आलावा दुल्लापुर गांव के पास रेलवे ट्रैक से गुजर रही ट्रैक्टर-ट्राली के ट्रेन की चपेट में आने से उसके परखच्चे उड़ गए। निनामपुर क्रॉ¨सग पर ट्रैक पर गिट्टी लदा ट्रक, रोड रोलर, मारुती वैन, मोटर साइकिल आदि फंसने की घटनाएं घटित हो चुकी हैं।
केंद्र सरकार ने रेल हादसों की घटनाओं को गंभीरता से लिया है। रेल मंत्री पीयूष गोयल व रेलवे बोर्ड के वरिष्ठ अधिकारियों के बीच गत दिनों आवश्यक बैठक भी हुई है। मंत्री की अध्यक्षता में हुई बैठक में रेलवे की संरक्षा को लेकर ठोस रणनीति तैयार की गई है। इसके तहत विभाग में''सेफ्टी कटेगरीÞ के रिक्त एक लाख पदों को तीन माह के भीतर भरने का फैसला लिया गया है। इससे रेल हादसों पर अंकुश लगाने में मदद मिलेगी।
डॉ. हरिओम पांडेय
सांसद
अंबेडकरनगर

1443 views
Oct 04 2017 (23:21)
Rashid M*^~   5639 blog posts   8089 correct pred (86% accurate)
Re# 2492574-1            Tags   Past Edits
OMG! Itna bada risk aur railway Anjaan Bana hua hai

1433 views
Oct 04 2017 (23:23)
☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~   15567 blog posts   3090 correct pred (65% accurate)
Re# 2492574-2            Tags   Past Edits
Accident ho jaye khud jaan jayega
Oct 04 2017 (22:03)  फैजाबाद-वाराणसी रेल खंड पर टूटी पटरी से गुजर गई कई ट्रेन (www.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNR/Northern  -  

News Entry# 319035     
   Past Edits
Oct 04 2017 (22:03)
Station Tag: Katahri/KTHE added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Oct 04 2017 (22:03)
Station Tag: Akbarpur Junction/ABP added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964
Stations:  Akbarpur Junction/ABP   Katahri/KTHE  
 
 
टूटी पटरी से गुजर गई कई ट्रेनटूटी पटरी से गुजर गई कई ट्रेनअंबेडकरनगर : रविवार की सुबह फैजाबाद-वाराणसी रेल खंड पर स्थित कटेहरी रेलवे स्टेशन
अंबेडकरनगर : रविवार की सुबह फैजाबाद-वाराणसी रेल खंड पर स्थित कटेहरी रेलवे स्टेशन व पूर्वी आउटर सिग्नल के बीच किमी संख्या 917/8-9 के निकट रेल पटरी टूट गई। इस दौरान टूटी रेल पटरी पर कई ट्रेनें दौड़ गई। गनीमत रही कि शौच के लिए निकले निनामपुर के ग्रामीणों ने सुबह छह बजे देख लिया। कटेहरी के स्टेशन अधीक्षक को तत्काल सूचना दी। ग्रामीणों की सतर्कता से बड़ा रेल हादसा टल गया।
निनामपुर
...
more...
के ग्रामीणों ने मंगलवार की सुबह करीब छह बजे रेल पटरी टूटी व उसमें लगे नट-बोल्ट अलग पड़ा देखा। सूचना पर ग्रामीणों का हुजूम इकठ्ठा हो गए। और तत्काल इसकी सूचना निकट के कटेहरी रेलवे स्टेशन पर दी। स्टेशन अधीक्षक ने तत्काल उच्चाधिकारियों को मामले की सूचना दी। इसके बाद अकबरपुर, गोशाईगंज व कटेहरी रेलवे स्टेशनों पर अप व डाउन ट्रेनों को रोक दिया। एडीआरएम, एडीएन रवि विक्रम ¨सह, एसएससी नंदन ¨सह, सीनियर पीडब्लूआई राधेश्याम ¨सह, सेक्शन पीडब्लूआई प्रदीप ¨सह, अकबरपुर, गोशाईगंज व कटेहरी के स्टेशन अधीक्षकों व आरपीएफ की टीम इंजीनियरों व कर्मियों के साथ संबंधित स्थल पर पहुंच गई। अस्थाई मरम्मत का कार्य शुरू कर दिया। करीब दो घंटे बाद अस्थाई मरम्मत का कार्य पूरा हो सका। इसके बाद उच्चाधिकारियों की अनुमति से विभिन्न स्टेशनों पर खड़ी अप व डाउन ट्रेनों का परिचालन काशन से बहाल कराया गया। इसके पहले साबरमती, मरुधर, कैफियत, कोटा-पटना एक्सप्रेस व बरेली फास्ट पैसेंजर आदि ट्रेनें टूटी पटरी से गुजर गई। उच्चाधिकारियों के निर्देश पर साढ़े 31 घंटे तक काशन जारी रहा। सोमवार अपराह्न 2.25 बजे काशन वापस लिया। इसके बाद ट्रेनें रफ्तार ले सकी। मरम्मत कार्य की निगरानी कर रहे सीनियर पीडब्ल्यूआई राधेश्याम ¨सह, सेक्शन पीडब्लूआई प्रदीप ¨सह तथा कटेहरी रेलवे स्टेशन के अधीक्षक एके ¨सह ने संयुक्त रूप से बताया कि मौसम के हिसाब से रेल पटरियों में फैलाव व सिकुड़न होती है। इससे पटरियों का टूटना स्वाभाविक है। चाबी मैन व पेट्रोल मैन की सूचना पर पटरियों को ठीक किया जाता है। सोमवार को अपराह्न 2.25 मिनट से ट्रेनें पूरी रफ्तार से ट्रैक पर दौड़ने लगी हैं।
Sep 13 2017 (05:51)  बाराबंकी-अकबरपुर रेल लाइन का होगा दोहरीकरण (epaper.jagran.com)
back to top
IR AffairsNR/Northern  -  

News Entry# 316189     
   Past Edits
Sep 13 2017 (05:51)
Station Tag: Akbarpur Junction/ABP added by जय माता दी🙏😊^~/1421836

Sep 13 2017 (05:51)
Station Tag: Barabanki Junction/BBK added by जय माता दी🙏😊^~/1421836

Sep 13 2017 (05:51)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by जय माता दी🙏😊^~/1421836
 
 
जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली: सरकार ने उत्तर प्रदेश में बाराबंकी से अकबरपुर के बीच किलोमीटर लंबी रेलवे लाइन के दोहरीकरण का फैसला किया है। तकरीबन करोड़ रुपये की लागत की इस परियोजना को 2021-22 में पूरा करने का लक्ष्य है।1इस लाइन के दोहरीकरण से बाराबंकी से अकबरपुर के बीच यात्री एवं माल यातायात परिवहन में आसानी होगी। साथ ही क्षेत्र में औद्योगिक विकास को भी बढ़ावा मिलेगा। इस परियोजना से फैजाबाद और बाराबंकी जिलों को लाभ होगा। बाराबंकी-अकबरपुर सेक्शन उत्तर रेलवे के लखनऊ डिवीजन में आता है। अभी सिंगिल लाइन होने के कारण बाराबंकी से वाराणसी के बीच ट्रेन यातायात में काफी विलंब होता है और जगह-जगह रुकने के कारण 323 किलोमीटर का यह सफर पूरा होने में 7-15 घंटे तक लग जाते हैं। बाराबंकी से फैजाबाद के बीच यातायात घनत्व 146.5 फीसद है। यानी क्षमता के मुकाबले लगभग डेढ़ गुना ट्रेने चलती हैं। दोहरीकरण होने से यातायात घनत्व कम होने...
more...
से यातायात तेज होने से ट्रेने जल्दी गंतव्य तक पहुंचेंगी। फलस्वरूप भविष्य में इस रूट पर यातायात बढ़ने के बावजूद ट्रेने समय पर पहुंचेंगी।1किमी रेल लाइन के दोहरीकरण का फैसला किया हैकरोड़ की लागत आएगी परियोजना में 1ा06उ प्रोजेक्ट के पूरा होने पर बाराबंकी से वाराणसी के बीच तेज होगा ट्रेन यातायात 1
Page#    Showing 1 to 20 of 31 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.