Full Site Search  
Mon Jan 22, 2018 16:03:26 IST
PostPostPost Stn TipPost Stn TipUpload Stn PicUpload Stn PicAdvanced Search
Large Station Board;
Large Station Board;


DXN/Duddhinagar (2 PFs)
دددينگر     दुध्दी नगर

Track: Construction - Electric-Line Doubling

Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 18
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Duddhinagar, Sonebhadra
State: Uttar Pradesh
add/change address
Elevation: 265 m above sea level
Zone: ECR/East Central
Division: Dhanbad
 
 
No Recent News for DXN/Duddhinagar
Nearby Stations in the News

Rating: /5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
porters/escalators - n/a (0)
food - n/a (0)
transportation - n/a (0)
lodging - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)

Nearby Stations

JRQ/Jharokhas 7 km     MPF/Muirpur Road 11 km     MXY/Mahuariya 12 km     RNQ/Renukut 21 km     WDM/WyndhamGanj 23 km     JGF/Jogidih 32 km     NUQ/Nagar Untari 34 km     GMX/Gurmura 38 km     PPNI/Paras Pani 40 km    

Station News

Page#    Showing 1 to 19 of 19 News Items  
Dec 08 2017 (18:18)  टूटी पटरी से गुजरी सिंगरौली-पटना लिंक एक्सप्रेस (m.livehindustan.com)
back to top
IR AffairsECR/East Central  -  

News Entry# 324241     
   Past Edits
Dec 08 2017 (18:18)
Station Tag: Duddhinagar/DXN added by Aaditya^~/1421836

Dec 08 2017 (18:18)
Train Tag: Singrauli - Patna Link Express/23347 added by Aaditya^~/1421836
 
 
दुद्धी रेलवे स्टेशन पर बुधवार की रात बड़ा रेल हादसा टल गया। टूटी पटरी से ही डाउन सिंगरौली-पटना लिंक एक्सप्रेस गुजर गई। आटोमैटिक ट्रैक सिग्नल के लाल होने पर इसकी जानकारी हुई। इसके बाद ट्रैक की मरम्मत कर अन्य ट्रेनों को गुजारा गया।
दुद्धी रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर एक के म्योरपुर वाले साइड के अंतिम छोर पर बुधवार की रात अचानक आटोमैटिक ट्रैक सिग्नल का डाइग्राम लाल दिखा तो हड़कंप मच गया। यहीं से प्लेटफार्म पर ट्रेनें मेन लाइन में घुसती हैं। ड्यूटी पर तैनात स्टेशन मास्टर एनके सिन्हा तत्काल रेलकर्मियों के साथ मौके पर पहुंचे तो देखा कि पटरी टूटी हुई है। कुछ देर पहले ही उसी पटरी से डाउन सिंगरौली-पटना लिंक एक्सप्रेस गुजरी थी।
स्टेशन
...
more...
मास्टर ने पटरी टूटी होने की जानकारी पीडब्ल्यूआई रेणुकूट एके सिन्हा को दी। मौके पर पहुंचे असिस्टेंट पीडब्ल्यूआई अंजनी कुमार ने लगभग दर्जन भर गैंगमैन और ट्रैकमैन के साथ कड़ी मशक्कत कर लगभग आधे घंटे में पटरी को दुरुस्त कराया। इसके बाद अप टाटा जम्मूतवी और डाउन की दूसरी ट्रेनों को रवाना किया गया। पीडब्ल्यूआई एके सिन्हा ने पटरी टूटने का कारण ठण्ड बताया है। उन्होंने कहा कि जाड़े के दिनों में पटरियां सिकुड़ने से ज्वाइंट छोड़ देती हैं और चटक जाती हैं। ट्रेन गुजरती है तो वह हल्का सा टूट जाती हंै। यदि यह घटना धनौरा और रजखड़ गेट से बाहर होता तो बड़ा हादसा हो सकता था। इससे पहले बीते गुरुवार को अगोरी खास रेलवे स्टेशन के पास भी पटरी टूटी मिली थी। तब एक ग्रामीण की नजर उस पर पड़ने के बाद मरम्मत हुई थी।
Dec 08 2017 (01:15)  टूटी पटरी से गुजरी सिंगरौली-पटना लिंक एक्सप्रेस (www.livehindustan.com)
back to top
Other NewsECR/East Central  -  

News Entry# 324185   Blog Entry# 2863467     
   Past Edits
Dec 08 2017 (01:15)
Station Tag: Duddhinagar/DXN added by धनबाद मंडल की सोच कोयले से भी काली*^~/100643

Dec 08 2017 (01:15)
Station Tag: Singrauli/SGRL added by धनबाद मंडल की सोच कोयले से भी काली*^~/100643

Dec 08 2017 (01:15)
Train Tag: Singrauli - Patna Link Express/23347 added by धनबाद मंडल की सोच कोयले से भी काली*^~/100643
 
 
दुद्धी रेलवे स्टेशन पर बुधवार की रात बड़ा रेल हादसा टल गया। टूटी पटरी से ही डाउन सिंगरौली-पटना लिंक एक्सप्रेस गुजर गई। आटोमैटिक ट्रैक सिग्नल के लाल होने पर इसकी जानकारी हुई। इसके बाद ट्रैक की मरम्मत कर अन्य ट्रेनों को गुजारा गया।
दुद्धी रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर एक के म्योरपुर वाले साइड के अंतिम छोर पर बुधवार की रात अचानक आटोमैटिक ट्रैक सिग्नल का डाइग्राम लाल दिखा तो हड़कंप मच गया। यहीं से प्लेटफार्म पर ट्रेनें मेन लाइन में घुसती हैं। ड्यूटी पर तैनात स्टेशन मास्टर एनके सिन्हा तत्काल रेलकर्मियों के साथ मौके पर पहुंचे तो देखा कि पटरी टूटी हुई है। कुछ देर पहले ही उसी पटरी से डाउन सिंगरौली-पटना लिंक एक्सप्रेस गुजरी थी।
स्टेशन
...
more...
मास्टर ने पटरी टूटी होने की जानकारी पीडब्ल्यूआई रेणुकूट एके सिन्हा को दी। मौके पर पहुंचे असिस्टेंट पीडब्ल्यूआई अंजनी कुमार ने लगभग दर्जन भर गैंगमैन और ट्रैकमैन के साथ कड़ी मशक्कत कर लगभग आधे घंटे में पटरी को दुरुस्त कराया। इसके बाद अप टाटा जम्मूतवी और डाउन की दूसरी ट्रेनों को रवाना किया गया। पीडब्ल्यूआई एके सिन्हा ने पटरी टूटने का कारण ठण्ड बताया है। उन्होंने कहा कि जाड़े के दिनों में पटरियां सिकुड़ने से ज्वाइंट छोड़ देती हैं और चटक जाती हैं। ट्रेन गुजरती है तो वह हल्का सा टूट जाती हंै। यदि यह घटना धनौरा और रजखड़ गेट से बाहर होता तो बड़ा हादसा हो सकता था। इससे पहले बीते गुरुवार को अगोरी खास रेलवे स्टेशन के पास भी पटरी टूटी मिली थी। तब एक ग्रामीण की नजर उस पर पड़ने के बाद मरम्मत हुई थी।

Aug 07 2017 (09:24)  जान जोखिम में डालकर रेल पटरी पार करते हैं लोग (m.livehindustan.com)
back to top
Commentary/Human InterestECR/East Central  -  

News Entry# 310985     
   Past Edits
Aug 07 2017 (09:24)
Station Tag: Duddhinagar/DXN added by दक्षिण पूर्व रेलवे^~/1421836
Stations:  Duddhinagar/DXN  
 
 
स्थानीय रेलवे स्टेशन पर ओवरब्रिज न होने के कारण लोगों को जान जोखिम में डालकर आवागमन करने को विवश होना पड़ता है। ओवर ब्रिज न होने के कारण लोग रेल पटरियों को पार कर आते जाते हैं। यही नहीं टे्रनों के खडे़ रहने पर उसके नीचे से होकर लोगों का गुजरना पड़ता है। इससे अक्सर दुर्घटना की संभावनाएं बनी रहती हैं।
दुद्धी रेलवे स्टेशन का निर्माण वर्ष 1962 में हुआ था। तब से आज तक आसपास के गांवों के लोगों के आवागमन के लिए रेलवे ब्रिज का निर्माण नहीं किया गया। क्षेत्र के ग्रामीण अंचलों के लोगों को दुद्धी कस्बा आने के साथ ही अन्य जगहों पर जाने के लिए रेल की पटरियों को पार कर आना-जाना पड़ता है। टे्रन पकड़ने
...
more...
के लिए भी लोग पटरी पार कर स्टेशन पर पहुंचते हैं। प्लेटफार्म पर मालगाड़ियों व अन्य टे्रनों के खडे़ रहने पर लोगों को उनके नीचे से झुककर निकलना पड़ता है। ऐसे में अक्सर दुर्घटनाओं की संभावना बनी रहती है। रविवार को रक्षा बंधन पर्व पर अपने भाई को राखी बांधने के लिए बच्चों के साथ जा रही दुद्धी के डूमरडीहा गांव की दुर्गावती जब पटरी पर खड़ी मालगाड़ी के नीचे से निकलकर आगे आई तो सामने से ही त्रिवेणी एक्सप्रेस आ रही थी। महिला अपने बच्चों को लेकर वहीं खड़ी हो गई। पूछने पर महिला ने बताया कि वह त्रिवेणी एक्सप्रेस पकड़कर अपने भाई को राखी बांधने के लिए गढ़वा जा रही थी। उन्होंने बताया कि रेलवे स्टेशन जाने के लिए काफी घूमकर आना पड़ता है, तब तक पता चला टे्रन ही छूट जाएगी। इस रास्ते से जल्दी पहुंच जाते हैं। थोड़ा खतरा तो जरूर रहता है लेकिन अगर सरकार पुल बना दे तो लोगों को काफी सहूलियत मिलेगी।
वहीं प्लेटफार्म पर खड़े रेल यात्रियों में राजू गुप्ता, अच्छन खान, वैजनाथ आदि ने कहा कि सरकार यात्रियों के लिए अति आवश्यक मूलभूत सुविधाओं का ख्याल नहीं रख सकती और देश को विकसित होने की बात कहती है। उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधयों को इस मामले में पहल कर समस्या का निदान करना चाहिए। वहीं भाजपा नेता दिनेश अग्रहरि का कहना है कि हमारे क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों को पहल कर इस समस्या का निवारण कर सहरानीय कार्य करना चाहिए।
Jul 30 2017 (14:29)  जनवरी से चोपन-गढ़वा रूट पर दौड़ेंगी इलेक्ट्रिक ट्रेनें (www.amarujala.com)
back to top
IR AffairsECR/East Central  -  

News Entry# 310066     
   Past Edits
Jul 30 2017 (14:29)
Station Tag: Renukut/RNQ added by दक्षिण पूर्व रेलवे^~/1421836

Jul 30 2017 (14:29)
Station Tag: Duddhinagar/DXN added by दक्षिण पूर्व रेलवे^~/1421836
Stations:  Duddhinagar/DXN   Renukut/RNQ  
 
 
दुद्धी/रेणुकूट/म्योरपुर। सब कुछ ठीक रहा तो जनवरी से चोपन-गढ़वा रूट (रेहला से चोपन) पर इलेक्ट्रिक ट्रेनों का परिचालन शुरू हो जाएगा। इसके लिए तैयारियां तेज कर दी गई हैं। शनिवार को इस्टर्न सर्किल कोलकाता के कमिश्नर रेलवे सुरक्षा प्रमोद कुमार ने डीआरएम धनबाद एमके अखौरी, वरिष्ठ रेल यातायात प्रबंधक संजय कुमार, अजीत कुमार, अशोक कुमार आदि के साथ दुद्धी से रेणुकूट तक के ट्रैक और कार्य का निरीक्षण किया। दिखी खामियों को दुरुस्त करने, कार्य में तेजी लाने के निर्देश के साथ म्योरपुर रोड रेलवे स्टेशन से रेणुकूट के बीच विद्युत इंजन लगी स्पेशल ट्रेन दौड़ाकर गति का भी परीक्षण किया।
विशेष सैलून 12.40 बजे दुद्धी पहुंचा। डीआरएम एमके अखोरी ने स्टेशन मास्टर शैलेश कुमार से विद्युतीकरण के बाबत जानकारी हासिल की।
...
more...
वहीं कमिश्नर रेलवे सेफ्टी आचार्या ने विद्युतीकरण किए गए ट्रैक के कार्यप्रणाली की जानकारी ली। डिप्टी सीआरएस शलभ त्यागी ने इलेक्ट्रिक लाइन के सूचक बोर्ड को गलत पाया और फटकार लगाते हुए तत्काल दुरुस्त करने का निर्देश दिया। इलेक्ट्रिक लाइन में करंट दौड़ाने और उसे कट करने के बारे में एसएम से जानकारी ली।.दुद्धी स्टेशन पर अग्रिशमन व्यवस्था और इससे जुड़े उपकरणों के बारे में जानकारी हासिल करने के बाद जरूरी निर्देश दिए। ठेमा रेलवे पुल और कनहर नदी रेलवे पुल ट्रैक का निरीक्षण करने के बाद म्योरपुर रोड स्टेशन पहुंचे। यहां से रेणुकूट के लिए विद्युत इंजन लगी स्पेशल ट्रेन दौड़ाकर, ट्रैक पर कितनी गति से ट्रेन दौड़ाई जा सकती है, इसकी जानकारी ली। स्पेशल ट्रेन के साथ ही सभी लोग रेणुकूट पहुंचे। वहां विद्युत सब स्टेशन का कार्य और डिवीजनल इलेक्ट्रिक के निर्माणाधीन कार्यालय का निरीक्षण किया। इस मौके पर दुद्धी स्टेशन अधीक्षक ललित प्रसाद, स्टेशन मास्टर अरुण पांडेय, शैलेश कुमार, आरपी बैठा आदि मौजूद रहे।
Jul 30 2017 (07:22)  इलेक्ट्रिक इंजन का अवलोकन (epaper.jagran.com)
back to top
IR AffairsECR/East Central  -  

News Entry# 310030   Blog Entry# 2366235     
   Past Edits
Jul 30 2017 (07:22)
Station Tag: Renukut/RNQ added by दक्षिण पूर्व रेलवे^~/1421836

Jul 30 2017 (07:22)
Station Tag: Jharokhas/JRQ added by दक्षिण पूर्व रेलवे^~/1421836

Jul 30 2017 (07:22)
Station Tag: Duddhinagar/DXN added by दक्षिण पूर्व रेलवे^~/1421836
Stations:  Duddhinagar/DXN   Renukut/RNQ   Jharokhas/JRQ  
 
 
बोले डीआरएम
कुछ तकनीकी खामियां दुरुस्त करने के बाद होगा इलेक्ट्रिक इंजन का परिचालन
Click here to enlarge image
जागरण संवाददाता, दुद्धी (सोनभद्र) : रेलवे सुरक्षा आयुक्त के निरीक्षण में कई स्टेशनों पर खामियों के कारण गढ़वा-चोपन रेलखंड पर इलेक्ट्रिक इंजन का संचालन कार्यक्रम नहीं हो सका। अधिकारियों का कहना है कि इलेक्ट्रिक इंजन के संचालन के लिए अभी कम से कम तीन माह
...
more...
और इंतजार करना पड़ेगा। 1 शनिवार को नागरिक उड्डयन मंत्रलय के कोलकाता से आये रेलवे सुरक्षा आयुक्त (सीआरएस) पीके आचार्या धनबाद मंडल के डीआरएम मनोज कृष्ण अखोरी के साथ स्पेशल ट्रेन से गढ़वा से लेकर झारोखास स्टेशन के बीच हुए रेल लाइन के विद्युतीकरण के कार्य का निरीक्षण किया। करीब साढ़े बारह बजे दुद्धी रेलवे स्टेशन पर पहुंचे रेलवे के शीर्ष अधिकारियों ने सीआरएस को गढ़वा व दुद्धी के बीच पड़ने वाले कई स्टेशनों व रेलवे के छोटे-बड़े पुल का भी निरीक्षण किया। यहां पहुंचे आयुक्त ने अपने विशेष कोच से निकलकर पावर लाइन का अवलोकन करने के बाद संबंधित अधिकारियों से इन्सुलेटर आदि के बाबत जानकारी ली। 1 इसके पश्चात वे रेलवे स्टेशन के सिग्नल प्रणाली कंट्रोल रूम में पहुंचकर वहां ड्यूटीरत स्टेशन मास्टर शैलेश कुमार, अरुण पाण्डेय व स्टेशन अधीक्षक ललित कुमार से इलेक्ट्रिक इंजन के परिचालन से जुड़े सुरक्षा इंतजाम के बाबत कई तरह के सवाल दागे। संतुष्टिजनक उत्तर मिलने पर वे आगे बढ़ गये। इसके पूर्व आयुक्त ने कनहर पुल का भी बारीकी से अवलोकन किया। निरीक्षण के दौरान सीनियर डीओएम संजय कुमार, सीनियर डीइएन धनबाद मंडल संजय झा के साथ ही धनबाद मंडल के रेलवे अधिकारियों की पूरी टीम मुश्तैद थी। 1इलेक्ट्रिक इंजन के संचालन में अभी लगेगा तीन माह 1डीआरएम मनोज कृष्ण अखोरी ने पत्रकारों के सवाल पर कहा कि गढ़वा से झारोखास तक इलेक्ट्रिक लाइन का कार्य पूरा कर लिया गया है। नगरउंटारी के सिस्टम में कुछ तकनीकी खामी एवं झारोखास से रेणुकूट के बीच करीब तीस किमी के कार्य में अभी कुछ कमी रह गई है। इसे पूरा करने में करीब तीन माह का समय लग सकता है। इसके बाद ही इस रूट पर इलेक्ट्रिक इंजन का परिचालन संभव हो पायेगा। 1तेजी से कार्य पूरा करने का निर्देश 1शीर्ष अधिकारियों की टीम ने डिप्टी को फटकार लगाते हुए अधूरे कार्यों को अतिशीघ्र पूरा करने का निर्देश दिया। वहीं कार्यदायी संस्था ईएमसी के अधिकारियों ने बताया कि वे विपरीत परिस्थितियों में देशहित को देखते हुए कार्य को पूरा करने में लगे हुए हैं। कंपनी का फोकस इनदिनों रेणुकूट से चोपन के बीच इलेक्ट्रिक लाइन के कार्य को पूरा करने में जुटे हुए हैं। कंपनी के सूत्रों ने बताया कि रेलवे के नये करार के मुताबिक़ चोपन से शक्तिनगर एवं चोपन से चुनार तक का भी काम उनके कंपनी को मिल गया है। बारिश के बाद नई लाइनों पर भी उनका काम शुरू हो जायेगा। 1डाला-ओबरा मार्ग पर झुके पोल1डाला (सोनभद्र): डाला-ओबरा मार्ग पर झूके बिजली के पोल से आवागमन करने वाले राहगीरों के लिए खतरा उत्पन्न हो गया है। यह पोल कभी भी धराशायी होकर गिर सकते हैं। 1 विभागीय उदासीनता के कारण ही कई दिनों से टेड़े पोले को सीधा नहीं किया जा रहा है। राहगीरों ने जिला प्रशासन का ध्यान आकृष्ट कराते हुए जल्द मरम्मत कराने की गुहार लगाई है।इलेक्ट्रीक लाइन का निरीक्षण करते रेलवे सुरक्षा आयुक्त व डीआरएम ’ जागरण’गढ़वा से झारोखास तक करीब 78 किमी विद्युतीकरण का कार्य पूरा1’आज गढ़वा में होना था इलेक्ट्रिक इंजन के संचालन का शुभारंभ

Jul 30 2017 (10:43)
Sab moh maya hai~   1092 blog posts   471 correct pred (81% accurate)
Re# 2366235-1            Tags   Past Edits
चोपन से शक्तिनगर एवं चोपन से चुनार तक का भी काम उनके कंपनी को मिल गया है। mtlb ye ki ye bhut time lgayge

1830 views
Jul 30 2017 (11:32)
Aaditya^~   5190 blog posts   15994 correct pred (78% accurate)
Re# 2366235-2            Tags   Past Edits
Kam Se Kam 3 Saal Lagega.

1696 views
Jul 30 2017 (14:23)
Sab moh maya hai~   1092 blog posts   471 correct pred (81% accurate)
Re# 2366235-3            Tags   Past Edits
3 bhi bhut kam h inke liye

1707 views
Jul 30 2017 (14:27)
Aaditya^~   5190 blog posts   15994 correct pred (78% accurate)
Re# 2366235-4            Tags   Past Edits
Ek Baar Pressure Padega RB Ka Phir Takatak Kaam Hoga😁

1675 views
Jul 30 2017 (14:41)
Sab moh maya hai~   1092 blog posts   471 correct pred (81% accurate)
Re# 2366235-5            Tags   Past Edits
ha ye to hai. par 1 purani kahawat hai jo railway pr fit baithti hai. "9 din chle 2.5 kos"
Page#    Showing 1 to 19 of 19 News Items  

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.