Full Site Search  
Fri Jul 21, 2017 08:20:46 IST
PostPostPost Stn TipPost Stn TipUpload Stn PicUpload Stn PicAdvanced Search
Large Station Board;
Large Station Board;
Large Station Board;

IZN/Izzatnagar (3 PFs)
عزتنگر     इज्ज़तनगर

Track: Single Diesel-Line

Type of Station: Regular
Number of Platforms: 3
Number of Halting Trains: 28
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
SH 37, Izzatnagar, Bareilly
State: Uttar Pradesh
Elevation: 179 m above sea level
Zone: NER/North Eastern
Division: Izzatnagar
1 Travel Tips
No Recent News for IZN/Izzatnagar
Nearby Stations in the News

Rating: 3.3/5 (56 votes)
cleanliness - good (8)
porters/escalators - average (7)
food - average (7)
transportation - good (8)
lodging - average (6)
railfanning - good (8)
sightseeing - good (6)
safety - good (6)

Nearby Stations

SMG/Shahamatganj 3 km     BC/Bareilly City 5 km     BRY/Bareilly MG 7 km     BE/Bareilly Junction 7 km     DOX/Dohna 8 km     CBJ/ClutterbuckGanj 9 km     / 10 km     BRYC/Bareilly Cantt. Junction (Chanehti) 10 km     BPR/Bhojipura Junction 12 km     RGBD/Ramganga 13 km    

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 87 News Items  next>>
Jul 12 2017 (22:21)  बिना इंजन के पटरी पर 25 किमी दौड़ी मालगाड़ी, कई मवेशी मरे (tz.ucweb.com)
back to top
Major Accidents/Disruptions

News Entry# 308201   Blog Entry# 2350690     
   Tags   Past Edits
Jul 12 2017 (22:21)
Station Tag: Izzatnagar/IZN added by amishkumar48~/1702584

Jul 12 2017 (22:21)
Station Tag: Khatima/KHMA added by amishkumar48~/1702584

Jul 12 2017 (22:21)
Station Tag: Tanakpur/TPU added by amishkumar48~/1702584

Posted by: amishkumar48~  79 news posts
खटीमा(उधमसिंह नगर), [जेएनएन]: पत्थर लदी मालगाड़ी की आठ बोगियां टनकपुर से बगैर इंजन के करीब आधे घंटे तक रेलवे ट्रैक पर 25 किलोमीटर तक यमदूत बनकर दौड़ी। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार करीब 80 से 100 किमी रफ्तार में भाग रहीं बोगियों की चपेट में आकर आधा दर्जन मवेशियों की मौत हो गई।
एक ट्रैक्टर भी चपेट में आया, जो बोगियों के सहारे सात किमी तक घिसटता रहा। उसके परखच्चे उड़ गए। खटीमा रेलवे स्टेशन से करीब सौ मीटर आगे जाकर मालगाड़ी रेल पटरियों के किनारे खड़ी ट्रॉली से जा टकराई।
धमाके के
...
more...
बाद पहली बोगी के दोनों पहिये टै्रक से उतर गए और बोगियां वहीं रुक गईं। घटना से रेलवे महकमे में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में सभी गेट बंद करा दिए गए। रेलवे के उच्चाधिकारियों ने घटनास्थल का निरीक्षण कर जांच के आदेश दिए हैं।

886 views
Jul 12 2017 (22:42)
Congratulations President of India Ram Nath Kovind^~   40089 blog posts   28489 correct pred (77% accurate)
Re# 2350690-1            Tags   Past Edits
Mr India ka loco tha 😎

885 views
Jul 12 2017 (22:44)
Dream LHB Gomti Exp soon😎😍~   2772 blog posts
Re# 2350690-2            Tags   Past Edits
Wonder isme bhi terrorist angle na lgadia jaye.ya Naxalite..😁😁😁

878 views
Jul 12 2017 (22:46)
Congratulations President of India Ram Nath Kovind^~   40089 blog posts   28489 correct pred (77% accurate)
Re# 2350690-3            Tags   Past Edits
Haha
They are using artificial intelligence 😂😂

877 views
Jul 12 2017 (22:46)
Congratulations President of India Ram Nath Kovind^~   40089 blog posts   28489 correct pred (77% accurate)
Re# 2350690-4            Tags   Past Edits
Btw slope k karan train chki hogi
Jul 12 2017 (10:40)  जब बिना इंजन के दौड़े 30 किलोमीटर ट्रेन के 8 डिब्बे (aajtak.intoday.in)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNER/North Eastern  -  

News Entry# 308159     
   Tags   Past Edits
Jul 12 2017 (10:40)
Station Tag: Banbasa/BNSA added by ⭐ ⭐ ⭐ Telangana Express Oops AP Express ⭐ ⭐ ⭐~/1366147

Jul 12 2017 (10:40)
Station Tag: Chakarpur/CKK added by ⭐ ⭐ ⭐ Telangana Express Oops AP Express ⭐ ⭐ ⭐~/1366147

Jul 12 2017 (10:40)
Station Tag: Izzatnagar/IZN added by ⭐ ⭐ ⭐ Telangana Express Oops AP Express ⭐ ⭐ ⭐~/1366147

Jul 12 2017 (10:40)
Station Tag: Khatima/KHMA added by ⭐ ⭐ ⭐ Telangana Express Oops AP Express ⭐ ⭐ ⭐~/1366147

Jul 12 2017 (10:40)
Station Tag: Tanakpur/TPU added by ⭐ ⭐ ⭐ Telangana Express Oops AP Express ⭐ ⭐ ⭐~/1366147

Posted by: ⭐ ⭐ ⭐ Telangana Express Oops AP Express ⭐ ⭐ ⭐~  188 news posts
उत्तराखंड में एक चौकाने वाली बात सामने आई है. चंपावत जिले के टनकपुर रेलवे स्टेशन से खटीमा तक बिना इंजन के ट्रेन के आठ डिब्बे तीस किलोमीटर तक पटरी पर दौडते रहे. इसमें कोई जनहानि नहीं हुई लेकिन आधा दर्जन बकरियों और गाय के एक बछडे को डिब्बों ने रौंद डाला.
उत्तर प्रदेश में बरेली स्थित पूर्वोत्तर रेलवे इज्जतनगर के जनसंपर्क अधिकारी राजेंद्र सिंह ने बताया कि टनकपुर से उत्तर प्रदेश के मझौला के बीच पचास किलोमीटर की पटरियों पर कार्य चल रहा है. उन्होंने कहा कि छोटी लाइन को बडा करने के लिये चल रहे निर्माण कार्य के कारण आजकल टनकपुर, चकरपुर, बनबसा और खटीमा रेलवे स्टेशन बंद हैं. उनका कहना है कि निर्माण कंपनी की चूक के कारण यह हादसा
...
more...
हुआ.
पटरी निर्माण के कारण टनकपुर से खटीमा तक पडने वाले एक दर्जन से अधिक रेलवे फाटक खुले हुए थे लेकिन दिन का समय होने के कारण कोई बडी अनहोनी होने से बच गयी.
बता दें कि डिब्बों की चपेट में आकर आधा दर्जन बकरियों और गाय के एक बछडे की मौत हो गयी. डिब्बों के आगे चल रहा एक चालक रहित ट्रेक्टर भी घटना में चकनाचूर हो गया. हालांकि,खटीमा पहुंचने के बाद लोहे के सामान से टकराने के बाद डिब्बे रूक गए. घटनास्थल पर रेलवे अधिकारी पहुंच गए हैं और घटना की जांच के आदेश दे दिये गए हैं.
Jun 18 2017 (11:18)  दुर्घटना में एक-दूसरे पर नहीं चढ़ेंगे कोच सवारी गाड़ी के कोच में लगाए जाएंगे सेंट्रल बफर कपलर (epaper.jagran.com)
back to top
New Facilities/TechnologyNER/North Eastern  -  

News Entry# 305755     
   Tags   Past Edits
Jun 18 2017 (11:18)
Station Tag: Gorakhpur Junction/GKP added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Jun 18 2017 (11:18)
Station Tag: Izzatnagar/IZN added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Posted by: ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~  6100 news posts
सहूलियत
Click here to enlarge image
पीयूष दुबे’बरेली 1रेल यात्र को सुखद और सुरक्षित बनाने के लिए रेलवे बोर्ड ट्रेन संचालन एवं सुरक्षा संबंधी तकनीकी में लगातार सुधार कर रही है। इसके चलते रेलवे बोर्ड ने एक और अहम फैसला लिया है। अब पैसेंजर कोच को आपस में जोड़ने के लिए सेंट्रल बफर कपलर लगाए जाएंगे। पहले से लगे साइड बफर हटा दिए जाएंगे। बोर्ड की ओर से यह आदेश देश में संचालित सभी 24 यांत्रिक कारखानों को दे दिए गए हैं। इससे ट्रेन के दुर्घटनाग्रस्त होने पर कोच में बैठे यात्रियों की
...
more...
जान को खतरा कम होगा और कोच भी एक-दूसरे पर नहीं चढ़ेंगे। 1कानपुर में ट्रेन डिरेल होने के बाद तमाम कोच एकदूसरे पर चढ़ गए थे, कई यात्रियों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा था। वहीं सैकड़ों लोग गंभीर घायल हुए थे। इससे सबक लेते हुए रेलवे बोर्ड ने मालगाड़ी की तरह यात्री कोच में भी सेंट्रल बफर कोच लगाने के निर्देश दिए हैं। यात्री कोच में पहले से लगे साइड बफर एवं कपलिंग को हटाया जाएगा, क्योंकि बड़ी दुर्घटना होने पर साइड बफर झटका नहीं सह पाते थे। इससे कपलिंग भी टूट जाती थी।रेलवे बोर्ड से अभी कुछ पैसेंजर कोच में सेंट्रल बफर सिस्टम (सीबीएस) लगाने के आदेश हैं। भविष्य में सभी कोच में सीबीएस लगाने की संभावना है। 1राजेंद्र सिंह, पीआरओ, इज्जतनगर मंडलक्ष्ज्जतनगर में तैयारी शुरू1पूर्वाेत्तर रेलवे के इज्जतनगर यांत्रिक कारखाना में यात्री कोच में सेंट्रल बफर कपलर लगाने की तैयारियां शुरू हो गई हैं, अक्टूबर में काम शुरू होने की उम्मीद है। यहां पीरिओडिकल ओवरहॉलिंग को आने वाले कोच में सेंट्रल बफर कोच लगाए जाएंगे। इससे पहले यह व्यवस्था मालगाड़ी के वैगन में होती थी। 1सेंट्रल बफर कोच के फायदे 1कोच में यात्र कर रहे यात्रियों को झटके नहीं लगेंगे। दुर्घटनाग्रस्त होने के बावजूद कोच एकदूसरे से अलग नहीं होंगे और एक-दूसरे पर नहीं चढ़ेंगे।
Jun 02 2017 (11:00)  इज्जतनगर वर्कशॉप में 60 करोड़ से बनेगा वैगन शेड (m.jagran.com)
back to top
New Facilities/TechnologyNER/North Eastern  -  

News Entry# 304173     
   Tags   Past Edits
Jun 02 2017 (11:00)
Station Tag: Izzatnagar/IZN added by Tushar Shandilya~/1427404

Posted by: Tushar Shandilya~  652 news posts
जागरण संवाददाता, बरेली : पूर्वाेत्तर रेलवे के इज्जतनगर यांत्रिक कारखाना में 60 करोड़ रुपये की लागत से वैगन शेड बनाया जा रहा है। इस शेड के तैयार होने के बाद प्रतिमाह 50 वैगन ज्यादा पीओएच (पीरियोडिकल ओवरहालिंग) होंगे।
इज्जतनगर यांत्रिक कारखाना में प्रत्येक माह 10 वैगन की पीरिओडिकल ओवरहॉलिंग होती हैं, जबकि वैगन ज्यादा आने की वजह से उन्हें पीओएच करने में दिक्कत होती थी। इस समस्या का निस्तारण करने के लिए रेलवे बोर्ड की ओर से यांत्रिक कारखाना में वैगन शेड तैयार करने के निर्देश दिए गए। विभागीय अधिकारियों के मुताबिक शेड में दो क्रेन लगेंगी, जिससे कि भारी वजन के वैगन भी आसानी से उठाए और उतारे जा सकें। साथ ही व्हील शॉप, बिय¨रग शॉप और एक्सल शॉप का निर्माण
...
more...
कराया जाएगा, जिससे कि वैगन का पीओएच गुणवत्ता पूर्ण तरीके से किया जा सके।
इस संबंध में मुख्य यांत्रिक कारखाना प्रबंधक एसी बेसरा का कहना है कि साधनों के अभाव के बावजूद वर्कशॉप में प्रतिमाह 10 वैगन पीओएच किए जा रहे थे। इस प्रोजेक्ट के तैयार होने के बाद 60 वैगन प्रतिमाह पीओएच किए जाएंगे। साथ ही पीओएच किए गए वैगन की गुणवत्ता में भी सुधार हो जाएगा।
कोच पीओएच का बढ़ा लक्ष्य
बीते वर्ष की तुलना में इस वर्ष ब्रॉडगेज कोच पीओएच करने का लक्ष्य भी बढ़ा दिया गया है। इससे पहले 36 कोच प्रतिमाह पीओएच किए जाते थे, जबकि इस वित्त वर्ष में 42 कोच प्रतिमाह पीओएच करने का लक्ष्य दिया गया है।
May 02 2017 (21:14)  ओवरटाइम से तंग आकर गेटमैन ने बंद नहीं किया रेलवे फाटक (m.livehindustan.com)
back to top
Crime/AccidentsNER/North Eastern  -  

News Entry# 301395     
   Tags   Past Edits
May 02 2017 (21:14)
Station Tag: Izzatnagar/IZN added by Tushar Shandilya~/1427404

Posted by: Tushar Shandilya~  652 news posts
यूपी के बरेली में ओवरटाइम से तंग आकर एक गेटमैन ने फाटक बंद नहीं किया। करीब 20-25 मिनट तक ट्रेन खड़ी रही। अगर पांच मिनट भी ट्रेन लेट होती है तो तमाम अधिकारियों को गाड़ी लेट होने का स्पष्टीकरण रेलवे बोर्ड को देना पड़ता है। यहां तो करीब 25 मिनट तक गाड़ी खड़ी रही। फिर तो रेलवे में खलबली मच गई। गेटमैन ने अपनी बात उच्च अधिकारियों तक पहुंचाने को यह अनूठा रास्ता निकाला। मामले की जांच को आदेश दिए गए हैं।
पूर्वोत्तर रेलवे इज्जतनगर रेल मंडल की भोजीपुरा और इज्जतनगर स्टेशन के बीच गेट संख्या 234-सी है। यहां सोमवार को एक गेटमैन की डयूटी लगाई गई। आठ घंटे की डयूटी थी लेकिन उसे 12-16 घंटे तक डयूटी करनी पड़ी। जिस गेटमैन
...
more...
को डयूटी पर आना था, उसे संबंधित अधिकारी ने अपने बंगले पर काम को भेज दिया। गुस्साए गेटमैन ने अधिकारियों तक अपनी बात पहुंचाने को एक नया तरीका निकाला। मंगलवार की सुबह करीब नौ बजे पीलीभीत से गाड़ी आई। गेट 234-सी खुला देखकर लोको पायलेट ने गाड़ी रोक दी।
कई बार ट्रेन का हॉन बजाया। फिर भी फाटक पर मौजूद गेटमैन ने ध्यान नहीं दिया। पायलेट ने कंट्रोल को सूचना दी। गेटमैन के पास फोन पहुंचने लगे। फोन रिसीव नहीं किया। धीरे-धीरे 25 मिनट तक गाड़ी वहीं खड़ी रही। फिर तो रेलवे के ऑपरेटिंग विभाग में खलबली मच गई। कई अधिकारियों से 234-सी फाटक पर गाड़ी खड़े होने का जवाब मांग लिया गया। 25 मिनट के बाद गेटमैन ने फाटक बंद किया। तब गाड़ी इज्जतनगर करीब सवा नौ बजे पहुंची।
गेटमैन का आरोप है कि अफसरों के बंगलों पर 10-12 कर्मचारी काम करते हैं। जिन्हें गेट और ट्रैक की देखरेख करनी चाहिए। वे अफसरों के बंगलों पर झाडू-पोंछा लगाते हैं। कपड़े और खाना बनाते हैं। बंगलों पर बागवानी की देखरेख को ट्रैकमैन तैनात कर दिए गए। जो कर्मचारी डयूटी करते हैं, उनसे अफसर 16-16 घंटे की डयूटी कराते हैं। जिसे कर्मचारी हाईपर टेंशन और डायवटीज के शिकार हो रहे हैं।
Page#    Showing 1 to 20 of 87 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.