Full Site Search  
Mon Aug 21, 2017 11:59:18 IST
PostPostPost Stn TipPost Stn TipUpload Stn PicUpload Stn PicAdvanced Search
Large Station Board;
Large Station Board;
Large Station Board;
Scenic; Platform Pic; Large Station Board;

JHS/Jhansi Junction (8 PFs)
جھانسی جنکشن     झाँसी जंक्शन

Track: Double Electric-Line

Type of Station: Junction
Number of Platforms: 8
Number of Halting Trains: 242
Number of Originating Trains: 16
Number of Terminating Trains: 16
Pedestrian Overpass, Rani Laxmi Nagar, Jhansi (Jn Point :BNDA/CNB/BINA/GWL)
State: Uttar Pradesh
Elevation: 259 m above sea level
Zone: NCR/North Central
Division: Jhansi
 
 
14 Travel Tips
No Recent News for JHS/Jhansi Junction
Nearby Stations in the News

Rating: 3.6/5 (248 votes)
cleanliness - average (32)
porters/escalators - good (31)
food - good (32)
transportation - good (31)
lodging - good (31)
railfanning - good (30)
sightseeing - good (31)
safety - good (30)

Nearby Stations

MSV/Mustara 8 km     BJI/Bijauli 8 km     ORC/Orchha 11 km     KRQ/Karari 12 km     GRM/Garhmau 14 km     KHJ/Khajraha 17 km     PIC/Paricha 22 km     BWR/Barwa Sagar 22 km     PTSC/Parichaa Thermal 24 km     DAA/Datia 25 km    

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 288 News Items  next>>
Aug 15 2017 (10:33)  2020 के बाद चलेंगी सेमी हाईस्पीड ट्रेनें (epaper.livehindustan.com)
back to top
IR AffairsNR/Northern  -  

News Entry# 311759   Blog Entry# 2380787     
   Tags   Past Edits
Aug 15 2017 (10:33)
Station Tag: Allahabad Junction/ALD added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Aug 15 2017 (10:33)
Station Tag: Jhansi Junction/JHS added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Aug 15 2017 (10:33)
Station Tag: Gonda Junction/GD added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Aug 15 2017 (10:33)
Station Tag: Kanpur Central/CNB added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Aug 15 2017 (10:33)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Posted by: ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~  6407 news posts
 
 
2020 के बाद चलेंगी सेमी हाईस्पीड ट्रेनें
Click here to enlarge image
टन प्रतिमीटर है भार वहन क्षमता
किलोमीटर की दूरी पर डीएफसी लाइन में पूर्णत: स्वचालित सिग्नल
टन एक्सेल लोड की होती है डीएफसी
...
more...
में रेल पटरियों की क्षमता
टन एक्सेल लोड की है साधारण ट्रैक की क्षमता
नई दिल्ली / एजेंसीरेलवे बोर्ड ने फैसला किया है कि जिन दोहरीकृत रेलमार्गो को तीसरी लाइन के लिए चुना गया है, उनमें तीसरी लाइन का निर्माण डेडीकेटेड फ्रेट कॉरीडोर (डीएफसी) के स्तर का किया जाएगा। भारतीय रेलवे के क्षमता विस्तार कार्यक्रम को तेज करते हुए उन्हीं मार्गो पर उसी स्तर की चौथी लाइन बिछाने की भी मंज़ूरी दी जाएगी। इससे 2020 के बाद देश में प्रमुख मार्गो पर सेमी हाईस्पीड ट्रेनें चलाना संभव हो जाएगा।आधिकारिक सूत्रों के अनुसार, रेलवे बोर्ड ने हाल ही एक बैठक में फैसला लिया है कि जहां कहीं भी तीसरी रेल लाइन बिछाने की स्वीकृति प्रदान की गई है और निर्माण शुरू नहीं हुआ है, वहां तीसरी लाइन का निर्माण डीएफसी के स्तर का किया जाएगा। अगर ज़रूरी हो तो चौथी लाइन के निर्माण को भी मंज़ूरी दी जाएगी। बोर्ड ने इसी माह सभी ज़ोनल रेलवे को इस आशय के निर्देश जारी किए हैं और डीएफसी स्तर पर तीसरी लाइन के निर्माण के लिए उपयुक्त सामग्री की खरीद एवं प्रयोग के लिए प्रस्ताव तैयार करने को कहा है। सूत्रों ने कहा कि तीसरी-चौथी लाइन बनने के तुरंत बाद उस मार्ग की मौजूदा पटरियों को भी डीएफसी स्तर तक उन्नत किया जाएगा। इससे गैर डीएफसी मार्ग पर भी मालगाड़ियों की रफ्तार भी बढ़ सकेगी। तीसरी लाइन को इस प्रकार से बनाया जाना है कि जरूरत पड़ने पर दोनों दिशाओं की ओर गाड़ियां चलाई जा सकें। तीसरी लाइन की सिगनलिंग एवं रूटिंग विशेष रूप से तैयार की जाएंगी। तीसरी लाइन के साथ चौथी लाइन बनाने की जगह छोड़ी जाएगी, ताकि जब भी चौथी लाइन बनाने का निर्णय हो तो केवल पटरी बिछाने का काम बाकी रहे ।

1492 views
Aug 15 2017 (11:37)
Saurabh®~   2863 blog posts   42 correct pred (70% accurate)
Re# 2380787-1            Tags   Past Edits
2020 me bolenge ki 2025 tak chal jayegi☺

1466 views
Aug 15 2017 (11:44)
©THE DARK LORD™~   446 blog posts
Re# 2380787-2            Tags   Past Edits
Jo Gatimaan chal rahi hai wo kya hai phir, wo bhi to semi high speed hi hai.

1254 views
Aug 15 2017 (13:52)
deepakrashikendra~   1119 blog posts
Re# 2380787-3            Tags   Past Edits
They sud identify the section where 4th line is required.The work of 3&4 where needed sud be taken up simultaneously

1115 views
Aug 15 2017 (16:10)
a2z~   1763 blog posts
Re# 2380787-4            Tags   Past Edits
BSP-JSG in SECR, NGP-WR in CR are some sections section where construction of third line is in progress and 4th line have already been sanctioned

1165 views
Aug 15 2017 (16:21)
deepakrashikendra~   1119 blog posts
Re# 2380787-5            Tags   Past Edits
Itarsi Bhopal section should also be taken up.

1108 views
Aug 15 2017 (17:15)
☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~   14653 blog posts   3072 correct pred (65% accurate)
Re# 2380787-6            Tags   Past Edits
Is baar wada pura nhi ho ska...ek chance air manga h prabhu ne indirectly 😁

1094 views
Aug 15 2017 (17:16)
☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~   14653 blog posts   3072 correct pred (65% accurate)
Re# 2380787-7            Tags   Past Edits
Uske agy koi chali kya...??ek train se kam kaise chalega

1126 views
Aug 15 2017 (17:17)
☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~   14653 blog posts   3072 correct pred (65% accurate)
Re# 2380787-8            Tags   Past Edits
There r many section...spcly in ncr zone...

982 views
Aug 15 2017 (19:48)
deepakrashikendra~   1119 blog posts
Re# 2380787-9            Tags   Past Edits
NCR is getting DFC double line in Next 2 years
Aug 02 2017 (02:14)  पुख्ता की जा रहीं रेल पटरियां, काम तेज (www.amarujala.com)
back to top
New Facilities/TechnologyNCR/North Central  -  

News Entry# 310298     
   Tags   Past Edits
Aug 02 2017 (02:14)
Station Tag: Kanpur Central/CNB added by ⭐ ⭐ ⭐ Telangana Express Oops AP Express ⭐ ⭐ ⭐~/1366147

Aug 02 2017 (02:14)
Station Tag: Jhansi Junction/JHS added by ⭐ ⭐ ⭐ Telangana Express Oops AP Express ⭐ ⭐ ⭐~/1366147

Posted by: ⭐ ⭐ ⭐ Telangana Express Oops AP Express ⭐ ⭐ ⭐^~  507 news posts
 
 
पुख्ता की जा रहीं रेल पटरियां, काम तेज
झांसी। रेल प्रशासन पुखरायां रेल हादसे के बाद से कानपुर रूट के संचालन पर विशेष नजर रख रहा है। इस रूट की कमजोर पटरियों को बदलने का काम तेजी से चल रहा है। इस लाइन का साठ किलोमीटर ट्रैक बदला जाना है, जिसमें अब तक 35 किलोमीटर बदला जा चुका है। ग्वालियर रोड क्रासिंग के आसपास ट्रैक बदलने के लिए नई पटरियां मंगवा ली गई हैं।
20 नवंबर 2016 को तड़के पुखरायां में इंदौर-पटना एक्सप्रेस रेल हादसे के बाद से रेल प्रशासन झांसी-कानपुर ट्रैक पर
...
more...
बेहद सतर्कता से ट्रेनें चला रहा है। हादसे के बाद वर्तमान झांसी-कानपुर ट्रैक की पटरियों पर सवाल उठे थे। मशीनों से की जांच में भी कई सेक्शनों में पटरियां स्पीड से ट्रेनें दौड़ाने में सुरक्षित नहीं पाई गई थी। यहीं कारण है कि इस बजट में झांसी-कानपुर के बीच अलग-अलग सेक्शनों में 60 किलोमीटर पटरी बदलने के लिए बजट का प्रावधान किया गया। इसमें अकेले चौरा, पुखरायां, मलासा, लालपुर और पामा के बीच 36 किलोमीटर पटरी बदली जा रहीं है। साथ ही झांसी से मुस्तरा, गढ़मऊ, पारीछा के साथ ही छह और स्टेशनों के बीच कई जगह पटरियां बदलने का काम चल रहा है। जहां भी पटरी बदलने का काम चल रहा है, उन सेक्शनों में 30 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से ट्रेनें चलाई जा रही हैं। रेलवे के जनसंपर्क अधिकारी मनोज कुमार सिंह ने बताया कि पटरियों को एक निश्चित लोड निकलने के बाद ही बदला जाता है, जिसकी निगरानी लगातार की जाती है।
यह भी जानिए
भारतीय रेलवे में दो तरह की पटरियों का उपयोग होता हैं। इनमें एक का वजन 60 किलो( प्रति मीटर) और दूसरी 52 किलो (प्रति मीटर) की पटरी होती है। मेन लाइन में 60 किलो और ब्रांच लाइन में 50 किलो वजन वाली पटरी का उपयोग होता है। एक पटरी 120 मीटर लंबी होती है। मेन लाइन की पटरी के ऊपर से 880 ग्रोस मिलियन टन और ब्रांच लाइन की पटरी से 550 ग्रोस मिलयन टन भार (गाड़ियों का वजन) गुजरने के बाद बदला जाता है।
रेल प्रबंधन प्रणाली लागू
चौबीसों घंटे जिन पटरियों पर ट्रेनें दौड़ती हैं, रेलवे ने उनकी मरम्मत, रखरखाव आदि की जिम्मेदारी रेल पथ निरीक्षकों को सौंप रखी है। रेलवे ने एक निश्चित ट्रैफिक गुजरने के बाद उस पटरी को बदलने का प्रावधान किया है। अभी रेल पथ निरीक्षकों को अपने सेक्शन की पटरियों से जुड़ी जानकारियों को रिका़र्ड में रखना पड़ता है, मगर अब उनका काम पेपरलेस कर दिया गया है। एक-एक इंच पटरी की ऑनलाइन जानकारी केलिए रेल प्रबंधन प्रणाली लागू कर दी गई है।
इस योजना पर नहीं हो सका काम
रेल पटरियों पर बढ़ते ट्रैफिक को देखते हुए दो मालगाड़ियों को एक साथ जोड़कर चलाने की योजना बनाई गई थी, लेकिन संचालन में आ रहे व्यवधान के कारण ऐसा नहीं हो सका। दो मालगाड़ियों को एक साथ खड़ी करने के लिए पंद्रह सौ मीटर लाइन की आवश्यकता पड़ रही थी। इसके लिए सिकरौंदा-आंतरी (झांसी व आगरा के मध्य), बुढ़पुरा-माताटीला (झांसी व बीना के मध्य) के अलावा बांदा-कानपुर सेक्शन तथा मानिकपुर-नैनी स्टेशन पर यह लाइन बनाई है, लेकिन यहां दो मालगाड़ियां एक साथ नहीं खड़ी हो पा रही हैं।
अब नहीं निकल पाएंगे गेट से नीचे से
रेलवे ने ग्वालियर रोड क्रासिंग पर 29 और 30 जुलाई की रात ब्लाक लेकर सड़क बनाने का काम किया। सड़क बनने से बूम गेट नीचे हो गए हैं। इससे दो पहिया वाहन चालक अब गेट बंद होने पर नीचे से नहीं गुजर पा रहे हैं। गौरतलब है कि, बंद गेट के नीचे से गुजरने पर एक हजार रुपये जुर्माना और छह माह तक की सजा हो सकती है।
Jul 31 2017 (20:26)  कुशीनगर एक्सप्रेस से टकराई बाइक, ऐसे टला बड़ा हादसा (www.amarujala.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNCR/North Central  -  

News Entry# 310199   Blog Entry# 2368020     
   Tags   Past Edits
Jul 31 2017 (20:26)
Station Tag: Jhansi Junction/JHS added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Jul 31 2017 (20:26)
Train Tag: Kushinagar Express/11015 added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Jul 31 2017 (20:26)
Train Tag: Gorakhpur - Yesvantpur Express (via Gonda)/15015 added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Posted by: ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~  6407 news posts
 
 
झांसी में गढ़मऊ और पारीछा स्टेशन के बीच कुशीनगर एक्सप्रेस एक बाइक से टकरा गई। ट्रेन चालक की सतर्कता से हादसा टल गया। आरपीएफ ने बाइक जब्त कर उसके मालिक की तलाश शुरू कर दी है। गढ़मऊ और पारीछा स्टेशनों के बीच एक व्यक्ति अपनी बाइक पटरियों के बीच से निकाल रहा था। तभी उसे लोकमान्य तिलक से मुंबई जाने वाली कुशीनगर एक्सप्रेस दिखी तो वह पटरी पर ही बाइक छोड़कर भाग निकला।
इस बीच ड्राइवर की नजर पड़ी तो उसने ट्रेन धीमी कर ली। इसके बावजूद ट्रेन बाइक से टकरा ही गई। यदि ट्रेन की गति तेज होती तो हादसा हो सकता था। ट्रेन पटरी से उतर सकती थी। सहायक चालक ने नीचे उतरकर बाइक को पटरियों से हटाया और
...
more...
इसके बाद ट्रेन रवाना हो सकी।
शुक्रवार को आरपीएफ उपनिरीक्षक घनश्याम ने मौके पर पहुंचकर जांच की और बाइक को जब्त कर लिया। आरपीएफ ने बाइक के अज्ञात मालिक के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी है। बाइक पर अधूरा नंबर लिखा हुआ है। मालूम हो कि पारीछा और गढ़मऊ के बीच स्थित रेलवे अंडरपास बना रहा है।
इस कारण एक तरफ का रास्ता बंद कर दिया गया है। लोगों को कुछ दूर चक्कर लगाकर निकलना पड़ता है। कुछ लोग शार्टकट के चक्कर में पटरियां पार करके निकलते हैं तो कभी हादसे का कारण बन सकता है।

814 views
Aug 01 2017 (15:32)
a2z~   1763 blog posts
Re# 2368020-1            Tags   Past Edits
Baawara chhora bike ko, patri par thaa chala raha;
Rail Chalak ki savdhani se, tal gaya badaa haadsaa.
Kahat kabeer suno bhai saadho, aakhir kya hai mazra;
Thoda samay bachane ko tu, short cut kyon hai maartaa.
Apne
...
more...
khyaal khud rakh, kyon rail chalak pe bojh daalta;
Har baar bhagwaan bachaayega, paal na aisa mugaalta.
Jul 31 2017 (08:52)  जब रेलयात्रियों ने रोक ली इंदौर-पटना एक्सप्रेस, जमकर काटा हंगामा (www.patrika.com)
News Entry# 310147     
   Tags   Past Edits
Jul 31 2017 (08:52)
Station Tag: Jhansi Junction/JHS added by The Phenomenal One~/1469143

Jul 31 2017 (08:52)
Train Tag: Rajendranagar - Indore Express (Via Sultanpur)/19314 added by The Phenomenal One~/1469143

Posted by: The Phenomenal One~  909 news posts
 
 
झांसी. ट्रेन के एसी कोच में सफर कर रही महिला यात्रियों के पर्स चोरी होने से गुस्साए रेलयात्रियों ने चेन पुलिंग कर झांसी स्टेशन पर इंदौर-पटना एक्सप्रेस को रोक लिया। इसके बाद उन्होंने जमकर हंगामा किया। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची रेलवे पुलिस ने रेलयात्रियों से बातचीत कर उन्हें शांत कराया और ट्रेन को गंतव्य स्थान के लिए रवाना करवाया। इस मामले में रेलवे पुलिस ने कोच अटेंडेंट को ट्रेन से उतार लिया।
सूचना मिलने पर पहुंची रेलवे पुलिस
ट्रेन क्रमांक 19314 इंदौर-पटना एक्सप्रेस जब झांसी रेलवे स्टेशन से चलने लगी तो
...
more...
रेलयात्रियों ने चेन पुलिंग कर दी। इसके बाद उन्होंने हंगामा किया। इसकी जानकारी लगते ही आरपीएपी व डिप्टी एसएस प्लेटफार्म नंबर तीन पर पहुंचे। उन्होंने हंगामा कर रहे रेलयात्रियों से पूछताछ की।
यात्रियों ने बताई स्थिति
रेलयात्रियों ने बताया कि कोच ए-1 की सीट नंबर 23,20 व 24 पर सूरज शाह, संध्या और शिखा शाह वाराणसी से उज्जैन के लिए सफर कर रहे थे। रास्ते में बदमाशों ने दो लेडीज पर्स चोरी कर लिए। पर्स में 75 हजार रुपए, मोबाइल फोन और अन्य सामान रखा हुआ था। यात्रियों का कहना है कि इसी कोच की सीट नंबर 19 पर सफर कर रही प्रतिमा रंजन का भी पर्स चोरी हो गया। पर्स में दो हजार रुपए व अन्य सामान रखा हुआ था।
रेलवे पुलिस ने कहा
यात्रियों ने इस मामले में रिपोर्ट दर्ज कराने की मांग की। इसके साथ ही जल्द आरोपी को पकड़ने को भी कहा गया। फिलहाल, रेलवे पुलिस ने शक के आधार पर कोच अटेंडेंट राम प्रसाद को रेलवे स्टेशन पर ही उतार लिया। इसके बाद रेलयात्रियों का गुस्सा शांत हुआ और एक घंटे बाद ट्रेन गंतव्य स्थान के लिए रवाना हुई। रेलवे पुलिस का कहना है कि कोच अटेंडेंट से पूछताछ की जाएगी।
Jul 26 2017 (11:50)  उत्तर मध्य रेलवे के सितंबर 2017 तक मे कई महत्वपूर्ण क्षमता विस्तार के कार्य होंगे पूरे..NCR LOOKING AT MAJOR CAPACITY ENHANCEMENT BY SEPTEMBER 2017 (ncr.indianrailways.gov.in)
back to top
Commentary/Human InterestNCR/North Central  -  IR Press Release  

News Entry# 309558   Blog Entry# 2363188     
   Tags   Past Edits
Jul 26 2017 (11:50)
Station Tag: Kanpur Central/CNB added by Saurabh*^~/15807

Jul 26 2017 (11:50)
Station Tag: Jhansi Junction/JHS added by Saurabh*^~/15807

Jul 26 2017 (11:50)
Station Tag: Allahabad Junction/ALD added by Saurabh*^~/15807

Posted by: Saurabh*^~  3119 news posts
 
 
संख्‍या:11पीआर/07/2017प्रेस विज्ञप्ति दिनांक- 21.07.2017
उत्तर मध्य रेलवे के सितंबर 2017 तक मे कई महत्वपूर्ण क्षमता विस्तार के कार्य होंगे पूरे
उत्तर मध्य रेलवे ट्रैफिक सघनता के संबंध मे भारतीय रेल की सबसे व्यस्त क्षेत्रीय रेलवे मे से एक है | यह भारतीय रेल के 5% रेल मार्ग पर 15% ट्रैफिक का परिचालन करती है|यह जोन अपने व्यस्त मार्गों पर दैनिक ट्रैफिक को सुचारु करने और रेल तंत्र को डीकनजेस्ट कर यात्रियों को सहूलियत उपलब्ध कराने के उद्देश्य से क्षमता विस्तार के कार्य निरंतरकर रहा है|इसमे चुनौतियां बहुआयामी है|समय के साथ बढ़ती मांग के
...
more...
अनुरूप उत्तर मध्य रेलवे के व्यस्त रेल मार्गों पर, बढ़ रही रेल गाड़ियों की संख्या को ध्यान मे रखते हुये,कानपुर क्षेत्र के पनकी – भाउपुर तीसरी लाइन के सवारी और मेल-एक्सप्रेस गाड़ियो के लिये प्रयोग की आवश्यकता निरंतर बढ़ रही है|इसको ध्यान मे रखते हुये पनकीयार्ड मे रीमॉडलिंग का कार्य उत्तर मध्य रेलवे द्वारा प्रारंभ किया जा चुका है और इसको सितंबर 2017 तक पूरा भी कर लिया जायेगा|इस कार्य के पूरा हो जाने के बाद इस अतिव्यस्त मार्ग जिसकी लाइन क्षमता का 152% प्रयोग हो रहा है; पर कानपुर से भाउपुर के मध्य यात्री सेवाओं का तीसरी लाइन से सीधा परिचालन किया जा सकेगा|इससे थ्रू-पुट बढ़ने के अलावा,समयपालनता मे सुधार और आकस्मिकता की स्थिति मे परिचालन मे सहायता मिल सकेगी|इस यार्ड रीमॉडलिंग के क्रम मे ही पनकी यार्ड की मेकैनिकल इंटरलॉकिंग के स्थान पर इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिग स्थापित की जायेगी| इस इंटरलॉकिंग कार्य के पूरा हो जाने से ट्रेन ऑपरेशन अधिक सुचारु हो सकेगा और यार्ड के मार्ग की अधिकतम गति 110 किलोमीटर प्रति घंटा से बढ़कर 130 किलोमीटर प्रति घंटा हो जायेगी|
यात्रियों की बढ़ती संख्या और मांग के अनुरूप यात्री गाड़ियो की लंबाई भी बढ़ती जा रही है|इन लंबी होती गाड़ियों को स्टेशनों पर खड़ा करने के लिये प्लेटफॉर्मों कि लंबाई बढ़ाने का कार्य किया जा रहा है| इसी क्रम मे कानपुर स्टेशन के प्लेटफॉर्म संख्या 2 एवं 3 का विस्तार कियाजा रहा है एवं शिकोहाबाद स्टेशन के प्लेटफॉर्म संख्या 1 एवं 2 को 26 डिब्बों का बनाया जा रहा है|यह कार्य भी सितंबर 2017 तक पूरा कर लिया जायेगा और इनके पूरा होने से ट्रेन हैंडलिंग मे आसानी होगी और यात्रियों को अधिक सुविधा भी मिल सकेगी|
माल यातायात को सुचारु करने के क्रम मे भी विभिन्न कार्य किये जा रहे हैं| झांसी –परीछा रेल लाइन के दोहरीकरण का कार्य किया जा रहा है|यह कार्य सितंबर-अक्टूबर 2017 तक पूरा हो जायेगा|इस कार्य के पूरा हो जाने से परीछा पावर हाउस को जाने वाली कोयले की सप्लाई सुचारु होगी और साथ ही सीमेंट के रेकों का परीछा सीमेंट फैक्ट्री से निस्तारण भी आसानी से हो सकेगा| इसके अतिरिक्त मिर्जापुर यार्ड मे लाइन संख्या-8 का भी 200 मीटर विस्तार किया जा रहा है ताकि पूरी लंबाई की मालगाड़ी खड़ी की जा सके | इस कार्य को भी सितंबर अंत तक पूरा करने का लक्ष्य निर्धारित कियागया है जिससे इलाहाबाद-मुगलसराय खंड पर मालगाड़ियो की होल्डिंग मे सुधार के साथ ही गाड़ियों के परिचालन को सुचारु बनानेमे सहायता मिलेगी|झांसी मंडल के झांसी-बांदा खंड पर रेल गाड़ियों की रफ्तार बढ़ाने के उद्देश्य से ‘मॉडिफाइड नॉन इंटरलॉक्ड सिस्टम’ को ‘स्टैंडर्ड 3 इंटरलॉकिंग’ से सितंबर माह तक परिवर्तित कर दिया जायेगा|यह एक गेम चेंजर की भूमिका अदा करेगा और इसके पूरा होने से प्रत्येक स्टेशन यार्डों मे गाड़ियों की गति को 15 किलोमीटर प्रति घंटा तक घटाने की जरूरत नही रह जायेगी और गाड़ी पूरी गति 110 किलोमीटर प्रति घंटा से चल सकेगी जिससे मोबिलटी बढ़ने के साथ ही समयपालनता, थ्रूपुट मे वृद्धि और लाइन क्षमता का भी बेहतर प्रयोग किया जा सकेगा|
इसी क्रम मे हरित रेल परिचालन के अपने प्रयासों के तहत ललितपुर-उदयपुरा एवं शंकरगढ़-मानिकपुर मार्गों के विद्युतिकरण कार्यों को भी क्रमशं: जुलाई एव अगस्ततक पूरा कर लिया जायेगा| इनके पूरा होने से जहां एक तरफ उत्तर मध्य रेलवे के कार्बन फुट प्रिंट मे कमी होगी वही दूसरी तरफ ट्रैक्शन प्रणाली भी सीमलेस हो जायेगी|
अत: यक कहा जा सकता है कि सितंबर 2017 उत्तर मध्य रेलवे के लिये एक अति महत्वपूर्ण माह होने जा रहा है जबकि कई क्षमता विस्तार के कई कार्य पूरे होने जा रहे हैं, जिनसे रेल प्रणाली मे सुधार के साथ ही यात्री एवं माल यातायात मे सुखद परिवर्तन आने की संभावना है|

2 posts - Wed Jul 26, 2017 - are hidden. Click to open.

719 views
Jul 30 2017 (15:04)
आगरा कानपुर झांसी golden triangle of NCR   59 blog posts   33 correct pred (63% accurate)
Re# 2363188-4            Tags   Past Edits
jhansi junction, gwalior and agra cantt railway stations par bhi platform number badhana chahiye.. there is soo much rush on these stations.
Page#    Showing 1 to 20 of 288 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.