Full Site Search  
Tue Nov 21, 2017 11:39:41 IST
PostPostPost Stn TipPost Stn TipUpload Stn PicUpload Stn PicAdvanced Search
Large Station Board;
Medium; Night Pic; Platform Pic; Large Station Board;


CNB/Kanpur Central (10 PFs)
کانپور سینٹرل     कानपुर सेंट्रल

Track: Double Electric-Line

Type of Station: Junction
Number of Platforms: 10
Number of Halting Trains: 326
Number of Originating Trains: 42
Number of Terminating Trains: 42
Ghantaghar/Cantt. , KANPUR-208 001
State: Uttar Pradesh
Elevation: 129 m above sea level
Zone: NCR/North Central
Division: Allahabad
 
 
37 Travel Tips
CNB/Kanpur Central is in Recent News
Nearby Stations in the News

Rating: 3.4/5 (389 votes)
cleanliness - average (54)
porters/escalators - good (48)
food - average (48)
transportation - good (49)
lodging - good (46)
railfanning - good (49)
sightseeing - good (46)
safety - good (49)

Nearby Stations

COP/Kanpur MG 1 km     CPNL/Kanpur C Panel 1 km     CPA/Kanpur Anwarganj 2 km     CPB/Kanpur Bridge Left Bank 4 km     GOY/Govindpuri Junction 4 km     CNBI/Chandari 5 km     RPO/Rawatpur 7 km     MGW/Magarwara 11 km     KAP/Kalianpur 12 km     HLIN/Holding Line 12 km    

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 1286 News Items  next>>
Yesterday (19:10)  राजधानी एक्स. में समोसा खाने से हालत बिगड़ी (epaper.jagran.com)
back to top
Other NewsNCR/North Central  -  

News Entry# 322968   Blog Entry# 2793994     
   Past Edits
Nov 20 2017 (19:10)
Station Tag: Kanpur Central/CNB added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Nov 20 2017 (19:10)
Train Tag: New Delhi - Rajendra Nagar (Patna) Rajdhani Express/12310 added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964
 
 
राजधानी एक्स. में समोसा खाने से हालत बिगड़ी
Click here to enlarge image
जागरण संवाददाता, कानपुर : ट्रेन की पेंट्रीकार के खाने की गुणवत्ता एक बार फिर सवालों के घेरे में है। पटना राजधानी एक्सप्रेस में सफर कर रहे एक यात्री की तबीयत उस वक्त बिगड़ गई, जब उसने समोसे के साथ लोहे का तार निगल लिया। सूचना मिलने पर यात्री को सेंट्रल स्टेशन पर उपचार देकर आगे रवाना किया गया। 1पटना निवासी आलोक राज शनिवार को राजधानी एक्सप्रेस में सफर कर रहे थे। अलीगढ़ के आगे उन्होंने पेंट्रीकार से समोसा खरीदकर खाया।
...
more...
समोसा खाने के दौरान उन्हें कुछ अजीब सा लगा, उन्होंने देखा तो आलू के साथ लोहे के तार भी थे। यह देखकर उनके होश उड़ गए। थोड़ा समोसा वह खा चुके थे और कुछ तार पेट के अंदर पहुंच गया था। उन्हें दिक्कत होने लगी। रात करीब साढ़े 11 बजे ट्रेन कानपुर पहुंची। सूचना पर डॉ. ऋषि दीक्षित कोच में पहुंचे और आलोक को दवाएं दीं। दवा खाने के बाद उनकी हालत में कुछ सुधार हुआ। उन्हें पटना पहुंचने के बाद इन परिस्थितियों में लगने वाले एक इंजेक्शन लगवाने की सलाह दी गई है। 1कैग की रिपोर्ट में उठे थे सवाल: रेलवे के खाने को लेकर छह माह पूर्व कैग(नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक) की रिपोर्ट में सवाल खड़े किए गए थे। रिपोर्ट में रेलवे के खाने की गुणवत्ता बेहद खराब बताई गई थी। इसके बाद खाने की गुणवत्ता सुधारने के तमाम दावे हुए थे लेकिन, राजधानी जैसी गाड़ी में हुई इस घटना के बाद एक बार फिर रेलवे का खाना सवालों के घेरे में है। 1जागरण संवाददाता, कानपुर : ट्रेन की पेंट्रीकार के खाने की गुणवत्ता एक बार फिर सवालों के घेरे में है। पटना राजधानी एक्सप्रेस में सफर कर रहे एक यात्री की तबीयत उस वक्त बिगड़ गई, जब उसने समोसे के साथ लोहे का तार निगल लिया। सूचना मिलने पर यात्री को सेंट्रल स्टेशन पर उपचार देकर आगे रवाना किया गया। 1पटना निवासी आलोक राज शनिवार को राजधानी एक्सप्रेस में सफर कर रहे थे। अलीगढ़ के आगे उन्होंने पेंट्रीकार से समोसा खरीदकर खाया। समोसा खाने के दौरान उन्हें कुछ अजीब सा लगा, उन्होंने देखा तो आलू के साथ लोहे के तार भी थे। यह देखकर उनके होश उड़ गए। थोड़ा समोसा वह खा चुके थे और कुछ तार पेट के अंदर पहुंच गया था। उन्हें दिक्कत होने लगी। रात करीब साढ़े 11 बजे ट्रेन कानपुर पहुंची। सूचना पर डॉ. ऋषि दीक्षित कोच में पहुंचे और आलोक को दवाएं दीं। दवा खाने के बाद उनकी हालत में कुछ सुधार हुआ। उन्हें पटना पहुंचने के बाद इन परिस्थितियों में लगने वाले एक इंजेक्शन लगवाने की सलाह दी गई है। 1कैग की रिपोर्ट में उठे थे सवाल: रेलवे के खाने को लेकर छह माह पूर्व कैग(नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक) की रिपोर्ट में सवाल खड़े किए गए थे। रिपोर्ट में रेलवे के खाने की गुणवत्ता बेहद खराब बताई गई थी। इसके बाद खाने की गुणवत्ता सुधारने के तमाम दावे हुए थे लेकिन, राजधानी जैसी गाड़ी में हुई इस घटना के बाद एक बार फिर रेलवे का खाना सवालों के घेरे में है। 1’ >>पेंट्रीकार के समोसे में आलू के साथ भरे थे लोहे के तार1’ >>कानपुर सेंट्रल रेलवे स्टेशन पर डॉक्टरों ने किया उपचार 1यह प्रकरण आइआरसीटीसी से जुड़ा है। ट्रेनों के खानपान की जिम्मेदारी इन्हीं पर है। अगर ऐसी कोई घटना हुई है तो यात्री की शिकायत पर कार्रवाई होगी। 1 अमित मालवीय, जनसंपर्क अधिकारी उत्तर मध्य रेलवे

3 posts - Yesterday - are hidden. Click to open.

26 views
Today (11:28)
APV*^~   4199 blog posts   1852 correct pred (92% accurate)
Re# 2793994-4            Tags   Past Edits
Aligarh mei samosa "kharidkar" khaya... Kharidkar kha sakte h Rajdhanis mei?? N that too "Samosa" ??
Ajib laga padh ke.... "अलीगढ़ के आगे उन्होंने पेंट्रीकार से समोसा खरीदकर खाया। समोसा खाने के दौरान उन्हें कुछ अजीब सा लगा, उन्होंने देखा तो आलू के साथ लोहे के तार भी थे। यह देखकर उनके होश उड़ गए। थोड़ा समोसा वह खा चुके थे और कुछ तार पेट के अंदर पहुंच गया था। उन्हें दिक्कत होने लगी। "
"पेंट्रीकार के समोसे में आलू के साथ भरे थे लोहे के तार"

हद हो गई यार !!!!
Yesterday (12:43)  अवैध वेंडरिंग से खतरे में यात्री (epaper.jagran.com)
back to top
IR AffairsNCR/North Central  -  

News Entry# 322955     
   Past Edits
Nov 20 2017 (12:43)
Station Tag: Kanpur Central/CNB added by Waiting For VSKP JAT Hirakud Express😍😊^~/1421836
Stations:  Kanpur Central/CNB  
 
 
पनकी से लखनऊ के बीच सक्रिय 100 से अधिक अवैध वेंडर
अनदेखी
जागरण संवाददाता, कानपुर : कानपुर दौरे पर आए एसपी जीआरपी ने एसी कोच में आपराधिक घटनाओं के लिए रेल स्टॉफ को जिम्मेदार ठहराया था, लेकिन इसके साथ ही असली समस्या अवैध वेंडरिंग है। आरपीएफ की शह पर ट्रेनों के अंदर चहलकदमी करने वाले अवैध वेंडर न केवल वारदातों को अंजाम दे रहे हैं, बल्कि वे गिरोहों के लिए रेकी का काम भी कर रहे हैं।1पिछले कुछ दिनों में ट्रेनों के अंदर चोरी की वारदातों की बाढ़ आई है। नवंबर में 18
...
more...
दिनों के दौरान करीब दर्जन भर घटनाएं हो चुकी हैं। एक अनुमान के मुताबिक पनकी से लेकर लखनऊ तक ट्रेनों में सौ से अधिक अवैध वेंडर सफर करते हैं। इनमें बड़ी संख्या ऐसी है जो कि आपराधिक गतिविधियों में लिप्त हैं। सामान बेचने के बहाने ऐसे वेंडर मौका मिलते ही यात्रियों का माल पार कर देते हैं। कई बार यह रेकी का काम भी करते हैं और यात्रियों की सूचनाएं ट्रेनों में चलने वाले अपराधियों के गिरोह तक पहुंचाते हैं। रनिंग ट्रेन के अलावा आउटर पर अवैध वेंडरों का जोर है। कई वारदात होने और इसमें वेंडरों की संलिप्तता मिलने के बाद भी कार्रवाई नहीं हो रही है।111 दिन में दबोचे सिर्फ चार : अवैध वेंडरिंग पर लगाम कसने की जिम्मेदारी आरपीएफ की है, लेकिन आरपीएफ ही इन्हें संजीवनी देती है। जीआरपी का भी सहयोग रहता है। इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि 9 नवंबर से चल रहे अभियान में अब तक केवल चार अवैध वेंडर पकड़े गए हैं। 1लचर है कानून : अवैध वेंडरिंग के खिलाफ कानून बेहद लचर है। रेलवे एक्ट के मुताबिक अवैध वेंडरिंग में पकड़े जाने पर जुर्माना या कैद दोनों हो सकती है। अमूमन 500 रुपये से 3 हजार रुपये तक जुर्माना ही होता है। कुछ ही मामलों में 7 से 15 दिनों की कैद की सजा सुनाई जाती है। इसी वजह से पकड़े जाने क ा डर नहीं होता। 1अवैध वेंडरिंग समस्या है। इस पर नकेल आरपीएफ को कसनी है। जीआरपी ने भी अभियान चलाया है। इसमें कोई शक नहीं कि अवैध वेंडर ट्रेनों में घटनाओं के जिम्मेदार हैं।1पीके मिश्र, एसपी जीआरपी
Yesterday (12:40)  राजधानी में समोसा खाकर यात्री की हालत बिगड़ी (epaper.jagran.com)
back to top
IR AffairsNCR/North Central  -  

News Entry# 322954     
   Past Edits
Nov 20 2017 (12:40)
Station Tag: Kanpur Central/CNB added by Waiting For VSKP JAT Hirakud Express😍😊^~/1421836
Stations:  Kanpur Central/CNB  
 
 
गळ्णवत्ता पर सवाल
जागरण संवाददाता, कानपुर : ट्रेन की पेंट्रीकार के खाने की गुणवत्ता एक बार फिर सवालों के घेरे में है। राजधानी एक्सप्रेस में सफर कर रहे एक यात्री की तबियत उस वक्त बिगड़ गई, जब उसने समोसे के साथ लोहे का तार निगल लिया। सूचना मिलने पर यात्री को सेंट्रल स्टेशन पर उपचार देकर आगे रवाना किया गया। 1पटना निवासी आलोक राज शनिवार को पटना राजधानी एक्सप्रेस में सफर कर रहे थे। अलीगढ़ के आगे उन्होंने पेंट्रीकार से समोसा खरीदकर खाया। समोसा खाने के दौरान उन्हें कुछ अजीब सा लगा, उन्होंने देखा तो आलू के साथ लोहे के तार भी थे। यह देखकर उनके होश उड़ गए। एक कौर वह खा चुके थे और कुछ तार पेट के अंदर पहुंच
...
more...
गया था। उन्हें दिक्कत होने लगी। रात करीब साढ़े ग्यारह बजे ट्रेन सेंट्रल पहुंची। सूचना पर डॉ. ऋषि दीक्षित कोच में पहुंचे और आलोक को दवाएं दीं। दवा खाने के बाद उनकी हालत में कुछ सुधार हुआ। उन्हें पटना पहुंचने के बाद इन परिस्थितियों में लगने वाले एक इंजेक्शन लगवाने की सलाह दी गई है। 1कैग की रिपोर्ट में उठे थे सवाल : रेलवे के खाने को लेकर छह माह पूर्व कैग की रिपोर्ट में सवाल खड़े किए गए थे। रिपोर्ट में रेलवे के खाने की गुणवत्ता बेहद खराब बताई गई थी। इसके बाद खाने की गुणवत्ता सुधारने के तमाम दावे हुए थे, लेकिन राजधानी जैसी गाड़ी में हुई इस घटना के बाद एक बार फिर रेलवे का खाना सवालों के घेरे में है।’>>पेंट्रीकार के समोसे में आलू के साथ भरे थे लोहे के तार1’>>सूचना मिलते ही सेंट्रल पर डॉक्टरों ने किया इलाजयह प्रकरण आइआरसीटीसी से जुड़ा है। ट्रेनों के खानपान की जिम्मेदारी इन्हीं पर है। अगर ऐसी कोई घटना हुई है तो यात्री की शिकायत पर कार्रवाई होगी। 1अमित मालवीय, जनसंपर्क अधिकारी उत्तर मध्य रेलवे
Nov 19 2017 (06:30)  स्मॉग से लंबी दूरी की ट्रेनों की बिगड़ी चाल (epaper.jagran.com)
back to top
IR AffairsNCR/North Central  -  

News Entry# 322894     
   Past Edits
Nov 19 2017 (06:30)
Station Tag: Kanpur Central/CNB added by Waiting For VSKP JAT Hirakud Express😍😊^~/1421836
 
 
जागरण संवाददाता, कानपुर: स्मॉग की वजह से बेपटरी रेल यातायात अभी तक पटरी पर नहीं आ सका है। 1कानपुर सेंट्रल से रोजाना तकरीबन साढ़े तीन सौ गाड़ियां गुजरती हैं। शनिवार को इनमें से 100 गाड़ियां ऐसी थीं, जो देरी से चल रही थीं। इनमें से दो दर्जन गाडियां 5 से 21 घंटे देर से चलीं। सबसे खराब हालत जसीडीह से आनंद विहार चलने वाली गाड़ी की रही। यह 18 नवंबर की सुबह साढ़े सात बाजे आनी थी, जो कि अब 19 नवंबर की सुबह साढ़े चार बजे आएगी। 1आनंद विहार से सीतामढ़ी जाने वाली ट्रेन अप एवं डाउन दोनों ही तरफ से 17 घंटे से अधिक विलंब से चल रही है। जोगबनी से आनंद विहार जाने वाली गाड़ी संख्या 12487 भी 11 घंटे, गाड़ी संख्या 14019 अगरतला से आनंद विहार 11:30 घंटा, गाड़ी संख्या 12312 कालका से हावड़ा 10:10 घंटा विलंब से चल रही हैं। शनिवार को आने वाली कई गाड़ियां...
more...
अब रविवार को सेंट्रल पहुंचेगी। प्रमुख रूप से बिहार से दिल्ली जाने वाली गाड़ियां अधिक प्रभावित हैं। 1जागरण संवाददाता, कानपुर: स्मॉग की वजह से बेपटरी रेल यातायात अभी तक पटरी पर नहीं आ सका है। 1कानपुर सेंट्रल से रोजाना तकरीबन साढ़े तीन सौ गाड़ियां गुजरती हैं। शनिवार को इनमें से 100 गाड़ियां ऐसी थीं, जो देरी से चल रही थीं। इनमें से दो दर्जन गाडियां 5 से 21 घंटे देर से चलीं। सबसे खराब हालत जसीडीह से आनंद विहार चलने वाली गाड़ी की रही। यह 18 नवंबर की सुबह साढ़े सात बाजे आनी थी, जो कि अब 19 नवंबर की सुबह साढ़े चार बजे आएगी। 1आनंद विहार से सीतामढ़ी जाने वाली ट्रेन अप एवं डाउन दोनों ही तरफ से 17 घंटे से अधिक विलंब से चल रही है। जोगबनी से आनंद विहार जाने वाली गाड़ी संख्या 12487 भी 11 घंटे, गाड़ी संख्या 14019 अगरतला से आनंद विहार 11:30 घंटा, गाड़ी संख्या 12312 कालका से हावड़ा 10:10 घंटा विलंब से चल रही हैं। शनिवार को आने वाली कई गाड़ियां अब रविवार को सेंट्रल पहुंचेगी। प्रमुख रूप से बिहार से दिल्ली जाने वाली गाड़ियां अधिक प्रभावित हैं। 1यह गाड़ियां भी हैं लेट 114056 दिल्ली से डिब्रूगढ़ 8:45 घंटा 112180 आगरा कैंट से लखनऊ 5:15 घंटा 112505 गोवाहाटी-आनंद विहार 5:45 घंटा 112987 सियालदाह से अजमेर 7:40 घंटा 118101 टाटानगर से जम्मूतवी 5:20 घंटा 112816 न्यू दिल्ली से पुरी 7:40 घंटा 113007 हावड़ा से श्रीगंगा नगर 5:55 घंटा
Nov 18 2017 (10:35)  चंदारी में मालगाड़ी का इंजन पटरी से उतरा (epaper.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNCR/North Central  -  

News Entry# 322842     
   Past Edits
Nov 18 2017 (10:35)
Station Tag: Kanpur Central/CNB added by Waiting For VSKP JAT Hirakud Express😍😊^~/1421836

Nov 18 2017 (10:35)
Station Tag: Chandari/CNBI added by Waiting For VSKP JAT Hirakud Express😍😊^~/1421836
Stations:  Kanpur Central/CNB   Chandari/CNBI  
 
 
कानपुर: चंदारी स्टेशन पर एफसीआइ गोदाम की ओर जाने वाले रूट पर शुक्रवार दोपहर मालगाड़ी का इंजन डीरेल हो गया। स्टेशन से एफसीआई गोदाम की ओर साइडिंग लाइन गई है। दोपहर करीब तीन बजे अनाज से लदी मालगाड़ी इस लाइन पर खड़ी की गई। कटकर इंजन बाहर आते समय डीरेल हो गया। दो घंटे के अंदर पटरी से उतरा इंजन फिर से पटरी पर आ गया। उत्तर मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी गौरव कृष्ण बंसल ने बताया कि घटना से रेल यातायात पर असर नहीं पड़ा। 1लगेंगी बॉटल क्रशर मशीनें : पानी की बोतलों की गंदगी से बचने के लिए स्टेशन पर बॉटल क्रशर मशीनें लगाई जाएंगी। रोजाना सैकड़ों बोतलें प्लेटफार्म व फैंकी जाती हैं। स्टेशन डायरेक्टर डॉ. जितेंद्र कुमार ने बताया कि इस समस्या से निजात के लिए रेलवे 4 बॉटल क्रशर मशीनें खरीदने जा रहा है। उन्होंने बताया कि सेंट्रल पर साफ सफाई की स्थिति और सुधारने के...
more...
लिए प्लेटफार्म पर भी गीला और सूखा कूड़ा अलग-अलग करने पर विचार हो रहा है। इसके लिए कंपनी की तलाश की जा रही है।कानपुर: चंदारी स्टेशन पर एफसीआइ गोदाम की ओर जाने वाले रूट पर शुक्रवार दोपहर मालगाड़ी का इंजन डीरेल हो गया। स्टेशन से एफसीआई गोदाम की ओर साइडिंग लाइन गई है। दोपहर करीब तीन बजे अनाज से लदी मालगाड़ी इस लाइन पर खड़ी की गई। कटकर इंजन बाहर आते समय डीरेल हो गया। दो घंटे के अंदर पटरी से उतरा इंजन फिर से पटरी पर आ गया। उत्तर मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी गौरव कृष्ण बंसल ने बताया कि घटना से रेल यातायात पर असर नहीं पड़ा। 1लगेंगी बॉटल क्रशर मशीनें : पानी की बोतलों की गंदगी से बचने के लिए स्टेशन पर बॉटल क्रशर मशीनें लगाई जाएंगी। रोजाना सैकड़ों बोतलें प्लेटफार्म व फैंकी जाती हैं। स्टेशन डायरेक्टर डॉ. जितेंद्र कुमार ने बताया कि इस समस्या से निजात के लिए रेलवे 4 बॉटल क्रशर मशीनें खरीदने जा रहा है। उन्होंने बताया कि सेंट्रल पर साफ सफाई की स्थिति और सुधारने के लिए प्लेटफार्म पर भी गीला और सूखा कूड़ा अलग-अलग करने पर विचार हो रहा है। इसके लिए कंपनी की तलाश की जा रही है।
Page#    Showing 1 to 20 of 1286 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.