Full Site Search  
Wed Jan 17, 2018 23:40:40 IST
PostPostPost Stn TipPost Stn TipUpload Stn PicUpload Stn PicAdvanced Search
Large Station Board;
Large Station Board;


KRJ/Khurja Junction (5 PFs)
خُرجہ جنکشن     खुर्जा जंक्शन

Track: Triple Electric-Line

Type of Station: Junction
Number of Platforms: 5
Number of Halting Trains: 37
Number of Originating Trains: 3
Number of Terminating Trains: 4
Maina Mojpur,Bulandshahr,Pin;203132
State: Uttar Pradesh
add/change address
Elevation: 199 m above sea level
Zone: NCR/North Central
Division: Allahabad
 
 
No Recent News for KRJ/Khurja Junction
Nearby Stations in the News

Rating: 4.5/5 (8 votes)
cleanliness - excellent (1)
porters/escalators - excellent (1)
food - good (1)
transportation - excellent (1)
lodging - good (1)
railfanning - excellent (1)
sightseeing - good (1)
safety - excellent (1)

Nearby Stations

SKQ/Sikandarpur 6 km     KAMP/Kamalpur 6 km     KJY/Khurja City 7 km     DAR/Danwar 11 km     GNRL/Gangraul Halt 11 km     CHL/Chola 15 km     MOM/Maman 16 km     WAIR/Wair 20 km     WIR/Wair 20 km     SOM/Somna 21 km    

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 62 News Items  next>>
Sep 07 2017 (04:21)  ट्रेनों की रफ्तार में सिक्के का ब्रेक (m.jagran.com)
back to top
Crime/AccidentsECR/East Central  -  

News Entry# 315010     
   Past Edits
Sep 07 2017 (04:21)
Station Tag: Khurja Junction/KRJ added by १२४२९ लखनऊ नई दिल्ली एसी सुपरफास्ट एक्सप्रेस~/1427404

Sep 07 2017 (04:21)
Station Tag: Aligarh Junction/ALJN added by १२४२९ लखनऊ नई दिल्ली एसी सुपरफास्ट एक्सप्रेस~/1427404
 
 
जागरण संवाददाता, अलीगढ़ : रेलवे के सबसे व्यस्ततम रूट पर अराजक तत्व सिक्कों से ट्रेन की गति को थाम रहे हैं। दो महीनों में गाजियाबाद, खुर्जा, अलीगढ़ की सीमा में करीब 40 से अधिक घटनाएं सिग्नल फेल होने की रेलवे के रिकार्ड में दर्ज हैं। सिग्नल फेल होने से करीब 50 से अधिक सुपरफास्ट व गुड्स ट्रेनों की रफ्तार पर ब्रेक लगा है। 25 से अधिक घटनाएं अलीगढ़ सीमा की हैं। सबसे अधिक घटनाएं खुर्जा सेक्शन में हुई हैं। ट्रेनें रोकने की कुछ घटनाओं में चोरों का भी हाथ होता हैं, यह सिग्नल फेल कर ट्रेनों को रोककर उसमें चढ़ जाते हैं और यात्रियों का सामान पार कर देते हैं। अलीगढ़ जीआरपी में ही अगस्त माह में विभिन्न ट्रेनों व प्लेटफार्म पर यात्रियों के सामान चोरी की करीब 30 से अधिक घटनाएं दर्ज हैं।
पिछले
...
more...
तीन दिनों में ही गाजियाबाद से खुर्जा तक की सीमा में सिक्के से ट्रेन रोकने की तीन घटनाएं हुई हैं। ताजा मामला मंगलवार रात मारीपत स्टेशन के पास का है। यहां करीब आठ बजे सिग्नल फेल हुआ। सिग्नल फेल होते ही नॉन स्टॉप हल्दिया एक्सप्रेस के पहिये थम गए। सिग्नल व इंजीनिय¨रग विभाग के कर्मचारियों ने 18 मिनट की कवायद के बाद ठीक कर लिया। करीब 15 मिनट बाद ट्रेन रवाना हो सकी। जब रेल अफसर सिग्नल फेल होने की घटना की पड़ताल करने पहुंचे तो पटरियों के जोड़ पर सिक्का रखा हुआ था, जिससे सिग्नल फेल हो गया। जांच हुई तो अराजकतत्वों द्वारा सिग्नल फेल करने की रिपोर्ट रेलवे कर्मचारियों ने दी। इसी दिन सिकंदरपुर स्टेशन के पास भी सिग्नल फेल होने की घटना हुई। इस घटना में पुरुषोत्तम एक्सप्रेस व कालिंदी एक्सप्रेस के पहिये थम गए थे। तीन सितंबर को भी खुर्जा क्षेत्र में सिग्नल फेल होने से चार गाड़ियां की रफ्तार पर ब्रेक लग गया था।
--वर्जन
इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए आरपीएफ है। ट्रेनें रोकने को जो भी जिम्मेदार हैं, उनके खिलाफ कार्रवाई की जाती है। आसपास के लोग भी आरपीएफ की मदद कर देश हित में अपना योगदान दे सकते हैं।
अमित मालवीय, सीपीआरओ, उत्तर मध्य रेलवे
Aug 24 2017 (12:35)  नई दिल्ली-मंडुवाडीह सुपरफास्ट ट्रेन में असलहों के बल पर यात्रियों से लूट (www.livehindustan.com)
back to top
Crime/AccidentsNR/Northern  -  

News Entry# 313048   Blog Entry# 2389912     
   Past Edits
Aug 24 2017 (12:35)
Station Tag: Khajuraho/KURJ removed by सिंगरौली पश्चिम मध्य रेलवे*^~/100643

Aug 24 2017 (12:35)
Station Tag: Manduadih/MUV added by सिंगरौली पश्चिम मध्य रेलवे*^~/100643

Aug 24 2017 (12:35)
Station Tag: Khurja Junction/KRJ added by सिंगरौली पश्चिम मध्य रेलवे*^~/100643

Aug 24 2017 (12:35)
Station Tag: Khajuraho/KURJ added by सिंगरौली पश्चिम मध्य रेलवे*^~/100643

Aug 24 2017 (12:35)
Train Tag: New Delhi - Manduadih SF Express/12582 added by सिंगरौली पश्चिम मध्य रेलवे*^~/100643
 
 
नई दिल्ली-मंडुवाडीह सुपरफास्ट ट्रेन के दो स्लीपर बोगी में एक दर्जन बदमाशों ने असलहे के बल पर यात्रियों से लूटपाट की। घटना उस समय हुई जब ट्रेन खुर्जा स्टेशन के आउटर पर खड़ी थी।
बदमाशों ने स्लीपर बोगी एस-2 और एस-7 में सफर कर रहे यात्रियों को अपना शिकार बनाया और दस मिनट के अंदर ट्रेन से उतरकर भाग निकले। पूरी रात यात्री दहशत में यात्रा करते रहे।
यात्रियों का आरोप है कि कानपुर में घटना के बारे में आरपीएफ को जानकारी दी गई, लेकिन उसने दूसरे स्टेशन पर हुई घटना
...
more...
का हवाला देते हुए मामले को टरका दिया। मंडुवाडीह स्टेशन पहुंचने पर यात्रियों ने आरपीएफ से शिकायत की। बाद में जीआरपी कैंट में अज्ञात के खिलाफ मुकदमा कराया।
लूटपाट के शिकार यात्री सोनभद्र के रहने वाले हैं। यात्रियों के सामान और मोबाइल छीनने व जान से मारने की धमकी का शोर सुनकर यात्री जग गए। बदमाशों के हाथों में असलहा देख यात्रियों की विरोध करने की हिम्मत नहीं हुई।
घटना के बाद बोगी में अफरातफरी मच गई। लूटपाट के बाद बदमाश अंधेरे का फायदा उठाकर गायब हो गए। कैंट थाना प्रभारी निरीक्षक जेपी सिंह ने बताया कि अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामला अलीगढ़ जीआरपी को स्थानांतरित कर दिया गया है।

Yaar had h ye to .....

2592 views
Aug 25 2017 (00:49)
Dharmesh S   5848 blog posts   4865 correct pred (93% accurate)
Re# 2389912-2            Tags   Past Edits
cnb outer toh record bana rha ha .iss traike se lootpat kara k......
isse accha to WR kA (BCT-ADI) route whether the train is on mumbai outer / ahmedabad outer/ vadodara outer but such incidents never took place.. passenger r entirely safe

Aug 03 2017 (21:16)  लोको पायलट की होशियारी से बचा बड़ा हादसा, शताब्दी के कपलर खुले (www.livehindustan.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNCR/North Central  -  

News Entry# 310602   Blog Entry# 2370528     
   Past Edits
Aug 03 2017 (21:16)
Station Tag: Khurja Junction/KRJ added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Aug 03 2017 (21:16)
Train Tag: New Delhi - Lucknow Jn Swarn Shatabdi Express/12004 added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964
 
 
शताब्दी एक्सप्रेस लखनऊ पहुंचने पर यात्रियों ने सुनाई अपनीं दास्तां खुर्जा के पास हुआ हादसा, पौन घंटा खड़ी रही ट्रेन नई दिल्ली से लखनऊ आने वाली शताब्दी एक्सप्रेस बुधवार सुबह खुर्जा रेलवे स्टेशन के आगे दो हिस्सों में बंट गई थी। दोपहर एक बजे ट्रेन लखनऊ पहुंची तो यात्रियों ने अपनी आपबीती सुनाई। यात्रियों का कहना था कि जोरदार झटके बाद इंजन से चार कोच अलग हो गए थे। झटका लगने के बाद अधिकतर यात्री दहशत में आ गए थे कि हुआ क्या है? वहीं, लोको पायलट ने ट्रेन रोकने के बजाए आगे बढ़ा दी ताकि कोच आपस में टकराए नहीं। इससे एक बड़ा हादसा होने से बच गया। दिल्ली से लखनऊ आए मोहित ने बताया कि खुर्जा के पास अटेंडेंट यात्रियों को नाश्ता परोस रहे थे। अचानक एक जोरदार झटका लगा और सी-5 कोच का कपलर टूट गया। जिस वक्त कपलर टूटा तो एक अटेंडेंट खाने की ट्रे लेकर दूसरे...
more...
कोच से सी-5 में आ रहा था। अचानक कोच अलग हो गए और वह नीचे गिरते-गिरते बच गया। यात्री विवेक ने बताया कि ट्रेन की रफ्तार बहुत अधिक नहीं थी। झटका लगने के बाद यात्री कुछ घबरा गए थे। इंजन के साथ चार कोच तो आगे निकल गए लेकिन बाकी के कोच पीछे रह गए। ट्रेन धीरी होने पर जब यात्रियों ने बाहर झांका तो उनके होश उड़ गए। कोच छोड़ कर इंजन दूर जा चुका था। यात्री हिमांशु ने बताया कि लोको पायलट ने होशियारी दिखाते हुए इंजन रोकने के बजाए तेजी से आगे बढ़ा दिया। अगर वह इंजन रोक देता तो कोच आपस में टकरा जाते। यात्री विशाल ने बताया कि कोच अलग होने के बाद ट्रेन करीब पौन घंटे तक ट्रैक पर ही खड़ी रही। लखनऊ मेल व यशवंतपुर एक्सप्रेस के खुले थे कपलर जुलाई महीने में ही आलमनगर रेलवे स्टेशन पर लखनऊ से दिल्ली जाने वाली लखनऊ मेल के कपलर आलमनगर रेलवे स्टेशन पर खुल गए थे। इंजन कोच छोड़ कर आगे चला गया था। आलमनगर स्टेशन मास्टर ने इसकी सूचना लोको पायलट को दी थी। इसमें भी लोको पायलट ने इंजन रोकने के बजाए तेजी से आगे बढ़ा दिया था। इससे एक बड़ा हादसा होते-होते बच गया था। कुछ दिन बाद ही इसी रूट पर गोरखपुर यशवंतपुर एक्सप्रेस के कपलर खुल गए थे। बातचीत अचानक झटका लगने से यात्री किसी अनहोनी की आशंका को लेकर घबरा गए थे। बाद में पता चला कि इंजन से कोच अलग हो गया है। अंकित हादसे के बाद करीब पौन घंटे तक ट्रेन रेलवे ट्रैक पर ही खड़ी रही। इंजन के साथ जुड़े कोच वालों को तो हादसे की खबर तक नहीं हुई। अगर लापरवाही होती तो हादसा हो सकता था। विशाल इस तरह की घटना का पहला अनुभव था। शुरूआत में कुद घबराहट हुई लेकिन रेल अधिकारियों ने स्थिति को संभाल लिया। सूझबूझ से हादसा टल गया। हिमांशु


2065 views
Aug 04 2017 (11:25)
Saurabh®~   4008 blog posts   46 correct pred (70% accurate)
Re# 2370528-2            Tags   Past Edits
pehle bhi kai blogs me discuss ho chuka hai ki is shatabdi ko naye lhb rake ki sakht jaroorat hai . ab ye puarana ho gaya hai.

2016 views
Aug 04 2017 (11:39)
☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~   15866 blog posts   3105 correct pred (66% accurate)
Re# 2370528-3            Tags   Past Edits
Shayd ab badlane ki soche ...is rake ko
Aug 03 2017 (09:39)  चेहरे पर दिखा हादसे का डर लखनऊ आ रही शताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन खुर्जा में दो हिस्सों में बंटी तो चीख पड़े यात्री (epaper.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNCR/North Central  -  

News Entry# 310540     
   Past Edits
Aug 03 2017 (09:39)
Station Tag: Khurja Junction/KRJ added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Aug 03 2017 (09:39)
Train Tag: New Delhi - Lucknow Jn Swarn Shatabdi Express/12004 added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964
 
 
स्लीपर क्लास में यात्र कर रहे दैनिक यात्रियों पर लगा जुर्माना
हादसे की कहानी यात्रियों की जुबानी
Click here to enlarge image
जागरण संवाददाता, लखनऊ : वीआइपी ट्रेन बुधवार को बड़े हादसे का शिकार होने से बच गई। लखनऊ आ रही शताब्दी एक्सप्रेस खुर्जा के पास दो हिस्सों में बंट गई। इस ट्रेन के लिंक हॉफमैन बुश (एलएचबी) बोगियों के सीवीसी कपलर बीच में
...
more...
खुल गए थे। ड्राइवर ने सूझबूझ का परिचय देते हुए ट्रेन रोक दी। उधर हादसे की जानकारी होते ही यात्रियों में चीख-पुकार मच गई। करीब 20 मिनट की मशक्कत के बाद ट्रेन को लखनऊ रवाना किया जा सका। ट्रेन जब लखनऊ पहुंची तो यात्रियों के चेहरे पर हादसे की तस्वीर साफ झलक रही थी। 1शताब्दी एक्सप्रेस लखनऊ जंक्शन पहुंची तो इसकी बोगी सी-5 और सी-6 के कपलर की जांच में कोई गड़बड़ी नहीं मिली। हालांकि इससे पहले शताब्दी एक्सप्रेस का कपलर इस साल तीन बार खुल चुका है। पिछले महीने ही लखनऊ से नई दिल्ली जा रही लखनऊ मेल से उसका इंजन आलमनगर स्टेशन के पास अलग होकर आगे निकल गया था। बुधवार को नई दिल्ली से रवाना हुई शताब्दी एक्सप्रेस में करीब एक हजार लोग लखनऊ के लिए सवार हुए थे। यात्रियों के मुताबिक खुर्जा के पास जब यह हादसा हुआ तब ट्रेन की गति करीब 60 किलोमीटर प्रति घंटा थी। 1जागरण संवाददाता, लखनऊ : वीआइपी ट्रेन बुधवार को बड़े हादसे का शिकार होने से बच गई। लखनऊ आ रही शताब्दी एक्सप्रेस खुर्जा के पास दो हिस्सों में बंट गई। इस ट्रेन के लिंक हॉफमैन बुश (एलएचबी) बोगियों के सीवीसी कपलर बीच में खुल गए थे। ड्राइवर ने सूझबूझ का परिचय देते हुए ट्रेन रोक दी। उधर हादसे की जानकारी होते ही यात्रियों में चीख-पुकार मच गई। करीब 20 मिनट की मशक्कत के बाद ट्रेन को लखनऊ रवाना किया जा सका। ट्रेन जब लखनऊ पहुंची तो यात्रियों के चेहरे पर हादसे की तस्वीर साफ झलक रही थी। 1शताब्दी एक्सप्रेस लखनऊ जंक्शन पहुंची तो इसकी बोगी सी-5 और सी-6 के कपलर की जांच में कोई गड़बड़ी नहीं मिली। हालांकि इससे पहले शताब्दी एक्सप्रेस का कपलर इस साल तीन बार खुल चुका है। पिछले महीने ही लखनऊ से नई दिल्ली जा रही लखनऊ मेल से उसका इंजन आलमनगर स्टेशन के पास अलग होकर आगे निकल गया था। बुधवार को नई दिल्ली से रवाना हुई शताब्दी एक्सप्रेस में करीब एक हजार लोग लखनऊ के लिए सवार हुए थे। यात्रियों के मुताबिक खुर्जा के पास जब यह हादसा हुआ तब ट्रेन की गति करीब 60 किलोमीटर प्रति घंटा थी। 1कपलिंग टूटने के कारण लखनऊ जंक्शन पर लेट पहुंची शताब्दी एक्सप्रेस।जागरण संवाददाता, लखनऊ : कानपुर से लखनऊ के लिए रवाना हुई पुष्पक एक्सप्रेस और चित्रकूट एक्सप्रेस में दैनिक यात्री स्लीपर क्लास की आरक्षित सीटों पर कब्जा कर यात्र कर रहे थे। पूवरेत्तर रेलवे लखनऊ मंडल के सहायक वाणिज्य प्रबंधक एमपी सिंह के नेतृत्व में एंटी फ्रॉड टीम ने दोनो ट्रेनों के करीब एक दर्जन यात्रियों पर स्लीपर क्लास में यात्र करते हुए जुर्माना लगाया गया। वहीं 23 महिलाएं और कम उम्र के करीब 12 बच्चे भी बेटिकट मिले। जबकि 36 यात्रियों को रेलवे मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया। जहां से उनको जुर्माना लगाने पर ही छोड़ा गया। देर शाम तक 125 बेटिकट यात्रियों को पकड़ा गया। 1उधर पूवरेत्तर रेलवे लखनऊ के सीनियर डीसीएम स्वदेश कुमार सिंह ने लखनऊ जंक्शन पर खानपान स्टालों की जांच की। साथ ही यात्रियों से वस्तुओं के दाम के बारे में भी जानकारी हासिल की।लखनऊ जंक्शन पर बेटिकट यात्रियों को पकड़ते सहायक वाणिज्य प्रबंधक एमपी सिंह और बीच में एंटी फ्रॉड दस्ते के सदस्यतेज झटका लगा, रुक गई ट्रेन1खुर्जा से ट्रेन थोड़ी धीमी गति से गुजर रही थी। तब ही अचानक तेज झटका लगा। ट्रेन रुकी तो चला कि बोगियां अलग हो गई हैं। यह देखते ही यात्रियों में चीख-पुकार मच गई। सब कुछ ठीक होने की जानकारी पर हमने राहत की सांस ली। अतुल गुप्ता1सूझबूझ से टला हादसा1खुर्जा स्टेशन पर ट्रेन के दो हिस्सों में बंटने की जानकारी पर ड्राइवर ने सूझबूझ का परिचय दिया। ट्रेन की गति बढ़ा दी। यदि ड्राइवर ने ब्रेक का इस्तेमाल किया होता तो पीछे आ रहीं बोगियों से ट्रेन की टक्कर हो सकती थी। इससे लोग घायल भी हो सकते थे।सुबेश पांडेय1एक-दूसरे को दी सांत्वना1ट्रेन के दो हिस्सों में बंटने की जानकारी पर कुछ लोग बहुत ज्यादा डर गए। हालांकि कुछ लोगों ने मौके की नजाकत भांपते हुए लोगों को सांत्वना दी। बताया कि यह बड़ी घटना नहीं हैं। तब जाकर वह शांत हुए। अंकित श्रीवास्तव1देखरेख की कमी1शताब्दी एक्सप्रेस एक वीआइपी ट्रेन है। इगर इस तरह की घटनाएं होती रहीं तो निश्चित ही विभाग की कार्यप्रणाली पर बट्टा लग जाएगा। रेलवे को इसके मेंटीनेंस पर ध्यान देना चाहिए। अगर ऐसा नहीं किया गया तो कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है। हिमांशुरेलवे कर रहा डिजाइन की जांच1सेंट्रल बफर कपलर की खासियत यह होती है कि यह किसी हादसे के समय बोगियों को पटरी से उतरने नहीं देता। इसके अलावा हादसे के वक्त बोगियां एक-दूसरे पर चढ़ती भी नहीं हैं। वर्ष 2013 में कनकहा में हरिद्वार-इलाहाबाद एक्सप्रेस और बिहार में राजधानी एक्सप्रेस हादसे में यात्रियों की जान इसी कपलर के कारण बची थी। ऐसे में इस कपलर के खुलने की आए दिन हो रही घटनाओं को देखते हुए रेलवे इसकी डिजाइन की जांच भी कर रहा है।
Aug 03 2017 (09:37)  दो हिस्सों में बंटी शताब्दी एक्सप्रेस (epaper.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNCR/North Central  -  

News Entry# 310539     
   Past Edits
Aug 03 2017 (09:37)
Station Tag: Khurja Junction/KRJ added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Aug 03 2017 (09:37)
Train Tag: New Delhi - Lucknow Jn Swarn Shatabdi Express/12004 added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964
 
 
Click here to enlarge image
जासं, बुलंदशहर : नई दिल्ली से लखनऊ जा रही शताब्दी एक्सप्रेस बुधवार सुबह कपलिंग टूटने के कारण खुर्जा जंक्शन और कमालपुर स्टेशन के बीच दो हिस्सों में बंट गई। गनीमत रही कि कॉशन के कारण ट्रेन की रफ्तार कम थी, वरना बड़ा हादसा हो सकता था। इंजन के साथ आगे निकल गए आधे डिब्बों को डेढ़ किलोमीटर पीछे लाकर कपलिंग जोड़ी गई। इसके चलते ट्रैक आधे घंटे तक बाधित रहा। घटना में किसी यात्री को चोट नहीं आई है।1शताब्दी एक्सप्रेस सुबह 7:42 बजे खुर्जा जंक्शन के नजदीक कमालपुर स्टेशन के पास थी। इसी दौरान बोगियों को जोड़ने वाली कपलिंग टूट गई। ट्रेन के छह डिब्बे अलग हो गए। इंजन समेत बाकी डिब्बे डेढ़ किलोमीटर आगे निकल गए।
...
more...
कॉशन के चलते स्पीड 20 से 25 किलोमीटर प्रति घंटे के आसपास थी, जिस वजह से बड़ा हादसा होने से टल गया। घटना के बाद इंजन और आगे निकले डिब्बों को पीछे लाया गया। क्यूआर टीम ने ट्रेन के दोनों हिस्सों को कपलिंग से जोड़ा। 8:07 बजे मिनट पर ट्रेन को लखनऊ के लिए रवाना किया गया। आमतौर पर शताब्दी एक्सप्रेस की स्पीड 100 किलोमीटर प्रति घंटे होती है, लेकिन पिछले कुछ दिनों से खुर्जा जंक्शन स्टेशन पर क्रास चेंज का कार्य चल रहा है, जिसके चलते वहां से गुजरने वाली एक्सप्रेस ट्रेनों की स्पीड को कम करके निकाला जा रहा है।
Page#    Showing 1 to 20 of 62 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.