Full Site Search  
Wed Jan 24, 2018 09:36:10 IST
PostPostPost Stn TipPost Stn TipUpload Stn PicUpload Stn PicAdvanced Search
Large Station Board;
no description available

SVA/Suwasra (2 PFs)
     सुवासरा

Track: Double Electric-Line

Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 20
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
MDR 45, Suwasra
State: Madhya Pradesh
add/change address
Elevation: 455 m above sea level
Zone: WCR/West Central
Division: Kota
 
 
1 Travel Tips
No Recent News for SVA/Suwasra
Nearby Stations in the News

Rating: 3.6/5 (7 votes)
cleanliness - excellent (1)
porters/escalators - n/a (0)
food - average (1)
transportation - excellent (1)
lodging - average (1)
railfanning - poor (1)
sightseeing - excellent (1)
safety - good (1)

Nearby Stations

NKH/Nathukheri 6 km     HNU/Hanspura 7 km     SGZ/Shamgarh 14 km     CMU/Chau Mahla 15 km     TLZ/Talavli 21 km     GOH/Garoth 24 km     THUR/Thuria 30 km     KRLS/Kurlasi 34 km     VMA/Vikramgarh Alot 38 km    

Station News

Page#    Showing 1 to 1 of 1 News Items  
Aug 26 2017 (11:18)  गुजरात को नियम नहीं पता, उसे रोल मॉडल बता रेलवे ने रोके मध्य प्रदेश के हक के 40 करोड़ (epaper.bhaskar.com)
back to top
Other News

News Entry# 313292   Blog Entry# 2391233     
   Past Edits
Aug 26 2017 (11:18)
Station Tag: Ujjain Junction/UJN added by Indian Railways Railfan~/1084688

Aug 26 2017 (11:18)
Station Tag: Ratlam Junction/RTM added by Indian Railways Railfan~/1084688

Aug 26 2017 (11:18)
Station Tag: Indore Junction BG/INDB added by Indian Railways Railfan~/1084688

Aug 26 2017 (11:18)
Station Tag: Nagda Junction/NAD added by Indian Railways Railfan~/1084688

Aug 26 2017 (11:18)
Station Tag: Suwasra/SVA added by Indian Railways Railfan~/1084688

Aug 26 2017 (11:18)
Station Tag: Bairagarh/BIH added by Indian Railways Railfan~/1084688

Aug 26 2017 (11:18)
Station Tag: Church Gate/CCG added by Indian Railways Railfan~/1084688
 
 
गुजरात को नियम नहीं पता, उसे रोल मॉडल बता रेलवे ने रोके हमारे हक के 40 करोड़
भास्कर बता रहा है मुम्बई में हुई पश्चिम रेलवे के आला अफसरों की बैठक में किस तरह गुजरात का उदाहरण देकर मध्यप्रदेश का हक मारने की कोशिश की गई
जीआरपी पर खर्च होने वाली राशि का 50 प्रतिशत हिस्सा देना होता है रेलवे को, जो उसने कई सालों से नहीं दिया
बजट
...
more...
नहीं मिलने के कारण प्रदेश के जीआरपी फोर्स में वृद्धि नहीं हो पा रही है

ये हैं जीआरपी की जरूरतें
हमारा मतलब था गुजरात ने एक कदम आगे बढ़ाया है
50 प्रतिशत के नार्म्स में कोई बदलाव नहीं हुआ है, वह अभी भी मौजूद है। गुजरात का जिक्र इसलिए किया क्योंकि उन्होंने एक कदम आगे बढ़ाते हुए अपनी जरूरतों को पूरा किया। हम तो व्यवस्था कर ही रहे हैं। जहां तक बकाया राशि का सवाल है, हमने दो महीने पहले ही 12 करोड़ रुपए दिलवाए हैं। 40 करोड़ बाकी हैं उस पर फायनेंस डिपार्टमेंट स्क्रूटनी कर रहा है। -अनिल के गुप्ता, जीएम पश्चिम रेलवे
जिसे नियम नहीं पता वो रोल मॉडल कैसे
बैठक में रेलवे के अधिकारियों ने 50 प्रतिशत रिकवरी और पदों की स्वीकृति पर तो विचार करने का आश्वासन दिया लेकिन गुजरात को रोल मॉडल बताया। गुजरात के अधिकारी नियम से ही अनजान हैं तो उन्हें रोल मॉडल कैसे बताया जा सकता है। -कृष्णावेणी देसावतु, एसपी रेल, इंदौर
आरपीएफ नहीं दे रहा सीसीटीवी फुटेज का एक्सेस जीआरपी को
इंदौर, उज्जैन, रतलाम रेलवे स्टेशन पर सीसीटीवी कैमरे लगे हैं लेकिन उनका एक्सेस सिर्फ आरपीएफ के पास है। आरपीएफ का जिम्मा रेलवे के सामान की सुरक्षा का है जबकि जीआरपी की जिम्मेदार यात्रियों के साथ अपराध गठित होने से रोकना और आरोपियों पर कार्रवाई का है। इसके बावजूद जीआरपी के पास फीड का एक्सेस भी नहीं। रेलवे पुलिस इस फीड के लिए लंबे समय से पत्राचार कर रही है।
नए थाने-चौकियों का प्रस्ताव
नेहरू पार्क के सामने बने नए प्लेटफार्म पर बैरागढ़ और मुंगावली में चौकी बनाने की जरूरत है। इसके अलावा रुिठयाई, पिपराई और नागदा में नए थाने की जरूरत है।
सेंट्रलाइज्ड अलार्म सिस्टम
आतंकी हमले की आशंका या किसी संगठन द्वारा ट्रेन पर हमले की सूरत में यात्रियों को जागरुक करने के लिए सेंट्रलाइज्ड अलार्म सिस्टम की आवश्यकता है।
दीपेश शर्मा | इंदौर
रेल मंत्रालय पर मध्यप्रदेश सरकार का 40 करोड़ रुपए बकाया है। यह वह पैसा है जो रेलवे जीआरपी पर होने वाले खर्च के एवज में प्रदेश सरकार को देना है। 28 जुलाई को मुम्बई में हुई बैठक में बकाया राशि का मुद्दा उठा ताे रेलवे के आला अफसरों ने गुजरात का उदाहरण देकर मध्यप्रदेश के नुमाइंदों की बात खािरज कर दी। दरअसल गुजरात जीआरपी पर होने वाला खर्च खुद उठाता है। जबकि नियमानुसार उसे 50 प्रतिशत राशि रेलवे से मिलना चाहिए। मध्यप्रदेश सरकार को बकाया पैसा नहीं मिलने से जीआरपी फोर्स में वृद्धि नहीं हो पा रही है। साथ ही इंदौर जीआरपी के अधीन स्टेशनों के िलए सीसीटीवी कैमरे, सेंट्रलाइज्ड ऑडियो सिस्टम, मेटल डिटेक्टर, बैगेज स्केनर सहित अन्य आधुनिक उपकरण भी नहीं खरीदे जा सक रहे हैं।
रेलवे अधिकारी बोले-गुजरात से सीख लो
बैठक में गुजरात के प्रजेंटेशन के बाद रेलवे के जीएम अनिल के गुप्ता ने कहा आप गुजरात से सीख लें। किस प्रकार वहां सुरक्षा की जिम्मेदारी प्रदेश सरकार ने उठा रखी है, वैसे ही आप लोग भी अपनी-अपनी सरकार से बात करें।
12 करोड़ रुपए रेलवे दे चुका है प्रदेश सरकार को 40 करोड़ बाकी हैंं
गुजरात के अधिकारियों ने पूछा, 50 % पैसा रेलवे देता है क्या?
बैठक में गुजरात की तरफ से आए अधिकारी चर्चा के दौरान यह पूछ बैठे कि बल और व्यवस्थाओं के लिए क्या रेलवे पैसा देता ह? हमने तो सभी बड़े स्टेशनों पर खुद ही अपने पैसों से सीसीटीवी से लेकर हर तरह की व्यवस्था और फोर्स में वृद्धि खुद ही की है।

3829 views
Aug 26 2017 (14:31)
a2z~   2345 blog posts
Re# 2391233-1            Tags   Past Edits
Yeh Bharat desh hai babu
Yahan jiski lathi usiki bhains
IR Gujraat mein safaltapurvak lathi bhaanjane ke baad
Ab MP mein bhi laathi bhaanjane ki kosish kar raha hai
Page#    Showing 1 to 1 of 1 News Items  

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.