Full Site Search  
Mon Apr 24, 2017 03:03:48 IST
PostPostPost Stn TipPost Stn TipUpload Stn PicUpload Stn PicAdvanced Search
Large Station Board;
Large Station Board;
Large Station Board;

ETW/Etawah Junction (5 PFs)
اٹاوہ جنکشن     इटावा जंक्शन

Track: Double Electric-Line

Type of Station: Junction
Number of Platforms: 5
Number of Halting Trains: 76
Number of Originating Trains: 5
Number of Terminating Trains: 5
junction point- TDL/CNB/UDMR/MNQ , Station road, Distt. Etawah
State: Uttar Pradesh
Elevation: 153 m above sea level
Zone: NCR/North Central
Division: Allahabad
No Recent News for ETW/Etawah Junction
Nearby Stations in the News

Rating: 3.0/5 (57 votes)
cleanliness - good (7)
porters/escalators - average (7)
food - average (6)
transportation - good (8)
lodging - average (7)
railfanning - good (7)
sightseeing - average (7)
safety - average (8)

Nearby Stations

SB/Sarai Bhopat 8 km     EKL/Ekdil 10 km     BPUR/Baidpur 12 km     UDMR/Udi Morh 13 km     JGR/Jaswantnagar 16 km     BNT/Bharthana 20 km     JATP/Jaitpura Halt 20 km     SIPI/Saiphai 22 km     PHPH/Phoop 24 km     BBL/Balrai 25 km    

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 284 News Items  next>>
Apr 16 2017 (13:30)  धड़ धड़ाकर जाती हैं ट्रेनें, ठहरें तो बने बात (m.jagran.com)
back to top
Commentary/Human InterestNCR/North Central  -  

News Entry# 299739     
   Tags   Past Edits
Apr 16 2017 (13:30)
Station Tag: Mathura Junction/MTJ added by Rkschauhan~/926260

Apr 16 2017 (13:30)
Station Tag: Mainpuri/MNQ added by Rkschauhan~/926260

Apr 16 2017 (13:30)
Station Tag: Gwalior Junction/GWL added by Rkschauhan~/926260

Apr 16 2017 (13:30)
Station Tag: Bhind/BIX added by Rkschauhan~/926260

Apr 16 2017 (13:30)
Station Tag: Agra Cantt./AGC added by Rkschauhan~/926260

Apr 16 2017 (13:30)
Station Tag: Bateshwar Halt/BASR added by Rkschauhan~/926260

Apr 16 2017 (13:30)
Station Tag: Etawah Junction/ETW added by Rkschauhan~/926260

Posted by: Rkschauhan~  111 news posts
जागरण संवाददाता, इटावा : रेल सुविधाओं की अधिकतर सुविधाएं सांसदों की पहल पर ही जनता को मिलती हैं। इसके विपरीत इटावा रेलवे स्टेशन पर सुपरफास्ट ट्रेनें धड़धड़ाकर निकल जाती हैं। इनके ठहराव तथा लाइन पार क्षेत्रीय जनता के लिए सुविधाएं उपलब्ध कराने की मांग अर्से से की जा रही है। सांसदों ने इस ओर विशेष तवज्जो दी तो कई सुविधाएं जनता को प्राप्त हो सकती हैं।
आदर्श रेलवे स्टेशन इटावा को सवा साल पूर्व जंक्शन का दर्जा मिला था। इटावा से बटेश्वर-आगरा, ¨भड-ग्वालियर तथा मैनपुरी के लिए ब्रांच लाइनों पर यात्री ट्रेनें चल रही हैं। जनपद ही नहीं आसपास के जिलों के तकरीबन 10 से 12 हजार लोग इस स्टेशन के माध्यम से आवागमन करते हैं। इसके बावजूद यात्रियों को ए ग्रेड
...
more...
के स्टेशन वाली सुविधाएं यहां पर मुहैया नहीं हैं। स्टेशन के उत्तरी ओर लाइन पार क्षेत्र में शहर की आधी आबादी रहती है। इस क्षेत्र से स्टेशन आने वालों को करीब तीन किलोमीटर का चक्कर काटना पड़ता है। यदि लाइन पार तक पुल का निर्माण हो जाए तो आवागमन करने वालों को बहुत राहत मिलेगी। मथुरा के लिए एक मात्र तूफान मेल ट्रेन है, जो कोहरे के दौरान अक्सर निरस्त कर दी जाती है। अन्य ट्रेनें इस स्टेशन पर नॉन स्टाप होने से सीधी चली जाती हैं। खानपान की सुविधाओं का भी अभाव है।
यात्रियों की जरूरत
- करीब एक दर्जन नॉन स्टाप ट्रेनों का ठहराव हो
- सभी ब्रांच लाइनों पर यात्री ट्रेनों का विस्तार किया जाए
- स्टेशन के उत्तरी ओर प्लेटफार्म पुल आरपार बने
- स्टेशन पर खानपान की गुणवत्ता में सुधार हो
- प्लेटफार्म नंबर एक पर मालगाड़ी का ठहराव नहीं हो
पांच सांसदों का स्टेशन फिर भी बदहाली
इटावा रेलवे स्टेशन से पांच सांसद जुड़े हैं। प्रो. रामगोपाल यादव उनके पुत्र अक्षय यादव तथा पौत्र मैनपुरी सांसद तेजप्रताप ¨सह यादव, सपा से राज्यसभा सांसद बाबू दर्शन ¨सह यादव तथा लोकसभा क्षेत्र इटावा से भाजपा सांसद अशोक दोहरे हैं। इन सभी सांसदों को रेलवे महाप्रबंधक की ओर से आमंत्रण पत्र प्रेषित किया जा चुका है। यदि यह सभी जनता की सुविधाओं के लिए पहल करें तो जरूरत पूरी हो सकती है।
सुविधाएं दिलाई जाएंगी : दोहरे
इटावा रेलवे स्टेशन तथा इस क्षेत्र की जनता की समस्याओं को निस्तारण कराने के लिए सदैव प्रयत्नशील हूं। रेल संबंधी जो भी समस्याएं हैं उनका रेल महाप्रबंधक तक ही नहीं बल्कि रेलमंत्री से संपर्क करके निस्तारण कराया जाएगा। क्षेत्रीय जनता को यथा संभव रेलवे सुविधाएं प्राप्त कराई जाएंगी।
- अशोक दोहरे, सांसद
बैठक का उद्देश्य ही यही
रेलवे महाप्रबंधक सांसदों के साथ बैठक करके उनकी समस्याओं और सुझावों को गंभीरता से लेकर उनका पालन कराने के सार्थक प्रयास करते हैं। इस बैठक का उद्देश्य ही यही है कि इसके माध्यम से सांसदों के क्षेत्र की समस्याओं का समाधान कराया जा सके।
-अमन वर्मा, सहायक वाणिज्य प्रबंधक उमरे
दिल्ली-हावड़ा रेलवे ट्रैक पर सुबह कोयला लदी मालगाड़ी के डिब्बे से धुआं उठता देख भरथना स्टेशन पर रोककर तीन घंटे की कोशिश के बाद आग पर काबू पाया गया।
इटावा (जेएनएन)। दिल्ली-हावड़ा रेलवे ट्रैक पर आज सुबह कोयला लेकर जा रही मालगाड़ी के एक डिब्बे से धुआं उठता देख उसे भरथना स्टेशन पर रोका गया। इसकी आग बुझाने ने दमकल विभाग को तीन घंटे लग गए। बताया गया है कि करीब डेढ़ घंटा तो आग बुझाने की तैयारी में ही बीत गया।
सुबह करीब नौ बजे कानपुर की ओर से बदरपुर (हरियाणा) कोयला
...
more...
लेकर जा रही मालगाड़ी के इंजन से 10वें डिब्बे में अचानक धुआं उठने लगा। तत्काल मालगाड़ी को भरथना स्टेशन पर अप लूप लाइन पर रोककर फायर ब्रिगेड को बुलाया गया। करीब डेढ़ घंटे बाद बिजली सप्लाई बंद होने पर फायर कर्मियों ने आग पर काबू पा लिया। आग बुझने के करीब तीन घंटे बाद 11:55 बजे कोयला मालगाड़ी को बदरपुर रवाना किया गया। भरथना स्टेशन मास्टर मोहम्मद अहबाल ने बताया कि रगड़ के चलते अक्सर कोयला जलने लगता है।
टूड़ला पैसेन्जर ट्रेन की बोगी में लगी आग,यात्री कूदे
फर्रूखाबाद। फर्रूखाबाद-टूड़ला पैसेन्जर ट्रेन मंगलवार शाम नीमकरोरी रेलवे स्टेशन से करीब एक किलोमीटर पहले रोक ली गयी।एकाएक ट्रेन के रुकने से निकली तेज चिनगारी से खिडकी में आग लग गयी।धुआं व लपटे देखकर यात्री नीचे कूदने लगे।जिससे कुछ यात्रियों के हल्की चोटे आयी।गार्ड व चालक ने खिडकी की प्लाई तोड़कर अग्निशमन यंत्र का इस्तेमाल कर आग पर काबू पा लिया।ट्रेन करीब एक घंटे तक मौके पर ही खड़ी रही।बाद बोगी खाली करवाकर ट्रेन रवाना की गयी।
रविवार की शाम करीब चार बजे अप लाइन पर कानपुर से वल्लभगढ़ जा रही मालगाड़ी के पहिए में हॉट एक्सल गर्म हो जाने के कारण आग लग गई।
इटावा (जागरण संवाददाता)। दिल्ली-हावड़ा रेल मार्ग पर भरथना रेलवे स्टेशन पर मालगाड़ी की पहिए में आग लगने से हड़कंप मच गया। मालगाड़ी को लूप लाइन पर खड़ा कराके आग को बुझाया गया। रेलवे के अफसरों ने मौके पर पहुंचकर जायजा लिया।
रविवार की शाम करीब चार बजे अप लाइन पर कानपुर से वल्लभगढ़ जा रही मालगाड़ी के पहिए में हॉट एक्सल गर्म हो जाने के
...
more...
कारण आग लग गई। इस आग को रेलवे के एक कर्मचारी बुंदेल चौधरी ने देख लिया और उसने अधिकारियों को सूचना दी। तत्काल कंट्रोल के आदेश पर मालगाड़ी को लूप लाइन पर खड़ा कराया गया और लोगों की सहायता से मिट्टी डालकर आग को बुझाया गया।
यह भी पढ़ें: पटरियों पर बहा हजारों का पेट्रोल, टला बड़ा हादसा
बताया गया कि यह आग काफी देर से लगी हुई थी और पहले से ही मालगाड़ी का पहिया गर्म हो जाने के कारण चली आ रही थी। किसी ने इस पर ध्यान नहीं दिया। रेलवे के तकनीकी विभाग के कर्मचारी मौके पर पहुंचे और आग को नियंत्रित किया। करीब एक घंटा मालगाड़ी के खड़े रहने के बाद उसे गंतव्य को रवाना किया गया।
Apr 08 2017 (06:31)  ट्रेन चलाने में हजारों खर्च, आमदनी 300 रुपये (m.jagran.com)
back to top
Commentary/Human InterestNCR/North Central  -  

News Entry# 298866   Blog Entry# 2227150     
   Tags   Past Edits
Apr 08 2017 (06:32)
Station Tag: Mainpuri/MNQ added by Rkschauhan~/926260

Apr 08 2017 (06:32)
Station Tag: Karhal/KAHL added by Rkschauhan~/926260

Apr 08 2017 (06:32)
Station Tag: Agra Cantt./AGC added by Rkschauhan~/926260

Apr 08 2017 (06:32)
Station Tag: Jaitpura Halt/JATP added by Rkschauhan~/926260

Apr 08 2017 (06:32)
Station Tag: Bateshwar Halt/BASR added by Rkschauhan~/926260

Apr 08 2017 (06:32)
Station Tag: Udi Morh/UDMR added by Rkschauhan~/926260

Apr 08 2017 (06:31)
Station Tag: Etawah Junction/ETW added by Rkschauhan~/926260

Posted by: Rkschauhan~  111 news posts
जागरण संवाददाता, इटावा : सपा संस्थापक मुलायम ¨सह यादव के प्रयासों से शुरू की गई इटावा-मैनपुरी रेल सेवा रेलवे के लिए घाटे का सौदा बन रही है। मौजूदा समय सारिणी के कारण जनता को भी इसका लाभ नहीं मिल रहा है। इटावा से मैनपुरी के मध्य इस ट्रेन से बीते तीन माह में महज 250 से 300 रुपये प्रतिदिन के हिसाब से आमदनी हो रही है। इटावा से मैनपुरी के एक चक्कर पर डीएमयू पैसेंजर ट्रेन में करीब 20 हजार रुपये का डीजल फुंक रहा है। अगर गार्ड-चालक व अन्य स्टाफ का वेतन और जोड़ दिया जाए तो घाटा और भी बढ़ जाता है। आमदनी न के बराबर होने के कारण अब इस ट्रेन की समयसारिणी में परिवर्तन करने का प्रस्ताव प्रेषित कर दिया गया है। उम्मीद जताई जा रही है कि प्रस्ताव पास होने से जनता के साथ रेलवे को भी होगा लाभ।
इटावा-मैनपुरी
...
more...
रेल मार्ग पर रेलवे प्रशासन ने नई ट्रेन चलाने के बजाए आगरा-बटेश्वर से इटावा के मध्य जारी डीएमयू पैसेंजर ट्रेन का विस्तार मैनपुरी तक कर दिया था। बीते 28 दिसंबर को इस सेवा का शुभारंभ किया गया था। यह ट्रेन सुबह साढ़े चार बजे मैनपुरी से इटावा आकर बटेश्वर-आगरा के लिए प्रस्थान करती है। वापसी में रात 10 बजे इटावा से मैनपुरी के लिए प्रस्थान करती है। दोनों ही वक्त सवारियां होती नहीं हैं। अधिकतर यात्री शाम ढलने से पहले अन्य संसाधनों से वैदपुरा, सैफई, करहल तथा मैनपुरी के लिए चले जाते हैं। पूर्व में यही ट्रेन इटावा से सुबह छह बजे बटेश्वर-आगरा के लिए प्रस्थान करती थी तो उदी, जैतपुरा, वाह, बटेश्वर से काफी संख्या में लोग आगरा के लिए सवार होते थे। मैनपुरी से चलाए जाने पर इसकी समय सारिणी इस कदर प्रभावित हुई कि निर्धारित समय से काफी देरी से चलने लगी।
'इटावा-मैनपुरी पैसेंजर ट्रेन के समय में परिवर्तन से आमदनी ज्यादा होगी तथा जनता को भी लाभ मिलेगा। समय परिवर्तन के लिए भेजे गए प्रस्ताव में ट्रेन आगरा से सुबह चलकर नौ बजे तक इटावा आने और यहां से मैनपुरी रवाना किए जाने का सुझाव है। इससे पीजीआई सैफई, हेंवरा डिग्री कालेज, करहल तथा मैनपुरी जाने वाले यात्रियों की संख्या काफी बढ़ जाएगी। मैनपुरी से ट्रेन दोपहर 11-12 बजे चलाने का सुझाव है, जिससे आगरा जाने वाले यात्रियों को लाभ मिलेगा।' - मुकेश मणि मुख्य वाणिज्य निरीक्षक

1269 views
Apr 08 2017 (14:06)
a2z~   544 blog posts
Re# 2227150-1            Tags   Past Edits
* 250-300 Rs. revenue collection per day does not justify even operation of a bus, operating a train on such a route is a blunder.
* Most of the New lines constructed to fulfil political motivations are proving deadly for IRly.
* In the beginning, 100s of crores are spent for constructing such lines and repayment of such loans is life long burden for IR.
*
...
more...
After commissioning, crores are spent every month to pay for the operational losses, which wipes out the earnings of other profit making lines and IR is perennially in a state of financial crunch.
* Inefficient use of scarce resources by IR is the main reason for very high costing which make most of its operation loss making ones.
Apr 04 2017 (08:09)  इटावा में रेलवे फ्लाईओवर निर्माण को हरी झंडी (m.jagran.com)
back to top
New Facilities/TechnologyNCR/North Central  -  

News Entry# 298492     
   Tags   Past Edits
Apr 04 2017 (08:09)
Station Tag: Mainpuri/MNQ added by Rkschauhan~/926260

Apr 04 2017 (08:09)
Station Tag: Agra Cantt./AGC added by Rkschauhan~/926260

Apr 04 2017 (08:09)
Station Tag: Gwalior Junction/GWL added by Rkschauhan~/926260

Apr 04 2017 (08:09)
Station Tag: Bhind/BIX added by Rkschauhan~/926260

Apr 04 2017 (08:09)
Station Tag: Etawah Junction/ETW added by Rkschauhan~/926260

Posted by: Rkschauhan~  111 news posts
जागरण संवाददाता, इटावा : इटावा में रेलवे फ्लाईओवर के निर्माण को रेल मंत्रालय ने हरी झंडी दिखा दी है। बजट में इसके निर्माण के लिए 753 करोड़ रुपये की धनराशि स्वीकृत कर दी गई है। फ्लाई ओवर से सभी ब्रांच लाइनें जोड़ी जाएंगी। शुरुआत में इस फ्लाईओवर पर चारों ओर की मालगाड़ियां दिल्ली-हावड़ा की ओर आवागमन करेगी। इंजीनियरों ने निर्माण कार्य के लिए सीसीआर बनाना शुरू कर दिया है। फ्लाई ओवर बनने पर इटावा रेलवे के नक्शे और ज्यादा चमकेगा।
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेई के पैतृक गांव बटेश्वर को रेलवे के मानचित्र पर दर्शाने वाली आगरा-इटावा, ग्वालियर-¨भड से इटावा तथा इटावा-मैनपुरी ट्रैक पर ट्रेनों का परिचालन इस समय जारी है। इन पर मालगाड़ियों का परिचालन ज्यादा है। अब निकट भविष्य में
...
more...
इटावा-¨बदकी रेल परियोजना के साकार होने की संभावना है। इससे इटावा रेलवे स्टेशन पर मालगाड़ियों का ठहराव ज्यादा होने लगेगा। इसके तहत रेलवे के वरिष्ठ इंजीनियरों ने इटावा में फ्लाई ओवर निर्माण की योजना तैयार की थी। इस बाबत बीते 19 अगस्त 2016 को दैनिक जागरण ने खबर भी प्रकाशित की थी।
राष्ट्रीय रेलवे सलाहकार समिति के पूर्व सदस्य शेख मोहम्मद ने बताया कि कांधनी से बिचपुरी खेड़ा तक फ्लाईओवर 11 किलोमीटर लंबा होगा। रेलवे निर्माण विभाग ने इसका सीसीआर का कार्य शुरू कर दिया है। ग्वालियर-आगरा तथा मैनपुरी की ओर से इटावा आने वाली मालगाड़ियों को फ्लाईओवर के माध्यम से दिल्ली-हावड़ा ट्रैक पर पहुंचा दिया जाएगा। कांधनी से बिचपुरी खेड़ा के मध्य उतार-चढ़ाव होगा। एक तरह से इस दूरी के मध्य रेलवे फ्लाईओवर चौराहे का रूप ले लेगा। डीएफसीसी यानी डेडीकेटिड फ्रंट कारीडोर कारपोरेशन द्वारा निर्माणाधीन रेलवे ट्रैक पर सरायभूपत से इकदिल के मध्य मालगाड़ियों का ट्रैक आगरा-कानपुर सिक्सलेन मार्ग, बरेली-ग्वालियर हाईवे तथा इटावा-मैनपुरी हाईवे के चलते फ्लाईओवर का निर्माण कराया जा रहा है। इस ट्रैक पर हावड़ा-दिल्ली के मध्य आवागमन करने वाली ट्रेनें दौड़ेंगी। हर रूट की मालगाड़ी इस चौराहे से अपने गंतव्य की ओर निकल जाएगी। इटावा जंक्शन पर सिर्फ यात्री ट्रेनें ही नजर आएंगी।
किसान भी होंगे प्रभावित
फ्लाई ओवर निर्माण में कांधनी से बिचपुरी खेड़ा के मध्य कई जगह रेलवे के पास भूमि है। किसानों की भूमि स्थानीय प्रशासन के माध्यम से खरीदी जाएगी। भूमि के लिए धन की व्यवस्था इसी बजट राशि में की गई है। आगामी दिसंबर माह से निर्माण कार्य शुरू करा दिया जाएगा। विभागीय सूत्रों के मुताबिक 2019 तक दिल्ली से हावड़ा तक मालगाड़ियां अलग ट्रैक पर ही दौड़ती नजर आएंगी।
Mar 30 2017 (09:35)  दो बार...दो हिस्सों में बंटी पुरुषोत्तम एक्सप्रेस, रेल यात्रियों की थम गईं सांसें (www.patrika.com)
News Entry# 298097     
   Tags   Past Edits
Mar 30 2017 (09:35)
Station Tag: Etawah Junction/ETW added by ये क्या हो रहा है इंडियन रेलवे में~/1469143

Mar 30 2017 (09:35)
Train Tag: Purushottam SF Express/12801 added by ये क्या हो रहा है इंडियन रेलवे में~/1469143

Posted by: ये क्या हो रहा है इंडियन रेलवे में~  416 news posts
इटावा. जसवंतनगर रेलवे स्टेशन के पास पुरी से नई दिल्ली जा रही पुरूषोत्तम एक्सप्रेस 2801 अप दो बार दो हिस्सों बंट गई। इंजन आगे निकल गया और बोगियां पीछे खड़ी रह गईं। कप्लिंग टूटने की वजह से इंजन और बोगी एक दूसरे से अलग हो गए। हादसा 2 बजकर 58 मिनट पर 1173/15 किमी नंबर खम्बे के पास हुआ। दो बार ट्रेन की बोगियों के दो हिस्से में बंट जाने से यात्री दहशत में रहे। डिब्बों सहित इंजन को वापस जसवंतनगर रेलवे स्टेशन पर लाया गया। इसके बाद एक मालगाड़ी का इंजन पुरुषोत्तम एक्सप्रेस की बोगियों से जोड़ा गया और इसके बाद उसे दिल्ली की ओर रवाना किया गया।
यह भी पढ़ें: महोबा में हुआ बड़ा रेल हादसा, जबलपुर-महाकौशल एक्सप्रेस पटरी से
...
more...
उतरी
छह घंटे तक खड़ी रही ट्रेन
इससे ट्रेन करीब साढ़े छह घंटे तक खड़ी रही। दो बार ट्रेन की बोगियों के दो हिस्से में बंट जाने से यात्री दहशत में रहे। रेलवे अधिकारियों ने कहा कि मामले की जांच शुरू कर दी गई है। वहीं इस दौरान हावड़ा दिल्ली रेलमार्ग भी प्रभावित रहा और अन्य ट्रेनें लूप लाइन से गुजारी गईं। रेलवे ने घटना के उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए हैं। घटना से गुस्साए यात्रियों ने रात 2.58 बजे जसवंतनगर स्टेशन पर चेन पुलिंग कर ट्रेन को रोक लिया और काफी देर हंगामा काटा। रेलवे की तकनीकी टीम ने जांच पड़ताल के बाद आश्वासन दिया कि अब ट्रेन में कोई दिक्कत नहीं है, तब यात्री माने और ट्रेन आगे रवाना की गई।
ये है पूरा मामला
12801 अप पुरूषोत्तम एक्सप्रेस मंगलवार रात कानपुर से दिल्ली के लिए रवाना हुई थी। कानपुर के बाद इस ट्रेन का स्टॉपेज केवल गाजियाबाद में ही है। जब यह ट्रेन झींझक रेलवे स्टेशन से रात 12.15 बजे पास हो रही थी तभी कप्लिंग टूटने से ट्रेन दो हिस्सों में बट गई। 12.20 पर जब खाली इंजन कंचौसी के स्टेशन मास्टर ने देखा तो इसकी सूचना कंट्रोल के साथ अन्य अधिकारियों को दी गई। घटना की सूचना से रेल प्रशासन में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में रात 12.26 बजे ओएचई काटी गई। इसके बाद रफ्तार में जा रहा इंजन रूक सका। बाद में मालगाड़ी का इंजन लगाकर ट्रेन को रात 2.13 बजे आगे के लिए रवाना किया गया। कंचौसी से ट्रेन इंजन लगने के बाद सकुशल रवाना हुई। इसके बाद यह ट्रेन रात 2.40 बजे इटावा स्टेशन से पास हुई तो फिर कंपलिंग टूट गई। इसके बाद जैसे-तैसे ट्रेन को सुधारकर आगे भेजा गया।
Mar 23 2017 (21:30)  इटावा-बिदंकी रेल परियोजना का मार्ग हुआ प्रशस्त (m.jagran.com)
back to top
New Facilities/TechnologyNCR/North Central  -  

News Entry# 297351   Blog Entry# 2208416     
   Tags   Past Edits
Mar 23 2017 (21:30)
Station Tag: Bindki Road/BKO added by Rkschauhan~/926260

Mar 23 2017 (21:30)
Station Tag: Etawah Junction/ETW added by Rkschauhan~/926260

Posted by: Rkschauhan~  111 news posts
जागरण संवाददाता, इटावा : इटावा से ¨बदकी रोड तक नए रेल मार्ग की परियोजना परवान चढ़ने लगी है। इस मार्ग का सर्वे कार्य करीब तीन माह पूर्व ही पूर्ण हो चुका था। बुधवार को रेलवे निर्माण के इंजीनियर ने सर्वें कार्य करने वाली कंपनी के इंजीनियर के साथ इटावा से औरैया के मध्य निरीक्षण करके इसके निर्माण कार्य होने की आस जगा दी। इस मार्ग में चार सांसदों के क्षेत्र जुड़े हुए हैं यदि उन सभी ने रेलवे मंत्रालय में जोरदार पहल की तो क्षेत्रीय जनता को रेल यातायात सुविधा मिल जाएगी।
दिल्ली-हावड़ा रेल मार्ग पर इटावा से ¨बदकी रोड रेल सेवा का सपना केंद्र में यूपीए सरकार के दौरान संजोया गया था। वर्ष 2014-15 के रेल बजट में इस परियोजना की
...
more...
घोषणा की गई थी। उसी साल यूपीए सरकार अपदस्थ हो गई, इसके पश्चात मोदी सरकार ने इस योजना पर गौर किया। इसके तहत सर्वे कार्य बीते माह दिसंबर में पूर्ण होने पर रेलवे बोर्ड को रिपोर्ट प्रेषित कर दी गई थी। इस वर्ष बजट में इस परियोजना का जिक्र न होने पर क्षेत्रीय जनता निराश हुई थी। इस मार्ग का सर्वे कार्य करने वाली निजी कंपनी जीआइएस के इंजीनियर संजय तथा रेलवे निर्माण के सीनियर सेक्शन इंजीनियर सिकंदर प्रसाद ने इस मार्ग का निरीक्षण करके निर्माण कार्य होने की संभावना प्रबल कर दी है। सूत्रों के मुताबिक रेलवे महाप्रबंधक ने निर्माण विभाग के वरिष्ठ इंजीनियरों के साथ बैठक करके इस परियोजना को धरातल पर उतारने की पहल की है। निर्माण विभाग इस मार्ग पर होने वाली व्यय राशि का खाका तैयार करेगा उसके उपरांत रेलवे मंत्रालय निर्णय लेगा।
जनता के साथ रेलवे को लाभ
इस रेलमार्ग के निर्माण होने पर रेलवे को भी लाभ होगा साथ ही बकेवर, अजीतमल, औरैया, सिकंदरा, राजपुर, सट्टी, पुखरायां, मूसानगर, घाटमपुर, जहानाबाद होते हुए ¨बदकी रोड की क्षेत्रीय जनता को रेल सेवा की सुविधा प्राप्त होगी। इस संबंध में राष्ट्रीय रेलवे सलाहकार समिति के पूर्व सदस्य शेख मोहम्मद पुखरायां का कहना है कि केंद्रीय राज्य मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति सांसद भानू वर्मा, सांसद देवेंद्र ¨सह भोले तथा सांसद अशोक दोहरे का क्षेत्र समाहित है। यह सभी एकजुट होकर पहल करें तो इस परियोजना को साकार होने में ज्यादा समय नहीं लगेगा।

1 posts - Thu Mar 23, 2017 - are hidden. Click to open.

1538 views
Mar 24 2017 (13:00)
pawankumarsingh~   191 blog posts   1 correct pred (50% accurate)
Re# 2208416-2            Tags   Past Edits
it will be great rail connection which will not only reduce congestion & will provide better transportation to these area.IR must go ahead with this project.
Mar 15 2017 (08:18)  दिल्ली-हावड़ा ट्रैक पर मंडरा रहा खतरा हर पल (epaper.jagran.com)
back to top
Commentary/Human InterestNCR/North Central  -  

News Entry# 296350   Blog Entry# 2198285     
   Tags   Past Edits
Mar 15 2017 (08:19)
Station Tag: Etawah Junction/ETW added by 4πu¶am*^~/401739

Mar 15 2017 (08:19)
Station Tag: Allahabad Junction/ALD added by 4πu¶am*^~/401739

Mar 15 2017 (08:19)
Station Tag: Kiul Junction/KIUL added by 4πu¶am*^~/401739

Mar 15 2017 (08:19)
Station Tag: Jasidih Junction/JSME added by 4πu¶am*^~/401739

Mar 15 2017 (08:19)
Station Tag: Asansol Junction/ASN added by 4πu¶am*^~/401739

Mar 15 2017 (08:19)
Station Tag: Dhanbad Junction/DHN added by 4πu¶am*^~/401739

Mar 15 2017 (08:19)
Station Tag: Gaya Junction/GAYA added by 4πu¶am*^~/401739

Mar 15 2017 (08:19)
Station Tag: Kanpur Central/CNB added by 4πu¶am*^~/401739

Mar 15 2017 (08:19)
Station Tag: Mughal Sarai Junction/MGS added by 4πu¶am*^~/401739

Mar 15 2017 (08:19)
Station Tag: Sealdah/SDAH added by 4πu¶am*^~/401739

Mar 15 2017 (08:19)
Station Tag: Kolkata/KOAA added by 4πu¶am*^~/401739

Mar 15 2017 (08:19)
Station Tag: Old Delhi Junction/DLI added by 4πu¶am*^~/401739

Mar 15 2017 (08:19)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by 4πu¶am*^~/401739

Mar 15 2017 (08:19)
Station Tag: Howrah Junction/HWH added by 4πu¶am*^~/401739

Posted by: 4πu¶am  4384 news posts
रेलवे के सबसे व्यस्त रेलमार्ग दिल्ली-हावड़ा पर बीते कई माह से हर पल खतरा मंडरा रहा है। ट्रैक की सही ढंग से देखरेख न होने से कई जगह स्लीपर ध्वस्त नजर आते हैं तो काफी संख्या में पटरी और स्लीपर को जोड़े रखने वाली पैनड्राल क्लिप गायब हैं। कई जगह तो पटरी भी बदलने योग्य है। इस मार्ग पर 24 घंटे में करीब 250 से 300 ट्रेनें आवागमन करती हैं, कई हादसे होने के बावजूद इस ओर कोई तवज्जो नहीं दी जा रही है। दिल्ली-हावड़ा रेलवे ट्रैक महत्वपूर्ण ट्रैक माना जाता है। एक ओर रेलवे प्रशासन इस पर बुलेट ट्रेन दौड़ाने की तैयारी कर रहा है, वहीं दूसरी ओर जसवंतनगर से इकदिल रेलवे स्टेशन के मध्य कई जगह स्लीपर टूटे हुए हैं, काफी संख्या में पैनड्राल गायब हैं। इसके बावजूद ट्रैक पर 130 किमी की स्पीड से सुपर फास्ट ट्रेनें दौड़ रही हैं। ट्रेन गुजरने पर ट्रैक हिचकोले लेता है। ट्रैक...
more...
को नियमित देखने वाले रेलपथ शाखा के गैंगमैन और कीमैन इस हकीकत से अपने अधिकारियों को अवगत करा रहे हैं फिर भी कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। आए दिन हो रहीं घटनाएं : रेलवे ट्रैक पर आए दिन कोई न कोई घटना घटित होती रहती है। चार दिन पूर्व इकदिल-भरथना के मध्य चकरैल खुल गई, संयोगवश कीमैन ने सजगता बरतते हुए लाल झंडी दिखाकर राजधानी एक्सप्रेस को रुकवा दिया। बीते शनिवार को इकदिल के समीप मालगाड़ी के इंजन से ट्रैक के ऊपर निकला स्लीपर का हिस्सा टकराने से इंजन खराब हो गया। अनाधिकृत क्रॉसिंग बनाई गईं : रेलवे ट्रैक पर कई जगह ग्रामीणों ने अनाधिकृत रेलवे क्रॉसिंग बना ली है। शहर में सुंदरपुर गांव के समीप ट्रैक्टर अनाधिकृत क्रॉसिंग पार करते देखे जा सकते हैं। यही हाल इटावा-सरायभूपत स्टेशन के मध्य गांव विचारपुरा के पास ग्रामीणों ने क्रॉसिंग बना ली है। ऐसे हालत कई जगह देखने को मिलते हैं। इससे रेलवे ट्रैक पर हर पल खतरा मंडराता नजर आता है। ट्रैक की निरंतर होती देखरेख : स्टेशन अधीक्षक आरके त्रिपाठी ने बताया कि ट्रैक की निरंतर देखरेख करने के लिए रेलपथ शाखा के इंजीनियर स्टाफ के साथ सक्रिय रहते हैं। अनाधिकृत क्रॉसिंग व अन्य मामलों के लिए आरपीएफ को सजग किया गया है।
’ट्रैक पर कई जगह स्लीपर टूटे पैनड्राल गायब’
24 घंटे में 250 से 300 ट्रेनों का आवागमन

6 posts - Wed Mar 15, 2017 - are hidden. Click to open.

4319 views
Mar 16 2017 (12:08)
chandankumarsingh64~   615 blog posts
Re# 2198285-7            Tags   Past Edits
yes sir
Mar 13 2017 (14:11)  दिल्ली-हावड़ा ट्रैक पर हर पल मंडरा रहा है खतरा (epaper.jagran.com)
back to top
Other NewsNCR/North Central  -  

News Entry# 296231     
   Tags   Past Edits
Mar 13 2017 (14:11)
Station Tag: Mughal Sarai Junction/MGS added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Mar 13 2017 (14:11)
Station Tag: Allahabad Junction/ALD added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Mar 13 2017 (14:11)
Station Tag: Kanpur Central/CNB added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Mar 13 2017 (14:11)
Station Tag: Etawah Junction/ETW added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Posted by: ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~  5483 news posts
जागरण संवाददाता, इटावा : रेलवे का सबसे व्यस्त रेलमार्ग दिल्ली-हावड़ा पर बीते कई माह से हर पल खतरा मंडराता रहता है। ट्रैक की सही ढंग से देखरेख न होने से कई जगह स्लीपर ध्वस्त नजर आते हैं तो काफी संख्या में पटरी और स्लीपर को जोड़े रखने वाली पैनड्राल क्लिप गायब हैं। रेलवे सूत्रों के मुताबिक कई जगह पटरी भी बदलने योग्य है। इस मार्ग पर 24 घंटे में करीब 250 से 300 ट्रेनें आवागमन करती हैं, कई हादसे होने के बावजूद इस ओर कोई तवज्जो नहीं दी जा रही है।1दिल्ली-हावड़ा रेलवे ट्रैक महत्वपूर्ण ट्रैक माना जाता है। एक ओर रेलवे प्रशासन इस पर बुलेट ट्रेन दौड़ाने की तैयारी कर रहा है, वहीं दूसरी ओर जसवंतनगर से इकदिल रेलवे स्टेशन के मध्य कई जगह स्लीपर टूटे हुए हैं, काफी संख्या में पैनड्राल गायब हैं। इसके बावजूद ट्रैक पर 130 किमी की स्पीड से सुपर फास्ट ट्रेनें दौड़ रही हैं। ट्रेन गुजरने...
more...
पर ट्रैक हिचकोले लेता है। ट्रैक को नियमित देखने वाले रेलपथ शाखा के गैंगमैन और कीमैन इस हकीकत से अपने अधिकारियों को अवगत करा रहे हैं फिर भी कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है।1आए दिन हो रही हैं घटनाएं : रेलवे ट्रैक पर आए दिन कोई न कोई घटना घटित होती रहती है। चार दिन पूर्व इकदिल-भरथना के मध्य चकरैल खुल गई, संयोगवश कीमैन ने सजगता बरतते हुए लाल झंडी दिखाकर राजधानी एक्सप्रेस को रुकवा दिया। बीते शनिवार को इकदिल के समीप मालगाड़ी के इंजन से ट्रैक के ऊपर निकला स्लीपर का हिस्सा टकराने से इंजन खराब हो गया। वहीं रेलवे ट्रैक पर कई जगह ग्रामीणों ने अनाधिकृत रेलवे क्रासिंग बना ली है। यही हाल इटावा-सरायभूपत स्टेशन के मध्य गांव विचारपुरा के पास ग्रामीणों ने क्रासिंग बना ली है। ऐसे हालत कई जगह देखने को मिलते हैं।जागरण संवाददाता, इटावा : रेलवे का सबसे व्यस्त रेलमार्ग दिल्ली-हावड़ा पर बीते कई माह से हर पल खतरा मंडराता रहता है। ट्रैक की सही ढंग से देखरेख न होने से कई जगह स्लीपर ध्वस्त नजर आते हैं तो काफी संख्या में पटरी और स्लीपर को जोड़े रखने वाली पैनड्राल क्लिप गायब हैं। रेलवे सूत्रों के मुताबिक कई जगह पटरी भी बदलने योग्य है। इस मार्ग पर 24 घंटे में करीब 250 से 300 ट्रेनें आवागमन करती हैं, कई हादसे होने के बावजूद इस ओर कोई तवज्जो नहीं दी जा रही है।1दिल्ली-हावड़ा रेलवे ट्रैक महत्वपूर्ण ट्रैक माना जाता है। एक ओर रेलवे प्रशासन इस पर बुलेट ट्रेन दौड़ाने की तैयारी कर रहा है, वहीं दूसरी ओर जसवंतनगर से इकदिल रेलवे स्टेशन के मध्य कई जगह स्लीपर टूटे हुए हैं, काफी संख्या में पैनड्राल गायब हैं। इसके बावजूद ट्रैक पर 130 किमी की स्पीड से सुपर फास्ट ट्रेनें दौड़ रही हैं। ट्रेन गुजरने पर ट्रैक हिचकोले लेता है। ट्रैक को नियमित देखने वाले रेलपथ शाखा के गैंगमैन और कीमैन इस हकीकत से अपने अधिकारियों को अवगत करा रहे हैं फिर भी कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है।1आए दिन हो रही हैं घटनाएं : रेलवे ट्रैक पर आए दिन कोई न कोई घटना घटित होती रहती है। चार दिन पूर्व इकदिल-भरथना के मध्य चकरैल खुल गई, संयोगवश कीमैन ने सजगता बरतते हुए लाल झंडी दिखाकर राजधानी एक्सप्रेस को रुकवा दिया। बीते शनिवार को इकदिल के समीप मालगाड़ी के इंजन से ट्रैक के ऊपर निकला स्लीपर का हिस्सा टकराने से इंजन खराब हो गया। वहीं रेलवे ट्रैक पर कई जगह ग्रामीणों ने अनाधिकृत रेलवे क्रासिंग बना ली है। यही हाल इटावा-सरायभूपत स्टेशन के मध्य गांव विचारपुरा के पास ग्रामीणों ने क्रासिंग बना ली है। ऐसे हालत कई जगह देखने को मिलते हैं।
Mar 01 2017 (08:18)  मालगाड़ी का यार्ड बन गया एक नंबर प्लेटफार्म (m.jagran.com)
back to top
Commentary/Human InterestNCR/North Central  -  

News Entry# 295030     
   Tags   Past Edits
Mar 01 2017 (08:19)
Station Tag: Agra Cantt./AGC added by Rkschauhan~/926260

Mar 01 2017 (08:19)
Station Tag: Bateshwar Halt/BASR added by Rkschauhan~/926260

Mar 01 2017 (08:19)
Station Tag: Gwalior Junction/GWL added by Rkschauhan~/926260

Mar 01 2017 (08:19)
Station Tag: Bhind/BIX added by Rkschauhan~/926260

Mar 01 2017 (08:19)
Station Tag: Etawah Junction/ETW added by Rkschauhan~/926260

Posted by: Rkschauhan~  111 news posts
जागरण संवाददाता, इटावा : आदर्श रेलवे स्टेशन इटावा का प्लेटफार्म नंबर एक दिल्ली-आगरा की ओर यात्रा करने वालों के लिए सुविधाजनक है। इसी प्लेटफार्म पर रेलवे के महत्वपूर्ण कार्यालय तथा स्टाल स्थापित हैं। इसके बावजूद इस प्लेटफार्म को मालगाड़ी के यार्ड के रूप में परिवर्तित कर रखा है। रोजाना इस प्लेटफार्म पर मालगाड़ी खड़ी कराए जाने से अचानक यात्री ट्रेनों का प्लेटफार्म परिवर्तित किए जाने पर भगदड़ जैसे हालात होते हैं। इसमें वरिष्ठ नागरिक और असहाय दिव्यांग तथा बच्चों सहित महिलाएं काफी परेशान होती हैं, कई बार यात्री जान की बाजी लगाकर मालगाड़ी के नीचे से निकलकर दूसरे प्लेटफार्म पर पहुंचते हैं। रेलवे प्रशासन आम यात्रियों की परेशानियों की ओर कोई तवज्जो नहीं दे रहा है।
प्लेटफार्म नंबर एक पर आम यात्री
...
more...
स्टेशन का मुख्य द्वार पार करने के बाद सहजता से आ जाते हैं। इसके बाद प्लेटफार्म नंबर दो से पांच पर पहुंचने के लिए पुल के माध्यम से जाना होता है। पुल पर चढ़ने उतरने के लिए सीढि़यों का प्रयोग अधेड़ तथा वृद्ध लोगों के लिए कष्टदाई है। प्लेटफार्म नंबर एक पर स्टेशन अधीक्षक, आरपीएफ, पार्सलघर, आरएमएस, प्रतीक्षालय व अन्य कई कार्यालय स्थापित हैं। भोजनालय, खानपान तथा किताब के स्टाल इसी प्लेटफार्म पर हैं। जब से आगरा-ग्वालियर ब्रांच लाइनों पर मालगाड़ियों का परिचालन प्रारंभ कराया गया है तब से यह प्लेटफार्म मालगाड़ियों का यार्ड सा बना हुआ है। अचानक मालगाड़ी का ठहराव कई घंटों के लिए किए जाने पर इस प्लेटफार्म पर ठहराव करने वाली गोमती, कालका तथा पैसेंजर का अचानक प्लेटफार्म परिवर्तित किए जाने पर भगदड़ जैसे हालात होते हैं। बीते सप्ताह में गोमती एक्सप्रेस का तीन बार प्लेटफार्म परिवर्तित किए जाने पर भगदड़ हुई, कई वृद्ध और बच्चों सहित महिलाएं बाल-बाल बचीं। अधिकांश समय इस प्लेटफार्म पर मालगाड़ी खड़ी रहने से स्टॉल संचालक भी हाथ पर हाथ धरे बैठे रहते हैं।
ब्रांच लाइनों का जुड़ाव
¨भड-ग्वालियर तथा बटेश्वर-आगरा की ब्रांच लाइनों का प्लेटफार्म नंबर एक की लाइन से जुड़ाव होने से मालगाड़ियां इस प्लेटफार्म पर खड़ी करानी पड़ती हैं। कोशिश यह रहती है इंजन बदलवाने में कम समय लगे ताकि मालगाड़ी जल्दी से चलवाया जा सके। दिल्ली-हावड़ा ट्रैक पर लगातार ट्रेनों का परिचालन होने से मालगाड़ी देर तक खड़ी रहती है। दोनों ब्रांच लाइनों पर विद्युतीकरण हो जाएगा तब राहत मिलेगी।
- आरके त्रिपाठी स्टेशन अधीक्षक
Page#    Showing 1 to 20 of 284 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site