Full Site Search  
Tue Jan 23, 2018 01:33:45 IST
PostPostPost Stn TipPost Stn TipUpload Stn PicUpload Stn PicAdvanced Search
no description available
Large Station Board;


GZB/Ghaziabad Junction (6 PFs)
غازی آباد جنکشن     गाज़ियाबाद जंक्शन

Track: Triple Electric-Line

Type of Station: Junction
Number of Platforms: 6
Number of Halting Trains: 226
Number of Originating Trains: 1
Number of Terminating Trains: 2
Junction Point- CNB/MB/MTC/NDLS(DLI) Pedestrian Overpass, Bhur Bharat Nagar, Railway Colony, Madhopura, Ghaziabad, 201009
State: Uttar Pradesh
add/change address
Elevation: 216 m above sea level
Zone: NR/Northern
Division: Delhi
 
 
5 Travel Tips
No Recent News for GZB/Ghaziabad Junction
Nearby Stations in the News

Rating: 2.7/5 (199 votes)
cleanliness - average (26)
porters/escalators - average (25)
food - average (23)
transportation - average (25)
lodging - average (24)
railfanning - good (25)
sightseeing - average (25)
safety - average (26)

Nearby Stations

CYZ/Chipyana Buzurg 4 km     GZN/New Ghaziabad 6 km     SBB/Sahibabad Junction 7 km     MFH/Mahrauli 7 km     GUH/Guldhar 10 km     DSBP/Shahdara B Panel 10 km     MIU/Maripat 10 km     DSAP/Shahdara A Panel 10 km     CNJ/Chander Nagar 11 km     AKNR/Adhyatmik Nagar 11 km    

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 191 News Items  next>>
Jan 20 2018 (11:20)  गाजियाबाद में दून एक्सप्रेस को बेपटरी करने की साजिश (epaper.jagran.com)
back to top
Commentary/Human InterestNR/Northern  -  

News Entry# 327439   Blog Entry# 3024960     
   Past Edits
Jan 20 2018 (11:20)
Station Tag: Ghaziabad Junction/GZB added by CAR CPU Efication Deadline Dec 2018^~/1421836

Jan 20 2018 (11:20)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by CAR CPU Efication Deadline Dec 2018^~/1421836
 
 
जागरण संवाददाता, गाजियाबाद : दिल्ली-मेरठ रेलवे मार्ग पर मुरादनगर में दून एक्सप्रेस (अप) को बेपटरी करने की साजिश रची गई। शुक्रवार सुबह एक व्यक्ति द्वारा रेलवे ट्रैक की फिश-प्लेट खोलकर पटरी अलग कर दी गई। तीन किशोरों ने इस हरकत को देख लिया और आरोपी को पकड़कर स्टेशन मास्टर के हवाले कर दिया। एसपी रेलवे मुरादाबाद सुभाषचंद दूबे, एटीएस, पुलिस के साथ सुरक्षा एजेंसियां देर शाम तक आरोपी से पूछताछ कर रही थीं। पकड़ा गया आरोपी बुलंदशहर का फुरकान अली है। वह गत 25 दिसंबर को जेल से छूटा था। उस पर बुलंदशहर में लूट समेत कई मामले दर्ज हैं। नगर के खंबा मार्ग स्थित दयानंद कॉलोनी निवासी शिवा (16), विजय (15) और सचिन (14) शुक्रवार सुबह करीब आठ बजे रेलवे ट्रैक के पास से गुजर रहे थे। करीब सवा आठ बजे एक व्यक्ति को ट्रैक पर बैठा देखा। इसी बीच सचिन की नजर ट्रैक पर पड़ी। पटरियों को जोड़ने वाली...
more...
फिश-प्लेट और नट-बोल्ट अलग-अलग पड़े हुए थे। किशोरों ने पूछा तो वह भागने लगा। उसे दबोच कर स्टेशन मास्टर को सौंप दिया। थोड़ी देर में ही ट्रैक से गुजरने वाली देहरादून एक्सप्रेस को मुरादनगर स्टेशन पर 50 मिनट तक रोका गया। सहारनपुर पैसेंजर ट्रेन को रद कर दिया गया। आरोपी के पास एक बंसुला और एक एंगल मिली है।जागरण संवाददाता, गाजियाबाद : दिल्ली-मेरठ रेलवे मार्ग पर मुरादनगर में दून एक्सप्रेस (अप) को बेपटरी करने की साजिश रची गई। शुक्रवार सुबह एक व्यक्ति द्वारा रेलवे ट्रैक की फिश-प्लेट खोलकर पटरी अलग कर दी गई। तीन किशोरों ने इस हरकत को देख लिया और आरोपी को पकड़कर स्टेशन मास्टर के हवाले कर दिया। एसपी रेलवे मुरादाबाद सुभाषचंद दूबे, एटीएस, पुलिस के साथ सुरक्षा एजेंसियां देर शाम तक आरोपी से पूछताछ कर रही थीं। पकड़ा गया आरोपी बुलंदशहर का फुरकान अली है। वह गत 25 दिसंबर को जेल से छूटा था। उस पर बुलंदशहर में लूट समेत कई मामले दर्ज हैं। नगर के खंबा मार्ग स्थित दयानंद कॉलोनी निवासी शिवा (16), विजय (15) और सचिन (14) शुक्रवार सुबह करीब आठ बजे रेलवे ट्रैक के पास से गुजर रहे थे। करीब सवा आठ बजे एक व्यक्ति को ट्रैक पर बैठा देखा। इसी बीच सचिन की नजर ट्रैक पर पड़ी। पटरियों को जोड़ने वाली फिश-प्लेट और नट-बोल्ट अलग-अलग पड़े हुए थे। किशोरों ने पूछा तो वह भागने लगा। उसे दबोच कर स्टेशन मास्टर को सौंप दिया। थोड़ी देर में ही ट्रैक से गुजरने वाली देहरादून एक्सप्रेस को मुरादनगर स्टेशन पर 50 मिनट तक रोका गया। सहारनपुर पैसेंजर ट्रेन को रद कर दिया गया। आरोपी के पास एक बंसुला और एक एंगल मिली है।आरोपी फुरकान2009’फुरकान के बारे में शुरुआती जांच में पता चला है कि उसके खिलाफ लूट समेत अन्य कई संगीन धाराओं में बुलंदशहर में कई मामले दर्ज हैं। गत 25 दिसंबर को वह लंबे समय बाद जेल से छूटा है। प्रत्येक ¨बदु से घटना की जांच की जा रही है।1विजय कुमार मौर्य, अपर पुलिस महानिदेशक, रेलवेसंबंधित खबरें1 पेज 2

350 views
Jan 21 2018 (17:05)
Sandeep Sharma Sandeep Sharma   95 blog posts
Re# 3024960-1            Tags   Past Edits

337 views
Jan 21 2018 (17:12)
Sandeep Sharma Sandeep Sharma   95 blog posts
Re# 3024960-2            Tags   Past Edits
Teeno ladke sammanit Honge 26 January ko

261 views
Jan 21 2018 (17:56)
BGKT WDP4^~   20590 blog posts   498 correct pred (58% accurate)
Re# 3024960-3            Tags   Past Edits
एसे देश द्रोही को फांसी होनी चाहिए।

Jan 21 2018 (17:58)
Udaipur Mysore HumSafar superfast^~   88555 blog posts   5328 correct pred (78% accurate)
Re# 3024960-4            Tags   Past Edits
Brilliant....hats off to youngsters for saving lives
Jan 10 2018 (07:37)  नोएडा-गाजियाबाद मेट्रो कॉरिडोर की डीपीआर जल्द (epaper.jagran.com)
back to top
Commentary/Human InterestNR/Northern  -  

News Entry# 326611     
   Past Edits
Jan 10 2018 (07:37)
Station Tag: Ghaziabad Junction/GZB added by NZM SRC Weekly SF Is My Dream Train😍😊^~/1421836
Stations:  Ghaziabad Junction/GZB  
 
 
जागरण संवाददाता, गाजियाबाद : नोएडा और वैशाली से मोहननगर तक मेट्रो कॉरिडोर बनाने की डीपीआर (डिटेल्ड प्रोजेक्ट रिपोर्ट) एक सप्ताह में तैयार हो जाएगी। गाजियाबाद विकास प्राधिकरण को दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने सात दिन में डीपीआर जमा करने का आश्वासन दिया है। डीपीआर मिलते ही प्राधिकरण स्वीकृति के लिए उसे शासन को भेज देगा। उम्मीद की जा रही है कि दिलशाद गार्डन से नया बस अड्डा मेट्रो कॉरिडोर पर मेट्रो सेवा शुरू होने के बाद फेज-3 के तहत नोएडा और वैशाली से मोहन नगर मेट्रो कॉरिडोर का निर्माण कार्य शुरू कराने की कवायद तेज हो जाएगी।1जीडीए बोर्ड की बैठक में 19 अप्रैल 2016 को वैशाली मेट्रो स्टेशन से मोहननगर तक पांच किलोमीटर और नोएडा सेक्टर-62 से मोहननगर तक 4.50 किलोमीटर लंबा मेट्रो रेल कॉरिडोर बनाने का प्रस्ताव स्वीकार किया था। इस पर डीएमआरसी को 25 मई 2016 को पत्र भेज दोनों कॉरिडोर का डीपीआर तैयार करने का अनुरोध किया था।...
more...
इस पर डीएमआरसी ने जून 2016 में डीपीआर तैयार करने के लिए टर्म ऑफ रेफरेंस (डीएमआरसी) प्रस्तुत किया। उन्होंने इसके लिए फीस व सर्विस टैक्स जोड़कर 109.25 लाख रुपये मांगे थे। इसमें से जीडीए ने तत्काल 32.275 लाख रुपये डीपीआर बनाने के लिए उन्हें अदा कर दिए। यह भी तय कर दिया कि दिसंबर 2017 तक डीपीआर बनाकर सौंप दी जाए, जिससे उसे शासन में स्वीकृति के लिए भेजा जा सके। अब दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने डीपीआर तैयार कर सौंपने का आश्वासन दे दिया है।1नोएडा और वैशाली से मोहन नगर तक प्रस्तावित दोनों मेट्रो रेल कॉरिडोर पर चार-चार स्टेशन बनाए जाने हैं जिससे ज्यादा से ज्यादा लोग इस कॉरिडोर का लाभ उठा सकेंगे यह महत्वाकांक्षी योजना 2020 तक पूरी होनी है इस परियोजना के पूरा होने पर गाजियाबाद मेट्रो के जरिए नोएडा और दिल्ली से जुड़ जाएगा।1जागरण संवाददाता, गाजियाबाद : नोएडा और वैशाली से मोहननगर तक मेट्रो कॉरिडोर बनाने की डीपीआर (डिटेल्ड प्रोजेक्ट रिपोर्ट) एक सप्ताह में तैयार हो जाएगी। गाजियाबाद विकास प्राधिकरण को दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने सात दिन में डीपीआर जमा करने का आश्वासन दिया है। डीपीआर मिलते ही प्राधिकरण स्वीकृति के लिए उसे शासन को भेज देगा। उम्मीद की जा रही है कि दिलशाद गार्डन से नया बस अड्डा मेट्रो कॉरिडोर पर मेट्रो सेवा शुरू होने के बाद फेज-3 के तहत नोएडा और वैशाली से मोहन नगर मेट्रो कॉरिडोर का निर्माण कार्य शुरू कराने की कवायद तेज हो जाएगी।1जीडीए बोर्ड की बैठक में 19 अप्रैल 2016 को वैशाली मेट्रो स्टेशन से मोहननगर तक पांच किलोमीटर और नोएडा सेक्टर-62 से मोहननगर तक 4.50 किलोमीटर लंबा मेट्रो रेल कॉरिडोर बनाने का प्रस्ताव स्वीकार किया था। इस पर डीएमआरसी को 25 मई 2016 को पत्र भेज दोनों कॉरिडोर का डीपीआर तैयार करने का अनुरोध किया था। इस पर डीएमआरसी ने जून 2016 में डीपीआर तैयार करने के लिए टर्म ऑफ रेफरेंस (डीएमआरसी) प्रस्तुत किया। उन्होंने इसके लिए फीस व सर्विस टैक्स जोड़कर 109.25 लाख रुपये मांगे थे। इसमें से जीडीए ने तत्काल 32.275 लाख रुपये डीपीआर बनाने के लिए उन्हें अदा कर दिए। यह भी तय कर दिया कि दिसंबर 2017 तक डीपीआर बनाकर सौंप दी जाए, जिससे उसे शासन में स्वीकृति के लिए भेजा जा सके। अब दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने डीपीआर तैयार कर सौंपने का आश्वासन दे दिया है।1नोएडा और वैशाली से मोहन नगर तक प्रस्तावित दोनों मेट्रो रेल कॉरिडोर पर चार-चार स्टेशन बनाए जाने हैं जिससे ज्यादा से ज्यादा लोग इस कॉरिडोर का लाभ उठा सकेंगे यह महत्वाकांक्षी योजना 2020 तक पूरी होनी है इस परियोजना के पूरा होने पर गाजियाबाद मेट्रो के जरिए नोएडा और दिल्ली से जुड़ जाएगा।1जासं, ग्रेटर नोएडा: जेवर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के लिए तकनीकी आर्थिक फिजिबिलिटी रिपोर्ट (टीईएफआर) का ड्राफ्ट मार्च मध्य तक तैयार होगा। इसके आधार पर यमुना प्राधिकरण हवाई अड्डे की सैद्धांतिक मंजूरी के लिए आवेदन करेगा। प्राधिकरण में सोमवार को बैठक में पीडब्ल्यूसी ने टीईएफआर समेत अन्य रिपोर्ट तैयार करने की योजना का खाका अधिकारियों के सामने रखा।जेवर एयरपोर्ट की टीईएफआर का ड्राफ्ट मार्च तक तैयार होगा
Nov 30 2017 (20:41)  ओखला के पास पटरी से उतरी लोकल ट्रेन अनन्या एक्सप्रेस के एसी कोच की स्प्रिंग में गड़बड़ी, बड़ा हादसा बचा (epaper.navbharattimes.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNR/Northern  -  

News Entry# 323707     
   Past Edits
Nov 30 2017 (20:41)
Station Tag: Kanpur Central/CNB added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Nov 30 2017 (20:41)
Station Tag: Ghaziabad Junction/GZB added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Nov 30 2017 (20:41)
Train Tag: Ananya Express/12316 added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964
 
 
ओखला के पास पटरी से उतरी लोकल ट्रेन
अनन्या एक्सप्रेस के एसी कोच की स्प्रिंग में गड़बड़ी, बड़ा हादसा बचा
गाजियाबाद : गाजियाबाद जा रही एक लोकल यात्री ट्रेन के कोच का एक पहिया ओखला के पास पटरी से उतर गया। पलवल-नई दिल्ली-गाजियाबाद ट्रेन मंगलवार सुबह करीब पौने 10 बजे पटरी से उतर गई। इसमें कोई हताहत नहीं हुआ। उत्तरी रेलवे के सीपीआरओ नितिन चौधरी ने कहा, केवल एक पहिया पटरी से उतरा।
 पटरी
...
more...
से उतरी मेमू के यात्रियों को एक अन्य ट्रेन से आगे ले जाया गया। उन्होंने बताया कि संभागीय रेल प्रबंधक और अन्य वरिष्ठ अधिकारी ट्रेन के पटरी से उतरने के तत्काल बाद मौके पर पहुंच गए।•एनबीटी ब्यूरो, इलाहाबाद : उदयपुर से सियालदह जंक्शन तक चलने वाली अनन्या एक्सप्रेस में मंगलवार सुबह बड़ी गड़बड़ी समय रहते पकड़ में आ गई, जिससे एक बड़ा हादसा बच गया। एसी थ्री कोच के यात्रियों की शिकायत पर रेलवे प्रशासन हरकत में आया तो ट्रेन का कोच काटकर अलग किया गया। इसके बाद नया एसी थ्री कोच जोड़कर यात्री उसमें बिठाए गए और ट्रेन रवाना की जा सकी। इसके चलते ट्रेन करीब दो घंटे तक जंक्शन पर रुकी रही।
 सियालदह जा रही अनन्या एक्सप्रेस सोमवार रात टूंडला से रवाना हुई। कुछ दूर चलने के बाद ट्रेन के एसी थ्री कोच बी-3 में बैठे यात्रियों को झटके लगने लगे। इसके साथ तेज आवाज भी हुई। इससे यात्रियों में हड़कंप मच गया। यात्रियों ने शिकायत की तो कंट्रोल रूम को सूचना दी गई। कानपुर में कर्मचारियों को ट्रेन की जांच के लिए अलर्ट किया गया। ट्रेन करीब ढाई घंटे की देरी से रात करीब साढ़े दस बजे कानपुर पहुंची तो रेलकर्मियों ने जांच की। इस दौरान कोच की स्प्रिंग निकली मिली। इसे वापस लगाने का प्रयास किया गया। लेकिन करीब एक घंटे के प्रयास के बाद भी खराबी ठीक नहीं की जा सकी।
मुश्किल से लाया गया इलाहाबाद तक : यात्रियों ने कोच बदलने की मांग की। कानपुर में अतिरिक्त एसी थ्री कोच उपलब्ध नहीं था। ऐसे में ट्रेन को 70 किमी. प्रति घंटा की रफ्तार से इलाहाबाद तक लाया गया। ट्रेन करीब पौने छह घंटे लेट चल रही थी और मंगलवार सुबह चार बजकर बीस मिनट पर इलाहाबाद पहुंची। इसके बाद ट्रेन का कोच बदला गया।
Nov 03 2017 (06:41)  भविष्य में मेट्रो रेल परियोजना प्राइवेट पार्टनरशिप से (epaper.jagran.com)
back to top
Commentary/Human InterestNR/Northern  -  

News Entry# 321704     
   Past Edits
Nov 03 2017 (06:41)
Station Tag: Ghaziabad Junction/GZB added by Jharkhand Needs RNC ANVT HS And TATA ANVT SF^~/1421836
Stations:  Ghaziabad Junction/GZB  
 
 
जागरण संवाददाता, गाजियाबाद : हैदराबाद की तर्ज पर प्रदेश में भविष्य की मेट्रो रेल परियोजनाओं का खाका प्राइवेट पार्टनरशिप ढांचे पर खींचने की तैयारी चल रही है। बृहस्पतिवार को लखनऊ मेट्रो रेल कॉरपोरेशन में केंद्र सरकार की न्यू मेट्रो पॉलिसी को लेकर मंथन हुआ, जिसमें सभी विकास प्राधिकरणों के अधिकारियों से रायशुमारी की गई। गाजियाबाद विकास प्राधिकरण (जीडीए) से चीफ आर्किटेक्ट एंड टाउन प्लानर (सीएटीपी) इश्तियाक अहमद इसमें शामिल हुए।1उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार ने मेट्रो रेल पॉलिसी-2017 बनाई है। इसमें फं¨डग की दिक्कतों को देखते हुए इस पॉलिसी में प्राइवेट पार्टनरशिप पर आगामी योजना बनाने के मॉडल को शामिल किया गया है। निजी क्षेत्र की कंपनियों के निवेश से लोगों के लिए यातायात की व्यवस्था सुगम बनाई जाएगी। इस पॉलिसी में हैदराबाद मेट्रो रेल परियोजना और गुरुग्राम रैपिड मेट्रो का उदाहरण दिया गया है। इसके अलावा फं¨डग के पुराने तीन मॉडल भी इस पॉलिसी में रखे गए हैं। जिसमें राज्य...
more...
सरकार पूर्ण रूप से परियोजना को फंड कर सकती है। केंद्र सरकार से पूर्ण वित्त पोषित परियोजना भी हो सकती है। दोनों सरकारें मिलकर भी परियोजना पर काम कर सकती हैं।1इश्तियाक अहमद ने बताया कि कार्यशाला में चर्चा हुई कि मेट्रो के अलावा अन्य यातायात के साधन किफायती हो सकते हैं। बस रैपिड ट्रांजिट सिस्टम (बीआरटीएस) को भी विकसित किया जा सकता है।जागरण संवाददाता, गाजियाबाद : हैदराबाद की तर्ज पर प्रदेश में भविष्य की मेट्रो रेल परियोजनाओं का खाका प्राइवेट पार्टनरशिप ढांचे पर खींचने की तैयारी चल रही है। बृहस्पतिवार को लखनऊ मेट्रो रेल कॉरपोरेशन में केंद्र सरकार की न्यू मेट्रो पॉलिसी को लेकर मंथन हुआ, जिसमें सभी विकास प्राधिकरणों के अधिकारियों से रायशुमारी की गई। गाजियाबाद विकास प्राधिकरण (जीडीए) से चीफ आर्किटेक्ट एंड टाउन प्लानर (सीएटीपी) इश्तियाक अहमद इसमें शामिल हुए।1उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार ने मेट्रो रेल पॉलिसी-2017 बनाई है। इसमें फं¨डग की दिक्कतों को देखते हुए इस पॉलिसी में प्राइवेट पार्टनरशिप पर आगामी योजना बनाने के मॉडल को शामिल किया गया है। निजी क्षेत्र की कंपनियों के निवेश से लोगों के लिए यातायात की व्यवस्था सुगम बनाई जाएगी। इस पॉलिसी में हैदराबाद मेट्रो रेल परियोजना और गुरुग्राम रैपिड मेट्रो का उदाहरण दिया गया है। इसके अलावा फं¨डग के पुराने तीन मॉडल भी इस पॉलिसी में रखे गए हैं। जिसमें राज्य सरकार पूर्ण रूप से परियोजना को फंड कर सकती है। केंद्र सरकार से पूर्ण वित्त पोषित परियोजना भी हो सकती है। दोनों सरकारें मिलकर भी परियोजना पर काम कर सकती हैं।1इश्तियाक अहमद ने बताया कि कार्यशाला में चर्चा हुई कि मेट्रो के अलावा अन्य यातायात के साधन किफायती हो सकते हैं। बस रैपिड ट्रांजिट सिस्टम (बीआरटीएस) को भी विकसित किया जा सकता है।
अगर आप बुधवार को ट्रेन में सफर करने वाले हैं तो पहले ट्रेन का टाइम शेड्यूल जरूर देख लें। बुधवार से रेलवे का नया टाइम टेबल लागू हो जाएगा। इसके मुताबिक गाजियाबाद स्टेशन पर अब काठगोदाम एक्सप्रेस अपने पुराने समय से 16 मिनट पहले और देहरादून जाने वाली मसूरी एक्सप्रेस 18 मिनट बाद आएगी।
इसके अलावा कई अन्य ट्रेनों के समय में भी मामूली परिवर्तन किया गया है। रेलवे का नया टाइम टेबल गाजियाबाद स्टेशन पर भी पहुंच गया है। स्थानीय रेलवे अधिकारियों के मुताबिक सराय रोहिल्ला से देहरादून जाने वाली मसूरी एक्सप्रेस अभी तक गाजियाबाद स्टेशन पर रात 11 बजे पहुंचती थी और दो मिनट के स्टॉपेज के बाद रवाना हो जाती थी।
अब
...
more...
यह ट्रेन रात 11:18 गाजियाबाद स्टेशन पर पहुंचेगी और 11:20 पर रवाना हो जाएगी। जैसलमेर से काठगोदाम जाने वाली एक्सप्रेस पहले 11:18 बजे गाजियाबाद स्टेशन पर पहुंचती थी, बुधवार से यह ट्रेन 11:02 बजे पहुंचेगी। दो मिनट के स्टॉपेज के बाद यह काठगोदाम के लिए रवाना हो जाएगी।
काशी विश्वनाथ एक्सप्रेस (14257) अब 2 मिनट बाद 5:22 बजे पहुंचेगी। दिल्ली की ओर जाने वाली श्रमजीवी एक्सप्रेस अब तीन मिनट पहले सुबह 4:20 बजे, कालिंदी एक्सप्रेस पांच मिनट पहले 4:40 बजे गाजियाबाद स्टेशन पहुंचेगी। फैजाबाद-दिल्ली एक्सप्रेस 4:45 बजे पहुंचेगी।
Page#    Showing 1 to 20 of 191 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.