Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt

FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE

12567/68 राज्यरानी सुपरफास्ट की धाक राजधानी से कम नहीं है। - Prabhat Sharan

Search News
Post PNR

SVPI/Shivpuri (2 PFs)
     शिवपुरी

Track: Single Electric-Line

Show ALL Trains
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 46
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
State Highway 6, Shivpuri
State: Madhya Pradesh
add/change address
Elevation: 478 m above sea level
Zone: WCR/West Central
Division: Bhopal
1 Travel Tips
No Recent News for SVPI/Shivpuri
Nearby Stations in the News

Rating: 2.5/5 (48 votes)
cleanliness - average (6)
porters/escalators - average (6)
food - average (6)
transportation - average (6)
lodging - average (6)
railfanning - average (6)
sightseeing - average (6)
safety - average (6)

Show ALL Trains
Departures
Arrivals
Station Map
Forum
News
Gallery
Timeline
RF Club
Station Pics
Tips

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 119 News Items  next>>
Oct 09 (14:10) ट्रेन के इंजन की टक्कर से युवक की मौत:मूकबधिर होने के कारण हॉर्न सुनाई नहीं दिया, बाइब्रेशन से समझा, तब तक आ गया इंजन की चपेट में युवक (www.bhaskar.com)
Other News
WCR/West Central
0 Followers
3255 views

News Entry# 467109  Blog Entry# 5090604   
  Past Edits
Oct 09 2021 (14:10)
Station Tag: Kolaras/KLRS added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688

Oct 09 2021 (14:10)
Station Tag: Shivpuri/SVPI added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688
Stations:  Shivpuri/SVPI   Kolaras/KLRS  
शिवपुरी के कोलारस कस्बे में गुरुवार की दोपहर एक मूकबधिर ग्रामीण युवक की ट्रेन के इंजन की चपेट में आने से मौत हो गई। युवक होने के कारण वह हॉर्न नहीं सुन सका और जब तक कुछ समझा तब तक देर हो चुकी थी।
जानकारी के अनुसार कोलारस से 8 किमी दूर स्थित बैरसिया निवासी लक्ष्मण गुर्जर (27) बचपन से मूकबधिर होने के साथ मानसिक रूप से कमजोर भी था।
यही कारण है कि वह इधर-उधर भटकता-फिरता है। इसी क्रम में गुरुवार दोपहर करीब 1 बजे वह कोलारस रेलवे स्टेशन के आस-पास घूम
...
more...
रहा था। इस दौरान गुना से शिवपुरी की तरफ आ रहे एक इंजन की चपेट में आने से उसकी मौत हो गई। घटना के समय मौके से कुछ दूर मौजूद कुछ लोगों ने बताया कि मृतक रेलवे ट्रैक पार कर रहा था तभी गुना की तरफ से एक इंजन आया।
इंजन के ड्राइवर ने युवक को ट्रैक पर देखकर खूब हॉर्न बजाया, लेकिन वह नहीं हटा। जब इंजन बिल्कुल पास आ गया, तब उस युवक को कुछ समझ आया और उसने बचने का प्रयास किया, लेकिन तब तक देर हो गई थी। माना जा रहा है कि युवक मूकबधिर होने के कारण हॉर्न सुन नहीं पाया होगा और इंजन के पास आने पर उसे कंपन का अहसास होने पर उसने बचने की कोशिश की, लेकिन फिर भी उसका चेहरा इंजन से टकरा गया और वह दूर जा गिरा, जिससे उसकी मौत हो गई।
Oct 08 (22:55) रेलवे कैंटीन संचालक की मालगाड़ी से कटकर मौत (www.naidunia.com)
Crime/Accidents
WCR/West Central
0 Followers
2401 views

News Entry# 467054  Blog Entry# 5090198   
  Past Edits
Oct 08 2021 (22:55)
Station Tag: Shivpuri/SVPI added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 08 2021 (22:55)
Station Tag: Ruthiyai Junction/RTA added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 08 2021 (22:55)
Station Tag: Guna Junction/GUNA added by Adittyaa Sharma/1421836
ग़ुना। नवदुनिया प्रतिनिधि
रेलवे स्टेशन पर शुक्रवार की सुबह एक व्यक्ति की मालगाड़ी से कटकर मौत हो गई। सूचना पर मौके पर पहुंची जीआरपी और आरपीएफ ने शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। इधर, जैसे ही परिजनों को सूचना लगी, तो तत्काल स्टेशन पहुंचे। परिवार के सदस्यों के बयानों से मालूम चला कि मृतक रुठियाई व शिवपुरी में रेलवे कैंटीन का संचालन करते थे। जीआरपी के अनुसार मृतक डिप्रेशन की समस्या से जूझ रहे थे, जिसकी दवाई भी चल रही थी। संभवतया दवा के असर की वजह से प्लेटफार्म पर जाते समय फिसलकर ट्रेक पर गिरे होंगे। जानकारी के अनुसार राजेंद्र शर्मा उम्र 60 वर्ष निवासी आदर्श कॉलोनी की आरके शर्मा ब्रदर्स नाम से गुना जिले के रुठियाई और शिवपुरी
...
more...
रेलवे स्टेशन पर कैंटीन है। शुक्रवार सुबह घर से पूजा-पाठ करने के बाद हनुमान चौराहा स्थित मंदिर पहुंचे, जहां पूजन के बाद रुठियाई कैंटीन जाने के लिए रेलवे स्टेशन पहुंचे और नागदा पैसेंजर ट्रेन को पकड़ना था, जो प्लेटफार्म नंबर-3 पर आना थी। जबकि प्लेटफार्म-1 पर पहले से यात्री गाड़ी खड़ी थी। इसी बीच करीब 9.30 बजे प्लेटफार्म-1 क्रास कर तीन नंबर प्लेटफार्म पर जा रहे थे, तभी प्लेटफार्म नंबर-2 पर मालगाड़ी आ गई। इससे पहले संभल पाते, ट्रेक पर गिरने से मालगाड़ी की चपेट में आ गए, जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई। इसी बीच ट्रेक की सफाई कर रहे कर्मी ने मृतक को पहचानकर परिजनों को सूचित किया। इसके तत्काल बाद पत्नी व बच्चे पहुंचे, जिनका रो-रोकर बुरा हाल हो गया। उनके बेटा तो रूंधे गले से यही कहता रहा कि पापा आप कहां चले गए। इधर, सूचना मिलते ही जीआरपी व आरपीएफ घटनास्थल पहुंची और पंचनामा आदि की कार्रवाई के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा।
डिप्रेशन की ले रहे थे लंबे समय से दवा
जीआरपी थाना प्रभारी जसवंत सिंह परमार ने बताया कि मृतक के परिजनों के बयान लिए हैं, जिससे उक्त हादसा आकस्मिक दुर्घटना ही है। क्योंकि, मालूम चला है कि मृतक को डायबिटीज के अलावा डिप्रेशन की समस्या थी। बताया गया है कि उनका वजन भी ज्यादा था। इसकी वे लगातार दवाइयां भी ले रहे थे। बताया गया है कि डिप्रेशन की दवाई भी असर करती है। संभवतया उन्हें चक्कर आया हो या मालगाड़ी देखकर घबराहट में फिसलकर गिर गए हों। फिलहाल मर्ग कायम कर विवेचना में लिया है।
बेटे की होना थी दीवाली बाद शादी
इधर, परिजनों से चर्चा में मालूम चला कि मृतक राजेंद्र शर्मा के दो बच्चे थे। बेटी की शादी हो चुकी थी, जबकि बेटे की दीवाली बाद शादी की चर्चाएं चल रही थीं। इस तरह पिता का अपने बेटे की शादी करने का सपना अधूरा रह गया। वहीं परिवार में गम का माहौल पसर गया है। वहीं परिजनों का कहना था कि रुठियाई और शिवपुरी कैंटीन पर मैनेजर थे, जिससे आठ-पंद्रह दिनों में पहुंचते थे। इस बीच परिजन कहते रहे कि ऐसा मालूम होता, तो उन्हें अकेले नहीं जाने देते।
कोलारस। नईदुनिया न्यूज
गुना-शिवपुरी रेलवे ट्रेक का निर्माण पूरा होने के बाद लगभग 31-32 वर्ष पहले इस रूट पर गुना से ग्वालियर पेसैंजर ट्रेन का संचालन शुरू हुआ। कई सालों तक एक ही ट्रेन चलने के साथ धीरे-धीरे ट्रेक पर ट्रेनों की संख्या में बढ़ती गई और प्रतिदिन 9 ट्रेन शिवपुरी की ओर से गुना की ओर दौड़ रही हैं। वहीं गुना से शिवपुरी की ओर भी नौ ट्रेनों का संचालन हो रहा है, लेकिन कोलारस में सिर्फ एक ट्रेन का ही स्टापेज है। जिस तरह ट्रेनों की संख्या में इजाफा किया गया उस अनुपात में कोलारस में स्टापेज नहीं रखे गए जिससे कोलारस क्षेत्र के लोगों को सीधे मुंबई, इंदौर, ग्वालियर, झांसी, देहरादून, चंडीगढ़, अमृतसर की यात्रा करने में असुविधा
...
more...
का सामना करना पड़ रहा है।
कोलारस क्षेत्र के लोगों ने क्षेत्र के सांसद से लेकर रेल मंत्री तक को ट्रेनों के स्टापेज के लिए ज्ञापन सौंपकर मांग की, लेकिन कोलारसवासियों की मांग को नजर अंदाज किया जाता रहा है। कोलारस रेलवे स्टेशन से प्रतिदिन नौ रेलगाड़ियां इंदौर की ओर जाती हैं और इतनी ही ट्रेन यहां से ग्वालियर की ओर चलती हैं। ग्वालियर से गुना चलने वाली पैसेंजर ट्रेन के स्टापेज के अलावा अन्य एक्सप्रेस ट्रेन यहां नहीं रूकती। गुना से ग्वालियर ट्रेन का ही एकमात्र स्टापेज है। इसके अलावा सप्ताह में दो दिन चलने वाली देहरादून एक्सप्रेस का लाभ भी कोलारसवासियों को नहीं मिल पा रहा है। खासतौर पर लंबी दूरी की सुपर फास्ट ट्रेनों का स्टापेज नहीं होने से लोगों को ट्रेन सुविधा का लाभ नहीं मिल रहा है।
ट्रेन रोको आंदोलन करने पर भी नहीं हुआ स्टापेज
शिक्षा एवं व्यापार के लिहाज से कोलारस के विद्यार्थियों, व्यापारियों एवं आमजनों का प्रतिदिन ही इंदौर, दिल्ली, ग्वालियर एवं महाराष्ट्र आना- जाना बना रहता है इसलिए यहां के विद्यार्थियों से लेकर आमजन क्षेत्र के पूर्व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया को ज्ञापन दे चुके हैं लेकिन ट्रेन स्टापेज नहीं हुए। अखिल विद्यार्थी परिषद ने सात-आठ वर्ष पहले कोलारस स्टेशन पर रेल रोको आंदोलन कर रेल मंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा था लेकिन एक भी सुपर फास्ट का स्टॉपेज नहीं हुआ। कहने को कोलारस से एक दर्जन से अधिक ट्रेन गुजरती हैं लेकिन बड़े शहरों से जोड़ने के लिए रूकना भी जरूरी है। इंदौर से ग्वालियर जाने वाली इंटरसिटी से हर रोज यात्री आते हैं जैसे ही ट्रेन कोलारस स्टेशन पर धीमी होती है तो मुसाफिर उतरने का प्रयास करते हैं और जल्दीबाजी में यहां अप्रिय घटनाएं भी हो चुकी हैं।
वर्तमान में ये ट्रेन नहीं रुकती यहां
- हर गुरूवार को इंदौर जाने वाली अमृतसर से इंदौर एक्सप्रेस।
- हर शनिवार को गुना की ओर जाने वाली चंडीगढ़-इंदौर एक्सप्रेस।
- हर सोमवार झांसी से चलने वाली बांदा एक्सप्रेस।
- हफ्ते में चार दिन चलने वाली ग्वालियर से इंदौर जाने।
- भोपाल से ग्वालियर।
- इंदौर से देहरादून।
- इंदौर से भिंड।

Rail News
7493 views
Sep 14 (12:44)
😘😘U P Sampark kranti is proud of bundelkhand 😎�
bamdevnagariBanda~   330 blog posts
Re# 5065790-1            Tags   Past Edits
'Banda' nhi 'bandra' express hai. Vaise bhi bhai bundelkhand se itni train nhi chalata ir
Aug 27 (14:46) Gwalior Railway News: रेलवे स्टेशन के पुर्ननिर्माण का रास्ता साफ, 2022 से चलेगी वंदेभारत एक्सप्रेस ट्रेन (www.naidunia.com)
IR Affairs
NCR/North Central
0 Followers
40321 views

News Entry# 463076  Blog Entry# 5052032   
  Past Edits
Aug 27 2021 (14:46)
Station Tag: Badarwas/BDWS added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 27 2021 (14:46)
Station Tag: Shivpuri/SVPI added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 27 2021 (14:46)
Station Tag: Ashok Nagar/ASKN added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 27 2021 (14:46)
Station Tag: Maksi Junction/MKC added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 27 2021 (14:46)
Station Tag: Guna Junction/GUNA added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 27 2021 (14:46)
Station Tag: Sheopur Kalan/SOE added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 27 2021 (14:46)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 27 2021 (14:46)
Station Tag: Gwalior Junction/GWL added by Adittyaa Sharma/1421836
Gwalior Railway News: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। ग्वालियर में 250 करोड़ की लागत से बनने वाले रेलवे स्टेशन के टेंडर अक्टूबर में डाले जाएंगे। इससे ग्वालियर रेलवे स्टेशन के पुनर्निर्माण का रास्ता साफ हो गया है। यह बात रेलमंत्री अश्वनी वैष्णव ने नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया से मुलाकात के दौरान कही। इस दौरान केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने चंबल अंचल में रेलवे से संबंधित कई विषयों को रेल मंत्री के सामने रखा, जिन्हें हल करने का उन्होंने आश्वासन दिया है। रेल मंत्री ने वंदेभारत ट्रेन को अक्टूबर से दिसंबर 2022 के बीच चलाने पर भी सहमति दी है। वहीं सिंधिया ने कहा कि वह ग्वालियर-चंबल अंचल में हवाई सेवा बढ़़ाने का प्रयास कर रहे हैं। इसी प्रकार रेल सेवा भी बढ़़ जाएगी तो क्षेत्र का विकास संभव हो सकेगा।
गुरुवार
...
more...
को नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने दिल्ली में रेल मंत्री अश्वनी वैष्णव से मुलाकात कर कहा कि ग्वालियर रेलवे स्टेशन के विकास एवं विस्तार के लिए 23 जून 2021 को प्रस्ताव प्रस्तुत किया जा चुका है, इसे जल्द स्वीकृत करें। इस पर रेल मंत्री ने आश्वासन दिया कि अक्टूबर में टेंडर आमंत्रित करने के निर्देश अधिकारियों को दिए गए हैं। इसके बाद उन्होंने दिल्ली से ग्वालियर के बीच वंदे भारत ट्रेन को चलाने की बात की। रेलमंत्री ने इस पर सहमति प्रदान करते हुए कहा कि 2022 में अक्टूबर से दिसंबर के मध्य यह ट्रेनें संचालित की जाएंगी।
सिंधिया की मांग पर रेल मंत्री ने ये दिया आश्वासन
सिंधिया: ग्वालियर-श्योपुर रेलखंड का गेज परिवर्तन किया जा रहा है, इसके पर्याप्त बजट की स्वीकृति दी जाए। जिससे कार्य तेज गति से हो सके।
रेल मंत्री: बजट में बढ़़ोतरी के साथ ही इस कार्य को तेज गति से करने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं।
सिंधिया: ग्वालियर-गुना मक्सी रेलखंड के ट्रैक का दोहरीकरण किया जाए। इसके सर्वे की रिपोर्ट 2017 में रेलवे बोर्ड को मिल चुकी है।
रेल मंत्री: इस कार्य के प्रस्ताव का परीक्षण किया जाएगा। साथ ही फिलहाल अभी सिंगल ट्रैक पर सिग्नलिंग कार्य प्रस्तावित है, जिससे अभी चल रही ट्रेनों की गति में 30 से 40 प्रतिशत की बढ़़ोतरी हो सकेगी।
सिंधिया: ग्वालियर रेलवे स्टेशन पर लोकमान्य तिलक टर्मिनल, हरिद्वार सुपरफास्ट 02171-02172, हजरत निजामुद्दीन यशवंतपुर सुपरफास्ट एक्सप्रेस 02630-02629 एवं हजरत निजामुद्दीन त्रिरुपति एक्सप्रेस 02782-02781 व हजरत निजामुद्दीन सिंगरौली एक्सप्रेस सुपरफास्ट 00168-22167 के स्टापेज का आग्रह किया।
रेल मंत्री: ग्वालियर स्टेशन पर पहले से अधिक ट्रेनों के ठहराव होने के बाद भी हजरत निजामुद्दीन, त्रिरुपति एक्सप्रेस के स्टापेज के निर्देश दिए हैं।
सिंधिया: गुना जिले के म्याना स्टेशन पर इंदौर इंटरसिटी, अशोकनगर में साबरमती एक्सप्रेस एवं जोधपुर-भोपाल एक्सप्रेस का ठहराव किया जाए।
रेल मंत्री: इस ठहराव की मंजूरी दी है, अब यहां इंदौर इंटरसिटी रुक सकेगी। इसके साथ ही साबरमती व जोधपुर-भोपाल एक्सप्रेस के ठहराव को भी मंजूरी दी है।
सिंधिया: शिवपुरी जिले के बदरवास रेलवे स्टेशन पर भिंड-इंदौर इंटरसिटी एक्सप्रेस, ग्वालियर-इंदौर इंटरसिटी एक्सप्रेस का ठहराव किया जाए।
रेल मंत्री : इन दोनों ट्रेनों के ठहराव की मंजूरी दी है।
सिंधिया: ग्वालियर दमोह एवं कोटा, इटावा ट्रेनों का संचालन फिर से प्रारंभ किया जाए।
रेल मंत्री: जल्द ही इनका संचालन करने की अनुमति दी है।
सिंधिया: बांद्रा एक्सप्रेस व इंदौर-चंडीगढ़ एक्सप्रेस का ठहराव बदरवास स्टेशन पर किया जाए। इसके साथ ही बदरवास स्टेशन का विकास कार्य फिर से शुरू कराया जाए।
रेल मंत्री: इंदौर-चंडीगढ़़ ट्रेन के ठहराव को मंजूरी दी है। इसके साथ ही बदरवास स्टेशन की लंबाई बढ़़ाने के निर्देश दिए हैं।

Rail News
36208 views
Aug 27 (15:26)
NCR is Pride of IR
Mridul^~   43095 blog posts
Re# 5052032-1            Tags   Past Edits
Deserving demands.

35935 views
Aug 27 (15:41)
Ban all chinese mobiles
Sagnikdhn25~   1069 blog posts
Re# 5052032-2            Tags   Past Edits
jhansi skip aregi to apke liye sone pe suhaga hoga

33961 views
Aug 27 (16:15)
NCR is Pride of IR
Mridul^~   43095 blog posts
Re# 5052032-3            Tags   Past Edits
It is not possible until Railway will not be privatized. Skipping Jhansi is completely impossible with current infrastructure.

In future if they will move for Auto driving or Cab signaling with some additional features then it may be possible.
Aug 26 (07:22) केन्द्रीय मंत्री सिंधिया ने रेलमंत्री को लिखा पत्र:कहा ग्वालियर-गुना-मक्सी रेलमार्ग के 400 किलोमीटर के सिंगल ट्रैक को डबल कर दिया जाए तो क्षेत्र का विकास होगा (dainik-b.in)
WCR/West Central
0 Followers
12286 views

News Entry# 462887  Blog Entry# 5050600   
  Past Edits
Aug 26 2021 (07:22)
Station Tag: Shivpuri/SVPI added by Need stoppage of Singrauli Exp/1887927

Aug 26 2021 (07:22)
Station Tag: Guna Junction/GUNA added by Need stoppage of Singrauli Exp/1887927

Aug 26 2021 (07:22)
Station Tag: Gwalior Junction/GWL added by Need stoppage of Singrauli Exp/1887927
केन्द्रीय नागर विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अब ग्वालियर-गुना और मक्सी रेलवे मार्ग के विकास के लिए रेल मंत्री अश्वनी वैष्णव को पत्र लिखा है। उन्होंने पत्र लिखकर रेल मंत्री को बताया है कि यह ग्वालियर से गुना और मक्सी के बीच करीब 400 किलोमीटर का रेलमार्ग सिंगल ट्रैक है। जिस कारण यहां ट्रेनों का आवागमन कम हो रहा है।
इससे क्षेत्र का विकास नहीं हो पा रहा। लम्बी दूरी की ट्रेनों के इस ट्रैक पर न आ पाने के कारण यहां के स्टेशनों पर भी विकास नहीं हो पा रहा है। यदि इस सिंगल मार्ग को डबल कर दिया जाए तो न केवल विकास के द्वार खुलेंगे बल्कि लम्बी दूरी की ट्रेने इस रूट पर दौड़ने से यहां के लोगों को
...
more...
फायदा मिलेगा।
राज्यसभा सांसद व भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया जब से केन्द्रीय नागर विमानन मंत्री बने हैं वह हवाई सेवाओं का लगातार विकास कर रहे हैं। प्रदेश के साथ ही ग्वालियर-चंबल संभाग में हाल ही में कई बड़े शहरों और स्टेट के लिए सीधे हवाई सेवा शुरू की गई है। इसके साथ-साथ वह अन्य सेवाओं पर भी पूरी नजर बनाए हुए हैं। अब उनका ध्यान अपने गढ़ ग्वालियर-गुना के बीच रेल मार्ग पर है। ग्वालियर से गुना और मक्सी के बीच करीब 400 किलोमीटर का रेलवे ट्रैक सिंगल है। यहां डबल ट्रैक न होने के कारण ज्यादा ट्रेनों का आवागमन नहीं हो पाता है। ऐसे में इन क्षेत्रों में विकास की संभावनाएं भी सीमित हो जाती हैं। इसलिए केन्द्रीयमंत्री सिंधिया ने रेलमंत्री अश्वनी वैष्णव को पत्र लिखकर इस 400 किलोमीटर के सिंगल ट्रैक को डबल ट्रैक करने की मांग की है।
Page#    Showing 1 to 20 of 119 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Desktop site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy