Full Site Search  
Sat Jan 20, 2018 04:56:34 IST
PostPostPost Stn TipPost Stn TipUpload Stn PicUpload Stn PicAdvanced Search
Large Station Board;
Large Station Board;


SGG/SultanGanj (3 PFs)
سولطان گنج     सुलतानगंज

Track: Construction - Double-Line Electrification

Type of Station: Regular
Number of Platforms: 3
Number of Halting Trains: 55
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
NH 80, Sultanganj
State: Bihar
add/change address
Elevation: 44 m above sea level
Zone: ER/Eastern
Division: Malda Town
 
 
No Recent News for SGG/SultanGanj
Nearby Stations in the News

Rating: 4.1/5 (29 votes)
cleanliness - excellent (4)
porters/escalators - good (4)
food - good (4)
transportation - good (4)
lodging - good (3)
railfanning - good (3)
sightseeing - excellent (3)
safety - good (4)

Nearby Stations

AJUG/Abjuganj 2 km     KMGH/Kamarganj 5 km     MVV/Maheshi 5 km     GNNA/Gangani 8 km     KAPP/Khariapipra Halt 10 km     AKN/Akbarnagar 10 km     KRPA/Khariapipra Halt 10 km     GOG/Ghorghat 11 km     CTMP/Chhit Makhanpur 13 km     KPRD/Kalyanpur Road 14 km    

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 47 News Items  next>>
Jan 03 2018 (08:47)  रेलवे हुआ अलर्ट, 24 घंटे ट्रैक मॉनीट¨रग शुरू (m.jagran.com)
back to top
ER/Eastern  -  

News Entry# 325985     
   Past Edits
Jan 03 2018 (08:47)
Station Tag: Abhaipur/AHA added by amishkumar~/1702584

Jan 03 2018 (08:47)
Station Tag: Kiul Junction/KIUL added by amishkumar~/1702584

Jan 03 2018 (08:47)
Station Tag: Bhagalpur Junction/BGP added by amishkumar~/1702584

Jan 03 2018 (08:47)
Station Tag: SultanGanj/SGG added by amishkumar~/1702584

Jan 03 2018 (08:47)
Station Tag: Jamalpur Junction/JMP added by amishkumar~/1702584
 
 
मुंगेर। ज्यादा ठंड और कोहरा पड़ने से रेल पटरियों में सिकुड़ने (छोटा) के मामले बढ़ जाते हैं, और ट्रेन पहिए के दवाब से पटरियों के टूटने की संभावना बनी रहती है। दूसरे जोन में हाल के दिनों में पटरी टूटने से हुए रेल दुर्घटना के बाद मालदा मंडल ठंड और कोहरे में किसी तरह का रिस्क लेना नहीं चाह रही है। सुरक्षित और सुगम परिचालन को लेकर रेलवे ने इस बार खास तैयारी की है। साहिबगंज-किऊल रेलखंड पर पेट्रो¨लग टीम तैनात रहेंगे। रेल पटरियों की जांच के लिए अलग-अलग टीम बनाई गई है। यह टीम हर पांच किलोमीटर पर पटरियों की जांच करेंगे। रेलवे के अधिकारी ने बताया कि ज्यादा ठंड पड़ने पर शाम चार बजे से लेकर रात 12 और रात 12 बजे से लेकर सुबह आठ बजे तक रेलवे ट्रैक की जांच करने की व्यवस्था की गई है। जांच में एक-एक जोड़ी टीम नाथनगर से अकबरनगर, अकबर नगर से...
more...
सुल्तानगंज, सुल्तानगंज से गनगनिया, गननिया से कल्याणपुर रोड स्टेशन और कल्याणपुर रोड स्टेशन से बरियापुर, बरियापुर से जमालपुर, जमालपुर से अभयपुर-कजरा, कजरा से धनौरी तक गैंग मैन चौकस रहेंगे। जांच के बाद संबंधित स्टेशन मास्टर से पेट्रोल बुक में अपनी उपस्थिति दर्ज करेंगे। टीम को निर्देश दिया गया है कि जरा सा भी शक या कोई दिक्कत होने पर इसकी सूचना अविलंब संबंधित स्टेशन और अपने अधिकारियों को देंगे।
-----------------------
बॉक्स
पहले भी टूट चुकी हैं पटरियां :
ज्यादा ठंड में घोरघट से अभयपुर के बीच पटरियां पहले भी टूट चुकी है। रेलवे ठंड और कोहरे में ट्रेन परिचालन को लेकर पहले से ही अलर्ट हो गया है। पेट्रो¨लग को लेकर कई तरह के निर्देश दिए गए हैं।
---------------------
बॉक्स
कई जगहों पर लगाया गया कॉशन :
सुरक्षित परिचालन को लेकर कई जगहों पर बीस से चालीस और किलोमीटर का कॉशन लगाया गया है। पैसेंजर से लेकर एक्सप्रेस गाड़ियों की रफ्तार कॉशन वाले जगहों पर काफी कम हो जाती है।
Dec 06 2017 (12:15)  जीएम पहुँचे भागलपुर, कहा भागलपुर दुमका लाइन पर जल्द बढ़ेगी ट्रेनें (www.dailybiharnews.in)
back to top
New Facilities/TechnologyER/Eastern  -  

News Entry# 324079   Blog Entry# 2857133     
   Past Edits
Dec 06 2017 (12:15)
Station Tag: SultanGanj/SGG added by Neeraj Thakur~/1683616

Dec 06 2017 (12:15)
Station Tag: Banka Junction/BAKA added by Neeraj Thakur~/1683616

Dec 06 2017 (12:15)
Station Tag: Dumka/DUMK added by Neeraj Thakur~/1683616

Dec 06 2017 (12:15)
Station Tag: Bhagalpur Junction/BGP added by Neeraj Thakur~/1683616
 
 
भागलपुर; अभी अभी रेलवे के जीएम भागलपुर पहुँचे हैं, उनके साथ उनकी पूरी टीम पहुचीं है. भागलपुर-दुमका रेलखंड का निरीक्षण करने के बाद पूर्व रेलवे के जीएम हरेन्द्र रॉव ने माना कि इसपर ट्रेनों की संख्या बढ़ने से यात्रियों को अच्छी कनेक्टिविटी मिलेगी. उन्होंने कहा कि जल्द ही वह समय आएगा जब इस लाइन पर ट्रेनें बढ़ेंगी. इसलिए ट्रैक को बेहतर बनाया जाएगा. पूरे रेलखंड का निरीक्षण करने के बाद जीएम भागलपुर में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे. जीएम ने भागलपुर-रांची एक्सप्रेस सेवा बंद होने के बाबत कहा कि इसके एवज में वनांचल एक्सप्रेस में अतिरिक्त कोच लगाने की दिशा में पहल की जा रही है.

जीएम
...
more...
ने घोषित रेल परियोजना सुल्तानगंज-बांका सेक्शन पर निर्माण कार्य शुरू नहीं होने के बारे में कहा कि पूरे जोन में रेलवे निर्माण विभाग का सलाना बजट महज 1400 करोड़ है जबकि लंबित परियोजनाएं 20 हजार करोड़ से भी अधिक की हैं. ऐसे में एक साथ हर जगह काम कराना मुश्किल है. पर हमलोग अपनी तरफ पुरि कोशिस कर रहे हैं. इसलिए काम प्राथमिकता के अनुसार ही तय किए जाएंगे. उन्होंने कहा कि कई जगहों पर रेलवे की योजनाओं को क्रियान्वित करने में रेलवे की जमीन पर अतिक्रमण और जमीन संबंधित विवाद भी काम में देरी की प्रमुख वजह है. बरहाल समाचार लिखे जाने तक जीएम जाने की तैयारी कर रहे थे.

1 posts - Wed Dec 06, 2017 - are hidden. Click to open.

1711 views
Dec 08 2017 (13:37)
Avijeet Mishra   360 blog posts
Re# 2857133-2            Tags   Past Edits
BGP-HWH train should be run via Dumka
Nov 01 2017 (06:16)  श्रमिक ट्रेन के बंद होने से रेलकर्मियों में क्षोभ (m.livehindustan.com)
back to top
ER/Eastern  -  

News Entry# 321435     
   Past Edits
Nov 01 2017 (06:16)
Station Tag: Kajra/KJH added by amishkumar48~/1702584

Nov 01 2017 (06:16)
Station Tag: SultanGanj/SGG added by amishkumar48~/1702584

Nov 01 2017 (06:16)
Station Tag: Jamalpur Junction/JMP added by amishkumar48~/1702584
 
 
जमालपुर से कजरा और जमालपुर से सुल्तानगंज तक जमालपुर रेल कारखाना में काम करने वाले श्रमिकों के लिए चलने वाली 155 साल पुरानी श्रमिक ट्रेन के एक नवंबर से बंद होने से एक ओर जहां रेलकर्मियो को आवागमन की परेशानी सता रही है तो वहीं दूसरी ओर बिना किसी कारण के इस ट्रेन के बंद करने से रेलकर्मियों में आक्रोश देखा जा रहा है।
मंगलवार को 155 साल पुरानी श्रमिक ट्रेन से आखिरी सफर को लेकर रेलकर्मियों की प्रतिक्रिया जाननी चाही तो उन्होंने अपनी अलग अलग प्रतिक्रिया रखी। कजरा और मसूदन से आने वाले रेलकर्मी विरेन्द्र यादव व छितनी यादव ने बताया कि श्रमिक गाड़ी को बंद करने का रेल प्रशासन का फैसला बिल्कुल गलत है। केन्द्र सरकार लगातार जमालपुर कारखाना से
...
more...
जुड़े विभागों व पदों को समाप्त कर रही है। अब बिना किसी वजह के श्रमिकों के लिए चलाए जाने वाली ट्रेन को बंद कर देना सरासर गलत है।
वहीं धरहरा से आने वाली यशोदा देवी और खड़गपुर से आने वाले रामजी हेम्ब्रम ने बताया कि नियत समय पर ड्यूटी पर आने के लिए अब हमें 40 रुपए अतिरिक्त खर्च करना पड़ेगा तब भी समय पर ड्यूटी पहुंचने की चिंता बनी रहेगी।
बंगलवा के सोमर मरांडी व बरियारपुर के राजकुमार ने बताया कि कारखाना की स्थापना के समय से ही चलने वाली श्रमिक ट्रेन बंद करने से पहले रेल प्रशासन को श्रमिकों के आने जाने की वैकल्पिक व्यवस्था करनी चाहिए थी। अचानक श्रमिक ट्रेन को बंद कर देने का फैसला रेल प्रशासन के तुगलकी फरमान को साफ दर्शाता है।
Oct 31 2017 (07:33)  2006 में भी बंद की गई थी एक ट्रेन (m.jagran.com)
back to top
IR AffairsER/Eastern  -  

News Entry# 321328     
   Past Edits
Oct 31 2017 (07:33)
Station Tag: SultanGanj/SGG added by amishkumar48~/1702584

Oct 31 2017 (07:33)
Station Tag: Munger (Monghyr)/MGR added by amishkumar48~/1702584

Oct 31 2017 (07:33)
Station Tag: Jamalpur Junction/JMP added by amishkumar48~/1702584
 
 
मुंगेर। रेल कारखाना बनने के बाद धनौरी से जमालपुर, जमालपुर से सुल्तानगंज एवं जमालपुर से मुंगेर के बीच तीन जोड़ी श्रमिक ट्रेन का परिचालन शुरू किया गया था। तीनों गाड़ियां सुबह 6 और 7 बजे के बीच खुलती थी और श्रमिकों को लेकर जमालपुर वापस पहुंचती थी। इस बीच 2006 में मुंगेर तक चलने वाली ट्रेन को बंद कर दिया गया। इसके बाद 11 सालों तक दो गाड़ियां चलीं।
-------
50 लाख खर्च, एक लाख आमदनी
श्रमिक
...
more...
ट्रेन के परिचालन में रेलवे को हर महीने 40 से 50 लाख रुपये खर्च करने पड़ते थे। इससे महज एक लाख रुपये तक ही राजस्व की प्राप्ति होती थी। इसमें सफर करने वाले श्रमिक मासिक पास लेकर सफर करते हैं। रेलवे ने राजस्व वसूली में घाटा को दर्शाते हुए इसका परिचालन बंद कर दिया। अब यह गाड़ी एक नवंबर से सदा के लिए इतिहास में गुम हो जाएगी।
---------------
दशकों तक साथ देने के बाद बीच मजधार में छोड़ा
श्रमिक गाड़ी का परिचालन बंद होने का दुख सभी को है। लोग कहते हैं कि रेलवे एक समुद्र है, जिसमें नित नई गाड़ियां आती रहेंगी। वहीं श्रमिकों का कहना है कि इस ट्रेन के सभी आठ डिब्बे सामान्य श्रेणी यानी अनारक्षित श्रेणी के थे। इस कारण इसे वास्तविक मायने में मजदूर रथ माना जाता था। यह गाड़ी आम लोगों को अपनी खास गाड़ी होने का आभास कराती थी। लोग इसे कुली स्पेशल ट्रेन नाम से भी जानते थे। कल तक यह गाड़ी किसी एक्सप्रेस ट्रेन से कम नहीं थी। क्योंकि यह हमेशा समय पर चलती थी। लेकिन हाल के दिनों में घटित आपराधिक घटनाओं के कारण यह बदनाम हो गई थी। यह सभी गांव के आसपास स्टेशनों पर रुकती थी।
------------
धीरे-धीरे घट रही थी संख्या
दो साल पहले कारखाना में लगभग 15 हजार के करीब हुनरमंद कारीगर इस ट्रेन से कारखाना काम करने आते थे और घर लौटते थे। जमालपुर रेल कारखाना के श्रमिकों के लिए तीन दिशाओं जमालपुर से कजरा, जमालपुर से सुलतानगंज तथा जमालपुर से मुंगेर तक श्रमिक ट्रेनों का परिचालन होता था। लेकिन लगातार रेल कर्मियों के सेवानिवृत्त होने तथा नई बहाली नहीं होने के कारण कारखाना में श्रमिकों की संख्या लगातार घटती जा रही थी और श्रमिक की कमी के कारण राजस्व में कमी आ रही थी। इसके कारण रेलवे प्रशासन को इसका परिचालन बंद करने का निर्णय लेना पड़ा। इसका परिचालन बंद होने से पूर्व वर्ष 2010 से ही कर्मियों और मजदूरों को रेलवे द्वारा परिवहन भत्ते का भुगतान किया जा रहा था। सभी श्रमिक प्रतिमाह अपने वेतन के अनुसार परिवहन भत्ता का लाभ ले रहे हैं। ऐसे में सुलतानगंज और कजरा तक चलने वाली श्रमिक ट्रेन का परिचालन बंद करना रेलवे की मजबूरी बन गई थी।
-----------
प्रतिमाह श्रमिको को मिलेगा 1800 रुपये परिवहन भत्ता
श्रमिक ट्रेन बंद होने के बाद रेल कारखाना ने वैकल्पिक रास्ता तैयार कर लिया है। मजदूरों को अपने घर से आने-जाने के लिए हर महीने रेलवे उन्हें 1800 रुपये यात्रा भत्ता के रूप में भुगतान करेगी। इस भत्ता से मजदूर और कर्मी सड़क और रेल मार्ग से कारखाना पहुंचेंगे।
मुंगेर। मालदा मंडल के जमालपुर- भागलपुर रेलखंड के अकबरनगर सुलतानगंज स्टेशन के बीच मंगलवार की सुबह हावड़ा जमालपुर सुपर एक्सप्रेस ट्रेन की चपेट में आने से एक जानवर कट गया। जिससे इस रूट के अप लाइन में ट्रेनों का परिचालन लगभग एक घंटे तक प्रभावित रहा। ट्रेनों के परिचालन के प्रभावित रहने के कारण यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा।
मिली जानकारी के अनुसार सुबह लगभग 7:25 बजे हावड़ा जमालपुर सुपर एक्सप्रेस ट्रेन अगबरनगर से सुल्तानगंज पहुंचने वाली थी। इसी बीच अप लाइन पर एक घोड़ा ट्रेन के इंजन की चपेट में आ गया। घोड़े का शव भी इंजन में फंस गया। जिस कारण ट्रेन सुल्तानगंज स्टेशन रेलकर्मियों द्वारा लगभग एक घंटे की मशक्कत के बाद घोड़े के शव को
...
more...
इंजन से निकाला गया। जिसके बाद परिचालन सामान्य हुआ। लेकिन इस बीच लगभग आधे दर्जन ट्रेन विभिन्न स्टेशनों पर रूकी रही। उल्लेखनीय है कि पिछले एक वर्ष में इस रूट पर ट्रेन की चपेट में जानवर के कट कर मरने की यह चौथी घटना है।
------------------
विलंब से चली ट्रेनें
- 13133 अप सियालदह वाराणसी एक्सप्रेस 5 घंटा
- 13023 अप हावडा गया एक्सप्रेस 4 घंटा
- 13071 अप हावडा जमालपुर सुपर एक्सप्रेस 2 घंटा
- 13241 अप बांका राजेंद्रनगर इंटरसिटी एक्सप्रेस 1 घंटा
- 22405 अप गरीबरथ एक्सप्रेस 4 घंटा
- 12368 डाउन बिक्रमशीला एक्सप्रेस 3 घंटा
- 14056 ब्रह्म्पुत्र मेल 6 घंटा
Page#    Showing 1 to 20 of 47 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.