Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Admin
 Followed
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt

Follow my Trip (beta) Android app

Dadar/Pathankot Express - ਤੇਰੇ ਬਿਨ ਮਰ ਜਾਣਾ

Search News
<<prev entry    next entry>>
News Entry# 383294
  
अवधेश की इस गिरफ्तारी का कई लोगों ने समर्थन किया तो कई लोग विरोध भी कर रहे हैं.
नेताओं का मजाक उड़ाते हुए ट्रेन में खिलौने बेचने वाले हॉकर को सूरत रेलवे स्टेशन पर गिरफ्तार कर लिया गया है. इस शख्स की पहचान अवधेश दुबे के तौर पर हुई है. अभी कुछ  दिनों पहले अवधेश का एक वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ था, जिसमें वे नरेंद्र मोदी, सोनिया गांधी और राहुल गांधी से लेकर बराक ओबामा जैसे कई नेताओं का मजाक बनाते हुए यात्रियों को अपना सामान बेच रहे थे.  रेलवे पुलिस फोर्स (RPF) के अधिकारी ने बताया कि अवधेश को शुक्रवार को सूरत रेलवे स्टेशन पर ट्रेन नंबर 17204 के स्लीपर कोच में अनाधिकृत रूप से सामान बेचने
...
more...
के कारण गिरफ्तार कर लिया गया. उनके खिलाफ रेलवे एक्ट 1989 के तहत संबंधित धाराओं में मामला दर्ज कर लिया गया है.
अवधेश के खिलाफ CR 1228/19 U/S 144(A),145(B),147 RA के तहत मामला दर्ज कर लिया गया. इसके बाद शनिवार को आरपीएफ ने अवधेश को स्थानीय कोर्ट में पेश किया, जहां उसने अपना अपराध स्वीकार कर लिया. यहां अवधेश को 10 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजने के साथ ही उस पर 3500 रुपए का जुर्माना लगाया गया है. 
अवधेश की इस गिरफ्तारी का कई लोगों ने समर्थन किया तो कई लोग विरोध भी कर रहे हैं. आकाश बनर्जी ने अवधेश का वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा, 'आतंकवाद के आरोपी संसद जा सकते हैं लेकिन मजाकिया खिलौना विक्रेता और मोदी समर्थक आकाश दुबे  एक ईमानदार जीवन जीने की कोशिश कर रहे हैं, तो उन्हें आरपीएफ द्वारा हिरासत में लिया गया है.  फिर 10 दिनों के लिए जेल भेज दिया गया क्योंकि उनक पास 'परमिट' नहीं था. अगली बार ये सवाल न करें कि भारतीय उद्यमी बनने से क्यों  डरते हैं.'

8 Public Posts - Sun Jun 02, 2019

1 Public Posts - Mon Jun 03, 2019

  
4102 views
Jun 03 (08:06)
Spark   918 blog posts
Re# 4333297-10            Tags   Past Edits
I Support him this is utter politics.
Day by day we are losing sense humour.

  
4095 views
Jun 03 (08:12)
©The Dark Lord™~   10063 blog posts   2 correct pred (67% accurate)
Re# 4333297-11            Tags   Past Edits
Jo video banaya usko dharo. Sasura mobile na ho gaya babaseer ho gaya, din raat video banate rehte hai. Bechara Gareeb aadmi ko jail bhejwa diya.

  
4114 views
Jun 03 (08:22)
Saurabh®^~   17132 blog posts   167 correct pred (70% accurate)
Re# 4333297-12            Tags   Past Edits
Haan , sahi kaha. Jyadatar illegal vendors har hafte RPF/GRP constables ko apna hissa dete hain, jisse wo ye Sab legal procedures se bache rehte hain.
Is case me public ke uska video bana ke popular karne se is vendor ko bhi galat encouragement mila ki ye sab karke wo jyada paisa kamayega. Isliye baar baar pakda ke bhi yehi karta raha. May be popular hone se GRP waalo ne is baar jyada paise maange honge.

  
4115 views
Jun 03 (08:52)
Ratnakar^~   6454 blog posts   5516 correct pred (85% accurate)
Re# 4333297-13            Tags   Past Edits
Sab GRP/RPF ki milibhagat hai bhai. Suraksha ki unhe kabhi nahi padi hoti. Train mein escort karte hain to maximum ek - do baar ghum ke waapis ac coach mein aaram. 1-2 ko kabhi-kabhar pakad ke khanapurti kar dete hain. 2 din baad wo nikal ke waapis wahi dhandha. 2017 mein ECoR kitna claim kiya ki we arrested/punished this much enunchs but kahan nijaat mila usse? Wo bhi hissa deke logon ki jeb se 10 rupye nikal rahe. RPF/GRP se behtar hai ki machine (CCTV, luggage scanners) par bharosa kar lein. Kam se kam rishvat leke apradhi ko chhodti to nahi hai

  
Rail News
4152 views
Jun 03 (11:45)
AK84~   2741 blog posts   2800 correct pred (75% accurate)
Re# 4333297-14            Tags   Past Edits
Wrong reporting by Media...अनाधिकृत रूप से सामान बेचने के कारण गिरफ्तार. This is the actual reason for arrest. Hona bhi chahiye. Nahi hota toh agli Khabar chapti ki "Yatriyon ki Suraksha ke saath Khilwad Railway police Mookdarshak"
Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Desktop site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy