Full Site Search  
Tue Jul 25, 2017 04:23:20 IST
PostPostPost Stn TipPost Stn TipUpload Stn PicUpload Stn PicAdvanced Search
Large Station Board;
Large Station Board;
Large Station Board;
Medium; Station Yard; FOB/Stairs;

GKP/Gorakhpur Junction (10 PFs)
گورکھپور جنکشن     गोरखपुर जंक्शन

Track: Double Electric-Line

Type of Station: Junction
Number of Platforms: 10
Number of Halting Trains: 96
Number of Originating Trains: 73
Number of Terminating Trains: 74
Tel: Rly HQ 0551-2203140/Res. 2200507,2281323,Station Rd near Dharamshala, Gorakhpur 273012
State: Uttar Pradesh
Elevation: 84 m above sea level
Zone: NER/North Eastern
Division: Lucknow NER
23 Travel Tips
No Recent News for GKP/Gorakhpur Junction
Nearby Stations in the News

Rating: 3.8/5 (485 votes)
cleanliness - good (61)
porters/escalators - good (61)
food - good (61)
transportation - good (61)
lodging - good (60)
railfanning - good (61)
sightseeing - good (60)
safety - good (60)

Nearby Stations

GKC/Gorakhpur Cantt. 4 km     DMG/Domingarh 4 km     JEA/Nakaha Jungle 5 km     MIM/Maniram 10 km     UNLA/Unaula 11 km     JTB/Jagatbela 11 km     KHM/Kusmhi 13 km     JKI/Kauriaa Jungle 16 km     SWA/Sahjanwa 17 km     PPC/Pipraich 19 km    

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 2824 News Items  next>>
Jul 23 2017 (18:38)  36 घंटे सफर लेकिन ट्रेन में पेंट्रीकार नहीं (epaper.livehindustan.com)
back to top
Other NewsNER/North Eastern  -  

News Entry# 309304     
   Tags   Past Edits
Jul 23 2017 (18:38)
Station Tag: Gorakhpur Junction/GKP added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Jul 23 2017 (18:38)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Jul 23 2017 (18:38)
Train Tag: Kashi Express/15018 added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Posted by: ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~  6134 news posts
36 घंटे सफर लेकिन ट्रेन में पेंट्रीकार नहीं
नई दिल्ली अरविंद सिंहकाशी एक्सप्रेस गोरखपुर-मुंबई के बीच का सफर तय करने में 36 घंटे (दो दिन एक रात) से अधिक का समय लेती है। फिर भी इस ट्रेन में पेंट्रीकार की व्यवस्था नहीं है। 1710 किलोमीटर (गोरखपुर-मुंबई) के बीच किसी भी रेलवे स्टेशन के बेस किचन से ट्रेन में खाने-पीने की आपूर्ति का प्रावधान भी नहीं किया गया है। नतीजतन, यात्री अवैध वेंडरों की प्रतिबंधित खाद्य सामग्री व अस्वच्छ बोतलबंद पानी से अपनी भूख-प्यास बुझाने पर विवश हैं। कैग ने शुक्रवार को संसद में पेश अपनी रिपोर्ट में इस बात का खुलासा किया है। रेलवे बोर्ड की खानपान नीति 2010 में कहा गया है कि 24 घंटे से अधिक दूरी तय करने वाली
...
more...
ट्रेनों में पेंट्रीकार अनिवार्य है। 12 से 24 घंटे के बीच समय लेने वाली ट्रेनों के यात्रियों के लिए ट्रेन साइड वे¨डग (स्टेशन के बेस किचन से खानपान की आपूर्ति) की व्यवस्था अनिवार्य है। देशभर में ऐसी 17 मेल-एक्सप्रेस व सुपरफास्ट ट्रेनें दौड़ रही हैं जिनके यात्रियों को भूख-प्यास बुझाने को अवैध वेंडरों पर निर्भर रहना पड़ता है।
Jul 23 2017 (18:30)  जीएम ने रेलवे अस्पताल में किया कोल्ड रूम उद्घाटन (epaper.livehindustan.com)
back to top
Commentary/Human InterestNER/North Eastern  -  

News Entry# 309302     
   Tags   Past Edits
Jul 23 2017 (18:30)
Station Tag: Gorakhpur Junction/GKP added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Posted by: ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~  6134 news posts
पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबंधक सत्य प्रकाश त्रिवेदी ने रेल अस्पताल के विभिन्न वाडरें का निरीक्षण किया। श्री त्रिवेदी ने डायलिसिस यूनिट, किचन और मैकेनाइज्ड लांड्री की स्थिति और मरीजों से मिलकर उनका हाल भी जाना। उन्होंने भर्ती मरीजों से उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली एवं उपलब्ध चिकित्सा सेवा के बारे में उनकी राय भी पूछी। इस दौरान जीएम सहित अन्य रेल अधिकारियों ने चिकित्सालय परिसर में पौधरोपण भी किया। इस अवसर पर मुख्य विद्युत इंजीनियर योगेश अस्थाना, मुख्य चिकित्सा निदेशक डॉ. सतीश चन्द्र, मुख्य स्वास्थ्य निदेशक डॉ. सोमई प्रसाद, चिकित्सा निदेशक डॉ. राजीव सक्सेना आदि मौजूद थे।
गोरखपुर वरिष्ठ संवाददातापूर्वोत्तर रेलवे के ललित नारायण मिश्र रेलवे चिकित्सालय के ट्रांजिट औषधि भंडार में नव स्थापित कोल्ड रूम का उद्घाटन शुक्रवार को जीएम सत्यप्रकाश
...
more...
त्रिवेदी ने किया।इसके साथ ही जीएम ने निरीक्षण भी किया और कार्य-प्रणाली के बारे में जानकारी ली। जीवन रक्षक दवाओं को इस कोल्ड रूम में 2 से 8 डिग्री सेंटीग्रेट तापमान पर सुरक्षित रखा जा सकता है। इंसुलेसन के लिए पॉली-यूरेथेन-फोम का प्रयोग किया गया है। श्री त्रिवेदी ने कहा कि चिकित्सा सुविधाओं में विस्तार के तहत यह एक महत्वपूर्ण कदम है। उन्होंने चिकित्सालय में की सेवाओं पर संतोष व्यक्त करते हुए इसमें निरन्तर सुधार किए जाने का निर्देश दिया।
Jul 23 2017 (18:21)  रेलवे की घटिया खानपान की जो पोल खोली है उस पर गोरखपुर से गुजरने वाली वीआईपी ट्रेन वैशाली ,बिहार संपर्कक्रांति और गोरखधाम की पेंट्रीकार ने मुहर लगा दी है। (epaper.livehindustan.com)
back to top
IR AffairsNER/North Eastern  -  

News Entry# 309300   Blog Entry# 2360831     
   Tags   Past Edits
Jul 23 2017 (18:21)
Station Tag: Gorakhpur Junction/GKP added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Jul 23 2017 (18:21)
Train Tag: Bihar Sampark Kranti Express/12565 added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Jul 23 2017 (18:21)
Train Tag: Vaishali SF Express/12553 added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Jul 23 2017 (18:21)
Train Tag: Anga SF Express/12253 added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Jul 23 2017 (18:21)
Train Tag: Gorakhdham SF Express/12555 added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Posted by: ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~  6134 news posts
क्या कहना है यात्रियों का
बिहार सम्पर्क क्रांति 4.45 बजे
वैशाली एक्सप्रेस 5.30 बजे
यह है कैग की रिपोर्ट
पेंट्रीकार से पकड़ी गईं पानी की अवैध बोतलें
दोपहर
...
more...
में खाना मंगाया था। एक तो उसमें कोई स्वाद नहीं था दूसरे सब्जी में सिर्फ आलू ही था। चावल भी पूरा पका नहीं हुआ था। मजबूरन खाना पड़ा। कैग की रिपोर्ट बिल्कुल ठीक है। यही स्थिति है वीआईपी ट्रेनों की।हरिशंकर कुमार, यात्री
गोरखपुर वरिष्ठ संवाददाताकैग ने रेलवे की घटिया खानपान की जो पोल खोली है उस पर गोरखपुर से गुजरने वाली वीआईपी ट्रेन वैशाली और गोरखधाम की पेंट्रीकार ने मुहर लगा दी है। इन ट्रेनों के पेंट्रीकार में मिलने वाला खाना और नाश्ता दूषित पानी में तो बनता ही है, ताजा होने की भी की गारंटी नहीं। कैग की रिपोर्ट आने के बाद ‘हिन्दुस्तान’ ने शनिवार को जब ट्रेनों की पड़ताल की तो किचन में गंदगी तो थी ही, नाश्ते में दिए जाने वाले समोसे और पकौड़े बासी थे। हैरान करने वाली बात यह कि नालियों में डूबी रहने वाली पाइपों से पेंट्रीकार में खाना बनाने के लिए पानी भरा जा रहा था। पानी के जार सिर्फ दिखाने के लिए रखे गए थे। रात में आठ बजे से दिया जाने वाला खाना दोपहर दो बजे ही बन गया था। एक दिन पहले का सना हुआ आटा प्रयोग में लाया जा रहा था। यात्रियों की मुश्किल यहीं खत्म नहीं हो रही है। पेंट्रीकार के वेंडर तय दर से ज्यादा वसूलते है। सात रुपये की चाय 10 रुपये में और 55 रुपये का स्टैंडर्ड खाना 65 रुपये में बेचा जाता है। दाल में सिर्फ पानी, पनीर गायब सिर्फ मटर है मिलता : एक ओर जहां गुणवत्ता विहीन खाना परोसा जा रहा है वहीं जो मिल रहा है उसमें भी कोई स्वाद नहीं है। यात्रियों से बातचीत और खाना-नाश्ता देख यह साफ हो गया दाल और सब्जी खाने लायक नहीं है। दाल में सिर्फ पानी तो आलू-परवल की सब्जी में सिर्फ आलू के टुकड़े। इसी तरह मटर-पनीर की सब्जी में भी पनीर ढूंढे नहीं मिला।
बिहार संपर्कक्रांति के पेंट्रीकार मे खुले में पड़ी खाद्य सामग्री।
वैशाली एक्सप्रेस के पेंट्रीकार में भगौना में पानी भरता कर्मचारी।
प्लेटफार्म नम्बर एक पर वीआईपी ट्रेन वैशाली एक्सप्रेस खड़ी होते ही पेंट्रीकार के कर्मचारी उतरे और वही नाली में डूबी पाइप उठाकर भगौने में पानी भरने लगे। यहां खाना दोपहर डेढ़ बजे ही बना लिया गया था। दाल और सब्जी में पानी की मात्र ज्यादा नजर आ रही थी। किचन की बोतलें भी मानक के खिलाफ थीं।
कैग (नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक)देश भर की अलग-अलग ट्रेनों में परोसे जाने वाले खानपान की पड़ताल कराई थी। इसमें पाया कि यात्रियों को दिया जाने वाला खाना खाने योग्य नहीं है।
गोरखपुर। पेंट्रीकार की जांच करने पहुंची टिकट चेकिंग की टीम ने सम्पर्कक्रांति और वैशाली एक्सप्रेस से पानी की अवैध बोतलें जब्त की। टीम ने पेंट्रीकार मैनेजर से जुर्माना वसूला। साथ ही पेंट्रीकार और अन्य कोच में बैठे बेटिकट यात्रियों से भी 42 सौ रुपये जुर्माना वसूला गया। जांच टीम का नेतृत्व का सीसीआई डीके श्रीवास्तव ने किया। टीम में टीएन पाण्डेय, बीके गुप्ता, आरके खरे आदि रहे।
पेंट्रीकार का खाना तो खाने लायक नहीं है। दिन में पकौड़ा मंगाया था। पकौड़ा तो गर्म था लेकिन उसके अंदर का आलू बासी था। एक ही बार खाने के बाद पकौड़ा फेंक दिया। इस पर कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए। एसएन झा, यात्री

5 posts - Sun Jul 23, 2017 - are hidden. Click to open.

541 views
Yesterday (00:30)
rijwanhassan00   65 blog posts
Re# 2360831-6            Tags   Past Edits
Sahi baat hai main 5 may ko gorakhdham se new delhi jaraha thaa ac second class mein mera birth thaa basti se train khulne ke bad ek vendar khane ka order leraha tha veg thali 120 ka gonda mein khana deliver diya bola tha matar paneer ki sabzi dega khana jab open kiya to matar ke brabar 2 tukda pnaeer tha usmein main galat kiya mujhe yaad nahi raha warna khana treval khana se order karta
Jul 23 2017 (18:02)  गोरखपुर मेट्रो का सर्वे पूरा, 25 तक सौंपी जा सकती है रिपोर्ट (epaper.jagran.com)
back to top
Other NewsNER/North Eastern  -  

News Entry# 309297     
   Tags   Past Edits
Jul 23 2017 (18:02)
Station Tag: Gorakhpur Junction/GKP added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Posted by: ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~  6134 news posts
Click here to enlarge image
जागरण संवाददाता, गोरखपुर: मेट्रो का सर्वे लगभग पूरा हो चुका है। सर्वे कर रही कंपनी एसटीसी (श्वेता टेकभनोफाइल कंसलटेंट प्राइवेट लिमिटेड) 25 जुलाई तक रिपोर्ट राइट्स को सौंप सकती है। अब मेट्रो टीम की पूरी नजर इसके दो यार्ड के लिए जमीन फाइनल करने पर है। इसके लिए जमीनें देख ली गई हैं। इस सप्ताह मेट्रो व राइट्स के अधिकारी शहर आकर यार्ड की जमीन फाइनल कर सकते हैं। 1मेट्रो का डीपीआर (डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट) तैयार करने की जिम्मेदारी राइट्स को सौंपी गई है। राइट्स ने डीपीआर से पूर्व होने वाले सर्वे की जिम्मेदारी एसटीसी को दी थी। एसटीसी ने मेट्रो रूट (श्याम नगर से सूबा बाजार तक तथा गुलरिहा से ट्रांसपोर्ट नगर तक) पर ट्रैफिक लोड,
...
more...
यात्रियों की संख्या, हाउस होल्ड सर्वे आदि का काम गत जून माह में शुरू किया था। सर्वे लगभग पूरा हो चुका है। 1मेट्रो के होंगे दो कॉरीडोर: पहला कॉरीडोर कैंपियरगंज मार्ग को जोड़ते हुए श्याम नगर से सूबा बाजार तक बनाया जाना है, जिसकी कुल दूरी 18 किमी है। मेट्रो श्याम नगर से चलकर फूड कारपोरेशन आफ इंडिया, गोरखनाथ मंदिर, गोरखपुर रेलवे स्टेशन, गोरखपुर बस स्टेशन, एयरपोर्ट, मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय होते हुए सूबा बाजार तक जाएगी। दूसरा कॉरीडोर गुलरिहा से ट्रांसपोर्ट नगर तक बनाया जाना है जिसकी दूरी 12 किमी है। यह कॉरीडोर परतावल मार्ग से शुरू होगा जो बीआरडी मेडिकल कालेज, कचहरी बस स्टैंड होते हुए ट्रांसपोर्ट नगर तक जाएगा।
Jul 23 2017 (17:50)  रेलकर्मी ने छात्र व युवती को बंधक बना रातभर दी यातना (epaper.jagran.com)
back to top
Crime/AccidentsNER/North Eastern  -  

News Entry# 309293     
   Tags   Past Edits
Jul 23 2017 (17:50)
Station Tag: Gorakhpur Junction/GKP added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Posted by: ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~  6134 news posts
प्रताड़ना
जागरण संवाददाता, गोरखपुर : प्लेटफार्म नंबर नौ पर शुक्रवार की रात बातचीत करते मिले छात्र और युवती को रेलकर्मी ने पकड़ लिया। खुद को सिपाही बताते हुए पूछताछ के बहाने अपने आवास पर लेकर चला गया। आरोप है कि रेलकर्मी ने रातभर दोनों को प्रताड़ित किया। शनिवार सुबह रेलवे स्टेशन पर लाकर उन्हें छोड़ा। चंगुल से छूटने के बाद छात्र ने कौवाबाग पुलिस चौकी पहुंचकर घटना की जानकारी दी। रेलकर्मी और छात्र को हिरासत में लेकर शाहपुर पुलिस पूछताछ कर रही है। एसएसपी के निर्देश सीओ गोरखनाथ चारू निगम मामले की छानबीन कर रही हैं। 1पिपराइच क्षेत्र का रहने वाला 20 वर्षीय युवक आइटीआइ का छात्र है। शुक्रवार की रात 10 बजे के करीब वह प्लेटफार्म नंबर नौ पर बैठा था।
...
more...
इसी बीच परेशान हाल में पहुंची युवती ने अपने घर बात करने के लिए उससे मोबाइल मांगा। दोनों को बातचीत करता देख ड्यूटी से घर लौट रहा रेलकर्मी उनके पास पहुंच गया। 1 करने की बात कह मोटरसाइकिल से दोनों को लेकर शाहपुर क्षेत्र में स्थित आवास पर ले गया। कमरे में बंद कर दोनों को रात भर प्रताड़ित किया। यातना से डरी युवती अपने घर चली गई। 1’ सिपाही बताकर रेलवे स्टेशन से दोनों को लेकर चला गया था अपने आवास 1’शाहपुर पुलिस ने रेलकर्मी और युवक को हिरासत में लिया युवती की चल रही तलाशशिकायत के आधार पर रेलवे कर्मचारी से पुलिस पूछताछ कर रही है। छात्र को भी हिरासत में लिया गया है। युवती के बारे में कोई जानकारी नहीं मिली है। सीओ गोरखनाथ जांच कर रही हैं। जल्द ही स्थिति स्पष्ट हो जाएगी। दोषियों पर सख्त कार्रवाई होगी। 1- एसए पंकज, एसएसपी
Page#    Showing 1 to 20 of 2824 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.