Full Site Search  
Sun Jul 23, 2017 08:21:08 IST
PostPostPost Stn TipPost Stn TipUpload Stn PicUpload Stn PicAdvanced Search
Large Station Board;
Large Station Board;
Large Station Board;

JIND/Jind Junction (4 PFs)
جيند جنکشن     जींद जंक्शन

Track: Construction - Double-Line Electrification

Type of Station: Junction
Number of Platforms: 4
Number of Halting Trains: 43
Number of Originating Trains: 15
Number of Terminating Trains: 15
Railway Station Rd, Railway Colony, Jind, Haryana 126102
State: Haryana
Elevation: 228 m above sea level
Zone: NR/Northern
Division: Delhi
No Recent News for JIND/Jind Junction
Nearby Stations in the News

Rating: 3.8/5 (30 votes)
cleanliness - excellent (4)
porters/escalators - good (4)
food - good (4)
transportation - good (4)
lodging - good (3)
railfanning - good (4)
sightseeing - average (3)
safety - good (4)

Nearby Stations

JCY/Jind City 4 km     BSPH/Bishanpur Haryana 7 km     BZO/Barsola 8 km     PPDE/Pandu Pindara Junction 9 km     KIU/Kinana 12 km     SPBK/Sunderpur (barah Kalan) 14 km     SWDE/Siwaha 18 km     UCA/Uchana 19 km     JJT/Jai Jai Wanti 20 km     LTKR/Lalat Khera 21 km    

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 43 News Items  next>>
Jun 11 2017 (08:57)  ट्रेन में बिना टिकट 107 पकड़े, जुर्माना लेकर छोड़ा (m.jagran.com)
back to top
Crime/AccidentsNR/Northern  -  

News Entry# 305000     
   Tags   Past Edits
Jun 11 2017 (08:57)
Station Tag: Jind Junction/JIND added by Tushar Shandilya~/1427404

Posted by: Tushar Shandilya~  678 news posts
जागरण संवाददाता, जींद : रेल मंत्रालय के निर्देशानुसार टिकट चे¨कग की स्पेशल टीम शनिवार को जींद जंक्शन स्टेशन पर पहुंची। जहां उन्होंने दोपहर में करीब एक बजे जींद से नरवाना व नरवाना से जींद की ओर आने वाली पैसेंजर ट्रेन में बिना टिकट यात्रा करने वालों के खिलाफ विशेष टिकट चे¨कग अभियान चलाया।
सीसीएम (सीनियर कर्मशियल मैनेजर) अशोक कुमार के नेतृत्व में यह चै¨कग अभियान चलाया। जिसमें उन्होंने चे¨कग के दौरान दोनों ट्रेनों में बिना टिकट ही यात्रा करते 107 यात्रियों को पकड़ लिया गया। हालांकि उनसे जुर्माना भरवाने के बाद उनको छोड़ दिया गया। सीसीएम ने बताया कि यह अभियान रेल मंत्रालय के उच्च अधिकारियों के दिशा निर्देश में चलाया गया है। चे¨कग के दौरान उन्होंने आरपीएफ के जवानों का भी
...
more...
सहयोग लिया। यह अभियान रविवार के दिन भी इसी तरह से चलाया जाएगा। चे¨कग अभियान में उनके साथ कमर्शियल इंस्पेटर तुलसी राम, सीएमआइ जींद संजीव सहगल, सीटीआइ प्रमोद कुमार सोनी, संजय मान आरपीएफ कमांडो, हेड कांस्टेबल इंद्र ¨सह, विनित कुमार मौजूद थे।
महिला से हुई नोंक झोंक
विशेष टिकट चे¨कग के दौरान पकड़ी गई महिला ने जब जुर्माना देने से मना कर दिया तो महिला की अधिकारियों के साथ नोंक झोंक हो गई। वहीं अधिकारियों ने महिला के रिश्तेदारों को बुलाकर महिला यात्री से जुर्माना वसुलना पड़ा। रिश्तेदारों के आने से पहले महिला जुर्माना देने से साफ मना कर रही थी। जब तक महिला द्वारा जुर्माना नहीं भरा गया तो तब तक अधिकारियों ने उसे हिरासत में ही रखा।
---------------------
चे¨कग के दौरान 107 ऐसे यात्री थे, जिनके पास पैसेंजर गाड़ी भी टिकट नहीं थी। उन सभी यात्रियों को विशेष चे¨कग के दौरान ही पकड़ लिया गया था। जिनसे जुर्माना भरवाने के बाद छोड़ दिया गया। इसी बीच एक महिला ने जुर्माना देने पर बवाल कर दिया था। जिसके बाद उसके रिश्तेदारों को बुलाकर उस महिला से जुर्माना वसूला गया और उस महिला को छोड़ दिया गया।
अशोक कुमार, सीनियर कॉमर्शियल मैनेजर, नार्दर्न रेलवे।
Jun 08 2017 (22:38)  कांग्रेसियों ने स्टेशन पर खड़ी ट्रेन के आगे फोटो ¨खचवाए और चलते बने (m.jagran.com)
back to top
Crime/AccidentsNR/Northern  -  

News Entry# 304784     
   Tags   Past Edits
Jun 08 2017 (22:38)
Station Tag: Jind Junction/JIND added by Tushar Shandilya~/1427404

Jun 08 2017 (22:38)
Train Tag: Jind Kurukshetra Passenger/54038 added by Tushar Shandilya~/1427404

Posted by: Tushar Shandilya~  678 news posts
जागरण संवाददाता, जींद : मध्यप्रदेश के मंदसौर में किसानों पर गोलीबारी के विरोध में कांग्रेस का रेल रोको प्रदर्शन फोटो ¨खचवाने तक ही सीमित रह गया। रेल रोको प्रदर्शन का बैनर लेकर नारेबाजी करते हुए रेलवे स्टेशन पर पहुंचे। इन कार्यकर्ताओं ने स्टेशन पर खड़ी कुरुक्षेत्र पैसेंजर के आगे खड़े होकर भाजपा सरकार के खिलाफ नारे लगाए और फोटो ¨खचवाकर चले गए।
युवा कांग्रेस कार्यकर्ता जब रेलवे स्टेशन पर पहुंचे, तब वहां कुरुक्षेत्र जाने वाली पैसेंजर ट्रेन तैयार खड़ी थी। यह ट्रेन जींद रेलवे स्टेशन ही बनकर चलती है। ट्रेन चलने से करीब दस मिनट पहले स्टेशन पर पहुंचे कांग्रेसी ट्रेन के इंजन पर खड़े हो गए और कुछ कार्यकर्ता बैनर लेकर पटरी पर आ गए। इन युवाओं ने भाजपा सरकार के
...
more...
खिलाफ जमकर नारेबाजी की। जब कैमरों का फोटो सेशन पूरा हुआ, तभी ट्रेन चलने का समय शुरू हो गया। तहसीलदार प्रवीन कुमार व अन्य पुलिस अधिकारी उनके पास आए और ट्रैक खाली करने के लिए कहा। नारेबाजी करते हुए सभी कांग्रेसी ट्रैक से हट गए। रेलवे स्टेशन अधीक्षक अनिल यादव ने बताया कि ट्रेन समय पर रवाना हुई है। किसी तरह की कोई बाधा नहीं आई।
युवा जिलाध्यक्ष सुमेर पहलवान, युवा कांग्रेस के प्रदेश सचिव, हलका अध्यक्ष अजमेर रेढू ने कहा कि मध्यप्रदेश में भाजपा सरकार ने किसानों पर बर्बरतापूर्वक गोलियां चलाई हैं। इससे उसका किसान विरोधी चेहरा बेनकाब हो गया है। केंद्र में तीन साल के शासन में वह स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट भी लागू नहीं कर सकी है। प्रदर्शनकारियों में युवा कांग्रेस के जींद प्रभारी व प्रदेश उपाध्यक्ष अनन्त दहिया, प्रदेश सचिव विकास पौड़िया, जिला अध्यक्ष सुमेर पहलवान, हल्का अध्यक्ष अजमेर रेढू, संदीप बूरा, सफीदों के अध्यक्ष मस्त राम बागड़ू, अमित चहल, मयंक गर्ग, सुमित ढाठरथ, अर¨वद लाठर, विकास पंवार, सचिन सांगवान, अंकित भारद्वाज, नवीन बरसोला, कुलदीप शर्मा, विनोद तोमर, ओमपाल, अमन पुनिया, मोनू मलिक, आकाश ढांडा, विकास शर्मा आदि मौजूद थे।
Jun 04 2017 (09:58)  एक्सप्रेस गाड़ियों की हर महीने 20 से 25 बार चेन पु¨लग, पांच महीने में केस बने 19 (m.jagran.com)
back to top
Crime/AccidentsNR/Northern  -  

News Entry# 304342     
   Tags   Past Edits
Jun 04 2017 (09:58)
Station Tag: Jind Junction/JIND added by Tushar Shandilya~/1427404

Posted by: Tushar Shandilya~  678 news posts
जागरण संवाददाता, जींद : रेलवे ने ट्रेनों को आपातकालीन स्थिति में रोकने के लिए चेन की सुविधा दी है। लेकिन शरारती तत्व उसका जमकर दुरुपयोग कर रहे हैं और मनचाहे स्टॉप के नजदीक चेन पु¨लग करके गाड़ी को रोक देते हैं और उतरकर भाग जाते हैं। एक्सप्रेस गाड़ियों में सबसे ज्यादा चेन पुलिसंग होती है। ऐसे लोगों पर कार्रवाई न होने से उनके हौसले और ज्यादा बढ़ रहे हैं।
एक्सप्रेस गाड़ियों में सबसे ज्यादा चेन पु¨लग नांदेड़ एक्सप्रेस की होती है। इस गाड़ी का रोहतक से चलने के बाद पंजाब में जाने से पहले पहले कोई स्टॉप नहीं होता। गाड़ी के एक बार रुक जाने से रेलवे को 4 से 5 हजार रुपये तक का नुकसान उठाना पड़ता है। दिल्ली से ब¨ठडा
...
more...
व भ¨ठडा से फिरोजपुर जाने वाली तीन मुख्य एक्सप्रेस गाड़ियां नांदेड़, अवध व इंटरसिटी एक्सप्रेस की जुलाना, उचाना व नरवाना के पास महीने में 20 से 25 बार चेन पु¨लग हो जाती है। जब गाड़ियों का दिल्ली से आगमन होता है तो जुलाना के पास सबसे ज्यादा इस तरह की घटना को अंजाम दिया जाता है। सूत्रों के अनुसार चेन पु¨लग करने वालों में रेलवे के कुछ अधिकारी और उनके बच्चे ज्यादा होते हैं, जिन्हें अपने गंतव्य पर उतरना होता है। रेलवे अधिकारियों की मिलीभगत के चलते अब तक ऐसे लोगों पर 5 माह में मात्र 19 ही केस दर्ज हो पाए हैं।
पांच माह में केस
जनवरी---0
फरवरी-- 3
मार्च--- 1
अप्रैल---2
मई--- 13
वर्जन
चेन पु¨लग करने और ऐसे लोगों पर कार्रवाई करने को लेकर मैं कुछ नहीं बता सकता। इस बारे में डीआरएम से बात की जाए तो अच्छा है। क्योंकि हम इसके लिए मान्य नहीं है।
¨डपी गर्ग, एडीआरएम, नार्दर्न रेलवे
वर्जन
सबसे ज्यादा चेन पु¨लग नांदेड़ एक्सप्रेस में होती है। जिसका जींद जंक्शन पर स्टॉप भी नहीं होता है। यह अपनी गति में जंक्शन से निकली है तो नहर के पास पहुंचते ही चेन पु¨लग हो जाती है। महीने में 20 से 25 दिन चेन पु¨लग होती है। इस गाड़ी का एक बार रोके जाने के बाद चार हजार रुपये तक का नुकसान रेलवे को होता है। पु¨लग करने वाले यहीं आसपास के लोकल ही होते हैं।
अनिल यादव, स्टेशन अधीक्षक, जींद।
Jun 04 2017 (08:52)  एक्सप्रेस गाड़ियों की हर महीने 20 से 25 बार चेन पु¨लग, पांच महीने में केस बने 19 (www.jagran.com)
News Entry# 304326     
   Tags   Past Edits
Jun 04 2017 (08:52)
Station Tag: Jind Junction/JIND added by ये क्या हो रहा है इंडियन रेलवे में~/1469143

Posted by: The Phenomenal One~  841 news posts
जागरण संवाददाता, जींद : रेलवे ने ट्रेनों को आपातकालीन स्थिति में रोकने के लिए चेन की सुविधा दी है। लेकिन शरारती तत्व उसका जमकर दुरुपयोग कर रहे हैं और मनचाहे स्टॉप के नजदीक चेन पु¨लग करके गाड़ी को रोक देते हैं और उतरकर भाग जाते हैं। एक्सप्रेस गाड़ियों में सबसे ज्यादा चेन पुलिसंग होती है। ऐसे लोगों पर कार्रवाई न होने से उनके हौसले और ज्यादा बढ़ रहे हैं।
एक्सप्रेस गाड़ियों में सबसे ज्यादा चेन पु¨लग नांदेड़ एक्सप्रेस की होती है। इस गाड़ी का रोहतक से चलने के बाद पंजाब में जाने से पहले पहले कोई स्टॉप नहीं होता। गाड़ी के एक बार रुक जाने से रेलवे को 4 से 5 हजार रुपये तक का नुकसान उठाना पड़ता है। दिल्ली से ब¨ठडा
...
more...
व भ¨ठडा से फिरोजपुर जाने वाली तीन मुख्य एक्सप्रेस गाड़ियां नांदेड़, अवध व इंटरसिटी एक्सप्रेस की जुलाना, उचाना व नरवाना के पास महीने में 20 से 25 बार चेन पु¨लग हो जाती है। जब गाड़ियों का दिल्ली से आगमन होता है तो जुलाना के पास सबसे ज्यादा इस तरह की घटना को अंजाम दिया जाता है। सूत्रों के अनुसार चेन पु¨लग करने वालों में रेलवे के कुछ अधिकारी और उनके बच्चे ज्यादा होते हैं, जिन्हें अपने गंतव्य पर उतरना होता है। रेलवे अधिकारियों की मिलीभगत के चलते अब तक ऐसे लोगों पर 5 माह में मात्र 19 ही केस दर्ज हो पाए हैं।
पांच माह में केस
जनवरी---0
फरवरी-- 3
मार्च--- 1
अप्रैल---2
मई--- 13
वर्जन
चेन पु¨लग करने और ऐसे लोगों पर कार्रवाई करने को लेकर मैं कुछ नहीं बता सकता। इस बारे में डीआरएम से बात की जाए तो अच्छा है। क्योंकि हम इसके लिए मान्य नहीं है।
¨डपी गर्ग, एडीआरएम, नार्दर्न रेलवे
वर्जन
सबसे ज्यादा चेन पु¨लग नांदेड़ एक्सप्रेस में होती है। जिसका जींद जंक्शन पर स्टॉप भी नहीं होता है। यह अपनी गति में जंक्शन से निकली है तो नहर के पास पहुंचते ही चेन पु¨लग हो जाती है। महीने में 20 से 25 दिन चेन पु¨लग होती है। इस गाड़ी का एक बार रोके जाने के बाद चार हजार रुपये तक का नुकसान रेलवे को होता है। पु¨लग करने वाले यहीं आसपास के लोकल ही होते हैं।
अनिल यादव, स्टेशन अधीक्षक, जींद।
May 31 2017 (21:57)  NORTHERN RAILWAY STEPS UP SAFETY AWARENESS IN OBSERVANCE OF ON-GOING INTERNATIONAL LEVEL CROSSING AWARENESS WEEK FROM 29TH MAY TO 2ND JUNE-2017 (m.facebook.com)
back to top
IR AffairsNR/Northern  -  

News Entry# 304050     
   Tags   Past Edits
May 31 2017 (21:57)
Station Tag: Jind Junction/JIND added by Tushar Shandilya~/1427404

May 31 2017 (21:57)
Station Tag: Rohtak Junction/ROK added by Tushar Shandilya~/1427404

May 31 2017 (21:57)
Station Tag: Shamli/SMQL added by Tushar Shandilya~/1427404

Posted by: Tushar Shandilya~  678 news posts
NUKKAD NATAKS, FACE-TO-FACE PUBLICITY CAMPAIGNS, ADVOCACY MEASURES ORGANISED AT VARIOUS MANNED & UNMANNED LEVEL-CROSSINGS
NUKKAD NATAKS HELD AT SHAMLI, ROHTAK, JIND RAILWAY STATIONS AND PROMINENT LEVEL-CROSSING GATES
MOTOR-RALLY WAS ORGANISED BY RAILWAY PROTECTION FORCE AT MORADABAD
In keeping with the observance of on-going International Level Crossing Awareness Week all over the world from 28th May to 2nd June – 2017, Northern Railway
...
more...
stepped up its level-crossing safety awareness campaigns through multi-pronged thematic programmes and popular mass communication modes. Senior Railway Officers Sh. Neeraj Kumar, Chief Safety Officer and Divisional Railway Managers of all five divisions of Northern Railway viz. Delhi, Moradabad, Lucknow, Ambala and Firozpur participated in various awareness campaigns.
During the course of this Week, Delhi Division of Northern Railway conducted level-crossings awareness campaign through the popular Nukkad Naataks at different locations near Manned/ Unmanned Level crossings at Shamli, Baraut, Kandhla, Nangloi, Bahardurgarh, Rohtak, Jind, Jind City, Safidon, Madlauda, Panipat, Palam. Other campaigns are also slated over predominant sections where level-crossing connecting hinterland areas are situated. A Motor-Cycle Rally was also organised by RPF at Moradabad to create awareness.
Posters & Stickers were pasted at prominent places at vulnerable locations. Railway Personnel distributed safety pamphlets, and counselled road users at different locations. General public were sensitized on dangers of boarding running trains, observe cautions on possible train movement before negotiating Unmanned Level-crossings and not to force the gateman to open the gate when it is closed to avoid any mishap etc. Similar programmes shall be held during the course of the International Level-crossing safety week.
To prevent accidents at unmanned crossings, Northern Railway is pursuing a phased program to transform every unmanned crossing into either a road under bridge or road over bridge or by constructing a Limited Height Subway.
Page#    Showing 1 to 20 of 43 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Desktop site
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.